नई पोस्ट करें

Yogi Adityanath: योगी ने 2 बार कर दी शिवपाल यादव की तारीफ, अखिलेश ने पलटकर चाचा को देखा; खूब लगे ठहाके

2022-10-01 05:04:00 180

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेराजस्थान: हाईटेंशन तार की चपेट में आई मजदूरों की बस, 5 महिलाओं समेत 15 झुलसे****** के जिले के भुसावर थाना क्षेत्र में बुधवार देर रात के की चपेट में आ जाने से कम से कम 15 मजदूर झुलस गए। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मजदूरों से भरी यह बस 1100 केवी के बिजली के तार से छू गई, जिसके बाद करंट से 5 महिलाओं सहित कम से कम 15 मजदूर झुलस गए। बताया जा रहा है कि यह बस ईंट भट्ठे के मजदूरों से भरी हुई थी। घटना रात के करीब 12:30 बजे हिंडौन मार्ग के गांव माजजपुर के पास हुई।पुलिस ने गुरुवार को बताया कि बस में सवार ईंट भट्टे में काम करने वाले मजदूर उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से भुसावर अपने घर लौट रहे थे। बस की छत पर रखी एक साइकिल और कुछ सामान के 1100 केवी तार के छू जाने से बस में करंट आ गया। उन्होंने बताया कि 5 को भरतपुर के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि 10 का भुसावर के स्वास्थ्य केन्द्र में उपचार जारी है। इस घटना में झुलसे मजदूरों की हालत स्थिर बताई जा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, घायलों में बच्चे भी शामिल हैं।रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस बस में 50-60 मजदूर सवार थे। ये सभी राजस्थान के दौसा जिले की महवा तहसील में स्थित तालचिड़ी गांव में एक ईंट-भट्ठे पर काम करते हैं। कुछ मजदूरों के गंभीर रूप से घायल होने की भी खबर है, लेकिन राहत की बात यह रही कि किसी की जान नहीं गई। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए और घायलों को अस्पताल भिजवाया।

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेFact Check : क्या देश के 50% सरकारी स्कूलों का होगा निजीकरण? जानिए क्या है सरकार की प्लानिंग******देश में स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र ऐेसे स्तंभ हैं जिनकी मजबूती में निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा हाथ है। देश के शहरी क्षेत्रों की शिक्षा व्यवस्था में निजी स्कूलों का महत्वपूर्ण योगदान है। लेकिन ग्रामीण भारत में अभी भी ज्यादातर बच्चों को शिक्षा प्रदान करने की जिम्मेदारी सरकारी स्कूलों पर है। शहरी क्षेत्रों में भी निम्न मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए सरकारी स्कूल ही एक मात्र सहारा है।इस बीच एक मीडिया संस्थान की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि शिक्षा मंत्रालय ने देश भर के 50% सरकारी स्कूलों का निजीकरण करने के लिए केंद्र को सिफारिश भेजी है। खबर में बताया गया है कि सरकार मंडियों के बाद स्कूलों को ठेकों पर देने की तैयारी कर रही है। इसके तहत पहले अध्यापकों को ठेके पर निजी स्कूलों को सौंपने की तैयारी कर रही है।कोरोना संकट के दौर में जहां ज्यादातर निजी स्कूलों ने आनलाइन क्लासेस के ढांचे को अपना लिया है। वहीं इंटरनेट और मोबाइल से दूर गरीब तबका जो सरकारी स्कूलों में जाता है, उसके लिए यह खबर चौंकाने वाली है। स्कूलों को निजी हाथों में सौंपने से ऐसे ही छात्र छात्राओं की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।देश की शिक्षा व्यवस्था को लेकर इस बड़ी खबर को लेकर केंद्र सरकार के पत्र सूचना कार्यालय यानि पीआईबी की फैक्ट चेक टीम ने पड़ताल की। जिसमें पाया गया कि मीडिया संस्थान की खबर में किया गया दावा पूरी तरह से फर्जी है। शिक्षा मंत्रालय द्वारा ऐसी कोई सिफारिश नहीं भेजी गई है। न हीं सरकार की इस प्रकार की कोई योजना है।योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेMaharashtra Road Accident: महाराष्ट्र के चंद्रपुर में डीजल से भरे टैंकर और ट्रक की भि​ड़ंत के बाद आग, 9 लोगों की मौत******Highlightsमहाराष्ट्र के चंद्रपुर में डीजल से भरे टैंकर और लकड़ी ले जा रहे ट्रक के बीच भीषण टक्कर होने के बाद आग लग गई। हादसे में नौ लोगों की झुलसकर मौत हो गई। एक पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दुर्घटना गुरुवार रात करीब साढ़े दस बजे चंद्रपुर-मुल रोड पर हुई। चंद्रपुर के अनुविभागीय पुलिस अधिकारी सुधीर नंदनवार ने कहा, 'चंद्रपुर शहर के पास अजयपुर के निकट डीजल से भरा एक टैंकर लकड़ी के लट्ठों को ले जा रहे ट्रक से टकरा गया। हादसे से वहां भीषण आग लग गई, जिसमें नौ लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।'घंटों की मशक्कत के बाद आग पर पाया काबूवन विभाग के सूत्रों ने बताया कि हादसे के करीब एक घंटे बाद दमकल कर्मी अजयपुर पहुंचे और कुछ घंटों बाद आग पर काबू पा लिया गया। नंदनवर ने बताया कि पीड़ितों के शवों को बाद में चंद्रपुर अस्पताल ले जाया गया। इस भीषण दुर्घटना के बाद कई घंटों तक चंद्रपुर शहर की ओर जाने वाली सड़क जाम रही। हाईवे के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार देखने को मिली। आग की लपटों से पास के जंगल में आग लग गई।