नई पोस्ट करें

FPI: 9 महीने बाद विदेशी निवेशकों का भारतीय बाजार पर लौटा भरोसा, इतने हजार करोड़ का किया निवेश

2022-10-01 06:02:34 337

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशRajya Sabha Election को लेकर महाराष्ट्र में रस्साकशी जारी, सबसे बड़ा सवाल- किसे मिलेगी 6वीं सीट******Highlights: महाराष्ट्र में शुक्रवार यानी कि जून को कुल 6 राज्यसभा सीटों के लिए 7 उम्मीदवारों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है। 6 राज्य सभा सांसदों को चुनने के लिए महाराष्ट्र के 285 विधायक मतदान करेंगे। बता दें कि महाराष्ट्र में कुल 288 विधायक थे, जिनमें से 2 विधायक नवाब मालिक और अनिल देशमुख जेल में हैं और कोर्ट ने उन्हें मतदान करने की इजाजत नहीं दी है। वहीं, शिवसेना के एक विधायक रमेश लटके का पिछले महीने निधन हो गया था। इस तरह राज्यसभा चुनाव में महा विकास आघाड़ी के 3 वोट कम हो गए हैं।विधायकों की वर्तमान 285 की संख्या के मुताबिक अब हर सीट जीतने के लिए 40.71 वोटों की जरूरत होगी। पहले एक सीट जीतने के लिए 42 वोटों की जरूरत थी। राज्य विधानसभा में बीजेपी के 106 विधायक हैं। इस आंकड़े के मुताबिक, बीजेपी के 2 सदस्य आराम से जीत जाएंगे। वहीं, एमवीए सरकार की सहयोगी पार्टियों में शिवसेना के 56, एनसीपी के 53 और कांग्रेस के 44 विधायक हैं। इस आंकड़े के मुताबिक, कांग्रेस, शिवसेना और NCP तीनो दलों के एक-एक राज्यसभा उम्मीदवार आसानी से जीत जाएंगे। में राज्यसभा की 6वीं सीट के लिए लड़ाई है जिसके लिए 2 उम्मीदवार मैदान में हैं- शिवसेना से संजय पवार और बीजेपी से धनंजय महाडिक। बीजेपी के पास अपने तीसरे उम्मीदवार के लिए 22 वोट हैं जबकि शिवसेना के पास अपने दूसरे उम्मीदवार के लिए 14 वोट है। बीजेपी को 6 निर्दलीय विधायकों का समर्थन है, और इस तरह बीजेपी की संख्या 113 तक पहुंच जाती है और अपने तीसरे उम्मीदवार के लिए उसके पास 29 वोट हो जाते हैं।वहीं, MVA के पास 169 वोट हैं, जिसमें 8 निर्दलीय और 8 छोटी पार्टियों के वोट शामिल हैं। अगल निर्दलीय और छोटी पार्टियों को छोड़ भी दिया जाए तो शिवसेना के पास दूसरी सीट के लिए 27 अतिरिक्त वोट हैं। इसमें निर्दलीय और छोटी पार्टियों के वोट जोड़ दें तो शिवसेना के दूसरे उम्मीदवार के कुल वोटों की संख्या 43 हो जाती है। ऐसे में शिवसेना के लिए अपनी दूसरी सीट जीतना मुश्किल नहीं लग रहा लेकिन अंतिम नतीजे आने के बाद ही महाराष्ट्र की 6वीं राज्यसभा सीट के विजेता का नाम पता चल पाएगा।इन चुनावों में एक-एक वोट की कितनी अहमियत है इसे चिंचवाड़-पुणे के बीजेपी विधायक लक्ष्मण जगताप के उदाहरण से समझा जा सकता है। जगताप बीमार हैं और उनका अमेरिका में इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को वोट डालने के लिए उन्हें एयर एंबुलेंस से मुंबई लाया जाएगा। राज्यसभा चुनाव के लिए कुल 7 उम्मीदवारो में बीजेपी के टिकट पर पीयूष गोयल, अनिल बोंडे और धनंजय महाडिक, शिवसेना से संजय राउत और संजय पवार, कांग्रेस से इमरान प्रतापगढ़ी और NCP से प्रफुल्ल पटेल ताल ठोक रहे हैं।बता दें कि के 44 विधायकों में ज्यादातर बाहरी चेहरे इमरान प्रतापगढ़ी को पार्टी द्वारा उम्मीदवार बनाये जाने से नाराज हैं। यही वजह है कि कांग्रेस को भीतरघात का भी डर सता रहा है। वैसे यह डर अलग-अलग कारणों से सभी पार्टियों में है और यह वजह है कि सूबे में इस समय होटल और रिजॉर्ट पॉलिटिक्स जोरों पर चल रही है।

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशNancy Pelosi: चीन के बाद अब किम जोंग भी नैंसी पेलोसी के विरोध में, अमेरिका के लिए कही ये बड़ी बात******Highlights अमेरिकी संसद की प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ने जब ताइवान की यात्रा की तो चीन उनसे खफा रहा। अब जब नैंसी पेलोसी दक्षिण कोरिया के दौरे पर हैं तो उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग उन उनसे नाराज़ है। उत्तर कोरिया ने तो बकायदा अमेरिका को कड़े शब्दों में संदेश भी दे दिया है कि वह इसका जवाब देगा।दरअसल, उत्तर कोरिया ने शनिवार को अमेरिकी सदन की स्पीकर नैंसी पेलोसी की पनमुनजोम के एक गांव की यात्रा की निंदा की जो अंतर-कोरियाई संघर्ष विराम क्षेत्र में आता है। योनहॉप न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, एक बयान में, उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय के प्रेस और सूचना विभाग के महानिदेशक जो योंग-सैम ने एक बयान में पेलोसी की इस बात के लिए आलोचना की कि वो दक्षिण कोरिया की अपनी यात्रा के दौरान उत्तर कोरिया के खिलाफ माहौल बना रही हैं।ताइवान की यात्रा के बाद वह बुधवार से यहां दो दिवसीय दौरे पर आई हैं। उन्होंने नेशनल असेंबली के स्पीकर किम जिन-प्यो के साथ बातचीत की और राष्ट्रपति यूं सुक-योल से फोन पर बात की। इसके बाद पेलोसी ने विसैन्यीकृत क्षेत्र (डीएमजेड) के अंदर पनमुनजोम के संयुक्त सुरक्षा क्षेत्र का दौरा किया। उत्तर कोरिया के अधिकारी ने प्योंगयांग द्वारा संचालित कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी को दिए गए बयान में कहा, यह "डीपीआरके के प्रति वर्तमान अमेरिकी प्रशासन की शत्रुतापूर्ण नीति" को प्रदर्शित करता है।