नई पोस्ट करें

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

2022-10-01 05:36:09 986

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजNPS Vs OPS: कर्मचारी पुरानी पेंशन स्कीम अपनाएं और नई पेंशन स्कीम! जानिए क्या हैं बड़े अंतर और कहां है फायदा?******NPS Vs OPSHighlightsपेंशन का मुद्दा एक बार फिर से राजनीतिक रूप से चर्चा का केंद्र बनता जा रहा है। आजादी के बाद से देश में सरकारी कर्मचारियों के लिए जो पेंशन स्कीम जारी थी। उसे 2005 में खत्म कर नई पेंशन स्कीम पेश की गई। बीते 17 साल में सेवा में शामिल हुए नए कर्मचारी इसी नई पेंशन स्कीम के दायरे में आते हैं। लेकिन हाल के दिनों में चुनावों के दौरान राजनेताओं द्वारा ओल्ड पेंशन स्कीम (OPS) को दोबारा लागू करने की बात हो रही है।मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ी घोषणा की है। इसके मुताबिक अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनती है तो यहां पर पुरानी पेंशन योजना लागू की जाएगी। ऐसे में केंद्र और अन्य राज्यों में भी सरकारी कर्मचारियों के बीच ओल्ड पेंशन स्कीम के लिए सुगबुगाहट शुरू हो गई है।अप्रैल 2005 के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की केंद्र सरकार ने नियुक्तियों के लिए पुरानी पेंशन को बंद कर दिया था। नई पेंशन योजना लागू की गई थी। केंद्र सरकार के बाद नई पेंशन योजना लागू करने में राज्य भी पीछे नहीं रहे। हालांकि, ये अनिवार्य नहीं था।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजहरित हाइड्रोजन पहल पर दो दिन का सम्मेलन आयोजित करेगा भारत******हरित हाइड्रोजन पहल पर दो दिन का सम्मेलन आयोजित करेगा भारतनयी दिल्ली: भारत हरित हाइड्रोजन पहल पर दो दिन का शिखर सम्मेलन आयोजित करने जा रहा है। मंगलवार को शुरू हो रहे इस सम्मेलन में ब्रिक्स (ब्राजील,रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) देश शामिल होंगे। सार्वजनिक क्षेत्र की एनटीपीसी के सहयोग से आयोजित इस सम्मेलन के जरिये भागीदारों को हरितहाइड्रोजन पहल के लिए मंच उपलब्ध कराया जाएगा। एनटीपीसी ने बयान में कहा कि सम्मेलन के जरिये इन देशों को यह भी जानने का अवसर मिलेगा कि कैसे वेइस पहल को अपने देश में अगले स्तर पर ले जा सकते हैं। यह ऑनलाइन आयोजन वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये होगा और 23 जून को संपन्न होगा।बयान में कहा गया है कि दुनिया तेजी से समूची ऊर्जा प्रणाली को कॉर्बन मुक्त करने की दिशा में आगे बढ़ रही है। इसमें हाइड्रोजन महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकताहै। जब हाइड्रोजन का उत्पादन अक्षय ऊर्जा का इस्तेमाल कर इलेक्ट्रोलिसिस के जरिये किया जाता है, तो इसे हरित हाइड्रोजन कहा जाता है। इसमें कॉबर्न नहीं होता।बयान में कहा गया है कि ग्रीन हाइड्रोजन में बड़ी संख्या में एप्लिकेशन होता हैं। हरित रसायन मसलन अमोनिया और मेथानॉल का मौजूदा एप्लिकेशंस मसलनउर्वरक, मोबिलिटी, बिजली,रसायन और जहाजरानी में सीधे इस्तेमाल किया जा सकता है।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजमुनाफे के लिये काम न करने वाले अस्पतालों को दान पर 100 प्रतिशत आयकर की छूट हो: नीति आयोग******जनहित में काम करने वाले अस्पतालों को राहत संभवनई दिल्ली। नीति आयोग ने देश में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने के लिए जनहित को सर्वोपरि रखते हुये मुनाफे के लिये काम न करने वाले (नॉट-फॉर-प्रॉफिट) अस्पतालों को दिये जाने वाले दान पर 100 प्रतिशत आयकर छूट और कम ब्याज दर पर कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराने का सुझाव दिया है। आयोग ने मंगलवार को ‘नॉट-फॉर प्रॉफिट हॉस्पिटल मॉडल इन इंडिया’ विषय पर रिपोर्ट में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के प्रबंधन, सरकारी सुविधाओं के परिचालन तथा पीएसयू अस्पतालों में उच्च प्रदर्शन करने वाले सार्वजनिक-निजी भागीदारी वाले अस्पतालों को शामिल करने की वकालत की।रिपोर्ट में कहा गया है कि मान्यता प्राप्त मुनाफे के लिये काम न करने वाले अस्पतालों को दान या परमार्थ कार्य पर आयकर छूट की सीमा को 50 से बढ़ाकर 100 प्रतिशत किया जाना चाहिए। इससे अस्पतालों को अपनी जरूरत के लिए कोष मिल सकेगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार को जनहित में काम करने वाले ऐसे अस्पतालों को कम ब्याज दर पर कार्यशील पूंजी ऋण उपलब्ध कराने के प्रावधान पर विचार करना चाहिए। इससे जरूरत के समय इन अस्पतालों के पास पर्याप्त नकदी प्रवाह सुनिश्चित हो सकेगा। रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि सरकारी योजना के लाभार्थियों के इलाज पर ऐसे अस्पतालों को भुगतान पाने में लंबा इंतजार करना पड़ता है। ‘‘यदि इन अस्पतालों को समय पर भुगतान जारी हो जाए, तो उन्हें अपने परिचालन के लिए समय पर कार्यशील पूंजी उपलब्ध हो सकेगी।’’ नीति आयोग ने सुपर-स्पेशियल्टीज को दूरदराज के क्षेत्रों में काम करने को प्रोत्साहित करने को तंत्र विकसित करने की भी वकालत की।रिपोर्ट में नॉट-फॉर-प्रॉफिट अस्पतालों के प्रदर्शन का इंडेक्स बनाने पर भी जोर दिया गया है। इसके अलावा ऐसे अस्पतालों का राष्ट्रीय स्तर का पोर्टल या डायरेक्टरी बनाने का भी सुझाव दिया गया है। बयान में कहा गया है कि मुनाफे के लिए काम करने वाले स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के बारे में पर्याप्त सूचना उपलब्ध है, लेकिन मुनाफा कमाने के लिये काम नहीं करने वाले एक प्रकार के निस्वार्थ सेवा देने वाले ‘नॉट फॉर प्रॉफिट’ अस्पतालों के बारे में विश्वसनीय सूचनाओं का अभाव है।यह भी पढ़ें:

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजसंसद के दोनों सदनों की कार्यवाही 14 मार्च तक स्थगित, बजट सत्र का पहला चरण सम्पन्न****** लोकसभा और की कार्यवाही शुक्रवार को आगामी14 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गई और इस तरह दोनों सदनों में बजट सत्र का पहला चरण सम्पन्न हो गया। लोकसभा की अगली बैठक अब 14 मार्च को शाम चार बजे और उच्च सदन की अगली बैठक इसी दिन सुबह 10 बजे शुरू होगी। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदन में सुचारू कामकाज के लिए सदस्यों का आभार व्यक्त किया और बताया कि इस दौरान कार्य उत्पादकता 121 प्रतिशत रही। राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने भी बजट सत्र के पहले चरण में उच्च सदन में जिस तरह से कामकाज हुआ, उसे लेकर सभापति एम वेंकैया नायडू और अपनी तरफ से प्रसन्नता जतायी।लोकसभा अध्यक्ष ने बजट सत्र के पहले चरण में हुए कामकाज का उल्लेख करते हुए शुक्रवार को कहा, ‘‘सदन में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा के लिए आवंटित 12 घंटे के समय के स्थान पर 15 घंटे 13 मिनट चर्चा हुई जिसमें 60 सदस्यों ने भाग लिया। 60 अन्य सदस्यों ने अपने लिखित भाषण सभा पटल पर रखे।’’ उन्होंने कहा कि इसी प्रकार, आम बजट पर सामान्य चर्चा के लिए आवंटित 12 घंटे के स्थान पर कुल 15 घंटे 33 मिनट चर्चा हुई जिसमें 81 सदस्यों ने भाग लिया और 63 अन्य सदस्यों ने अपने लिखित भाषण सभा पटल पर रखे।बिरला ने बजट सत्र के प्रथम चरण में सभी सदस्यों की सक्रिय भागीदारी और सकारात्मक सहयोग को रेखांकित करते हुए कहा, ‘‘कोरोना संक्रमण की चुनौतियों के बावजूद सांसदों ने सदन में देर रात तक कार्य करते हुए अपने संवैधानिक दायित्वों को प्रतिबद्धता के साथ निभाया, जिससे हम 121 प्रतिशत की उच्च कार्य उत्पादकता प्राप्त कर सके।’’ उन्होंने कहा कि इस दौरान सभी सदस्यों ने सदन को संचालित करने में अपना सकारात्मक सहयोग दिया तथा सभी विषयों पर व्यापक चर्चा-संवाद हुआ।बिरला ने सदस्यों से कहा, ‘‘यह परम्परा हमारे लोकतंत्र को सशक्त बनाती है। ऐसे समृद्ध संवाद से हमारी संसदीय प्रणाली भी और मजबूत होती है। देश के नागरिकों का भी लोकतांत्रिक संस्थाओं में भरोसा और विश्वास बढ़ता है। इसके लिए मैं आप सभी माननीय सदस्यों को साधुवाद देता हूँ।’’ उन्होंने यह भी कहा, ‘‘मुझे आशा है कि आपका सकारात्मक सहयोग भविष्य में ऐसे ही मिलता रहेगा।’’राज्यसभा में उपसभापति हरिवंश ने कहा कि इस दौरान एक बार भी ऐसा मौका नहीं आया जब सदन को (व्यवधान और शोरगुल की) विवशता के कारण स्थगित करना पड़ा हो। उन्होंने कहा कि बजट सत्र के पहले चरण में उच्च सदन में निर्धारित समय से आधे घंटे अधिक कामकाज हुआ। हरिवंश ने कहा कि इसका श्रेय सदन के प्रत्येक सदस्य को जाता है। उन्होंने कहा कि इसके कारण सदस्य राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग ले सके। उन्होंने कहा कि बजट सत्र के पहले चरण में सदन में 51 तारांकित प्रश्न पूछे गए वहीं विशेष उल्लेख के जरिए करीब 50 मुद्दे एवं शून्यकाल में लोक महत्व के 71 मुद्दे उठाये गये। उपसभापति ने सदन के सभी वर्गों को सकारात्मक भावना के साथ कामकाज करने पर बधाई दी और उम्मीद जतायी कि आगे भी सदन इसी भावना के साथ काम करता रहेगा।