नई पोस्ट करें

कोरोना के कहर में होने वाली मौतों पर सोनू सूद ने लोगों का बढ़ाया ढांढस, कहा: आप असफल नहीं हुए हैं...

2022-10-01 05:51:09 307

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंभारत में नीलाम हुई सबसे महंगी चाय, कीमत सुनकर उड़ जाएंगे होश******TEAगुवाहाटी चाय नीलामी केंद्र (जीटीएसी) ने कोरोना वायरस महामारी के बीच हुई एक नीलामी में चाय पत्ती की विशेष किस्म मनोहारी गोल्ड की बिक्री 75 हजार रुपये प्रति किलोग्राम की दर से की है। केंद्र के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को इसकी जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि यह रिकॉर्ड दर इस साल मिली अब तक की सबसे ऊंची कीमत है। उन्होंने कहा कि एक साल के अंतराल के बाद जीटीएसी को मनोहारी गोल्ड चाय पत्ती 75 हजार रुपये किलो बेचने का अवसर मिला।गुवाहाटी चाय नीलामी खरीदार संगठन के सचिव दिनेश बिहानी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि यह बिक्री कंटेपररी ब्रोकर्स प्राइवेट लिमिटेड ने की और इसे गुवाहाटी स्थित चाय कारोबारी विष्णु टी कंपनी ने खरीदा। विष्णु टी कंपनी अपनी डिजिटल ई-वाणिज्य वेबसाइट नाइनएएमटी डॉट कॉम के माध्यम से इस चाय पत्ती दुनिया भर में बिक्री करेगी।बिहानी ने कहा, ‘‘जब पूरी दुनिया महामारी से प्रभावित है, यह एक बड़ी उपलब्धि है। मनोहारी टी एस्टेट ने सितंबर महीने में इस विशेष किस्म के उत्पादन के लिये कड़ी मेहनत की है और उसे बिक्री के लिये जीटीएसी के पास भेजा।’’

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंएरिका फर्नांडिस घर से ही कर रही हैं 'कसौटी जिंदगी की 2' की शूटिंग, बताया किन मुश्किलों का करना पड़ता है सामना******लॉकडाउन में छूट मिलने के बाद टीवी सीरियल्स की शूटिंग शुरू हो गई है। खास सावधानियां बरतते हुए टीवी की शूटिंग की जा रही है। टीवी सीरियल कसौटी जिंदगी की 2 की शूटिंग भी शुरू हो चुकी है। शो में अनुराग का किरदार निभाने वाले पार्थ समथान कुछ दिनों पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे। उन्होंने इस वायरस से संक्रमित होने के बाद सोशल मीडिया पर जानकारी दी थी। शो में प्रेरणा का किरदार निभाने वाली एरिका फर्नांडिस सेट की जगह घर पर रहकर शूटिंग कर रही हैं। एरिका ने हाल ही में बताया की घर पर शूट करने में उन्हें किस तरह के चैलेंज का सामना करना पड़ रहा है।मुंबई मिरर को दिए इंटरव्यू में एरिका ने कहा- मेरा कोरोना टेस्ट नेगेटिव आया था लेकिन टेस्ट शुरूआती दिनों में हुआ था। तो मैं कुछ और दिन इंतजार करना चाहती हूं, 10 दिन बाद दोबारा टेस्ट करवाउंगी और उसके बाद ही सेट पर जाउंगी। मगर सीरियल ऑन एयर हो चुका है तो हमे काम चालू रखना होगा और यही आग बढ़ने का सही तरीका है।एरिका घर से शूट कर रही हैं तो डायरेक्शन, कैमरा, साउंड, लाइट, मेकअप और बालों का उन्हें ही ध्यान रखना होता है। उन्होंने कहा कि उनके पास इन चीजों का अनुभव है, जबसे उन्होंने अपना एक ऑनलाइन चैनल चलाया था। हालांकि उनके लिए सबसे बड़ा चैलेंज बिना को-स्टार के बिना शूट करना है। मुझे बिना को-स्टार और उनके एक्सप्रेशन देखे बिना शूट करना मुश्किल है।एरिका ने आगे कहा- डायरेक्टर, सिनेमेटोग्राफर और क्रिएटिव टीम उनके साथ वीडियो कॉल पर जुड़ी रहती है। मेरे डायरेक्टर, कैमरापर्सन और क्रिएटिव टीम से एक इंसान हमेशा मेरे साथ कॉल पर रहते हैं। स्क्रीन उनके मॉनिटर की तरह काम करती है और कॉल पर ही वो क्यू देते हैं। सारे डिसकशन पोन पर ही होते हैं। हम रीटेक्स भी लेते हैं। अभी तक सब सही चल रहा है।आपको बता दें पार्थ समथान की कोरोना रिपोर्ट अब नेगेटिव आई है। वह होम क्वारंटीन में हैं। अभी तक उनके कसौटी जिंदगी की 2 के सेट पर वापिस आने की कोई जानकारी नहीं है।कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंमिस्र की सेना ने गोला-बारूद से भरे 10 वाहन को किया नष्ट****** की वायुसेना ने लीबिया से सटी देश की पश्चिमी सीमा पर तस्करी कर लाए गए हथियारों और गोला-बारूद से भरे 10 वाहनों को नष्ट कर दिया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, यह कदम देश की सीमाओं की सुरक्षा और सीमा पार से घुसपैठ और तस्करी रोकने के लिए सीमा सुरक्षाबल के साथ मिलकर वायुसेनाओं के सतत प्रयासों का हिस्सा है। मिस्र की वायुसेना ने मई महीने से हथियारों से लैस 100 से अधिक वाहनों को नष्ट कर चुकी है। मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी ने हाल ही में कहा था कि मिस्र ने पिछले 30 महीनों में लीबिया की सीमा से सटे इलाकों में हथियारों और गोला-बारूद से भरे 1,200 वाहनों को नष्ट कर दिया है।मिस्र की लगभग 1,200 किलोमीटर लंबी पश्चिमी सीमा पूर्वी लीबिया से सटी है, जिसे लेकर मिस्र चिंतित रहा है क्योंकि पिछले कुछ वर्षो में इसी मार्ग से हथियारों की तस्करी और आतंकवादियों की आवाजाही होती है।

कोरोना के कहर में होने वाली मौतों पर सोनू सूद ने लोगों का बढ़ाया ढांढस, कहा: आप असफल नहीं हुए हैं...

