नई पोस्ट करें

राशिफल 19 सितंबर 2021 : कर्क राशि वाले जल्दबाजी में ना लें कोई फैसला, जानिए अन्य राशियों का हाल

2022-10-01 06:09:03 938

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालजम्मू कश्मीर में वाहन खाई में गिरा, सात की मौत, 25 घायल****** के जिले में रविवार को क्षमता से अधिक यात्रियों को ले जा रहा वाहन सड़क से फिसल कर गहरी खाई में गिर गया। इस हादसे में एक नाबालिग समेत पांच लोगों की मौत हो गयी जबकि 25 अन्य घायल हो गए।राजौरी के जिला विकास आयुक्त एजाज असद ने पीटीआई-भाषा को बताया कि पुंछ से शरदा शरीफ जा रहा टेम्पो ट्रेवलर थानामंडी इलाके में करीब डेढ़ बजे 800 मीटर गहरी खाई में गिर गया। उन्होंने बताया कि मोड़ पर वाहन के अनियंत्रित होने से यह हादसा हुआ।असद ने बताया कि हादसे में चार महिलाओं और एक नाबालिग बच्चे समेत सात लोगों की मौत हो गयी जबकि 25 अन्य घायल हो गए । उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से 11 घायलों को विशेष इलाज के लिए जम्मू स्थित गवर्नमेंट मेडिकल कालेज अस्पताल (जीएमसी) भेजा गया है।उन्होंने बताया कि शेष 14 लोगों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है और उनकी स्थिति ‘‘स्थिर’’ है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मरने वालों में एक दंपत्ति है जिसकी पहचान मोहम्मद पजीर (40) और उसकी पत्नी सफीना (33) के रूप में की गयी है। उन्होंने बताया कि अन्य लोगों की पहचान चार साल के अब्दुल कयूम, मोहम्मद राशिद (50), मानशा बेगम (60) मसरत बी (20) और कनीजा बी (45) के रूप में की गयी है। अधिकारी ने बताया कि पुलिस जांच जारी है।

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालBank Holidays: इस हफ्ते बैंकों में रहेंगी छुट्टियां, घर से निकलने से पहले देख लें ये हॉ​लीडे कैलेंडर******Bank Holidaysआपको यदि इस ​हफ्ते बैंक में लोन से जुड़ा काम है या फिर आपको पढ़ाई की फीस या फॉर्म भरने के लिए ड्रॉफ्ट बनवाना हो, या इसके अलावा भी बैंक से जुड़ा कोई काम है, तो यह खबर आपके लिए बहुत ही जरूरी है। इस हफ्ते के अधिकतर दिनों में बैंकों में अवकाश हो सकता है। दरअसल देश के अलग अलग हिस्सों में त्योहार हैं जिसके कारण विभिन्न हिस्सों में प्रासंगिकता के आधार पर बैंकों की छुट्टी रह सकती है।11 अप्रैल से शुरू हुए हफ्ते की बात करें तो सोमवार मंगलवार और बुधवार को बैंक खुले रहेंगे, इन तीन दिनों कोई भी अवकाश नहीं है। लेकिन गुरुवार के बाद से छुट्टियां आपके काम बिगाड़ सकती हैं क्योंकि गुरुवार से रविवार तक अगले 4 दिन बैंक बंद रह सकते हैं।राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालटेम्बा बावुमा ने छठी कक्षा में देख लिया था दक्षिण अफ्रीकी टीम को आगे ले जाने का सपना******नई दिल्ली। यह 2001 की बात है। केपटाउन के प्रतिष्ठित ‘साउथ अफ्रीकन कॉलेज स्कूल्स’ (एसएसीएस) ने विद्यार्थियों को एक ‘प्रोजेक्ट’ दिया जिसका विषय था, ‘अगले 15 साल में मैं स्वयं को कहां देखता हूं’। वह 11 साल का एक बच्चा था जिसके निबंध को स्कूल की गृह पत्रिका में जगह मिली थी। यह बच्चा कोई और नहीं बल्कि वर्तमान में दक्षिण अफ्रीका की सीमित ओवरों की टीम के कप्तान तेम्बा बावुमा थे, जिन्होंने लिखा था, ‘‘मैं अगले 15 साल में खुद को मिस्टर माबेकी (दक्षिण अफ्रीका के तत्कालीन राष्ट्रपति) के साथ हाथ मिलाते हुए देख रहा हूं जो मुझे दक्षिण अफ्रीका की मजबूत टीम तैयार करने के लिये बधाई दे रहे हैं।’’छठी कक्षा में पढ़ने वाले बावुमा ने आगे लिखा, ‘‘अगर मैं ऐसा कर पाया तो मैं निश्चित तौर पर अपने प्रशिक्षकों और माता पिता के समर्थन तथा विशेषकर अपने दो ‘अंकल’ का आभारी रहूंगा जिन्होंने मुझे इस लायक बनाया।’’बावुमा के इस निबंध को तब स्थानीय मीडिया ने भी खूब तवज्जो दी थी। कई लोगों ने तब किशोरावस्था की तरफ बढ़ रहे इस बच्चे की बातों को गंभीरता से नहीं लिया होगा लेकिन इसके ठीक 15 साल बाद 2016 में जब बावुमा टेस्ट क्रिकेट में शतक जड़ने वाले पहले अश्वेत दक्षिण अफ्रीकी बने तो माबेकी राष्ट्रपति पद से हट चुके थे। लेकिन बमुश्किल 62 इंच लंबे बावुमा ने न सिर्फ अपनी भविष्यवाणी सच की बल्कि उन्होंने दक्षिण अफ्रीका का कद भी बढ़ा दिया जो रंगभेद की नीति समाप्त होने के तीन दशक बाद भी पुराने दौर की मर्मांतक पीड़ा से उबरने की कोशिश कर रहा है।और जाने या अनजाने, बावुमा राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के पहले अश्वेत कप्तान के रूप में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं जो कि केवल एक प्रतीक नहीं बल्कि ऐसे समाज के लिये उम्मीद की किरण है जो कि उस समाज से घुलने मिलने का प्रयास कर रहा है जिसने उसे सदियों तक दबाकर रखा था। दक्षिण अफ्रीका की सीमित ओवरों के कप्तान के रूप में और अब तक केवल 16 वनडे खेलने वाले (उन्होंने हालांकि 47 टेस्ट मैच खेले हैं) बावुमा की शांतचित लेकिन ठोस बल्लेबाजी ने उनकी टीम की भारत के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में जीत में अहम भूमिका निभायी और सीमित ओवरों के कप्तान के रूप में मैदान पर उनकी जीवंत उपस्थिति ने नयी उम्मीद जगायी है। और ऐसा क्यों न हो।आखिर उन्होंने विराट कोहली, केएल राहुल, शिखर धवन, ऋषभ पंत और जसप्रीत बुमराह जैसे शीर्ष खिलाड़ियों से सजी भारतीय टीम के खिलाफ आगे बढ़कर नेतृत्व किया है। यह मामूली उपलब्धि नहीं है। सिपोकाज़ी सोकानीले दक्षिण अफ्रीकी पुरुष टीम से जुड़ी बेहद लोकप्रिय मीडिया मैनेजर हैं और उन्हें बावुमा वास्तविक नेतृत्वकर्ता लगते हैं।उन्होंने बावुमा को ड्रेसिंग रूम में एक खिलाड़ी ही नहीं एक व्यक्ति के रूप में भी देखा है। सिपोकाजी ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘तेम्बा वास्तविक नेतृत्वकर्ता हैं और जो काम वह स्वयं करने की स्थिति में न हों उसकी किसी से उम्मीद भी नहीं करते हैं।’’