उल्लेखनीय है कि संसद के बजट सत्र की शुरूआत 31 जनवरी को दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ हुई थी। उसी दिन दोनों सदन में आर्थिक समीक्षा पेश की गयी थी। एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए केंद्रीय बजट प्रस्तुत किया। दो फरवरी से दोनों सदनों में पहले राष्ट्रपति अभिभाषण और फिर आम बजट पर चर्चा की गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सात फरवरी को लोकसभा में और आठ फरवरी को राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर पेश धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब दिया था।वहीं, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पर हुई चर्चा का जवाब बृहस्पतिवार को लोकसभा में और शुक्रवार को राज्यसभा में दिया। बजट सत्र का दूसरा चरण 14 मार्च से आठ अप्रैल तक चलने का कार्यक्रम है जिसमें अनुदान की मांगों, विनियोग विधेयक और वित्त विधेयक को पारित करने के साथ अन्य विधेयकों को लिया जा सकता है।(इनपुट- एजेंसी)गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजChinese Manjha Death: जब तक बाइक रोकता तब तक कट चुकी थी युवक की गर्दन, चाइनीज मांझे से ढाई इंच का घाव हुआ, गई जान******Highlights अभी अगस्त का महीना शुरू भी नहीं हुआ है और ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में चीइनीज मांझे (पतंग की डोरी) से एक युवक की दर्दनाक मौत हो गई। मामला नॉर्थ वेस्ट दिल्ली के हैदरपुर फ्लाई ओवर का है, जहां एक बाइक सवार युवक का गला चाइनीज मांझे (Chinese Manjha) से कट गया। 30 वर्षीय सुमीत रंगा सोमवार शाम को स्थित अपनी हार्डवेयर शॉप से घर के लिए रोहिणी जा रहा था। शाम को करीब साढ़े 6 बजे जब रिंग रोड हैदरपुर फ्लाईओवर पर पहुंचा तो उसी दौरान मांझा उसकी गर्दन में उलझ गया।वह जब तक अपनी बाइक को रोक पाता तब तक उनके शरीर से काफी खून बह चुका था। इस हादसे के बाद सुमित रोड पर तड़पता रहा। काफी देर बाद एक राहगीर ने हादसे की जानकारी पुलिस को दी, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने सुमित को मृत घोषित कर दिया। उसकी गर्दन में भी मांझे का टुकड़ा फंसा हुआ था। पुलिस ने मांझे के टुकड़े को जांच के लिए कब्जे लिया है। पुलिस ने लापरवाही से मौत की धारा में केस दर्ज कर लिया है।पुलिस उपायुक्त (उत्तर-पश्चिम) उषा रंगनानी ने कहा कि मौर्य एन्क्लेव पुलिस स्टेशन में एक व्यक्ति के बारे में कॉल आई थी, जो हैदरपुर फ्लाईओवर पर एक तार से घायल हो गया था। डीसीपी ने कहा, "घायल व्यक्ति को सरोज अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।" पुलिस ने कहा कि, उन्होंने भारतीय दंड संहिता की धारा 304 ए के तहत मामला दर्ज किया है और मामले की जांच जारी है।पूछताछ के दौरान सुमित के पिता ने बताया कि उसका बेटा सुमित बुराड़ी से अपनी मोटरसाइकिल से घर आ रहा था और जब वह हैदरपुर फ्लाईओवर पर पहुंचा तो एक तार उसके गले में फंस गया। उन्हें बेटे ने कॉल करके बताया कि मांझे से उसका गला कट गया है। उन्होंने कहा कि बेटा बोलने की स्थिति में नहीं था। जब हम हॉस्पिटल पहुंचे तो डॉक्टर ने कहा कि अब आपका बेटा इस दुनिया में नहीं रहा। सुमित रंगा अपने माता पिता के इकलौते बेटे थे।चाइनीज मांझा पतंग उड़ाने में इस्तेमाल होने वाला धागा है, हालांकि इसके निर्माता इसके ऊपर कांच की कोटिंग का इस्तेमाल करते हैं जो कई बार इंसानों और पक्षियों के लिए जानलेवा साबित होते हैं। दिल्ली सरकार ने 2017 में कांच की परत वाली मांझों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया था। हर साल पतंग के इस मांझे की चपेट में आकर कई लोग घायल होते हैं और कईयों को अपनी जिंदगी से भी हाथ धोना पड़ता है।- मार्केट से चाइनीज मांझे की जगह सामान्य मांझा खरीदें। यह उतना ही पक्का होता है और बिल्कुल भी खतरनाक नहीं होता।- घर में चाइनीज मांझा है तो उसे बच्चों और अन्य लोगों से दूर रखें। उन्हें इसके नुकसान और खतरों से अवगत कराएं।- पतंग उड़ाते वक्त सावधानी रखें। सामान्य धागे के ऊपर भी कई बार कांच की कोटिंग होती है। यह आपको घायल कर सकता है।- पतंग के कहीं उलझने या टकराने पर खींचने की कोशिश ना करें। इससे आपके हाथ में चोट लग सकती है।