नई पोस्ट करें

ओलम्पिक की संयुक्त मेजबानी पर चर्चा करेंगे दक्षिण और उत्तर कोरिया

2022-10-01 06:37:18 378

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाडायबिटीज के मरीजों के लिए बेहद असरदार है नीम, ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए ऐसे करें सेवन******Highlights के रोगियों को बल्ड शुगर लेवल कंट्रोल में रखना बड़ी चुनौती होती है। खासकर, इन्हें अपने खानपान का खास ध्यान देने की जरूरत होती है। खान-पान में बरती गई लापरवाही शुगर लेवल को और भी ज्यादा बढ़ा सकती है। ऐसे में डायबिटीज के मरीज अपनी डाइट में नीम को शामिल कर शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं। दरअसल, नीम की पत्तियों में एंटी डायबिटीक गुण पाए जाते हैं जोकि ब्लड शुगर को कंट्रोल करते हैं। आइए जानते हैं डायबिटीज के मरीज अपनी डाइट में नीम को किस तरह शामिल कर सकते हैं।नीम की पत्तियों में ग्लाइकोसाइड्स और एंटी-वायरल गुण भी भरपूर मात्रा में होती है, जोकि ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद करती है। साथ ही यह शरीर में ग्लूकोज लेवल को भी मैनेज करती है। इसके सेवन से स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याएं दूर हो सकती हैं।

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाMaharashtra Cabinet Expansion: शिंदे सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार कल, फडणवीस को मिल सकता है गृह विभाग******Highlightsमहाराष्ट्र में मंत्रिमंडल विस्तार की तारीख तय हो गई है। एकनाथ शिंदे सरकार के मंत्रिमंडल का विस्तार कल यानी मंगलवार को होगा। महाराष्ट्र के राजभवन के दरबार हॉल में कल सुबह 11 बजे मंत्रियों का शपथग्रहण समारोह होगा। बता दें कि इससे पहले विधानभवन में शपथग्रहण समारोह करने पर सहमति बनी थी। कल विधानभवन में कामकाज सल्लागार कमिटी की बैठक होगी।सूत्रों की माने तो महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे कम से कम 15 मंत्रियों को शामिल कर अपने मंत्रिमंडल का विस्तार कर सकते हैं और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के महत्वपूर्ण गृह विभाग संभालने की उम्मीद है।सूत्रों के मुताबिक महाराष्ट्र मंत्रिमंडल के पहले चरण के कल हो रहे विस्तार में कुल मिलाकर 10 से 12 ही विधायक मंत्रिपद की शपथ लेंगे। एकनाथ शिंदे गुट से अंतिम मुहर कल सुबह ही लगेगी। कल सुबह 9 बजे सह्याद्री गेस्ट हाउस पर शिंदे गुट के विधायकों की बैठक होगी, जिसमे अंतिम नाम तय होंगे।शिवसेना में बगावत के कारण उद्धव ठाकरे के इस्तीफे के बाद शिंदे और फडणवीस ने 30 जून को मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। दोनों तब से दो सदस्यीय मंत्रिमंडल के रूप में काम कर रहे हैं, जिसकी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार सहित विपक्षी दलों के कई नेताओं ने आलोचना की है।शनिवार को मुख्यमंत्री शिंदे ने कहा कि मंत्रिपरिषद के विस्तार में देरी के कारण राज्य सरकार का कामकाज किसी भी तरह से प्रभावित नहीं हुआ है और जल्द ही और मंत्रियों को शामिल किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘सरकार का काम किसी भी तरह से प्रभावित नहीं हुआ है। निर्णय लेने की प्रक्रिया प्रभावित नहीं हुई है। मैं और उपमुख्यमंत्री निर्णय ले रहे हैं और सरकार के कामकाज पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है।’’बता दें कि इससे पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता अजित पवार ने शनिवार को कहा था कि महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे-देवेंद्र फडणवीस सरकार तब तक मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं कर सकती जब तक कि उन्हें दिल्ली से ‘‘हरी झंडी’’ नहीं मिल जाती। उन्होंने कहा कि शिंदे और फडणवीस को मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ लिए 35 दिन से अधिक का समय बीत चुका है, लेकिन अभी तक मंत्रिमंडल का गठन नहीं हुआ है।पवार ने पत्रकारों से कहा, ‘‘हम लगातार मांग कर रहे हैं कि मुख्यमंत्री मंत्रिमंडल का विस्तार करें।’’ पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक मंत्रियों की एक कार्यात्मक परिषद नहीं होगी, तब तक प्रशासन सुव्यवस्थित नहीं हो पायेगा। पवार ने कहा कि वह राज्य के राज्यपाल, मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से मिलेंगे और उनसे मंत्रिमंडल का विस्तार करने और राज्य विधानमंडल का सत्र बुलाने के लिए कहेंगे।ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाEarthquake News: लेह में आया भूकंप, जमीन से 10 किमी नीचे थी गहराई, जानिए कितनी थी तीव्रता******Highlights लेह के अलची से करीब 189 किमी उत्तर में सुबह करीब 4.19 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप की तीव्रता 4.8 आंकी गई। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार भूकंप की गहराई जमीन से 10 किमी नीचे थी। भूकंप के कारण अभी किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं आई है। कुछ दिन पहले भी अल्ची में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। तब भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.2 मापी गई थी। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने भूकंप का केंद्र अलची से 89 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में बताया था। बताया जाता है कि पिछले दिनों यहां जो भूकंप आया था उस समय लोग सुबह अपने अपने कामों में व्यस्त थे। उसी समय धरती हिली और भूकंप के कारण दरवाजे आथ्र खिड़कियां हिलने पर लोग डरकर घरों से बाहर निकल आए थे। हालांकि तब भी भूकंप के दौरान जानमाल के नुकसान की खबर नहीं मिली।लेह में लगातार आ रहा भूकंपजानकारी के मुताबिक लेह में पिछले कुछ महीनों से लगातार भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं। इससे पहले इस इलाके में 25 मार्च को भी तेजी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। वहीं मार्च से पहले पिछले साल 27 सितंबर और फिर 6 अक्टूबर को भी भूकंप के कारण कंपन महसूस किया गया था। उस समय आए भूकंप की तीव्रता 3.7 और अक्टूबर में 5.1 बताई गई थी।लगातार भूकंप के झटके किसी बड़ी तबाही के संकेत!कुछ स्थानीय पृथ्वी वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी कि ये छोटे.छोटे झटके आने वाली किसी बड़ी भूकंपीय घटना का संकेत हो सकते हैं। जम्मू कश्मीर में हाल के समय में छोटे.छोटे भूकंप लगातार आ रहे हैं। कहीं ये छोटे भूकंप किसी बड़े खतरे के संकेत तो नहीं र्हैं। ऐसे में इन्हें हल्के में लिया जाना एक बड़ी गलती साबित हो सकती है। जानकारों का ऐसा मानना है कि इन हल्के भूकंपों को बड़ी चेतावनी के तौर पर देखा जाना चाहिए और बड़ा भूकंप आने पर नुकसान से बचने के लिए पहले से ही उसकी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।जान माल के नुकसान न हो, इसलिए पहले से करें तैयारीऐसा कहा जाता है कि भूकंप के छोटे झटके किसी बड़े भूकंप के आने से पहले चेतावनी देते हैं। ऐसे में जानमाल के कम से कम नुकसान के लिए पहले से तैयारी शुरू कर देना ही समझदारी है। एक मीडिया रिपोर्ट में नेशनल सेंटर ऑफ सिस्मोलॉजी के पूर्व प्रमुख एके शुक्ला के हवाले से लिखा गया है कि ऐसी कोई मशीन नहीं बनी है, जिससे भूकंप की भविष्यवाणी हो सके। लेकिन जो छोटे भूकंप होते हैं। वह बड़े भूकंप की चेतावनी के तौर पर देखे जाने चाहिए।जम्मू कश्मीर में 2005 में आया था भीषण भूकंपजम्मू कश्मीर बेहद संवेदनशील क्षेत्रों में आता है। यहां 8 अक्टूबर 2005 में बेहद भीषण भूकंप आया था। जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 7.6 मापी गई थी। इस भूकंप के कारण एलओसी यानी नियंत्रण रेखा से सटे पाकिस्तान और भारत दोनों के ही इलाकों में 80 हजार से अधिक लोगों की मौत हुई थी। वहीं अगर जम्मू कश्मीर की बात करें, तो यह भूकंप के खतरनाक जोन में पड़ता है।

ओलम्पिक की संयुक्त मेजबानी पर चर्चा करेंगे दक्षिण और उत्तर कोरिया

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाFlipkart का बंपर एक्‍सचेंज ऑफर, iPhone 6 पर मिल रहा है 22000 तक का डिस्‍काउंट******smartphones under 15k newदुनिया के पहले टैंगो स्मार्टफोन की शुरू हुई बिक्री, लेनोवो फैब 2 प्रो की कीमत 33 हजार रुपएApple ने लॉन्‍च किया दमदार, पतला, टच बार और फिंगरप्रिंट सेंसर से लैस नए पावरफुल मैकबुकओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियासस्ता नहीं है नए 100 रुपए के नोट का ATM से निकलना, रीकैलिब्रेशन पर खर्च होंगे 100 करोड़ रुपए******Rs-100-new-note देशभर में एटीएम को के अनुरूप बनाने में 100 करोड़ रुपए खर्च करने की जरूरत होगी। एटीएम परिचालन उद्योग ने यह जानकारी दी। देशभर में करीब 2.40 लाख एटीएम मशीनें हैं। एटीएम परिचालकों के संगठन सीएटीएमआई ने कहा कि 100 रुपए के नये नोट से कई चुनौतियां सामने आएंगी। उन्होंने कहा कि 200 रुपए के नए नोट के लिए एटीएम मशीनों को अनुकूल बनाने का काम अभी पूरा भी नहीं हो पाया है। सीएटीएमआई के निदेशक तथा एफएसएस के अध्यक्ष वी. बालासुब्रमण्यम ने कहा कि हमें एटीएम मशीनों को 100 रुपए के नए नोटों के अनुकूल बनाना होगा। देश भर में हमें 2.4 लाख एटीएम मशीनों को इनके अनुकूल बनाना होगा। उन्होंने कहा कि 100 रुपए के पुराने तथा नए दोनों तरह के नोटों का एक साथ प्रचलन में रहना कई चुनौतियों को जन्म देगा।