उन्होंने कहा, ‘‘तेम्बा ने खिलाड़ियों और टीम के लिये उच्च मानदंड तैयार किये हैं और हर कोई उस माहौल का हिस्सा है। हमारी टीम संस्कृति बहुत अच्छी है जो हर किसी को एकजुटता का अहसास दिलाती है।’’लैंगा केपटाउन का एक उपनगरीय इलाका है जहां रंगभेद के दिनों में अश्वेत दक्षिण अफ्रीकी लोगों ने कई तरह की यातनाएं झेली हैं। इसका अपना सामाजिक राजनीतिक इतिहास है। बावुमा ने ऐसे इलाके में अपने पत्रकार पिता वुयो और खेलों के प्रति प्यार रखने वाली मां के सानिध्य में खुद को आगे बढ़ाया। बावुमा के भाग्य में सूर्य (स्थानीय भाषा में सूर्य को लैंगा कहा जाता है) की तरह चमकना लिखा था।संयोग से बावुमा से पहले लैंगा से एक अन्य अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर थामी सोलेकिले निकला था जिनका करियर लंबा नहीं खिंच पाया था। वह हॉकी खिलाड़ी भी थे। उन पर घरेलू टी20 टूर्नामेंट में मैच फिक्सिंग करने के लिये प्रतिबंध लगा दिया गया था। लेकिन पिछले साल बावुमा के प्रमुख खिलाड़ी और नेतृत्वकर्ता के रूप में उबरने से इस समुदाय को भी मजबूती मिली। उन्होंने उन्हें अहसास दिलाया कि वे भी इस मुकाम पर पहुंच सकते हैं।वह अपनी सामाजिक स्थिति से अवगत हैं जिसका सबूत भारत पर 3-0 से जीत के बाद उनका बयान था। बावुमा ने रविवार को कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि यह आसान है (टीम की कप्तानी करना)। इसमें आपको कई चीजें प्रबंधित करने की जरूरत होती है।मेरे लिये क्रिकेट पर पूरा ध्यान रखना सबसे बड़ी बात रही।’’ एक जमाने में दक्षिण अफ्रीकी टीमों में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता आम बात नहीं थी। मखाया एनटीनी से पूछिये जिनके लिये अपने सर्वश्रेष्ठ दिनों में भी काम आसान नहीं था। सिपोकाजी को लगता है कि बावुमा इसे पूरी तरह से बदलना चाहता है।उन्होंने कहा,‘‘ तेम्बा और डीन एल्गर ने ऐसी टीम संस्कृति तैयार की है जो सभी के अनुकूल है, जिसमें सभी को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है और जिसमें उन्हें लगता है कि वे टीम का हिस्सा हैं।’’

राशिफल 19 सितंबर 2021 : कर्क राशि वाले जल्दबाजी में ना लें कोई फैसला, जानिए अन्य राशियों का हाल

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालजम्मू कश्मीर में वाहन खाई में गिरा, सात की मौत, 25 घायल****** के जिले में रविवार को क्षमता से अधिक यात्रियों को ले जा रहा वाहन सड़क से फिसल कर गहरी खाई में गिर गया। इस हादसे में एक नाबालिग समेत पांच लोगों की मौत हो गयी जबकि 25 अन्य घायल हो गए।राजौरी के जिला विकास आयुक्त एजाज असद ने पीटीआई-भाषा को बताया कि पुंछ से शरदा शरीफ जा रहा टेम्पो ट्रेवलर थानामंडी इलाके में करीब डेढ़ बजे 800 मीटर गहरी खाई में गिर गया। उन्होंने बताया कि मोड़ पर वाहन के अनियंत्रित होने से यह हादसा हुआ।असद ने बताया कि हादसे में चार महिलाओं और एक नाबालिग बच्चे समेत सात लोगों की मौत हो गयी जबकि 25 अन्य घायल हो गए । उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से 11 घायलों को विशेष इलाज के लिए जम्मू स्थित गवर्नमेंट मेडिकल कालेज अस्पताल (जीएमसी) भेजा गया है।उन्होंने बताया कि शेष 14 लोगों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है और उनकी स्थिति ‘‘स्थिर’’ है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मरने वालों में एक दंपत्ति है जिसकी पहचान मोहम्मद पजीर (40) और उसकी पत्नी सफीना (33) के रूप में की गयी है। उन्होंने बताया कि अन्य लोगों की पहचान चार साल के अब्दुल कयूम, मोहम्मद राशिद (50), मानशा बेगम (60) मसरत बी (20) और कनीजा बी (45) के रूप में की गयी है। अधिकारी ने बताया कि पुलिस जांच जारी है।राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालFrench Open 2020 : पहले ही दौर में हारकर बाहर हुए ब्रिटेन के एंडी मरे******पेरिस| एंडी मरे को फ्रेंच ओपन के पहले ही दौर में हार का सामना करना पड़ा, जिसके बाद ग्रेट ब्रिटेन के इस खिलाड़ी ने कहा कि वह अपने प्रदर्शन की समीक्षा करेंगे। मरे को स्विट्जरलैंड के स्टान वावरिंका ने पहले दौर के मैच में सीधे सेटों में 6-1, 6-3, 6-2 से हरा दिया। वह इस मैच में सिर्फ छह गेम ही जीत सके। मरे 2017 के बाद से पहली बार क्ले कोर्ट पर खेल रहे थे।बीबीसी ने मरे के हवाले से लिखा, "मैं इसका अच्छे से विश्लेषण करूंगा और समझने की कोशिश करूंगा कि इस तरह के प्रदर्शन की क्या वजह है।"मरे ने फ्लडलाइट्स में मैच खेला लेकिन उन्होंने कहा कि परिस्थतियां उनके प्रदर्शन की वजह नहीं हैं।उन्होंने कहा, "मैं इसे कोई सही वजह नहीं मानता। हो सकता है कि ऐसी स्थिति में मैच का लुत्फ नहीं उठा पाएं जैसा पहले लेते थे, लेकिन इसका प्रदर्शन पर किसी तरह का प्रभाव नहीं।"उन्होंने कहा, "मुझे इसके बारे में तफ्सील से सोचना होगा। यह मेरे लिए वो मैच नहीं है जिसे मैं आसानी से अलग कर दूं और सोचूं नहीं।"राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालअब सिर्फ एक रुपए में मिलेगा फिल्टर पानी, नई दिल्ली, आनंद विहार और कानपुर रेलवे स्टेशन पर सर्विस शुरू****** जल्द ही यात्रियों को रेल स्टेशनों पर भी शुद्ध पानी मिलेगा, वो भी महज 1 रुपए में। रेल बजट में किए गए एलान के मुताबिक रेल मंत्रालय स्टेशनों पर आरओ वॉटर वेंडिंग मशीन लगाने का काम तेजी से कर रहा है। इसके तहत दिल्ली में अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर 10 वॉटर वेंडिंग मशीन लगाई गई। इसके अलावा आनंद विहार और कानपुर पर इस सर्विस की शुरूआत हो चुकी है। जबकि देश के कई अन्य कई स्टेशनों पर मशीनें लग चुकी हैं। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) द्वारा गलाए गए वेंडिंग मशीन से आप एक रुपए में 300 एमएल पानी खरीद सकते हैं। अगर आपके पास खोली बोतल नहीं है तो खरीदने की सुविधा भी मिलेगी।रेलवे स्टेशनों पर लगे वॉटर जिसपर शीतल जल का बोर्ड लगा होता है वो पानी न ही शीतल होते है और न ही इन पर साफ सफाई का कोई ध्यान रखा जाता है। लेकिन गर्मी के इस मौसम में यात्रियों को मजबूरी में ये पानी पीना पड़ता है या फिर बोतल बंद पानी के लिए ऊंची कीमत चुकानी पड़ती है। इसकी को देखते हुए आईआरसीटीसी यात्रियों को शुद्ध पानी उपलब्ध कराने के लिए मशीन लगा रहा है। स्टेशन पर लगे मशीन में पानी 7 तरह से फिल्टर होगा।Talgo high speed trainरेल मंत्रालय की ओर से तैयार की गई वॉटर वेंडिंग पॉलिसी के मुताबिक पानी का दाम मार्केट प्राइस से बेहद कम रखा गया है। आरओ वॉटर के 300 मिली लीटर पानी के ग्लास के लिए 1 रुपए, आधा लीटर पानी के लिए 3 रुपए, 1 लीटर पानी के लिए 5 रुपए, 2 लीटर के लिए 8 रुपए और 5 लीटर पानी के लिए 20 रुपए देने होंगे। हालांकि, बोतल आपके पास नहीं होने पर 1 से 5 रुपए अधिक कीमत चुकानी होगी। शुरुआती चरण में हैदराबाद, मैसूर, आगरा, लखनऊ और दानापुर में वॉटर वेंडिंग मशीन लगाई जाएगी। रेल मंत्रालय का लक्ष्य अगले 2 सालों में सभी स्टेशनों पर आरओ वॉटर वेडिंग मशीन लगाने का है।

राशिफल 19 सितंबर 2021 : कर्क राशि वाले जल्दबाजी में ना लें कोई फैसला, जानिए अन्य राशियों का हाल

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालCSK vs PBKS: एमएस धोनी के नाम दर्ज होंगी खास उपलब्धि, इस मामले में रोहित शर्मा के बाद बनेंगे दूसरे भारतीय******चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को रविवार को अपने तीसरे मुकाबले में पंजाब किंग्स (PBKS) से भिड़ना है। इस मुकाबले में येलो आर्मी हर हालत में अपनी पहली जीत दर्ज करना चाहेगी। वहीं सीएसके को अगर जीतना है तो एमएस धोनी का इसमें अहम रोल होने वाला है। थाला की बात करें तो इस मुकाबले में वह कुछ रिकॉर्ड्स भी बना रहे हैं या बना सकते हैं। धोना का यह 350वां टी20 मैच होगा और भारतीयों में उनसे पहले रोहित शर्मा ही टी20 फॉर्मेट मेंज्यादा मैच खेल पाए हैं।रोहित शर्मा ने ओवरऑल टी20 फॉर्मेट यानी इंटरनेशनल, फ्रेंचाइजी स्तर आदि सब मिलाकर कुल 372 मैच खेले हैं। वह इकलौते भारतीय हैं जिनके पास 350 या उससे अधिक टी20 मैच खेलने का अनुभव है। लेकिन अब सीएसके पूर्व कप्तान का नाम भी इस सूची में उनके बाद जुड़ जाएगा। इस मामले में 583 टी20 मैचों के अनुभव के साथ कीरोन पोलार्ड टॉप पर हैं।इतना ही नहीं एक और रिकॉर्ड भी इस मैच में एमएस के निशाने पर होगा। इस सीजन में अभी तक सीएसके के दोनों मुकाबले में एक वाक्य की गूंज थी कि, 'माही मार रहा है।' धोनी ने पहले मैच में केकेआर के खिलाफ 38 गेंदों पर नाबाद 50 रनों की पारी खेली जिसमें एक छक्का और सात चौके शामिल थे। इसके बाद दूसरे मैच में लखनऊ सुपर जाएंट्स के खिलाफ उन्होंने छक्के से इनिंग की शुरुआत की और 6 गेंद पर नाबाद 16 रन बनाए।एमएस धोनी के नाम अभी सिर्फ सीएसके के लिए लगाए गए छक्कों की बात करें तो ये आंकड़ा 217 तक जा चुका है। किसी एक फ्रेंचाइजी के लिए सबसे ज्यादा छक्के लगाने के मामले में वह अभी छठे नंबर पर है। इस मैच में अगर वह पंजाब के खिलाफ तीन छक्के लगाते हैं तो वह टॉप-5 में एंट्री कर लेंगे। आइए देखते हैं कौन हैं वह टॉप-5 बल्लेबाज जिन्होंने एक फ्रेंचाइजी के लिए सर्वाधिक छक्के लगाए:-एमएस धोनी के आईपीएल करियर की बात करें तो उन्होंने इस सीजन की शुरुआत से पहले ही फ्रेंचाइजी सीएसके की कप्तानी छोड़ रविंद्र जडेजा को यह जिम्मेदारी सौंपी थी। उनकी कप्तानी में सीएसके ने चार बार आईपीएल के खिताब पर कब्जा किया है। उनके पास 222 आईपीएल मैचों का अनुभव है जिसमें उनके नाम 24 अर्धशतक के साथ 4812 रन भी दर्ज हैं। भारत के लिए भी धोनी ने 98 टी20 खेलते हुए 1617 रन बनाए हैं।राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालRBI Monetary Policy: रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 11वीं बार नहीं किया बदलाव, लेकिन महंगाई फेर सकती है राहत पर पानी******rbi monetary policyHighlightsभारतीय रिजर्व बैंक (RBI-Reserve Bank of India) ने शुक्रवार को आर्थिक नीति की घोषणा कर दी है। आरबीआई ने लगातार 11वीं बार प्रमुख ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। रेपो रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4% रहेगा। एमएसएफ रेट और बैंक रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4.25% रहेगा। रिवर्स रेपो रेट भी बिना किसी बदलाव के साथ 3.35% रहेगा। हालांकि आरबीआई गवर्नर ने महंगाई को लेकर चिंता जरूर व्यक्त की।दास ने कहा, फिलहाल हमने रेपो रेट को 4 फीसदी पर स्थिर बनाए रखा है। इससे कर्ज का प्रवाह बढ़ाने में मदद मिलेगी और महामारी के दबाव से अर्थव्‍यवस्‍था को बाहर लाया जा सकेगा।गवर्नर दास ने कहा कि केंद्रीय बैंक किसी नियम से बंधा नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘अर्थव्यवस्था के ‘संरक्षण’ के लिए रिजर्व बैंक सभी उपलब्ध साधनों का इस्तेमाल करेगा।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था नई एवं बहुत बड़ी चुनौतियों से जूझ रही है। उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था में पर्याप्त विदेशी मुद्रा भंडार मौजूद है और रिजर्व बैंक इसे सभी चुनौतियों से बचाकर रखने के लिए काम करेगा। हालांकि दास ने कहा कि ओमीक्रोन लहर कमजोर पड़ने से होने वाले अनुमानित लाभों को बढ़े हुए भू-राजनीतिक तनावों ने निष्प्रभावी कर दिया है।