नई पोस्ट करें

Ankita Murder Case: 'रिजॉर्ट में आती थीं बाहर से लड़कियां, नशे का रहता था स्टॉक', जॉब छोड़ने वाले दंपति ने खोला पुलकित का काला चिट्ठा

2022-10-01 06:16:46 871

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाजिम्‍बाब्‍वे के पूर्व राष्‍ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे का निधन, आजादी के बाद 37 साल तक हाथ में रखी सत्‍ता******अफ्रीकी देश जिम्‍बाब्‍वे के पूर्व तानाशाह और 37 साल तक देश के राष्‍ट्रपति रहे रॉबर्ट मुगाबे का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। 95 साल की उम्र में मुगाबे ने सिंगापुर के एक अस्‍पताल में अंतिम सांस ली। बताया जा रहा है कि मुगाबे इस साल अप्रैल से बीमार थे और यहां पर इलाज चल रहा था।मुगाबे दुनिया भर में लंबे समय तक सत्‍ता पर कब्‍जा जमाने वाले तानाशाह के रूप में मशहूर हैं। ब्रिटेन शासन से आजादी की लड़ाई लड़ने वाले मुगाबे 1980 में मिली स्‍वतंत्रता के बाद वहां की सत्‍ता पर काबिज हुए। मुगाबे 1980 से 1987 तक प्रधानमंत्री और 1987 से 2017 तक राष्ट्रपति रहे थे। मुगाबे करीब 37 साल तक जिम्‍बाब्‍वे की सत्‍ता पर काबिज रहे। 2017 में फौज के विद्रोह के बाद मुगाबे ने सत्‍ता छोड़ दी थी।

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाEarth Energy ने लॉन्‍च किए तीन नए इलेक्ट्रिक स्‍कूटर, कीमत है 92 हजार से लेकर 1.42 लाख रुपये******Earth Energy launches three electric two wheelers priced up to Rs 1.42 lakhअर्थ एनर्जी ईवी (Earth Energy EV) ने बुधवार को देश में तीन नए इलेक्ट्रिक स्‍कूटर लॉन्‍च किए हैं। इनकी कीमत 92,000 रुपये से लेकर 1,42,000 रुपये होगी। GLYDE+ मॉडल की कीमत 92,000 रुपए है। Evolve Z मॉडल की कीमत 1.3 लाख रुपये और Evolve R मॉडल की कीमत 1.42 लाख रुपये है। मुंबई की इस स्‍टार्टअप ने कहा कि इन में 96 प्रतिशत स्‍थानीय उपकरणों का इस्‍तेमाल किया गया है। अर्थ एनर्जी ईवी के सीईओ और संस्‍थापक रूशी एस ने कहा कि देश में पर्यावरण के लिए बढ़ती जागरूकता, पेट्रोल कीमत में वृद्धि और कठोर उत्‍सर्जन नियमों आदि की वजह से भारत में इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग तेजी से उभर रहा है। हमें लगता है कि इलेक्ट्रिक वाहनों की स्‍वीकार्यता अब पहले के मुकाबले अधिक बढ़ गई है।उन्‍होंने आगे कहा कि कंपनी की योजना अगले कुछ माह में एक इलेक्ट्रिक लाइट कमर्शियल व्‍हीकल को लॉन्‍च करने की भी है, जो एक मॉड्यूलर डिजाइन के साथ आएगा। कंपनी वर्तमान में मुंबई के बाहरी इलाके में स्थित अपने विनिर्माण संयंत्र में इलेक्ट्रिक दो-‍पहिया वाहनों का निर्माण करती है। इस संयंत्र की सालाना उत्‍पादन क्षमता 12,000 इकाई है।रूशी एस ने कहा कि हम 65,000 इकाई वार्षिक क्षमता वाले एक नए संयंत्र की स्‍थापना पर भी काम कर रहे हैं। कंपनी की योजना इस साल के अंत तक 45 डीलर आउटलेट्स खोलने की भी है। वर्तमान में कंपनी के पास मुंबई में सात स्‍थानों पर 7 डीलरशिप हैं। कंपनी ने कहा कि उसके मॉडल्‍स स्‍मार्टफोन के लिए एक इन-बिल्‍ट एप के साथ आते हैं, जो राइडर्स को लाइव नेविगेशन स्‍टेट्स, इनकमिंग कॉल्‍स/मैसेज अलर्ट, ट्रिप हिस्‍ट्री और करेंट डेस्‍टीनेशन की जानकारी ऑन-स्‍क्रीन दिखाने में मदद करता है। ये सभी स्‍कूटर एक बार फुल चार्ज होने पर 110 किलोमीटर की दूरी तय करने में सक्षम हैं। इस तरह देखा जाए तो हम कह सकते हैं इन इलेक्ट्रिक स्‍कूटर का माइलेज 110 किलोमीटर प्रति चार्ज (KMPC) है।रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाMonsoon 2017: मुंबई समेत इन राज्यों में भारी बारिश का अनुमान, गोवा के बाद इन इलाकों में दी मानसून ने दस्तक******दक्षिण पश्चिमी मानसून गोवा के बाद मुंबई की ओर तेजी से आगे बढ़ चुका है। माना जा रहा है कि कुछ ही घंटों में मानसून मुंबई में दस्तक दे देगा। न्यूज एजेंसी एनआई के मुताबिक IMD ने मुंबई की सभी एजेंसियों को अलर्ट किया है कि अगले 48 घंटे में भारी बारिश हो सकती है। साथ ही अगले दो-तीन दिन तक उत्तर भारत में दिल्ली समेत कई इलाकों में प्री-मानसून की भारी होने का अनुमान है। वहीं,मानसून कर्नाटक के तटीय इलाकों, कोंकण को कवर कर चुका है। मुंबई में पिछले 24 घंटों के दौरान करीब 31.4 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। मुंबई के उपनगरीय इलाकों में 20.2 मिलीमीटर, पालघर जिले में 57.4, रायगढ़ में 53.6, रत्नागिरी में 116, सिंधु दुर्ग में 49.2 और ठाणे में 43.9 मिलीमीटर बारिश हुई। वहीं, नार्थ गोवा में 54.3 मिली बारिश दर्ज की गई। Maharashtra: Mumbai may see heavy rainfall in next two days. Regional Meteorological Centre issues warning to local authorities.