जो ने कहा, पेलोसी "अंतरराष्ट्रीय शांति और स्थिरता के लिए सबसे खराब हैं" और कहा कि अप्रैल में यूक्रेन की अपनी यात्रा के दौरान रूस के साथ टकराव के माहौल को उकसाया था, और ताइवान के अपने हालिया दौरे से चीन को क्रोधित किया। उन्होंने चेतावनी दी कि "उनके लिए यह सोचना एक घातक गलती होगी कि वह कोरियाई प्रायद्वीप में बच के चली जाएंगी। वह जहां भी गईं, उनके द्वारा पैदा की गई परेशानी के लिए अमेरिका को भुगतना पड़ेगा।"ताइवान पर अपना दावा जताने वाले चीन ने पेलोसी की यात्रा को उकसावे की कार्रवाई बताया था और कहा था कि इसके गंभीर नतीजे भुगतने होंगे। चीन ने ताइवान को धमकाने के मकसद से गुरुवार को उसको चारों तरफ से घेरकर सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया था और मिसाइलें भी दागी थीं। बता दें कि चीन पहले ही कह चुका है कि अगर जरूरत पड़ी तो वह ताइवान पर हमला करके उसपर कब्जा कर लेगा। कई विशेषज्ञों का मानना है कि हमला करने की सूरत में पेलोसी की ताइवान यात्रा को एक बहाने के रूप में इस्तेमाल कर सकता है।महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशIran Nuclear Deal: एक बार फिर 'जिंदा' होगी ईरान न्यूक्लियर डील! ट्रंप की एक भूल के कारण घुटने पर बाइडेन, अब वियना में होगी आखिरी कोशिश******Highlights ईरान, अमेरिका और यूरोपीय संघ (ईयू) ने बुधवार को कहा कि वे ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर बातचीत के लिए अपने दूत वियना भेजेंगे। यह कदम वर्ष 2015 में ईरान और विश्व शक्तियों के बीच हुए परमाणु समझौते को बचाने की आखिरी कोशिश प्रतीत हो रही है। हालांकि, तत्काल स्पष्ट नहीं हो सका है कि इस ऐतिहासिक समझौते में शामिल अन्य पक्षकार भी अचानक हो रहे सम्मेलन में शामिल होंगे या नहीं। यह भी जानकारी नहीं मिली है कि दोहा में अमेरिका और ईरान के बीच हो रही परोक्ष वार्ता में कोई प्रगति हुई है या नहीं।अमेरिका ने 2018 में तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल में खुद को इस समझौते से बाहर कर लिया था। लेकिन अब अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति जो बाइडेन अमेरिका को समझौते में शामिल करने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं। वहीं वियना में होने वाली वार्ता की अध्यक्षता करने वाले यूरोपीय संघ के अधिकारी एनरिक मोरा ने ट्वीट किया कि बातचीत के केंद्र में हाल में समझौते को बहाल करने के लिए तैयार मसौदा रहेगा। वहीं, ईरान ने कहा कि वह अपने परमाणु वार्ताकार अली बाघेरी कानी को ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना भेज रहा है।ईरान के लिए नियुक्त अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि रॉब मैली ने भी ट्वीट किया कि वह भी वार्ता के लिए वियना जाने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने साथ ही आगाह किया कि वार्ता से पहले अमेरिका की ‘उम्मीदें सीमित हैं।’ मैली ने कहा, ‘अमेरिका ईयू की कोशिशों का स्वागत करता है और समझौते के लिए अच्छी भावना से कार्य करने के लिए तैयार है। जल्द ही पता चल जाएगा कि ईरान क्या ऐसी ही भावना के साथ तैयार है।’ उल्लेखनीय है कि इस समझौते को बहाल करने की कोशिश कुछ समय पहले तब खटाई में पड़ गई जब विभिन्न पक्ष अपने-अपने रुख पर अड़े रहे।ईरान ने भी मांग की कि अमेरिका गारंटी दे कि वह समझौते से फिर बाहर नहीं जाएगा और उसके अर्धसैनिक बल रिवल्यूशनरी गार्ड पर आतंकवाद को लेकर लगाए गए प्रतिबंधों को हटा लेगा। अचानक वियना में वार्ता की घोषणा ईयू के विदेश मामलों के प्रमुख जोसेफ बोरेल द्वारा गत हफ्तों में गतिरोध को दूर करने की लगातार की जा रही कोशिशों का नतीजा माना जा रहा है। उन्होंने हाल में ‘ द फिनेंशियल टाइम्स’ के लिए लिखे लेख में कहा था कि ‘अतिरिक्त अहम सुलह के लिए संभावनाएं क्षीण हो रही हैं।’अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वर्ष 2018 में ईरान के साथ हुए परमाणु समझौते से अमेरिका के अलग करने की घोषणा की थी। इस समझौते में ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर रोक के एवज में उसके खिलाफ लगे कई प्रतिबंधों को हटा लिया गया था। परमाणु अप्रसार विशेषज्ञों के मुताबिक अमेरिका के समझौते से अलग होने के बाद ईरान ने बड़े पैमाने पर परमाणु गतिविधियों को शुरू किया। उसने समझौते की शर्तों का खूब उल्लंघन किया है और उसके पास एक परमाणु हथियार बनाने के लिए पर्याप्त उच्च परिष्कृत यूरेनियम भी मौजूद है।

FPI: 9 महीने बाद विदेशी निवेशकों का भारतीय बाजार पर लौटा भरोसा, इतने हजार करोड़ का किया निवेश