हिताची पेमेंट सर्विसेज के प्रबंध निदेशक लोनी एंटोनी ने कहा कि 100 रुपए के नये नोट के हिसाब से एटीएम मशीनों को अनुकूल बनाने में 12 महीने लगेंगे तथा इसपर 100 करोड़ रुपए खर्च होंगे। उन्होंने कहा कि चूंकि अभी सभी एटीएम मशीनों को नये नोट के अनुकूल नहीं बनाया जा सका है, यदि समुचित तरीके से योजना नहीं बनाई गई तो उन्हें 100 रुपए के नए नोटों के अनुकूल बनाने में अधिक समय लगेगा।ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाकितने लाख लोगों ने लाइव देखा? वर्चुअल रैलियों के लिए यही भीड़ का पैमाना******कोरोना से पहले के दौर में जब चुनावी रैलियां होती थीं तो भीड़ का सिर्फ अनुमान लगाया जा सकता था, मगर वर्चुअल रैलियों में एक-एक व्यक्ति का हिसाब रखना आसान हो गया है। अब किसी वर्चुअल रैली को के प्लेटफॉर्म पर कितने लोगों ने देखा, यही राजनीतिक दलों और नेताओं के लिए भीड़ का पैमाना हो गया है। जिस नेता की रैली को ज्यादा लोगों ने लाइव देखा तो वह उसकी लोकप्रियता मानी जा रही है।हर वर्चुअल रैली के बाद पार्टियां लाइव देखने वालों का हिसाब भी बता रही हैं। यह ठीक उसी तरह से है, जैसे पहले के दौर में रैलियों के समापन के बाद पार्टियां अनुमानित भीड़ का आंकड़ा बताकर आयोजन की सफलता का दावा करती थीं।मिसाल के तौर पर बीते सात सितंबर को जब जदयू की ओर से मुख्यमंत्री की निश्चच संवाद वर्चुअल रैली हुई तो पार्टी ने दावा किया कि इसे देशभर में 40 लाख से ज्यादा लोगों ने देखा। पार्टी ने इसकी एक रिपोर्ट भी जारी की थी। हालांकि नीतीश की रैली को बिहार में सिर्फ 12.82 लाख लोगों ने देखा था, लेकिन अन्य राज्यों के लोगों के जुड़ने पर पार्टी ने 44 लाख का आंकड़ा बताया। इसी तरह जब सात जून को गृहमंत्री अमित शाह की बिहार की वर्चुअल रैली हुई थी तब भी भाजपा ने 40 लाख से ज्यादा लोगों के देखने का दावा किया था। गृहमंत्री अमित शाह का भाषण जनता तक पहुंचाने के लिए 243 विधानसभा सीटों के 72 हजार बूथों पर एलईडी लगवाई गई थी।भारतीय जनता पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, "वर्चुअल रैलियों के आयोजन में भाजपा सबसे आगे है। कोरोना के खतरे के बीच ये रैलियां सुरक्षित हैं। पहले लोग भीड़ का अनुमान लगाते थे। कम भीड़ को भी लोग ज्यादा बता देते थे। लेकिन वर्चुअल रैलियां कहीं ज्यादा पारदर्शी हैं, जहां लाइव देखने वाले हर व्यक्ति का हिसाब मिल जाता है। कितने लोगों ने लाइव देखा, यही वर्चुअल रैलियों की भीड़ का पैमाना है।"

ओलम्पिक की संयुक्त मेजबानी पर चर्चा करेंगे दक्षिण और उत्तर कोरिया

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियामेक्सिको बस दुर्घटना में 15 लोगों की मौत, 37 घायल****** पश्चिमी के जेलिस्को में बस दुर्घटना में 15 लोगों की मौत हो गई जबकि 37 घायल हो गए। जेलिस्को के आपात सेवा और दमकल विभाग के प्रमुख जोस त्रिनिडाड लोपेज रिवस ने एफे को बताया कि यह दुर्घटना रविवार को शाम 7.30 बजे ब्रेक फेल होने से हुई। बस में सवार यात्री सैन जुआन डे लोक लागोस से छुट्टियां बिताकर लौट रहे थे। लोपेज रिवस ने बताया कि अयोटलान के लोगों ने एक निजी बस किराए ली थी, जिसकी हालत ठीक नहीं थी और यह वाहन के ब्रेक फेल होने से यह घटना हुई। लोपेज रिवस ने कहा कि घटनास्थल पर मौजूद लोगों के मुताबिक, यह घटना ब्रेक फेल होने से हुई, जिस वजह से गाड़ी पलट गई।इस घटना के बाद 11 लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि चार ने बाद में अस्पताल के दौरान दम तोड़ दिया।ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाDelhi Weather News: दिल्ली में अधिकतम तापमान 38.4 डिग्री दर्ज, कल धूल भरी आंधी चलने का अनुमान******राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को अधिकतम तापमान 38.