नई पोस्ट करें

Top Govt Schemes: देखें 2021 की टॉप 5 सरकारी योजनाएं, क्या आपने उठाया फायदा

2022-10-01 06:49:19 820

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाबढ़ी हुई MSP के फायदे में कहीं मौसम न फेर दे पानी, सभी खरीफ फसलों की खेती पिछड़ी******Kharif sowing lagging behind by 55 lakh hectare over last year केंद्र सरकार ने इस साल किसानों की कमाई बढ़ाने के लिए का समर्थन मूल्य तो बढ़ा दिया है लेकिन मौसम की बेरुखी की वजह से कहीं किसान इसका लाभ उठाने से वंचित न रह जाएं। देशभर में अबतक औसत के मुकाबले कम बरसात दर्ज की गई है जिस वजह से खरीफ बुआई बुरी तरह प्रभावित हुई है, ऐसे में खरीफ उत्पादन प्रभावित होगा और किसानों को बढ़े हुए समर्थन मूल्य का ज्यादा लाभ नहीं मिल सकेगा। केंद्रीय कृषि मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए बुआई आंकड़ों के मुताबिक 6 जुलाई तक देशभर में कुल 333.78 लाख हेक्टेयर में खरीफ फसलों की खेती हुई है जबकि पिछले साल इस दौरान 388.88 लाख हेक्टेयर में खेती हो चुकी थी, यानि पिछले साल के मुकाबले इस साल रकबा 55 लाख हेक्टेयर से ज्यादा पिछड़ा हुआ है।अभी तक हुई खेती में सभी ज्यादातर खरीफ फसलों यानि धान, कपास, दलहन और तिलहन का रकबा सबसे ज्यादा पिछड़ा हुआ है। कृषि मंत्रालय के मुताबिक 6 जून तक धान का रकबा 11.83 लाख हेक्टेयर, खरीफ दलहन का रकबा 8.07 लाख हेक्टेयर, मोटे अनाज का रकबा 8.91 लाख हेक्टेयर, तिलहन का रकबा 9.85 लाख हेक्टेयर, और कपास का रकबा 17.22 लाख हेक्टेयर पिछड़ा हुआ दर्ज किया गया है।हालांकि जानकार मान रहे हैं कि जुलाई के दौरान अच्छी बरसात की उम्मीद है जिस वजह से खरीफ बुआई में तेजी आएगी और कई फसलों की खेती में सुधार हो सकता है। लेकिन कपास के मामले में यह भरपायी हो पाएगी, इसपर संदेह है, सामान्य तौर पर जुलाई के पहले हफ्ते तक कपास की 60-70 प्रतिशत खेती हो जाती है, लेकिन इस बार 50 प्रतिशत भी खेती नहीं हो पायी है, अभी तक देश में करीब 54.60 लाख हेक्टेयर में कपास की फसल लगी है, सामान्य तौर पर इस दौरान 73 लाख हेक्टेयर से ज्यादा खती हो जाती है, और पूरे सीजन में करीब 120-130 लाख हेक्टेयर में फसल लगती है।इस साल अभी तक मौसम ने खरीफ फसलों का साथ नहीं दिया है जिस वजह से बुआई में कमी आई है, मौसम विभाग के मुताबिक अबतक बीते मानसून सीजन के दौरान देशभर में सामान्य के मुकाबले 8 प्रतिशत कम बरसात दर्ज की गई है, पहली जून से लेकर 6 जुलाई तक देशभर में सामान्य तौर पर 215.3 मिलीमीटर बरसात होती है जबकि इस साल 198.6 मिलीमीटर बरसात हुई है।

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाRam Temple in Ayodhya: राम मंदिर के लिये पत्थर तराशने का काम तेज, 1 जून से बनना शुरू होगा गर्भगृह******Highlights: उत्तर प्रदेश के अयोध्या में भगवान राम के मंदिर का गर्भगृह 1 जून से बनना शुरू हो जाएगा। गर्भगृह में नक्काशी वाले गुलाबी सेंडस्टोन लगाए जाएंगे जो राजस्थान के भरतपुर की बंसी पहाड़पुर की पहाड़ियों से लाये जा रहे हैं। राम मंदिर में लगाने के लिए ये पत्थर अयोध्या और राजस्थान के सिरोही जिले के पिण्डवारा में तराशे जा रहे है। तराशे गए पत्थर गर्भगृह में लगने हैं इसलिए काम तेज हो गया है। अयोध्या के रामकथा कुंज मैदान में रामजन्मभूमि में निर्मित हो रहे राम मंदिर के लिये पत्थर तराशे जा रहे हैं।सैंडस्टोन को गीला करके नील से डिजाइन उतारे जा रहे हैं और फिर आगरा और राजस्थान से आये कारीगर नक्काशी कर रहे हैं। आगरा से आये कारीगर जुगेंद्र सिंह ने इंडिया टीवी को बताया कि पत्थरों में नक्काशी का डिजाइन श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने दिया है। राजस्थान के कारीगर रामफूल भी नक्काशी में लगे हैं। कारीगरों का कहना है कि उन्होंने अक्षर धाम मंदिर बनाया, गुजरात के कई मंदिरों में नक्काशी की लेकिन अयोध्या में भगवान राम के मंदिर के पत्थर तराशना एक अलग अनुभव है।अयोध्या में रामजन्मभूमि मंदिर से करीब 3 किलोमीटर दूर रामघाट में भी पत्थर तराशने का काम चल रहा है। यहां 1990 से पत्थर तराशे जा रहे हैं। अब तक यहां एक लाख स्क्वेयर फीट पत्थर तराशे जा चुके हैं। कार्यशाला में मंदिर के भूतल में लगने वाले 106 पिलर तराशे जा चुके हैं। भूतल की दीवार, चबूतरा, रंगमंडप और सिंहद्वार बनकर तैयार हैं, लेकिन लम्बे समय से राम मंदिर के इंतजार में ये पत्थर काले पड़ गए हैं। इन पत्थरों पर धूल और काई जम गई है जिसे अब साफ किया जा रहा है। पत्थरों को पॉलिश से चमकाया जा रहा है और इनकी कोडिंग भी की जा रही है।