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंदेहरादून के बोर्डिंग स्कूल में छात्रा से गैंगरेप, पीड़िता गर्भवती; प्रबंधन पर मामला दबाने का आरोप****** उत्तराखंड के के एक बोर्डिंग स्कूल में छात्रा से गैंगरेप की वारदात सामने आई है। गैंगरेप का आरोप स्कूल में ही पढ़ने वाले 4 छात्रों पर लगा है। जिस लड़की से गैंगरेप हुआ वो दसवीं की स्टूडेंट है। गैंगरेप के चारों आरोपी नाबालिग है। स्कूल मैनेजमेंट पर इस पूरी वारदात को दबाने का आरोप लगा है जिससे पुलिस ने स्कूल की डायरेक्टर के साथ 5 अन्य लोगो को भी गिरफ्तार किया है। अबतक तक इस मामले में 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया है।पुलिस जांच में पता चला कि छात्रा ने अपने साथ हुई घटना को थोड़ी देर बाद ही हॉस्टल की आया को बताया था। इसके बाद उसे सुनने को मिला कि उसी की गलती है, लिहाजा वह चुप रहे। इसके बाद आया ने अगले दिन इस बात को मुख्य प्रशासनिक अधिकारी की पत्नी को बताया जिसके बाद उसने छात्रा को बुलाया और कहा कि वह चुप रहे, नहीं तो उसे स्कूल से निकाल दिया जाएगा।बात धीरे धीरे प्रिंसिपल और डायरेक्टर के पास भी गई। उन्होंने भी पीड़ित छात्रा को अपने पास बुलाया और दो टूक कहा कि यह सब उसी की गलती के कारण हुआ है। अगर यह बात वह किसी को बताएगी तो उसे स्कूल से निकाल दिया जाएगा। पीड़ित छात्रा ने पुलिस को बताया कि वह इसी डर से चुप रही।लड़की के गर्भवती हो जाने के बाद मामला सामने आया है। हालांकि प्रबंधन ने लड़की का जबरन गर्भपात कराने का भी प्रयास किया। पुलिस द्वारा मीडिया को दी गयी जानकारी के अनुसार चारों आरोपी नाबालिग हैं और उन्हें जुवेनाइल जस्टिस कोर्ट में पेश किया जायेगा। पीड़ित बच्ची की छोटी बहन भी उसी स्कूल में पढ़ती थी।कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंGangaur Puja 2021: आज रखा जाएगा गणगौर व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा विधि******चैत्र शुक्ल पक्ष की तृतीया को गणगौर का त्योहार मनाया जाता है। इस दिन विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिये और अपने सुख-सौभाग्य के लिये व्रत करती हैं। यह पर्व मुख्यरूप से राजस्थान का लोकपर्व है, लेकिन इस कई और राज्य लोग के बड़े ही हर्षोल्लास से मनाते है। वहीं राजस्थान में माना जाता है कि विवाह के बाद पहला गणगौर तीज रखना जरुरी होती है। इसमें चैत्र कृष्ण प्रतिपदा के दिन होलिका दहन की भस्म और तालाब की मिट्टी से ईसर-गौर (शंकर-पार्वती) की प्रतिमाएं बनाती हैं। 16 दिनों तक माता पार्वती के गीत गाए जाते हैं। इसके बाद किसी सरोवर, नदी, कुआं में गणगौर को विसर्जित किया जाता है। के एक दिन यानी की द्वितीया तिथि को कुंवारी और नवविवाहित स्त्रियां अपने द्वारा पूजी गई गणगौरों को किसी नदी, तालाब, सरोवर में पानी पिलाती है और दूसरे दिन शाम के समय विसर्जित कर देते है। यह व्रत कुवंरी कन्या मनभावन पति के लिए और विवाहिता अपने पति से अपार प्रेम पाने और अखंड सौभाग्य के लिए करती है।इस दिन मां पार्वती की पूजा गणगौर माता के रुप में की जाती है। इसके साथ ही भगवान शिव की पूजा ईसरजी के रूप में की जाती है। अगर आप चाहती है कि आपको मनचाहा पति या फिर पति को लंबी आयु मिले। तो गणगौर तीज के दिन ये उपाय जरुर करें। इससे आपकी हर मनोकामनाएं पूर्ण होगी।13 अप्रैल दोपहर 12 बजकर 48 से शुरू13 अप्रैल आज दोपहर 3 बजकर 28 मिनट तकइस दिन भगवान शिव ने पार्वती जी को तथा पार्वती जी ने समस्त स्त्री समाज को सौभाग्य का वरदान दिया था। सुहागिनें व्रत धारण से पहले रेणुका (मिट्टी) की गौरी की स्थापना करती है एवं उनका पूजन किया जाता है।