नई पोस्ट करें

प्रत्याशी घोषित करने में BJP ने कांग्रेस को पछाड़ा, जानिए दोनो दलों ने किस राज्य में कितने उम्मीदवार उतारे

2022-10-01 06:23:06 258

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेखरीदारी से 46 अंक चढ़ा सेंसेक्स, टेलीकॉम, एफएमसीजी कंपनियों के शेयरों में देखने को मिली तेजी****** आर्थिक ग्रोथ के मजबूत आंकड़ों के बीच टेलीकॉम, एफएमसीजी, आईटी और रीयल्टी कंपनियों के शेयरों में चमक देखने को मिली। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज लगभग 46 अंक चढ़कर 26,713.93 अंक पर बंद हुआ। कारोबारियों का कहना है कि जीडीपी के उत्साहजनक आंकड़ों और अप्रैल में प्रमुख क्षेत्रों में मजबूत वृद्धि से भी बाजार धारणा अच्छी रही। शुरूआत में कुछ शेयरों में अच्छी खासी लिवाली देखने को मिली। हालांकि, बाद में विनिर्माण क्षेत्र के मई उत्पादन की वृद्धि की गति पांच महीने में सबसे धीमी रहने का आंकड़ा आने से शेयरों की तेजी सीमित हो गई।विनिर्माण क्षेत्र के प्रदर्शन को बताने वाला निक्की: मार्किट इंडिया मैनुफैक्चरिंग परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई) मई में 50.7 रहा जो अप्रैल में 50.5 था। 2013 के बाद से यह सबसे कम है। इस आंकड़े के कारण बाद में बैंक, पीएसयू, धातु, टिकाऊ उपभोक्ता सामान व वित्तीय खंड के शेयर दबाव में आ गए। बीएसई का तीस शेयर आधारित सेंसेक्स सुबह 26,684.46 अंक पर ऊंचा खुला। कारोबार के दौरान 26,857.25 और 26,671.86 अंक के दायरे में रहने के बाद यह अंतत: 45.97 अंक की मजबूती दिखाता हुआ 26,713.93 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 19.85 अंक चढ़कर 8,179.95 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 8,200 के मनोवैग्यानिक स्तर को लांघ गया था।लिवाली समर्थन से अडाणी पेंट्स, भारती एयरटेल, आईटीसी, टीसीएस, कोल इंडिया, विप्रो, एनटीपीसी, लूपिन, हिंदुस्तान यूनीलीवर व महिंद्रा एंड महिंद्रा का शेयर लाभ के साथ बंद हुए। वहीं एसबीआई, भेल, टाटा मोटर्स और सिप्ला के शेयर में नरमी रही। बीएसई के 30 में से 14 शेयरों में बढ़त में रहे जबकि 16 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। अदाणी पोर्ट्स का शेयर 4.98 फीसदी ऊंचा रहा। एशियन पेंट्स में 3.54 फीसदी, भारतीय एयरटेल 3.17 फीसदी, आईटीसी 2.60 फीसदी, टीसीएस 2.20 फीसदी, कोल इंडिया 1.80 फीसदी, विप्रो 1.29 फीसदी, एनटीपीसी 1.22 फीसदी, ल्युपिन 0.98 फीसदी, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा 0.77 फीसदी और हिन्दुस्तान यूनिलीवर 0.58 फीसदी बढ़कर बंद हुए।

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेChanakya Niti: प्रेम संबंधों में पड़ रही है दरार कहीं आप भी तो नहीं कर रहे हैं ये 4 गलतियां******आचार्य चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र के जरिए जीवन से जुड़ी समस्याओं का समाधान बताया है। चाणक्य ने मनुष्य को प्रभावित करने वाले सभी विषयों को बहुत ही गहराई से अध्ययन किया था। आचार्य चाणक्य की अर्थनीति, कूटनीति और राजनीति विश्व विख्यात है, जो हर एक को प्रेरणा देने वाली है। ये भले ही कठिन हो लेकिन इन्हें अपनाकर आप सफलता पा सकते हैं और सही रास्ते पर चल सकते हैं। ने प्रेम संबंधों के बारे में भी अपने विचार व्यक्त किए हैं। चाणक्य की मानें तो व्यक्ति के प्रेम संबंधों में कुछ कारणों की वजह से खटास आ जाती है और इसके चतले इंसान की सुख-शांति छिन जाती है। आइए जानते हैं उन बातों के बारे में जिनका ध्यान रख प्रेम संबंधों में तनाव को दूर किया जा सकता है-हर कोई इंसान सम्मान चाहता है। जब इंसान के सम्मान को ठेस पहुंचती है तो वो अंदर से टूट जाता है और खुद को कमजोर समझने लगता है। जब आदर सम्मान में कमी आती है तो रिश्ता कमजोर पड़ जाता है। इसीलिए रिश्ते में एक दूसरे को सम्मान देना चाहिए। चाणक्य कहते हैं कि प्रेम संबंधों के बीच अहंकार की जगह नहीं होनी चाहिए। चाणक्य प्रेम को सादगी का ही रूप मानते हैं। प्रेम संबंधों के बीच यदि अहंकार आ जाता है तो आप साथी की अहमियत कम आंकने लगते हैं दूसरा साथी खुद को कमजोर समझने लगता है, जिससे रिश्ते में दूरी आ जाती है इसीलिए रिश्ते में कभी अहंकार नहीं करना चाहिए।आचार्य चाणक्य कहते हैं कि रिश्तों में आजादी का होना बहुत जरूरी है। कहते हैं अगर किसी रिश्ते को ज्यादा बंधन में रखा जाए तो इंसान घुटन महसूस करने लगता है, जिन रिश्तों में आजादी नहीं होती है, वो कुछ समय बाद ही ऊबने लगते हैं और कैद महसूस करते हैं जिसके चलते कुछ समय बाद रिश्ता खत्म हो जाता है।आचार्य चाणक्य कहते हैं कि शक रिश्ते की नींव को हिला देता है। शक रिश्ते को का जाता है इसीलिए रिश्ते में कभी भी शक नहीं करना चाहिए। शक की हल्की सी आंच मजबूत रिश्‍ते को तोड़ देती है।प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेHimachal Pradesh: हिमाचल प्रदेश में हुआ भीषण सड़क हादसा, 5 लोगों की हुई मौत******Highlights हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में शनिवार देर रात एक भीषण सड़क हादसा हुआ। जिले में एक कार एक खंभे से टकराने के बाद पलट गई जिससे उसमें सवार पांच लोगों की मौत हो गई। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने यह जानकारी दी।दुर्घटना कुठार कलां गांव के निकट रात साढ़े 12 बजे के आसपास हुई जिसमें दो व्यक्तियों की मौके पर ही मौत हो गई। इसके अलावा तीन घायलों को ऊना के क्षेत्रीय अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। विभाग ने कहा कि इनमें से 4 ऊना जिले के विभिन्न गांवों के रहने वाले थे जबकि एक पंजाब के रोपड़ जिले का निवासी था।