नई पोस्ट करें

Diabetes: डायबिटीज के मरीजों का ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में खीरा है बेहद असरदार, ऐसे करें इसका सेवन

2022-10-01 05:46:48 908

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनएयर एशिया से सिर्फ 999 रुपए में कीजिए हवाई सफर, 20 नवंबर तक टिकट बुक करने का मौका******लो कॉस्ट डोमेस्टिक एयरलाइन एयर एशिया बिग सेल लेकर आई है इसके तहत आर सिर्फ 999 रुपए में हवाई सफर कर सकते हैं। इस कीमत में सभी प्रकार के टैक्स शामिल हैं। ऑफर का फायदा उठाने के लिए आपको 20 नवंबर से पहले टिकट बुक करना होगा। इस दौरान बुक के गए टिकट पर आप 1 मई 2017 से लेकर 6 फरवरी 2018 तक की यात्रा कर सकेंगे।999 रुपए में आप कोच्चि-बेंगलुरु, हैदराबाद-बेंगलुरु रूट्स पर सफर कर सकते हैं। वहीं बेंगलुरु-गोवा, पुणे- बेंगलुरु, बेंगलुरु-विशाखापट्टनम के लिए आपको 1299 रुपए चुकाने होंगे। हैदराबाद-गोवा रूट के लिए टिकट की कीमत 1599 रुपए है जबकि कोच्चि-हैदराबाद रूट के लिए यह 1999 रुपए है। दिल्ली-बेंगलुरु के लिए आपको 2,499 रुपए खर्च करने होंगे।तस्वीरों की मदद से समझिए ऑफरAirAsia 999एयर टिकट बुक करने के लिए आप कंपनी की वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा ऐप, ट्रैवल एजेंट के मदद से भी ऑफर का फायदा उठाया जा सकता है। बिग सेल 14 नवंबर से 20 नवंबर तक के लिए है। किराए में एयरपोर्ट टैक्स शामिल है। यह ऑफर सिर्फ वन के लिए है। कंपनी यात्रियों की संख्या बढ़ाने के लिए यह ऑफर लाई है। सितंबर तिमाही में एयर एशिया इंडिया से 5.89 लाख लोगों ने यात्रा की।

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनतैमूर अली खान और इनाया नौमी खेमू ने क्यूट अंदाज में सेलिब्रेट की होली, देखिए क्यूट वीडियो******बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर खान के बेटे तैमूर अली खान अक्सर अपनी फोटोज के जरिए मीडिया में छाए रहते हैं। वहीं, एक्ट्रेस सोहा अली खान की लाडली बेटी इनाया नौमी खेमू भी सोशल मीडिया सेंसेशन हैं। दोनों अपने क्यूट एक्शंस से फैंस का दिल जीत लेते हैं। आज होली के मौके पर तैमूर और इनाया का एक क्यूट वीडियो सामने आया है, जिसमें दोनों एक दूसरे के साथ होली खेलते हुए दिख रहे हैं।इस वीडियो को सोहा अली खान ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम स्टोरी पर शेयर किया है, जिसमें इनाया और तैमूर को देखा जा सकता है। वीडियो में दोनों पूल में होली खेलते हुए दिख रहे हैं। इस दौरान इनाया अपने भाई तैमूर के गाल पर रंग लगा रही हैं। वहीं, तैमूर के हाथ में रंग का पैकेट है, जिसे वह पानी में डाल रहे हैं। दोनों का ये वीडियो बेहद प्यारा है, जिसे फैंस भी काफी पसंद कर रहे हैं।सोहा अली खान ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक तस्वीर भी शेयर की है। इस तस्वीर में सोहा अपनी लाडली बेटी इनाया के साथ दिख रही हैं। फोटो में देखा जा सकता है कि इनाया और सोहा ने एक-दूसरे के गाल को प्यार से पकड़ रखा है। इनाया जहां, पूल में खड़ी हैं, तो वहीं उनकी मम्मी सोहा बाहर खड़ी होकर अपनी लाडली से प्यार कर रही हैं। दोनों एक दूसरे के गालों पर रंग लगा रहे हैं।इस फोटो को शेयर करते हुए सोहा अली खान ने कैप्शन में लिखा है, ‘सभी को हैप्पी और सेफ होली की ढेर सारी शुभकामनाएं।’ इसके साथ उन्होंने एक हार्ट इमोजी भी शेयर की है। मां-बेटी की ये क्यूट तस्वीर फैंस को खूब पसंद आ रही है।वहीं, करीना कपूर ने भी अपने इंस्टाग्राम हैंडल से अपने लाडले बेटे तैमूर अली खान की एक फोटो शेयर की है। इस फोटो में देखा जा सकता है कि रंग से लथपथ तैमूर कैमरे के लिए स्वैग पोज दे रहे हैं।इस तस्वीर को शेयर करते हुए करीना ने अपने कैप्शन में लिखा है, ‘आप लोग सेफ रहिए। मेरी तरफ से हैप्पी होली।’ तैमूर की इस क्यूट फोटो पर अपना प्यार बरसाने से उनकी बेस्ट फ्रेंड्स मलाइका अरोड़ा और अमृता अरोड़ा खुद को रोक नहीं पाईं। मलाइका ने लव इमोजी बनाते हुए कमेंट बॉक्स में लिखा है, ‘क्यूटी।’ वहीं, अमृता ने कई हार्ट इमोजी के साथ लिखा है, ‘हमारा क्यूटी।’इसके अलावा करीना कपूर ने अपनी इंस्टा स्टोरी पर भी एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें उनके लाडले बेटे तैमूर और उनकी भांजी इनाया पूल में होली की मस्ती करते हुए दिख रहे हैं।इन वीडियोज और फोटोज को देखकर ये कहना गलत नहीं होगा कि तैमूर और इनाया होली में खूब धमाल मचा रहे हैं। दोनों हमेशा एक दूसरे के साथ मस्ती कर रहे हैं और होली एंजाय कर रहे हैं।डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनअप्रैल से जून के बीच भारत का कुल निर्यात 25 फीसदी गिरा: सरकार******अप्रैल से जून के बीच भारत का कुल निर्यात 25% गिरानई दिल्ली। अप्रैल से जून के बीच भारत का कुल निर्यात पिछले साल के मुकाबले 25.42 फीसदी घटा है। इसमें माल एवं सेवाएं दोनो ही शामिल हैं। आज केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने लोक सभा में लिखित रूप में ये जानकारी दी। एक आधिकारिक रिलीज के मुताबिक अगस्त 2020 में निर्यात में 12.66 फीसदी की गिरावट दर्ज हुई है। रिलीज के मुताबिक लॉकडाउन के बाद अर्थव्यवस्था के धीरे-धीरे खुलने के साथ, औद्योगिक गतिविधि सामान्य होने लगी है, जिससे अर्थव्यवस्था महामारी के असर से धीरे धीरे निकलने लगी है। सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के मुताबिक जून, 2020 में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) का अनुमान 107.8 है जो कि अप्रैल, 2020 और मई, 2020 में 53.6 और 89.5 रहा था। यानि इसमें भी सुधार के संकेत हैं। केंद्रीय मंत्री के मुताबिक सरकार ने निर्यात को बढ़ावा देने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। जिससे कारोबारियों को फायदा मिलने और अर्थव्यवस्था को सहारा मिलने की पूरी उम्मीद है।इससे पहले मंगलवार को आए आंकड़ों के मुताबिक देश के निर्यात में लगातार छठे महीने गिरावट दर्ज हुई है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार पेट्रोलियम, चमड़ा, इंजीनियरिंग सामान और रत्न एवं आभूषण के निर्यात में कमी से देश का कुल निर्यात अगस्त 2020 में एक साल पहले के इसी महीने के मुकाबले 12.66 प्रतिशत घटकर 22.7 अरब डॉलर रहा। निर्यात में अगस्त माह में आई यह गिरावट जुलाई की 10.21 प्रतिशत और जून में आई 12.41 प्रतिशत गिरावट के मुकाबले भी अधिक है। इससे पहले, पिछले साल 2019 के अगस्त में निर्यात 25.99 अरब डॉलर रहा था। आंकड़े के अनुसार देश का आयात भी इस साल अगस्त में 26 प्रतिशत लुढ़क कर 29.47 अरब डॉलर रहा। इससे व्यापार घाटा 6.77 अरब डॉलर पर आ गया जो एक साल पहले 2019 के इसी महीने में 13.86 अरब डॉलर के मुकाबले आधे से भी कम रह गया। जुलाई महीने में व्यापार घाटा यानी आयात और निर्यात का अंतर 4.82 अरब डॉलर था।