केंद्रीय बैंक ने चालू वित्त वर्ष (2022-23) के लिए अपने सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि के अनुमान को घटा दिया है जबकि मुद्रास्फीति के अनुमान को बढ़ा दिया है। रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक के नतीजों की घोषणा करते हुए कहा कि मुद्रास्फीति को काबू में रखने के साथ आर्थिक वृद्धि को बरकरार रखने के लिए केंद्रीय बैंक अपने नरम रुख में थोड़ा बदलाव करेगा।रेपो रेट को आसान भाषा में ऐसे समझा जा सकता है। बैंक हमें कर्ज देते हैं और उस कर्ज पर हमें ब्याज देना पड़ता है। ठीक वैसे ही बैंकों को भी अपने रोजमर्रा के कामकाज के लिए भारी-भरकम रकम की जरूरत पड़ जाती है और वे भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) से कर्ज लेते हैं। इस ऋण पर रिजर्व बैंक जिस दर से उनसे ब्याज वसूल करता है, उसे रेपो रेट कहते हैं।जब बैंकों को कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध होगा यानी रेपो रेट कम होगा तो वो भी अपने ग्राहकों को सस्ता कर्ज दे सकते हैं। और यदि रिजर्व बैंक रेपो रेट बढ़ाएगा तो बैंकों के लिए कर्ज लेना महंगा हो जाएगा और वे अपने ग्राहकों के लिए कर्ज महंगा कर देंगे।यह रेपो रेट से उलट होता है। बैंकों के पास जब दिन-भर के कामकाज के बाद बड़ी रकम बची रह जाती है, तो उस रकम को रिजर्व बैंक में रख देते हैं। इस रकम पर आरबीआई उन्हें ब्याज देता है। रिजर्व बैंक इस रकम पर जिस दर से ब्याज देता है, उसे रिवर्स रेपो रेट कहते हैं।जब भी बाजारों में बहुत ज्यादा नकदी दिखाई देती है, आरबीआई रिवर्स रेपो रेट बढ़ा देता है, ताकि बैंक ज्यादा ब्याज कमाने के लिए अपनी रकम उसके पास जमा करा दें। इस तरह बैंकों के कब्जे में बाजार में छोड़ने के लिए कम रकम रह जाएगी।बैंकिंग नियमों के तहत हर बैंक को अपने कुल कैश रिजर्व का एक निश्चित हिस्सा रिजर्व बैंक के पास रखना ही होता है, जिसे कैश रिजर्व रेश्यो अथवा नकद आरक्षित अनुपात (सीआरआर) कहा जाता है। यह नियम इसलिए बनाए गए हैं, ताकि यदि किसी भी वक्त किसी भी बैंक में बहुत बड़ी तादाद में जमाकर्ताओं को रकम निकालने की जरूरत पड़े तो बैंक पैसा चुकाने से मना न कर सके।अगर सीआरआर बढ़ता है तो बैंकों को ज्यादा बड़ा हिस्सा रिजर्व बैंक के पास रखना होगा और उनके पास कर्ज के रूप में देने के लिए कम रकम रह जाएगी। यानी आम आदमी को कर्ज देने के लिए बैंकों के पास पैसा कम होगा। अगर रिजर्व बैंक सीआरआर को घटाता है तो बाजार नकदी का प्रवाह बढ़ जाता है।जिस रेट पर बैंक अपना पैसा सरकार के पास रखते हैं, उसे एसएलआर कहते हैं। नकदी को नियंत्रित करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। कमर्शियल बैंकों को एक खास रकम जमा करानी होती है, जिसका इस्तेमाल किसी इमरजेंसी लेन-देन को पूरा करने में किया जाता है।

राशिफल 19 सितंबर 2021 : कर्क राशि वाले जल्दबाजी में ना लें कोई फैसला, जानिए अन्य राशियों का हाल

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालदिल्ली कैबिनेट ने ऑटो-टैक्सी चालकों को 5-5 हजार रुपए की सहायता योजना को मंजूरी दी****** मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली कैबिनेट ने ऑटो-टैक्सी चालकों को 5-5 हजार रुपए की सहायता योजना को आज मंजूरी दे दी। कोरोना की दूसरी लहर और दिल्ली में लगाए गए लॉकडाउन के चलते ऑटो-टैक्सी चालकों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। इसे देखते हुए दिल्ली सरकार की तरफ से पैरा-ट्रांजिट वाहनों के सभी पीएसवी बैज और परमिट धारकों को 5-5 हजार रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। पिछले साल भी 1.56 लाख से अधिक ऑटो-टैक्सी चालकों को वित्तीय सहायता के रूप में 78 करोड़ रुपए दिए गए थे। 2020 की योजना के लाभार्थियों को इस बार फिर से आवेदन करने की जरूरत नहीं है। स्थानीय निकायों से सभी चालकों का सत्यापन कराया जाएगा और उसके बाद उनके आधार कार्ड से लिंक बैंक खाते में 5000 रुपए सीधे स्थानांतरित कर दिए जाएंगे।बीते 4 मई को मुख्यमंत्री ने घोषणा की थी कि पीएसवी बैज और पैरा ट्रांजिट वाहनों के परमिट धारकों को 5-5 हजार रुपए की एकमुश्त आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना से ऑटो रिक्शा, ई-रिक्शा, टैक्सी, फाटफाट सेवा, ईको फ्रैंडली सेवा, ग्रामीण सेवा और मैक्सी कैब चालक आदि लाभांवित किए जाएंगे। इससे पहले, जिन पीएसवी बैज धारकों और परमिट धारकों ने पहले राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान अपनी आजीविका के साधन खो दिए थे, उनके लिए दिल्ली सरकार ने अप्रैल 2020 में दो अलग-अलग योजनाएं शुरू की थीं। दिल्ली में पैरा-ट्रांजिट वाहनों के 1,56,350 मालिकों को दोनों योजनाओं से लाभांवित किया गया था और उन्हें कुल 78 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की गई थी। दिल्ली में इस समय 2.80 लाख से अधिक पीएसवी बैज धारक और 1.90 लाख परमिट धारक हैं, जो इस योजना के लिए आवेदन करने के पात्र हैं। दिल्ली परिवहन विभाग ने इसके लिए पहले से ही आवश्यक बजटीय प्रावधान किए हैं।सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH), भारत सरकार के आदेश के अनुसार, सभी सार्वजनिक सेवा वाहनों के पीएसवी बैज, परमिट, ड्राइविंग लाइसेंस आदि दस्तावेजों की वैधता को समय-समय पर मार्च 2020 तक बढ़ाया गया था। हाल ही में इसे 30 जून 2021 तक बढ़ाया दिया गया है और एक फरवरी 2020 तक मान्य सभी लाइसेंस धारक और पीएसवी बैज धारक वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए पात्र हैं। हालांकि, पिछली योजना की तरह, यह लाभ केवल पैरा ट्रांजिट वाहनों के व्यक्तिगत मालिकों को दिया जाएगा। वाहन बेड़े के स्वामित्व वाली कंपनियों को लाभ नहीं दिया जाएगा।