— ANI (@ANI_news) मौसम विभागके डायरेक्टर एमएल साहू ने शनिवार को बताया- गोवा और महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में पिछले 24 घंटे से भारी बारिश हो रही है। अगले 12 घंटे में तेज बारिश हो सकती है। इन इलाकों में 45-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दक्षिण-पश्चिमी हवाएं चल रही हैं। आगे यह 60 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच सकती है।गोवा में बीच पर टूरिज्म पर कुछ दिनों के लिए रोक लगा दी गई है। जबकि खराब मौसम के कारण मछुआरों को समुद्र में जाने से रोक दिया गया है। औरंगाबाद, जालना, हिंगोली, लातूर और उस्मानाबाद में शनिवार को भी बारिश जारी है। वेदर डिपार्टमेंट ने बताया कि अगले 24 घंटे में मुंबई में भारी बारिश हो सकती है। लोगों से समुद्र तटों से दूर रहने को कहा गया है।मौसम विभाग के महानिदेशक डॉ. केजे रमेश के अनुसार, मानसून की रफ्तार थोड़ी कमजोर जरूर है लेकिन इसमें कोई खास देरी नहीं हुई है। इस बार दिल्ली में तय समय यानी 29 जून को मानसून के पहुंचने का अनुमान है। दिल्ली में 1987 में मानसून 26 जुलाई को पहुंचा था जो अब तक का सबसे देरी से पहुंचने का रिकॉर्ड है। 2002 में 19 जुलाई को मानसून पहुंचा था। इसी प्रकार 2008 में मानसून 15 जून को ही पहुंच गया था जो सबसे जल्दी पहुंचने का रिकॉर्ड है। मौसम विभाग के अनुसार 11 जून तक भोपाल समेत राज्य के कई इलाकों में आंशिक बादल छाए रहेंगे और कहीं हल्की, तो कहीं मध्यम बारिश होने की संभावना है। विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर बनने से मौसम में बदलाव हुआ है। आने वाले दो-तीन दिन मौसम ऐसा ही रहेगा। 16 जून के आसपास मानसून के पूरे प्रदेश में छा जाने की उम्मीद है।

Ankita Murder Case: 'रिजॉर्ट में आती थीं बाहर से लड़कियां, नशे का रहता था स्टॉक', जॉब छोड़ने वाले दंपति ने खोला पुलकित का काला चिट्ठा

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाKBC की हॉट सीट पर बैठे अभिषेक बच्चन नहीं दे पाए पापा अमिताभ के सवालों के जवाब !******: टीवी शो ''में जल्द ही अभिनेता के सामने हॉट सीट पर बैठे दिखाई देंगे उनके पुत्र । अमिताभ और अभिषेक का प्रोमो भी खूब चर्चा में है। प्रोमो देखकर ही लोग उस एपिसोड का बेसब्री से इंतजार करने लगे हैं, लोग अमिताभ और अभिषेक को एकसाथ एक शो में देखने के लिए बेताब हैं।अभिषेक पापा के शो में अपनी फुटबॉल टीम का प्रचार करने आए थे। ऐसे में अमिताभ ने अभिषेक को हॉट सीट पर बिठाकर फुटबॉल से जुड़ा सवाल पूछ डाला। उम्मीद थी कि अभिषेक फुटबॉल से जुड़े सवाल का तो जवाब आसानी से दे देंगे, लेकिन हुआ ठीक उल्टा। खबरों के मुताबिक जब अमिताभ ने अभिषेक से फुटबॉल से जुड़ा सवाल पूछा तो अभिषेक बगले झांकने लगे। अमिताभ हैरान हो गए। अमिताभ ने अभिषेक को याद दिलाया कि वो अक्सर घर में फुटबॉल पर बात करते हैं फिर क्या वजह है कि वो इस सवाल का जवाब नहीं दे पा रहे हैं।अभिषेक इंडियन सुपर लीग की टीम चेन्नईयन के एफसी के मालिक हैं। इसके अलावा वह ऑल स्टार्स फुटबॉल क्लब के कैप्टन भी हैं, बता दें यह एक सेलिब्रिटी टीम है जिसमें रणबीर कपूर, वरुण धवन और अर्जुन कपूर जैसे सितारे शामिल हैं।बता दें इससे पहले सोनी टीवी के आधिकारिक फेसबुक पेज पर प्रोमो जारी किया गया था। प्रोमो में अभिषेक बच्चन नजर आ रहे हैं। अभिषेक कहते दिख रहे हैं, ‘न्यू-न्यू सीजन है ध्यान लगाकर देख, केबीसी अब होस्ट करेगा आपका अभिषेक।' इससे पता चलता है शो अभिषेक भी होस्ट करते दिखेंगे।शो का एक और प्रोमो भी जारी हुआ है जिसमें अभिषेक अमिताभ को हॉट सीट पर बिठाकर उनसे केबीसी खेलते दिख रहे हैं। बाप-बेटे की यह जुगलबंदी देखकर पता चलता है कि शो काफी इंट्रेस्टिंग होने वाला है।आप लोग यह एपिसोड देखने के लिए काफी बेताब होंगे। हम बता दें, अमिताभ और अभिषेक इसी शुक्रवार 15 सितंबर को कौन बनेगा करोड़पति में साथ नजर आएंगे।​रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठादेश के 75 सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशनों पर लहराएगा 100 फुट ऊंचा तिरंगा****** ने देश के 75 सबसे व्यस्त स्टेशनों के परिसर में इस साल के अंत तक 100 फुट ऊंचा राष्ट्रध्वज लगाने का फैसला किया है। रेलवे बोर्ड ने 22 अक्टूबर को इस सिलसिले में आदेश जारी किया है जिसे सभी क्षेत्रीय रेलवे को भेज दिया गया है।आदेश के मुताबिक संबद्ध अधिकारियों से अगले महीने के अंत तक राष्ट्र ध्वज लगाने का काम पूरा करने को कहा गया है। यह आदेश रेलवे बोर्ड के कार्यकारी निदेशक (स्टेशन विकास) विवेक सक्सेना ने जारी किया है। इसमें कहा गया है कि बोर्ड ने पहले के ए 1 श्रेणी के सभी रेलवे स्टेशनों पर कम से कम 100 फुट ऊंचा राष्ट्रध्वज लगाने का फैसला किया है। में सात स्टेशनों पर राष्ट्रध्वज लगाए जाएंगे। पश्चिम रेल के मुख्य प्रवक्ता रवींद्र भाकर ने बताया कि रेलवे बोर्ड के आदेश को अक्षरश: लागू किया जाएगा।