दुर्घटना के बाद पास के जंगल में लगी आगचंद्रपुर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, शहर के मुख्य मार्ग पर अजयपुर गांव के पास एक पेट्रोल टैंकर और ट्रक की आमने-सामने टक्कर हुई है। ट्रक के टायर के फटने के बाद वह अनियंत्रित होकर सामने से आ रहे टैंकर से टकरा गया और उसमें भीषण आग लग गई। इस दुर्घटना के बाद फैले पेट्रोल की वजह से आसपास के कई पेड़ जल गए हैं। सुबह 10 बजे तक जंगल में लगी आग पर काबू करने का प्रयास जारी था।पेट्रोल और लकड़ियों की वजह से बड़ी हुई दुर्घटनाचंद्रपुर से फायर बिग्रेड की एक दर्जन गाड़ियां आग बुझाने के लिए घटनास्थल पर पहुंची हुईं हैं। हाईवे के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लगी हुई है। दुर्घटना का शिकार हुए एक ट्रक में लकड़ियां रखी हुई थीं। माना जा रहा है कि पेट्रोल और लकड़ियों की वजह से यह दुर्घटना भयावह हुई।

Yogi Adityanath: योगी ने 2 बार कर दी शिवपाल यादव की तारीफ, अखिलेश ने पलटकर चाचा को देखा; खूब लगे ठहाके

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेUrban Company ने की ESOP सेल की घोषणा, कंपनी के कर्मचारी शेयर बेचकर जुटा सकेंगे 37.5 करोड़ रुपए******Urban Company announces ESOP sale worth Rs 37.5 croreहोम सर्विस मार्केटप्‍लेस अर्बन कंपनी ने 37.5 करोड़ रुपए मूल्‍य के कर्मचारी स्‍टॉक सेल प्रोग्राम की घोषणा की है। इस प्रोग्राम के तहत, अर्बन कंपनी के कर्मचारियों (पूर्व नाम अर्बनक्‍लैप) को अपने कर्मचारी स्‍टॉक ऑप्‍शन के तहत दिए गए शेयर बेचने का विकल्‍प दिया जाएगा। इन शेयरों को मौजूदा निवेशक वीवाई कैपिटल द्वारा खरीदा जाएगा। इस के वह सभी मौजूदा कर्मचारी शामिल हो सकेंगे, जिनके पास ईएसओपी हैं। कंपनी ने एक बयान में बताया कि 180 से अधिक कर्मचारी इस प्रोग्राम में भाग लेने के लिए पात्रता रखते हैं।अर्बन कंपनी के सह-संस्‍थापक अभिराज सिंह बहल ने कहा कि यह हमारा तीसरा और सबसे बड़ा ईएसओपी सेल कार्यक्रम है। यह विश्‍व-स्‍तरीय ईएसओपी प्रोग्राम की स्‍थापना के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को और मजबूत बनाता है। पूर्व के दो ईएसओपी सेल प्रोग्राम जून 2017 और दिसंबर 2018 में आयोजित किए गए थे।कंपनी के लगभग 450 पूर्ण कालिक कर्मचारियों, लगभग 40 प्रतिशत, के पास ईएसओपी हैं। इनमें ग्राहक सेवा प्रतिनिधि से लेकर वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष तक शामिल हैं। नए ईएसओपी सेल में प्रत्‍येक ईएसओपी की वैल्‍यू 1.10 लाख रुपए है। अर्बन कंपनी अपने कर्मचारियों को उनकी नियुक्ति के समय, अपरैजल साइकल और विभिन्‍न आंतरिक प्रोत्‍साहन कार्यक्रम के तहत ईएसओपी प्रदान करती है।योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेIPL की वजह से ICC विश्व कप में भारत का शेड्यूल बदलने पर मजबूर, हुआ ये बड़ा फेरबदल****** इंग्लैंड में खेला जाना है। के इस महाकुंभ में 10 टीमें भाग लेंगी और ये टूर्नामेंट 30 मई से 14 जुलाई तक खेला जाएगा। टूर्नामेंट में को अपना पहला मैच पहले 2 जून को खेलना था लेकिन के कारण आईसीसी को भारत के शेड्यूल को बदलने पर मजबूर होना पड़ा है। अब भारत विश्व कप में अपना पहला मैच 2 जून को नहीं, बल्कि 4 जून को खेलेगा। शेड्यूल बदले जाने के पीछे आईपीएल है। दरअसल, लोढ़ा समिति की सिफारिशों के मुताबिक आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय मैचों के बीच कम से कम 15 दिन का समय होना चाहिए और 2019 में आईपीएल 29 मार्च से 19 मई के बीच खेला जाएगा।आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय मैचों में कम से कम 15 दिन का अंतर रखने के लिए भारत को विश्व कप में अब अपना पहला मैच 4 जून को खेलना पड़ेगा। हालांकि इससे पहले भारत को टूर्नामेंट में अपना पहला मैच 2 जून को खेलना था। इस मामले पर आईसीसी मुख्य कार्यकारियों की बैठक में चर्चा की गई और बीसीसीआई के अधिकारी ने मामले की जानकारी देते हुए कहा, '2019 में यानि अगले साल आईपीएल 29 मार्च से 19 मई के बीच खेला जाएगा। लोढ़ा सिफारिशों के मुताबिक हमें आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय मैचों के बीच 15 दिन का अंतर रखना होगा और इस कारण हम विश्व कप में पहला मैच 4 जून को खेल पाएंगे।'आपको बता दें कि इस बार इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप में कुल 10 टीमें हिस्सा लेंगी। इस बार टूर्नामेंट की शुरुआत भारत-पाकिस्तान के मैच से नहीं होगी और ये पहला मौका होगा जब आईसीसी के किसी टूर्नामेंट की शुरुआत भारत-पाकिस्तान के मैच से नहीं होगी। इस बार के विश्व कप में हर टीम एक-दूसरे से 1-1 बार भिड़ेगी। भारत को अगले साल होने वाले विश्व कप का जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है।योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेMumbai News: गणेश उत्सव के बीच अमित शाह का मुंबई दौरा, बीएमसी चुनाव की बनाएंगे रणनीति!******महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस की सरकार बनने के बाद पहली बार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मुंबई दौरे पर जा रहे हैं। 