कोई भी व्यक्ति जो पिछली योजना के तहत पहले ही 5000 रुपए की सहायता राशि प्राप्त कर चुका है, उसे फिर से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। उसके आधार कार्ड से लिंक बैंक खाते में राशि सीधे ट्रांसफर कर दी जाएगी। यह विभाग द्वारा सत्यापन के बाद और संबंधित स्थानीय निकायों के साथ विभाग द्वारा मौतों के सत्यापन के बाद किया जाएगा। इसके लिए, विभाग ने शहरी विकास विभाग को एक पत्र लिख कर एक फरवरी 2020 के बाद से अब तक का स्थानीय निकायों में पंजीकृत मौतों का डेटा मांगा है। विभाग ने यह भी स्पष्ट किया है कि पैरा ट्रांजिट वाहनों के सभी पीएसवी बैज और परमिट धारक, जिन लोगों को पिछले साल किसी भी कारण से वित्तीय सहायता नहीं मिली थी, उन्हें वेबसाइट पर फिर से आवेदन या पंजीकरण करना होगा। दिल्ली परिवहन विभाग की वेबसाइट पर कुछ दिनों के अंदर लिंक को सक्रीय कर दिया जाएगा।दिल्ली के परिवहन मंत्री ने कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल के मजबूत नेतृत्व में दिल्ली कोरोना की इस घातक दूसरी लहर से लड़ रही है। दिल्ली सरकार लॉकडाउन के कारण विशेष रूप से ऑटो-टैक्सी चालकों सहित दिहाड़ी मजदूरों को होने वाले आर्थिक नुकसान की भरपाई के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। परिवहन के क्षेत्र में विशेष रूप से ऑटो दिल्ली की जीवन रेखा हैं। जो आॅटो-टैक्सी चालक इस सहायता योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र हैं, मैं उन सभी लोगों से अनुरोध करता हूं कि यदि उन्होंने पहले से आवेदन नहीं किया है, तो जल्द आवेदन करें। उन्हें आवेदन करने में मदद करने के साथ-साथ किसी भी सहायता के लिए विभाग हमेशा तत्पर और तैयार है।

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालफॉक्सवैगन ने लॉन्च की एमियो, कीमत 5.24 लाख रुपए से शुरू****** जर्मनी की दिग्गज कार निर्माता कंपनी फॉक्सवैगन ने अपनी नई कार एमियो आज बाजार में पेश की जिसकी कीमत दिल्ली शोरूम में 5.24 लाख रुपए से लेकर 7.05 लाख रुपए है। कंपनी ने इस कार को विशेष रूप से भारतीय बाजार के लिए तैयार किया है और यह पहली चार मीटर से छोटी सेडान है।एमियो में में रिवर्स पार्किंग कैमरा, रेन सेंसिंग वाइपर और क्रूज़ कंट्रोल जैसे फीचर्स दिए गए हैं जो इस सेगमेंट में पहली बार होगा। इसके अलावा ये कार एबीएस और डुअल-एयरबैग जैसे सेफ्टी फीचर्स से भी लैस होगी। इस कार का मुकाबला भारतीय बाजार में सब-कॉम्पैक्ट सेडान सेगमेंट में होंडा अमेज, हुंडई एक्‍सेंट, टाटा जेस्‍ट जैसी कारों में से होगा।volkswagen ameoफॉक्सवैगन पैसेंजर कार्स इंडिया के निदेशक माइकल मेयर ने एक बयान में इस पेशकश को भारत में फॉक्सवैगन के लिए बहुत विशेष करार दिया है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि कंपनी इससे बाजार में अपनी स्थिति और मजबूत बना पाएगी। कंपनी 1.2 लीटर पेट्रोल इंजन वाली इस कार को पुणे स्थित कारखाने में बनाएगी। कंपनी ने इस कार के विकास में 720 करोड़ रुपए का निवेश किया है। फॉक्सवैगन जुलाई से शुरू करेगी भारत में कारों को वापस बुलाना, 1.90 लाख वाहनों में सॉफ्टवेयर होगा अपडेटराशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालइजराइल की संसद भंग, 2 साल में चौथे चुनाव की तरफ बढ़ा देश, खतरे में नेतन्याहू का राजनीतिक भविष्य****** इजराइल में प्रधानमंत्री की गठबंधन सरकार के बजट पारित करने में विफल रहने पर संसद को भंग कर दिया गया है जिससे देश दो साल से भी कम समय में चौथे आम चुनाव के करीब पहुंच गया है। इसी के साथ असहज गठबंधन का करीब-करीब अंत हो गया। गठबंधन सरकार के सहयोगी और रक्षामंत्री बेनी गेंट्ज ने नेतन्याहू पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि अब बेहतर यही होगा कि देश में नए चुनाव कराए जाएं। गौरतलब है कि दिसंबर की शुरुआत में इस्राइली संसद को भंग करने के लिए विपक्ष द्वारा 120 सदस्यीय सदन में लाए गए प्रस्ताव के पक्ष में 61 वोट पड़े थे जबकि विरोध में 54 मत पड़े थे।संसद भंग होने के बाद माना जा रहा है कि में अगले साल मार्च में चौथी बार आम चुनाव कराए जाएं। बता दें कि बेंजामिन नेतन्याहू सरकार के पास 2020 बजट पारित करवाने के लिए महज कुछ ही घंटों का समय है, अगर सरकार इसमें नाकाम रहती है तो वैधानिक तौर पर संसद को भंग माना जाएगा और फिर चुनाव के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं रहेगा।बता दें कि नेतन्याहू लिकुड पार्टी के अध्यक्ष हैं, जबकि गेंट्ज ब्लू एंड व्हाइट पार्टी से जुड़े हैं। अप्रैल में दोनों दलों ने एक साझा समझौते के तहत सरकार बनाई थी हालांकि, जल्द ही दोनों दलों के बीच मतभेद सामने आने लगे। गेंट्ज का कहना है कि बेंजामिन नेतन्याहू वादी खिलाफी कर रहे हैं लेकिन नेतन्याहू ने इन आरोपों को गलत बताया। वहीं हाल ही में गेंट्ज ने मांग की थी कि 2020 और 2021 दोनों को कवर करते हुए एक बजट पारित किया जाए, ताकि स्थिरता बनी रह सके लेकिन पीएम इसके लिए तैयार नहीं हुए। नेतन्याहू के समर्थकों का कहना है कि गेंट्स का यह प्रस्ताव केवल सरकार को अस्थिर करने की साजिश है। वो नेतन्याहू को हटाकर खुद प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं।