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि मौसम विभाग ने चार मई को धूल भरी आंधी या तूफान की भविष्यवाणी की थी। भारत मौसम विज्ञान विभाग () के अनुसार, शाम के समय हवा में आर्द्रता का स्तर 43 प्रतिशत दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, मंगलवार को अधिकतम तापमान 38.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जिसमें आंशिक रूप से बादल छाए रहने और चार मई को गरज के साथ बिजली चमकने की संभावना है। मंगलवार को न्यूनतम तापमान 28.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 27.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि अधिकतम तापमान वर्ष के इस समय के अनुसार सामान्य से दो डिग्री अधिक 40.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली की सफदरजंग वेधशाला में तापमान 43.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो पिछले 12 साल में अप्रैल महीने में सर्वाधिक तापमान था। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण राजधानी से पुरवाई हवाएं चलने से रविवार को तापमान 40.5 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया था।मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, बुधवार को न्यूनतम और अधिकतम तापमान के क्रमश: 27 डिग्री सेल्सियस और 40 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। उत्तर पश्चिमी भारत को प्रभावित करने वाले एक पश्चिमी विक्षोभ के कारण राष्ट्रीय राजधानी में तापमान में तीन से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। एक अधिकारी ने सोमवार को बताया, ‘‘चार और पांच मई को एक और पश्चिमी विक्षोभ का पूर्वानुमान है। शहर में कम से कम दो से तीन दिनों तक लू चलने की संभावना नहीं है।’’ तापमान के छह मई तक 40 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में शाम को सात बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) ‘खराब’ श्रेणी में दर्ज किया गया। शून्य से 50 के बीच एक्यूआई ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है।(इनपुट- भाषा)

ओलम्पिक की संयुक्त मेजबानी पर चर्चा करेंगे दक्षिण और उत्तर कोरिया

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाएनर्जी एक्सचेंज में बिजली की कीमत 9 साल के उच्चतम स्तर पर, 15.37 रुपए प्रति यूनिट तक पहुंची******Electricityभारत में बिजली की मांग तेजी के साथ बढ़ रही है। जिसके चलते प्रति यूनिट बिजली की कीमतें भी बढ़ रही हैं। उच्च मांग के कारण इंडियन एनर्जी एक्सचेंज (आईईएक्स) में बृहस्तपतिवार को बिजली की हाजिर कीमत 15.37 रुपये प्रति यूनिट तक पहुंच गयी, जो नौ साल का उच्चतम स्तर है। एक सूत्र ने बताया कि आईईएक्स के आंकड़ों के मुताबिक अगस्त, 2009 में बिजली की हाजिर कीमत 17 रुपये प्रति यूनिट के आंकड़े तक पहुंच गयी थी। विशेषज्ञों का मानना है कि आपूर्ति की तुलना में मांग अधिक होने के कारण बिजली की हाजिर कीमतों में यह तेजी आयी है।उन्होंने बताया कि पवन और जल विद्युत उत्पादन में कमी के साथ बिजली संयंत्रों में कोयला की कमी लगातार बने रहने के कारण हाजिर कीमत में यह वृद्धि देखने को मिली है। बिजली की हाजिर कीमत इन्हीं कारकों के चलते 17 सितंबर को 14.09 रुपये प्रति यूनिट के स्तर तक पहुंच गयी थी।

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाआईपीएल 2019 के ऑक्शन में मनोज तिवारी की लगी सबसे पहले बोली, किसी ने नहीं खरीदा******आईपीएल के 12वें सीजन के लिए पहली बोली मनोज तिवारी की लगी। मनोज तिवारी का बेस प्राइज 50 लाख रुपये था। लेकिन मनोज तिवारी को किसी ने नहीं खरीदा और इस तरह नीलामी में जिस खिलाड़ी का नाम सबसे पहले लिया गया वो बिका ही नहीं। आपको बता दें कि आईपीएल 2019 की नीलामी जयपुर में हो रही है। नीलामी में कई दिग्गजों की बोली लगेगी।इस सीजन में अरुणाचल प्रदेश, बिहार, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम, उत्तराखंड और पुडुचेरी के खिलाड़ी भी शामिल हैं। इसी साल बीसीसीआई ने नौ नये राज्यों को घरेलू क्रिकेट खेलने की अनुमति दी थी। इससे पहले, नीलामी के लिए इस बार 1003 खिलाड़ियों ने अपना नामांकन कराया था लेकिन लीग की आठ टीमों ने छंटनी करके अब 346 खिलाड़ियों की सूची आईपीएल की कार्यकारी परिषद को सौंप दी है।इन 346 खिलाड़ियों में नौ ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनका बेस प्राइस दो करोड़ रुपये है। इनमें ब्रैंडन मैक्लम, क्रिस वोक्स, लसिथ मलिंगा, शॉन मार्श, कोलिन इंग्राम, कोरी एंडरसन, एंजेलो मैथ्यूज और डार्सी शॉर्ट शमिल हैं। भारत के जयदेव उनादकट को पिछली बार 11.5 करोड़ रुपये में राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा था। इस बार हालांकि उन्हें फ्रेंचाइजी ने रिटेन नहीं किया है।