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेश694 रुपये वाला LPG सिलेंडर लेने पर वापस मिलेंगे 500 रुपये, Paytm ने पेश किया कैशबैक ऑफर******Paytm offers cashback of up to Rs 500 on LPG cylinderमोबाइल पेमेंट कंपनीPaytm ने अपने एप के जरिये एलपीजी सिलेंडर की बुकिंग करने पर उपभोक्‍ताओं को 500 रुपये तक का कैशबैक देने का एक ऑफर पेश किया है। हालांकि यह ऑफर एप के जरिये पहली बार एलपीजी सिलेंडर बुकिंग करने वाले उपभोक्‍ताओं के लिए ही है। यदि आप पेटीएम एप के जरिये इंडेन या भारत गैस सिलेंडर को बुक करते हैं, तो पेटीएम आपको 500 रुपये तक का कैशबैक देगी। उल्‍लेखनीय है कि 14.2 किलोग्राम वाले बिना सब्सिडी वाले एलपीजी रसोई गैस सिलेंडर का वर्तमान बाजार मूल्‍य दिल्‍ली और मुंबई में 694 रुपये है। यदि किसी यूजर को 500 रुपये का कैशबैक मिलता है तो उसे केवल 194 रुपये का पड़ेगा। भारत में रसोई गैस के दामों में मौजूदा उछाल को अंतरराष्ट्रीय बाजार के कारकों से जोड़ते हुए केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बुधवार को कहा कि ठंड के मौसम के दौरान वैश्विक मांग में इजाफे के चलते देश में भी इस घरेलू ईंधन की कीमतें बढ़ी हैं। उन्होंने हालांकि उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में देश में रसोई गैस के दाम कम हो जाएंगे। रसोई गैस की बढ़ती महंगाई के बारे में पूछे जाने पर प्रधान ने यहां संवाददाताओं से कहा कि देश में रसोई गैस के दाम लगातार नहीं बढ़ रहे हैं। हालांकि, मैं स्वीकार करता हूं कि इस महीने रसोई गैस की कीमतें बढ़ी हैं। उन्होंने कहा, दुनिया भर में ठंड के मौसम के दौरान एलपीजी (रसोई गैस) की खपत बढ़ जाती है। समय-समय पर एलपीजी की मांग बढ़ने के कारण अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसके दामों में इजाफा हो जाता है। नतीजतन महंगे दामों पर आयात के चलते भारत में भी ग्राहकों के लिए इसके दामों वृद्धि करनी पड़ती है।महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशपूर्वी लद्दाख में पीछे हटने लगे चीनी सैनिक, खत्म होगा करीब दो साल से चल रहा गतिरोध******Highlightsभारत चीन की सेनाओं के बीच एक बड़ी ख़बर सामने आयी है। इंडिया TV को मिली जानकारी के मुताबिक़ दोनों देशों की सेनाएं पेट्रोलिंग पॉइंट पंधरा यानी गोगरा हॉटस्प्रिंग से अपने-अपने सैनिकों को पीछे करेंगी। इस समय दोनों सेनाएं आमने सामने थीं और सौ से डेढ़ सौ की संख्या में अपनी फॉरवर्ड लोकेशन पर तैनात थीं। लेकिन सोलहवीं कोर कमांडर लेवल की बातचीत के बाद ये तय किया गया कि अब दोनों सेनाएं पीछे जाएंगी। आज से इसकी शुरुआत हो गई है।दोनों देशों के 16वी कोर कमांडर लेवल की बातचीत के बाद अब इसे सरकार की डिप्लोमेसी की एक बड़ी जीत मानी जा रही है। इसे ईस्टर्न लद्दाख के इलाक़े में चीन के साथ जो बाक़ी फ्रिक्शन पॉइंट हैं उनके परमानेंट सॉल्युशन के तौर पर देखा जा रहा है। इंडिया TV को मिली जानकारी के मुताबिक़ कोर कमांडर लेवल एक में कुल मिला कर चीन की तरफ़ से 21 सदस्यीय डेलिगेशन थी, जिसमें चीन के वर्किंग कमेटी, नेशनल डिफेंस मिनिस्ट्री, सीनियर आर्मी डेलीगेशन शामिल था।रक्षा मंत्रालय के टॉप सोर्सेज द्वारा बताया गया है कि इस समय चीन भी इन सभी मुद्दों का शांतिपूर्ण हल चाहता है। इसीलिए अब नॉर्थ और साउथ पैंगोंग Tso, गलवान, गोगरा, हॉटस्प्रिंग के साथ-साथ और भी विवादित इलाकों में वह शांतिपूर्ण समझौते की तरफ़ आगे बढ़ रहा है। ये इलाके डेमचौक, देप्सांग और चुमार हैं। इसके अलावा तमाम सीमा विवादों पर दोनों देश फ़ुल टाइम सॉल्युशन की तरफ़ आगे बढ़ रहे हैं।दोनों सेनाओं ने एक संयुक्त बयान में कहा कि पीछे हटने की प्रक्रिया की शुरुआत जुलाई में हुई 16वें दौर की उच्चस्तरीय सैन्य वार्ता का परिणाम है। बयान में कहा गया, "भारत-चीन के बीच 16वें दौर की कोर कमांडर स्तर की बैठक में बनी सहमति के अनुसार, आठ सितंबर 2022 को गोगरा-हॉटस्प्रिंग्स (पीपी-15) क्षेत्र से भारतीय और चीनी सैनिकों ने समन्वित एवं नियोजित तरीके से पीछे हटना शुरू कर दिया है जो सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति और स्थिरता के लिए अच्छा है।"उज्बेकिस्तान में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के वार्षिक शिखर सम्मेलन से लगभग एक सप्ताह पहले सेनाओं के पीछे हटने की प्रक्रिया की घोषणा की गई है। सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग शामिल होंगे। ऐसी अटकलें हैं कि दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय बैठक हो सकती है। हालाँकि, ऐसी संभावना को लेकर कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है।महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशAzamgarh News: शादी की सालगिरह मना रहे लोगों को गाड़ी ने रौंदा, पिता-पुत्र समेत 3 की मौत******Highlightsयूपी के जिले के तहबरपुर थाना अंतर्गत ईश्वरपुर खास गांव में सोमवार की रात शादी की सालगिरह का जश्न मना रहे लोगों को एक पिकअप वाहन ने रौंद दिया जिससे पिता-पुत्र समेत तीन लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है और अधिकारियों को घायलों का समुचित इलाज सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।घटना सोमवार की रात लगभग 11 बजे की हैबाहर खड़ी पिकअप किसी तरह स्टार्ट हो गई और घर के बाहर बैठे लोगों को रौंद दिया। हादसे की वजह से गांव में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है कि नशे में धुत पिकअप चालक ने शादी की सालगिरह का जश्न मना रहे लोगों को रौंद दिया। इसमें पिता पुत्र समेत तीन लोगों की मृत्यु हो गई। मृतकों में हरिराम (45) और उनका पुत्र अंगद (18) और रामसमुझ (17) शामिल है। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है।लखनऊ में एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि सीएम योगी ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है और मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने अधिकारियों को घायलों का समुचित इलाज सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया।बरेली में भी आज बड़ा सड़क हादसा हो गया है। जिले के इज्जत नगर थाना क्षेत्र के लालपुर चौकी अहलादपुर के करीब लखनऊ-दिल्ली राजमार्ग पर मंगलवार सुबह एक ट्रक ने कार को टक्कर मार दी जिससे कार में सवार पांच लोगों की मौत हो गई। कार में सवार पांच लोग उत्तराखंड के रामनगर के निवासी थे और उत्तर प्रदेश के बिलग्राम (हरदोई) जा रहे थे।मंगलवार सुबह लगभग 3:30 बजे कार का टायर अचानक फट गया जिसके बाद कार अनियंत्रित हो गई और दूसरी ओर पहुंच गई। तभी सामने से आ रहे एक ट्रक ने कार को टक्कर मार दी। इस टक्कर में कार में सवार पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। मृतकों में मोहम्मद सागीर (35), मुजम्मी (36), मोहम्मद ताहिर (40), इमरान खान (38) और मोहम्मद फरीद (35) शामिल हैं।

FPI: 9 महीने बाद विदेशी निवेशकों का भारतीय बाजार पर लौटा भरोसा, इतने हजार करोड़ का किया निवेश

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशNH-9: गाजियाबाद से दिल्ली / नोएडा जाने वालों के लिए अलर्ट! आज से 10 नवंबर तक बंद रहेगा हाईवे का ये हिस्सा******अगर आप गाजियाबाद से नोएडा, दिल्ली को जोड़ने वाले NH-9 / NH-24 का प्रयोग हर रोज आने-जाने के लिए करते हैं तो आपके लिए गाजियाबाद ट्रैफिक पुलिस की तरफ से अलर्ट है। दरअसल गाजियाबाद ट्रैफिक पुलिस ने एडवाईजरी जारी कर बताया है कि तिगरी अंडरपास और राहुल विहार अंडर पास की ओर जाने वाले मार्ग (सर्विस रोड) पर NHAI द्वारा गंगाजल परियोजना की पाइप लाइन की मरम्मत का काम आज से लेकर 10 नवंबर तक किया जाएगा। इसे देखते हुए इस हिस्से के ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया जाएगा।महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेश'अमित शाह पहनते हैं 80,000 रुपये का मफलर', T Shirt Controversy पर गहलोत का पलटवार******Highlights राहुल गांधी की 'महंगी' टी शर्ट को लेकर बीजेपी नेताओं के सवाल उठाए जाने पर पलटवार करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को दावा किया कि गृह मंत्री (Amit Shah) के मफलर की कीमत 80,000 रुपये है, जबकि बीजेपी नेता ढाई-ढाई लाख रुपये के चश्मे पहनते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ काफी कामयाब हो रही है और इससे बीजेपी के नेता बौखला गए हैं। गहलोत ने चुरू में संवाददाताओं से कहा, ‘‘(भाजपा नेता) एक टी-शर्ट को लेकर बातें कर रहे हैं, जबकि इनके चश्मे ढाई-ढाई लाख रुपये के हैं...इनका मफलर 80000 रुपये का है जो हमारे गृह मंत्री लगाते हैं...तो इस प्रकार की बातें बोलकर ये लोग क्‍या चाहते हैं? टी-शर्ट पर राजनीति कर रहे हैं ये लोग।’’आपको बता दें कि हाल ही में जोधपुर दौरे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बीजेपी के बूथ कार्यकर्ता संकल्प महासम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि, अभी-अभी राहुल बाबा, भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं। विदेशी टी-शर्ट पहनकर वह भारत जोड़ने निकले हैं।गौरतलब है कि द्वारा यात्रा के दौरान कथित तौर पर बरबेरी ब्रांड की महंगी टी शर्ट पहनने को लेकर बीजेपी उन पर निशाना साध रही है, जिसकी कीमत 41,000 रुपये से ज्यादा बताई जाती है। बीजेपी के कई नेताओं ने राहुल गांधी के टी-शर्ट की फोटो डालते हुए उसकी कीमत बताते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा था।गहलोत ने यात्रा के बारे में पूछे जाने पर संवाददाताओं से कहा, ‘‘(यात्रा) बहुत कामयाबी के साथ चल रही है। जनता से बहुत शानदार प्रतिक्रिया मिली है। राहुल गांधी जो संदेश जो दे रहे हैं जनता उसे अपना रही है।’’ गहलोत ने कहा,‘‘ प्रधानमंत्री हों या गृह मंत्री या भाजपा के अन्य नेता, सभी भारत जोड़ो यात्रा से बौखलाकर गांधी पर हमले कर रहे हैं। उनके पास कोई दूसरा काम नहीं है क्या? ये लोग टी-शर्ट पर राजनीति कर रहे हैं।’’

FPI: 9 महीने बाद विदेशी निवेशकों का भारतीय बाजार पर लौटा भरोसा, इतने हजार करोड़ का किया निवेश

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशShani Vakri Gochar: 5 जून से शनि चलेंगे उल्टी चाल, इन 5 राशियों पर पड़ सकता है बुरा प्रभाव******नौ ग्रहों में से एक बहुत ही महत्वपूर्ण ग्रह है शनि ग्रह। 5 जून 2022 को शनि वक्री हो रहे हैं और 141 दिन तक वक्री अवस्था में ही रहेंगे। यानि कि 23 अक्टूबर 2022 तक शनिदेव वक्री अवस्था में ही रहेंगे। इसी दौरान पुनः 12 जुलाई 2022 को शनिदेव मकर राशि में गोचर करेंगे, उसके बाद पुनः 17 जनवरी को कुंभ राशि में शनि देव गोचर करेंगे। 12 जुलाई 2022 से पुनः धनु, मकर और कुंभ राशि वालों की साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। शनि ग्रह न्यायाधीश हैं और जातक को उनके कर्मों के अनुसार कष्ट या सजा देते हैं। तो शनिदेव की उल्टी चाल का आपकी राशि पर क्या प्रभाव पड़ेगा, जानते हैं ज्योतिषी पंडित मनोज कुमार मिश्रा से।मेष राशि वाले जातकों को आर्थिक कष्टों का सामना करना पड़ सकता है। बिजनेस व्यापार में भी नुकसान हो सकता है । यदि किसी प्रकार का इन्वेस्टमेंट हो तो उस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है और नया इन्वेस्टमेंट से कुछ दिनों के लिए सावधान रहना चाहिए । प्रतियोगिता परीक्षा में भी सफलता पाने के लिए मेहनत ज्यादा करना पड़ेगी।