रामजन्मभूमि न्यास के मुताबिक में रेड सैंडस्टोन के अलावा ग्रेनाइट और सफेद मार्बल भी लगेगा। ग्रेनाइट कर्नाटक और तेलांगना से, सैंडस्टोन राजस्थान के भरतपुर जिले की बंसी पहारपुर की पहाड़ियों से और मार्बल मकराना से लाया जा रहा है। मंदिर के परकोटे में 8 से 9 लाख क्यूबिक फीट नक्काशी वाला सैंडस्टोन लगेगा और मंदिर में करीब 5 लाख क्यूबिक फीट नक्काशीदार गुलाबी सैंडस्टोन लगेगा। चबूतरे में करीब 7 लाख क्यूबिक फीट ग्रेनाइट लगेगा। गर्भगृह में 13,300 क्यूबिक फीट मकराना का सफेद मार्बल लगेगा और 95300 स्कॉयर फिट मकराना मार्बल फर्श में लगेगा।श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कहना है कि राममंदिर में प्लिंथ यानी कि चबूतरे का काम जुलाई तक पूरा हो जाएगा। राम मंदिर में गर्भगृह में पत्थर लगाने के साथ रिटेनिंग वॉल बनने का काम भी चलेगा। ट्रस्ट की कोशिश है कि दिसंबर 2023 में श्रद्धालु भगवान राम के गर्भगृह में दर्शन कर सकें।देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाIPS Alankrita Singh Suspended: 2008 बैच की आईपीएस अधिकारी अलंकृता सिंह सस्पेंड, ये है वजह******Highlights2008 बैच की आईपीएस अधिकारी अलंकृता सिंह को यूपी सरकार ने सस्पेंड कर दिया है। वह अक्टूबर से आधिकारिक छुट्टी के बिना छुट्टी पर हैं। यूपी सरकार द्वारा जारी पत्र में ये कहा गया है कि अलंकृता सिंह ड्यूटी के दौरान उपस्थित नहीं थीं और बिना शासन की स्वीकृति के वह विदेश चली गईं।इस पत्र में ये भी कहा गया है कि अलंकृता सिंह (IPS Alankrita Singh) ने अपनी ड्यूटी के प्रति लापरवाही और उदासीनता बरती है। इसलिए अलंकृता सिंह को अखिल भारतीय सेवाएं (अनुशासन एवं अपील) नियमावली-1969 के नियम 3 द्वारा दिए गए अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।अलंकृता सिंह अपनी निलंबन अवधि में मुख्यालय पुलिस महानिदेशक, यूपी लखनऊ से संबद्ध रहेंगी। इस पत्र पर अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी का नाम है।अलंकृता जब आईपीएस अधिकारी बनी थीं तब उन्होंने काफी बच्चों को प्रेरित किया था। वह कहती थीं कि उनके पिता ने उन्हें एक ही सीख दी है कि आत्मसम्मान के साथ जीना है और समाज ने जो दिया है, उसको लौटाना है। लेकिन आज अलंकृता पर लग रहे आरोप लोगों को हैरान कर रहे हैं।

Top Govt Schemes: देखें 2021 की टॉप 5 सरकारी योजनाएं, क्या आपने उठाया फायदा

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाBhool Bhulaiyaa 2 Box Office: 100 करोड़ के करीब पहुंची 'भूल भुलैया 2', जानिए अब तक की कमाई****** और स्टारर हॉरर कॉमेडी 'भूल भुलैया 2' को लोगों सेखूब प्यार मिल रहा है। फिल्म ने कंगना रनौत की एक्शन फिल्म 'धाकड़' को अपने सप्ताह के अंत में भी सिनेमाघरों में पछाड़ रही है।इस बीच, कार्तिक की फिल्म ने 7 दिन में 90 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर लिया है। इसके साथ हीआलिया भट्ट की 'गंगूबाई काठियावाड़ी' को हराकर साल की सबसे बड़ी ओपनर बनने वाली हॉरर-कॉमेडी फिल्म 100 करोड़ के पड़ाव केकरीब पहुंच गई।बता दें कि संजय लीला भंसाली की गंगूबाई काठियावाड़ी को छोड़कर कोई बॉलीवुड फिल्म बॉक्स ऑफिस पर टिक नहीं सकी। इनमें 'जर्सी', 'रनवे 34' और 'हीरोपंती' जैसी फिल्में भी रहीं।ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने कल फिल्म के 6 दिन के कलेक्शन की घोषणा की। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा - 'भूल भुलैया 2' का जादू जारी है। सप्ताह के दिनों में शानदार ट्रेंडिंग यह जल्द ही धीमा नहीं होने वाला है। 'भूल भुलैया 2' ने शुक्रवार को 14.11 करोड़ , शनिवार को 18.34 करोड़, रविवार को 23.51 करोड़, सोमवार को 10.75 करोड़, मंगलवार को 9.56 करोड़, बुधवार को 8.51 करोड़, गुरुवार को 7.57 करोड़ जमा किए, जिसके साथ फिल्म का 7 दिनों का नेट कलेक्शन 92.35 करोड़ हो चुका है। फिल्म के कलेक्शंस की यह रफ्तार को देखते हुए उम्मीद की जा रही है कि यह जल्द ही 100 करोड़ का आकड़ा पार कर लेगी।अनीस बज्मी निर्देशित कॉमेडी-हॉरर फिल्म भूल भुलैया 2 ने 7वें दिन भी शानदार कलेक्शन किया। ये है दिन 7 तक फिल्म का कुल कलेक्शन।Day 1 - ₹ 14.11 CR.Day 2 - ₹ 18.34 CR.Day 3 - ₹ 23.51 CR.Day 4 - ₹ 10.75 CR.Day 5 - ₹ 9.56 CR.Day 6 - ₹ 8.71 CR.Day 7 - ₹ 7.27 CR.Total - ₹ 92.05 CR.आयुष्मान खुराना की 'अनेक' और टॉम क्रूज की हॉलीवुड फिल्म 'टॉप गन मेवरिक' भी इस शुक्रवार को रिलीज हो रही हैं। दोनों फिल्म ही बॉक्स ऑफिस पर दर्शकों को खींच सकती है। हालांकि, कंगना रनौतकी फिल्म 'धाकड़' 'भूल भुलैया 2' के लिए कोई चुनौती नहीं बन सकी।ये भी पढ़ें -देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदायूपी के कौशांबी में 95 करोड़ रुपये की 2 मूर्तियों के साथ 10 तस्कर गिरफ्तार******Highlightsउत्तर प्रदेश में कौशांबी जिले की महेवा घाट थाना पुलिस ने 15 साल पहले बांदा जिले से चोरी की गई अष्टधातु की 2 मूर्तियों के साथ 10 अंतरजनपदीय मूर्ति तस्करों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि तसकरों से जो मूर्तियां बरामद की गई हैं, उनकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में अनुमानित कीमत लगभग 95 करोड़ रुपये है। 