व्रत धारण करने से पूर्व रेणुका गौरी की स्थापना करती हैं। इसके लिए घर के किसी कमरे में एक पवित्र स्थान पर चौबीस अंगुल चौड़ी और चौबीस अंगुल लम्बी वर्गाकार वेदी बनाकर हल्दी, चंदन, कपूर, केसर आदि से उस पर चौक पूरा जाता है। फिर उस पर बालू से गौरी अर्थात पार्वती बनाकर (स्थापना करके) इस स्थापना पर सुहाग की वस्तुएं- कांच की चूड़ियां, महावर, सिन्दूर, रोली, मेंहदी, टीका, बिंदी, कंघा, शीशा, काजल आदि चढ़ाया जाता है।गणगौर पर विशेष रूप से मैदा के गुने बनाए जाते हैं। लड़की की शादी के बाद लड़की पहली बार गणगौर अपने मायके में मनाती है और इन गुनों तथा सास के कपड़ों का बयाना निकालकर ससुराल में भेजती है। यह विवाह के प्रथम वर्ष में ही होता है, बाद में प्रतिवर्ष गणगौर लड़की अपनी ससुराल में ही मनाती है।ससुराल में भी वह गणगौर का उद्यापन करती है और अपनी सास को बयाना, कपड़े तथा सुहाग का सारा सामान देती है। साथ ही सोलह सुहागिन स्त्रियों को भोजन कराकर प्रत्येक को सम्पूर्ण श्रृंगार की वस्तुएं और दक्षिण दी जाती है।गणगौर पूजन के समय स्त्रियों गौरीजी की कथा भी कहती हैं। चंदन, अक्षत, धूप, दीप, नैवेद्य आदि से गौरी का विधिपूर्वक पूजन करके सूहाग की इस सामग्री का अर्पण किया जाता है। फिर भोग लगाने के बाद गौरी जी की कथा कही जाती है। कथा के बाद गौरीजी पर चढ़ाए हुए सिन्दूर से महिलाएं अपनी मांग भरती हैं। गौरीजी का पूजन दोपहर को होता है। इसके पश्चात केवल एक बार भोजन करके व्रत का पारण किया जाता है। गणगौर का प्रसाद पुरुषों के लिए वर्जित है।कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंPM मोदी के जन्मदिन पर दिल्ली के रेस्तरां ने परोसी 56 इंच की थाली, 40 मिनट में खाने वाले शख्स को मिलेगा 8.5 लाख रुपए******Highlightsप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर लुटियंस दिल्ली के एक रेस्तरां में शनिवार से 10 दिनों के लिए 56 इंच की थाली परोसनी शुरू कर दी है। कनॉट प्लेस में स्थित आर्दोर 2.1 रेस्तरां ने 56 भोग वाली 56 इंच की थाली परोसनी शुरू की है। यह थाली 26 सितंबर तक परोसी जाएगी। रेस्तरां के मालिक सुवीत कालरा ने कहा कि सोमवार से 56 इंच की इस थाली को 40 मिनट के भीतर खत्म करने वाले को 8.5 लाख रुपए का इनाम मिलेगा।लकी कस्टमर्स को केदारनाथ की मुफ्त यात्रा करने को मिलेगाकालरा ने बताया, ‘‘हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बहुत बड़े प्रशंसक हैं। हमारा रेस्तरां अपनी थालियों के लिए जाना जाता है। 56 इंच की एक थाली में 56 व्यंजनों का समावेश है। यह उनके जन्मदिन को मनाने और उन्होंने जो कुछ इस देश और इसके आम नागरिकों के लिए किया है, उसे सम्मानित करने का एक तरीका है।’’ कालरा ने कहा कि जो लोग 17 सितंबर से 26 सितंबर के बीच थाली खाएंगे, उनमें से दो विजेताओं का चयन किया जाएगा और उन्हें केदारनाथ की मुफ्त यात्रा पर जाने का मौका मिलेगा, जो कालरा के अनुसार मोदी के पसंदीदा स्थानों में से एक है।थाली में उत्तर भारत के 56 प्रकार के व्यंजन होंगेथाली में कुल्फी के विकल्प के साथ 20 विभिन्न प्रकार की सब्जियां, विभिन्न प्रकार की रोटी, दाल और गुलाब जामुन होंगे। उन्होंने कहा, ‘‘थाली में उत्तर भारत के 56 व्यंजन हैं। दोपहर के भोजन की शाकाहारी थाली के साथ 2,600 रुपए की कीमत, जबकि मांसाहारी थाली की कीमत 2,900 रुपये से अधिक है। रात के खाने की थाली की कीमत अतिरिक्त 300 रुपए प्रति थाली है।’’

कोरोना के कहर में होने वाली मौतों पर सोनू सूद ने लोगों का बढ़ाया ढांढस, कहा: आप असफल नहीं हुए हैं...