अपने कार्य पर ध्यान देना चाहिए । काम पूरी ईमानदारी से करना होगा। समस्याएं आ सकती है। किसी भी प्रकार का गलत काम न करें वरना फंसने का डर बना रहेगा। अपने पिता का सम्मान करें और उनका आशीर्वाद लें। सफलता प्राप्त करने के लिए संघर्ष करना पड़ेगा कोई नया इन्वेस्टमेंट करने के लिए शुभ समय नहीं है।अचानक काम बिगड़ने लगेंगे, कुछ समस्या का अनुभव होगा। कुछ दिनों बाद सब ठीक-ठाक हो जाएगा। मेहनत पहले से ज्यादा करना पड़ेगी। ईमानदारी से कार्य करने से सफलता मिल जाएगी, लेकिन किसी प्रकार का गलत कार्य न करें वरना बदनामी हो सकती है। प्रतिष्ठा में खतरा बना रहेगा।तरक्की और प्रमोशन हो सकते हैं। कार्य में सफलता मिलेगी। सेहत में सुधार होगा। कोई यात्रा भी कर सकते हैं। लेकिन वाणी पर संयम रखना चाहिए वरना रिश्ता खराब हो जाएगा। इन्वेस्टमेंट सोच समझकर कर सकते हैं ।पत्नी या प्रेमिका से रिश्ता अच्छे बन सकते हैं। पुरानी कोई समस्या खत्म हो जाएगी। बिजनेस व्यापार में भी तरक्की होने के संकेत हैं। लेकिन अति उत्साह में कोई गलत कार्य नहीं करना चाहिए वरना व्यापार में धोखा खा सकते हैं।अचानक कोई अच्छी खबर मिलेगी। नौकरी में प्रमोशन भी हो सकता है। नई नौकरी भी मिल सकती है। शुभ कार्यों पर पैसे खर्च होंगे और विदेश जाने का भी प्लान बन सकता है। इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं।संतान पक्ष से कुछ समस्या आ सकती है। कोई चलती हुई पुरानी योजना अचानक टेंशन दे सकती है, लेकिन बुद्धि से काम लेने में लेने पर सफलता मिल जाएगी। इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं लेकिन नए इन्वेस्टमेंट के लिए कुछ दिन रुकना अच्छा रहेगा।घर वाहन खरीदने में जल्दी बाजी न करें वरना धोखे का शिकार हो सकते हैं। माताजी के सेहत के प्रति सावधान रहें। प्रॉपर्टी में इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं, लेकिन नौकरी पूरी ईमानदारी से करना है वरना समस्या का संकेत मिल रहा है।आपके पराक्रम में वृद्धि होगी। भाई बहनों का पूर्ण सहयोग मिलेगा लेकिन रिश्तेदारों से समस्या आ सकती है। किसी भी प्रकार का अनैतिक कार्य न करें वरना कानूनी समस्या में फंस सकते हैं। नौकरी व्यापार में सफलता मिलेगी।उधार देने से बचना चाहिए वरना धन वापस लेने में कठिनाई हो सकता है। सेहत के प्रति सावधान रहें। लंबी दूरी की यात्रा से बचें। इन्वेस्टमेंट सोच समझ कर करना चाहिए वरना नुकसान हो सकते हैं।अचानक स्वास्थ्य में समस्या आ सकती है। मन में घबराहट बेचैनी भी हो सकती है। अचानक खर्च बढ़ने से समस्या भी आ सकती है। बजट बिगड़ सकता है। इन्वेस्टमेंट के लिए शुभ समय नहीं है।अचानक खर्च बढ़ सकता है। एक्सपोर्ट इंपोर्ट के बिजनेस व्यापार में नुकसान हो सकता है। विदेश जाने में वीजा का समस्या भी आ सकती है। सेहत के प्रति सावधान रहें और समुद्री यात्रा करने से बचना चाहिए।

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशपाकिस्तान 360 भारतीय कैदियों को करेगा रिहा, सोमवार से शुरू होगी रिहाई****** पाकिस्तान की जेलों में बंद 360 की जल्द रिहाई होने जा रही है। पाकिस्तान ने सजा पूरी हो चुके 360 भारतीय कैदियों को रिहा करने का फैसला किया है, न की खबर के मुताबिक मानवता के आधार पर यह कदम उठाया जा रहा है, यह रिहाई 8 अप्रैल यानि सोमवार से शुरू हो जाएगी।रेडियो पाकिस्तान की खबर के मुताबिक वहां के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि मौजूदा समय में पाकिस्तान की जेलों में कुल 537 भारतीय कैदी बंद हैं जिनमें 483 मछुआरे और 54 अन्य नागरिक हैं। खबर के मुताबिक सोमवार को 100 भारतीय मछुआरों को छोड़ा जाएगा और और अगले 100 मछुआरों की रिहाई 15 अप्रैल को की जाएगी। इससे अगले हफ्ते यानि 22 अप्रैल को 100 और मछुआरे और 29 अप्रैल को 5 मछुआरे तथा 55 अन्य नागरिकों की रिहाई की जाएगी। कुल मिलाकर 360 भारतीय कैदियों की रिहाई होगी।खबर के मुताबिक पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने यह भी बताया कि भारत की जेलों में पाकिस्तान के 347 कैदी बंद हैं जिनमें 249 मछुआरे और 98 अन्य पाकिस्तानी नागरिक हैं।महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशIndependence day 2018: पुरानी रफ्तार से चलते तो कई काम पूरा करने में दशकों लग जाते, चार साल में बहुत कुछ बदला: मोदी******प्रधानमंत्री ने आज कहा कि अगर हम साल 2013 की रफ्तार से चलते तो कई काम पूरा करने में दशकों लग जाते, लेकिन चार साल में बहुत कुछ बदला और देश आज बदलाव महसूस कर रहा है। देश के 72वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ऐतिहासिक लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित कर रहे मोदी ने कहा, ‘‘ चार साल में देश बदलाव महसूस कर रहा है। आकाश वही है पृथ्वी वही है, लोग, दफ्तर सब कुछ पहले जैसा है लेकिन अब देश बदल रहा है।’’ उन्होंने कहा कि देश की अपेक्षाएं और आवश्यकताएं बहुत हैं, उन्हें पूरा करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को निरंतर प्रयास करना है।मोदी ने कहा कि उनका मंत्र ‘सबका साथ, सबका विकास’ है और इसमें कोई ‘तेरा..