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजबजट के अगले दिन महंगाई की पहली मार, आज से पेट्रोल 2.45 रुपए और डीजल 2.36 रुपए महंगा******वित्‍तमंत्री ने बजट भाषण के आखिरी 5 मिनट में पर नए सरचार्ज की घोषणा कर सभी को चौंका दिया था। बजट पेश होने के अगले ही दिन ये नई दरें लागू भी हो गई हैं। शनिवार को पेट्रोल की कीमतों में 2.45 रुपए की वृद्धि कर दी गई है। इस वृद्धि के बाद पेट्रोल की कीमत 72.96 रुपए प्रति लीटर हो गई है। वहीं डीजल की कीमत में आज 2.36 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोत्‍तरी हो गई है। इस प्रकार दिल्‍ली में आज एक लीटर डीजल की कीमत 66.69 रुपए हो गई है। शुक्रवार को दिल्‍ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 70.51 रुपए और मुंबई में 76.15 रुपए प्रति लीटर थी। वहीं दिल्‍ली में एक लीटर डीजल की कीमत 64.33 रुपए लीटर और मुंबई में 67.40 रुपए प्रति लीटर थी।वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा बजट 2019-20 में ईंधन पर टैक्‍स बढ़ाने की घोषणा की थी। सीतारमण ने 28,000 करोड़ रुपए जुटाने के लिए पेट्रोल और डीजल पर विशेष अतिरिक्‍त उत्‍पाद शुल्‍क एक रुपए लीटर और आधारभूत संरचना उपकर एक-एक रुपए लीटर बढ़ाने की घोषणा की है। कल ही स्‍पष्‍ट हो गया था कि स्‍थानीय बिक्री कर या वैल्‍यू एडेड टैक्‍स (वैट), जो बेस प्राइज पर केंद्रीय उत्‍पाद शुल्‍क लगाए जाने के बाद लगाया जाता है, के बाद पेट्रोल की कीमत में 2.5 रुपए लीटर और डीजल की कीमत में 2.3 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि होगी।वर्तमान में कच्‍चे तेल पर अभी कोई आयात शुल्‍क नहीं लगता है। इस पर केवल प्रति टन 50 रुपए का राष्‍ट्रीय आपदा आस्‍मिक शुल्‍क (एसीसीडी) लिया जाता है। वर्तमान में पेट्रोल पर कुल उत्‍पाद शुल्‍क 17.98 रुपए प्रति लीटर (2.98 रुपए बेसिक उत्‍पाद शुल्‍क, 7 रुपए विशेष अतिरिक्‍त उत्‍पाद शुल्‍क और 8 रुपए रोड एंड इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर उपकर) है। इसी प्रकार डीजल पर कुल 13.83 रुपए प्रति लीटर का उत्‍पाद शुल्‍क (4.83 रुपए बेसिक उत्‍पाद शुल्‍क, 1 रुपए विशेष अतिरिक्‍त उत्‍पाद शुल्‍क और 8 रुपए रोड एंड इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर उपकर) है।इसके अलावा पेट्रोल-डीजल पर वैट लगाया जाता है, जो अलग-अलग राज्‍यों में अलग-अलग है। दिल्‍ली में, पेट्रोल पर वैट 27 प्रतिशत और डीजल पर 16.75 प्रतिशत है। मुंबई में पेट्रोल पर वैट 26 प्रतिशत व 7.12 रुपए प्रति लीटर अतिरिक्‍त कर है, जबकि डीजल पर 24 प्रतिशत का वैट है।

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजSBI PO Recruitment 2022: स्टेट बैंक में पीओ बनने का मौका, 1600 से ज्यादा पदों पर निकली वैकेंसी, इस तरह करें आवेदन******Highlightsसरकारी नौकरी(Sarkari Naukri 2022) की तलाश कर रहे युवाओं के लिए बड़ा मौका है। बैंकिंग सेक्टर में 1600 से ज्यादा पदों पर वैकेंसी निकली हैं। जो युवा भारतीय स्टेट बैंक में पीओ बनना चाहते हैं, उनके लिए इंतजार की घड़ी अब खत्म हो गई है। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार sbi.co.in पर विजिट करके 12 अक्टूबर 2022 तक आवेदन कर सकते हैं।एसबीआई ने पीओ के पदों पर भर्तियों का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। आवेदन प्रक्रिया आज से शुरू हुई है। अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट sbi.co.in पर जाकर 12 अक्टूबर 2022 तक आवेदन कर सकते हैं। आवेदन का तरीका ऑनलाइन है। रिक्त पदों की संख्या 1673 है।Sarkari Naukri 2022: शैक्षणिक योग्यता और उम्र सीमाजो कैंडीडेट इस भर्ती प्रक्रिया में शामिल होना चाहते हैं, उनके पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए। इसके अलावा कैंडीडेट की उम्र 21 वर्ष से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए। ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थी को अधिकतम उम्र सीमा में 3 वर्ष और एससी व एसटी वर्ग के आवेदक को 5 वर्ष की छूट मिलेगी।Bank PO Recruitment 2022: क्या है चयन प्रक्रियाबैंकिंग सेक्टर में चयन के लिए कैंडीडेट्स को प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू के राउंड से गुजरना होगा। ज्यादा जानकारी के लिए नोटिफिकेशन चेक करें।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजHyundai के बाद KFC ने भी किया कश्मीर पर पोस्ट, भारत में भड़के लोग तो कंपनी ने मांगी माफी******HighlightsHyundai का एक ट्वीट इन दिनों चर्चा में बना हुआ है। दरअसल कंपनी के पाकिस्तान ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया गया था, जिसकी भारत में काफी आलोचना हो रही थी। कंपनी को सोशल मीडिया पर लोग टैग करके अपना गुस्सा ज़ाहिर कर रहे थे। ट्विटर पर #BoycotHyundai ट्रेंड करने लगा था।