जानकारी के मुताबिक, शनिवार रात को गाड़ी कुठार कलां में खम्भे से टकरा गई और खेतों में जा गिरी। घटना के बारे में जानकारी मिलते ही स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे और लोगों को गाड़ी से बाहर निकाला। इस हादसे में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। मृतकों की पहचान राजन जयसवाल और अमल, विशाल चौधरी उर्फ अमनदीप, सिमरन जीत सिंह और अनूप सिंह के रूप में हुई है।एसपी ऊना अर्जित सेन ने बताया कि पुलिस में सभी शवों को कब्जे में लेकर परिजनों को सूचित कर दिया हैं। आगे की कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।कुछ दिनों पहले कुल्लू की सैंज तहसील के शैंशर पंचायत के जांगला गांव में सुबह एक निजी बस 200 फीट नीचे खाई में पलटे खाते हुए दूसरी सड़क पर गिर गई थी। हादसे में स्कूल जा रही तीन छात्राओं समेत 13 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।बता दें कि 11 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि एक ने रास्ते में और एक ने अस्पताल में दम तोड़ दिया था। 10 शवों का मौके पर और 3 का सैंज अस्पताल में पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिए गए थे।

प्रत्याशी घोषित करने में BJP ने कांग्रेस को पछाड़ा, जानिए दोनो दलों ने किस राज्य में कितने उम्मीदवार उतारे

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेरिटायर हो जाएगा MIG-21 स्क्वाड्रन, विंग कमांडर अभिनंदन ने इसी से खाक में मिलाया था पाकिस्तानी लड़ाकू विमान******Highlightsभारतीय वायुसेना अपने लड़ाकु विमान MIG-21 स्क्वाड्रन स्वॉर्ड आर्म्स को रिटायर करने को तैयार है। एक रिपोर्ट के मुताबिक ये विमान सितंबर 2022 के आखिरी सप्ताह तक रिटायर हो जाएगा। ऐसे तो मिग ने भारतीय वायुसेना में रहते हुए कई कारनामें किए हैं, लेकिन फरवरी 2019 में जह भारतीय वायुसेना ने बालाकोट एयर स्ट्राइक किया था तो उसमें इस फाइटर जेट ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने उस एयर स्ट्राईक में अपने मिग-21 से पाकिस्तान के F-16 आधुनिक फाइटर जेट को खाक में मिला दिया था।स्वॉर्ड आर्म्स MIG-21 वायुसेना के चार स्क्वाड्रन में से एक है। वायुसेना की योजना के मुताबिक 2022 के सितंबर महीने के आखिकी हफ्ते में श्रीनगर में तैनात स्क्वाड्रन को रिटायर किया जाएगा। जबकि बाकी के बचे तीन स्क्वाड्रन को 2025 तक हटा दिया जाएगा। आपको याद होगा जब 26 फरवरी 2019 को बालाकोट एयर स्ट्राइक में वायुसेना ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैंपों पर बमबारी कर उन्हें खत्म किया था, तो उसका बदला लेने के लिए पाकिस्तान के फाइटर जेट 27 फरवरी को उसका बदला लेने के लिए भारतीय सीमा में घुसने का प्रयास करने लगे थे। लेकिन भारतीय वायुसेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया था और उनके फाइटर जेट को खदेड़ दिया था। हालांकि, इस दौरान विंग कमांडर अभिनंदन का विमान क्रैश हो गया था, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें बंदी बना लिया था। हालांकि, भारत के दबाव के चलते महज 60 घंटों में पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को भारत के हवाले कर दिया था।1963 से लेकर 2022 तक 400 से ज्यादा विमान क्रैश हो गए हैं, जिसमें 200 से अधिक जवानों ने अपनी जान गंवा दी है। इन हादसों के कारण से इस विमान का फ्लाइंग कॉफिन या विडो मेकर के नाम से बुलाया जाता है यानी सरल भाषा में आप समझ ले कि ये जहाज मौत का ताबुत है। हाल के रिपोर्ट की बात करें तो सिर्फ बाड़मेर जिले में ही 9 साल के भीतर 8वीं बार ये जेट क्रैश हो गया है।एक जमाने इस विमान की शक्ति से दुश्मन देश कांप उठते थे। इसका हमला इतना घात होता था कि दुश्मन पहले ही हाथ खड़े कर लेते थे। इस विमान को सबसे पहले प्रयोग 1965 में किया गया था लेकिन इस विमान के असली ताकत का अंदाजा 1971 के वार में देखने को मिला जब इस जहाज ने पाकिस्तान के छक्के छुड़ा दिए थे।प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेOla के लिए इस बार दिवाली लेकर आई ढेर सारी खुशियां, कंपनी को FY21 में पहली बार हुआ 90 करोड़ रुपये का मुनाफा******Ola reports operating profit of Rs 90 cr for FY21 राइड-हैलिंग प्‍लेटफॉर्म ओला (Ola) ने वित्‍त वर्ष 2020-21 के लिए अपने पहले परिचालन लाभ की घोषणा की है। कंपनी ने बताया कि उसे इस दौरान कुल 89.82 करोड़ रुपये का परिचालन लाभ हुआ है। कंपनी ने कहा कि कोविड-19 की वजह से लगाए गए लॉकडाउन से कंपनी का राजस्‍व 65 प्रतिशत घटकर 689.61 करोड़ रुपये रह जाने पर भी उसे यह लाभ हुआ है। ओला की पैरेंट कंपनी एएनआई टेक्‍नोलॉजीज द्वारा जमा कराए गए दस्‍तावेजों के मुताबिक कंपनी ने वित्‍त वर्ष 2020-21 में एकल आधार पर 89.82 करोड़ रुपये एबिटडा हासिल किया है। ने बताया कि उसे वित्‍त वर्ष 2019-20 में 610.18 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। उल्‍लेखनीय है कि ओला अपना आईपीओ लाने की भी योजना पर काम कर रही है। एएनआई टेक्‍नोलॉजीज फूड डिलीवरी और फाइनेंशियल सर्विस की भी पेशकश करती है। वित्‍त वर्ष 2020-21 में कंपनी का परिचालन घाटा संचयी आधार पर कम होकर 429.20 करोड़ रुपये रहा, जबकि राजस्‍व 63 प्रतिशत घटकर 983.15 करोड़ रुपये रहा। ओला के प्रवक्‍ता ने कहा कि कंपनी एक मजबूत परिचालन दक्षता के साथ कारोबार निर्माण की दिशा में अपना ध्‍यान केंद्रित कर रही है और यूनिट इकोनॉमिक्‍स को बेहतर बना रही है। प्रवक्‍ता ने कहा कि हमारे वित्‍तीय परिणाम आज इसी का प्रदर्शन कर रहे हैं। हम निरंतर भारत में एक अरब लोगों के लिए नए मोबिलिटी ईकोसिस्‍टम की स्‍थापना के लिए काम कर रहे हैं। सितंबर में ओला के सह-संस्‍थापक भाविश अग्रवाल ने कहा था कि कंपनी का जीएमवी (ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्‍यू) कोविड-पूर्व स्‍तर पर पहुंच गया है, और दूसरी लहर से रिकवरी पहली लहर के मुकाबले तीन गुना तेजी से हुई है। उन्‍होंने यह भी बताया कि ओला ने 2020-21 में 1 करोड़ नए यूजर्स को अपने प्‍लेटफॉर्म पर जोड़ा है। कंपनी और अधिक ड्राइवर-पार्टनर्स को अपने साथ जोड़ने, नए शहरों में प्रवेश करने और कोविड के बाद बेहतर सेवा वाली परिवहन जरूरतों को पूरा करने के लिए नए उत्‍पादों का निर्माण करने पर ध्‍यान दे रही है।