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालबिग बॉस 13: सलमान खान ने आसिम रियाज की भांजी को दी चॉकलेट, इंटरनेट पर वायरल हुआ वीडियो******पॉपुलर रिएलिटी शो का विनर अनाउंस कर दिया गया है। सिद्धार्थ शुक्ला और आसिम रियाज के बीच टक्कर हुई, लेकिन सिद्धार्थ ने ज्यादा वोट हासिल कर जीत का खिताब हासिल किया। फिनाले के लिए कंटेस्टेंट्स के घरवाले भी शो पर पहुंचे। आसिम की मां, पिता, भाई, भांजी और अन्य फैमिली मेंबर्स भी इसका हिस्सा बने। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें होस्ट सलमान खान आसिम की भांजी चॉकलेट देते दिखाई दे रहे हैं।आसिम रियाज के भाई उमर ने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर किया है, जिसमें सलमान आसिम की भांजी को चॉकलेट देते नज़र आ रहे हैं। उमर ने वीडियो के कैप्शन में लिखा है, 'बहुत बहुत धन्यवाद सलमान खान। आप सच में बहुत दिलदार इंसान हैं। उन्होंने दो दिन तक चली शूटिंग में एलिजा का ध्यान रखा और उसे कंफर्टेबल फील कराने के लिए चॉकलेट भी दी।'शो की बात करें तो टॉप 6 कंटेस्टेंट्स में सिद्धार्थ शुक्ला, आसिम रियाज, शहनाज गिल, रश्मि देसाई, आरती सिंह और पारस छाबड़ा पहुंचे थे। पारस ने 10 लाख रुपये लेकर शो से क्विट कर दिया। इसके बाद एक-एक कर आरती, रश्मि और फिर शहनाज भी आउट हो गईं। आखिरी में सिद्धार्थ और आसिम में से सिद्धार्थ ने बाजी मार ली।राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालAquarius Horoscope 2022: कुंभ राशि का वैवाहिक जीवन रहेगा शानदार, जानिए सेहत के लिहाज से कैसा रहेगा नया साल******Highlightsकुंभ राशि केछात्रों को साल के शुरू होते ही कोई बड़ी खुशखबरी मिलेगी। इसके साथ ही इस राशि के लोग अपने करियर को लेकर आप इस साल थोड़े भावुक रहेंगे। हालांकि नौकरी ढूंढ रहे युवाओं के लिये अच्छी खबर है। इस साल आपका दाम्पत्य जीवन बहुत शानदार रहने वाला है। आपका और आपके जीवनसाथी का मान-सम्मान बढेगा। लेकिन आपको लेन-देन में थोड़ी सावधानी बरतनी चाहिए। साल के अंत तक आपको अचानक धन लाभ होगा। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से कैसा बीतेगा आपका नया साल 2022।करियर की दृष्टि से इस साल आपको कोई बड़ी सफलता अचानक हासिल होगी । शुरू के महीने आपके लिये काफी फायदेमंद साबित होंगे । अगर आप प्रॉपर्टी डीलर हैं तो आपका कामकाज बेहतर रहेगा। आपका सकारात्मक रवैय्या ही आपको करियर में बेहतरी दिलायेगा। अपने करियर को लेकर आप इस साल थोड़े भावुक रहेंगे। हालांकि नौकरी ढूंढ रहे युवाओं के लिये अच्छी खबर है। साल के मध्य तक आपको एक अच्छी नौकरी मिलेगी। करियर की बेहतरी के लिये आपके गुरु भी आपका पूरा साथ देंगे । कुम्भ राशि के खिलाड़ियों, पुलिस वालों, डाक्टरों और किसानों के लिये यह वर्ष विशेष अच्छा है।साल 2022 में आपकी आर्थिक स्थिति काफी अच्छी रहने वाली है। नौकरी पेशा युवाओं को उच्चाधिकारियों का पूरा सहयोग मिलेगा। बिज़नेस के सिलसिले की योजना के तहत आपको भविष्य में लाभ मिलेगा और छात्रों को भी कमाई के साधन मिलेगें, साथ ही आपकी सम्पति से आपको पूरा लाभ मिलेगा, जिसके तहत साल के मध्य तक आपके पास एक अच्छी आमदनी होगी। आपको लेन-देन में थोड़ी सावधानी बरतनी चाहिए। साल के अंत तक आपको अचानक धन लाभ होगा।इस साल आपका दाम्पत्य जीवन बहुत शानदार रहने वाला है। आपका और आपके जीवनसाथी का मान-सम्मान बढेगा। आपकी हर मुश्किलों में जीवनसाथी आपका पूरी मदद करेगा, साथ ही अगर आप किसी को प्यार करते है और उससे आप अपने प्यार का इज़हार करना चाहते है तो यह साल आपके लिए बेहद अच्छा रहने वाला है आपको अच्छा जवाब मिलेगा। लवमेट्स के लिये भी यह साल बेहतरीन रहने वाला है। पूरे साल रिश्ते में मधुरता बनी रहेगी।सेहत के मामले में यह साल आपका सामान्य रहेगा। इस वर्ष आपको गले में दर्द, मानसिक तनाव, पैरों में दर्द आदि स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं से सावधान रहना होगा। ज्यादा गुस्सा आने से भी आपका स्वास्थ्य बिगड़ेगा और कार्य में दिक्कतें आएंगी। बेहतर होगा की आप अपने गुस्से पर थोड़ा कंट्रोल रखें। खान-पान में तला हुआ खाना कम करें जिसे आपका स्वास्थ्य ठीक रह सके। साल के अंत तक आपको सभी स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।छात्रों को साल के शुरू होते ही कोई बड़ी खुशखबरी मिलेगी। विषय के चुनाव को लेकर उत्पन्न भ्रम की स्थिति दूर होगी और पढ़ाई के प्रति रुचि बढ़ेगी । जो छात्र दूसरे शहर जाकर पढ़ाई करने की सोच रहे हैं, उन्हें इस साल के अंत तक जाने का अवसर मिल सकता है । अगर आप मास्टर्स की डिर्गी ले रहे हैं, तो कैम्पस सेलेक्शन में आपको नौकरी जरूर मिलेगी। सीनियर्स का सहयोग भी मिलेगा। प्रतियोगी परीक्षाओं के एग्जाम देते रहें। कोशिश करने से सफलता जरूर मिलेगी।

राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहालMitchell Johnson: टल गया बड़ा खतरा! भारत आए जॉनसन के होटल रूम में निकला भयानक सांप******Highlightsदुनियाभर के दिग्गज क्रिकेटर्स इस वक्त भारत में लीजेंड्स लीग क्रिकेट खेलने के लिए आए हुए हैं। वीरेंद्र सहवाग, इरफान पठान, शेन वॉटसन और मोहम्मद कैफ जैसे खिलाड़ी इस लीग में उतर रहे हैं। इसी बीत लीजेंड्स लीग से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन के साथ बड़ी घटना हुई है। जॉनसन के होटल के कमरे में एक सांप निकल आया और उन्होंने इस बात की जानकारी भी दी है।पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर मिचेल जॉनसन को यहां अपने होटल के कमरे में एक दिलचस्प नजारा देखने को मिला, जब उन्होंने अपने कमरे के दरवाजे के पास एक सांप देखा, जिसके बाद होटल अधिकारियों को सूचित किया गया। वर्तमान में लीजेंड्स लीग क्रिकेट में खेलने के लिए भारत में रह रहे पूर्व बाएं हाथ के सीमर ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर सांप की एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा, "कोई भी जानता है कि यह किस प्रकार का सांप है। यह मेरे कमरे के दरवाजे के पास मिला है।"40 साल के जॉनसन ने 2015 में 73 टेस्ट और 153 मैचों में क्रमश : 313 और 239 विकेट लेने के बाद 2015 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया, वह लीजेंड्स लीग क्रिकेट में जैक्स कैलिस की अगुवाई वाली इंडिया कैपिटल के लिए खेल रहे हैं। एक अन्य पोस्ट में, जॉनसन ने लिखा, "इस सांप के सिर की एक बेहतर तस्वीर मिली। अभी भी अनिश्चित है कि यह वास्तव में क्या है। लखनऊ, भारत में अब तक दिलचस्प प्रवास।"