5 सितंबर को अमित शाह का मुंबई दौरा प्रस्तावित है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि अमित शाह का ये दौरा आगामी बीएमसी चुनाव की रणनीति के हिसाब से काफी अहम होगा। मुंबई महानगरपालिका चुनावों को लेकर भाजपा एक्टिव मोड में आ गई है। एकनाथ शिंदे और भाजपा की साझा सरकार बनने के बाद इन चुनावों में नए गठबंधन की पहली परीक्षा होना है। यही वजह है कि भाजपा ने इसके लिए बड़े स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। अमित शाह का मुंबई दौरा इसी से जोड़कर देखा जा रहा है।देवेंद्र फड़नवीस ने की शाह के दौरे की पुष्टि, राजनीतिक बैठकें होंगीमहाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि अमित शाह मुंबई आ रहे हैं। यहां वो चर्चित लालबाग के राजा गणपति का दर्शन कर सकते हैं। फडणवीस ने कहा कि इस दौरान कुछ राजनीतिक बैठकें भी होंगी। उन्होंने आगामी महानगरपालिका चुनाव में शिंदे और भाजपा गठबंधन की जीत की बात भी कही। जानकारी के मुताबिक अमित शाह मुंबई में एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात करेंगे और भाजपा के स्थानीय नेताओं की एक बैठक भी ले सकते हैं।अक्टूबर में बीएमसी के चुनाव होने की संभावनादरअसल महाराष्ट्र में अक्टूबर में मुंबई महानगरपालिका समेत कई बड़ी महानगरपालिकाओं में चुनाव होने की संभावना है। ऐसे में बीएमसी में काबिज उद्धव ठाकरे की शिवसेना को हटाना भाजपा शिंदे गठबंधन की पहली कोशिश होगी। यह चुनाव ठाकरे की शिवसेना के अस्तित्व के लिए और भाजपा नेतृत्व के लिए और शिंदे गुट को शिवसेना के गढ़ में अपने आप को साबित करने के लिए बेहद अहम समझा जा रहा है।

Yogi Adityanath: योगी ने 2 बार कर दी शिवपाल यादव की तारीफ, अखिलेश ने पलटकर चाचा को देखा; खूब लगे ठहाके

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेRajat Sharma’s Blog: यूपी चुनाव में अब योगी बनाम अखिलेश की लड़ाई******उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार अब ज़ोर पकड़ चुका है। सभी प्रमुख राजनीतिक दलों के नेता पश्चिमी और मध्य यूपी में चुनावी सभाओं को संबोधित कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव, आरएलडी चीफ जयंत चौधरी, बीएसपी सुप्रीमो मायावती और AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी चुनावी रैलियों को संबोधित करने में व्यस्त हैं। योगी शुक्रवार को गोरखपुर से अपना नामांकन दाखिल करेंगे। बुधवार को उन्होंने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 4 चुनावी रैलियों को संबोधित किया।चुनाव प्रचार के रफ्तार पकड़ते ही योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव के बीच जुबानी जंग और आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। योगी ने अपनी रैलियों में आरोप लगाया कि दो ‘लड़के’ चुनाव लड़ने के लिए अब फिर साथ आ गए हैं, लेकिन जब 5 साल पहले मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक दंगे हुए थे, उनमें से एक लड़का लखनऊ में दंगाइयों के नेता को सम्मानित कर रहा था, जबकि दूसरा लड़का दिल्ली में बैठकर तमाशा देख रहा था और कह रहा था कि दंगाइयों के खिलाफ ज्यादा कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। अखिलेश यादव और जयंत चौधरी ने योगी के बयान पर तुरंत प्रतिक्रिया दी।एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री को इस तरह की बातें नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा, 'योगी जी जिस भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, वह मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे व्यक्ति को शोभा नहीं देती। लगता है योगी को अपनी मनपसंद सीट से टिकट नहीं मिला, इसलिए वह गुस्से में हैं, उन्हें गर्मी लग रही है, लेकिन 10 मार्च को नतीजे आने के बाद वह शांत हो जाएंगे।’अखिलेश यादव पर हमले में योगी ने कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने कहा, पहले की सरकारों में मुख्यमंत्री सबसे पहले अपना बंगला बनवाते थे, लेकिन उनके 5 साल के शासन में यूपी में 43 लाख गरीब परिवारों के लिए घर बनवाए गए। उन्होंने आरोप लगाया कि पहले सरकारी खजाने का अधिकांश पैसा तत्कालीन सीएम के ‘इत्र वाले मित्रों’ की जेब में चला जाता था। योगी ने कहा, ‘वे केवल नाम से समाजवादी हैं, लेकिन इनका काम ‘दंगावादी’ और सोच ‘परिवारवादी’ है।’अखिलेश ने चेतावनी दी कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आई तो योगी के खिलाफ दर्ज सभी पुराने आपराधिक मामले फिर से खोल दिए जाएंगे। लेकिन इन सब बातों का योगी पर कोई फर्क नहीं पड़ा। योगी ने आरोप लगाया कि सपा के शासन के दौरान यूपी में तमंचों की फैक्ट्रियां चलती थीं, लेकिन बीजेपी की सरकार डिफेंस कॉरिडोर बना रही है और यहां तोपें बनेंगी। योगी ने कहा कि पहले की सरकार में गैंगस्टर और माफिया का शासन चलता था, जबकि बीजेपी के शासन के दौरान भ्रष्ट माफियाओं की अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चलवाया गया। योगी ने कहा, ‘ये बुलडोजर अब रुकने वाले नहीं हैं।’दोनों की बातें सुन कर मैंने पाया कि कि अपने प्रचार के शुरुआती दौर में अखिलेश अपने शासन की उपलब्धियां गिनवाते थे, और अपनी पार्टी के सत्ता में आने पर नई योजनाओं को लागू करने का वादा करते थे। लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि छोटे दलों के साथ गठबंधन करने के बाद अखिलेश की ज़्यादातर ताकत और वक्त गठबंधन को बचाए रखने में खर्च हो रहा है।