दरअसल हुंडई पाकिस्तान के ट्विटर हैंडल में Hyundai ने लिखा था कि चलिए याद करें कश्मीरी भाइयों के बलिदान को और उनका समर्थन करें ताकि वह आजादी के लिए संघर्ष करते रहें। इस पोस्ट में इसके साथ #HyundaiPakistan और #KashmirSolidarityDay हैशटैग भी डाला गया था।Hyundai के बाद अब KFC भी अपने एक ट्वीट को लेकर चर्चा में है। ये ट्वीट पुराना है, लेकिन इससे जुड़े विवाद को देखते हुए कंपनी ने तुरंत भारतीयों से माफी मांग ली है। केएफसी की जिस पोस्ट को लेकर इतना बवाल हो रहा है, वह दरअसल पाकिस्तान में कश्मीर सॉलिडेरिटी डे (कश्मीर एकता दिवस) पर डाला गया था। पोस्ट में लिखा था कि इस कश्मीर सॉलिडेरिटी डे पर हम उनके आजादी के अधिकार को लेकर साथ खड़े हैं।हालांकि ये ट्वीट पिछले साल किया गया था। ट्विटर पर लोग कंपनी के इस ट्वीट का जमकर विरोध कर रहे थे। यहां तक कि लोग इन कंपनियों पर देश के पैसे से विदेशी उग्रवादियों की मदद तक करने का आरोप लगा रहे थे। विवाद बढ़ने के बाद KFC ने एक ट्वीट कर माफी मांगी।कंपनी ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से लिखा, 'देश के बाहर कुछ सोशल मीडिया चैनलों पर डाले गए एक पोस्ट के लिए हम माफी चाहते हैं। हम भारत का सम्मान करते हैं और भारतीयों की सेवा करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।'

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजयस बैंक की इश्यू के जरिए 6500 करोड़ रुपए जुटाने की योजना****** यस बैंक का क्यूआईपी इश्यू गुरुवार को खुल गया है। यस बैंक की इस इश्यू के जरिए 6500 करोड़ रुपए से ज्यादा जुटाने की योजना है। क्यूआईपी का प्राइस बैंड 1,350- 1,410 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है। मैनेजमेंट ने तीस फीसदी सालाना ग्रोथ का लक्ष्य रखा है। यस बैंक के एमडी राणा कपूर ने बताया कि ये रकम 1410 रुपए प्रति शेयर के दाम पर प्राइवेट प्लेसमेंट के जरिए जुटाने की योजना है। बैंक ने इस डील के लिए गोल्डमैन सैक्स समेत कुछ बैंकर्स नियुक्त किए हैं।बैंक के एमडी और सीईओ राणा कपूर ने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में बताया है कि इस कदम से अगले 3 साल में कैपिटल और फंड ग्रोथ को बूस्ट मिलेगा। आगे बैंक को 30 फीसदी सालाना ग्रोथ का भरोसा है। उन्होंने आगे कहा कि रिन्युएबल एनर्जी, हेल्थकेयर, फार्मा सेक्टर में अच्छे मौके हैं। ट्रांसपोर्ट, लॉजिस्टिक्स, ऑटोमोबाइल में भी कई संभावनाएं हैं। इसके अलावा बैंक के एसएमई कारोबार में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद है। आगे रिटेल बैंकिंग कारोबार में भी बढ़त की उम्मीद हैं।मायस्टॉकरिसर्च के हेड लोकेश के मुताबिक यस बैंक के लिए 1360 रुपए पर अहम सपोर्ट है। और जब तक शेयर इस सपोर्ट स्तर को तोड़ता नहीं तब तक इसमें कोई खास कमजोरी नजर नहीं आएगी। लेकिन अगर शेयर 1360 रुपए का स्तर तोड़ता है तो भारी गिरावट देखने को मिल सकती है।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजRaju Srivastava Passes Away: 41 दिन की मौत से जंग के बाद हार गए राजू श्रीवास्तव, हुआ निधन******Highlightsमशहूर कॉमेडियन और एक्टर राजू श्रीवास्तव का निधन हो गया है। जी हां! मशहूर कॉमेडियन और एक्टर राजू श्रीवास्तव का निधन हो गया है। लोकप्रिय कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का 58 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। कॉमेडियन ने नई दिल्ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में अंतिम सांस ली। राजू को 10 अगस्त को दिल का दौरा पड़ने के बाद एम्स में भर्ती कराया गया था।राजू श्रीवास्तव का निधन हो गया है। बता दें होटल कि 10 अगस्त की सुबह वह जिम में वर्कआउट कर रहे थे। इस दौरान ट्रेडमिल पर रनिंग करते समय उन्हें चेस्ट में पेन हुआ और वे नीचे गिर गए थे। इसके बाद उन्हें फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। राजू ने 2014 में भाजपा जॉइन की थी। राजू श्रीवास्तव की एंजियोग्राफी की गई जिसमें एक बड़े हिस्से में 100 फीसदी ब्लॉक मिला था।व्यायाम के दौरान स्टैंड-अप कॉमिक को दिल का दौरा पड़ा था। राजू श्रीवास्तव के चचेरे भाई ने पहले पीटीआई को बताया, "वह अपना नियमित व्यायाम कर रहे थे और जब वह ट्रेडमिल पर थे, तो वह अचानक गिर गए। उन्हें दिल का दौरा पड़ा और तुरंत एम्स अस्पताल ले जाया गया।"राजू श्रीवास्तव ने स्टैंड-अप कॉमेडी की दुनिया में अपनी अलग शैली और कॉमिक स्वभाव के कारण खुद के लिए एक जगह बनाई थी। उन्होंने अपनी तरह के पहले स्टैंड-अप कॉमेडी टैलेंट हंट शो 'द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज' से प्रसिद्धि पाई, जिसका पहला सीज़न वर्ष 2005 में प्रीमियर हुआ था।