वहीं, पश्चिम रेल द्वारा गठित जोनल रेलवे यूजर कंसलटेटिव कमेटी के सदस्य रतन पोद्दार ने कहा कि रेलवे की प्राथमिकता यात्री सुविधाओं को बढ़ाने की होनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि महज ध्वज लगा देने से लोगों में देशभक्ति की भावना आ जाएगी।’’रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाASUS का नया Zenfone गो लाइव 24 मई को होगा लॉन्‍च, लाइव स्‍ट्रीमिंग फीचर से होगा लेस****** ताईवान की स्‍मार्टफोन मैन्‍यूफैक्‍चरर्स ASUS अपने Zenfone सिरीज के तहत एक नया स्‍मार्टफोन भारत में लॉन्‍च करने की तैयारी में है। जेनफोन गो लाइव नाम के इस स्‍मार्टफोन को 24 मई को लॉन्‍च किया जाएगा। इस फोन में लाइव स्‍ट्रीमिंग और सेल्‍फी वीडियो के दौरान वीडियो और ऑडियों दोनों के लिए रियल टाइम एनहैंसमेंट की सुविधा होगी।रियल टाइम एनहैंसमेंट की मदद से यूजर्स अपने पसंदीदा सोशल नेटवर्किंग साइट जैसे फेसबुक, यूट्यूब और इंस्‍टाग्राम पर कहीं से भी और किसी भी समय लाइव स्‍ट्रीम कर सकेंगे। आसुस ने सस्‍ता किया जेनफोन 3 स्‍मार्टफोन, 8000 रुपए तक कम हुई कीमतेंकंपनी ने ट्वीट में जानकारी दी है कि एक बड़े बदलाव वाले नए जेनफोन के लिए 24 मई को तैयार रहें। फिलहाल कंपनी ने इसकी कीमत व उपलब्धता की कोई जानकारी नहीं दी है। ये पहला ऐसा स्मार्टफोन हो सकता है, जिसमें रियल-टाइम ब्यूटीफिकेशन मोड की खूबी होगी। इस स्मार्टफोन की खासियत ब्यूटीलाइव एप है, जिससे यूजर दरअसल किसी भी सोशल मीडिया की साइट पर लाइव स्ट्रीमिंग के दौरान ही अपने चेहरे पर ब्यूटीफिकेशन फिल्टर्स का प्रयोग कर सकेंगे। इस स्मार्टफोन में ड्यूल MEMS (माइक्रो इलैक्ट्रो-मैकेनिकल सिस्टम्स) माइक्रोफोन्स दिए गए हैं, जिससे बैकग्राउंड का शोर कम होगा व वॉयस क्वालिटी भी बेहतर बनेगी।इसके अलावा इस स्मार्टफोन के कैमरा में भी एक ब्यूटीफिकेशन मोड दिया गया है, जोकि चेहरे के फीचर्स को बैलेंस करता है, रंगत को बदला जा सकता है और चाहें तो चेहरे पर अतिरिक्त दागों आदि को भी आसानी से हटाया जा सकता है। बात करें इसके कैमरा की तो इसमें 13 मेगापिक्सल का रियर कैमरा LED फ्लैश की सुविधा के साथ है। वहीं फ्रंट के लिए इसमें 5 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है जो सॉफ्ट लाइट LED फ्लैश की खूबी के साथ है।

Ankita Murder Case: 'रिजॉर्ट में आती थीं बाहर से लड़कियां, नशे का रहता था स्टॉक', जॉब छोड़ने वाले दंपति ने खोला पुलकित का काला चिट्ठा

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाMusk Effect: मस्क के टेकओवर से पहले Twitter में हुआ बड़ा बदलाव! CEO पराग ने 2 अफसरों को हटाया, नियुक्तियों पर रोक******TwitterHighlightsमशहूर कारोबार Elon Musk द्वारा बीते महीने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर को खरीदने के बाद से यहां हलचल तेज है। इस बीच कंपनी के सीईओ पराग अग्रवाल ने गुरुवार को नया धमाका कर दिया। पराग ने कंपनी के दो टॉप अधिकारियों को पद से हटा दिया है। इसके साथ ही पराग ने कंपनी में नई नियुक्तियों पर रोक लगा दी हैट्विटर ने गुरुवार को दो वरिष्ठ अधिकारियों को बाहर निकालने की पुष्टि की है। यह कार्रवाई तब हुई है, जब एलन मस्क (Elon Musk) इस वैश्विक मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के नए मालिक बनने की ओर अग्रसर हैं। फिलहाल मस्क अपनी अलग अलग कंपनियों में हिस्सेदारी बेचकर ट्विटर के लिए पैसा जुटा रहे हैं।ट्विटर के एक प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी AFP को बताया कि कंपनी में रिसर्च, डिजाइन और इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट को लीड करने वाले जनरल मैनेजर कायवन बेकपोर और प्रोडक्ट हेड ब्रूस फाल्क, दोनों पद छोड़ रहे हैं। इसबीच, पैटर्नल लीव पर चल रहे बेकपोर ने कहा कि उन्हें सैन फ्रांसिस्को स्थित टेक कंपनी से हटा दिया गया है। उन्होंने ट्वीट किया, "सच्चाई यह है कि ट्विटर छोड़ने की कल्पना कब और कैसे हुआ, पता नहीं, लेकिन यह मेरा निर्णय नहीं है।"रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाएक दिन में इतने कप कॉफी पीना हो सकता है आपकी सेहत के लिए खतरनाक, स्टडी में हुआ खुलासा****** कॉफी पीना, खासकर एक दिन में 25 कप तक, धमनियों के लिए उतना भी बुरा नहीं है जितना पूर्व के अध्ययनों में माना गया है। सोमवार को सामने आए एक नये अध्ययन में ऐसा कहा गया है।धमनियां हमारे ह्रदय से ऑक्सीजन एवं पोषक तत्वों से युक्त रक्त को हमारे पूरे शरीर तक पहुंचाती हैं। अगर इनका लचीलापन खत्म होता है और ये सख्त हो जाती हैं तो ह्रदय पर जोर पड़ता है तथा व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ने या आघात का खतरा बढ़ जाता है।