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंVirgo Weekly Horoscope 26 Sep - 02 Oct 2022: चौथे भाव का चंद्रमा कराएगा धन लाभ, मां लक्ष्मी के साथ कुबेर भी होंगे मेहरबान******इस सप्ताह आपको कई महत्वपूर्ण निर्णय लेने होंगे, जिसके चलते आपको तनाव और बेचैनी का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि राहु आपके आठवें भाव में स्थित होगा। ऐसे में अपने दिमाग और सोच पर नियंत्रण रखें और यदि किसी निर्णय को लेने में समस्या आ रही है तो, किसी बड़े की मदद लें। आर्थिक पक्ष के लिहाज़ से, यह समय आपको बेहतर दिशा और अवसर प्रदान करने वाला साबित होगा क्योंकि इस सप्ताह चंद्रमा चौथे भाव में स्थित होगा, इसलिए आपको पैसे बचाने या संचय करने में अपने परिवारवालों का साथ मिलेगा।अक्सर, आप दूसरों की इच्छाओं को अधिक महत्व देते हुए अपनी योजना बनाते हैं। परंतु इस सप्ताह आपका ऐसा करना आपको ख़ासा परेशान कर सकता है। इसलिए अपने पारिवारिक सदस्यों को तय नहीं करने दीजिए कि इस सप्ताह आपको क्या करना है और क्या नहीं, तभी आप खुद को खुश रख पाएंगे। इसके अलावा, इस सप्ताह आपको सामान्य से कम मेहनत करनी होगी क्योंकि इस समय अवधि में आपको अपनी मेहनत के उत्तम परिणाम मिलने के योग बनेंगे, जिससे आपकी स्थिति भी बेहतर होगी।छठे भाव में शनि स्थित होने के कारण छात्रों को भरपूर सफलता मिलेगी। साथ ही, आप पर कई शुभ ग्रहों का प्रभाव भी आपको अच्छे परिणाम देने का कार्य करेगा। इसलिए वो छात्र जो शिक्षा के लिए विदेश जाने का सपना देख रहे हैं, उन्हें ग्रहों की इस शुभ दृष्टि से अपने मनपसंद स्कूल और कॉलेजों में दाख़िला मिलने के योग बनेंगे।प्रतिदिन भगवान गणेश की पूजा करें।यह राशिफल आपकी चंद्र राशि पर आधारित है।कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंVastu Tips For Money: रेत की तरह हाथों से फिसल जाता है पैसा, इन वास्तु टिप्स से धन पर बनाएं मज़बूत पकड़******Highlightsवास्तु शास्त्र में हर परेशानी का हल बताया गया है। यदि आपके घर में रोज़ाना कलेश होते हैं। या फिर आप और आपका परिवार आर्थिक तंगी से गुज़र रहे हैं। ये सभी हालात वास्तु दोष दूर न करने के चलते भी झेलने पड़ते है। वास्तु दोष दूर करने से घर-परिवार में खुशी का माहौल बना रहता है। यदि दोष का प्रभाव ज्यादा होता है तो वास्तु टिप्स के ज़रिए उन्हें कम किया जा सकता है। महज़ कुछ वास्तु टिप्स को करने से आपके हाथों से फिसल जाने वाला पैसा घर में जमा होने लगेगा और धन के देवता कुबेर आप पर अपनी दया दृष्टि बनाएं रखेंगे।

कोरोना के कहर में होने वाली मौतों पर सोनू सूद ने लोगों का बढ़ाया ढांढस, कहा: आप असफल नहीं हुए हैं...

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंकभी बड़े स्टार्स के साथ विमी ने बनाई थी फिल्में, आखिरी वक्त में किसी नहीं दिया साथ, ठेले पर श्मशान पहुंची थी लाश******60 के दशक में राज कुमार और सुनील दत्त स्टारर फिल्म 'हमराज' से डेब्यू करने के बाद विमी एक घरेलू नाम बन गई थीं। बी आर चोपड़ा के बैनर तले बनी इस फिल्म में शानदार मुमताज भी थीं। फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर लोगों का प्यार मिला और विमी को फैंस ने अपने दिल में उतारा।शोबिज में विमी की अचानक एंट्री और फिर गुमनामियों भरी जिंदगी। उनके नाम के आगे एक ऐसा सवाल छोड़ जाती है, जिसे हर वो सिनेमा प्रेमी जानना चाहता है जिसने रुपहले पर्दे पर विमी को देखा है। आखिर विमी की जिंदगी में ऐसा क्या हुआ जिसकी वजह से उनकी दुखद जिंदगी की शुरुआत होने लगी?गैर-फिल्मी बैकग्राउंड से आने वाले विमी मुंबई के सोफिया कॉलेज से मनोविज्ञान में ग्रेजुएट थीं। वह एक ट्रेन्ड सिंगर थीं, जो अक्सर ऑल इंडिया रेडियो बॉम्बे के कार्यक्रमों में भाग लेती थीं। म्यूजिक डायरेक्टर रवि ने विमी को बीआर चोपड़ा से मिलवाया और उन्हें आसानी से 'हमराज' का रोल मिल गया।1967 के एक इंटरव्यू में उनके बारे में बात करते हुए बीआर चोपड़ा ने विमी की तारीफ करते हुए कहा, "विमी बुद्धिमान, शिक्षित और चीजों को जल्दी से पकड़ लेती हैं।" मगर अगले पल ही इस बात का भी ख्याल आने लगता है कि पहली ही फिल्म इतनी तारीफ बटोरने वाली विमी को फिर बीआर चोपड़ा ने कास्ट क्यों नहीं किया।विमी ने इस फिल्म के बाद कई फ्लॉप फिल्मों का स्वाद चखा। वह मेहनत करती रहीं लेकिन कामयाबी उनके हाथ नहीं आई। विमी ने शशि कपूर के साथ कुछ और फिल्में साइन की, लेकिन खुद को एक भरोसेमंद अभिनेत्री के रूप में स्थापित करने में असफल रहीं।कई फिल्मों में विमी ने खुद को लीड रोल में दर्शकों के सामने पेश किया। जहां 1971 में रिलीज़ हुई 'पतंगा' ने विमी के मुश्किल दौर से गुजर रहे करियर में राहत पहुंचाने की कोशिश की। तो वहीं 1974 में शशि कपूर के साथ फिर से रिलीज़ हुई 'वचन' दर्शकों को लुभा नहीं पाई।