15 साल पहले इन मूर्तियों को 3 चोरों ने चुराया था जिनमें से 2 की मौत हो चुकी है।पुलिस अधीक्षक (SP) हेमराज मीणा ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि गुरुवार की रात गश्त के दौरान मुखबिर की सूचना पर महेवा घाट थाना प्रभारी रोशन लाल ने हमराहियों के साथ थाना क्षेत्र के यमुना नदी के पुल के पास घेराबंदी कर 10 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से अष्टधातु की 2 बेशकीमती मूर्तियां बरामद की। उन्‍होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी बेशकीमती मूर्तियां को बेचने की फिराक में थे, लेकिन पुलिस ने इनको गिरफ्तार कर लिया।गिरफ्तार मूर्ति तस्करों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि लगभग 15 वर्ष पहले किसी से यह दोनों मूर्तियां 3 चोरों द्वारा चुराई गई थीं, जिनमें से दो चोरों की मौत हो चुकी है। उन्‍होंने बताया कि दोनों मूर्तियां लगभग 10 साल तक चित्रकूट जिले के रायपुरा थाना क्षेत्र के भुजैनी गांव में मिट्टी के अंदर गाड़कर रखी गई थीं।देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाCorona Update: देश में नहीं थम रही कोरोना की रफ्तार, बीते 24 घंटे में 16 हजार से ज्यादा नए केस, 31 मरीजों की मौत******Highlights भारत में कोविड-19 के 16,103 नए मामले सामने आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 4,35,02,429 हो गयी है। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 1,11,711 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में 31 मरीजों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या 5,25,199 पर पहुंच गयी है। आंकड़ों के अनुसार, देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 1,11,711 पर पहुंच गयी है जो संक्रमण के कुल मामलों का 0.26 प्रतिशत है जबकि कोविड-19 के मरीजों के स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.54 प्रतिशत है।संक्रमण की दैनिक दर 4.27 प्रतिशतमंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 2,143 मामलों की बढ़ोतरी हुई है। संक्रमण की दैनिक दर 4.27 प्रतिशत और साप्ताहिक संक्रमण दर 3.81 प्रतिशत दर्ज की गयी। इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 4,28,65,519 हो गयी है जबकि मृत्यु दर 1.21 फीसदी है। देशव्यापी कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक 197.95 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं।केरल, महाराष्ट्र और दिल्ली में सबसे ज्यादा मामलेशनिवार को देशभर में कोविड-19 के 17,092 नए मामले सामने आए थे, वहीं 29 लोगों की जान चली गई थी। इनमें से 15 लोग केरल के थे। कल के मुकाबले आज नए मामलों में कमी जरूर आई है, लेकिन ये कोई बड़ा अंतर नहीं है। इसलिए जरूरी है कि कोरोना को लेकर कोई लापरवाही नहीं बरती जाए। साल 2020 से ही कोरोना ने जिस तरह से तबाही मचाई है, उसे देखते हुए हर दिन बढ़ रहे मरीजों की संख्या एक बार फिर डराने लगीं हैं। सबसे ज्यादा केस केरल, महाराष्ट्र और दिल्ली में दर्ज किए जा रहे हैं। पंजाब, छत्तीसगढ़, बिहार, गुजरात, कर्नाटक और राजस्थान में भी नए मामलों में इजाफा हुआ है।

Top Govt Schemes: देखें 2021 की टॉप 5 सरकारी योजनाएं, क्या आपने उठाया फायदा

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदा#ChunavManch: रणदीप सुरजेवाला ने कहा, NYAY योजना का टैक्सपेयर्स के पैसे से कोई कनेक्शन नहीं****** कांग्रेस पार्टी द्वारा प्रस्तावित न्यूनतम आय योजना (NYAY) पर कांग्रेस प्रवक्‍ता ने कहा कि NYAY योजना का खर्च सिर्फ सरकार के तंत्र के खर्च में 5% की कटौती से जुटाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि टैक्सपेयर्स के पैसे से इसका कोई कनेक्शन नहीं है। इंडिया टीवी के खास कार्यक्रम ‘चुनाव मंच’ में सुरजेवाला ने कहा कि NYAY से 5 करोड़ परिवारों को गरीबी की रेखा से ऊपर लाया जाएगा। यह योजना जुमला नहीं है, जुमला 15 लाख रुपये देने का वादा है।सुरजेवाला ने कहा, "इस देश में सिर्फ सरकारी तंत्र पर खर्च 60 लाख करोड रुपये सालाना है बगैर विकास पर एक पैसा खर्च किए। अगर उसमें 5% कटौती कर दें तो भी 3 लाख करोड रुपये आ जाता है। जिस दिन गरीब 12 हजार रुपये महीना आय की सीमा को पार कर लेगा, उस दिन वह अपने जीवन में अगली उडान के लिए तैयार हो जाएगा ये मैं नहीं, अर्थशास्त्री कह रहे हैं।'' उन्होंने कहा, ''जब ये देश आजाद हुआ और जब पहला सर्वे आया 1952-53 में तो लगभग 72% लोग गरीबी रेखा से नीचे बताए जाते थे वो संख्या अब लगभग 22% है अगले पांच साल में जनता के आशीर्वाद से कांग्रेस सरकार इस रेखा को ही मिटा देगी।''