वह "मैंने प्यार किया", "बाजीगर", "बॉम्बे टू गोवा" (रीमेक) और "आमदानी अठानी खारचा रुपैया" जैसी हिंदी फिल्मों में दिखाई दिए। वह "बिग बॉस" सीजन तीन के प्रतियोगियों में से एक थे। वह उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष थे।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजDebt burden: सरकार की कुल देनदारियां बढ़कर 133 लाख करोड़ के पार, कच्चे तेल ने बढ़ाया बोझ******Debt BurdenHighlightsसरकार की कुल देनदारियां जनवरी-मार्च, 2022 की तिमाही में 3.74 प्रतिशत बढ़कर 133.22 लाख करोड़ रुपये हो गईं जो इससे पिछली दिसंबर, 2021 की तिमाही में 128.41 लाख करोड़ रुपये थीं। सार्वजनिक ऋण प्रबंधन पर ताजा रिपोर्ट के अनुसार, ‘सार्वजनिक खाते’ के तहत देनदारियों समेत सरकार की कुल देनदारियां 31 मार्च, 2022 के अंत में बढ़कर 1,33,22,727 करोड़ रुपये हो गईं। एक साल पहले कुल देनदारियां 1,28,41,996 करोड़ रुपये थीं। वित्त मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को जारी रिपोर्ट में कहा है कि मार्च, 2022 के अंत में सार्वजनिक ऋण कुल बकाया देनदारियों का 92.28 प्रतिशत था। दिसंबर, 2021 के अंत में यह अनुपात 91.60 प्रतिशत था। इसके साथ हीरिपोर्ट में कहा गया है कि चौथी तिमाही में कच्चे तेल की कीमतें भी ऊंचे स्तर पर रहीं। कच्चे तेल की कीमतों के उच्चस्तर ने घरेलू बाजार में 10-साल के सरकारी प्रतिभूति प्रतिफल को प्रभावित किया। सरकार की प्रतिभूतियों के स्वामित्व के संदर्भ में कहा गया है कि मार्च तिमाही के अंत में वाणिज्यिक बैंकों की हिस्सेदारी 37.75 प्रतिशत थी जो दिसंबर, 2021 के अंत में 35.40 प्रतिशत थी। मार्च के अंत में बीमा कंपनियों और भविष्य निधि की हिस्सेदारी क्रमश: 25.89 प्रतिशत और 4.60 प्रतिशत थी। वहीं म्यूचुअल फंड की हिस्सेदारी 2.91 प्रतिशत थी जबकि आरबीआई की हिस्सेदारी 16.62 प्रतिशत रही।आठ बुनियादी उद्योगों का उत्पादन मई, 2022 के दौरान एक साल पहले के समान महीने की तुलना में 18.1 प्रतिशत बढ़ा है। बृहस्पतिवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। अप्रैल, 2022 में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली जैसे आठ बुनियादी क्षेत्रों के उत्पादन में 9.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। आंकड़ों के अनुसार, कोयला, कच्चा तेल, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, सीमेंट और बिजली का उत्पादन मई में क्रमश: 25.1 प्रतिशत, 4.6 प्रतिशत, 16.7 प्रतिशत, 22.8 प्रतिशत, 26.3 प्रतिशत और 22 प्रतिशत बढ़ा है। इसके अलावा प्राकृतिक गैस और इस्पात उत्पादन की वृद्धि दर मई में घटकर क्रमश: सात और 15 प्रतिशत रह गई। मई, 2021 में प्राकृतिक गैस का उत्पादन 20.1 प्रतिशत और इस्पात का उत्पादन 55.2 प्रतिशत बढ़ा था।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजनवरात्र पर जानिए दिल्ली के प्रसिद्ध 'झंडेवालान' मंदिर की कहानी******नवरात्र के मौके पर मां दुर्गा के मंदिरों में मां के दर्शन करने के लिए श्रद्धालु उमड़ पड़ते हैं। इसी तरह से दिल्ली के झंडेवालान मंदिर में भी मां के लिए दर्शन के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। खासकर शरदीय नवरात्र पर यहां भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती है।माता झंडेवाली का मंदिर एक सिद्ध पीठ है जहां पर लोग मां से अपनी मुराद पूरी करने की कामना लेकर आते हैं। नवरात्र में इस मंदिर की सजावट देखने लायक होती है। इस त्योहार पर हर साल यहां कुछ अलग होता है।इस मंदिर के बारे में एक अद्भुत कथा प्रसिद्ध है। जिसके मुताबिक मां वैष्णो देवी के एक परम भक्त बद्रीदास हुआ करते थे, जो एक कपड़ा व्यापारी थे। एक दिन बद्रीदास मां की पूजा कर रहे थे। तभी उन्हें एहसास हुआ कि इस जमीन के नीचे कुछ है, जिसके बाद उन्होंने जमीन की खुदाई करनी शुरू कर दी। दिलचस्प बात ये है कि खुदाई करने पर उन्हें उस जगह पर एक झंडा मिला, जिसके कारण इस मंदिर का नाम झंडेवालान रखा गया।कहा जाता है कि खुदाई के दौरान मां की एक मूर्ति मिली जिसे मंदिर में स्थापित किया गया। सौ साल से भी ज्यादा पुराने इस मंदिर में जब मां की यही मूर्ति खंडित हुई तो उसे हटाने की बजाय इसके खंडित हाथों को चांदी के हाथों में बदल कर फिर से स्थापित किया गया।