मेरा नहीं और कोई भाई भतीजावाद’ नहीं होगा । हर भारतीय का कौशल विकास हो, हर भारतीय को आवास मिले, हर भारतीय को सुरक्षा मिले, इस मंत्र को लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज पूरी दुनिया भारत को उम्मीद भरी नज़रों से देख रही है। आज हम कारोबार की सुगमता में अच्छी रैंकिंग पर पहुंचे हैं, हर कोई आज भारत की ‘रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म’ नीति की तारीफ कर रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि नयी ऊर्जा और परिश्रम की पराकाष्ठा के साथ देश नयी ऊंचाईयां हासिल कर रहा है।मोदी ने कहा, ‘‘ हम कड़े फैसले लेने की सामर्थ्य रखते हैं क्योंकि हमारे लिये देश हित सर्वोपरि है, दलहित हमारे लिये मायने नहीं रखता है।’’ उन्होंने कहा कि हाल ही में संपन्न संसद का मानसून सत्र पूरी तरह से सामाजिक न्याय को समर्पित था, जहां दलित, शोषित, पीड़ित वंचित वर्गों के हितों पर संवेदनशीलता का परिचय दिया गया और ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा देने संबंधी विधेयक पारित हुआ। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ हम चाहते हैं कि दुनिया में भारत की न केवल अपनी साख हो बल्कि उसकी धमक भी हो।’’ उन्होंने कहा कि गरीबों को न्याय मिले, जन जन को आगे बढ़ने का मौका मिले, मध्यम वर्ग को आगे बढ़ने में कोई समस्या न आये, यह हमारा प्रयास है।उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 से अब तक वह अनुभव कर रहे हैं कि सवा सौ करोड़ देशवासी सिर्फ सरकार बनाकर रुके नहीं, बल्कि वे देश बनाने में जुटे हैं। मोदी ने कहा कि वर्षों से किसानों को उनकी फसल की लागत का डेढ़ गुना एमएसपी देने की मांग थी जिसे हमने पूरा किया। उन्होंने कहा कि शुरू में कठिनाइयों के बावजूद देश ने जीएसटी को अपनाया और व्यापारियों का भरोसा बढ़ा है। उन्होंने कहा कि जब हौसले बुलंद होते हैं, देश के लिए कुछ करने का इरादा होता है तो बेनामी संपत्ति का कानून भी लागू होता है। मोदी ने कहा कि कभी भारत की गिनती कमजोर अर्थव्यवस्थाओं में होती थी लेकिन आज देश अरबों डालर के निवेश का बेहतर गंतव्य बन गया है।उन्होंने कहा कि बदलाव का ही नतीजा है कि दुनिया के नेतृत्वकर्ता भारत के लिये कह रहे हैं कि सोया हुआ हाथी अब जाग चुका है, आने वाले तीन दशक तक भारत विश्व को गति देगा। ऐसा विश्वास आज भारत के लिये पैदा हुआ है। उन्होंने कहा कि दुनिया भर के अर्थशास्त्री अब मानने लगे हैं कि भारत अगले तीन दशक तक वैश्विक अर्थव्यवस्था को गति देता रहेगा। मोदी ने कहा कि वर्ष 2014 से पहले दुनिया की गणमान्य संस्थाएं और अर्थशास्त्री हमारे देश के लिए कहते थे कि हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था में बहुत जोखिम है। वही लोग आज हमारे सुधारों की तारीफ कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि एक समय था जब पूर्वोत्तर को लगता था कि दिल्ली बहुत दूर है लेकिन हमने दिल्ली को पूर्वोत्तर के दरवाजे पर खड़़ा कर दिया है। पूर्वोत्तर में आज हाईवेज़ से लेकर ई.वेज़ तक की चर्चा हो रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि मुद्रा योजना के तहत 13 करोड़ लोगों और उद्यमियों को कर्ज दिये गये जिनमें से चार करोड़ नौजवनों ने पहली बार कर्ज लिया और स्वरोजगार को बढ़ाया। उन्होंने कहा कि मैं बेचैन हूं, देश को आगे ले जाने के लिये, बच्चों को कुपोषण से मुक्त बनाने के लिये। मैं व्यग्र हूं ताकि देश के लोगों को जीवन जीने की सुविधा मिल सके।

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशAAP Over Manish Sisodia Claims: सिसोदिया को मिले ऑफर पर AAP का दावा, BJP की रिकॉर्डिंग हमारे पास, समय आने पर करेंगे जारी******Highlightsआम आदमी पार्टी (AAP) के पास दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को बीजेपी के उस प्रस्ताव की ऑडियो रिकॉर्डिंग है, जिसमें कहा गया है कि अगर सिसोदिया पार्टी बदलते हैं, तो उनके खिलाफ सभी मामले वापस ले लिए जाएंगे। यह जानकारी अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली पार्टी के सूत्रों ने सोमवार को दी। उन्होंने कहा कि आप ऑडियो रिकॉर्डिंग को समय आने पर सार्वजनिक करेगी।सूत्रों में से एक ने बताया, "हमारे पास बीजेपी की पेशकश की ऑडियो रिकॉर्डिंग है और समय आने पर हम भगवा पार्टी का पर्दाफाश करने के लिए इसे सार्वजनिक करेंगे।" आप नेताओं ने सिसोदिया के दावों का समर्थन किया है, लेकिन न तो उन नेताओं ने और न ही उपमुख्यमंत्री ने बीजेपी के उस व्यक्ति के नाम का खुलासा किया, जिसने उनसे इस तरह के प्रस्तावों के लिए संपर्क किया था।एक संवाददाता सम्मेलन में आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने इस सवाल का सीधा जवाब देने से परहेज किया कि सिसोदिया कैसे बीजेपी के 'प्रस्ताव' को रिकॉर्ड करने में कामयाब रहे, जब सीबीआई ने उनका मोबाइल फोन जब्त कर लिया था। सिंह ने कहा, "(क्या) फोन ही एकमात्र माध्यम है? बीजेपी नेताओं को यह नहीं पता कि वे इस तरह के काम के लिए किस-किस माध्यम का उपयोग करते हैं? बीजेपी ऐसे कार्यों के लिए फोन, संदेशवाहक, बैठकों जैसे हर तरह के हथकंडे, उपकरण और साधन का उपयोग करती है।" उन्होंने कहा कि जब समय आएगा, तो सबकुछ खुलासा हो जाएगा।