प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि पीएम मोदी ने 60 महीने मांगे थे उन्होंने क्या किया? नौकरियां नहीं हैं, धंदा मंदा है, हर तरफ बेरोजगारी है। सुरजेवाला ने कहा कि विजय माल्या भागने से पहले वित्त मंत्री से मिला था।देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाUP News: आफत बन चुकी है बच्चा चोरी गिरोह के एक्टिव होने की अफवाह, शक के आधार पर हो रही निर्दोषों की पिटाई******Highlights देश के कई राज्यों बच्चा चोरी गिरोह के सक्रिय होने की अफवाह फैली हुई है। जिस वजह से लोग केवल शक के आधार पर हिंसा पर उतारू हो जा रहे हैं। लोगों के साथ मार-पीट कर रहे हैं। और ज्यादातर घटनाएं उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार और मध्य प्रदेश के जिलों में हो रही हैं।बच्चा चोरी गैंग के सक्रिय होने की अफवाह के चलते लोगों में इस कदर दहशत है कि लोग बच्चा चोर समझ कर निर्दोष लोगों की पिटाई तक कर दे रहे हैं। यूपी के प्रयागराज रायबरेली, सहारनपुर, अमेठी, प्रतापगढ़, कासगंज, कौशांबी, बस्ती जिलों में ऐसी घटनाए हुई हैं। जबकि बिहार के सीतामढ़ी और मोतिहारी जिलों में भी ऐसी घटनाएं सामने आई हैं। वहीं उत्तराखंड के हरिद्वार और रुड़की और मध्य प्रदेश के रीवा में भी ऐसी घटना हुई है।वहीं अब इस घटना पर यूपी के लॉ एंड ऑर्डर एडीजी प्रशांत कुमार का बयान आया है। उन्होंने कहा, "ऐसा कोई संगठित गिरोह काम नहीं कर रहा। ऐसी अफवाह फैलाई जा रही है, जिसकी वजह से इस तरह की हिंसक घटनाएं हो रही हैं। मुख्यालय से ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए एक विस्तृत निर्देश जारी हुए हैं।" उन्होंने कहा कि, "बच्चा चोरी से संबंधित सूचना का सत्यापन और जांच राजपत्रित अधिकारी द्वारा प्रभावी गश्त किए जाने किए जाने का निर्देश दिया गया है। आमजन को जागरूक किए जाने हेतु लाउड स्पीकर का प्रयोग और सोशल मीडिया पर चलने वाली अफवाह का त्वरित रूप से खंडन करने के निर्देश दिए गए हैं।"गौरतलब है कि पिछले 15 दिनों के भीतर उत्तर प्रदेश में बच्चा चोरी की अफवाह की लगभग 50 घटनाएं सामने आ चुकी हैं। ब्रज में दो दिन के अंदर चार घटनाएं हो चुकी हैं। आगरा में विक्षिप्त महिला और कासगंज में मोबाइल टॉवर कर्मियों से लोगों ने बच्चा चोरी के शक में मारपीट कर दी जिन्हें किसी तरह पुलिस ने बचाया। इसके अलावा वाराणसी में पिछले दस दिनों में बच्चा चोर समझ पीटने की पांच घटनाएं हो चुकी हैं।

Top Govt Schemes: देखें 2021 की टॉप 5 सरकारी योजनाएं, क्या आपने उठाया फायदा

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाF-35 डील रद्द होने पर भड़का तुर्की, कहा- अमेरिका को गलती सुधारने का एक मौका देते हैं****** की मिसाइल रक्षा प्रणाली की विवादित खरीद को लेकर NATO के F-35 लड़ाकू विमान कार्यक्रम से देश को बाहर करने के के ‘अनुचित’ कदम पर बुधवार को जमकर बरसा। तुर्की के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘यह एकतरफा कदम ना तो गठबंधन की भावना का अनुपालन करता है और ना ही यह वैध तर्कों पर आधारित है।’ आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा है कि तुर्की के रूस से S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के कारण अमेरिका उसे F-35 लड़ाकू विमान नहीं बेचेगा।ट्रंप के फैसले पर तुर्की ने बेहद की कड़ी प्रतिक्रिया दी है और अमेरिका के इस कदम को गठबंधन की भावना के विपरीत बताया है। तुर्की ने एक बयान जारी कर कहा, ‘एफ-35 कार्यक्रम के साझेदारों में से एक तुर्की को हटाना अनुचित है।’ उसने उन दावों को भी खारिज कर दिया कि रूस की S-400 प्रणाली F-35 के लिए खतरा होगी। उसने कहा, ‘हम अमेरिका को इस गलती को सुधारने का मौका देते हैं। इस गलती से हमारे सामरिक रिश्तों में अपूरणीय क्षति होगी।’ट्रंप ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में कैबिनेट बैठक के दौरान कहा था, ‘तुर्की के संबंध हमारे साथ बहुत अच्छे हैं, बहुत अच्छे। और अब हम तुर्की से कह रहे हैं कि चूंकि आपको अन्य मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के लिए बाध्य किया गया, अब हम आपको F-35 लड़ाकू विमान नहीं बेच रहे हैं।’ आपको बता दें कि मौजूदा अमेरिकी कानूनों के अनुसार, कोई भी देश अगर रूस से बड़े रक्षा उपकरण खरीदता है तो उस पर प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाअप्रैल 2020 से हर महीने औसतन 13 लाख नए डीमैट खाते खुले, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने जारी किए आंकड़े******अप्रैल 2020 से हर महीने औसतन 13 लाख नए डीमैट खाते खुले, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने जारी किए आंकड़ेमुंबई: घरेलू शेयर बाजार के नए शिखर पर पहुंचने के साथ वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान ब्रोकरेज कंपनियों ने पिछले साल अप्रैल से 31 मई 2021 तक हर महीने औसतन 13 लाख नए डीमैट खाते खोले हैं। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के आंकड़ों के अनुसार 31 मई 2021 तक बाजार में खुदरा निवेशकों की कुल संख्या 6.97 करोड़ हो गई है।विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा पिछले वर्ष मार्च में कोविड-19 को वैश्विक महामारी घोषित करने के बाद शेयर बाजार में एक महीने के अंदर 35 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी। जिसके बाद बाजार जून में पुन: तेजी में लौट आया था। बीएसई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष कुमार चौहान ने पीटीआई-भाषा से कहा कि ब्रोकरेज कंपनियों और शेयर बाजारों ने पिछले 14 महीनों के दौरान हर महीने 12 से 15 लाख नए डीमैट खाते खोले हैं। इनमे से चालीस प्रतिशत डिमैट खाते बीएसई से जुड़ी ब्रोकरेज कंपनियों द्वारा खोले गए।उन्होंने कहा, ‘‘बीएसई ने पिछले 15 महीनों में सभी सदस्यों के लिए कुल मिलाकर लगभग 40 प्रतिशत अधिक निवेशक खाते जोड़े हैं। निवेशकों के खातों में बढोत्तरी दर्शाता है कि ऑटोमेशन और मोबाइल ट्रेडिंग से स्टॉक और म्यूचुअल फंड में निवेश देश के हर हिस्से में पंहुच गया है।’’ बीएसई के अनुसार 31 मई तक देश में कुल 6.9 करोड़ डीमेट खाते थे। जिसमें से 25 प्रतिशत खाते महाराष्ट्र से जबकि 85.9 खाते गुजरात से हैं।गुजरात के बाद उत्तर प्रदेश से 52.3 लाख , तमिलनाडु 42.3 लाख और कर्नाटक से 42.2 लाख का नंबर है। इसके अलावा बंगाल से 39.5 लाख, दिल्ली से 37.3 लाख, आंध्र प्रदेश से 36 लाख, राजस्थान से 34.6 लाख, मध्य प्रदेश से 25.7 लाख, हरियाणा से 21.2 लाख, तेलंगन से 20.7 लाख, केरल से 19.4 लाख, पंजाब से 15.2 लाख और बिहार से 16.5 लाख डीमेट खाते हैं। सेबी के दिशा-निर्देशों के अनुसार एक साल से अधिक समय के लिए उपयोग नहीं किये जाने वाले डीमेट खातों को असक्रिय माना जाता है।देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाUttar Pradesh Politics: क्षेत्र और जाति का संतुलन बनाए रखने की योजना से भाजपा ने भूपेंद्र चौधरी को अध्यक्ष पद सौंपा******Highlightsभूपेंद्र चौधरी की यूपी बीजेपी अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति की गई है, बीजेपी द्वारा लोकसभा चुनाव से पहले राज्य में क्षेत्रीय और जाति संतुलन बनाए रखने का यह एक स्पष्ट प्रयास है। 54 वर्षीय भूपेंद्र चौधरी योगी आदित्यनाथ सरकार में पंचायती राज मंत्री हैं और जाट समुदाय से नाता रखते हैं। वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। उनकी नियुक्ति से राज्य में शक्ति संतुलन की झलक देखने को मिल सकती है। अध्यक्ष पद पर, पार्टी का शीर्ष नेतृत्व पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करता है, जिसमें गोरखपुर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैं और लोकसभा में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी का प्रतिनिधित्व करते हैं। इसके अलावा, राज्य में चौधरी के नेतृत्व में भाजपा ने जाटों की भावनाओं को शांत करने की योजना बनाई है, जो पिछले साल किसानों के आंदोलन के बाद पार्टी से नाराज थे। पार्टी सूत्रों के अनुसार भूपेंद्र चौधरी की नियुक्ति से पार्टी के अंदर तनाव भी कम होगा क्योंकि चौधरी अपने मिलनसार स्वभाव के लिए जाने जाते हैं और किसी गुट से नहीं हैं। एक ओबीसी नेता के रूप में, वह पिछड़े समुदायों के बीच पार्टी की पहुंच को और मजबूत करेंगे।भूपेंद्र सिंह चौधरी का जाट समुदाय में अच्छा-खासा जनाधार2024 के लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने यूपी में बड़ा दांव चला है। बीजेपी ने पश्चिमी यूपी के बड़े जाट नेता भूपेंद्र सिंह चौधरी को यूपी बीजेपी की कमान सौंप दी है। भूपेंद्र सिंह चौधरी यूपी सरकार में इस वक्त पंचायतीराज मंत्री हैं और बीजेपी के जाट वोट बैंक को साधने के लिए वह सबसे मजबूत नेता माने जा रहे हैं। भूपेंद्र चौधरी को पार्टी की कमान देने से साफ है कि पार्टी जाट लैंड में अपनी जमीन मजबूत करना चाहती है। पार्टी भूपेंद्र चौधरी के सहारे सपा और RLD गठबंधन के असर को कम करना चाहती है।भूपेंद्र चौधरी को यूपी बीजेपी का अध्यक्ष बनाए जाने के पीछे पार्टी एक तीर से कई निशाने साधने की कोशिश में है। भूपेंद्र चौधरी पश्चिमी यूपी के बड़े जाट नेता है। किसान आंदोलन के दौरान भूपेंद्र चौधरी ने जाट नेताओं को बीजेपी के पाले में बनाए रखा था जिसका फायदा बीजेपी के 2022 के विधानसभा चुनावों में हुआ था। बीजेपी भूपेंद्र चौधरी के सहारे 2024 में 2014 के नतीजों को दोहराना चाहती है। पार्टी भूपेंद्र चौधरी को अध्यक्ष बनाकर जाट वोटरों को एकजुट करना चाहती है साथ ही गन्ना किसानों की नाराज़गी को भी दूर करने की कोशिश करेगी।