ब्रिटेन के क्वीन मैरी लंदन विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं के इस अध्ययन में 8,000 लोगों को शामिल किया गया था। यह अध्ययन पूर्व के अध्ययनों को गलत बताता है जिनमें दावा किया गया था कि कॉफी पीने से धमनियों में सख्ती आ जाती है।शोधकर्ताओं ने कहा कि कॉफी पीने को धमनियों की सख्ती से जोड़ने वाले पूर्व अध्ययन परस्पर विरोधी थे और प्रतिभागियों की कम संख्या होने की वजह से इनको सर्वमान्य नहीं माना जा सकता।अध्ययन के लिए कॉफी की खपत को तीन श्रेणियों में बांटा गया था। पहला जो एक दिन में एक कप से कम कॉफी पीते हैं, दूसरा जो प्रतिदिन एक से तीन कप और तीसरा जो तीन कप से ज्यादा कॉफी पीते हैं।एक दिन में 25 कप से ज्यादा कॉफी पीने वाले लोगों को अध्ययन से बाहर रखा गया लेकिन इस उच्च सीमा तक भी कॉफी पीने वाले लोगों की तुलना जब एक कप से कम कॉफी पीने वालों से की गई तो उनकी धमनियों में सख्ती बढ़ जाना जैसा कुछ नहीं देखा गया।

Ankita Murder Case: 'रिजॉर्ट में आती थीं बाहर से लड़कियां, नशे का रहता था स्टॉक', जॉब छोड़ने वाले दंपति ने खोला पुलकित का काला चिट्ठा

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाअमेरिका ने कहा, चीन-पाकिस्तान के रिश्ते पर राहुल गांधी के बयान का समर्थन नहीं******Highlightsअमेरिका के एक शीर्ष राजनयिक ने कहा है कि अमेरिका कांग्रेस नेता राहुल गांधी की उस टिप्पणी का ‘समर्थन नहीं करता’ जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार की विदेश नीति के फैसलों ने चीन और पाकिस्तान को भारत के खिलाफ एक साथ ला दिया है। विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने बुधवार को लोकसभा में गांधी की टिप्पणियों से जुड़े एक सवाल के जवाब में कहा, ‘मैं इसे पाकिस्तान और चीन के लोगों पर उनके संबंधों पर बात करने के लिए छोड़ना चाहूंगा। मैं निश्चित रूप से उन टिप्पणियों का समर्थन नहीं करूंगा।’अपनी प्रेस वार्ता में एक अन्य सवाल के जवाब में प्राइस ने कहा कि देशों को और के बीच चयन करने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा, ‘हमने हमेशा यह बात रखी है कि दुनिया के किसी भी देश के लिए अमेरिका और चीन के बीच चयन करने की आवश्यकता नहीं है। जब अमेरिका के साथ संबंधों की बात आती है तो हमारा इरादा देशों को विकल्प प्रदान करने का है। हमें लगता है कि अमेरिका के साथ साझेदारी से कई लाभ मिलते हैं जो देशों को आमतौर पर तब नहीं मिलते जब यह अलग तरह की साझेदारी होती है।’प्राइस ने कहा, ‘चीन ने जिस तरह के रिश्तों की तलाश की है, जैसा वह दुनिया भर में करना चाहता है, इस तरह ‘साझेदारी’ गलत शब्द हो सकता है।’ के प्रधानमंत्री इमरान खान बीजिंग शीतकालीन ओलंपिक के उद्घाटन समारोह में भाग लेने के लिए बृहस्पतिवार को चीन के लिए रवाना हुए और राष्ट्रपति शी जिनपिंग सहित शीर्ष चीनी नेताओं से भी वह मुलाकात करेंगे। चीन और अमेरिका के बीच रिश्तों में खटास है। कई मुद्दों पर दोनों देशों के बीच टकराव जारी है।विदेश विभाग के प्रवक्ता ने पाकिस्तान को अमेरिका का ‘रणनीतिक साझेदार’ बताया और कहा, ‘इस्लामाबाद में सरकार के साथ हमारा एक महत्वपूर्ण रिश्ता है और यह एक ऐसा रिश्ता है जिसे हम कई मोर्चों पर महत्व देते हैं।’ बुधवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान लोकसभा में कांग्रेस नेता ने सीमा पर चीन की आक्रामकता और पाकिस्तान की सीमा से जुड़ी चुनौती का उल्लेख करते हुए कहा, ‘आप खतरे को हल्के में मत लीजिए। आप चीन और पाकिस्तान को साथ ला चुके हैं, यह भारत के लोगों के साथ सबसे बड़ा अपराध है।’

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठा'केबीसी 14' के कंटेस्टेंट संग अमिताभ बच्चन की हंसी-ठिठोली फैंस को आई पसंद******Highlightsमेगास्टार अमिताभ बच्चन को केबीसी में अक्सर कंटेस्टेंट्स के साथ मजाक करते हुए देखा जाता है। इस बार दिल्ली के 35 वर्षीय व्यवसायी हर्ष पोद्दार के साथ अमिताभ बच्चन ने भरपूर मस्ती की और नटखट सवाल जवाब किए। हर्ष ने कहा, "सर मुझे अपने और अपनी पत्नी के बीच हुए विवाद के बारे में आपको कुछ बताना है। जब भी मैं ऑफिस से एक मुस्कान के साथ लौटता हूं..।"बात पूरी करने से पहले ही बिग बी ने जवाब दिया, "आज हंस रहे हैं। आज आप किससे मुलाकत करके आए हैं?"तब प्रतियोगी ने मजाक में जवाब दिया, "सर, ऐसा होता है। आपके साथ भी? और बिग बी बस मुस्कुरा दिए।"हर्ष ने कहा कि, वह सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर को आदर्श मानते हैं। चूंकि उनकी पत्नी एक डेंटिस्ट हैं, उन्होंने बच्चन से कहा कि जीत की राशि के साथ, वह उनके लिए एक क्लीनिक खोलना चाहते हैं।हर्ष ने आगे कहा, "इस शो का हिस्सा बनकर मुझे एहसास हुआ कि मैं कितना भाग्यशाली हूं कि मैं हॉटसीट पर बैठा हूं क्योंकि उस रात मेरे साथ बहुत सारे महान प्रतियोगी थे जो सबसे तेज फिंगर फर्स्ट कुर्सियों पर बैठे थे। मैंने भाग्य के साथ प्रवेश किया लेकिन बुद्धि के साथ रहा। मैं हमेशा इन यादों को संजो कर रखूंगा।"