गौरतलब है कि दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दावा किया कि बीजेपी ने उन्हें आम आदमी पार्टी (आप) तोड़ने पर मुख्यमंत्री का पद देने की पेशकश की थी। सिसोदिया ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि वह तब हैरान रह गए, जब एक व्यक्ति उनके पास यह संदेश लेकर आया कि उनके लिए बीजेपी की ओर से दो प्रस्ताव हैं। सिसोदिया ने दावा किया, "संदेश वाहक ने कहा कि एक प्रस्ताव यह है कि सीबीआई-ईडी (CBI-ED) की ओर से आपके खिलाफ दर्ज सभी बड़े मामले वापस ले लिए जाएंगे। दूसरी पेशकश यह थी कि मैं पार्टी तोड़ दूं और वे मुझे मुख्यमंत्री बनाएंगे।"महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशMaruti Suzuki ने शुरू किया जीरो डाउनपेमेंट ऑफर, चुनिंदा मॉडल्स पर मिल रहा है एक लाख तक का बड़ा डिस्काउंट****** केंद्र सरकार द्वारा की गई नोटबंदी और उसके बाद नए नोट मिलने में आ रही दिक्कतों के चलते कार कंपनियों को भी बिक्री गिरने का डर सताने लगा है। इसीलिए देश की सबसे बड़ी ऑटो मैन्युफैक्चरिंग कंपनी Maruti Suzukiने चुनिंदा मॉडल्स पर बिना किसी डाउनपेमेंट के कार खरीदने का नया ऑफर शुरू किया है। हालांकि यह ऑफर सिर्फ 30 नवंबर तक ही लागू है।ford driverless carBest SUV: रेनॉल्‍ट डस्टर AT और हुंडई क्रेटा के बीच है कड़ा मुकाबला, जानिए आपके लिए कौन है बेहतरbaleno

महीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेश16 मई को लॉन्‍च होगा HTC का फोल्‍डेबल स्‍मार्टफोन HTC U, 16MP फ्रंट कैमरे से है लैस****** ताइवान की उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी HTC ने घोषणा की है कि उसका अगला फ्लैगशिप स्मार्टफोन फोल्‍डेबल होगा, जिसे ‘HTC U’ नाम दिया गया है। कंपनी ने ट्वीट कर 16 मई को इसके लॉन्‍च किए जाने की भी जानकारी दी है। ‘HTC U’ में 5.5 इंच की 2560×1440 रेजोल्यूशन वाली स्क्रीन, स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर, 12MP का रियर कैमरा और 16MP फ्रंट फेसिंग कैमरा होने की उम्मीद है।रिपोर्ट के अनुसार, इस स्मार्टफोन को HTC Ocean कोडनेम दिया गया है। इसके अलावा स्मार्टफोन में HTC बूम साउंड टेक्नोलॉजी और HTC USonic फीचर भी होने वाला है। इसके अलावा इस स्‍मार्टफोन में 3.5mm का ऑडियो जैक को शामिल नहीं किया जा रहा है। इसकी जगह एक USB टाइप C पोर्ट भी होने वाला है। इसके अलावा इसमें एक बढ़िया फीचर सेंस लिंक के नाम से भी शामिल किया जाएगा। इसके अलावा इस स्मार्टफोन में एंड्रायड 7.0 नूगा पर काम कर सकता है और इसमें 3000 mAh क्षमता की बैटरी दी जा सकती है।Gaming PhoneHTC ने अपने हाल में लॉन्‍च हुए स्‍मार्टफोन HTC U Ultra और HTC डिजायर 10 pro की कीमतों में कटौती कर दी है। कंपनी ने HTC यू अल्‍ट्रा को मार्च में ही भारतीय बाजार में उतारा था। जिस समय यह लॉन्‍च किया गया तब इसकी कीमत 59990 रुपए थी। लेकिन अब HTC ने इसकी कीमतों में 7000 रुपए की कटौती कर दी है। अब यह फोन 52990 रुपए में उपलब्‍ध है। अमेरिका के बाद भारतीय बाजार में लॉन्‍च हुआ HTC 10 EVO, कीमत 48,990 रुपएमहीनेबादविदेशीनिवेशकोंकाभारतीयबाजारपरलौटाभरोसाइतनेहजारकरोड़काकियानिवेशकोरोना वायरस की रफ्तार ने उत्तर प्रदेश में तोड़े सारे रिकॉर्ड, 24 घंटे में आए 20 हजार से ज्यादा नए मामले******कोरोना वायरस का कहर पूरे देश में लगातार बढ़ता जा रहा है और पूरे देश में पिछले 24 घंटे में 1.84लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश में भी कोविड-19 का संक्रमण तेजी के साथ फैलता जा रहा है। प्रदेश में पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 20,510 नए मामले सामने आए हैं। 4,517 लोग डिस्चार्ज हुए और सक्रिय मामलों की संख्या 1,11,835 है। कल प्रदेश में 2,10,121 सैंपल की जांच की गई।स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान 67 लोगों की मौत के साथ इस वायरस से राज्य में अब तक मरने वालों की संख्या बढ़कर 9376 हो गई है। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में 20510 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है। प्रदेश में किसी एक दिन का यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले 13 अप्रैल को 18021 नए मामले सामने आए थे। प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान 4517 मरीज ठीक भी हुए हैं। प्रदेश में इस वक्त 1,11,835 मामले उपचाराधीन हैं।प्रदेश में के बिगड़ते हालात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कोविड-19 से संक्रमित हो गए हैं। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने ट्वीट में कहा "शुरुआती लक्षण दिखने पर मैंने कोविड की जांच कराई और मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।" उन्होंने कहा, "मैं स्व-पृथकवास में हूं और चिकित्सकों के परामर्श का पूर्णतः पालन कर रहा हूं। सभी कार्य वर्चुअली (डिजिटल माध्यम से) संपादित कर रहा हूं।"उन्होंने भारत बायोटेक द्वारा बनाए गए कोवैक्सीन टीके की पहली खुराक गत पांच अप्रैल को ली थी। योगी ने गत 12 अप्रैल को अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगी आशुतोष टंडन के साथ राजधानी लखनऊ में एक कार्यक्रम में शिरकत की थी। टंडन भी कोविड-19 से संक्रमित हो गये हैं।बता दें कि योगी ने मुख्यमंत्री कार्यालय में कार्यरत कुछ अधिकारियों के कोविड-19 से संक्रमित होने के बाद मंगलवार को खुद को पृथक कर लिया था। मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव एसपी गोयल, विशेष कार्याधिकारी अभिषेक कौशिक, विशेष सचिव अमित सिंह तथा कुछ अन्य कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:15