Diabetes: डायबिटीज के मरीजों का ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में खीरा है बेहद असरदार, ऐसे करें इसका सेवन

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनFY-20 में भारत की GDP वृद्धि दर 11 साल के निचले स्‍तर पर, जनवरी-मार्च 2020 में आर्थिक वृद्धि दर रही 3.1%******GDP growth in 2019-20 slows to 11-year low of 4.2 pcकोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को संकट में डालने के साथ ही भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था को भी नुकसान पहुंचाया है। शुक्रवार को सरकार द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक वित्‍त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही यानी जनवरी-मार्च 2020 में भारत की सकल घरेलू उत्‍पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर घटकर 3.1 प्रतिशत रही है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर 5.7 प्रतिशत रही थी। इसके साथ ही संपूर्ण वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए जीडीपी वृद्धि दर 4.2 प्रतिशत रही, जो पिछले 11 साल का निम्‍नतम स्‍तर है। सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्‍वयन मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को बताया कि 2019-20 की चौथी तिमाही में स्थिर कीमत (2011-12) पर 38.04 लाख करोड़ रुपए रहने का अनुमान है, जो 2018-19 की चौथी तिमाही में 36.90 लाख करोड़ रुपए थी। इस तरह इसमें 3.1 प्रतिशत की वृद्धि दिखाई पड़ती है। सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्‍वयन मंत्रालय ने बताया कि वित्‍त वर्ष 2019-20 में देश का राजकोषीय घाटा बढ़कर जीडीपी का 4.59 प्रतिशत हो गया है, जो संशोधित अनुमान 3.8 प्रतिशत की तुलना में बहुत अधिक है।मंत्रालय ने कहा कि वित्‍त वर्ष 2019-20 में आर्थिक वृद्धि दर के 4.2 प्रतिशत रहने का अनुमान है, जो वित्‍त वर्ष 2018-19 में 6.1 प्रतिशत थी। कोरोना वायरस महामारी की वजह से जनवरी-मार्च, 2020 के दौरान चीन की अर्थव्यवस्था में 6.8 प्रतिशत की गिरावट आई है।कोविड-19 पर काबू के लिए सरकार ने 25 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा की थी। लेकिन जनवरी-मार्च के दौरान दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियां सुस्त रहीं, जिसका असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी पड़ा। भारतीय रिजर्व बैंक ने 2019-20 में आर्थिक वृद्धि दर पांच प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था। एनएसओ ने इस साल जनवरी फरवरी में जारी पहले और दूसरे अग्रिम अनुमान में वृद्धि दर पांच प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था।महालेखा नियंत्रक के आंकड़े के अनुसार वित्त वर्ष 2019-20 के लिये राजकोषीय घाटा 4.59 प्रतिशत जबकि राजस्व घाटा 3.27 प्रतिशत रहा। आंकड़ों के अनुसार प्रभावी राजस्व घाटा 2.36 प्रतिशत रहा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने फरवरी में बजट पेश करते हुए 2019-20 में राजकोषीय घाटा 3.8 प्रतिशत रहने का संशोधित अनुमान जताया था जो मूल बजट के 3.3 प्रतिशत के अनुमान से अधिक था। राजकोषीय घाटे में वृद्धि का मुख्य कारण 2019-20 में राजस्व संग्रह में कमी है। वर्ष के दौरान राजस्व प्राप्तियां संशोधित अनुमान के 90 प्रतिशत तक ही हो सकीं।कुल मिला कर सरकार की प्राप्तियां 17.5 लाख करोड़ रुपए रहीं, जबकि सशोधित बजट अनुमान 19.31 लाख करोड़ रुपए का था। आंकड़ों के अनुसार सरकार का कुल व्यय 26.86 लाख करोड़ रुपए रहा, जो पूर्व के 26.98 लाख करोड़ रुपए के अनुमान से कुछ कम है। पिछले वित्त वर्ष में राजस्व घाटा बढ़कर 3.27 प्रतिशत रहा जबकि संशोधित अनुमान में इसके जीडीपी के 2.4 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया गया था।डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनरिकॉर्ड कीमत पर बिके साउथ स्टार यश की फिल्म 'केजीएफ चैप्टर 2' के सैटेलाइट राइट्स******साउथ स्टार यश की फिल्म केजीएफ की शानदार सफलता के बाद अब फिल्म के प्रोडक्शन हाउस होम्बले फिल्म्स ने घोषणा की है कि उन्होंने केजीएफ चैप्टर 2 की रिलीज के लिए दक्षिण-आधारित ज़ी चैनलों के साथ सहयोग किया है। केजीएफ चैप्टर 2 के साउथ सेटलाइट राइट्स ZEE कन्नड़, ZEE तेलुगू, ZEE तमिल और ZEE मलयालम को रिकॉर्ड कीमत पर बेचा गया। यश, संजय दत्त, रवीना टंडन, श्रीनिधि शेट्टी और प्रकाश राज अभिनीत इस फिल्म का निर्देशन प्रशांत नील ने किया है। फिल्म के डार्क, रॉ और सम्मोहक पोस्टर ने पहले ही KGF चैप्टर फ्रैंचाइज़ी के प्रशंसकों में काफी हलचल मचा दी है।ZEE के साथ सहयोग के बारे में बोलते हुए, निर्माता विजय किरागंदूर ने कहा, “हमें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि हमने दक्षिणी भाषाओं के लिए अपने मैग्नम ओपस KGF चैप्टर 2 के सेटलाइट राइट्स के लिए ZEE के साथ साझेदारी कि है। ZEE के साथ हमारी साझेदारी के साथ, हम अपनी पहुंच को व्यापक दर्शकों तक विस्तारित करने के लिए आश्वस्त हैं। होम्बले फिल्म्स में, हम अपनी कन्नड़ जड़ों का पालन करते हुए, वैश्विक दर्शकों को तक पहुंचाने के लिए मनोरंजक और सम्मोहक सामग्री का निर्माण करने का प्रयास करते हैं। केजीएफ चैप्टर 1 की रिकॉर्ड तोड़ सफलता के बाद केजीएफ चैप्टर 2 से काफी उम्मीदें हैं। फिल्म के ट्रेलर ने एक्शन थ्रिलर की चर्चा को और बढ़ा दिया है। केजीएफ चैप्टर 2 के साथ, हमने अपने प्रशंसकों के लिए सर्वश्रेष्ठ सिनेमाई अनुभव प्रदान करने के लिए केजीएफ विरासत की भावना और पैमाने को बढ़ाने की कोशिश की है। हम अपनी भव्य रिलीज के साथ और अधिक उत्साह पैदा करने और देखने की उम्मीद करते हैं। और हमें विश्वास है कि केजीएफ चैप्टर 2 को उसी प्यार और स्नेह से नवाजा जाएगा और यह फिल्म उद्योग में एक नया मापदंड स्थापित करेगा!"निर्देशक प्रशांत नील ने कहा, "मुझे खुशी है कि 'केजीएफ चैप्टर 2' के सैटेलाइट अधिकार ज़ी द्वारा दक्षिणी भाषाओं के लिए सुरक्षित कर लिए गए हैं। मैं ZEE के साथ इस जुड़ाव को महत्व देता हूं और विश्वास करता हूं कि उनके लगातार बढ़ते नेटवर्क के साथ हम KGF चैप्टर 2 को बड़े दर्शकों के सामने प्रदर्शित करने में सक्षम होंगे। फिल्म के टीजर को मिली प्रतिक्रिया से मैं रोमांचित हूं। मुझे यकीन है कि फिल्म उच्च उम्मीदों पर खरी उतरेगी और केजीएफ की विरासत का एक नया अध्याय लिखेगी। मैं आप सभी को विश्वास दिलाता हूं कि यह इंतजार के लायक होगा।"डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनकर्नाटक चुनाव 2018: इन सीटों पर सीधी टक्कर, नतीजों पर रहेंगी सबकी निगाहें****** की वोटिंग अब से कुछ देर में शुरू होने जा रही है। सभी पार्टियों के चुनाव प्रचार थम चुका है और राज्य की तीनों प्रमुख पार्टियों अपनी अपनी जीत के दावा कर रही है। 224 विधानसभा सीटों वाले कर्नाटक में शनिवार को 222 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे। 15 मई को चुनाव आयोग इन सभी 222सीटों के लिए नतीजों की घोषणा करेगा। बंगलुरू जयनगर विधानसभा सीट और राज राजेश्वरी सीट पर चुनाव रद्द कर दिया है। दोनों सीटों पर बाद में मतदान होगा। जिन 222 सीटों पर मतदान होना है उनमें से कुछ सीटें ऐसी हैं जिनपर सबकी निगाहें रहेंगी... और एचडी कुमारस्वामी दो-दो सीटों से चुनावी मैदान में हैं। मुख्यमंत्री सिद्धारमैया चामुंडेश्वरी और बादामी विधानसभा सीट से उम्मीदवार हैं तो वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और इस बार के के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बी एस येदियुरप्पा शिकारपुर से उम्मीदवार हैं। इन सीटों के अलावा कुछ प्रमुख सीटें ये रहेंगी... कांग्रेस की सबसे सुरक्षित सीटों में से एक गडग पर 2008 में विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सेंध लगाई थी लेकिन कांग्रेस ने अगले चुनाव में उस हिसाब को चुकता कर दोबारा से यहां कब्जा जमाया था। गडग क्षेत्र में कुल 2,15,621 मतदाता हैं जिनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 1,07,788 और महिला मतदाताओं की संख्या 1,07,661 है। 2013 विधानसभा चुनावों में गडग निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के मौजूदा विधायक एच.के. पाटिल ने 51.7 प्रतिशत वोटों के साथ 70,475 वोट हासिल किए थे। गडग निर्वाचन क्षेत्र कांग्रेस का एक मजबूत गढ़ रहा है। यहां हुए अब तक 13 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 11 बार जीत हासिल की है। जबकि दो बार 1978 व 2008 में उसे जेएनपी और भाजपा के हाथों हार का सामना करना पड़ा है। इस बार भी कांग्रेस ने मौजूदा विधायक एच.के. पाटिल को अपना उम्मीदवार बनाया है। वह वर्तमान कर्नाटक सरकार में ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री का पद संभाल रहे हैं। वहीं भाजपा ने 2008 का करिश्मा दोहराने के लिए 2013 के चुनाव में दूसरे नंबर पर रहे बड़वारा श्रमिकर राइतर कांग्रेस के उम्मीदवार अनिल प्रकाशबाबू मेंसिंकाई को अपना उम्मीदवार बनाया है।शिमोगा विधानसभा सीट पर पूरे प्रदेश के लोगों के निगाहें लगी हुई है। कारण इस सीट पर भाजपा और कांग्रेस के कद्दावर नेताओं के बीच सीधी जंग है। शिमोगा निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा के के.एस. ईश्वरप्पा और कांग्रेस के.बी. प्रसन्ना कुमार मैदान में हैं। शिमोगा निर्वाचन क्षेत्र एक ग्रामीण तालुका है और शिमोगा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र का हिस्सा है। यह निर्वाचन क्षेत्र अनुसूचित जाति समुदाय के उम्मीदवार के लिए आरक्षित है। इस सीट पर पुरुष मतादाताओं की संख्या 1,03,626 और महिला मतदाताओं की संख्या 1,03,409 है। विधानसभा चुनाव 2013 में शिमोगा निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के मौजूदा विधायक के.बी. प्रसन्ना कुमार ने 39,355 वोटों के साथ 50.18 फीसदी वोट हासिल किए थे जबकि कर्नाटक जनता पक्ष के एस. रुद्रगौड़ा ने 49.82 प्रतिशत वोटों के साथ 39,077 मत प्राप्त किए थे। एक बार फिर सत्तारूढ़ कांग्रेस ने मौजूदा विधायक के.बी. प्रसन्ना कुमार को ही अपना प्रत्याशी घोषित किया है। के.बी. प्रसन्ना कुमार उस वक्त सुर्खियों में आए थे जब उन्होंने 2013 में राज्य के उपमुख्यमंत्री रहे के.एस. ईश्वरप्पा को हराया था, जिसके बाद उन्हें कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में शुमार किया जाना लगा। वहीं ईश्वरप्पा अपनी पुरानी हार का बदला लेने का इरादे से एक बार फिर के.बी. प्रसन्ना कुमार के सामने चुनावी मैदान में हैं। के.एस. ईश्वरप्पा साल 2012 से 2013 तक जगदीश शेट्टर की नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे चुके हैं। ईश्वरप्पा वर्तमान में कर्नाटक विधान परिषद में विपक्ष के नेता के भूमिका निभा रहे हैं। ये सीट पांच बार के विधायक और राज्य के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री यानी कांग्रेस के कद्दावर नेता के.आर. रमेश कुमार की पारंपरिक सीट मानी जाती है। इस सीट पर मंत्री को चुनौती दे रहे हैं जेडी-एस के जी.के. वेंकटेश्वा रेड्डी। वहीं भाजपा इस सीट पर अपना अस्तित्व तलाश रही है। इस जगह का जिक्र पौराणिक कथाओं में मिलता है। माना जाता है कि भगवान विष्णु ने यहां आकर कुछ समय बिताया था, जिसके बाद इस जगह का नाम श्रीनिवासपुर पड़ा। वर्ष 2013 में श्रीनिवासपुर निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के मौजूदा विधायक के.आर. रमेश कुमार ने 51.19 प्रतिशत वोटों के साथ 83,426 वोट हासिल किए थे। जबकि जनता दल (सेक्युलर) के उम्मीदवार जी.के. वेंकटेश्वा रेड्डी ने 79,533 वोटों के साथ 48.81 प्रतिशत वोट वोट हासिल किए थे और दूसरे नंबर पर रहे थे। इस सीट पर मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच है। ये सीट मुंबई-कर्नाटक लोकसभा क्षेत्र का हिस्सा है। बीजापुर विधानसभा क्षेत्र में मतदाताओं की कुल संख्या 2,41,682 है जिसमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 1,21,753 और महिला मतादाताओं की संख्या 1,19,828 है। बीजापुर कर्नाटक का नौवां सबसे बड़ा शहर है और इसे ऐतिहासिक स्मारकों में वास्तुशिल्प महत्व के लिए जाना जाता है। इस सीट पर पिछले छह चुनाव में कांग्रेस और भाजपा दोनों ने ही तीन-तीन चुनाव जीते हैं। हालांकि भाजपा नेता अप्पासाहेब मालप्पा पट्टानाशेट्टी ने 2004 और 2008 चुनाव में लगातार जीत दर्ज की थी, लेकिन 2013 में कांग्रेस उम्मीदवार मकबूल एस. बागवान ने करीब नौ हजार वोटों के अंतर से इस सीट पर हासिल की थी। वर्तमान में कांग्रेस और भाजपा दोनों ही मुख्य पार्टियों ने इस सीट पर नए उम्मीदवारों को उतारा है। कांग्रेस ने अब्दुल हमीद मुशरिफ को और भाजपा ने बसनगौड़ आर. पाटिल को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। इस सीट पर भाजपा के दिग्गज और दागी उम्मीदवार जी. सोमशेखर रेड्डी और कांग्रेस के वर्तमान दागी विधायक अनिल लाड मैदान में हैं। पिछली बार यहां से लाड जीते थे। वर्ष 2008 में परिसीमन के बाद बेल्लारी निर्वाचन क्षेत्र बना था। परिसीमन के बाद हुए चुनावों में यहां भाजपा विधायक जी. सोमशेखर रेड्डी ने जीत हासिल की थी, जबकि 2013 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस नेता अनिल लाड ने रेड्डी को हराकर भाजपा को झटका दिया था।