जैसे-जैसे चुनाव की तारीखें नजदीक आ रही हैं, अखिलेश अपने सहयोगियों की सफलता पर ज्यादा भरोसा करते नजर आ रहे हैं। अखिलेश अब अपराध, भ्रष्टाचार और दंगाइयों पर ज्यादा नहीं बोलते। इसकी वजह यह है कि उनकी पार्टी और उनके सहयोगियों ने आपराधिक पृष्ठभूमि वाले कई उम्मीदवारों को टिकट दिया है। इससे योगी को अखिलेश पर हमला करने का मौका मिल गया है। अब योगी अपराधियों और माफिया को टिकट दिये जाने की बात को प्रमुखता से उठा रहे हैं। बड़ी चतुराई से दोनों बातें करते हैं। वह सरकार की कमियां बताते हैं और फिर अपने शासन के दौरान किए गए काम गिनवाते हैं। जब वह कहते हैं कि पिछली सरकारों में नेताओं ने बंगले बनवाए, उसी सांस में वह बता देते हैं कि उनकी सरकार ने गरीबों के लिए 43 लाख घर बनवाए।इसके बाद योगी उन अवैध तमंचा फैक्ट्रियों की बात करते हैं जो पिछली सरकार के दौरान पनपे थे, और फिर इसकी तुलना डिफेंस कॉरिडोर से करते हैं जो हमारी सेना के लिए तोपें बनाएगा। फिर वह मतदाताओं को याद दिलाते हैं कि कैसे अखिलेश ने उन नेताओं को सम्मानित किया जिनका हाथ मुजफ्फरनगर दंगों के पीछे था और उसी सांस में यह भी याद दिला देते हैं कि कैसे उनकी सरकार ने अपराधियों, दंगाइयों और भ्रष्ट माफियाओं को सलाखों के पीछे भेजा और उनकी अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चलवाया।योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेजूनियर हॉकी वर्ल्ड कप में जर्मनी ने भारत को 4-2 से मात देते हुए फाइनल में बनाई जगह******Highlightsभुवनेश्वर। मौजूदा चैंपियन भारत का लगातार दूसरी बार एफआईएच जूनियर पुरुष हॉकी विश्व कप जीतने का सपना शुक्रवार को यहां छह बार के चैंपियन जर्मनी से 2-4 से हार के साथ टूट गया। जर्मनी फाइनल में अर्जेंटीना से भिड़ेगा। भारत तीसरे और चौथे स्थान के मैच में रविवार को फाइनल से पहले फ्रांस से भिड़ेगा। भारत इससे पहले पूल चरण में फ्रांस से 4-5 से हार गया था। लखनऊ में 2016 में जूनियर विश्व कप खिताब जीतने वाली भारतीय टीम जर्मनी के खिलाफ शुरू से दबाव में आ गयी थी।जर्मनी की तरफ से एरिक क्लेनलेन (15वें मिनट), एरोन फ्लैटन (21वें मिनट), कप्तान हेंस मुलर (24वें मिनट) और क्रिस्टोफर कुटर (25वें मिनट) ने गोल किये। भारत के लिए उत्तम सिंह (25वें) और बॉबी सिंह धामी (60वें) ने गोल किये। भारतीय टीम ने क्वार्टर फाइनल में बेल्जियम के खिलाफ शानदार रक्षण दिखाया था लेकिन जर्मनी के खिलाफ रक्षापंक्ति रंग में नहीं दिखी। मध्य पंक्ति और अग्रिम पंक्ति के बीच भी किसी तरह का तालमेल नहीं दिखा। उत्तम ने हालांकि बीच बीच में अच्छा खेल दिखाया।जर्मन टीम ने शुरू से ही अच्छा खेल दिखाया। मैक्सीमिलन सीगबर्ग ने शुरू में ही गोल करने का सुनहरा अवसर गंवाया। इसके एक मिनट बाद जर्मनी को पेनल्टी कार्नर मिला जिस पर भारतीय गोलकीपर प्रशांत चौहान ने शानदार बचाव किया। जर्मनी ने पहला क्वार्टर समाप्त होने से 25 सेकेंड पहले पहला गोल दागा। क्लेनलेन ने जर्मनी को मिले दूसरे पेनल्टी कार्नर पर रिबाउंड पर यह गोल किया। प्रशांत ने इससे पहले फ्लिक पर बचाव कर दिया था।भारत को दूसरे क्वार्टर में पांचवें सेकेंड में ही पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन उप कप्तान संजय कुमार गोल करने में नाकाम रहे। इस बीच जर्मनी ने दूसरे गोल के लिये प्रयास जारी रखे। जर्मनी ने दूसरे क्वार्टर के छठे मिनट में भारतीय रक्षापंक्ति में सेंध लगायी और फ्लैटन ने बढ़त दोगुना कर दी। इसके तुरंत बाद कप्तान मुलर ने स्कोर 3-0 कर दिया। भारत ने तुरंत ही जवाबी हमला किया और उत्तम ने राहुल कुमार राजभर के क्रास पर गोल कर दिया लेकिन भारत की खुशी ज्यादा देर नहीं रही और उसने पेनल्टी कार्नर गंवा दिया जो पेनल्टी स्ट्रोक में बदल गया। कुटर ने इस पर गोल करने में कोई गलती नहीं की।भारत ने मध्यांतर के बाद तीन गोल से पिछड़ने के बाद वापसी के लिये काफी प्रयास किये लेकिन जर्मनी की रक्षापंक्ति मजबूत थी। राजभर 42वें मिनट में गोल करने के करीब थे लेकिन जर्मन गोलकीपर एंटन ब्रिंकमैन ने अच्छा बचाव किया। भारतीय खिलाड़ियों ने पेनल्टी कार्नर हासिल करने पर ध्यान देने के बजाय गेंद पर नियंत्रण रखने पर अधिक ध्यान दिया। जर्मनी को 52वें मिनट में पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन वह उसे गोल में नहीं बदल पाया। अंतिम हूटर बजने से पहले धामी ने भारत के लिये दूसरा गोल दागा लेकिन इससे हार का अंतर ही कम हो पाया।

Yogi Adityanath: योगी ने 2 बार कर दी शिवपाल यादव की तारीफ, अखिलेश ने पलटकर चाचा को देखा; खूब लगे ठहाके