पिछले साल मई में, ओला ने कोरोनावायरस महामारी के कारण दो माह के लॉकडाउन की वजह से राजस्‍व में 95 प्रतिशत गिरावट आने के बाद अपने राइड, वित्‍तीय सेवा और फूड बिजनेस से 1400 कर्मचारियों की छंटनी की थी। ओला आईपीओ के जरिये 7324-10985 करोड़ रुपये के बीच राशि जुटाने की योजना बना रही है। कंपनी दिसंबर तक सेबी के पास अपने दस्‍तावेज जमा करवा सकती है।प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेकांग्रेस से नाराज हार्दिक पटेल को मिला AAP में शामिल होने का न्योता******गुजरात में कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने पार्टी छोड़ने की अटकलों बीच अब गुजरात चुनाव में पूरे दमखम से चुनावी मैदान में उतरने का दावा कर रही आम आदमी पार्टी (आप) ने हार्दिक पटेल को पार्टी में शामिल होने का न्योता दिया है।गुजरात में कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने गुरुवार को अपने एक बयान में कहा कि उनकी स्थिति पार्टी में उस नए दूल्हे जैसी है, जिसकी नसबंदी करा दी गई हो।उन्होंने कहा था, मुझे इतना प्रताड़ित किया जा रहा है कि मुझे इसके बारे में बुरा लगता है। गुजरात कांग्रेस के नेता चाहते हैं कि मैं पार्टी छोड़ दूं। मुझे इसका अधिक दुख है कि मैंने राहुल गांधी को कई बार इस स्थिति के बारे में बताया है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इतना ही नहीं हार्दिक पटेल ने ट्विटर पर लिखा, अफवाह थी की मेरी तबियत खराब है, लोगों ने पूछ-पूछ के बीमार कर दिया।हालांकि इसके बाद हार्दिक पटेल ने इस पर स्पष्टीकरण भी दे दिया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने आज तक पार्टी को श्रेष्ठ देने का काम किया है और वे आगे भी यही करने वाले हैं।हार्दिक ने ट्वीट कर कहा, अगर सच बोलना अपराध है, तो आप मुझे गुनाहगार समझिए। गुजरात की जनता उनसे उम्मीद करती है। और हम उस उम्मीद पर खरे न उतर सके, तो फिर इस नेतागीरी का मतलब क्या हैं ! मैंने आज तक पार्टी को श्रेष्ठ देने का काम किया है और आगे भी करने वाला हूं। पद के मोहताज नही काम के भूखे हैं।पार्टी छोड़ने की अटकलों को खारिज करते हुए कहा है कि पार्टी में छोटी-मोटी लड़ाइयां होती रहेंगी, लेकिन सबको मिलकर गुजरात को बेहतर बनाना है। फैसले जितना जल्दी संभव हो, लिए जाने चाहिए। हार्दिक पटेल ने कहा, मैंने अभी तक अपना 100 फीसदी कांग्रेस को दिया है और आने वाले दिनों में भी ऐसा ही करता रहूंगा। हम गुजरात में बेहतर विकास करेंगे।इस बीच आम आदमी पार्टी ने हार्दिक पटेल को पार्टी में शामिल होने का न्योता दिया है। सूत्रों के अनुसार आप के केन्द्रीय नेतृत्व से उन्हें पार्टी में शामिल होने का निमंत्रण दिया गया है, जिसके बाद आप के गुजरात प्रमुख गोपाल इटालिया ने कहा कि अगर हार्दिक पटेल को कांग्रेस पसंद नहीं है, तो उन्हें आप जैसी समान विचारधारा वाली पार्टी में शामिल होना चाहिए। इटालिया ने कहा कांग्रेस से शिकायत करने और अपना समय बर्बाद करने की बजाए उन्होंने यहां (आप) में अपना योगदान देना चाहिए। कांग्रेस जैसी पार्टी में उनके जैसे समर्पित लोगों की जगह नहीं है।गौरतलब है कि पंजाब जीत के बाद आम आदमी पार्टी अब धीरे-धीरे देश के दूसरे हिस्सों में भी पैर पसारने लगी है। इसी साल के अंत तक गुजरात और हिमाचल प्रदेश में चुनाव होने हैं। इसी के मद्देनजर आप संयोजक केजरीवाल लगातार अन्य दलों के बड़े चेहरों को पार्टी में शामिल करा रहे हैं। गुरुवार को ही उन्होंने गुजरात कांग्रेस नेता इंद्रनील राज्यगुरु और वशरामभाई सागठिया हुए आप में शामिल करवाया था।इनपुट-आईएएनएस

प्रत्याशी घोषित करने में BJP ने कांग्रेस को पछाड़ा, जानिए दोनो दलों ने किस राज्य में कितने उम्मीदवार उतारे

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेग्‍लोबल ग्रोथ और घरेलू मांग से वित्‍त वर्ष 2018-19 में जीडीपी वृद्धि दर होगी 7.5%, क्रिसिल ने जताया अनुमान******देश की आर्थिक वृद्धि दर वित्त वर्ष 2018-19 में बढ़कर 7.5 प्रतिशत हो जाएगी। तेजी की वजह घरेलू खपत, नीतिगत मोर्च पर आगे बढ़ना और समकालीन वैश्विक वृद्धि होगी। एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है।चालू वित्त वर्ष में जीडीपी वृद्धि दर के 6.5 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। आर्थिक सर्वेक्षण 2018 में वित्‍त वर्ष 2018-19 में वृद्धि दर 7-7.5 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया है। ने आज रिपोर्ट में कहा कि नोटबंदी और माल एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने के कारण दो साल अच्छे नहीं रहे और इनके बाद अगले वित्त वर्ष में वृद्धि दर के उभरकर 7.5 प्रतिशत की सम्मानजनक स्थिति में आती हुई प्रतीत हो रही है।रिपोर्ट में कहा गया है कि उछाल का समर्थन करने वाले प्रमुख कारक घरेलू खपत और नीतिगत मोर्च पर तेजी है। हालांकि समकालीन वैश्विक वृद्धि भी कुछ तेजी प्रदान करेगी। रिपोर्ट में चार क्षेत्रों- बैंकिंग क्षेत्र में फंसी संपत्ति का समाधान, ग्रामीण कायाकल्प, सुधारों के निरंतर कार्यान्वयन और बढ़ती वैश्विक वृद्धि- की पहचान की है, जो कि तेजी और उसकी स्थिरता की सीमा को निर्धारित करेगा।प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेPunjab Election result 2022 : शिअद नेता प्रकाश सिंह बादल लाम्बी सीट पर 1,416 मतों से पीछे******पंजाब में विधानसभा चुनावों के नतीजे आज आने हैं। मतगणना सुबह 8 बजे से शुरू हो जाएगी। लेकिन अपने जिंदादिल रवैये के लिए मशहूर पंजाब में नतीजों से पहले ही जश्न का माहौल तैयार हो गया है। एक्जिट पोल के नतीजों से सबसे ज्यादा उत्साह आम आदमी पार्टी के खेमे में है। पार्टी के दफ्तर और मुख्यमंत्री पद के दावेदार भगवंत मान के घर पर जश्न की तैयारियां भी शुरू हो गई हैं।पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए डाले गए मतों की गणना चल रही है और राज्य के पांच बार के मुख्यमंत्री एवं शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के नेता प्रकाश सिंह बादल अपने गढ़ लाम्बी विधानसभा सीट पर 1,416 मतों से पीछे चल रहे हैं। लाम्बी सीट पर आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार गुरमीत सिंह खुडियां आगे चल रहे हैं। पंजाब की 117 विधानसभा सीटों के लिए बृहस्पतिवार को सुबह आठ बजे से मतगणना जारी है।