Diabetes: डायबिटीज के मरीजों का ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में खीरा है बेहद असरदार, ऐसे करें इसका सेवन

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनTATA IPL Auction 2022: जेसन होल्डर पर लगी बड़ी बोली, इतनी मोटी रकम खर्च कर लखनऊ ने जोड़ा अपने साथ******इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के मेगा ऑक्शन में वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर जेसन होल्डर को लखनऊ सुपरजाइंट्स की टीम ने 8.75 करोड़ की बड़ी बोली लगाकर अपनी टीम में शामिल किया है। होल्डर पर लखनऊके अलावा चेन्नईने भी बोली लगाई। होल्डर ने ऑक्शन में खुद को 1.5 करोड़ के बेस प्राइज में रखा था।पिछले सीजन में होल्डर हैदराबाद के लिए खेले थे। हालांकि पिछले सीजन के बाद टीम ने उन्हें रीलीज कर दिया। 2021 सीजन में 8 मैच खेलकर 16 विकेट हासिल किया था। वहीं होल्डर के आईपीएल करिअर की बात करें तो उन्होंने इस लीग में कुल 26 मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 22.45 की औसत से 35 विकेट हासिल किया है। इस दौरान उनका इकॉनमी 8.20 का रहा है।डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनवित्तीय समस्या से जूझ रही BSNL का 3,000 करोड़ रुपये से अधिक की वसूली पर जोर******Cash-strapped BSNL chasing dues of Rs 3,000 crore from biz clients नकदी समस्या से जूझ रही सार्वजनिक क्षेत्र की ने अपने कंपनी ग्राहकों से बकाये की वसूली के लिये आक्रामक तरीके से कदम उठाने की योजना बनायी है। दूरसंचार कंपनी अगले दो तीन महीनों में 3,000 करोड़ रुपये से अधिक के बकाये में से बड़ी राशि की वसूली की उम्मीद कर रही है। भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) यह कदम ऐसे समय उठा रही है जब कंपनी वित्तीय स्थिति को लेकर खासा दबाव में है और इसके कारण उसे इस साल दूसरी बार कर्मचारियों के वेतन भुगतान में देरी की है। बीएसएनएल ने कर्मचारियों का जुलाई महीने का वेतन पांच अगस्त को जारी किया था। और प्रबंध पी के पुरवार ने कहा कि हमारा कंपनी ग्राहकों के ऊपर बकाया है जो 3,000 करोड़ रुपये से अधिक है। हम इसकी वसूली के लिये आक्रामक तरीके से कदम उठा रहे हैं... इस दिशा में हमें सफलता भी मिल रही है। पुरवार ने कहा कि पूरी बकाया राशि वसूली की समयसीमा बताना कठिन है, पर बीएसएनएल को अगले दो-तीन महीनों में उसमें से बड़ी राशि की वसूली की उम्मीद है। कंपनी किराये से भी बढ़ी हुई आय प्राप्त करने की उम्मीद कर रही है। इस साल बीएसएनएल की किराये से करीब 1,000 करोड़ रुपये की आय पर नजर है। पिछली बार यह 200 करोड़ रुपये थी। इस योजना के तहत मौजूदा इमारतों के अधिक-से-अधिक उपयोग और ज्यादा जगह को पट्टे पर देने की योजना है।इसके अलावा बीएसएनएल सालाना करीब 200 करोड़ रुपये तक बचाने को लेकर ‘आउटसोर्स’ किये गये कार्यों को दुरुस्त करने पर भी काम कर रही है। कंपनी का मासिक आय और खर्च (परिचालन व्यय और वेतन) में 800 करोड़ रुपये का अंतर है। पुनरूद्धार पैकेज के रूप में बीएसएनएल और महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (एमटीएनएल) के लिये राहत योजना तैयार कर रहा है। इस पैकेज में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना, संपत्ति को बाजार पर चढ़ाने और 4 जी स्पेक्ट्रम का आवंटन शामिल है। इसके अलावा विभाग दोनों सार्वजनिक उपक्रमों (बीएसएनएल और एमटीएनएल) को पटरी पर लाने के इरादे से संभवत: उनके विलय पर भी काम कर रहा है। बीएसएनएल को 2018-19 में करीब 14,000 करोड़ रुपये के घाटे का अनुमान है। कंपनी को 2017-18 में 7,993 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

Diabetes: डायबिटीज के मरीजों का ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में खीरा है बेहद असरदार, ऐसे करें इसका सेवन

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनSamsung का प्रीमियम स्‍मार्टफोन बाजार में 65% हिस्‍सेदारी हासिल करने का लक्ष्‍य, लॉन्‍च की गैलेक्‍सी नोट 10 सीरीज******Samsung eyes 65 pc mkt share of India's premium smartphone mkt; unveils Note 10, Note 10+दिग्‍गज टेक्‍नोलॉजी कंपनी सैमसंग ने मंगलवार को कहा कि उसे अपने फ्लैगशिप और गैलेक्‍सी नोट 10+ को भारत में लॉन्‍च करने के साथ ही प्रीमियम स्‍मार्टफोन सेगमेंट (30,000 रुपए और इससे अधिक कीमत वाले फोन) में 65 प्रतिशत बाजार हिस्‍सेदारी हासिल करने का पूरा भरोसा है। कंपनी ने कहा कि 2019 की पहली छमाही (जनवरी-जून) में प्रीमियम सेगमेंट में कीमत के मामले में उसकी बाजार हिस्‍सेदारी 63 प्रतिशत थी। सैमसंग का इस श्रेणी में सीधा मुकाबला वनप्‍लस और एप्‍पल से है। सैमसंग इंडिया के वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष और मार्केटिंग हेड, मोबाइल बिजनेस, रणजीवजीत सिंह ने कहा कि 2018 में प्रीमियम सेगमेंट में हमारी 52 प्रतिशत वैल्‍यू मार्केट हिस्‍सेदारी थी। जो 2019 की पहली छमाही में बढ़कर 63 प्रतिशत हो गई है। उन्‍होंने आगे कहा कि इस साल के अंत तक कंपनी अपनी इस हिस्‍सेदारी को बढ़ाकर 65 प्रतिशत और इससे अधिक करने के लिए पूरी तरह से आश्‍वस्‍त है।सिंह ने कहा कि भारत में प्रीमियम स्‍मार्टफोन का बाजार 15 से 20 हजार करोड़ रुपए का है और यह सालाना 9 से 10 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है। नोट सीरीज के अलावा सैमसंग ने प्रीमियम सेगमेंट में सैमसंग गैलेक्‍सी एस सीरीज और ए80 को भी पेश किया है।नोट 10 सीरीज शक्तिशाली फ्लैगशिप डिवाइस हैं, जो युवा यूजर्स की उत्‍पादकता और रचनात्‍मकता को अगले स्‍तर पर ले जाएंगे। पहली बार गैलेक्‍सी नोट 10 को दो साइज में पेश किया गया है, इससे उपभोक्‍ता अपने लिए सबसे उपयुक्‍त नोट का चयन कर सकता है। नोट 10 सीरीज उन्‍नत एस पेन के साथ आता है, जो हैंडराइटिंग को टेक्‍स्‍ट में बदल सकता है।कंपनी ने बताया कि गैलेक्‍सी नोट 10 और नोट 10+ 23 अगस्‍त से बिक्री के लिए उपलब्‍ध होंगे। गैलेक्‍सी नोट 10+ की कीमत 79,999 रुपए और गैलेक्‍सी नोट 10 की कीमत 69,999 रुपए से शुरू है।गैलेक्‍सी नोट 10+ दो वेरिएंट्स 12जीबी रैम व 256जीबी मेमोरी और 12जीबी रैम व 512जीबी मेमोरी में आएगा। नोट 10 मे 8जीबी रैम और 256जीबी इंटरनल स्‍टोरेज होगी। नोट 10 में 6.3 इंच डिस्‍प्‍ले, ट्रिपल कैमरा (16एमपी+12एमपी+12एमपी) और 3500एमएएच बैटरी है।नोट 10+ में 6.8 इंच डिस्‍प्‍ले, क्‍वाड कैमरा सेटअप (16एमपी+12एमपी+12एमपी और वीजीए) और 4300 एमएएच बैटरी है। दोनों ही डिवाइस में 10 मेगापिक्‍सल का फ्रंट कैमरा है। एस पेन गेस्‍चर कंट्रोल से सुसज्जित है।