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेNitish Kumar Met Sharad Pawar: शरद पवार से मिले नीतीश कुमार, बोले- बीजेपी कोई काम नहीं कर रही, विपक्ष को साथ लाना है******Highlights बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पिछले तीन दिनों से दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं। 2024 के लोकसभा चुनावों को लेकर विपक्षी पार्टियों को एकजुट करने में लगे हैं। अब इसी कड़ी में नीतीश कुमार ने आज बुधवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की है। ये मुलाकात पवार के दिल्ली में 6, जनपथ स्थित आवास पर हुई।शरद पवार से मिलने के बाद नीतीश कुमार ने कहा, "हमारी मुलाकात अच्छे वातावरण में हुई है। बहुत अच्छी बातचीत हुई। बीजेपी कोई काम नहीं कर रही है, इसलिए ज्यादा से ज्यादा विपक्ष का एकजुट होना जरूरी है। मैं बस इतना चाहता हूं कि ज्यादातर विपक्ष एकजुट हो जाए। अगर सभी विपक्षी पार्टियां एकजुट होती हैं, तो ये देश के भले के लिए होगा।"नीतीश कुमार इसके पहले राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल, सीताराम येचुरी, डी. राजा, और ओमप्रकाश चौटाला से भी मुलाकात कर चुके हैं। हालांकि, नीतीश कुमार का कहना है कि उनके लिए प्रधानमंत्री पद का चेहरा बनना अहम नहीं है। विपक्ष के सभी दल एकजुट हो जाएं, ये कोशिश है।नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद कल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट दिया, "मेरे घर आने के लिए नीतीश जी को बहुत-बहुत धन्यवाद। शिक्षा, स्वास्थ्य, ऑपरेशन लोटस सहित देश के कई गंभीर मुद्दों, इन लोगों की ओर से खुलेआम विधायकों को खरीदना और जनता की ओर से चुनी गई सरकारों को गिराना, बीजेपी सरकारों के बढ़ते निरंकुश भ्रष्टाचार, महंगाई, बेरोजगारी पर चर्चा हुई।"वहीं, दिल्ली दौरे पर सबसे पहले नीतीश कुमार ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मुलाकात की थी। दोनों नेताओं के बीच सोमवार शाम को करीब 1 घंटे की मुलाकात हुई थी। कांग्रेस सूत्रों ने जानकारी दी थी कि बैठक में मोदी के खिलाफ 2024 के मोर्चे पर नीतीश और राहुल की सहमति बन गई है और समान विचारधारा के दलों के बीच समन्वय बढ़ाने की भी रणनीति बनी है। मुलाकात के दौरान नीतीश कुमार ने बिहार सरकार में समर्थन को लेकर राहुल गांधी को शुक्रिया भी कहा और भारत जोड़ो यात्रा के लिए शुभकामना भी दी थीं।गौरतलब है कि शरद पवार भी इसके पहले विपक्षी पार्टियों को एकजुट करने की कोशिश कर चुके हैं। उन्होंने हाल ही में कहा था कि बीजेपी सहयोगी पार्टियों को धीरे धीरे खत्म कर रही है। महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ भी यही किया गया है। यही वजह है कि शरद पवार ने भी सभी पार्टियों से बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने की अपील की है।वहीं, नीतीश कुमार राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति से भी मुलाकात कर सकते हैं। अगर उनके दिल्ली दौरे को देखा जाए तो साल 2024 के चुनाव के लिए सभी दल एकजुट होते दिख तो रहे हैं, लेकिन राहुल गांधी और ममता बनर्जी सरीखे दावेदारों के बीच नीतीश की अगुवाई में विपक्षी दल एकजुट हो पाएंगे, ये देखने वाली बात होगी।

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेश्रीनगर, जम्मू में 2024 तक मेट्रो परियोजना पूरी होने की संभावना: जितेंद्र सिंह******नयी दिल्ली: केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने शनिवार को कहा कि श्रीनगर और जम्मू में मेट्रो परियोजना 2024 तक तैयार हो सकती है। सिंह ने कहा कि दोनों शहरों के लिए मेट्रो परियोजना की लागत करीब 10,599 करोड़ रुपये आएगी। उन्होंने अनुच्छेद 370 समाप्त किये जाने के बाद जम्मू कश्मीर में संचालित विकास परियोजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि रेलवे सलाहकार कंपनी राइट्स लिमिटेड ने अंतिम विस्तृत परियोजना रिपोर्ट सौंप दी है और मेट्रो परियोजना 2024 के अंत तक पूरी हो सकती है।परियोजना पूरी होने के बाद श्रीनगर और जम्मू देश के पहले दो छोटे शहर बन जाएंगे जहां रैपिड परिवहन नेटवर्क संचालित होगा। प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री सिंह ने कहा कि परियोजनाओं के महत्व को इसी तथ्य से समझा जा सकता है कि जम्मू कश्मीर तक पहली ट्रेन पहुंचने में आजादी के बाद दो दशक से अधिक समय लग गया था और जम्मू में पहला रेलवे स्टेशन 1970 के दशक में ही बनकर तैयार हुआ।उन्होंने कहा कि लेकिन मोदी सरकार कम समय के भीतर मेट्रो ट्रेन परियोजनाओं को शुरू करने के लिए तेजी से काम कर रही है। ये परियोजना किफायती और टिकाऊ सार्वजनिक परिवहन प्रणाली होगी।योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेबाहुबली एक्ट्रेस तमन्ना भाटिया ने मुंबई में खरीदा करोड़ों का फ्लैट, इन स्टार्स के घर की कीमत हैरान करने वाले****** बाहुबली फेम तमन्ना भाटिया ने मुंबई में एक शानदार घर खरीदा है। तमन्ना भाटिया ने ये घर 4.56 करोड़ रुपये में बिल्डर समीर भोजवानी से खरीदा है। ये डील पिछले महीने ही फाइनल हुई थी। तमन्ना ने रजिस्ट्रेशन के लिए ही 99 लाख की स्टाम्प ड्यूटी दी है। ने जो घर खरीदा है वो जुहू-वर्सोवा के लिंक रोड में बना है। तमन्ना ने जो घर लिया है वो 14वें फ्लोर पर है। यहां तमन्ना को दो कारों की पार्किंग भी मिली है। तमन्ना इतना महंगा घर लेने के बाद अब 2 करोड़ और देकर घर का इंटीरियर भी करवाएंगी। सिर्फ तमन्ना भाटिया ही नहीं बॉलीवुड में तमाम ऐसे सिलिब्रिटीज हैं जो महंगे महंगे घरों में रहते हैं। इस लिस्ट में दीपिका से लेकर प्रियंका चोपड़ा और शाहिद कपूर तक का नाम है।