प्रत्याशी घोषित करने में BJP ने कांग्रेस को पछाड़ा, जानिए दोनो दलों ने किस राज्य में कितने उम्मीदवार उतारे

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेEV बैटरी की क्वालिटी को लेकर सरकार सख्त, 1 अक्टूबर से लागू होंगे बैटरी सेफ्टी के नए नियम******Highlights देश में दोपहिया इलेक्ट्रिक गाड़ियों की मांग तेजी से बढ़ी है। क्रिसिल के अनुसारए वित्त वर्ष 2025-26 तक ईवी मामले में दोपहिया वाहनों की हिस्सेदारी 15 फीसदी होगी। हालांकि, पिछले कुछ महीनों में इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग की घटना से सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ गई थी। इसी को देखते हुए सरकार ने सख्त रुख अपनाया है। इसी क्रम में रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवे मिनिस्ट्री 1 अक्टूबर से ईवी में लगने वाली बैटरी की क्वालिटी को लेकर नया नियम लागू करने जा रही है। ये नियम मौजूदा बैटरी सेफ्टी स्टैंडर्ड में कुछ अपडेट के साथ इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए तैयार किए गए हैं। गौरतलब है कि ओला, ओकिनावा समेत दूसरी कंपनियों के इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने के बाद सरकार ने बैटरी में आग लगने के मामलों की जांच के लिए एक स्पेशल कमिटी बनाई थी। इस स्पेशल कमिटी के रिपोर्ट के आधार पर MoRTH ने इलेक्ट्रिक टू-वीलर्सए क्वाड्रिसाइकिल और कार के लिए AIS 156 सेफ्टी स्टैंडर्ड में अपडेट जारी किया है। ने कहा, "हम सरकार द्वारा ईवी बैटरी नियमों का स्वागत करते हैं। यह सही दिशा में उठाया गया एक कदम है जो इलेक्ट्रिक मोबिलिटी इकोसिस्टम के प्रति सरकार की स्पष्ट मंशा को प्रदर्शित करता है। व्यावहारिक रूप से यह निर्माताओं के लिए एक दिशानिर्देश है जो विश्वसनीय उत्पादों के निर्माण के प्रति प्रोत्साहित करेगा। वहीं, दूसरी ओर जनता की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भी यह एक महत्वपूर्ण कदम है। इससे ईवी उद्योग को रफ्तार मिलेगी और लंबे समय तक यह उद्योग बेहतर प्रदर्शन करने के लिए तैयार हो पाएगा। ने कहा कि कि एक ईवी कंपनी के रूम में हम जेन मोबिलिटी आवश्यक सुरक्षा मानदंडों का पालन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसलिए, हम सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा बैटरी मानदंडों के निमय में किए गए संशोधनों का स्वागत करते हैं। यह ईवी उद्योग में सुरक्षा मानकों के लिए लंबे समय से अपेक्षित था। भविष्य में हमें विश्वास है कि सभी बैटरी निर्माता और इलेक्ट्रिक गाड़ियां बनाने वाली कंपनियां सुरक्षा को लेकर अधिक जिम्मेदारी से काम करेंगे। भारत में नए नियम को पालन करना सभी के लिए अच्छा होगा। नए नियम लागू होने से बैटरी सेल, पैक, बीएमएस आदि की गुणवत्ता में वृद्धि होगी। इससे इलेक्ट्रिक गाड़ी बनाने वाली कंपनियों को उपभोक्ताओं का विश्वास जीतने में मदद मिलेगी। इस प्रकार ये सुरक्षा नियम न केवल अप्रिय घटनाओं को रोकने में कारगर होंगे बल्कि आर्थिक नुकसान को कम करेंगे।

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेJames Webb Telescope: नासा के टेलीस्कोप ने एक महीने में ही खोल दिए अंतरिक्ष के राज, इन 4 तस्वीरों को देखकर हैरान हुई दुनिया******Highlightsअमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप बीते कुछ महीनोंसे पूरी तरह काम कर रहा है। इस दौरान उसने अंतरिक्ष की बेहद गहराई से ली गईंजो तस्वीरें भेजी हैं, उन्हें इंसानों ने पहले कभी नहीं देखा है। महज एक महीने में इस टेलीस्कोप से एस्ट्रोनॉमर्स बेहद खुश हैं। कई बार इस टेलीस्कोप को हबल टेलीस्कोप का उत्तराधिकारी भी कहा जाता है, जो इससे पहले अंतरिक्ष की तस्वीरें पृथ्वी पर भेजा करता था। जेम्स वेब टेलीस्कोप को दो दशक की कड़ी मेहनत के बाद 25 दिसंबर, 2021 में लॉन्च किया गया था। इसे बनाने की लागत 10 बिलियन डॉलर थी। आज ये पृथ्वी से 1.6 मिलियन किलोमीटर दूर अंतरिक्ष में है।जेम्स वेब से ली गई तस्वीरों का पहला बैच जुलाई महीने में जारी किया गया था। उसने पहली बार अंतरिक्ष की गहराई की तस्वीरें ली थीं। इस टेलीस्कोप की मदद से उन गैलेक्सी की तस्वीरें भी सामने आईं, जो अंधेरे में गुम थीं। नासा के प्रमुख बिल नेल्सन ने 11 जुलाई को कहा था कि इस तस्वीर में क्या दिख रहा है इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि आपके एक हाथ में रेत का एक दाना है। तस्वीर में दिख रही कई लाइटें 13 अरब साल पुरानी हैं और कई बिग बैंग के समय के एक अरब के भीतर की हैं।नासा का कहना है कि जेम्स वेब का उद्देश्य दूर की गैलेक्सी को देखना है। वेब टेलीस्कोप में किसी भी अन्य टेलीस्कोप के मुकाबले दूर तक देखने की क्षमता है। एस्ट्रोनॉमर्स ने इसकी तस्वीरों से अब तक की सबसे दूर की गैलेक्सी का पता लगा लिया है। जुलाई में प्रकाशित एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने GLASS-z13 नाम की गैलेक्सी का पता लगाया था, जो 13.5 बिलियन साल पुरानी है और बिग बैंग के केवल 300 साल बाद बनी है।