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनउर्वशी रौतेला ने ऋषभ पंत को नहीं बल्कि इन्हें कहा था 'सॉरी', इंस्टाग्राम पर बौखलाईं एक्ट्रेस******एक्ट्रेस उर्वशी रौतेला तब से सुर्खियां बटोर रही हैं, जब उन्होंने कहा कि उनके कथित बॉयफ्रेंड ऋषभ पंत ने एक बार होटल की लॉबी में लगभग 10 घंटे तक उनका इंतजार किया था। यहीं से दोनों की सोशल मीडिया वॉर शुरू हुई और कभी ऋषभ पंत उर्वशी को तो कभी उर्वशी ऋषभ पंत को ताने मारते नजर आते रहते थे। हाल ही में उर्वशी का एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें वो इंटरव्यू के दौरान भारतीय क्रिकेटर के बारे में पूछे जाने पर वो माफी मांगती दिखी थीं, लेकिन अब एक्ट्रेस ने इंस्टाग्राम पर स्पष्टीकरण जारी किया और कहा कि यह माफी उन्होंने ऋषभ पंत से नहीं मांगी थी।उर्वशी ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरीज पर लिखा, “इन दिनों ऑफिशियल न्यूज आर्टिकल और तथाकथित मीम पेज (सबसे खराब मार्केटर्स) फिल्मों या टीवी शो की तुलना में और अधिक स्क्रिप्टेड हैं !!! यह सॉरी मेरे फैंस और प्रियजनों के लिए था क्योंकि मेरे पास कहने के लिए कुछ नहीं था… हैशटैग व्हाई द न्यूज इज नॉट द ट्रुथ, हैशटैग फाल्स मिसलीडिंग लाइट, हैशटैग ग्रेट स्क्रिप्ट, हैशटैग फैक्ट्स आर नॉट कॉपीराइटेबल”हाल ही में उर्वशी से बातचीत के दौरान ऋषभ पंत के लिए कोई मैसेज शेयर करने को कहा गया। इस पर एक्ट्रेस ने इंस्टेंट बॉलीवुड से कहा, 'सीधी बात नो बकवास। और इसलिए मैं कोई बकवास नहीं करूंगी" जब आगे पूछा गया कि क्या उनके पास ऋषभ के लिए कोई संदेश है, तो उन्होंने लगभग अपनी आँखें घुमा लीं और कहा , "मैं केवल इतना कहना चाहता हूं कि...उम्म...कुछ नहीं। आई एम सॉरी।"उर्वशी और ऋषभ की डेटिंग की अटकलें 2018 से शुरू हुईं, जब उन्हें मुंबई में रेस्टोरेंट, पार्टियों और सार्वजनिक कार्यक्रमों में साथ आते और जाते हुए देखा गया था। बाद में उनके ब्रेकअप की खबरें ऑनलाइन सामने आईं और दावा किया कि दोनों ने एक-दूसरे को व्हाट्सएप पर ब्लॉक कर दिया है। इसके बाद, 2019 में, ऋषभ ने डेटिंग अफवाहों का खंडन किया और प्रेमिका ईशा नेगी के साथ अपने संबंधों की घोषणा की।खबर फिर से शुरू हुई जब उर्वशी ने पिछले महीने कहा था कि एक "मिस्टर आरपी" उनसे मिलने के लिए होटल की लॉबी में लगभग 10 घंटे तक उसका इंतजार कर रहे थें, जब वह सो रही थीं। एक मीडिया प्रकाशन से बात करते हुए, उन्होंने कहा कि उन्हें इतने लंबे समय तक इंतजार करने के लिए बुरा लगा।इस पर प्रतिक्रिया देते हुए, ऋषभ ने कटाक्ष किया। इसमें लिखा था, “यह मजेदार है कि कैसे लोग केवल कुछ लोकप्रियता और सुर्खियों में आने के लिए इंटरव्यू में झूठ बोलते हैं। दुख की बात है कि कैसे कुछ लोग शोहरत और नाम के प्यासे होते हैं। भगवान उन्हें आशीर्वाद दें। उन्होंने अपने नोट में हैशटैग - 'मेरा पीछा छोड़ो बहन', और हैशटैग 'झूठ की भी सीमा होती है' भी जोड़ा। इसका जवाब देते हुए, एक्ट्रेस ने उन्हें 'छोटू भैया' कहते हुए बैट बॉल खेलने की सलाह दी थी।डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनयूक्रेन में आज कुछ बड़ा होने वाला है! भारतीयों को गाड़ी ना मिलने पर पैदल ही खारकीव छोड़ने की चेतावनी******Highlightsखारकीव में आज कुछ बड़ा होने वाला है और इस बीच 4 हजार हिंदुस्तानियों को भी जल्द से जल्द वहां से निकालना है। यूक्रेन संकट पर विदेश मंत्रालय ने बड़ा बयान जारी कर कहा है कि रूस के कहने पर हमने एडवाइजरी जारी की है। भारत को की ओर से बड़ा इनपुट मिला था। रूस ने बताया हम खारकीव पर बमबारी करेंगे। रूस ने रात साढ़े 9 बजे से पहले भारतीयों को खारकीव से निकालने को कहा है। में भारतीय दूतावास की ओर से जारी एडवाइजरी में कहा गया कि “खारकीव में मौजूद सभी भारतीयों के लिए तत्काल चेतावनी जारी की जाती है कि वह अपनी सुरक्षा के लिए तुरंत खारकीव छोड़ दें। यहां से वह पेसोचिन, बाबाये और बेज़ल्युदोवका की ओर जितनी जल्दी हो सके बढ़ें।” दूतावास की ओर से कहा गया कि हर हाल में उन्हें आज यूक्रेन के समयानुसार शाम 6 बजे तक शहर छोड़ना होगा।भारतीय दूतावास की ओर से जारी की गई दूसरी एडवाइजरी में कहा गया कि बिगड़ते हालातों को देखते हुए खारकीव में मौजूद सभी भारतीयों की सुरक्षा के लिए फिर दोहराया जा रहा है कि वह खारकीव छोड़ दें। जिन छात्रों को गाड़ियां या बसें नहीं मिल पा रही हैं या जो कि रेलवे स्टेशन पर हैं वह पेसोचिन जो कि 11 किमी दूर है, बाबाये 12 किमी और बेज़ल्युदोवका 16 किमी की ओर पैदल निकलें। दूतावास की ओर से एक बार फिर से ये कहा गया है कि सभी लोग किसी भी हाल में शाम 6 बजे से पहले खारकीव छोड़ दें।बता दें कि रूस ने भारत को 6 घंटे का सेफ पैसेज दिया था। रूस ने साफ साफ इनपुट दिए थे कि रात साढ़े 9 बजे तक भारतीयों को निकाल लीजिए। रूस ने साफ कहा कि आज रात ही खारकीव पर कब्ज़ा करेंगे। रूस के पैराट्रूपर्स खारकीव में पहुंच चुके हैं।वहीं, यूक्रेन संकट पर विदेश मंत्रालय ने बिफ्रिंग करते हुए बताया ऑपरेशन गंगा के तहत 17 हजार भारतीय लोगों को बचा कर लाया जा चुका है। 24 घंटे के अंदर भारतीय लोगों को लेकर 6 फ्लाइट भारत पहुंच चुकी हैं। अगले 24 घंटे में 15 विमान भारतीय छात्रों को लाने के लिए रोमानिया, हंगरी, स्लोवाकिया, पोलैंड जाएंगे। एयरफोर्स का एक और विमान देर रात पहुंचेगा। अगले 3 घंटे में भारतीयों को हर हाल में खारकीव छोड़ने की सलाह दी है।बता दें यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव में लगातार हालात बिगड़ रहे हैं। खारकीव में मंगलवार को हुई गोलाबारी में एक भारतीय छात्र की मौत हो गई थी जिसके बाद से ही यूक्रेन स्थित भारतीय दूतावास और ज्यादा सतर्क हो गया है। खारकीव में रूस की ओर से लगातार गोलाबारी की जा रही है। इसी बीच खारकीव के क्षेत्रीय पुलिस और खुफिया मुख्यालय पर हुए हमले का एक वीडियो ऑनलाइन प्रसारित हो रहा है, जिसमें दिख रहा है कि एक इमारत की छत विस्फोट से उड़ गई और उसकी ऊपरी मंजिल पर आग लग गई।