उद्धरण 1 इमारत
इस कंपनी के कर्मचारी गोवा या मनाली से भी कर पाएंगे काम, मिली वर्कप्लेस चुनने की 'लाइफ टाइम' आजादी******इस कंपनी के कर्मचारी गोवा या मनाली से भी कर पाएंगे काम, मिली वर्कप्लेस चुनने की 'लाइफ टाइम' आजादीHighlights वर्क फ्रॉम होम के बाद अब कंपनियां आपको वर्कप्लेस चुनने की भी आजादी दे रही हैं। अब आप चाहें तो गोवा और मनाली जैसे पर्यटन स्थल या फिर किसी भी शहर से दफ्तर का काम कर सकते हैं। ई-कॉमर्स कंपनी मीशो ने अपने सभी कर्मचारियों को उनकी पसंद की जगह से काम करने की सुविधा स्थायी तौर पर देने की सोमवार को घोषणा की।मीशो ने एक बयान में कहा कि कर्मचारी घर, दफ्तर या अपनी पसंद के किसी अन्य स्थान से भी काम कर सकते हैं। कर्मचारियों को यह सुविधा स्थायी तौर पर दी जाएगी। बेंगलुरु मुख्यालय वाली कंपनी देशभर में दफ्तर खोलने की योजना पर भी काम करेगी। नए दफ्तर खोलने के बारे में कोई भी फैसला प्रतिभाओं की मांग एवं उनकी संख्या के आधार पर किया जाएगा।मीशो के मुख्य मानव संसाधन अधिकारी आशीष कुमार सिंह ने कहा, ‘‘हमने इस नए दृष्टिकोण तक पहुंचने से पहले विभिन्न कामकाजी मॉडलों का अध्ययन किया है। भविष्य में यह कामकाजी मॉडल दुनियाभर की प्रतिभाओं को मीशो के लिए काम करने का मौका देगा।"वर्तमान में मीशो के साथ करीब 1,700 कर्मचारी काम करते हैं। नया कामकाजी मॉडल सभी कर्मचारियों पर लागू होगा। मीशो इस मॉडल के तहत दफ्तर से दूर रहकर काम करने वाले कर्मचारियों को तिमाही बैठकों में भौतिक रूप से शामिल होने और पर्यटन स्थलों की सालाना सैर का भी मौका देगी।
2022-10-01 03:58
उद्धरण 2 इमारत
World News: उत्तरी नाइजीरियाई राज्य में बाढ़ से 56 की मौत, 4000 से अधिक लोग हुए बेघर******World News: नाइजीरिया के उत्तरी राज्य जिगावा में हाल ही में आई भारी बाढ़ के कारण कम से कम 56 लोगों की मौत हो गई है और 4,000 से अधिक लोग विस्थापित हो गए हैं। जिगावा में राज्य आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी के प्रमुख युसूफ सानी बाबुरा के अनुसार, मई में बारिश के मौसम की शुरूआत के बाद से भारी बारिश के कारण आई बाढ़ ने राज्य के 27 स्थानीय सरकारी क्षेत्रों में घरों, खेतों और फसलों को नुकसान पहुंचाया है। बाबुरा ने शिन्हुआ को फोन पर बताया, "हम अभी भी बारिश का सामना कर रहे हैं।" उन्होंने कहा कि मई के बाद से राज्य के कुछ हिस्सों में दर्ज बाढ़ की घटनाओं के बाद कम से कम 56 लोगों की जान चली गई और 4,000 से अधिक लोग बेघर हो गए हैं।समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बाढ़ से विस्थापित लोगों की देखभाल के लिए अब तक 16 शिविर स्थापित किए गए हैं, अधिकारी ने संघीय सरकार, दाता एजेंसियों और व्यक्तियों से बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए आने की अपील की। और शुक्रवार को स्थानीय मीडिया की रिपोटरें के अनुसार, इस बीच, मानवीय मामलों, आपदा प्रबंधन और सामाजिक विकास ने राष्ट्रीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी के अधिकारियों द्वारा एक आकलन करने और बाढ़ के प्रभाव को कम करने के लिए जिगावा में प्रभावित समुदायों के लिए तत्काल राहत सामग्री की तैनाती का निर्देश दिया। नाइजीरियाई अधिकारियों ने मई में देश के 36 राज्यों और संघीय राजधानी क्षेत्र में से 32 को इस साल भीषण बाढ़ की चेतावनी देते हुए अलर्ट जारी किया था।
2022-10-01 03:48
उद्धरण 3 इमारत
JEE Main April 2021 Admit Card: जानिए कब जारी होगा JEE Main April 2021 का एडमिट कार्ड, यहां पढ़ें अपडेट******नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) के मुख्य सत्र अप्रैल २०११ के लिए एडमिट कार्ड जल्द ही जारी किए जाने की उम्मीद है। जेईई मेन अप्रैल सत्र की परीक्षा 27 अप्रैल 2021 से 30 अप्रैल, 21 के बीच आयोजित की जाएगी। जिन उम्मीदवारों ने जेईई मेन्स 2021 अप्रैल सत्र 2021 परीक्षा के लिए आवेदन किया है, वे जेईई मेन की आधिकारिक वेबसाइट jainain.nta.nic पर जाकर अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।.इन जेईई मुख्य अप्रैल सत्र 2021 को डाउनलोड करने के लिए, उम्मीदवारों को अपने आवेदन संख्या और पासवर्ड / जन्म तिथि का उपयोग करके आधिकारिक पोर्टल पर लॉग इन करना होगा। परीक्षा केंद्र में प्रवेश के लिए उम्मीदवारों को एक मूल आईडी के साथ अपना जेईई मेन हॉल टिकट ले जाना चाहिए।जेईई मुख्य अप्रैल सत्र के एडमिट कार्ड 2021 डाक द्वारा उम्मीदवारों को नहीं भेजे जाएंगे। यदि आप आधिकारिक वेबसाइट से अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड नहीं कर पा रहे हैं, तो आपको सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के बीच एनटीए के हेल्पलाइन नंबर 0120-6895200 पर कॉल करना चाहिए।जेईई मेन अप्रैल सत्र 2021 के एडमिट कार्ड में उम्मीदवार, उसके हस्ताक्षर और फोटोग्राफ के बारे में विवरण होगा। ई-एडमिट कार्ड पर विवरण में किसी भी विसंगति के मामले में, उम्मीदवार आधिकारिक घंटों के दौरान एनटीए हेल्पलाइन पर संपर्क कर सकते हैं। उम्मीदवारों को नवीनतम अपडेट के लिए jeemain.nta.nic.in पर एक चेक रखने की सलाह दी जाती है।
वापसी