इसके अलावा 1.5 करोड़ रुपये के बेस प्राइस वाले खिलाड़ियों की सूची में 10 खिलाड़ी शामिल हैं, जिसमें एक भारतीय और नौ विदेशी खिलाड़ी हैं। इनमें डेल स्टेन और मोर्ने मोर्कल जैसे खिलाड़ी हैं।ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाOnePlus 9RT स्मार्टफोन भारत में हुआ लॉन्च, ​जानिए क्या है कीमत और स्पेसिफिकेशंस******OnePlus 9RT स्मार्टफोन भारत में हुआ लॉन्च, ​जानिए क्या है कीमत और स्पेसिफिकेशंसHighlightsचीन की दिग्गज स्मार्टफोन कंपनी ने शुक्रवार को अपना नया स्मार्टफोन लॉन्च किया है। फोन को OnePlus 9RT नाम से पेश किया गया है। इस फोन की कीमत 42,999 रुपये तय की गई है। फोन की बिक्री अमेजन ग्रेट रिपब्लिक डे सेल (Amazon Great Republic Day Sale) के दौरान शुरू होगी।शुक्रवार को हुए वनलप्लस के स्पेशल विंटर एडिशन (Winter Edition) इवेंट में कंपनी ने नए ईयरबड्स OnePlus Buds Z2 भी लॉन्च किए गए। ईयरबड्स की कीमत 4999 रुपये रखी गई है।वनप्लस का यह फोन ब्लैक और सिल्वर रंगें में पेश किया गया है। इसके साथ ही वनप्लस 9 आरटी दो वेरिएंट में सामने आया है। फोन के 8GB RAM + 128GB स्टोरेज वाले वेरिएंट की कीमत 42,999 रुपये और 12GB RAM + 256GB स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 46,999 रुपये रखी गई है। वनप्लस 9आरटी स्मार्टफोन में 6.62-इंच फुल HD+ एमोलेड डिस्प्ले दिया है, जो 120Hz रिफ्रेश रेट के साथ आता है। OnePlus 9RT में 4500mAh की बैटरी दी गई, जो 65 वॉट फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है।इस फोन में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया हुआ है। मुख्य कैमरा 50-मेगापिक्सल का और साथ में 16 मेगापिक्सल का सेकेंडरी और 2 मेगापिक्सल का मैक्रो सेंसर है। सेल्फी के लिए फोन में 16 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया हुआ है

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाझारखंड में जीत से उत्साहित तेज प्रताप ने BJP को लेकर कर दिया ऐसा ट्वीट****** झारखंड विधानसभा चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नेतृत्व वाले गठबंधन के जीत की ओर अग्रसर होने पर राजद नेता ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने गठबंधन से मुख्यमंत्री के चेहरे के साथ तस्वीर ट्वीट कर नतीजों की तुलना भाजपा के अहंकार की लंका में आग लगने से की है। बता दें कि इस बार झारखंड में राजद ने जेएमएम और कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था।तेज प्रताप ने ट्वीट किया, "भाजपा के अहंकार की लंका में आग लगाने के लिए झारखंड के सभी मतदाता बंधुओं का शुक्रिया। महागठबंधन के सभी विजयी प्रत्याशियों को बधाई। हेमंत सोरेन के नेतृत्व में अब झारखंड विकास की ओर अग्रसर होगा।"इससे पहले राजद नेता तेजस्वी यादव ने सुबह मतगणना शुरू होने के साथ ही बयान दिया था जिसमें उन्होंने स्पष्ट किया था कि झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा था कि बीजेपी की सरकार रहने के बावजूद झारखंड गरीब राज्य रहा। लोग बेरोजगार हैं, भ्रष्टाचार बढ़ा है इसलिए लोग परेशान हैं। हमें हर चरण में बढ़त मिल रही है और हेमंत सोरेन मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं।ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियाUP: सीएम योगी ने हर थाने, अस्पताल, तहसील, विकास खंड में कोविड हेल्प डेस्क बनाने के निर्देश दिए******लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रत्येक थाना, चिकित्सालय, राजस्व न्यायालय एवं तहसील, विकास खण्ड तथा जेल में कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना करने के मंगलवार को निर्देश दिये। योगी ने कहा कि हेल्प डेस्क पर कोविड-19 से बचाव सम्बन्धी सावधानियों के पोस्टर लगाए जाएं । कोविड हेल्प डेस्क पर पल्स ऑक्सीमीटर, इंफ्रारेड थर्मामीटर तथा सैनेटाइजर की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। चिकित्सीय उपकरणों के संचालन के सम्बन्ध में कोविड हेल्प डेस्क पर तैनात कर्मियों को प्रशिक्षित किया जाए। इन कर्मियों को मास्क तथा दस्ताने उपलब्ध कराए जाएं। मुख्यमंत्री यहां लोक भवन में बुलाई गई उच्च स्तरीय बैठक में लॉकडाउन हटाने की व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे।मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि कोविड हेल्प डेस्क पर हमेशा एक से दो कर्मी अनिवार्य रूप से उपलब्ध रहें। कोविड हेल्प डेस्क का प्रतिदिन सुबह से शाम तक संचालन किया जाए। निजी अस्पतालों को भी कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना के लिए प्रेरित किया जाए। उन्होंने स्थापित किए गए कोविड हेल्प डेस्क की सूची उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए। उन्होंने विशेष सचिव स्तर के अधिकारियों को जनपदों में रहकर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को बेहतर करने में सम्बन्धित मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सहयोग प्रदान करने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि आपदा काल में इन अधिकारियों द्वारा किए जाने वाले कार्यों का विशेष रूप से मूल्यांकन किया जाएगा।योगी ने कहा कि जांच में लगातार वृद्धि की जाए। निगरानी व्यवस्था को और बेहतर करने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि इस उद्देश्य के लिए जनपदों में विशेष सचिव स्तर के अधिकारी भेजे जा रहे हैं। सर्विलांस कार्य को सुदृढ़ करने से जांच बढ़ाने में मदद मिलेगी। उन्होंने स्क्रीनिंग कार्य के लिए अविलंब एक लाख से अधिक टीम गठित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि टीम के द्वारा प्रत्येक व्यक्ति की हर सप्ताह नियमित तौर पर जांच की जाए। टीम के सदस्यों को मास्क, दस्ताने एवं सैनेटाइजर उपलब्ध कराया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड चिकित्सालयों में बेड की संख्या बढ़ाने के लिए निरन्तर प्रयास किए जाएं। कोविड तथा गैर कोविड अस्पतालों में प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन करते हुए उपचार किया जाए। अस्पतालों में साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। चिकित्सालय में भर्ती मरीजों की नियमित देखरेख की जाए। उन्होंने चिकित्सा कर्मियों को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए प्रशिक्षण दिए जाने पर विशेष बल दिया।उन्होंने कहा कि रेडियो तथा टेलीविजन के माध्यम से कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में जागरुकता फैलाने का निरन्तर प्रचार-प्रसार किया जाए। सार्वजनिक उद्घोषणा प्रणाली का उपयोग करते हुए लोगों को मास्क लगाने, शारीरिक दूरी बनाए रखने तथा संक्रमण के लक्षणों आदि के बारे में जागरुक किया जाए। योगी ने निर्देश दिए कि निःशुल्क राशन वितरण का कार्य सुचारु ढंग से कराया जाए। कोविड-19 से बचाव की समुचित सावधानी बरतते हुए खाद्यान्न वितरित किया जाए। उन्होंने गो-आश्रय स्थलों की व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश देते हुए कहा कि बरसात के मौसम में पशु रोगों के दृष्टिगत गोवंश के स्वास्थ्य के प्रति भी आवश्यक सावधानियां बरती जाएं।

ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरिया4 अगस्त को खुलेंगे कमाई के 4 मौके, यहां पढ़ें पूरी जानकारी******इस हफ्ते कमाई के 4 मौकेनई दिल्ली। आईपीओ बाजार से मिल रहे मोटे रिटर्न को देखते हुए निवेशकों के सभी वर्गों की नजरें लगातार नये आने वाले इश्यू पर लगी हुई है। नई लिस्ट कंपनियों के रिटर्न ने निवेशकों की उम्मीदें भी काफी बढ़ा दी है। यही वजह है कि लिस्टिंग के लिये उतरने वाली कंपनियों के इश्यू को कई गुना सब्सक्रिप्शन मिल रहे हैं। इस हफ्ते 4 अगस्त को 4 कंपनियां आईपीओ बाजार में उतर रही हैं। अगर आप भी आईपीओ बाजार से कमाई करना चाहते हैं, तो इन कंपनियों के इश्यू में आवेदन करने के बारे में सोच सकते हैं। विंडलास बायोटेक का आईपीओ 4 अगस्त से खुलकर 3 दिन तक जारी रहेगा। कंपनी ने अपने आईपीओ के लिएतय किया है। आईपीओ के तहत 165 करोड़ रुपये के ताजा इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे, जबकि इसमें 5,142,067 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश शामिल है।कीमत के ऊपरी दायरे पर आईपीओ से कंपनी 401.53 करोड़ रुपये जुटाएगी। विंडलास बायोटेक भारत में डॉमेस्टिक फार्मास्युटिकल फॉर्मूलेशन कॉन्ट्रैक्ट डेवलपमेंट एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑर्गेनाइजेशन (सीडीएमओ) की शीर्ष कंपनियों में से एक है। निवेशक कम से कम 30 इक्विटी शेयरों के लिए और उसके बाद 30 शेयरों के मल्टीप्लाई में बोली लगा सकते हैं।