अगस्त कशुरुआत में जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप ने कार्टव्हील (पहिए जैसी) गैलेक्सी का पता लगाया था। इससे जुड़ी अब तक की सबसे बेहतर जानकारी मिली थी। ये गैलेक्सी हमारी पृथ्वी से 500 मिलियन प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है। यह छोटी और बड़ी स्पाइरल गैकेस्की की टक्कर से बनी थी। जब स्पाइरल के बजाय इन गैलेक्सी की आपस में टक्कर हुई, तब ये रिंग गैलेक्सी में बदल गईं। जब कभी भी गैलेक्सी आपस में टकराती हैं, तब उनका आकार बदल जाता है। फिर बाद में इन्हीं स्पाइरल गैलेक्सी का अस्तित्व समाप्त हो जाता है। ये कार्टव्हील गैलेक्सी दिखने में बिलकुल घोड़ा गाड़ी के पहिए की तरह लग रही है। इसके आसपास एक रंगीनपहिया और बीच में एक चमकदार रिंग है। हालांकि टक्कर के चलते दोनों एक दूसरे से दूर हो गए। इन खूबियों से ही वैज्ञानिकों ने कार्टव्हील गैलेक्सी को रिंग गैलेक्सी बताया है। अंतरिक्ष की गहराई के अलावा जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप ने हमारे सोलर सिस्टम को भी देखा है। जुलाई महीने में नासा ने बृहस्पति ग्रह की एक तस्वीर शेयर की थी। इस तस्वीरसे बृहस्पति से जुड़ी अहम जानकारियां सामेन आई थीं। टेलीस्कोप ने इसी गैसीय ग्रह और इसके चंद्रमाओं यूरोपा, थेबी और मेटिस की तस्वीर ली थीं। इसके अलावा टेलीस्कोप ने बृहस्तपति ग्रह के रिंग भी देखे। वैज्ञानिकों का ऐसा मानना है कि यूरोपा की बर्फीली सतह के नीचे खारे पानी का समुद्र है, जिसमें एलियन जीवन भी पाया जा सकता है।प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेAAP में शामिल हो सकते हैं अहमद पटेल के बेटे फैसल, ट्वीट कर कांग्रेस आलाकमान पर साधा निशाना******Highlights सोनिया गांधी के सबसे भरोसेमंद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रहे अहमद पटेल के बेटे फैसल पटेल ने पार्टी छोड़ने के संकेत दिए हैं। ऐसा माना जा रहा है कि वह इन दिनों कांग्रेस आलाकमान से किसी बात को लेकर कुछ नाराज चल रहे हैं। इस बात के कयास फैसल पटेल के एक ट्वीट के बाद से लगाए जाने लगे हैं। जिसमें फैसल ने लिखा, 'इंतजार करके थक गया हूं, टॉप लीडरशिप से कोई प्रोत्साहन नहीं मिल है। अपनी तरफ से सभी ऑप्शन खुले रखे हैं।'फैसल के पिता अहमद पटेल का नवंबर 2020 में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था। अहमद पटेल के निधन के दो साल बाद फैसल के इस ट्वीट ने कांग्रेस सी मुश्किले बढ़ा दी हैं। सियासी गलियारों में इस बात की चर्चा हो रही है कि शायद फैसल आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। क्योंकि कुछ दिन पहले ही उन्होंने आप के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी।जिसके बाद से ही कयास लगाए जाने लगे थे कि फैसल जल्द ही कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो गुजरात में कांग्रेस के लिए यह एक बड़ा झटका साबित हो सकता है। क्योंकि इसी साल गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। सभी राजनीतिक दल गुजरात में अपनी सियासी जमीन मजबूत करने में जुट गए हैं।

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेगुजरात से लौटे ट्रक ड्राइवर को क्वारन्टीन में जाने को कहा, भीड़ ने पीट-पीट कर दी 2 लोगों की हत्या******औरंगाबाद। कोरोना संकट के दौरान भीड़ ने दो लोगों की पीट पीट कर हत्या सिर्फ इसलिए कर दी क्योंकि वे एक ट्रक डाइवर को क्वारन्टीन में रहने को कह रहे थे। यह दर्दनाक घटना महाराष्ट्र के लातूर की है। जहां एक व्यक्ति और उसके रिश्तेदार की उस समय भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी जब उन्होंने गुजरात से लौटे एक ट्रक चालक को पृथकवास में जाने को कहा। कसर श्रीशी थाने के एक अधिकारी ने बताया कि यह घटना शनिवार देर रात करीब ढाई बजे औरंगाबाद से 275 किलोमीटर दूर नीलंगा तहसील के बोलेगांव में हुई। उन्होंने बताया, ‘‘ चालक विद्यामन बारम्दे मुंबई में रहता है और गुजरात से लौटा था।मृतक शाहजी पाटिल (50 वर्ष) ने उससे गृह पृथकवास में रहने को कहा। हालांकि, उस समय बारम्दे चंदोरी गांव स्थित अपनी बहन के घर चला गया और बाद में भीड़ के साथ लौटा तथा पाटिल और उनके रिश्तेदार वैभव (24 वर्ष) पर हमला कर दिया जिससे दोनों की मौत हो गई।’’ अधिकारी ने बताया कि हत्या का मामला दर्ज किया गया है और अबतक आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है।हैदराबाद में दो माह के एक बच्चे को उसके माता-पिता ने कथित तौर पर 22,000 रुपये में बेच दिया, जिसके बाद पुलिस ने उसे मुक्त करा लिया। पुलिस ने शुरुआती जांच का जिक्र करते हुए बताया कि दंपति ने शनिवार रात बच्चे को कथित तौर पर बेच दिया। यह उनकी दूसरी संतान है, जिसका जन्म दो महीने पहले हुआ था। दंपति ने कुछ वित्तीय समस्या को लेकर और बच्चे के पिता की शराब की लत के चलते उसे बेचा था। पुलिस ने बताया कि हालांकि बच्चे की मां ने पुलिस से कहा कि उसके पति को शराब की लत है और वह बच्चे को बेचे जाने के लिये जिम्मेदार है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस की एक टीम ने एक गुप्त सूचना के आधार पर बच्चे को एक महिला के पास से बरामद किया और उसे बाल कल्याण समिति को सौंप दिया गया।प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेतीन महीने की देरी से एक अगस्त को शुरू होगा काउंटी का नया सीजन******इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने सोमवार को घोषणा की कि स्थगित काउंटी क्रिकेट सत्र 2020 अंतत: एक अगस्त से शुरू होगा। काउंटी सत्र अप्रैल में शुरू होना था लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण इसे अनिश्चितकाल के लिए निलंबित कर दिया गया था जबकि ईसीबी ने अपने नए टूर्नामेंट ‘द हंड्रेड’ को भी 2021 तक टाल दिया।