फिल्मों के इतर फैशन के मामले में विमी अपने स्टाइल सेंस के जरिए लोगों की पसंद बनी रहीं, जो पुराने हॉलीवुड के सितारों के बराबर थी। उन्होंने ऑन और ऑफ स्क्रीन नाइन्स के कपड़े पहने थे, और फिल्मों के लिए ग्लॉसी-ग्लैमरस अवतार में पोज देकर अपने दर्शकों के दिल को बेकरार कर दिया। उम्र की एक दहलीज पर उन्होंने एक फोटोशूट के लिए बिकनी की हिम्मत भी की थी, जिसे उस दौर में एक बोल्ड मूव कहा जा सकता है।बॉक्स ऑफिस पर लगभग सभी फिल्मों के पिट जाने के बाद विमी ने ऐलान किया की कि वह पैसे के लिए फिल्में नहीं कर रही थी, उनके पास बहुत कुछ था, जो उनकी लाइफस्टाइल और स्टाइल स्टेटमेंट के जरिए उभर कर आता था।कहते हैं सच्चाई अक्सर आंखों से दूर होती है। उनकी निजी जिंदगी जिस भंवर में फंसी थी यह बस विमी ही जानती थीं। बॉलीवुड की अधिकांश हसीनाओं से अलग विमी ने इंडस्ट्री में जब एंट्री की तो वह पहले से ही शादीशुदा थीं और दो बच्चों की मां थीं। पंजाबी सिख परिवार की सुंदर लड़की विमी ने कलकत्ता के एक मारवाड़ी व्यवसायी शिव अग्रवाल के प्यार में पड़ने के बाद अपने माता-पिता के साथ संबंध खराब कर लिए थे। जब विमी ने अपने माता-पिता की सहमति के खिलाफ शिव के साथ शादी के बंधन में बंधी तो उन्हें उनका आशीर्वाद कभी नहीं मिला। आगे चल कर उनकी फैमिली से भी उनका साथ वक्त के साथ छूटने लगा।फिल्मों में बेहतर न कर पाने की वजह से इंडस्ट्री में 7 साल के भीतर विमी ने खुद को बेरोजगार पाया। वह फिल्म एक दलाल के साथ रह रही थी, जो हर तरह से उसका शोषण कर रहा था। जैसे-जैसे दौलत कम होती गई, डिज़ाइनर ड्रेस और स्पोर्ट्स कारों की चमक से दूर जिंदगी उन्हें दरिद्रता के करीब ले गई और विमी को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर हो पड़ा।जिंदगी में अपने गम को भुलाने के लिए विमी शराब पीने लगी। सस्ता और जहरीला शराबा। क्योंकि उनके पास अब उतने पैसे नहीं थे। ज्यादा और लगातार शराब पीने से उसका शरीर खोखला होने लगा। धीरे-धीरे उसने दिल की परेशानियों ने विमी का जीना मुहाल कर दिया और 34 साल की उम्र में विमी ने दम तोड़ दिया।पहले से ही गुमनामी की दुनिया में खोई विमी को उनके आखिरी वक्त में बॉलीवुड से किसी ने याद नहीं किया और न ही उनकी मौत पर किसी को दुख हुआ। वह नानावती अस्पताल के जनरल वार्ड में एक कंगाल की मौत मर गई, और उसका शव एक ठेले पर श्मशान घाट पहुंचा, जहां उन्हें जानने वाला कोई मौजूद नहीं था।

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंबालिका से रेप के आरोप में सौतेले पिता को 20 साल की कैद, मां को भी मिली यही सजा****** छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले की एक अदालत ने अपनी नाबालिग सौतेली बेटी के साथ रेप करने के आरोप में 47 वर्षीय व्यक्ति को तथा अपराध की अनदेखी करने के आरोप में मां को 20-20 साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। विशेष लोक अभियोजक मोरिशा नायडू ने शनिवार को बताया कि रायपुर के अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश (प्रथम फास्ट ट्रैक विशेष अदालत) राजीव कुमार की अदालत ने शुक्रवार को बालिका के सौतेले पिता को उसके साथ रेप का दोषी पाते हुए 20 वर्ष के कारावास तथा 70 हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है।नायडु ने बताया कि अदालत ने अरोपी की पत्नी को अपराध के दौरान वहां उपस्थित होने तथा अनदेखी करने का दोषी पाया है तथा उसे भी 20 वर्ष कारावास और 50 हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई है। उन्होंने बताया कि यह घटना पिछले साल मई महीने तब सामने आई थी जब 10 वर्षीय पीड़िता को खमरडीह इलाके के एक बाल गृह में भर्ती कराया गया था। पीड़िता ने परामर्श के दौरान बाल गृह के अधीक्षक को अपनी आपबीती सुनाई थी। अधिवक्ता ने बताया कि इसके बाद बाल गृह के अधीक्षक ने पिछले वर्ष 5 मई को स्थानीय पंडरी पुलिस थाना में मामला दर्ज कराया था। जिसके बाद मामले को माना पुलिस थाना ट्रांसफर कर दिया गया था।माना पुलिस थाना क्षेत्र में ही आरोपी ने बालिका के साथ वर्ष 2018 और 2019 के मध्य किया था। नायडु ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में रेप और लैंगिक अपराधों से बालकों का सरंक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया था। अपने बयान में बालिका ने कहा था कि उसके सौतेले पिता ने वर्ष 2018 और 18 अप्रैल, 2019 के बीच माना क्षेत्र में स्थित अपने निवास स्थान में उसके साथ लगातार दुष्कर्म किया था। जब उसने अपनी मां को घटना के संबंध में बताया तब उसने अनसुना कर दिया। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष 22 अप्रैल को बालिका की मां ने बालिका को बाल गृह भेज दिया था।कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंThe Big Jolt! Zomato, Paytm और Cartrade सरीखी कंपनियों के निवेशक चले थे करोड़पति बनने, हो गए कंगाल******Stocksनए जमाने के टेक स्टार्टअप Zomato, Paytm, Cartrade, पीबी फिनटेक जैसी कंपनियों के जब आईपीओ आए थे तो खूब हो-हल्ला मचाया गया था। बाजार में हाईप क्रिएट करने के लिए कई मार्केट एक्सपर्ट इन कंपनियों के स्टॉक को मल्टीबैगर कहने से नहीं चूके थे। भोले-भाले निवेशकों ने इन कंपनियों के आईपीओ और बाद में शेयर में करोड़पति बनने की उम्मीद में पैसा लगाया। लेकिन करोड़पति बनने के सपने तो चूर-चूर हुए ही, उनकी गाढ़ी कमाई भी डूब गई। इन कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट आने से निवेशकों को करोड़ों का नुकसान उठाना पड़ा है।जोमैटो, पेटीएम, कारट्रेड, पीबी फिनटेक, एफएसएन ई-कॉमर्स और फिनो पेमेंट ऐप के बाजार पूंजीकरण में पिछले साल जुलाई से अभी तक 1.8 लाख करोड़ रुपये की करीब गिरावट आ गई है। इससे इसमें निवेश करने वाले निवेशकों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है।

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंडब्ल्यूटीसी की जीत 2019 विश्व कप फाइनल हार की भरपाई है : रॉस टेलर******साउथेम्प्टन। पहले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल में विजयी रन बनाने वाले न्यूजीलैंड के बल्लेबाज रॉस टेलर ने भारत पर आठ विकेट से जीत के बाद खिताबी जीत को अपने करियर का 'हाइलाइट' बताया है। दो साल पहले संन्यास को टालने वाले टेलर ने कहा, यह मेरे करियर का मुख्य आकर्षण है। अपने करियर की शुरूआत में, मुझे लगा कि शायद हमारे पास ऐसा करने के लिए उपयुक्त टीम नहीं है।दाएं हाथ के बल्लेबाज ने पहले कहा था कि अगर न्यूजीलैंड ने 2019 में 50 ओवर का विश्व कप जीत लिया होता तो वह रिटायर हो जाते। कीवी टीम फाइनल में इंग्लैंड से हार गई थी।न्यूजीलैंड के लिए 107 टेस्ट खेल चुके टेलर ने कहा,"मेरे लिए यह नहीं भूलने वाला पल है। विश्व कप की हार का गम अभी भी हमारे साथ है। मुझे खुशी है कि अपनी की अब तक की सबसे यादगार जीत में मेरा अहम योगदान रहा। यह मेरे लि एक कभी नहीं भूल पाने वाला अनुभव है।"कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंBigg Boss 13: 'क्वीन' टास्क जीतकर घर की पहली क्वीन बनीं देवोलिना भट्टाचार्जी******कलर्स टीवी के कॉन्ट्रोवर्शियल शो बिग बॉस 13 के 10 अक्टूबर यानी आज के एपिसोड में काफी कुछ मजेदार और मसालेदार देखने को मिला। घर की क्वीन बनने के चक्कर में माहिरा, शेफाली और शहनाज के बीच तीखी बहस देखने को मिला वहीं दूसरी तरफ लड़कियों के बीच की लड़ाई में लड़कों ने भी काफी मजे लिए और गेम के अंत तक देवोलिना भट्टाचार्जी क्वीन टास्क जीतकर घर की पहली क्वीन बन गई।'साथ निभाना साथिया' की गोपी बहू फेम देवोलीना भट्टाचार्जी 'बिग बॉस 13' में काफी अलग अंदाज में नजर आ रही हैं। क्वीन टास्क जीतने के बाद सभी घरवालों ने देवोलीना को बधाई दी।सीधी सादी दिखने वाली देवोलीना इस शो में काफी ग्लैमरस अंदाज में नजर आ रही हैं। गेम के अंत में देवोलिना और दलजीत कौर के बीच घर की क्वीन बनने के लिएकांटे की टक्कर थी लेकिन अबू मलिक ने गेम का रूख बदल दिया और देवोलीना ने दलजीत का मटका पानी में फेंक कर घर की पहली'क्वीन' का खिताब अपनेनाम कर लिया।

कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंShare Maket की शानदार रिकवरी, 1400 अंक टूटने के बाद 581 अंक गिरकर सेंसेक्स बंद******sensexHighlightsअमेरिकी फेड के ब्याज दर बढ़ाने के फैसले से गुरुवार को बड़ी गिरावट बाद शेयर बाजार शानकर रिकवरी कर बंद हुआ। एक समय कारोबार के दौरान 1400 से अधिक अंक टूटने के बाद सेंसेक्स 581.21 अंक गिरकर 57,276.94 अंक पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी भी 167.80 अंक टूटकर 17,110.15 अंक पर बंद हुआ। वहीं, सुबह के कारोबार में सेंसेक्स 1,400 अंक से अधिक टूटकर 57 हजार के नीचे पहुंच गया था। निफ्टी भी 400 अंक लुढ़कर 17,000 के नीचे चला गया था। हालांकि, इसके बाद बाजार में सुधार आया।भारतीय बाजर में गुरुवार को बड़ी गिरावट अमेरिकी फेड के ब्याज दर में बढ़ोतरी फैसले के कारण आया है। इसके साथ ही ब्रेंट क्रूड 90 डॉलर के करीब पहुंचने का असर भी भारतीय बाजार पर देखने को मिल रहा है। अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.93 प्रतिशत बढ़कर 89.12 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर आ गया। रूस और यूक्रेन के बीच तनाव बढ़ने का असर भी भारतीय बाजार पर देखने को मिला।