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजहिना खान के बाद उनकी ऑनस्क्रीन बेटी शिवांगी जोशी कांस के रेड कारपेट पर बिखेरेंगी जलवे******बीते साल एक्ट्रेस पहली टीवी सेलिब्रिटी थी जिन्होंने कांस फिल्म फेस्टिवल में डेब्यू किया था। हिनाको पहचान सीरियल'ये रिश्ता क्या कहलाता है'से मिली थी। हिना के बाद अब शो में उनकी बेटी का किरदार निभाने वाली कांस फिल्म फेस्टिवल 2020 में रेड कारपेट पर जलवे बिखेरती नजर आएंगी।स्पॉटबॉय की रिपोर्ट के मुताबिक शिवांगी जोशी की फिल्म 'आवर ओन स्काइ'कांस फिल्म फेस्टिवल का हिस्सा बनी है। इस फिल्म में शिवांगी के साथ साउथ एक्टर्स असीफा हक और आदित्य खुराना नजर आने वाले हैं। आदित्य खुराना पहले मेल एक्टर हैं जो रेड कारपेट पर बॉलीवुड एक्ट्रेस के साथ चलेंगे।फिल्म के प्रोड्यूसर मोहम्मद नागामन लतीफ ने कहा- मुझे इस फिल्म के लिए शिवांगी से बेहतर कोई नहीं मिली। मं कई एक्टर्स के साथ काम कर चुका हूं मगर मैं किसी नए के साथ काम करना चाहता था। अगर म्यूजक एल्बम का एड की बात करें तो शिवांगी ने यह सब ज्यादा नहीं किया है। तो यह फिल्म उन्हें डेली सोप इमेज से बाहर लाने में मदद करेगी।फिल्म की बात करें तो आवर ओन स्काइ एक रोमांटिक लव स्टोरी है। फिल्म की शूटिंग मुंबई में शुरू हो चुकी है।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजजून में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी में भारत का पहला मुकाबला पाकिस्तान से, जानिए पूरा शेड्यूल****** चिर प्रतिद्वंद्वी नीदरलैंड के ब्रेडा में होने वाली चैम्पियंस ट्रॉफी हॉकी टूर्नामेंट के पहले मैच में 23 जून को एक दूसरे से खेलेंगे।भारत और पाकिस्तान के मैच के अलावा पहले दिन दो और मुकाबले होंगे। टूर्नामेंट 23 जून से एक जुलाई तक चलेगा।भारत और पाकिस्तान के मैच के बाद मेजबान और यूरोपीय चैम्पियन नीदरलैंड और 2016 ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता अर्जेंटीना के बीच मैच खेला जायेगा। मौजूदा विश्व कप, विश्व लीग और चैम्पियंस ट्राफी खिताब विजेता आस्ट्रेलिया का सामना रियो ओलंपिक रजत पदक विजेता बेल्जियम से होगा।नीदरलैंड, अर्जेंटीना और ऑस्ट्रेलिया नेटूर्नामेंट के लिये क्वालीफाई कर लिया है जबकि बाकी तीन देशों को एफआईएच कार्यकारी बोर्ड ने न्यौता दिया है।यह टूर्नामेंट कई मायनों में खास है। पुरूष चैम्पियंस ट्रॉफी आखिरी बार खेली जा रही है और पहले ही मैच में चिर प्रतिद्वंद्वियों की भिडंत है।पाकिस्तान ने 1978 में पहली चैम्पियंस ट्राफी की मेजबानी की थी। अब आखिरी टूर्नामेंट में वह अपने अभियान का आगाज भारत के खिलाफ करेगा और दुनिया भर के करोड़ों हॉकी प्रेमियों को इस मुकाबले का इंतजार होगा।इसके बाद भारत 24 जून को अर्जेंटीना से और 27 जून को ऑस्ट्रेलिया से खेलेगा। इसके बाद 28 जून को बेल्जियम से खेलना है। इस साल के आखिर में भुवनेश्वर में होने वाले पुरूष हॉकी विश्व कप से पहले इन सभी टीमों के लिये एक दूसरे को आजमाने का यह आखिरी मौकों में से एक है।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजInfosys का मुनाफा Q3 में 30% घटकर रहा 3,610 करोड़ रुपए, कंपनी करेगी 8260 रुपए के शेयर बायबैक******infosys आईटी सेक्‍टर की दिग्‍गज कंपनी ने शुक्रवार को बताया कि चालू वित्‍त वर्ष की तीसरी तिमाही (अक्‍टूबर-दिसंबर) में उसका शुद्ध मुनाफा 30 प्रतिशत घटकर 3,610 करोड़ रुपए है। कंपनी ने 8,260 रुपए के शेयर बायबैक प्‍लान की भी घोषणा की है। देश की दूसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सर्विसेस कंपनी ने 2017 की तीसरी तिमाही में 5,129 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा कमाया था। समीक्षाधीन तिमाही में इंफोसिस का राजस्‍व 20.3 प्रतिशत बढ़कर 21,400 करोड़ रुपए रहा, जबकि पिछले साल की समान तिमाही में यह आंकड़ा 17,794 करोड़ रुपए था।कंपनी के बोर्ड ने ओपन मार्केट रूट के जरिये 8,260 करोड़ रुपए के शेयर बायबैक प्रस्‍ताव को भी अपनी मंजूरी दे दी है। यह शेयर 800 रुपए के भाव पर वापस खरीदे जाएंगे। इंफोसिस ने प्रति शेयर 4 रुपए का स्‍पेशल डिविडेंड देने की भी घोषणा की है। इस मद में कंपनी 2,107 करोड़ रुपए खर्च करेगी। कंपनी ने वित्‍त वर्ष 2018-19 के लिए अपने राजस्‍व वृद्धि अनुमान को संशोधित कर 8.5 से 9 प्रतिशत कर दिया है।कंपनी के सीईओ और एमडी सलिल पारेख ने कहा कि बढ़ते ग्राहकों के साथ हमनें तीसरी तिमाही में सालाना आधार पर दोहरे अंकों में वृद्धि हासिल की है। उन्‍होंने कहा कि कंपनी ने एक और मजबूत तिमाही देखी है जिसने डिजिटल बिजनेस में 33.1 प्रतिशत ग्रोथ और 1.57 अरब डॉलर की बड़ी डील के साथ 2019 में प्रवेश किया है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:12