काउंटी चैंपियनशिप के प्रारूप पर फैसला 18 प्रथम श्रेणी काउंटी जुलाई की शुरुआत में करेगी और इसके बाद नए कार्यक्रम की घोषणा की जाएगी। ईसीबी ने बयान में कहा, ‘‘2020 में महिला घरेलू क्रिकेट खेलने की प्रतिबद्धता भी जताई गई लेकिन नए एलीट घरेलू ढांचे की योजना को टाला जा सकता है।’’उन्होंने कहा, ‘‘पुरुष और महिला घरेलू सत्र की तैयारी और योजना सरकार और मेडिकल पेशेवरों की सलाह पर निर्भर करेगी क्योंकि खिलाड़ियों, स्टाफ और अधिकारियों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता है।’’खिलाड़ी ‘एक जुलाई को या इससे पहले’ ट्रेनिंग दोबारा शुरू कर सकते हैं और सत्र की योजना में लाल गेंद और सफेद गेंद के क्रिकेट के विभिन्न विकल्प शामिल हैं।अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी आठ जुलाई से इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के साथ होगी जो जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में खेली जाएगी। कोरोना वायरस महामारी के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मार्च से ठप्प है।

प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेBig Change in Gold Price: सोने की कीमत में आई 2021 की सबसे बड़ी तेजी, चांदी भी उछली******Gold price big hike 7 April Check 10 Gram Rate Listडॉलर के मुकाबले रुपये के कमजोर पड़ने से बुधवार को राष्‍ट्रीय राजधानी में सोने की कीमत में एक दिन का सबसे बड़ा उछाल दर्ज किया गया। एचडीएफसी सिक्‍यूरिटीज के मुताबिक सोने की कीमत 587 रुपये बढ़कर 45,768 रुपये प्रति दस ग्राम हो गई। इससे पहले मंगलवार को यहां सोने की कीमत 45,181 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुई थी। आई इस तेजी के सहारे चांदी में भी उछाल आया। चांदी का भाव 682 रुपये बढ़कर 65,468 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया। मंगलवार को राष्‍ट्रीय राजधानी में चांदी 64,786 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुआ था। बुधवार को शुरुआती कारोबार के दौरान भारतीय रुपया डॉलर के मुकाबले 24 पैसे फ‍िसलकर 73.66 के स्‍तर पर पहुंच गया।अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में, सोना गिरावट के सथ 1739 डॉलर प्रति औंस और चांदी फ्लैट होकर 25.04 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी। एचडीएफसी सिक्‍यूरिटीज के सीनियर एनालिस्‍ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा कि कॉमेक्‍स पर हाजिर सोने की कीमत कमजोरी के साथ 1739 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी।मजबूत हाजिर मांग के कारण सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे वायदा कारोबार में बुधवार को सोना 346 रुपये की तेजी के साथ 46,265 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में जून के महीने में डिलिवरी वाले सोना वायदा की कीमत 346 रुपये यानी 0.75 प्रतिशत की तेजी के साथ 46,265 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 12,491 लॉट के लिये कारोबार किया गया। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली के कारण सोना वायदा कीमतों में तेजी आई। हालांकि, अंतरराष्ट्रीय बाजार, न्यूयॉर्क में सोना 0.06 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,741.90 डॉलर प्रति औंस चल रहा था।मजबूत हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा बाजार में बुधवार को चांदी वायदा कीमत 454 रुपये की तेजी के साथ 66,351 रुपये प्रति किलो हो गयी। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के मई महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 454 रुपये यानी 0.69 प्रतिशत की तेजी के साथ 66,351 रुपये प्रति किलो हो गयी जिसमें 9,753 लॉट के लिये कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि चांदी वायदा कीमतों में तेजी आने का मुख्य कारण, घरेलू बाजार में तेजी के रुख की वजह से कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली करना था। हालांकि, वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी की कीमत 0.21 प्रतिशत की गिरावट के साथ 25.18 डॉलर प्रति औंस चल रहा था।प्रत्याशीघोषितकरनेमेंBJPनेकांग्रेसकोपछाड़ाजानिएदोनोदलोंनेकिसराज्यमेंकितनेउम्मीदवारउतारेIPL 2020, RCB vs DC : स्टोयनिस (53) के अर्द्धशतक के बाद गेंदबाजों के दमदार प्रददर्शन से दिल्ली ने RCB को 59 रन से हराया******मार्कस स्टोइनिस की अगुआई में बल्लेबाजों के कमाल के बाद गेंदबाजों के धमाल से दिल्ली कैपिटल्स इंडियन प्रीमियर लीग में सोमवार को यहां रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) को 59 रन से रौंदकर अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गया। दिल्ली ने मार्कस स्टोइनिस (53) और ऋषभ पंत (37) के बीच चौथे विकेट के लिए 89 रन की साझेदारी की बदौलत चार विकेट पर 196 रन बनाए।सलामी बल्लेबाजों पृथ्वी शॉ (42) और शिखर धवन (32) ने भी उपयोगी पारियां खेली। स्टोइनिस और पंत ने डेथ ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की जिससे दिल्ली की टीम अंतिम सात ओवर में 94 रन बटोरने में सफल रही। इसके जवाब में तेज गेंदबाज कागिसो रबादा (24 रन पर चार विकेट), बायें हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल (18 रन देकर दो विकेट), एनरिच नोर्ट्जे (22 रन पर दो विकेट) और रविचंद्रन अश्विन (26 रन पर एक विकेट) की धारदार गेंदबाजी क सामने आरसीबी की टीम नौ विकेट पर 137 रन ही बना सकी।आरसीबी के लिए कप्तान विराट कोहली ने सर्वाधिक 43 रन बनाए। उनके अलावा आरसीबी का कोई बल्लेबाज 20 रन के आंकड़े को भी नहीं छू पाया। दिल्ली की टीम पांच मैचों में चार जीत से आठ अंक के साथ शीर्ष पर पहुंच गई है। आरसीबी के पांच मैचों में छह अंक हैं। लक्ष्य का पीछा करने उतरी आरसीबी की शुरुआत बेहद खराब रही।