मार्केट एक्सपर्ट संदीप जैन ने इंडिया टीवी को बताया कि बाजार में और बड़ी गिरावट आने की आशंका है। आने वाले दिनों में निफ्टी 16,300 से लेकर 16,500 तक जा सकता है। ऐसे में निवेशकों को न्यू एज कंपनियों यानी (स्टार्टअप) से दूरी बनाने की जरूरत है। इसमें गिरावट गहरा सकती है। वहीं, सरकार का जोर ईवी पर है। ऐसे में इस सेक्टर में काम करने वाली कंपनियों में निवेश करना बेहतर हो सकता है। इसके साथ रियल एस्टेट भी एक अच्छा सेक्टर है। बजट में इसको लेकर कई घोषणाएं हो सकती हैं। उन्होंने कहा कि अब बाजार अपने दम पर आगे बढ़ेगा। यानी केंद्रीय बैंकों द्वारा लिक्विटी के दम पर आई तेजी का दौर खत्म हो गया है। ऐसे में निवेशक अच्छी कंपनियों का ही चुनाव करें।कोरोनाकेकहरमेंहोनेवालीमौतोंपरसोनूसूदनेलोगोंकाबढ़ायाढांढसकहाआपअसफलनहींहुएहैंखुले मतभेदों के बावजूद कैसे हुआ BJP-शिवसेना का गठबंधन? जानिए, किसने निभाई अहम भूमिका****** के एक नेता ने मंगलवार को खुलासा किया कि खुले विरोध के बावजूद भाजपा के साथ गठबंधन करने के के फैसले में भाजपा प्रबंधकों ने अहम भूमिक निभाई। दरअसल, भाजपा प्रबंधकों ने शिवसेना को संकेत दिए कि अगर उसने अभी गठबंधन नहीं किया तो वह चुनाव के बाद भाजपा के सबसे बड़े दल के रूप में उभरने की स्थिति में ‘‘मोलभाव करने की शक्ति’’ खो सकती है। इसके अलावा, भाजपा ने शिवसेना की चिर प्रतिद्वंद्वी मनसे और राकांपा के बीच कई बैठकों और दोनों दलों के बीच पर्दे के पीछे संभावित समझौते का जिक्र किया।शिवसेना के साथ समझौते की बातचीत में शामिल रहे भाजपा नेता ने कहा कि उद्धव ठाकरे नीत पार्टी से यह भी कहा गया कि भाजपा के लिए मनसे और राकांपा राजनीतिक रूप से अछूत नहीं हैं। भाजपा नेता ने कहा कि इसी बातचीत के बाद शिवसेना ने समझौते का फैसला किया। उन्होंने कहा, ‘‘वैसे कांग्रेस, मनसे के साथ किसी भी तरह के गठबंधन का विरोध करती है लेकिन राकांपा और मनसे के पर्दे के पीछे गठबंधन करने के डर से शिवसेना नेतृत्व को अवगत कराया गया।’’भाजपा और उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने सोमवार को अपने तनावपूर्ण संबंधों को पीछे छोड़ते हुए लोकसभा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव मिलकर लड़ने की घोषणा की। महाराष्ट्र में लोकसभा की 48 सीटों में से भाजपा 25 और शिवसेना 23 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं, इस साल प्रस्तावित विधानसभा चुनाव में दोनों दल अन्य सहयोगी दलों को सीटें आवंटित करने के बाद बराबर-बराबर सीटों पर उम्मीदवार उतारेंगे।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 04:52
उद्धरण 1 इमारत
एक दिसंबर से दिल्ली हवाई अड्डे से उड़ान पकड़ना होगा महंगा, प्रति टिकट देना होगा 77 रुपए का सेवा शुल्‍क******delhi airport से उड़ान पकड़ने वाले यात्रियों को आगामी एक दिसंबर से अपनी जेब अधिक ढीली करनी पड़ेगी।हवाई अड्डा आर्थिक नियामक प्राधिकरण (एरा) ने सेवा शुल्क में संशोधन को मंजूरी दे दी है। इससे यात्रियों को भारती रुपए में खरीदे गए टिकट पर प्रति टिकट 77 रुपए का यात्री सेवा शुल्क देना होगा। अभी हवाई अड्डे की परिचालक दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लि. (डायल) द्वारा घरेलू उड़ान के टिकट पर 10 रुपए और अंतरराष्ट्रीय टिकटों पर 45 रुपए का यात्री सेवा शुल्क वसूला जाता है। एरा द्वारा जारी आदेश के अनुसार इसके अलावा कुछ वैमानिकी शुल्कों में भी संशोधन किया गया है। संशोधन शुल्क एक दिसंबर से लागू होगा।विशेषज्ञों का कहना है कि शुल्कों में वृद्धि का औसत घरेलू किरायों पर न्यूनतम प्रभाव होगा।एरा के 19 नवंबर के आदेश के अनुसार नियामक ने यात्री सेवा शुल्क के रूप में प्रति टिकट 77 रुपए के शुल्क को मंजूरी दी है।वहीं विदेशी मुद्रा में जारी टिकट पर यह शुल्क 1.93 डॉलर होगा, जो करीब 137 रुपए बैठता है। आदेश में कहा गया है कि प्राधिकरण ने डायल को न्यूनतम हवाई अड्डा शुल्क (बीएसी) की दरों तथा उस पर 10 प्रतिशत अतिरिक्त शुल्क वसूलने की अनुमति दी है।डायल संयुक्त उद्यम कंपनी है। इसमें जीएमआर समूह की बहुलांश हिस्सेदारी है।आदेश में कहा गया है कि डायल किसी वर्ष में न्यूनतम वैमानिकी शुल्क बीएसी तथा दस प्रतिशत अतिरिक्त शुल्‍क ले सकती है।जीएमआर समूह के एक प्रवक्ता ने कहा कि मौजूदा प्रयोगकर्ता इस्तेमाल शुल्क (यूडीएफ) घरेलू उड़ानों के यात्रियों के लिए 10 रुपए और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के यात्रियों के लिए 45 रुपए है। ताजा आदेश के अनुसार यूडीएफ को समाप्त कर दिया गया है और उसके स्थान पर 77 रुपए का यात्री सेवा शुल्क वसूला जाएगा।