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदा15 साल का नाबालिग चला रहा था स्कूटी, पुलिस ने मां-बाप का काटा 42 हजार रुपये का चालान******एक सितंबर से लागू नए के तहत परिवहन विभाग ने शहर में अब तक का सबसे ज्यादा फाइन वाला काटा है। पुलिस ने 12वीं के एक नाबालिग छात्र के मां-बाप का 42 हजार रुपये का चालान काटा है। दरअसल, सोमवार की दोपहर 12 बजे कचहरी चौक पर एमवीआई विनय शंकर तिवारी ने चेकिंग के दौरान जीरोमाइल की चाणक्य विहार कॉलोनी के रहने वाले 15 साल के किशोर को उसके दो दोस्तों के साथ स्कूटी से जाते हुए पकड़ा था।पकड़े जाते ही उसने तत्काल अपने दोस्त के हाथ से हेलमेट पहन लिया। उससे जब फाइन जमा करने को कहा गया तो वह उलझने लगा। किशोर के पास पास गाड़ी के कागजात भी नहीं थे। तभी पुलिस ने 42 हजार रुपये का फाइन लगाया, जिसे किशोर के अभिभावक से वसूला जाएगा। बता दें कि स्कूटी इसी साल 28 अगस्त को खरीदी गई थी, जिसकी कीमत 56 हजार 127 रुपये है।एमवीआई ने नाबालिग को फाइन जमा करने को कहा तो उसने कहा कि उसके पिता फौज में हैं। वह हैदराबाद में रहते हैं। वह यहां अकेले रहता है। विभाग ने उसकी स्कूटी और कागजात जब्त कर लिए हैं। एमवीआई ने बताया कि छात्र के आईकार्ड की जांच में पता चला कि उसकी उम्र 15 साल है। मोटर वाहन अधिनियम के छह सेक्शन में उसे 42 हजार रुपए फाइन किया गया है। उसके अभिभावक गाड़ी का रजिस्ट्रेशन का पेपर देंगे तो पांच हजार का फाइन कम हो जाएगा।नाबालिग होने के बावजूद वाहन चलाना- 25,000 रुपयेदूसरे की गाड़ी चलाना- 5,000 रुपयेड्राइविंग लाइसेंस नहीं होना- 5,000 रुपयेRC नहीं होना- 5,000 रुपयेहेलमेट नहीं पहनना- पर 1000ट्रिपलिंग- 1,000 रुपयेनए नियम में नाबालिग के गाड़ी चलाने पर 25 हजार रुपया फाइन और 3 साल की सजा का प्रावधान है। वाहन का रजिस्ट्रेशन रद्द हो सकता है। इसके अलावा गाड़ी के मालिक और अभिभावक दोषी माने जाएंगे। साथ ही नाबालिग को 25 साल की उम्र तक गाड़ी चलाने का लाइसेंस नहीं दिया जाएगा।देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाRajasthan Public Service Commission: राजस्थान लोक सेवा आयोग ने स्वायत्त शासन विभाग के 118 पदों पर निकाली भर्ती, अप्लाई करने के लिए 27 सितंबर है लास्ट डेट******Highlights राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से स्वायत्त शासन विभाग में कुल 118 विभिन्न प्रशासनिक एवं तकनीकी पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया है। इसमें सहायक अभियंता (सिविल) के 41 पद, राजस्व अधिकारी ग्रेड-द्वितीय के 14 पद और अधिशाषी अधिकारी वर्ग चतुर्थ के 63 पद है। आयोग सचिव एचएल अटल ने बताया कि अभ्यार्थी अपना आवेदन ऑफिशियल वेबसाइट पर 29 अगस्त से 27 सितंबर तक भर सकते हैं। अभियार्थियों का चयन प्रतियोगी परीक्षा के माध्यम से होगा। आवश्यक्ता पड़ने पर आयोग द्वारा मूल्यांकन में स्केलिंग/मोडरेशन/ नार्मेलाइजेशन पद्धिति को अपनाया जा सकेगा। राजस्व अधिकारी ग्रेड द्वितीय एवं अधिशाषी अधिकारी वर्ग चतुर्थ के पदों के लिए एक ही प्रतियोगी परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। इसलिए अभ्यार्थी आवेदन में अपनी प्राथमिकता क्रम का अंकन अनिवार्य रूप से भरें। शैक्षणिक योग्यता, वर्गवार वर्गीकरण और अन्य विस्तृत जानकारी के लिए आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध विस्तृत विज्ञापन का अवलोकन करें।परीक्षा का सिलेबसपरीक्षा में 1 प्रश्नपत्र MCQ टाइप पेपर होगा जो अधिकतम 120 नंबर का होगा।सहायक अभियंता सिविल के लिएपार्ट-A :- सामान्य ज्ञान और सामान्य विज्ञान ( राजस्थान का इतिहास कला एवं संस्कृति, पंरपराएं, विरासत एवं राजस्थान का भूगोल तथा दैनिक विज्ञान) - 40 अंकपार्ट-B :- सिविल अभियांत्रिकी (डिग्री) - 80 अंकराजस्व अधिकारी ग्रेड- द्वितीय एवं अधिशाषी अधिकारी वर्ग- चतुर्थ के लिएपार्ट-A :- सामान्य ज्ञान (भारतीय संविधान, राजनीतिक व्यवस्था एवं शांसन प्रणाली, राजस्थान का इतिहास, कला एवं संस्कृति, परंपराएं, विरासत एवं राजस्थान का भूगोल, समसामयिकी) - 80 अंकपार्ट-B :- राजस्थान नगर पालिका अधिनियम-2009 एवं नगरीय निकायों से संबंधित विविध नियम एवं योजनाएं - 40 अंकऐसे करें अप्लाईअभ्यर्थियों को आयोग के ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध एप्लाई ऑनलाइन लिंक अथवा एस.एस.ओ पोर्टल के सिटीजन ऐप्स में उपलब्ध रिक्रूटमेंट पोर्टल का चयन कर वन टाइम रजिस्ट्रेशन करना होगा। पहली बार वन टाइम रजिस्ट्रेशन करने के लिए अभ्यर्थी के नाम, पिता के नाम, जन्म तिथि, लिंग, सैकण्डरी/समकक्ष परीक्षा एवं आधार कार्ड/पैन कार्ड/वोटर कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस आई.