बॉलीवुड की देसी गर्ल यूं तो विदेश में बसी हैं। लेकिन मुंबई में भी प्रियंका चोपड़ा का एक शानदार घर है। इस घर की कीमत करीब 100 करोड़ है।साल 2016 में अनुष्का शर्मा ने पति विराट कोहली संग मिलकर मुंबई में एक शानदार अपार्टमेंट खरीदा था। 7171 स्कवायर में बने इस अपार्टमेंट की कीमत 34 करोड़ रुपये है।बॉलीवुड के कबीर सिंह शाहिद कपूर ने हाल ही में वर्ली में डबल ड्यूप्लेक्स खरीदा है। शाहिद कपूर ने 55 करोड़ के इस ड्यूप्लेक्स के लिए 3 करोड़ की स्टाम्प ड्यूटी चुकाई है।एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण का मुंबई में शानदार फ्लैद है। प्रभादेवी के Beaumonde Towers में बने इस फ्लैट की कीमत 40 करोड़ रुपये है।बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे से अलग होने के बाद मलाड में 20 करोड़ रुपये का अपार्टमेंट खरीदा।एक्टर जॉन अब्राहम मुंबई में एक सी-फेसिंग फ्लैट लिया है। 60 करोड़ रुपये का ये घर पांच हजार स्कवायर फीट में बना है।

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेक्वॉरंटाइन और कोरोना टेस्ट पास करने के बाद कोच फिल सिमन्स विंडीज टीम से जुड़े******वेस्टइंडीज के मुख्य कोच फिल सिमन्स अनिवार्य क्वारंटाइन में रहने और COVID-19 टेस्ट पास करने बाद इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले अपनी टीम से जुड़ गए हैं। बता दें, फिल सिमन्स कुछ दिन पहले अपने ससुर के अंतिम संस्कार में शामिल हुए थे जिसके बाद उन्हें एक तय वक्त के लिए खुद को क्वांरटीन करना पड़ा था।क्रिकेट वेस्टइंडीज ने गुरूवार को कहा, ‘‘फिल सिमन्स काम पर लौट आये हैं। वेस्टइंडीज के मुख्य कोच गुरूवार को अनिवार्य क्वारंटीन और कोविड-19 जांच के बाद मैदान पर अपने खिलाड़ियों के साथ लौटे।’’ इसके अनुसार, ‘‘वह वार्म-अप और मैच से पहले की तैयारियों का हिस्सा थे, वेस्टइंडीज ने ओल्ड ट्रैफर्ड में चार दिवसीय अभ्यास मैच जारी रखा।’’गौरतलब है कि क्रिकेट वेस्टइंडीज के बोर्ड सदस्य कोंडे रिले ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले कोच फिल सिमन्स के अपने ससुर के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने पर कड़ी आलोचना की थी। रिले ने बोर्ड से कोच सिमन्स को तुरंत बर्खास्त करने की मांग की थी।रिले ने कहा था, "बीसीए से जुड़े खिलाड़ियों के माता पिता और सदस्य मेरे पास नाराजगी जता रहे हैं। इस तरह का व्यवहार गैरजिम्मेदाराना और लापरवाही वाला है। इससे ब्रिटेन दौरे पर गये उन 25 युवा खिलाड़ियों और पूरी प्रबंधन टीम की जान खतरे में पड़ी और इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। हमें इस पर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए।"इसके बाद क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्लयूआई) ने अध्यक्ष रिकी स्किरिट ने अपनी राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच फिल सिमन्स का समर्थन करते हुए कहा कि उनके पद को खतरा नहीं है क्योंकि उन्होंने अपने ससुर के अंतिम संस्कार में भाग लेने के लिये अनुमति ली थी।योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेPiaggio भारतीय बाजार में उतारगी एप्रिलिया एसआर 150 स्कूटर, अगस्‍त में होगा लॉन्‍च****** इटली का प्रमुख ऑटोमोबाइल कंपनी पियाजियो (Piaggio) अगले महीने भारतीय बाजार में अपने एप्रिलिया ब्रांड के तहत पहला स्‍क्‍ूटर लॉन्‍च करने जा रही है। कंपनी ने इस स्‍कूटर का नाम एसआर 150 रुखा है। कंपनी ने इस स्‍कूटर की कीमत 65000 रुपए रखी है। यह कंपनी का भारत में दूसरा स्‍कूटर ब्रांड है, इससे पहले कंपनी वेस्‍पा ब्रांड को भारतीय बाजार में पेश कर चुकी है।एप्रिलिया एसआर 150 की डिजायनिंग और इंजीनियरिंग इटली में हुई है जबकि इसका उत्पादन पियाजियो के महाराष्ट्र के बारामती स्थित संयंत्र में होगा। समूह के चेयरमैन और मुख्य कार्यकारी अधिकारी रॉबर्टो कोलानिन्नो ने एक बयान में कहा कि भारतीय बाजार में एप और वेस्पा की सफलता के बाद एप्रिलिया को पेश कर वह अपनी मौजूदगी बढ़ाएंगे। एप्रिलिया एसआर 150 को भारत में अगस्त 2016 में पेश किया जाएगा।Vespaस्‍पेसिफिकेशंस की बात करें तो सिंगल सिलेंडर वाला 150 सीसी का चार स्ट्रोक का इंजन है। एप्रिलिया का यह इंजन 12 पीएस की बेमिसाल पावर जेनेरेट करता है। वहीं इसका अधिकतम टॉर्क 11.5 एनएम है। कंपनी के मुताबिक एप्रिलिया को जल्‍द ही देश भर में मौजूद कंपनी की डीलरशिप पर उपलब्‍ध करा दिया जाएगा।Retro Unplugged: पियाजियो भारत में लॉन्‍च करेगा 10 लाख रुपए का वेस्‍पा स्‍कूटर, अरमानी ने किया है डिजाइन

योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाकेSarkari Naukri: आंगनवाड़ी में महिलाओं के लिए 3034 पदों पर बंपर वैकेंसी, ऐसे करें अप्लाई******समाज कल्याण विभाग (SWD) बिहार ने एकीकृत बाल विकास सेवा प्रोग्राम के तरह आंगनवाड़ी में महिला पर्यवेक्षक (लेडी सुपरवाइजर) के पदों पर बंपर वैकेंसी निकाली हैं।भर्ती कुल 3034 पदों पर होनी है।इन पदों पर भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 29 जुलाई 2019 को शुरू हुई।आवेजन करने की आखिरी तारीख 5 अगस्त 2019 है। इस वैकेंसी के माध्यम से बिहार राज्य के विभिन्न जिलों में ब्लॉक स्तर पर आंगनबाड़ी निरीक्षण हेतु सुपरवाइजर की भर्ती की जाएगी अगर आप इन पदों पर आवेदन करना चाहते हैं तो नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ने के बाद ही अप्लाई करें।महिला पर्यवेक्षककिसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन किया हो।उम्मीदवारों का चयन चयन मेरिट लिस्ट के आधार पर किया जाएगा.12,000 रुपए प्रति माहइंटीग्रेटेड चाइल्ड डेवलपमेंट सर्विस (ICDS) की आधिकारिक वेबसाइट fts.bih.nic.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।योगीने2बारकरदीशिवपालयादवकीतारीफअखिलेशनेपलटकरचाचाकोदेखाखूबलगेठहाके'बागी 2' Box office collection: टाइगर और दिशा की जोड़ी ने किया पहले ही दिन धमाका, कमाई पहुंची 20 करोड़****** के एक्शन स्टार और एक्ट्रेस दिश पाटनीने अपनीफिल्म 'बागी 2' में अपनेबेहतरीन परफॉर्मेंससे बॉक्स ऑफिस पर भी छा गए हैं।। इस फिल्म में पहली बार टाइगर श्रॉफ और दिशा पाटनी की रियल जोड़ी पर्दे पर भी नज़र आई। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सफलता के झंडे गाड़ने के लिए बिल्कुल तैयार नज़र आ रही है।अहमद खान द्वारा निर्देशित 'बागी 2 से दर्शकों को जबरदस्त उम्मीदें थीं और उनकी उम्मीदों पर खरी उतरती नज़र आ रही है यह फिल्म। फिल्म पहले दिन यानी अपने ओपनिंग डे पर ही बॉक्स ऑफिस पर पूरी तरह से छा गई। की रिपोर्ट के मुताबिक, 'बागी 2' ने पहले दिन 20 करोड़ रुपए का दमदार प्रदर्शन किया है और इस आंकड़े के बढ़ने की भी संभावना है। इसके साथ ही टाइगर की यह फिल्म इस साल अब तक बॉक्स ऑफिस पर शानदार परफॉर्म करने वाली फिल्मों में टॉप पर पहुंच चुकी है।यहां आपको बता दें कि 'पद्मावत' जो साल 2017 के अंत से लेकर 2018 के शुरुआत तक जमकर विवादों में रही, इस फिल्म ने भी ओपनिंग डे पर केवल 18.21 करोड़ ही कमा पाई थी। हालांकि, 'पद्मावत' कई जगहों पर रिलीज़ नहीं हो सकी थी, लेकिन स्क्रीन की संख्या पर गौर करें तो 'बागी 2' से ज्यादा स्क्रीन थे इस फिल्म के लिए।अपने फिल्मी करियर की दूसरी फिल्म 'बागी' से 100 करोड़ क्लब में एंट्री करके टाइगर श्रॉफ ने दिखा दिया था कि वह लंबी रेस के घोड़े हैं। फिल्म के निर्माताओं ने उसी वक्त 'बागी' का सीक्वल अनाउंस कर दिया था। 'बागी 2' तेलुगु फिल्म 'क्षणम' की रीमेक है। टाइगर श्रॉफ के ऐक्शन का दर्शकों में कितना क्रेज है, इसकी गवाही सुबह-सुबह का हाउसफुल शो दे रहा था। देशभर में 3.5 हजार स्क्रीन पर रिलीज हुई है टाइगर की यह फिल्म।टाइगर ने अपने फैन्स को हैरान कर देने वाले ढेरों ऐक्शन सीन किए हैं, जो कि सिनेमाघरों में फैन्स को सीटियां बजाने के लिए मजबूर देंगे। वह वन मैन आर्मी के रोल के अंदाज़ में फबते हैं। अपने एक टॉर्चर सीन में टाइगर पूरी तरह बिना कपड़ों के नजर आए हैं। उन्होंने फिल्म के लिए खासतौर पर हॉन्गकॉन्ग में मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग ली है। डी आई जी के रोल में मनोज वाजपेयी हमेशा की तरह जमे हैं। वहीं एसीपी के रोल में रणदीप हुड्डा ने भी बढ़िया ऐक्टिंग की है। दीपक डोबरियाल ने भी अपने उस्मान लंगड़ा के रोल को बखूबी निभाया है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 03:57
उद्धरण 1 इमारत
Crime News: जो मिला उस पर गोलियां बरसाता गया ये शख्स, 2 बच्चों और महिला समेत 10 की मौत******Highlights दक्षिण पूर्वी यूरोप के देश मोंटेनेग्रो के पश्चिमी शहर की सड़कों पर शुक्रवार को एक व्यक्ति ने ताबड़तोड़ गोलीबारी की, जिसमें दो बच्चों सहित 10 लोगों की मौत हो गई। इसके बाद एक राहगीर ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।मोंटेनेग्रो के पुलिस प्रमुख ज़ोरान ब्रजनिन ने मीडिया के साथ साझा किए गए एक वीडियो बयान में बताया कि हमलावर 34 वर्षीय व्यक्ति था जिसकी पहचान केवल उसके नाम के शुरुआती दो अक्षर वीबी से की गयी। ब्रजनिन ने बताया कि संदिग्ध ने पहले आठ और 11 साल की उम्र के दो बच्चों और उनकी मां को राइफल से गोली मार दी जो सेंटिजा के मेडोविना इलाका स्थित हमलावर के मकान में किराएदार के तौर पर रहती थी।इसके बाद वह गली में गया और बेतरतीब ढंग से 13 और लोगों को गोली मार दी, जिनमें से सात की मौत हो गई। ब्रजनिन ने कहा, ‘‘फिलहाल, यह स्पष्ट नहीं है कि वीबी को इस नृशंस कृत्य को करने के लिए किसने उकसाया।’’घायलों में पुलिस अधिकारी भी शामिलजांच अधिकारी एंड्रीजाना नास्टिक ने बताया कि बंदूकधारी को एक राहगीर ने गोली मार दी थी और घायलों में एक पुलिस अधिकारी भी शामिल था। प्रधानमंत्री ड्रिटन अबाज़ोविक ने अपने टेलीग्राम चैनल पर लिखा कि यह घटना ‘‘एक अभूतपूर्व त्रासदी’’ थी।उन्होंने लोगों से ‘‘पीड़ितों के परिवारों, उनके रिश्तेदारों, दोस्तों और सेटिंजे के सभी लोगों के साथ’’ रहने का आग्रह किया। राष्ट्रपति मिलो जुकानोविक ने ट्विटर पर कहा कि सेटिंजे में ‘‘भयानक त्रासदी की खबर से उन्हें बहुत दुख हुआ’’। उन्होंने इस घटना में प्रियजनों को खोने वाले परिवारों से‘‘एकजुटता’’ कीअपील की।
2022-10-01 03:34
उद्धरण 2 इमारत