भारत में पिज्जा हट (Pizza Hut), केएफसी (KFC) और कोस्टा कॉफी (Costa Coffee) की सबसे बड़ी फ्रेंचाइजी देवयानी इंटरनेशनल1,838 करोड़ रुपये का IPO ला रही है। इसके लिए तय किया गया है। इस आईपीओ के तहत 440 करोड़ रुपये के नये इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे, जबकि प्रमोटर और मौजूदा शेयरधारकों द्वारा 155,333,330 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश शामिल है। निवेशक कम से कम 165 शेयरों के लॉट के लिए बोली लगा सकते हैं। यानी कम से कम 14,850 रुपये निवेश करने होंगे।कृष्णा डायग्नोस्टिक्स ने अपने IPO के लिए तय किया है। आईपीओ से कंपनी की योजना 1213.76 करोड़ रुपये जुटाने की है। IPO में 400 करोड़ रुपये के नए शेयर्स जारी किए जाएंगे। इसके अलावा मौजूदा प्रमोटर्स और शेयरहोल्डर्स की ओर से 85,25,520 इक्विटी शेयर्स की बिक्री के लिए एक ऑफर फॉर सेल (OFS) होगा।एक्सारो टाइल्स ने अपने आईपीओ के तहत शेयर बिक्री के लिए तय किया है। गुजरात स्थित एक्सारो टाइल्स के आईपीओ के तहत कुल 1,342,4000 इक्विटी शेयरों की पेशकश की जाएगी। इसमें 1,11,86,000 इक्विटी शेयरों की ताजा पेशकश और 22,38,000 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश शामिल है। कंपनी को आईपीओ से कीमत के ऊपरी दायरे पर 161.08 करोड़ रुपये मिलेंगे। जो लोग आईपीओ के लिए आवेदन करना चाहते हैं, वे 125 शेयरों के लॉट में ऐसा कर सकते हैं। इसका मतलब है कि मैक्सिमम एप्लीकेशन साइज 15,000 रुपये है।यह भी पढ़ें: यह भी पढ़ें:ओलम्पिककीसंयुक्तमेजबानीपरचर्चाकरेंगेदक्षिणऔरउत्तरकोरियागोवा में पेट्रोल पर वैट 15 से घटकर हुआ 9 फीसदी, अब 60 रुपए लीटर मिलेगा ईंधन****** गोवा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल पर मूल्य वर्धित कर (वैट) को 15 फीसदी से घटाकर नौ फीसदी कर दिया है, जिसके कारण पेट्रोल की कीमत 60 रुपए प्रति लीटर हो गई है। इससे पहले गोवा में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 62.77 रुपए प्रति लीटर थी।16 दिसंबर को सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों द्वारा पेट्रोल और डीजल के दाम में वृद्धि करने से गोवा में पेट्रोल की कीमत 60 रुपए के स्‍तर को पार कर गई थी, जबकि गोवा सरकार ने जनता से वादा किया है कि वह राज्‍य में पेट्रोल की कीमत को 60 रुपए से अधिक नहीं होने देगी। खत्म हुआ सस्ते पेट्रोल-डीजल का दौर, 2017 के पहले 6 महीने में 80 रुपए तक पहुंच सकते हैं पेट्रोल के भावसाल 2012 में पेट्रोल पर वैट को 0.1 फीसदी तक लाने का फैसला केवल उस वक्त पेट्रोल की कीमत कम करने के उद्देश्य से किया गया था, क्योंकि उस वक्त पेट्रोल की कीमत सबसे उच्च स्तर पर थी।Crude Oil Facts New

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:47
उद्धरण 1 इमारत
UK PM Election Results: Liz Truss होंगी ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री, भारतीय मूल के ऋषि सुनक को हराया******Highlightsब्रिटेन को आज नया प्रधानमंत्री मिल गया है। लिज ट्रस ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री बन गई हैं। लिज ट्रस ने भारतीय मूल के ऋषि सुनक को हरा दिया है। बता दें कि पहले पांच राउंड के मुकाबले में ऋषि सुनक को भारी बढ़त हासिल थी, लेकिन कंजरवेटिव पार्टी के सदस्यों की अंतिम वोटिंग के दौरान लिज ट्रस ने जीत हासिल की है।लिज ट्रस की जिंदगी भी काफी रोचक है। ट्रस इस वक्त ब्रिटेन की विदेश मंत्री हैं। सरकारी स्कूल में पढ़ीं 47 साल की ट्रस के पिता गणित के प्रोफेसर और मां एक नर्स थीं। लेबर पार्टी समर्थक परिवार से आने वालीं ट्रस ने ऑक्सफोर्ड से दर्शन, राजनीति और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की है। पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने कुछ समय के लिए अकाउंटेंट के रूप में भी काम किया। इसके बाद वह राजनीति में आ गईं।लिज ट्रस ने सबसे पहला चुनाव पार्षद का जीता था। लिज का परिवार लेबर पार्टी का समर्थक था, लेकिन ट्रस को कंजरवेटिव पार्टी की विचारधारा पसंद आई। ट्रस को राइट विंग का पक्का समर्थक माना जाता है। 2010 में ट्रस पहली बार वह सांसद चुनी गईं। ट्रस शुरुआत में यूरोपियन यूनियन से अलग होने के मुद्दे खिलाफ थीं। हालांकि, बाद में ब्रेग्जिट के हीरो बनकर उभरे बोरिस जॉनसन के समर्थन में आ गईं। ब्रिटिश मीडिया अक्सर पूर्व प्रधानमंत्री मार्गरेट थ्रेचर से उनकी तुलना करता है।