लीजेंड्स लीग क्रिकेट ने पूर्व स्टार खिलाड़ियों को एक बैनर तले एक साथ ला दिया है। इंडिया कैपिटल का प्रतिनिधित्व करने वाले जॉनसन ने शनिवार को गुजरात जायंट्स के कप्तान वीरेंद्र सहवाग को आउट किया, लेकिन बाद में ऑस्ट्रेलियाई ने तीन ओवर में 1/22 के आंकड़े के साथ तेजी से वापसी करते हुए मैच को तीन विकेट से जीत लिया। इंडिया कैपिटल्स का अगला मैच बुधवार को यहां भीलवाड़ा किंग्स से होगा।राशिफल19सितंबर2021कर्कराशिवालेजल्दबाजीमेंनालेंकोईफैसलाजानिएअन्यराशियोंकाहाल'RRR' टीम कर रही है देश के अलग-अलग शहर का दौरा, जयपुर पहुंचे जूनियर एनटीआर, राम चरण, राजामौली******Highlightsआर आर आर के प्रमोशन के लिए RRR की टीम मल्टी-सिटी टूर प्रमोशन्स कर रही है। जूनियर एनटीआर, राम चरण और निर्देशक एसएस राजामौली संग'आरआरआर' की टीम आज जयपुर पहुंची और वहां उन्होंने कॉलेज स्टूडेंट्स के साथ बातचीत की। इससे पहले टीम ने अमृतसर के गोल्डन टेंपल का दौरा किया था।बता दें बेंगलुरु, हैदराबाद और दुबई के बाद, निर्देशक एसएस राजामौली, अभिनेता जूनियर एनटीआर और राम चरण संग 'आरआरआर' की पैन इंडिया कास्ट ने बड़ोदरा में सरदार वल्लभभाई पटेल स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का दौरा किया और इसके साथ ही यह भारत के ऐतिहासिक स्मारक का दौरा करने वाली पहली फिल्म बन गई है।हाल ही में इस कॉलेज विजिट की तस्वीरें और वीडियोज मेकर्स ने शेयर किए, जिससे हमें इंटरेक्शन इवेंट की झलक दिखाई दी। एक खचाखच भरे हुए ऑडिटोरियम से लेकर कॉलेज के स्टूडेंट्स के बीच एनर्जी और उत्साह तक, यहां वो सब कुछ देखने मिला जिससे आप एक RRR इवेंट के ग्रैंड बनने की उम्मीद करते है।इस तरह से हैदराबाद, बेंगलुरू, बड़ोदरा, दिल्ली, अमृतसर, जयपुर, कोलकाता और वाराणसी से दुबई तक, निर्माताओं ने एक बड़े पैमाने पर प्रमोशन की योजना तैयार की है, जिसमें वे 18-22 मार्च तक फिल्म के प्रचार के लिए देश के प्रमुख संभावित बाजारों का दौरा करेंगे।दिलचस्प बात यह है कि एक और बेंचमार्क स्थापित करते हुए, भारत का सबसे बड़ा एक्शन ड्रामा, एसएस राजामौली की आरआरआर डॉल्बी सिनेमा में रिलीज होने वाली पहली भारतीय फिल्म है।इस फिल्म में राम चरण और जूनियर एनटीआर के अलावा एक स्टार-स्टडेड लाइनअप शामिल है। फिल्म में इन दोनों मेगा पावर स्टार्स के अलावा अजय देवगन, आलिया भट्ट, ओलिविया मॉरिस महत्वपूर्ण भूमिकाओं में दिखाई देंगे, जबकि समुथिरकानी, रे स्टीवेन्सन और एलिसन डूडी सहायक भूमिकाओं में स्क्रीन शेयर करते नजर आएंगे।पेन स्टूडियोज के जयंती लाल गड़ा ने पूरे उत्तर भारत में थिएट्रिकल वितरण अधिकार हासिल किए हैं और सभी भाषाओं के लिए दुनिया भर में इलेक्ट्रॉनिक अधिकार भी खरीदे हैं। जबकि, पेन मरुधर फिल्म को नॉर्थ टेरिटरी में डिस्ट्रीब्यूट करेंगे।तेलुगु भाषा की पीरियड एक्शन ड्रामा फिल्म डीवीवी एंटरटेनमेंट्स के डी वी वी दानय्या द्वारा निर्मित है। ऐसे में RRR 25 मार्च 2022 को रिलीज हो रही है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:45
उद्धरण 1 इमारत
Rishi Sunak: ब्रिटेन में प्रधानमंत्री पद के प्रबल उम्मीदवार ऋषि सुनक ने माता-पिता और पत्नी का जताया आभार, लंदन के विम्बले में लगे 'ऋषि- ऋषि' के नारे******Highlightsब्रिटेन में कंजर्वेटिव पार्टी के नए नेता पद और प्रधानमंत्री पद के प्रबल उम्मीदवार ऋषि सुनक ने चुनाव प्रचार से जुड़े अंतिम कार्यक्रम में अपने माता-पिता तथा पत्नी अक्षता मूर्ति का, उनके सहयोग के लिए आभार जताया। बुधवार रात को लंदन के विम्बले में एक कार्यक्रम में लोगों ने ‘‘ऋषि- ऋषि’’ के नारे लगाए। गर्मजोशी भरे इस स्वागत से यह तो साफ था कि कम से कम इन दर्शकों के लिए सुनक ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद पर बोरिस जॉनसन का स्थान लेने के लिए मुकाबले में सबसे आगे हैं। सुनक ने कहा, ‘‘चुनाव का यह अंतिम कार्यक्रम मेरे लिए बहुत खास है क्योंकि जन सेवा में आने के लिए मुझे प्रेरित करने वाले दो शख्स आज यहां मौजूद हैं - मेरी मां और पिता।’’ इसके बाद कैमरा सबसे आगे की पंक्ति में बैठे उनके चिकित्सक पिता यशवीर तथा फार्मासिस्ट मां ऊषा की ओर मुड़ गया। उनके साथ सुनक की पत्नी भी बैठी हुई थीं। सुनक ने तालियों की गड़गड़ाहट के बीच कहा, ‘‘उन्होंने लोगों के लिए जो किया, उसने मुझे राजनीति में आने के लिए प्रेरित किया। अपने बच्चों को बेहतर जिंदगी देने की कोशिश तथा उनके लिए हमेशा त्याग देने के लिए मां, पिता आपका धन्यवाद। मुझे यह सिखाने के लिए भी आपका शुक्रिया कि कड़ी मेहनत तथा विश्वास और परिवार के प्यार से आप अपने महान देश के लिए कुछ भी हासिल कर सकते हैं।’’ऋषि सुनक ने अपनी प्रेम कहानी बतायीअपनी पत्नी को ‘अद्भुत, प्यार करने वाली, विनम्र’बताते हुए सुनक ने अमेरिका के स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाई के दौरान की अपनी प्रेम कहानी बतायी। उन्होंने कहा, ‘‘तुम जानती हो कि तुम मेरे लिए कितना मायने रखती हो और मैं इस बात का बहुत आभारी हूं कि 18 साल पहले तुमने मुझे चुना था।’’ इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री पद की दौड़ में शामिल सुनक तथा उनकी प्रतिंद्वद्वी लिस ट्रस ने महंगाई, अपराध से लड़ने, कर और आव्रजन सुधारों तथा विदेश नीति की प्राथमिकताओं पर अपने नजरिए से टोरी के उन सदस्यों को राजी करने की आखिरी कोशिश की, जिन्होंने अभी तक यह फैसला नहीं किया है कि वे किसे वोट देंगे। ब्रिटेन का ‘पहला अश्वेत प्रधानमंत्री’ बनने की दौड़ में सबसे बड़ा बलिदान देने के एक सवाल के जवाब में सुनक ने कहा, ‘‘मैंने जो सबसे बड़ा त्याग किया है, वह यह है कि मैं पिछले कुछ वर्षों से एक पति तथा पिता के रूप में अपनी भूमिका अच्छी तरह नहीं निभा पा रहा हूं। यह मेरे लिए वाकई बहुत मुश्किल है क्योंकि मैं अपने बच्चों तथा पत्नी से बहुत प्यार करता हूं और दुर्भाग्य से पिछले कुछ वर्षों में उनकी जिंदगियों में मेरी मौजूदगी थोड़ी कम हो गयी है।’’