उद्धरण 1 इमारत
Purvi Champaran Lok Sabha Chunav Results 2019: राधा मोहन सिंह जीत की ओर अग्रसर, 2.93 लाख वोट से निकले आगे******Purvi Champaran Lok Sabha Chunav Results 2019​:बिहार की लोकसभा सीटों में से पूर्वी चंपारण पर लोगों की खास नजर है। आज के नतीजे आ रहे हैं और माना जा रहा है कि पूर्वी चंपारण लोकसभा सीट पर कड़ा मुकाबला होने जा रहा है। यह सीट इसलिए खास है क्योंकि यहां से भारतीय जनता पार्टी के नेता और केंद्रीय कृषि मंत्री चुनाव मैदान में हैं। उनके सामने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के आकाश प्रसाद सिंह ताल ठोक रहे हैं। पूर्वी चंपारण की सीट का गठन 2008 में परिसीमन के बाद हुआ था।2009 में हुए लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के राधा मोहन सिंह ने ही यहां से जीत दर्ज की थी। वहीं, 2014 के लोकसभा चुनावों में भी वह बड़े अंतर से जीते थे। उन चुनावों में उन्होंने राष्ट्रीय जनता दल के बिनोद कुमार श्रीवास्तव को हराया था। जनता दल यूनाइटेड के नेता अवनीश कुमार सिंह तब तीसरे नंबर पर रहे थे। 2014 के लोकसभा चुनावों में राधा मोहन सिंह को 4,00,452 वोट मिले थे जबकि बिनोद ने 2,08,289 वोटों पर कब्जा जमाया था। अवनीश को 1,28,604 वोट मिले थे।
2022-10-01 03:20
उद्धरण 2 इमारत
बजट से पहले कमजोर हुआ रुपया, डॉलर के मुकाबले 68.70 पर खुला******rupeeआम बजट पेश होने से पहले शुक्रवार को भारतीयने अमेरिकी डॉलर के मुकाबले कमजोर शुरुआत की। शुक्रवार को भारतीय रुपया डॉलर के मुकाबले 20 पैसे कमजोर होकर 68.70 पर खुला। फॉरेक्‍स ट्रेडर्स ने कहा कि शुक्रवार को संसद में पेश होने वाले आम बजट से पहले कारोबारियों ने सतर्कता का रुख अपनाया हुआ है और यही वजह है कि अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया मामूली कमजोरी के साथ खुला है।शुक्रवार को रुपया 86.55 के स्‍तर पर खुला और खुलते ही 20 पैसे कमजोरी के साथ 68.70 पर पहुंच गया। गुरुवार को रुपया डॉलर के मुकाबले 68.50 पर बंद हुआ था। विदेशी बाजारों में डॉलर के कमजोर होने, कच्‍चे तेल की कीमतों में नरमी आने और घरेलू शेयर बाजारों के तेजी के साथ खुलने से घरेलू मुद्रा को सपोर्ट मिला है।
2022-10-01 03:13
उद्धरण 3 इमारत
Asia Cup 2022: केएल राहुल को यूएई जाने से पहले करना पड़ेगा ये काम******Highlightsकेएल राहुल को एशिया कप 2022 की टीम इंडिया में शामिल किया गया है। यानी लोकेश राहुल एक बार फिर से टीम इंडिया में वापसी करते हुए नजर आएंगे। केएल राहुल ने लंबे समय से क्रिकेट नहीं खेला है। भारत के लिए तो राहुल ने पिछले करीब नौ महीने से इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेला है। वहीं आईपीएल 2022 के बाद से वे कोई भी क्रिकेट नहीं खेले हैं। इस बार का एशिया कप यूएई में होगा, यानी टीम इंडिया वहां जाएंगी, लेकिन यूएई जाने से पहले केएल राहुल को एक काम करना पड़ेगा, उसके बाद ही उनकी रवानगी तय होगी।केएल राहुल ने आईपीएल 2022 में अपनी टीम एलएसजी की कप्तानी की थी, वे अपनी टीम को आगे भी लेकर गए, लेकिन फाइनल तक जाने में टीम कामयाब नहीं हो पाई। उसके बाद से लेकर अब तक राहुल ने एक भी मैच नहीं खेला है। यानी सक्रिय क्रिकेट से राहुल करीब चार महीने से दूर हैं। जून में केएल राहुल की जर्मनी में सर्जरी हुई थी। इयके बाद जुलाई से उन्होंने अपनी प्रैक्टिस और ट्रेनिंग भी शुरू कर दी थी, लेकिन इसी बीच वे टीम इंडिया के लिए खेल पाते, इससे पहले ही वे कोविड पॉजिटिव हो गए और फिर खेल से दूर हो गए। अब जो खबरें सामने आ रही हैं, उससे पता चलता है कि केएल राहुल अब सौ फीसदी फिट हैं और ट्रेनिंग फिर से शुरू हो गई है। लेकिन एशिया कप 2022 के लिए यूएई जाने से पहले उन्हें फिटनेस टेस्ट पास करना पड़ेगा, उसके बाद ही बात बनेगी।इस बीच एशिया कप के लिए जो टीम चुनी गई है, उसमें दो ही ओपनर शामिल किए गए हैैं। एक कप्तान रोहित शर्मा और दूसरे केएल राहुल, केएल राहुल इस टीम के उपकप्तान भी हैं। यानी उन पर काफी जिम्मेदारी भी होगी। टीम इंडिया में कोई भी बैकअप ओपनर शामिल नहीं किया गया है, लेकिन टीम में ऋषभ पंत और सूर्य कुमार यादव जैसे खिलाड़ी हैं, जो जरूरत पड़ने पर ओपनिंग की जिम्मेदारी निभा सकते है। देखना होगा कि अपनी वापसी में केएल राहुल कैसा प्रदर्शन करते हैं। एशिया कप में भारत का पहला मुकाबला भी 28 अगस्त को पाकिस्तान से होना है, ये काफी हाईप्रोफाइनल मैच होगा, जिस पर पूरी दुनिया की नजरें रहने वाली हैं।
वापसी