ब्रिटेन में कंजर्वेटिव पार्टी के सांसदों की वोटिंग के पांचों राउंड में ऋषि सुनक ने लिज ट्रस को मात दी थी। माना जा रहा है कि बोरिस जॉनसन खुद ऋषि सुनक के प्रधानमंत्री बनने के पक्ष में नहीं थे। लकिन भारतीय मूल के ऋषि सुनक कंजरवेटिव पार्टी के सदस्यों की अंतिम वोटिंग में पीछे रह गए और लिज ट्रस को जीत मिली।ऋषि सुनक का जन्म 12 मई 1980 को ब्रिटेन के साउथेम्पटन में हुआ था। उनकी मां का नाम ऊषा सुनक और पिता का नाम यशवीर सुनक था। वह तीन भाई बहनों में सबसे बड़े हैं। उनके दादा-दादी पंजाब के रहने वाले थे। 1960 में वह अपने बच्चों के साथ पूर्वी अफ्रीका चले गए थे। बाद में यहीं से उनका परिवार इंग्लैंड शिफ्ट हो गया। तब से सुनक का पूरा परिवार इंग्लैंड में ही रहता है।ऋषि सुनक ने 2014 में पहली बार राजनीति में कदम रखा। 2015 में उन्होंने रिचमंड से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। 2017 में उन्होंने एक बार फिर जीत मिली। इसके बाद 13 फरवरी 2020 को उन्हें इंग्लैंड का वित्त मंत्री बनाया गया। इसी साल ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन पर तमाम तरह के आरोप लगे तो ऋषि सुनक ने इस्तीफा दे दिया। इसके बाद लगातार जॉनसन कैबिनेट के कई मंत्रियों ने इस्तीफा दिया।
2022-10-01 04:44
उद्धरण 2 इमारत
What is FOMO: डेनमार्क में मोदी ने किया ‘फोमो’ का जिक्र, जानिए क्या है इस शब्द का मतलब?******PM ModiHighlights प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यूरोपीय देश डेनमार्क के दौरे पर थे। यहां उन्होंने डेनमार्क के उद्योगपतियों को निवेश का न्योता देते हुए मंगलवार को कहा कि भारत में निवेश से चूक जाने वालों की स्थिति आगे चलकर ‘फोमो’ जैसी हो जाएगी। इसके बाद सोशल मीडिया पर एक बार फिर ‘फोमो’ की चर्चा शुरू हो गई। लोग पूछने लगे कि यह शब्द भला क्या है और इसका क्या मतलब है।बता दें कि सोशल मीडिया की दुनिया में फोमो काफी प्रचलित शब्द है। फोमो का आशय किसी चीज से वंचित रहने पर अफसोस होना है। मोदी ने कहा, ‘‘इन दिनों सोशल मीडिया पर 'फोमो' यानी 'फियर ऑफ मिसिंग आउट' शब्दावली का जिक्र खूब हो रहा है। भारत के सुधारों एवं निवेश अवसरों को देखते हुए मैं कह सकता हूं कि हमारे यहां निवेश नहीं करने वालों को निश्चित रूप से अफसोस होगा।’’मोदी ने यहां भारत-डेनमार्क कारोबार मंच को संबोधित करते हुए कहा कि मौजूदा आर्थिक सुधारों ने हरित प्रौद्योगिकी, जहाजरानी एवं बंदरगाह जैसे क्षेत्रों में निवेश के काफी मौके पैदा किए हैं। उन्होंने कहा कि पीएम-गतिशक्ति कार्यक्रम के तहत अगली पीढ़ी के लिए ढांचागत आधार तैयार करने का भी काम चल रहा है।प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में भारत और डेनमार्क की अर्थव्यवस्था के एक-दूसरे का पूरक होने का जिक्र करते हुए डेनमार्क के उद्यमियों को भारत में निवेश अवसरों का फायदा उठाने के लिए आमंत्रित किया। विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने व्यवसाय के प्रति भारत के दोस्ताना रवैये को रेखांकित करते हुए कहा कि दोनों देशों के कारोबारी समुदायों को इस मौके का फायदा उठाना चाहिए।डेनमार्क की यात्रा पर पहुंच मोदी ने कहा कि भारत में हरित प्रौद्योगिकी में निवेश की व्यापक संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि डेनमार्क और भारत अतीत में भी मिलकर काम कर चुके हैं और दोनों देशों की ताकत एक-दूसरे की पूरक है। इस अवसर पर डेनमार्क की प्रधानमंत्री फ्रेडेरिक्सन ने दोनों देशों के बीच रिश्ता बनाने में कारोबारी समुदाय की भूमिका पर बल दिया।
2022-10-01 04:38
उद्धरण 3 इमारत
IEA ने जताई आशंका, ओपेक ने उत्पादन नहीं घटाया तो 2017 मध्य तक बनी रहेगी कच्चे तेल की अधिकता****** अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी (IEA) ने कहा कि यदि ओपेक उत्पादक गठजोड़ ने कच्चे तेल का उत्पादन कम नहीं किया तो अगले साल के मध्य तक विश्व बाजार में कच्चे तेल की अत्यधिक उपलब्धता की स्थिति बनी रहेगी।ओपेक ने पिछले महीने कहा था कि वह उत्पादन में कटौती करेगा, जिसके बाद से विश्व बाजार में तेल कीमतों में लगातार स्थिरता आ रही है। ओपेक की नवंबर बैठक में इसका ब्योरा दिया जाएगा। आईईए की मासिक रिपोर्ट में कहा गया है कि इस तरह के कदम से वैश्विक तेल भंडार पर प्रक्रियाओं में तेजी आएगी।आईईए ने कहा कि तेल भंडारण में कमी के सतर्क संकेतों के बावजूद हमारीआपूर्ति मांग परिदृश्य से पता चलता है कि अगले साल की पहली छमाही तक कच्चे तेल की अत्यधिक आपूर्ति की स्थिति बनी रहेगी।
वापसी