पोद्दार बुधवार रात 'कौन बनेगा करोड़पति 14' के एपिसोड में 'धन अमृत' (75 लाख रुपये) के लिए सवाल का प्रयास करते नजर आएंगे। यह शो सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन पर प्रसारित होता है।रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठा#AapKiAdalat: BJP अध्यक्ष अमित शाह, 'आतंकियों के शव देखने कपिल सिब्बल को बालाकोट जाना चाहिए'******बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आप की अदालत में कपिल सिब्बल के आतंकियों के शव दिखाने वाले बयान पर कहा कि उन्हेंआतंकियों के शव देखनेबालाकोट जाना चाहिए। दरअसल,अमित शाह से पूछा गया था किकपिल सिब्बल ने कहा था कि जनता बालाकोट में मारे गए आतंकियों के शव देखना चाहती है। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि उन्हें (कपिल सिब्बल) को वहां जाकर आतंकियों के शव देखने चाहिए।इसके अलावा अमित शाह ने कहा किकहा कि देश की सुरक्षा चुनाव का प्रमुख मुद्दा होना चाहिए क्योंकि लोग जानना चाहते हैं कि कौन देश को सुरक्षित रख सकता है। अमित शाह ने आज दिनभर चले इंडिया टीवी कॉन्क्लेव चुनाव मंच में कहा कि 'मोदी सरकार आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति है, जो जैसा करेगा उसे वैसा जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि 26/11 का हमला हुआ और आप कुछ नहीं कर सके, इसलिए देश की सुरक्षा चुनाव का प्रमुख मुद्दा होना चाहिए।समाजवादी पार्टी नेता रामगोपाल यादव के बयान से जुड़े सवाल पर अमित शाह ने कहा, 'चाहे रामगोपाल हो चाहे राहुल गांधी हो या अन्य नेता ये सभीअपने वोट बैंक को मजबूत करने के लिए इस तरह के बयान दे रहे हैं। उनके बयान और पाकिस्तान के नेताओं के बयान एक हैं, आप मिला लीजिए। अजीब बात है कि एयर स्ट्राइक से शहीदों के परिवारों को सुकून मिला और इन लोगों को दुख हो रहा है।'जब अमित शाह से यह सवाल किया गया कि एयरस्ट्राइक के मुद्दे से राजनीतिक लाभ उठाना चाहते हैं, शाह ने कहा कि एयर स्ट्राइक या सर्जिकल स्ट्राइक हमारे लिए मतों का मुद्दा नहीं है, बीजेपी देश की सुरक्षा के लिए सजग है, उसका आउटकम क्या होगा यह जनता को तय करना है। अमित शाह ने कहा कि मोदी जी की नीति आतंकवाद को लेकर बेहद सख्त है.. आतंकवादी जब हमला करते हैं तो हमें जवाब देना होगा यह नहीं देखना होगा कि चुनाव है या नहीं। उरी की घटना के बाद हमने सर्जिकल स्ट्राइक की थी उस समय तो कहीं चुनाव नहीं था।'ये मोदी जी की कूटनीतिक सफलता है कि पूरी दुनिया में पाकिस्तान अलग-थलग पड़ा हुआ है। मोदी सरकार ने अपनी कूटनीतिक सफलता के चलते यह साबित किया है कि पाकिस्तान भारत में आतंकवाद फैला रहा है और पूरी दुनिया ने भारत का समर्थन किया है। हमने पाकिस्तान में घुसकर एयर स्ट्राइक की और दुनिया ने हमारा समर्थन किया। यह हमारी आत्मरक्षा का अधिकार था जिसे पूरी दुनिया का समर्थन मिला।भारत द्वारा अंतरिक्ष में एंटी सैटेलाइट मिसाइल परीक्षण की सफलता के बाद राजनीतिक गलियारों में उठ रहे सवालों पर अमित शाह ने कहा, 'अंतरिक्ष कीदुनिया में महाशक्ति बनने पर पूरा देश गर्व कर रहा है। इतने लंबे करियर में आपने विपक्ष के नेता को घोषणा करते देखा है क्या ये तो प्रधानमंत्री हीकरते हैं। उनके राजनीतिक इच्छाशक्ति के आधार पर ही योजनाएं बनती हैं और फैसले लिये जाते हैं। काम को अंतिम रूप दिया जाता है।राजनीतिक नेतृत्व में दृढ़इच्छाशक्ति और फैसले लेने का सामर्थ्य था इसलिए यह सफलता मिली। आगे उन्होंने कहा, 'मेरी पार्टी के पास ऐसा नेतृत्व है जिसके पास हर सवाल का जवाब है।'अमित शाह ने कहा कि एयरस्ट्राइक के बाद विपक्ष के चेहरे का नूर खत्म हो गया है। देश के पीएम ने दुनिया को यह दिखाया कि हमारी सुरक्षा औरहमारी सीमाओं के साथ कोई खिलवाड़ नहीं कर सकता। अमेरिका और इजरायल के बाद भारत तीसरा देश है जिसने यह दिखाया कि कोई अगरहमारीसीमाओं का सम्मान नहीं करता है, हमारे साथ छेड़छाड़ करता है तो हम घर में घुसकर सबक सिखा सकते हैं।शाह ने कहा, 'मोदी जी विश्वास से लबालब हैं और देश को अपने काम का पूरा हिसाब दे रहे हैं। हमारा बूथ लेवल का कार्यकर्ता सीन तानकर लोगों के पास जा रहा है। हमने कोई ऐसा काम नहीं किया है कि हमारे कार्यकर्ताओं को सिर झुकाकर जनता के सामने जाना पड़े।'अमित शाह ने कहा, 'देश की जनता किसी परिवार की पूंजी नहीं है। आप देख लीजिएगा कि लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के अंदर 73 से 74 सीटें होगीं 72 नहीं होगी। विपक्ष के नेता अपना कलेजा मजबूत कर लें। इस बार जो रिजल्ट आएगा तो विपक्ष के अच्छे-अच्छे नेताओं के दिल दहल जाएंगे।'