मैं अपने देश की बहुत परवाह करता हूं: ऋषि सुनकउन्होंने कहा, ‘‘लेकिन चूंकि मुझे लगता है कि ये काम करना बहुत बड़ा विशेषाधिकार है। मैं अपने देश की बहुत परवाह करता हूं तथा मुझे लगता है कि मैं देश को ऐसा कुछ दे सकता हूं, जिससे लाखों लोगों को फायदा मिलेगा।’’ लंदन में हुआ यह कार्यक्रम कंजर्वेटिव पार्टी के नेता के चुनाव की दौड़ में 12वां और अंतिम कार्यक्रम था। चुनाव शुक्रवार शाम को खत्म हो जाएगा तथा विजेता की घोषणा सोमवार को होने की संभावना है।
2022-10-01 04:57
उद्धरण 2 इमारत
कपिल देव बनने के लिए अश्विन करते थे ये काम, खुद ही किया खुलासा******Highlightsभारत और श्रीलंका के बीच मोहाली में खेला गया पहला टेस्ट मैच टीम इंडिया ने जीत लिया है और सीरीज में बढ़त भी बना ली। सीरीज का पहला मैच टीम इं​डिया के स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के लिए बहुत ही खास रहा। रवि अश्विन ने इस मैच में भारतीय टीम के कप्तान रहे कपिल देव को विकेटों के मामले में पीछे छोड़ दिया है। अब रविचंद्रन अश्विन भारत की ओर से सबसे ज्याद विकेट लेने के मामले में अनिल कुंबले के बाद दूसरे नंबर पर आ गए हैं। इस बीच कपिल देव के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ने के बाद अश्विन ने अपने मन की बात बताई है। कपिल देव के 434 टेस्ट विकेट से आगे निकलने वाले भारत के स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने खुलासा किया कि बचपन में वह एक बल्लेबाज बनना चाहते थे और अगला कपिल पाजी बनने के लिए मध्यम तेज गेंदबाजी करते थे।करीब 35 साल के हो चुके रविचंद्रन अश्विन ने कपिल के 434 टेस्ट विकेट को अपने 85वें टेस्ट में पीछे छोड़ा। अश्विन ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि बहुत अच्छा लग रहा है। 28 साल पहले मैं अपने दा के साथ कपिल पाजी के लिए तालियां बजा रहा था, जब उन्होंने रिचर्ड हैडली का रिकॉर्ड तोड़ा था। उन्होंने कहा कि मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि उनसे ज्यादा विकेट लूंगा क्योंकि मैं बल्लेबाज बनना चाहता था, खासकर आठ वर्ष की उम्र में जब मैंने खेलना शुरू किया था।रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि 1994 में बल्लेबाजी मेरा शौक था। सचिन तेंदुलकर उभरते सितारे थे और कपिल देव खुद शानदार बल्लेबाज थे। अश्विन ने कहा कि अपने पिता की सलाह पर मैं मध्यम तेज गेंदबाजी करता था ताकि अगला कपिल पाजी बन सकूं। वहां से आफ स्पिनर बनना और इतने साल तक भारत के लिए खेलना। मैने कभी यह सोचा भी नहीं था।(Bhasha inputs)
2022-10-01 04:49
उद्धरण 3 इमारत
सरकार दे रही है सस्‍ता सोना खरीदकर मोटा मुनाफा कमाने का मौका, 31 अगस्‍त को इस कीमत पर शुरू होगी बिक्री******Next tranche of gold bond opens on Aug 31, issue price at Rs 5,117 per gramSovereign Gold Bond Scheme (सॉवरेन गोल्‍ड बांड स्‍कीम) की छठी किस्‍त के लिए आरबीआई ने 5,117 रुपए प्रति ग्राम का मूल्‍य तय किया है। Sovereign Gold Bond Scheme 2020-21 series VI सब्‍सक्रिप्‍शन के लिए 31 अगस्‍त, 2020 को खुलेगी और यह 4 सितंबर, 2020 को बंद होगी। पांचवी किस्‍त में बांड के लिए इश्‍यू प्राइस 5,334 रुपए प्रति ग्राम था। पांचवी किस्‍त 3 अगस्‍त को खुली थी और 7 अगस्‍त को बंद हुई थी। आरबीआई ने अपने बयान में कहा है कि का मूल्‍य उसके पेश होने वाले सप्‍ताह से पहले हफ्ते के अंतिम तीन कारोबारी दिनों में 99.9 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की औसत बंद कीमत पर आधारित होती है। मौजूदा श्रृंखला के लिए यह गणना 26 अगस्‍त से 28 अगस्‍त 2020 के औसत बंद भाव पर 5,117 रुपए प्रति ग्राम तय की गई है। आरबीआई की सहमति से सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने और बांड खरीदने के लिए डिजिटल भुगतान करने वाले उपभोक्‍ताओं को प्रति ग्राम 50 रुपए डिस्‍काउंट देने का निर्णय लिया है। ऐसे निवेशकों के लिए बांड की कीमत 5,067 रुपए प्रति ग्राम होगी। सरकार की गारंटी वाले स्‍वर्ण बांड को भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी किया जाता है।देश में सोने का आयात घटाने और इसकी भौतिक मांग में कमी लाने के लिए सरकार ने नवंबर 2015 में यह स्‍कीम पेश की थी। बांड को एक ग्राम यूनिट में खरीदा जा सकता है और इसकी परिपक्‍वता अवधि पांच साल के बाद एग्जिट ऑप्‍शन के साथ 8 साल है। इन बांड में केवल भारतीय व्‍यक्ति, हिंदु अविभाजित परिवार, ट्रस्‍ट, विश्‍वविद्यालय और सामाजिक संस्‍था निवेश कर सकते हैं।एक वित्‍त वर्ष में न्‍यूनतम एक ग्राम गोल्‍ड बांड में निवेश के साथ अधिकतम सीमा व्‍यक्ति व एचयूएफ के लिए 4 किग्रा और ट्रस्‍ट के लिए 20 किग्रा है। वित्त वर्ष 2019-20 में रिजर्व बैंक ने दस किस्तों में कुल 2,316.37 करोड़ रुपए यानी 6.13 टन के स्वर्ण बांड जारी किए।गोल्‍ड बांड को बैंकों, स्‍टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, अधिसूचित पोस्‍ट ऑफ‍िस और स्‍टॉक एक्‍सचेंज (एनएसई और बीएसई) के जरिये बेचा जाएगा। आरबीआई की वार्षिक रिपोर्ट 2019-20 के मुताबिक नवंबर 2015 में लॉन्‍च होने के बाद से सॉवरेन गोल्‍ड बांड स्‍कीम के तहत 37 किस्‍तों में 30.98 टन सोने के लिए बांड की बिक्री कर कुल 9,652.78 करोड़ रुपए जुटाए हैं।
वापसी