डी. में से किसी एक आई.डी. प्रूफ के विवरणों का इन्द्राज एवं डॉक्यूमेंट अपलोड करना अनिवार्य है। अभ्यर्थी द्वारा वन टाइम रजिस्ट्रेशन करने के बाद ओटीआर प्रोफाइल में स्वयं के नाम, पिता के नाम, जन्म तिथि, लिंग, सैकण्डरी/समकक्ष परीक्षा का विवरण एवं आधार कार्ड/पैन कार्ड/वोटर कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस आई.डी. विवरण में किसी भी प्रकार का संशोधन किया जाना संभव नहीं होगा।वन टाइम रजिस्ट्रेशन जन आधार या आधार या एसएसओ प्रोफाइल के माध्यम से किया जा सकता है। ऐसे अभ्यर्थी जिनके जन आधार अथवा आधार कार्ड में नाम, पिता का नाम, जन्म दिनांक तथा जेंडर का इंद्राज त्रुटियुक्त है अथवा शैक्षणिक योग्यता दस्तावेजों में अंकित विवरण से भिन्न है, इनके लिए एसएसओ प्रोफाइल के माध्यम से वन टाइम रजिस्ट्रेशन करना उचित रहेगा। इसके लिए अभ्यर्थी को पोर्टल पर उपयुक्त चेकबॉक्स का चयन करना होगा। इसके बाद एसएसओ प्रोफाइल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन का विकल्प प्रदर्शित हो जाएगा।अभ्यर्थियों को परीक्षा हेतु ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने के पश्चात रिक्रूटमेंट पोर्टल पर उपलब्ध भुगतान सुविधा से परीक्षा शुल्क का भुगतान कर आवेदन पत्र क्रमांक जनरेट करना होगा। आवेदक को ऑनलाइन आवेदन करने के पश्चात आवेदन-पत्र क्रमांक आवश्यक रूप से प्राप्त होगा और यदि आवेदन-पत्र क्रमांक अंकित या प्राप्त नहीं हुआ है, तो इसका अर्थ यह है कि उसका आवेदन-पत्र जमा नहीं हुआ है। आवेदन पत्र के प्रिव्यू को आवेदन का सब्मिट होना नहीं माना जाएगा।आनलाईन आवेदन-पत्र भरने के पश्चात आवेदन पत्र व परीक्षा शुल्क रसीद की हार्ड कॉपी का प्रिंट आवश्यक रूप से निकाल लेंवे। वन टाइम रजिस्ट्रेशन व ऑनलाइन आवेदन के संबध में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर आयोग की हेल्पडेस्क 1800-180-6127 तथा इन्क्वायरी पर दूरभाष 0145-2635212/2635200 के माध्यम से संपर्क किया जा सकता है।

देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदामर्सिडीज के बाद अब ऑडी ने भी अपनी कारों के दाम घटाए, 10 लाख रुपए तक की कटौती******ऑडी इंडिया के प्रमुख राहिल अंसारी ने एक बयान में कहा कि यह पुराने स्टॉक को खाली करने का तरीका नहीं है, हम अपनी नई कारों पर भी ग्राहकों को छूट दे रहे हैं।डीलर सूत्रों के अनुसार ऑडी गाडि़यों के दामों में कटौती प्रवेश स्तर की ए 3 सेडान पर 50,000 रुपए से लेकर महंगे ए8 सेडान मॉडल पर 10 लाख रुपए तक होगी।अन्य जर्मन लग्‍जरी कार निर्माता कंपनी बीएमडब्ल्यू ने भी कहा कि वह मॉडल की पसंद के आधार पर एक्सशोरूम दामों पर 12 फीसदी तक का लाभ दे रही है, जिनमें जीएसटी लाभ शामिल हैं। EPFO अनिवार्य योगदान में कर सकता है कटौती, आपकी टेक होम सैलरी में होगा इजाफाअन्य लाभों में 7.9 फीसदी की घटी हुई ब्याज दर, तीन साल तक मुफ्त सर्विस एवं रखरखाव तथा एक साल का मुफ्त बीमा शामिल है।इससे पहले गुरुवार को प्रतिद्वंद्वी मर्सिडीज बेंज ने जीएसटी के तहत नई टैक्‍स दरों का लाभ ग्राहकों को पहुंचाने के लिए भारत में बनने वाले अपने वाहनों के दाम सात लाख रुपए तक घटाने की घोषणा की थी।देखें2021कीटॉप5सरकारीयोजनाएंक्याआपनेउठायाफायदाForbes 2019: कमाई में सिनेमा पर भारी पड़ा क्रिकेट, अक्षय को पीछे छोड़ कोहली बने 'विराट'****** इस बार कमाई के मामले में क्रिकेट कप्तान विराट कोहली ने बॉलीवुड सितारों को पीछे छोड़ दिया है। विराट कोहली 252.72 करोड़ रुपये की वार्षिक कमाई के साथ फोर्ब्स इंडिया की सूची में शीर्ष स्थान हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। अक्षय कुमार इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं। बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान पिछले तीन सालों से इस सूची के पहले स्थान पर कायम रह चुके हैं। इस साल सलमान खान तीसरे सबसे ज्यादा कमाई करने वाले भारतीय हैं।फोर्ब्स इंडिया ने इस साल सौ सेलेब्रिटीज की एक सूची जारी की जिसमें उन्हें उनके पेशे व एंडोर्समेंट से होने वाली कमाई और उनकी लोकप्रियता के आधार पर शामिल किया गया। इन आधारों पर उनके विचार की अवधि 1 अक्टूबर, 2018 से 30 सितंबर, 2019 तक रखी गई।कोहली इस सूची में पहले स्थान पर हैं और इसका श्रेय उनकी मैच फीस, बीसीसीआई केंद्रीय अनुबंध, ब्रांड एन्डोर्समेंट और प्रायोजित इंस्टाग्राम पोस्ट के लिए ली जाने वाली फीस को जाता है। इसी के साथ उनकी अनुमानित कमाई 252.72 करोड़ रुपये हैं, जो इस साल की सूची में शामिल सौ सेलेब्रिटीज की कुल कमाई 3,842.94 करोड़ रुपये का 6.57 प्रतिशत है।बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार अपनी कुल कमाई 293.25 करोड़ रुपये के साथ दूसरे पायदान पर अपनी जगह बनाई। 229.25 करोड़ रुपये की कमाई के साथ बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान तीसरे स्थान पर हैं।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:59