रबादा ने पारी के पहले ओवर में ही आरोन फिंच का आसान कैच छोड़ा जबकि उन्होंने खाता भी नहीं खोला था। नोर्ट्जे के अगले ओवर में पहली स्लिप में धवन ने भी फिंच का कैच टपकाया। देवदत्त पड्डिकल (04) हालांकि अश्विन की गेंद पर स्टोइनिस को आसान कैच दे बैठे। कप्तान कोहली ने अक्षर पर चौके के साथ खाता खोला लेकिन बायें हाथ के इस स्पिनर ने फिंच को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 13 रन बनाए।कोहली तेज गेंदबाज हर्षल पटेल पर चौके के साथ 10 रन बनाते ही टी20 क्रिकेट में नौ हजार रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने। स्टार बल्लेबाज एबी डिविलियर्स भी नौ रन बनाने के बाद नोर्ट्जे की गेंद पर धवन को कैच दे बैठे जिससे आरसीबी की टीम पावर प्ले में तीन विकेट पर 43 रन ही बना सकी।शुरुआती 10 ओवर में बाद आरसीबी का स्कोर तीन विकेट पर 63 रन था और टीम पर रन गति बढ़ाने का दबाव बढ़ रहा था। इसी दबाव के बाद मोईन अली ने अक्षर की फुलटॉस को सीधे हेटमायर के हाथों में खेला। रबादा ने इसके बाद गेंदबाजी में वापसी की और कोहली को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच कराके आरसीबी की रही सही उम्मीद भी तोड़ दी।कोहली ने 39 गेंद का सामना करते हुए दो चौके और एक छक्का मारा। शिवम दूबे ने अश्विन पर छक्के के साथ 15वें ओवर में आरसीबी का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। आरसीबी को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 92 रन की दरकार थी। रबादा ने इसके बाद दुबे, वाशिंगटन सुंदर और इसुरु उदाना को पवेलियन भेजकर दिल्ली की जीत सुनिश्चित की।टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली की टीम को पृथ्वी और धवन की जोड़ी ने 68 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत दिलाई। पृथ्वी ने इसुरू उदाना के पहले ही ओवर में तीन चौके मारे जबकि नवदीप सैनी पर पारी का पहला छक्का जड़ा। पृथ्वी ने पांचवें ओवर में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल का स्वागत लगातार गेंदों पर चौके और छक्के के साथ किया जबकि शिखर धवन ने भी चौका जड़कर टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया।दिल्ली की टीम ने पावर प्ले में 63 रन जोड़े जो मौजूदा टूर्नामेंट में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। पृथ्वी हालांकि अगले ओवर में मोहम्मद सिराज की बाउंसर को पुल करने की कोशिश में विकेटकीपर डिविलियर्स को कैच दे बैठे। उन्होंने 23 गेंद की अपनी पारी में पांच चौके और दो छक्के मारे। धवन भी अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे और उदाना की गेंद को उठाकर मारने की कोशिश में लांग आन पर मोईन अली को कैच दे बैठे। उन्होंने 28 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके मारे।बेहतरीन फॉर्म में चल रहे दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर भी सिर्फ 11 रन बनाने के बाद पवेलियन लौटे। मोईन की गेंद पर पड्डिकल ने बाउंड्री पर उनका शानदार कैच लपका। इस समय दिल्ली का स्कोर तीन विकेट पर 90 रन था। पंत और स्टोइनिस ने इसके बाद पारी को संभाला। पंत ने चहल पर चौका मारा जबकि स्टोइनिस ने मोईन पर छक्का और चौका जड़ा। दिल्ली के 100 रन 13वें ओवर में पूरे हुए।स्टोइनिस ने सैनी पर दो चौके और एक छक्का जड़ा लेकिन इसी ओवर में भाग्यशाली रहे जब चहल ने उनका कैच टपका दिया। पंत ने 19वें ओवर में सिराज पर छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर बोल्ड हो गए। उन्होंने 25 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और दो छक्के मारे। स्टोइनिस ने सिराज पर चौके के साथ 24 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। शिमरोन हेटमायर (नाबाद 11) ने उदाना ने अंतिम ओवर में छक्का जड़ा। आरसीबी की ओर से सिराज सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 34 रन देकर दो विकेट चटकाए।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:21
उद्धरण 1 इमारत
सहारा इंडिया में अटका पैसा जल्द मिलेगा, सरकार ने लोकसभा में दी जानकारी******saharaHighlightsसहारा इंडिया निवेशकों के लिए अच्छी खबर है। अगर सहारा इंडिया के किसी स्कीम में आपका या परिवार के किसी सदस्य का पैसा अटका हुआ है तो वह जल्द मिल सकता है। केंद्र सरकार ने इसकी जानकारी लोकसभ में दी है।लोकसभा में एक प्रश्‍न का जवाब में वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने सोमवार को बताया कि सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने 232.85 लाख निवेशकों से 19400.87 करोड़ रुपये और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ने 75.14 लाख निवेशकों से 6380.50 करोड़ रुपये एकत्र‍ित किए है। वहीं, दूसरी ओर पूंजी बाजार नियामक सेबी ने अब तक ब्‍याज समेत कुल 138.07 करोड़ रुपये ही वापस कर पाया है।सहारा इंडिया के निवेशकों को उनका पैसा कब वापस मिलेगा के सवाल के जवाब में वित्त राज्य मंत्री भाने कहा कि सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया ने सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड नाम की दो विशेष सहारा कंपनियों से संबंधित आदेश जारी किए हैं। वहीं, दूसरी ओर 31 दिसंबर, 2021 तक ‘सेबी-सहारा रिफंड’ खाते में 15,503.69 करोड़ रुपये जमा किए हैं। ऐसे में रिफंड के लिए आवेदन मिलने पर पैसे वापस किए जाएंगे।वित्त राज्यमंत्री ने कहा सेबी को 81.70 करोड़ रुपये की कुल मूल राशि के लिए 19,644 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से सेबी ने 138.07 करोड़ रुपये की कुल राशि 48,326 ओरिजिनल बॉन्ड सर्टिफिकेट / पासबुक वाले 17,526 एलिजिबल बॉन्डहोल्डर्स को रिफंड किया है।
2022-10-01 05:26
उद्धरण 2 इमारत