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनG-23 गुट का खुला ऐलान, सुधार की करते रहेंगे बात, पार्टी से निकाले जाने तक नहीं छोड़ेंगे कांग्रेस****** जी23 समूह कहे जाने वाले कांग्रेस के असंतुष्ट नेताओं ने हाल ही में हुए पांच राज्यों के चुनावों में पार्टी की अपमानजनक हार के बाद अपनी रणनीति तैयार करने के लिए के दिल्ली स्थित आवास पर बैठक की। जी23 असंतुष्टों के अलावा, कुछ और नेता बैठक में शामिल हुए, जिसमें मणिशंकर अय्यर, पटियाला के सांसद और पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह की पत्नी प्रणीत कौर, पूर्व राज्यसभा सदस्य पी.जे. कुरियन भी गुलाम नबी आजाद के आवास पर चल रही बैठक में शामिल हुए।कांग्रेस के G-23 नेताओं की बैठक में हुई चर्चा के दौरान सभी ने एक सुर में हर स्तर पर सामूहिक नेतृत्व और सामूहिक फैसले लेने के मॉडल को अपनाने पर जोर दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि सुधार की बात करते रहेंगे और पार्टी से निकाले जाने तक कांग्रेस नहीं छोड़ेंगे।बैठक के बाद इन नेताओं ने कहा, ‘‘हम कांग्रेस पार्टी के सदस्यों ने विधानसभा चुनाव के नतीजों और पार्टी से नेताओं के निकलने को लेकर विचार विमर्श किया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि कांग्रेस के लिए आगे बढ़ने का यही तरीका है कि सामूहिक और समावेशी नेतृत्व की व्यवस्था अपनाई जाए और हर स्तर पर निर्णय हो।’’ उनका यह भी कहना है, ‘‘भाजपा का विरोध करने के लिए जरूरी है कि कांग्रेस पार्टी को मजबूत किया जाए। हम मांग करते हैं कि कांग्रेस समान विचारधारा वाली सभी ताकतों के साथ संवाद की शुरुआत करे ताकि 2024 के लिए विश्वसनीय विकल्प पेश करने के लिए एक मंच बन सके।’’पंजाब की पूर्व सीएम राजिंदर कौर भट्टल, राज बब्बर और कुलदीप शर्मा भी बैठक में पहुंचे। बैठक में शंकर सिंह वाघेला और संदीप दीक्षित भी शामिल हुए। वाघेला पहले कांग्रेस में रहे हैं, लेकिन उनकी मौजूदा स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है।बता दें कि सीडब्ल्यूसी द्वारा के नेतृत्व का समर्थन किए जाने के बाद आगे की रणनीति तैयार करने के लिए बैठक की गई। यह समूह पहले ही कांग्रेस पार्टी के भीतर समान विचारधारा वाले नेताओं तक अपनी पहुंच बना चुका है।(इनपुट- एजेंसी)डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवन'बिग बॉस 15' में हाई ड्रामा, अभिजीत बिचुकले ने दी जहर खाने की धमकी******Highlights: 'बिग बॉस 15' के प्रतियोगी अभिजीत बिचुकले और देवोलीना भट्टाचार्जी के बीच विवाद कंट्रोल से बाहर होता जा रहा है। दरअसल, अभिजीत इतने उदास है कि वह जहर खाने को तैयार है। उनका कहना है कि वह घर के अंदर हो रही घटनाओं से खुश नहीं हैं।प्रतीक सहजपाल ने अभिजीत को चेतावनी दी कि वह कभी भी इस तरह के गलत काम में भाग लेने पर विचार न करें। उनका कहना है कि 'बिग बॉस' आपको घर छोड़ने के लिए कह सकता है। वह अफसाना खान की घटना का उदाहरण भी देते है और कैसे उसे घर छोड़ने के लिए मजबूर किया गया था।देवोलीना का कहना है कि अभिजीत के इरादे गलत हैं और वह उससे बात नहीं करेगी या ऐसी बातों के आधार पर उससे दोस्ती नहीं करेगी। हालांकि अभिजीत का कहना है कि वह कई बार माफी मांग चुके हैं लेकिन देवोलीना उनकी एक सुनने को तैयार नहीं हैं। प्रतीक देवोलीना को शांत होने के लिए कहता है।पिछले एपिसोड में अभिजीत को निशांत भट और प्रतीक सहजपाल से हस्तक्षेप करने और देवोलीना के साथ अपने मतभेदों को सुलझाने में मदद करने का अनुरोध करते हुए देखा गया। राजीव अदतिया अभिजीत को सलाह देते हैं कि वह आगे किसी भी विवाद से बचने के लिए देवोलीना से दूर रहें।

डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनCongress Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी से 'भारत जोड़ो' यात्रा के दौरान हुई शादी की बात तो दिया ये रिएक्शन, कांग्रेस नेता ने किया जिक्र******कांग्रेस ने कन्याकुमारी से कश्मीर तक 'भारत जोड़ो' यात्रा निकाली है। इस यात्रा का नेतृत्व कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कर रहे हैं। यह यात्रा तमिलनाडु से शुरू होकर केरल, कर्नाटक होती हुई जम्मू-कश्मीर तक जाएगी। इस दौरान राहुल गांधी के साथ हर जगह के लोग उनसे जुड़ रहे हैं। इस यात्रा के दौरान तमिलनाडु में एक ऐसा वाकया हुआ, जिसकी उम्मीद किसी ने भी नहीं की थी। दरअसल, इस यात्रा के तीसरे दिन राहुल गांधी मार्थन्डम में मनरेगा वर्करों से मिल रहे थे। इसमें महिला वर्कर भी थीं। इस दौरान राहुल गांधी से एक महिला ने ऐसा सवाल किया कि वो मुस्कुराने लगे।राहुल गांधी जब मनरेगा वर्करों से बातचीत कर रहे थे, तब एक महिला ने राहुल गांधी की शादी की बात छेड़ दी। इस घटना का जिक्र यात्रा में राहुल गांधी के साथ-साथ चल रहे वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने की है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर दो तस्वीरें पोस्ट की है। इन तस्वीरों में कुछ महिलाओं के साथ राहुल गांधी बातचीत कर रहे हैं।फोटो शेयर करने के साथ जयराम रमेश ने कैप्शन में लिखा है, "आज दोपहर मार्थन्डम में महिला मनरेगा वर्कर्स के साथ बीतचीत के दौरान एक महिला ने कहा कि वे जानती हैं कि राहुल गांधी तमिलनाडु से प्यार करते हैं और तमिलनाडु के लोग उनकी शादी तमिल लड़की से करने के लिए तैयार हैं। इसके बाद उन्होंने लिखा कि राहुल गांधी बहुत खुश लग रहे हैं। फोटो तो यही बयां कर रही है!गौरतलब है कि राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो' यात्रा का केरल में 19 दिन का सफर राजधानी तिरुवनंतपुरम के पारस्साला इलाके से रविवार सुबह शुरू हो गया। तीन घंटे की यात्रा का पहला चरण यहां नेय्यत्तिनकारा में पूर्वाह्न करीब साढ़े दस बजे समाप्त हुआ और तीन घंटे का दूसरा चरण शाम चार बजे शुरू हुई है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने यात्रा की तस्वीरें शेयर करते हुए कहा कि 'भारत जोड़ो' यात्रा को लेकर समाज का हर तबका उत्साहित है और यह किसानों, मजदूरों, युवाओं, महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों की भागीदारी और उत्साह से स्पष्ट हो चुका है।उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा, "देश के लोगों का संदेश स्पष्ट है- महंगाई, बेरोजगारी, आर्थिक संकट और विभाजनकारी राजनीति खत्म होनी चाहिए।" यात्रा को मिल रही प्रतिक्रिया से उत्साहित कांग्रेस ने ट्विटर पर लिखा, "मिल रहे हाथ, जुड़ रहे दिल। भारत को साथ ला रही भारत जोड़ो यात्रा।"केरल प्रदेश कांग्रेस समिति (केपीसीसी) के अध्यक्ष और सांसद के. सुधाकरन, राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता वी डी सतीशन और अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एआईसीसी) के महासचिव तारिक अनवर और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने राहुल गांधी का औपचारिक रूप से स्वागत किया, जिसके बाद केरल में यह यात्रा शुरू हो गई। राहुल गांधी का स्वागत करने वाले पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं में कांग्रेस सांसद के सी वेणुगोपाल और शशि थरूर के साथ ही केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी और रमेश चेन्नीथला शामिल रहे। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष का स्वागत करने के लिए समर्थकों की भारी भीड़ उमड़ी।डायबिटीजकेमरीजोंकाब्लडशुगरलेवलकंट्रोलकरनेमेंखीराहैबेहदअसरदारऐसेकरेंइसकासेवनRussia Putin: रूस पर हमला मतलब हमपर हमला... पुतिन के समर्थन में उतरा ये देश, सेना के कमांडर ने दुनिया को दे डाली धमकी******Highlightsरूस और यूक्रेन के बाची जारी युद्ध को 7 महीने का वक्त पूरा हो गया है। युद्ध की वजह से दुनिया की अर्थव्यवस्था काफी प्रभावित हो रही है और खाद्य संकट भी बढ़ गया है। जिसके चलते दुनिया के तमाम देश रूस से युद्ध रोकने की मांग कर रहे हैं। जबकि पश्चिमी देश यूक्रेन के समर्थन में खड़े हैं और लगातार रूस पर हमले के लिए यूक्रेन को हथियार मुहैया करवा रहे हैं। इन सबके बीच अफ्रीका के देश युगांडा ने खुलेआम रूस के प्रति अपना समर्थन जताया है और पूरी दुनिया को धमकी तक दे डाली है। युगांडा के सैन्य कमांडर ने कहा कि उनके देश की सेना रूस के खिलाफ आक्रामकता को अफ्रीकी महाद्वीप पर हमला मानेगी। कमांडर मुहुजी केनेरुगाबा ने कहा कि रूस ने कुछ गलत नहीं किया है, तो उसे किसी देश से डरने की जरूरत नहीं है।केनेरुगाबा ने शनिवार को ट्वीट करते हुए लिखा है, 'राष्ट्रपति पुतिन को परमाणु युद्ध की धमकी देने की जरूरत नहीं है। हम उन्हें सुन रहे हैं। रूस पर हमला अफ्रीका पर हमला माना जाएगा! युगांडा के राष्ट्रपति योवेरी मुसेवेनी ने ये बात जुलाई में अफ्रीका में सर्जेई लावरोव के दौरे के समय कही थी।' उन्होंने बताया कि मुसेवेनी ने रूसी विदेश मंत्री को आश्वासन दिया था कि अगर रूस गलतियां करेगा, तो हम उन्हें बताएंगे। लेकिन अगर वह कोई गलती नहीं करेगा, तो हम कभी उनके खिलाफ नहीं होंगे।केनेरुगाबा साल 1999 में युगांडा की सेना में शामिल हुए थे। उन्हें साल 2021 में युगांडा पीपुल्स डिफेंस फोर्स की ग्राउंड फोर्स का कमांडर नियुक्त किया गया था। वह राष्ट्रपति मुसेविनी के बेटे हैं। ऐसी स्थिति में उनके बयान को युगांडा का आधिकारिक पक्ष भी माना जा सकता है। युगांडा के पूर्व शासकभी पश्चिम के बजाय रूस के समर्थक रहे हैं। युगांडा अपने सैन्य हथियार भी रूस से ही खरीदता है।युगांडा के सैन्य प्रमुख का बयान ऐसे वक्त पर सामने आया है, जब रूस और पश्चिम के बीच तनाव लगातार बढ़ रहा है। रूस ने हाल में ही दोनेत्सक और लुंहास्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर और एलपीआर) में जनमत संग्रह करवाया है। मतदान में रूस के नियंत्रण वाले क्षेत्रों खेर्सोन और जपोरिजिया के लोगों ने भी हिस्सा लिया। ऐसी संभावना है कि रूस जल्द ही इन इलाकों को अपने देश का हिस्सा बनाए जाने का ऐलान कर देगा।रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 21 सितंबर को जनमत संग्रह के प्रति अपना समर्थन जताया था। उन्होंने जोर देकर कहा कि रूस अपनी क्षेत्रीय अखंडता को बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगा। उन्होंने कहा कि अगर हमारे देश की क्षेत्रीय अखंडता को खतरा पहुंचाया गया, तो निस्संदेह हम रूस और हमारे लोगों की रक्षा के लिए सभी उपलब्ध साधनों का उपयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि यह कोई धोखा नहीं है। पुतिन ने चेतावनी दी कि परमाणु हथियारों से हमें ब्लैकमेल करने की कोशिश करने वालों को पता होना चाहिए कि हम भी उनका इस्तेमाल कर सकते हैं।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:01
उद्धरण 1 इमारत
Jio ने तोड़ी Bharti Airtel की कमर, चालू वित्‍त वर्ष की पहली तिमाही में हुआ 2,866 करोड़ रुपए का घाटा******Bharti Airtel slips into red, posts Rs 2,866 cr loss in Q1टेलीकॉम ऑपरेटर ने गुरुवार को बताया कि वित्‍त वर्ष 2019-20 की पहली तिमाही (अप्रैल से जून) में उसे 2,866 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा हुआ है। कंपनी को यह नुकसान भारतीय टेलीकॉम मार्केट में रिलायंस जियो से मिल रही कड़ी प्रतिस्‍पर्धा की वजह से हुआ है। भारती एयरटेल ने एक बयान में कहा कि पिछले वित्‍त वर्ष की समान तिमाही में उसे 97 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। सुनील भारती मित्‍तल के नेतृत्‍व वाली कंपनी का राजस्‍व अप्रैल-जून, 2019 तिमाही में 4.7 प्रतिशत बढ़कर 20,738 करोड़ रुपए रहा, जो इससे पूर्व वित्‍त वर्ष की समान तिमाही में 19,799 करोड़ रुपए था।जून, 2019 तिमाही के लिए एयरटेल का इंडिया एवरेज रेवेन्‍यू पर यूजर 129 रुपए रहा, जो इससे पहले मार्च तिमाही में 123 रुपए था। एवरेज रेवेन्‍यू पर यूजर मोबाइल फोन ऑपरेटर के लिए एक प्रमुख प्रदर्शन सूचकांक है।तिमाही नतीजों पर बोलते हुए भारती एयरैअल के एमडी और सीईओ (इंडिया और साउथ एशिया) गोपाल विट्टल ने कहा कि साल की पहली तिमाही की शुरुआत हमारे सभी व्‍यवसायों में एक स्‍वस्‍थ और न्‍यायसंगत वृद्धि के साथ हुई है।उन्‍होंने कहा कि हम अपने रिवार्ड प्‍लेटफॉर्म एयरटेल थैंक्‍स के माध्‍यम से ग्राहकों को मूल्‍य प्रदान करने पर केंद्रित बने रहेंगे। इसने लगातार दूसरी तिमाही में एआरपीयू में वृद्धि की है।
2022-10-01 03:37
उद्धरण 2 इमारत
Hariyali Teej 2022: हरियाली तीज के खास मौके पर भूलकर न करें ये काम, वरना होगा अपशगुन!******Highlights: आज श्रवण शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि और रविवार का दिन है । आज हरियाली तीज है। तृतीया तिथि आज का पूरा दिन पार कर के कल भोर 4 बजकर 19 मिनट तक रहेगी । आज शाम 7 बजकर 1 मिनट तक व्यतिपात योग रहेगा । हरियाली तीज के दिन सुहागिनें अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं और सोलह श्रृंगार करती हैं। आज के दिन ज्यादातर महिलाएं पूरा दिन निर्जला व्रत रखती हैं। इसके अलावा कुंवारी कन्या भी इस व्रत को रखती हैं। ताकि उन्हें अच्छे वर की प्राप्ति हो।हिंदू धर्म में हर पूजा-पाठ का काफी महत्व होता है। धर्म-शास्त्र के अनुसार हरियाली तीज व्रत को रखने के कई नियम होते हैं। जिनका पालन यदि न किया जाए तो अपशगुन भी हो सकता है। इसलिए आपको कई बातों का खास ध्यान रखना होगा।