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाZomato को चीन के निवेशकों से $10 करोड़ की फंडिंग रुकी, भारत-चीन तनाव का असर******Zomatoनई दिल्ली। फूड डिलिवरी स्टार्टअप Zomato को चीन के निवेशकों के द्वारा जारी फंडिंग रुक गई है। सूत्रों के हवाले से ये खबर सामने आई है। मीडिया में छपी एक खबर के अनुसार स्टार्टअप के सबसे बड़े चीनी निवेशक Ant Financial से मिलने वाली करीब 10 करोड़ डॉलर की फंडिंग फिलहाल Zomato को नहीं मिली है। रिपोर्ट के मुताबिक पड़ोसी मुल्कों से निवेश को लेकर भारत सरकार की सख्ती का असर फंडिंग पर पड़ा है।जनवरी में ही Zomato ने जानकारी दी थी कि उसने अलीबाबा ग्रुप की कंपनी Ant Financial से 15 करोड़ डॉलर जुटाए हैं। जो कि उसके बड़ी निवेश योजना का एक हिस्सा है। चीनी निवेशक ने Zomato में अब तक 56 करोड़ डॉलर का निवेश किया है वहीं स्टार्टअप में उसकी 25 फीसदी है।इस साल अप्रैल में भारत सरकार ने ऐसे देशों से जिनकी सीमा भारत के साथ मिलती हो, आने वाले सभी निवेश के लिए सरकारी मंजूरी आवश्यक कर दी है। सरकार के मुताबिक ये सख्ती इसलिए की गई है जिससे देश की कंपनियों पर पड़ोसी देशों द्वारा जानबूझकर गलत मकसद के साथ कब्जा न किया जाए। खास तौर पर कोरोना संकट की वजह से कंपनियों की आर्थिक स्थिति कमजोर होने से ऐसे टेकओवर की संभावनाएं बढ़ गई हैं। इन देशों में चीन, बांग्लादेश, पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, म्यांमार और अफगानिस्तान शामिल है।रिपोर्ट के मुताबिक नए नियम की वजह से चीनी निवेशक के द्वारा Zomato में की जाने वाली नई फंडिंग को पहले सरकार से अनुमति लेनी होगी, हालांकि रिपोर्ट में कहा गया है कि Zomato फंडिंग को लेकर आशावान बना हुआ है।रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाCBSE 12th Economics Paper 2020: जानिए कैसा था 12वीं का इकोनॉमिक्‍स का पेपर, क्‍वेश्‍चन पेपर में आए सभी सवाल पढ़ें यहां******सीबीएसई कक्षा 12वीं का इकनॉमिक्सपेपर आज आयोज‍ित क‍िया गया। परीक्षा का आयोजन सुबह 10.30 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक किया गया था। छात्रों के मुताबिक 12वीं इकनॉमिक्स का पेपर काफी आसान था और अधिकतर छात्रों को परीक्षा में अच्छे अंक आने की उम्मीद है यहां हम आपके सामने भी इकनॉमिक्स का क्वेश्चन पेपर दे रहे हैं ताकि आप भी पेपर की कठिनाई के स्तर का अंदाजा लगा सकें।सीबीएसई क्लास 12वीं इकनॉमिक्स पेपर कुल 80 नंबर का था। एग्जाम कुल 3 घंटे का था यानी सुबह के 10.30 बजे शुरू हुआ था और दोपहर बाद 1.30 बजे समाप्त हुआ।12वीं इकनॉमिक्स के पेपर में तीन पार्ट्स में बांटा गया था। पहले पार्ट में इंट्रोडक्टरी मैक्रोइकनॉमिक्स, दूसरे में इंडियन इकनॉमिक डिवेलपमेंट और तीसरे में प्रॉजेक्ट इन इकनॉमिक्स था।के 'महर्षि विद्या मंदिर सीनियर सेकेंडरी स्कूल'के छात्रने बताया कि पेपर ज्यादा लंबा नही था। हालांकि सेक्शन बी मुश्किल था। लेकिन ओवर ऑल पेपर की बात करें तो अच्छा था। मैं इसे समय पर पूरा करने में सक्षम था। मुझे हाईस्कोर की उम्मीद है।

रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठा14 अगस्त राशिफल: सिंह राशि वाले क्रोध पर रखें नियंत्रण रखें, बिगड़ सकते हैं काम****** - आज आपको अपनी प्रतिष्ठा में वृद्धि लाने के लिए कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं | आप अपने जीवन को और बेहतर बनाने के लिए अग्रसर रहेंगे | ऑफिस में आप किसी तरह की राजनीति में उलझ सकते हैं | इससे आपका कुछ समय खराब हो सकता है | घर में नए मेहमान के आने की संभावना है, जिससे आपका मन खुश रहेगा | ऑफिस में काम की अधिकता थोड़ी ज्यादा हो सकती है | आप दोस्तों के साथ समय बितायेंगे | उनके साथ किसी नए विषय पर बातचीत कर सकते हैं | गणेश जी की आरती करें, आपका दिन बेहतर गुजरेगा | - आज तरक्की के नये रास्ते खुले नजर आयेंगे | शाम तक आपको कोई अच्छी खबर मिल सकती है | पारिवारिक जीवन खुशहाल बना रहेगा | आप माता-पिता के साथ धार्मिक स्थल पर दर्शन के लिए जा सकते हैं | आपका स्वास्थ्य पहले से बेहतर बना रहेगा | आप आसपास के लोगों से सहानुभूति बनाये रखेंगे | इस राशि के छात्रों को पढ़ाई में अच्छेपरिणाम हासिल होंगे | आज आप कई तरह के नये काम करना चाहेंगे | आपकी कोशिशें सफल रहेगी | सूर्यदेव को जल अर्पित करें, जीवन में दूसरों का सहयोग मिलता रहेगा |रिजॉर्टमेंआतीथींबाहरसेलड़कियांनशेकारहताथास्टॉकजॉबछोड़नेवालेदंपतिनेखोलापुलकितकाकालाचिट्ठाUttarakhand Election 2022: BJP ने 9 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की, देखें पूरी लिस्ट******Highlightsभारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को नौ उम्मीदवारों की अपनी दूसरी सूची जारी कर दी। पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री भुवनचंद्र खंडूरी की बेटी ऋतु को कोटद्वार से उम्मीदवार बनाया है। भाजपा ने 2017 के चुनाव में कोटद्वार से जीत दर्ज की थी। हरक सिंह रावत ने यहां से चुनाव जीता था। रावत ने अब कांग्रेस का दामन थाम लिया है।