Bihar News : कार्तिकेय सिंह को करना था सरेंडर, ली मंत्री पद की शपथ, नीतीश के कानून मंत्री पर बड़ा खुलासा******Highlights आरजेडी के साथ सरकार बनाने के बाद नीतीश कुमार की मुश्किल कम होती नहीं दिख रही हैं। बाहुबली आनंद मोहन पर अभी बवाल खत्म नहीं हुआ था कि इसी बीच कानून मंत्री पर बेहद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। नीतीश कुमार के कानून मंत्री पर हुए खुलासे से हड़कंप मच गया है। बिहार के नए कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह को अपहरण के एक केस में कल दानापुर कोर्ट में सरेंडर करना था लेकिन कार्तिकेय सिंह शपथ लेने राज भवन पहुंच गए। वहीं कार्तिकेय सिंह कहा कि उनके खिलाफ कोई वारंट नहीं है। उन्होंने हलफनामे में सारी जानकारी दी है।अनंत सिंह के बेहद करीबी माने जाते हैं कार्तिकेय सिंहकार्तिकेय सिंह आरजेडी के बाहुबली अनंत सिंह के बेहद करीबी माने जाते हैं।कार्तिकेय सिंह पर पटना के बिहटा थाने में 2014 में अपहरण का केस दर्ज हुआ था । उनपर पर एक बिल्डर की हत्या के इरादे से अपहरण की साजिश का आरोप है। इस केस में चार्जशीट फाइल हो चुकी है। कार्तिकेय सिंह के खिलाफ इस केस में 14 जुलाई 2022 को वारंट जारी हुआ था और उन्हें 16 अगस्त 2022 को सरेंडर करना था लेकिन कार्तिकेय सिंह सरेंडर के बजाय शपथ लेने चले गए।राष्ट्रीय जनता दल के एमएलसी हैं कार्तिकेयआपको बता दें कि कार्तिकेय सिंह राष्ट्रीय जनता दल के एमएलसी हैं। उन्हें नीतीश कैबिनेट में राष्ट्रीय जनता दल के कोटे से जगह मिली थी। मोकामा के रहनेवाले कार्तिकेय सिंह पेशे से शिक्षक भी रह चुके हैं।वहींकार्तिकेय सिंह इंडिया टीवी सेकहा कि सारे मामले गलत हैं। मेरे खिलाफ कोई वारंट नहीं है। मैंने हलफनामे में सारी जानकारी दी है। कार्तिकेय सिंह ने कल नीतीश कैबिनेट में मंत्री पद की शपथ ली थी। शपथ ग्रहण के बाद विभाग के बंटवारे में नीतीश कुमार ने कार्तिकेय सिंह को कानून मंत्रालय सौंपा है।सुशील मोदी ने नीतीश पर बोला हमलाराज्यसभा सांसद और बिहार बीजेपी के बड़े नेता सुशील कुमार मोदी ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि इस घटना के लिए नीतीश कुमार जिम्मेदार हैं जिन्हें सारी जानकारी थी। नीतीश के कहने पर ही ऐसा हुआ है। कार्तिकेय को कानून मंत्री बनाने के पीछे नीतीश कुमार का बड़ा मकसद है। सुशील मोदी ने कहा कि जिन लोगों पर मुकदमें हैं उनके ऊपर से नीतीश कुमार केस वापस लेना चाहते हैं।
2022-10-01 05:23
उद्धरण 3 इमारत
इन कंपनियां का मुनाफा दोगुना होने से शेयर के भाव 300% बढ़े, आपके पास अब भी है मौका******एसकोर्ट, मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल, कैपलिन प्वाइंट, सुंदरम फास्टनर्स, GNFC, फ्यूचर्स रीटेल, सन टेक रियल्टी समेत कई कंपनियां ऐसी है जिनका मुनाफा एक साल में दोगुना हो गया है। इस जबरदस्त परफॉर्मेंस के बाद इन कंपनियों के शेयरों के भाव महज एक साल में 300% तक उछल गए है। इस पर एक्सपर्ट्स का मानना है कि इन कंपनियों के आगे भी अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद है, क्योंकि मौसम विभाग ने अगले तीन में अच्छी बारिश का अनुमान लगाया है। साथ ही, GST भी एक जुलाई से लागू होने की पूरी उम्मीद है। ऐसे में निवेशक इन कंपनियों के शेयरों में कोई भी गिरावट आने पर लॉन्ग टर्म के लिए इन्वेस्ट कर सकते है। शेयर बाजार के जानकारों की मानें तो ये कंपनियां लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है। खासकर एसकोर्ट, मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल, कैपलिन प्वाइंट, सुंदरम फास्टनर्स, GNFC, फ्यूचर्स रीटेल को बेहतर होते घरेलू इकोनॉमिक एनवायरमेंट का सहारा मिला है। वहीं, पिछले साल मानसून में अच्छी बारिश का फायदा भी एसकोर्ट जैसी कंपनियों को मिला। इसके अलावा शेयर बाजार में लागातर जारी तेजी से ब्रोकरेज हाउस कंपनी मोतीलाल ओसवाल की आय में जोरदार इजाफा देखन को मिला है। इसीलिए कंपनी के शेयर में जोरदार तेजी है।यूबीएस सिक्योरिटीज के इंडिया रिसर्च हेड गौतम छाओछारिया का मानना है कि निफ्टी को 9700 के ऊपर जाने में मुश्किल होगी। यूबीएस के सालाना स्मॉल एंड मिडकैप कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि मिडकैप शेयरों में रिस्क थोड़ा ज्यादा है लेकिन अब भी कई शेयरों में पैसे लगाना फायदे का सौदा होगा। बाजार में तेजी खत्म होती नजर आ रही है। निफ्टी ऊपर की तरफ 9700 तक जा सकता है, निफ्टी को 8800 पर अच्छा सपोर्ट हासिल है। गौतम को कंपनियों के नतीजों से भी खास उम्मीद नहीं है। उन्होंने कहा कि एशिया के इमर्जिंग बाजारों में नतीजों के आसार बेहतर हैं लेकिन इसके उलट भारतीय कंपनियों की कमाई में कमी आएगी।प्रिंसिपल पीएनबी एसेट मैनेजमेंट के चीफ इन्वेस्टमेंट ऑफिसर रजत जैन का कहना है कि अगर बाजार को लंबी अवधि के नजरिए से देखा जाए तो बाजार मौजूदा समय में सस्ते नहीं है बल्कि लॉन्ग टर्म एवरेज मंहगे है। बावजूद उसके बाजार में निवेश कर पैसे बनने की संभावनाएं अधिक है। लंबी अवधि के लिहाज से कहा जाए तो ऑटो मोबिल्स सेक्टर, सीमेंट सेक्टर और कुछ चुनिंदा बैंकिंग सेक्टर में निवेश करने की सलाह होगी।आनंद राठी सिक्योरिटीज जय ठक्कर, का कहना है कि जेएसडब्ल्यू एनर्जी में मौजूदा स्तर से कमजोरी रहने की उम्मीद है। हालांकि आज के सत्र में इसमें तेजी देखने को मिली है लेकिन इसकी इस तेजी में खरीदारी करने की राय नहीं होगी। जेएसडब्ल्यू एनर्जी में 66.5-67 रुपये के स्तर पर रजिस्टेंस बना हुआ है। अगर यह अपने रजिस्टेंस स्तर को पार करने में सक्षम होता है तो इसमें खरीदारी करें अन्यथा खरीदारी से बचने की सलाह होगी।पेन्नार इंडस्ट्रीज में वॉल्यूम के साथ तेजी देखने को मिल रही है। वहीं चोर्ट पैटर्न के लिहाज से भी इसमें काफी तेजी देखने को मिल रही है। लिहाजा इसमें छोटी और मध्यम अवधि में 85-90 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदारी की जा सकती है।
वापसी