2022-10-01 03:28
उद्धरण 3 इमारत
Super Earth:सुपर अर्थ को लेकर वैज्ञानिकों की नई खोज से दुनिया को मिलेगी नई दिशा, जानें जीवन की संभावना कितनी******Highlightsखगोलविद अब नियमित रूप से सौर मंडल के बाहर तारों की परिक्रमा करने वाले ग्रहों की खोज करते हैं - उन्हें एक्सोप्लैनेट कहा जाता है, लेकिन 2022 की गर्मियों में, नासा के ट्रांजिटिंग एक्सोप्लैनेट सर्वेक्षण उपग्रह पर काम करने वाले दलों ने विशेष रूप से दिलचस्प कुछ ग्रहों को अपने मूल तारों के रहने योग्य क्षेत्रों में परिक्रमा करते हुए पाया। इनमें से एक ग्रह पृथ्वी से 30 प्रतिशत बड़ा है और तीन दिन से भी कम समय में अपने तारे की परिक्रमा करता है। दूसरा पृथ्वी से 70 प्रतिशत बड़ा है और वहां एक गहरे महासागर की मौजूदगी की संभावना है। ये दो एक्सोप्लैनेट सुपर-अर्थ हैं।ये सुपर अर्थ पृथ्वी से अधिक विशाल, लेकिन यूरेनस और नेपच्यून से छोटे हैं। पृथ्वी अभी भी ब्रह्मांड में एकमात्र ग्रह है जहां जीवन हैं। पृथ्वी के समरूप ग्रहों पर जीवन की खोज पर ध्यान केंद्रित करना तर्कसंगत प्रतीत होगा - ऐसे ग्रह जिनकी विशेषताएं पृथ्वी से मिलती-जुलती हैं। लेकिन अनुसंधान से पता चला है कि खगोलविदों को किसी अन्य ग्रह पर जीवन खोजने का सबसे अच्छा मौका हाल ही में पाए गए सुपर-अर्थ पर होने की संभावना है। सामान्य और खोजने में आसान अधिकतर सुपर-अर्थ ठंडे बौने तारों की परिक्रमा करते हैं, जिनका द्रव्यमान कम होता है और वे सूर्य की तुलना में अधिक समय तक जीवित रहते हैं।सूर्य की तरह हर तारे के लिए सैकड़ों ठंडे बौने तारे हैं, और वैज्ञानिकों ने सुपर-अर्थ को ऐसे 40 प्रतिशत ठंडे बौने तारों की परिक्रमा करते हुए पाया है, जिन्हें उन्होंने देखा है। उस संख्या का उपयोग करते हुए, खगोलविदों का अनुमान है कि रहने योग्य क्षेत्रों में दसियों अरबों सुपर-अर्थ हैं जहां अकेले आकाशगंगा में तरल पानी मौजूद हो सकता है। चूंकि पृथ्वी पर संपूर्ण जीव जगत पानी का उपयोग करता है, इसलिए पानी को रहने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। वर्तमान अनुमानों के आधार पर, सभी एक्सोप्लैनेट में से लगभग एक तिहाई सुपर-अर्थ हैं, जो उन्हें मिल्की वे में सबसे सामान्य प्रकार का एक्सोप्लैनेट बनाते हैं। निकटतम पृथ्वी से केवल छह प्रकाश वर्ष दूर है। आप यह भी कह सकते हैं कि हमारा सौर मंडल असामान्य है क्योंकि इसमें पृथ्वी और नेपच्यून के बीच द्रव्यमान वाला कोई ग्रह नहीं है।एक और कारण से सुपर-अर्थ जीवन की खोज में आदर्श लक्ष्य हैं क्योंकि वे पृथ्वी के आकार के ग्रहों की तुलना में पता लगाने और अध्ययन करने में बहुत आसान हैं। खगोलविद एक्सोप्लैनेट का पता लगाने के लिए दो विधियों का उपयोग करते हैं। एक अपने मूल तारे पर किसी ग्रह के गुरुत्वाकर्षण प्रभाव की तलाश करता है और दूसरा किसी तारे के प्रकाश के संक्षिप्त रूप से कम होने की तलाश करता है क्योंकि ग्रह उसके सामने से गुजरता है। ये दोनों पता लगाने के तरीके बड़े ग्रह के मामले में आसान हैं। सुपर-अर्थ इष्टतम रहने योग्य हैं 300 साल पहले, जर्मन दार्शनिक गॉटफ्रीड विल्हेम लिबनिज़ ने तर्क दिया था कि पृथ्वी "सभी संभव दुनियाओं में सर्वश्रेष्ठ" है। लिबनिज का तर्क इस सवाल का समाधान करने के लिए था कि बुराई क्यों मौजूद है, लेकिन आधुनिक खगोलविदों ने इसी तरह के सवाल का पता लगाया है कि क्या चीज ग्रह को जीवन के योग्य बनाती है। यह पता चला है कि पृथ्वी सभी संभव दुनियाओं में सर्वश्रेष्ठ नहीं है। पृथ्वी की विवर्तनिक गतिविधि और सूर्य की चमक में परिवर्तन के कारण, यहां समय समय पर जलवायु में बड़े पैमाने पर परिवर्तन हुआ है। पृथ्वी अपने 4.5 अरब साल के अधिकांश इतिहास के लिए मनुष्यों और अन्य बड़े जीवों के लिए निर्जन रही है। पृथ्वी पर दीर्घकाल तक जीवन की संभावना अपरिहार्य नहीं बल्कि एक संयोग थी।मनुष्य सचमुच भाग्यशाली है कि वह जीवित है। अनुसंधानकर्ता उन विशेषताओं की एक सूची लेकर आए हैं जो किसी ग्रह को जीवन के लिए बहुत अनुकूल बनाती हैं। बड़े ग्रह भूगर्भीय रूप से सक्रिय होने की अधिक संभावना रखते हैं, एक ऐसी विशेषता जिसके बारे में वैज्ञानिकों को लगता है कि यह जैविक विकास को बढ़ावा देगी। तो सबसे अधिक रहने योग्य ग्रह, पृथ्वी के द्रव्यमान का लगभग दोगुना होगा और आकार के हिसाब से 20 प्रतिशत से 30 प्रतिशत बड़ा होगा। इसमें ऐसे महासागर भी होंगे जो प्रकाश के लिए पर्याप्त रूप से समुद्र तल तक जीवन को उद्दीप्त करने के लिए पर्याप्त हैं और औसत तापमान 77 डिग्री फ़ारेनहाइट (25 डिग्री सेल्सियस) होगा। इसमें पृथ्वी की तुलना में सघन वातावरण होगा जो एक इन्सुलेटिंग कंबल के रूप में कार्य करेगा। अंत में, ऐसा ग्रह जीवन को विकसित होने में लंबा समय देने के लिए सूर्य से भी पुराने एक तारे की परिक्रमा करेगा, और उसके पास एक मजबूत चुंबकीय क्षेत्र होगा जो ब्रह्मांडीय विकिरण से बचाता है। वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि ये गुण मिलकर एक ग्रह को इष्टतम रहने योग्य बना देंगे। परिभाषा के अनुसार, सुपर-अर्थ में इष्टतम रहने योग्य ग्रह के कई गुण हैं।आज तक, खगोलविदों ने दो दर्जन सुपर-अर्थ एक्सोप्लैनेट की खोज की है, जो यदि सभी संभव दुनिया में सर्वश्रेष्ठ नहीं हैं, तो सैद्धांतिक रूप से पृथ्वी की तुलना में अधिक रहने योग्य हैं। हाल ही में, रहने योग्य ग्रहों की सूची में एक रोमांचक वृद्धि हुई है। खगोलविदों ने ऐसे एक्सोप्लैनेट की खोज शुरू कर दी है जिन्हें उनके स्टार सिस्टम से निकाल दिया गया है, और उनमें से अरबों आकाशगंगा में घूम सकते हैं। सुपर-अर्थ पर जीवन का पता लगाना दूर के एक्सोप्लैनेट पर जीवन का पता लगाने के लिए, खगोलविद बायोसिग्नेचर की तलाश करेंगे, जो जीव विज्ञान के ऐसे उत्पाद हैं जिनका किसी ग्रह के वातावरण में पता लगाया जा सकता है। रहने योग्य दुनिया में जीवन के संकेत नहीं होने के कई कारण हो सकते हैं । यदि आने वाले सालों में खगोलविदों को इन सुपर अर्थ पर कुछ नहीं मिलता है तेा मानवता हो सकता है कि इस निष्कर्ष पर पहुंचने को मजबूर हो जाए कि ब्रह्मांड निर्जन है।
वापसी