उद्धरण 1 इमारत
F-35 डील रद्द होने पर भड़का तुर्की, कहा- अमेरिका को गलती सुधारने का एक मौका देते हैं****** की मिसाइल रक्षा प्रणाली की विवादित खरीद को लेकर NATO के F-35 लड़ाकू विमान कार्यक्रम से देश को बाहर करने के के ‘अनुचित’ कदम पर बुधवार को जमकर बरसा। तुर्की के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘यह एकतरफा कदम ना तो गठबंधन की भावना का अनुपालन करता है और ना ही यह वैध तर्कों पर आधारित है।’ आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा है कि तुर्की के रूस से S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के कारण अमेरिका उसे F-35 लड़ाकू विमान नहीं बेचेगा।ट्रंप के फैसले पर तुर्की ने बेहद की कड़ी प्रतिक्रिया दी है और अमेरिका के इस कदम को गठबंधन की भावना के विपरीत बताया है। तुर्की ने एक बयान जारी कर कहा, ‘एफ-35 कार्यक्रम के साझेदारों में से एक तुर्की को हटाना अनुचित है।’ उसने उन दावों को भी खारिज कर दिया कि रूस की S-400 प्रणाली F-35 के लिए खतरा होगी। उसने कहा, ‘हम अमेरिका को इस गलती को सुधारने का मौका देते हैं। इस गलती से हमारे सामरिक रिश्तों में अपूरणीय क्षति होगी।’ट्रंप ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में कैबिनेट बैठक के दौरान कहा था, ‘तुर्की के संबंध हमारे साथ बहुत अच्छे हैं, बहुत अच्छे। और अब हम तुर्की से कह रहे हैं कि चूंकि आपको अन्य मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के लिए बाध्य किया गया, अब हम आपको F-35 लड़ाकू विमान नहीं बेच रहे हैं।’ आपको बता दें कि मौजूदा अमेरिकी कानूनों के अनुसार, कोई भी देश अगर रूस से बड़े रक्षा उपकरण खरीदता है तो उस पर प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।
2022-10-01 06:57
उद्धरण 2 इमारत
हनी सिंह के बाद अब बादशाह ने भी मचाया धमाल, ‘करेजा’ गाने ने 24 घंटे में बनाया ये रिकॉर्ड******रैपर किंग ने 'डीजे वाले बाबू' गाने से अपनी एक अलग पहचान बना ली। अब उन्होंने एक नया गाना रिलीज किया है 'Kareja Kareja (करेजा करेजा)'। यहा गाना उनके नए एल्बम O.N.E aka Original Never Ends का पहला गाना है। गाने ने रिलीज होते ही धमाल मचाना शुरू कर दिया है। गाने को रिलीज हुए 24 घंटे भी नहीं हुए और 1 करोड़ लोगों ने यह गाना देख लिया है। इस गाने में जबरदस्त रैपिंग तो है ही इस बार लिरिक्स भी डबल मीनिंग है।बादशाह ने अभी तक इस गाने का सिर्फ ऑडियो जारी किया है। फैंस को अब इस गाने के वीडियो का इंतजार है। बादशाह ने 'करेजा' सॉन्ग मंगलवार को रिलीज किया है, उन्हें उम्मीद थी कि उनके प्रशंसकों को यह डांस नंबर पसंद आएगा।बादशाह ने एक बयान में कहा, "मैंने अपने प्रशंसकों से वादा किया था कि मैं 2018 की शुरुआत में एल्बम ओ.एन.ई (ओरिजिनल नेवर एंड्स) का दूसरा सिंगल रिलीज करूंगा और यह पेश है। मैं वास्तव में उम्मीद करता हूं कि आप सभी इसका आनंद उठाएंगे और अगर आपने इसे अभी तक नहीं सुना है तो इसे सुनें। 2018 का पहला डांस नंबर।"बादशाह के लिखे और कम्पोज किए गए इस गाने में आस्था गिल ने भी अपनी आवाज दी है। गानाफिलहाल यू-ट्यूब प तीसरे नंबर पर ट्रेंड कर रहा है। जल्द ही ये नंबर1 पर भी आ सकता है।
2022-10-01 05:29
उद्धरण 3 इमारत
सर्बिया में फुटबॉल सत्र के अंतिम मुकाबले के लिए मौजूद रहेंगे लगभग 20 हजार दर्शक******यूरोप की फुटबॉल लीग जब खाली स्टेडियम में लीग खत्म करने की तैयारी कर रही हैं तब सर्बिया के प्रशंसकों के लिए अच्छी खबर हैं और वे स्टेडियम में अपनी लीग के चैंपियन को ट्रॉफी उठाते देख सकते हैं। बीस जून को जब सर्बिया का सत्र खत्म होगा तो चैंपियन रेड स्टार बेलग्राद कोरोना वायरस महामारी के कारण फुटबॉल गतिविधियां ठप्प पड़ने के बाद यूरोप में सबसे अधिक दर्शकों की मेजबानी कर सकता है।सर्बिया के अधिकारियों ने बड़ी संख्या में लोगों के जुटने पर धीरे-धीरे ढील दे दी है जिससे मराकाना स्टेडियम एक बार फिर बड़ी संख्या में दर्शकों की मेजबानी करने को तैयार है जो चैंपियन टीम को ट्रॉफी उठाते हुए देख पाएंगे।सर्बिया सुपर लीग के महासचिव डार्को रामोव्स ने रेड स्टार के अंतिम मेच में प्रोलेटर की मेजबानी करने के संदर्भ में कहा, ‘‘उन्हें पता है कि वे चैंपियन हैं और इसे देखने के लिए 20000 लोग मौजूद रहेंगे।’’सर्बिया के नियमों के अनुसार प्रत्येक प्रशंसक के बीच एक मीटर की दूरी होनी चाहिए और ऐसे में 53 हजार दर्शकों की क्षमता वाले मराकाना स्टेडियम में बड़ी संख्या में दर्शकों की मेजबानी की जा सकती है।
वापसी