Sri Lanka China News: India के दबाव के बाद श्रीलंका ने चीन से कहा- अपना जासूसी जहाज लेकर अभी मत आना******Highlightsभारत के दबाव के बीच श्रीलंका ने चीन से साफ कह दिया है कि वह दक्षिणी हंबनटोटा में स्थित बंदरगाह पर अपने जहाज ‘Yuan Wang 5’ को लेकर न आए। बता दें कि यह बंदरगाह अभी चीन के नियंत्रण में है। कोलंबो में चीनी दूतावास को लिखी एक चिट्ठी में श्रीलंका के विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘हम आपसे अनुरोध करना चाहते हैं कि हंबनटोटा में जहाज युआन वांग 5 के आगमन की तारीख को इस मामले पर आगे की अडवाइजरी तक के लिए स्थगित कर दिया जाए।’बता दें कि इससे पहले श्रीलंका के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी किया था जिसमें 12 जुलाई को चीनी जहाज के हंबनटोटा बंदरगाह में घुसने की इजाजत देने का जिक्र किया गया था। श्रीलंका ने जहाज में ईंधन भरवाने के लिए इस जहाज को हंबनटोटा बंदरगाह पर लंगर डालने की इजाजत दी थी। श्रीलंका द्वारा इजाजत देने के तुरंत बाद भारत ने इस पर आपत्ति जताई थी। भारत की आपत्ति के बाद श्रीलंका सरकार ने चीन से कहा कि वह अगली बातचीत तक अपने स्पेस सैटेलाइट ट्रैकर पोत Yuan Wang 5 का हंबनटोटा बंदरगाह का दौरा स्थगित कर दें।कहा जा रहा था कि Yuan Wang 5 जहाज ईंधन भरवाने और खाने-पीने का सामान लेने के बाद हंबनटोटा बंदरगाह से रवाना हो जाएगा। के इस ‘जासूसी’ जहाज के दौरे से हफ्तों पहले भारत ने श्रीलंका सरकार को अपनी चिंता के बारे में बता दिया था। बता दें कि 1987 में साइन किए गए एक द्विपक्षीय समझौते के मुताबिक, भारत के हितों के प्रतिकूल किसी भी देश द्वारा किसी भी श्रीलंकाई बंदरगाह को सैन्य उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं दी जा सकती है।भारत की चिंता के जवाब में ने पहले कहा था कि चीन का यह जहाज सिर्फ ईंधन भरवाने और थोड़ी बहुत अन्य सुविधाएं लेने के लिए ही आ रहा है। कैबिनेट प्रवक्ता और मीडिया मंत्री बंडुला गुणवरंडेना ने कहा था कि जहाज के चालक दल के सदस्य श्रीलंका में किसी भी आंतरिक मामले में शामिल नहीं होंगे। उन्होंने कहा था कि चीन और भारत ने हमेशा श्रीलंका की सच्चे दोस्त के रूप में मदद की है और श्रीलंका सदियों से दोनों देशों के बीच विश्वास को नुकसान पहुंचाने के लिए कुछ भी नहीं करेगा।
2022-10-01 03:13
उद्धरण 3 इमारत
पूर्व सिलेक्टर संदीप पाटिल का बड़ा बयान कहा, हार्दिक को कपिल देव बनने के लिए लेने होंगे 200 जन्म****** इन दिनों भारतीय क्रिकेट के स्टार ऑलराउंडर माने जाते हैं और उनकी लोकप्रियता दिन रात बढ़ती जा रही है। चैंपियंस ट्रॉफ़ी फ़ाइनल में जिस तरह से उन्होंने पाकिस्तानी गेंदबाज़ों को धोया था, उसके बाद तो वह हीरो बन गए थे हालंकि मैच भारत हार गया था। लोग उनकी तुलना महान ऑलराउंडर कपिल देव से भी कर रहे हैं लेकिन राष्ट्रीय चयन समिति के पूर्व प्रमुख संदीप पाटिल ऐसा बिल्कुल नहीं मानते।संदीप पाटिल ने कहा है हालंकि हार्दिक पंड्या की तारीफ़ की लेकिन जब मामला कपिल देव से तुलना पर आया तो वह विफ़र पड़े। उन्होंने कहा ''कपिल की जगह लेने के लिये उसे 200 जन्म लेने होंगे।''संदीप पाटिल युवराज सिंह को भारतीय क्रिकेट को ईश्वर का उपहार बताया लेकिन कहा कि 2019 विश्व कप में उनका खेलना फार्म और फिटनेस पर निर्भर करता है। ग़ौरतलब है कि श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला के लिये बाहर किये जाने के बाद युवराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले तीन वनडे मैचों के लिये भी भारतीय टीम में जगह नहीं रखा गया है।विश्व कप के मद्देनजर युवराज के भविष्य के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा , यह फिटनेस और फार्म पर निर्भर करेगा। उन्होंने कहा, मैं अब चयनकर्ता नहीं हूं। दो साल लंबा समय होता है और हर खिलाड़ी पर काफी कार्यभार है।36 बरस के युवराज ने आखिरी वनडे जून में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था। वह 300 वनडे खेलने वाले भारत के पांचवें खिलाड़ी बन गए जब इस साल चैम्पियंस ट्राफी सेमीफाइनल में बांग्लादेश के खिलाफ उतरे थे। पाटिल ने कहा, युवराज ईश्वर के उपहार की तरह था। मैं उसका जबर्दस्त प्रशंसक था और हमेशा रहूंगा लेकिन उसे रन बनाने होंगे और अपनी फिटनेस साबित करनी होगी।श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला के दौरान महेंद्र सिंह धोनी ने कई रिकार्ड बनाये और पाटिल ने उन्हें खास खिलाड़ी बताया। पाटिल ने कहा, भारतीय टीम से जुड़े पेशेवर इसके बारे में बतायेंगे। युवराज और धोनी के भविष्य के बारे में मेरा कुछ कहना सही नहीं होगा लेकिन ये खास क्रिकेटर है और काश मेरे पास इनकी प्रतिभा का पांच प्रतिशत भी होता ।2012 से 2016 तक चयन समिति के अध्यक्ष रहे पाटिल ने वह दौर देखा है जब सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण के संन्यास के बाद भारतीय क्रिकेट बदलाव से गुजर रहा था। पाटिल ने कहा, हमारे सामने सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, जहीर खान जैसे खिलाड़ियों के विकल्प तलाशने की कठिन चुनौती थी। मैं अपने साहसिक फैसलों से खुश हूं जिसके अच्छे नतीजे सामने आये।उन्होंने आस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे श्रृंखला में आर अनि और रविंद्र जडेजा को आराम देने के चयन समिति के फैसले की तारीफ की लेकिन कहा कि उनकी समिति ने भी ऐसे फैसले किए थे।
वापसी