2022-10-01 04:29
उद्धरण 2 इमारत
Desh Ki Awaaz: आज लोकसभा चुनाव हुए तो बिहार में बीजेपी को फायदा, जेडीयू को नुकसान******Highlightsबिहार में इन दिनों भारतीय जनता पार्टी और नीतीश कुमार की अगुवाई वाली जनता दल यूनाइटेड में खटपट की खबरें हैं। हालांकि इंडिया टीवी-मैटराइज सर्वे के मुताबिक, यदि इन दोनों पार्टियों का साथ बना रहता है, और आज देश में लोकसभा चुनाव होते हैं तो बिहार में एनडीए का परचम एक बार फिर लहरा सकता है। बिहार की सियासत कब क्या करवट ले ले कोई नहीं कह सकता, लेकिन इंडिया टीवी-मैटराइज के सर्वे में कुछ दिलचस्प चीजें निकलकर सामने आई हैं। आइए, जानते हैं क्या कहते हैं सर्वे के नतीजे:यदि आज लोकसभा चुनाव होते हैं तो बिहार में मोदी की अगुवाई में 26 फीसदी वोटों पर कब्जा जमा सकती है, जबकि 2019 में उसे 24 फीसदी वोट मिले थे। वहीं, नीतीश कुमार की अगुवाई में जेडीयू को 21 फीसदी वोट मिल सकते हैं जबकि 2019 में उसने 22 फीसदी वोटों पर कब्जा जमाया था। तेजस्वी के नेतृत्व में आरजेडी को 2019 के 16 फीसदी के मुकाबले इस बार 17 फीसदी वोट मिल सकते हैं। वहीं, कांग्रेस को 2019 में जहां 8 फीसदी वोट मिले थे, वहीं इस बार उसका आंकड़ा घटकर 7 फीसदी पर रुक सकता है।आज लोकसभा चुनाव हुए तो बीजेपी को की 40 में से 21 लोकसभा सीटों पर जीत मिल सकती है। 2019 के चुनावों में बीजेपी ने कुल 17 सीटें जीती थीं। वहीं, जनता दल यूनाइटेड को आज चुनाव होने की सूरत में 14 सीटें मिलेंगी, जबकि 2021 में इसे 16 सीटें मिली थीं। तेजस्वी यादव की आरजेडी 2019 में खाता भी नहीं खोल पाई थी जबकि आज चुनाव हों तो यह 4 सीटों पर अपना परचम लहरा सकती है। कांग्रेस ने 2019 में भी एक सीट जीती थी और आज चुनाव हों तब भी एक सीट जीतेगी। सबसे ज्यादा नुकसान LJP को होगा और 2019 में 6 सीटें जीतने वाली पार्टी 0 पर सिमट सकती है।इंडिया टीवी-मैटराइज सर्वे को 11 जुलाई से 24 जुलाई के बीच अंजाम दिया गया। इस दौरान सर्वे की टीम देश की 136 संसदीय सीटों तक पहुंची और लोगों की राय जानी। इस सर्वे में कुल मिलाकर 34 हजार लोगों को शामिल किया गया जिनमें से 20 हजार पुरुष और 15 हजार महिलाएं हैं। इस सर्वे में मार्जिन ऑफ एरर माइनस/प्लस टू रखा गया है यानी कि नतीजों में 2 पर्सेंट इधर से उधर का अंतर हो सकता है। इस तरह देखा जाए तो यह सर्वे जनता के मूड को काफी हद तक दिखा सकता है।
2022-10-01 04:18
उद्धरण 3 इमारत
Raju Srivastava Health: राजू श्रीवास्तव की हालात हुई बेहद गंभीर, महाकालेश्वर मंदिर में शुरू हुआ महामृत्युंजय मंत्र का जाप******Highlights मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastava) की हालात बेहद नाज़ुक हो गई है। मिली जानकारी के अनुसार राजू की तबियत लगातार बिगड़ती जा रही है। कॉमेडियन पिछले 9 दिनों से दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती हैं। जिम के दौरान राजू श्रीवास्तव को दिल का दौरा पड़ा था। जिसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया था। इसी बीच सोशल मीडिया पर हर तरफ राजू की हेल्थ अपडेट को लेकर तरह-तरह की खबरें पढ़ने को मिल रही हैं।लेकिन डॉक्टर की मानें तो राजू की हालात बेहद नाज़ुक है। डॉक्टरों की टीम उनकी सेहत पर लगातार नजर बनाए हुए है। राजू श्रीवास्तव को जब से हार्ट अटैक आया है तब से उन्हें होश नहीं आया है। उनकी तबियत ठीक होने के बजाय और खराब हो रही है। राजू श्रीवस्तव को अस्पताल में भर्ती हुए एक हफ्ते से ज्यादा का समय हो गया था। उनके ब्रेन के एक हिस्से में इंजरी का निशान पाया गया था। ये इंजरी दिमाग में ऑक्सीजन नहीं पहुंचने की वजह से हुई थी।एक तरफ जहां राजू ज़िंदगी और मौत के बीच लड़ रहे हैं। वहीं उनकी सलामती के लिए विश्वनाथ धाम और उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में महामृत्युंजय मंत्र का जाप किया जा रहा है। महामृत्युंजय मंत्र मौत का मात देने वाला मंत्र है। कॉमेडियन की सलामती के लिए उनके करीबी भी लगातार पूजा-पाठ करवा रहे हैं।कॉमेडियन को 10 अगस्त को दिल का दौरा पड़ने की वजह से उन्हें दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल में भर्ती करवाया था। राजू श्रीवास्तव की जान बचाने के लिए डॉक्टर हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं। वहीं खबर मिली है कि राजू के करीबी लोगों ने अस्पताल पहुंचा शुरू कर दिया है।बता दें - राजू श्रीवास्तव ने 1988 में आई फिल्म तेजाब से अपने करियर की शुरुआत की और फिर उसके बाद मैंने प्यार किया, बाजीगर, मिस्टर आजाद, आमदनी अठन्नी खर्चा रुपैया, वाह तेरा क्या कहना और मैं प्रेम की दीवानी हूं जैसी फिल्मों में काम किया है।
वापसी