ऋतु खंडूरी ने पिछले चुनाव में यमकेश्वर से जीत दर्ज की थी। पार्टी इससे पहले 59 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर चुकी है। इस सूची में खंडूरी का नाम नहीं था। भाजपा अब तक 68 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है। उत्तराखंड की 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए एक ही चरण में 14 फरवरी को मतदान होना है। पार्टी ने केदारनाथ से शैलारानी रावत, हल्द्वानी से जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला, झबरेड़ा से राजपाल सिंह, पिरंकलियार से मुनीश सैनी, रानीखेत से प्रमोद नैनवाल, जागेश्वर से मोहन सिंह मेहरा, लालकुंआ से मोहन सिंह बिष्ट और रुद्रपुर से शिव अरोड़ा को अपना उम्मीदवार बनाया है।जिन दो सीटों पर ने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा नहीं की है, उनमें डोइवाला और टिहरी सीट भी शामिल हैं। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत वर्तमान विधानसभा में डोइवाला सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा को पत्र लिखकर विधानसभा चुनाव ना लड़ने की इच्छा जताई थी। चुनाव में राज्य की सत्तारूढ भाजपा और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के बीच एक बार फिर कड़ी टक्कर होने की संभावना है। हालांकि, जानकारों का मानना है कि पहली बार राज्य में चुनाव लड़ रही आम आदमी पार्टी (आप) भी कुछ सीटों पर दोनों दलों के समीकरणों को प्रभावित कर सकती है।बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और पृथक राज्य आंदोलन का अगुआ रहा उत्तराखंड क्रांति दल (उक्रांद) भी अपना खोया प्रभाव दोबारा पाने के लिए प्रयासरत हैं। वर्ष 2000 में अस्तित्व में आए उत्तराखंड राज्य की जनता ने कभी भी किसी राजनीतिक दल को दोबारा सत्ता नहीं सौंपी है। भाजपा इस बार के चुनाव में इस मिथक को तोड़ने का दावा कर रही है। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 57 सीटों पर जीत दर्ज कर सरकार बनाई थी जबकि कांग्रेस को 11 सीटों पर जीत मिली थी। दो सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी।इनपुट- भाषा

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:34
उद्धरण 1 इमारत
August 2022 Vrat Festival List: रक्षाबंधन और जन्माष्टमी समेत अगस्त में पड़ने वाले हैं खास व्रत-त्योहार, जानिए तारीख और समय******Highlights: अगस्त का महीना शुरू हो गया है। ये महीना बेहद खास होने वाला है। इस महीने में कई खास त्योहार और अहम व्रत पड़ने वाले हैं। देखा जाए तो ये पबरा महीना पूजा-पाठ और त्योहार में ही गुजरने वाला है। अगस्त के पहले हफ्ते में नाग पंचमी (Nag Panchami 2022) पड़ रही है। दूसरे हफ्ते में सावन पुत्रदा एकादशी (Putrada Ekadashi) और रक्षा बंधन (Raksha Bandhan 2022) का त्योहार पड़ रहा है। इसके अलावा इस महीने में सावन की पूर्णिमा (Sawan Purnima), कजरी तीज (Kajri Teej 2022), श्रीकृष्ण जन्माष्टमी (Janmashtami 2022), अजा एकादशी (Aja Ekadashi 2022), हरितालिका तीज (Haritalika Teej 2022) समेत कई अन्य व्रत और त्योहार पड़ने वाले हैं। चलिए जानते हैं इस महीने में कब और कौन-कौन से व्रत-त्योहार पड़ रहे हैं।
2022-10-01 05:52
उद्धरण 2 इमारत
Uttarakhand Election 2022: BJP ने 9 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की, देखें पूरी लिस्ट******Highlightsभारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को नौ उम्मीदवारों की अपनी दूसरी सूची जारी कर दी। पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री भुवनचंद्र खंडूरी की बेटी ऋतु को कोटद्वार से उम्मीदवार बनाया है। भाजपा ने 2017 के चुनाव में कोटद्वार से जीत दर्ज की थी। हरक सिंह रावत ने यहां से चुनाव जीता था। रावत ने अब कांग्रेस का दामन थाम लिया है।ऋतु खंडूरी ने पिछले चुनाव में यमकेश्वर से जीत दर्ज की थी। पार्टी इससे पहले 59 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर चुकी है। इस सूची में खंडूरी का नाम नहीं था। भाजपा अब तक 68 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है। उत्तराखंड की 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए एक ही चरण में 14 फरवरी को मतदान होना है। पार्टी ने केदारनाथ से शैलारानी रावत, हल्द्वानी से जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला, झबरेड़ा से राजपाल सिंह, पिरंकलियार से मुनीश सैनी, रानीखेत से प्रमोद नैनवाल, जागेश्वर से मोहन सिंह मेहरा, लालकुंआ से मोहन सिंह बिष्ट और रुद्रपुर से शिव अरोड़ा को अपना उम्मीदवार बनाया है।जिन दो सीटों पर ने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा नहीं की है, उनमें डोइवाला और टिहरी सीट भी शामिल हैं। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत वर्तमान विधानसभा में डोइवाला सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा को पत्र लिखकर विधानसभा चुनाव ना लड़ने की इच्छा जताई थी। चुनाव में राज्य की सत्तारूढ भाजपा और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के बीच एक बार फिर कड़ी टक्कर होने की संभावना है। हालांकि, जानकारों का मानना है कि पहली बार राज्य में चुनाव लड़ रही आम आदमी पार्टी (आप) भी कुछ सीटों पर दोनों दलों के समीकरणों को प्रभावित कर सकती है।बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और पृथक राज्य आंदोलन का अगुआ रहा उत्तराखंड क्रांति दल (उक्रांद) भी अपना खोया प्रभाव दोबारा पाने के लिए प्रयासरत हैं। वर्ष 2000 में अस्तित्व में आए उत्तराखंड राज्य की जनता ने कभी भी किसी राजनीतिक दल को दोबारा सत्ता नहीं सौंपी है। भाजपा इस बार के चुनाव में इस मिथक को तोड़ने का दावा कर रही है। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 57 सीटों पर जीत दर्ज कर सरकार बनाई थी जबकि कांग्रेस को 11 सीटों पर जीत मिली थी। दो सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी।इनपुट- भाषा
2022-10-01 05:51
उद्धरण 3 इमारत
Taliban Military Parade: मिसाइलें, बख्तरबंद वाहन, हेलीकॉप्टर... बगराम एयरबेस पर तालिबान क्यों दिखा रहा है अपनी ताकत?******Highlightsतालिबान ने अफगानिस्तान के बगराम एयरबेस पर जोर शोर से अपनी सैन्य परेड निकाली है। इस दौरान तालिबानी लड़ाकों ने मिसाइल, अमेरिकी बख्तरबंद वाहन और अफगान सेना से छीने गए हेलीकॉप्टरों का प्रदर्शन किया। ये सैन्य परेड अमेरिकी सेना की अफगानिस्तान से वापसी के एक साल पूरे होने पर निकाली गई है। इस मौके पर पूरी अफगानिस्तान की इस्लामिक रिपब्लिक अमीरात सरकार जश्न मनाने के लिए बगराम एयरबेस पहुंची। यहां इस मौके पर तालिबान सरकार का प्रधानमंत्री मुल्लाह मोहम्मद हसन अखुंद, गृह मंत्री सिराजुद्दीन हक्कानी और रक्षा मंत्री मुल्ला मोहम्म याकूब मौजूद था।इनके साथ ही तालिबान सरकार के अन्य मंत्री और सभी प्रवक्ता भी थे। इस परेड को और बड़ा बनाने के लिए तालिबान ने इसका लाइव प्रसारण का भी आयोजन किया। जिसमें स्थानीय भाषा में हथियारों से संबंधित जानकारी दी जा रही थी।तालिबान के सैकड़ों लड़ाके अमेरिका में बनी एम-4 राइफल के साथ परेड में दिखाई दिए। इसके साथ ही तालिबान ने इंटरनेशल M1124 मैक्स प्रो एंटी माइन एंबुश प्रोटेक्ट वेहिकल की पूरी फ्लीट का प्रदर्शन किया। दरअसल अमेरिकी सेना जल्दबाजी में बीते साल अगस्त महीने में अफगानिस्तान से निकली थी। वह अपने पीछे बगराम एयरबेस पर बड़ी संख्या में वाहन और अन्य हथियार छोड़ गई थी। तालिबान ने इस परेड में ग्रैड और स्कड मिसाइलों का भी प्रदर्शन किया है। ये मिसाइलें अफगान सेना की बताई जा रही हैं, जिन्हें बाद में पंजशीरमें विद्रोहियों से जब्त कर लिया गया था। तालिबान ने इस परेड में शामिल वाहनों के ऊपर ब्लैक हॉक और Mi-17 हेलीकॉप्टर उड़ाए हैं।तालिबान ने अगस्त, 2021 में अफगानिस्तान को अपने कब्जे में ले लिया था। तब अमेरिकी सेना अफरा तफरी में यहां से गई थी। अब इसी दिन को एक साल पूरा हो गया है। जिसे खास बनाने के लिए तालिबान ने बड़े स्तर पर बगराम एयरबेस पर परेड निकालने का फैसला लिया। अमेरिका सेना 9/11 हमले के बाद से बीते 20 साल से अफगानिस्तान की धरती पर तालिबान के खिलाफ लड़ रही थी। अमेरिका की कोशिशों के चलते ही अफगानिस्तान में गैर तालिबानी सरकार बनी थी। जिसके पहले राष्ट्रपति हामिद करजई थे। इसे पश्चिम समर्थित सरकार भी कहा जाता है। बाद में उनकी जगह ये पद अशरफ गनी को मिला। लेकिन तालिबान के देश पर कब्जे के बाद वह देश छोड़कर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) भाग गए।अफगानिस्तान का बगराम एयरबेस काबुल के पास स्थित है। यह रणीनीतिक रूप से इतना महत्वपूर्ण है कि अमेरिका ने इसे अपना प्रमुख सैन्य बेस बना लिया था। अमेरिकीसेना यहीं से अफगानिस्तान में अपने हवाई मिशनों का संचालन करती थी। यह एयरबेस मध्य एशिया के महत्वपूर्ण हवाई मार्ग वाले रास्ते पर स्थित है। इस बेस पर लगे रडार के जरिए ईरान के अंदर के हवाई क्षेत्र पर नजर रखी जा सकती है। इतना ही नहीं बगराम के जरिए अमेरिका तजाकिस्तान में स्थित रूसी सैन्य अड्डे पर भी नजर रखता था।तालिबान के लड़ाकों ने विभिन्न शहरों में जुलूस निकालकर जश्न मनाया है। इस दौरान कई लड़ाके अमेरिका में बने हम्वी वाहनों के साथ घूमते देखे गए। केवल इतना ही नहीं बल्कि कई हमी वाहनों पर बैठकर अपनी खुशी जाहिर कर रहे थे। तालिबान ने काबुल शहर के कई जरूरी स्थानों परझंडा फहराकर अपनी ताकत का प्रदर्शन भी किया है। जबकि कई लड़ाके अमेरिकी विशेष बलों की वर्दीमें दिखाई दिए हैं।
वापसी