नई पोस्ट करें

डबल मास्क, डबल वैक्सीन और 'दो गज की दूरी', कुछ ऐसे दिखा इस साल गणतंत्र दिवस समारोह पर कोरोना का असर

2022-10-01 05:12:46 185

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरKoffee With Karan 7: प्रेगनेंसी की खबरों के बीच करण जौहर के चैट शो के लिए Katrina Kaif ने भरी हामी, अब खुलेंगे सारे राज़******Highlights: बॉलीवुड फिल्ममेकर करण जौहर (Karan Johar) अपने चैट शो 'कॉफी विद करण' (Koffee With Karan) सीज़न 7 के चलते लगातार चर्चा का हिस्सा बने हुए हैं। करण के सवाल लोगों को काफी पसंद आते हैं। फिल्ममेकर अपने सवालों के जरिए फैंस के दिल की बात भी सितारों से पूछ लेते हैं। ऐसे में खबरें है कि कैटरीना कैफ (Katrina Kaif) कॉफी विद करण 7 में नजर आने वाली हैं।मिली जानकारी के अनुसार कैटरीना कैफ अपनी अपकमिंग फिल्म फोन भूत के को-स्टार्स यानी कि सिद्धांत चतुर्वेदी और ईशान खट्टर के साथ शो में शिरकत करेंगी। इस दौरान फिल्म के प्रमोशन के साथ-साथ करण सितारों की ज़िंदोगी से जुड़े अहम सवाल भी पूछेंगे। जिसमें इस वक्त का हॉट टॉपिक है कैटरीना कैफ की प्रेगनेंसी। एक्ट्रेस के फैंस सभी यही जानना चाहते हैं कि क्या मिसेज़ कौशल सच में मां बनने वाली हैं। या फिर से महज़ अफवाह है।ऑडियंस पूरी-पूरी उम्मीद लगाए बैठी है कि करण जौहर जो सभी के पर्सनल लाइफ से लेकर सेक्स लाइफ पर भी सवाल कर लेते हैं, वो इस कैटरीना से उनकी प्रेगनेंसी को लेकर जरूर सवाल करेंगे। लंबे वक्त से कैटरीना कैफ किसी भी इवेंट या पार्टी में नज़र नहीं आ रही हैं। ऐसे में सभी ने उम्मीद लगाई थी कि कैटरीना अपने बर्थडे पर इस राज से पर्दा उठा देंगी। कैटरीना ने बर्थडे तो जमकर सेलिब्रेट किया लेकिन अपने खास दिन पर भी अनाउंसमेंट नहीं की।करण जौहर ने अब तक शो में आने वाले हर सेलेब्स से उनकी सेक्स लाइफ पर एक सवाल तो ज़रूर ही किया है। ऐसे में जिस सवाल का जवाब पूरा देश जानना चाहता है, उसे करण पूछेंगे या नहीं। ये तो आने वाले एपीसोड में ही पता चलेगा। वर्कफ्रंट की बात करें तो कैटरीना जल्द ही फोन भूत में नजर आएंगी। इसके अलावा वह टाइगर 3 और मेरी क्रिसमस में नजर आएंगी।

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरइलेक्शन कमीशन ने की पंजाब की 5 राज्यसभा सीटों के लिए चुनाव की घोषणा****** पंजाब से चुने गए के पांच सदस्यों का कार्यकाल अप्रैल में समाप्त होने के साथ ही निर्वाचन आयोग ने संसद के ऊपरी सदन में चुनाव की तिथि की घोषणा कर दी है। शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखदेव सिंह ढींडसा, कांग्रेस के प्रताप सिंह बाजवा तथा शमशेर सिंह दुल्लो, भारतीय जनता पार्टी के श्वेत मलिक और शिरोमणि अकाली दल के नरेश गुजराल का राज्यसभा का कार्यकाल नौ अप्रैल को खत्म होने वाला है। के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एस करुणा राजू ने रविवार को कहा कि 14 मार्च सोमवार को चुनाव की अधिसूचना जारी की जाएगी। एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि नामांकन भरने की अंतिम तिथि 21 मार्च है और जांच पड़ताल 22 मार्च को की जाएगी। नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 24 मार्च तय की गई है। मतदान 31 मार्च को पूर्वाह्न नौ बजे से अपराह्न चार बजे तक होगा और मतगणना उसी दिन शाम पांच बजे की जाएगी।राजू ने कहा कि दो अप्रैल से पहले चुनाव की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। उन्होंने बताया कि नामांकन पत्र विधानसभा सचिव को सौंपना होगा जो राज्यसभा चुनाव के लिए पीठासीन अधिकारी हैं। नामांकन पत्र, होली के कारण 18 मार्च को और रविवार के चलते 20 मार्च को नहीं भरे जा सकेंगे।डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरएलन मस्‍क ने निभाया ट्विटर पर किया अपना वादा, टैक्‍स भुगतान के लिए बेचे 1.1 अरब डॉलर के शेयर******After promise, Musk sells 1.1billion dollar in Tesla shares to pay taxesट्विटर पर किए गए अपने वादे को निभाने के लिए टेस्‍ला के सीईओ और दुनिया के सबसे अमीर व्‍यक्ति एलन मस्‍क (Elon Musk) ने अपनी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी के 900,000 शेयर बेच दिए हैं। इन शेयरों की बिक्री से मस्‍क को 1.1 अरब डॉलर की राशि प्राप्‍त हुई है, जिसका उपयोग स्‍टॉक ऑप्‍शन के लिए बने टैक्‍स दायित्‍व को चुकाने में किया जाएगा। कंपनी का शेयर बुधवार को 1067.95 डॉलर प्रति शेयर पर बंद हुआ था। इस बिक्री के बाद मस्‍क के पास टेस्‍ला के 17 करोड़ शेयर बचे हैं। डाटा प्रदाता फैक्‍टसेट के मुताबिक जून में के सबसे बड़े शेयरधारक थे, उनके पास कंपनी की लगभग 17 प्रतिशत हिस्‍सेदारी है। फोर्ब्‍स के मुताबिक एलन मस्‍क दुनिया के सबसे अमीर आदमी हैं, उनके पास लगभग 282 अरब डॉलर की संपत्ति है, इसका अधिकांश हिस्‍सा टेस्‍ला स्‍टॉक के रूप में है।उल्‍लेखनीय है कि पिछले हफ्ते मस्क ने ट्विटर पर अपने स्टॉक का 10 प्रतिशत बेचने का प्रस्ताव रखा था और लोगों से उनकी राय मांगी थी। सप्ताहांत में मतदान की घोषणा करते हुए एक ट्वीट में, मस्क ने कहा था कि टैक्‍स से बचने का एक साधन होने के कारण हाल ही में बहुत कुछ अवास्तविक लाभ हुआ है, इसलिए मैं अपने टेस्ला स्टॉक का 10 प्रतिशत बेचने का प्रस्ताव करता हूं। मैं इस निर्णय के परिणामों का पालन करूंगा, चाहे जो भी हो।उनके ट्विटर पोल में भाग लेने वाले एलन मस्क के लगभग 58 प्रतिशत अनुयायियों ने उन्हें इलेक्ट्रिक कार कंपनी में अपना 10 प्रतिशत स्टॉक (24 अरब डॉलर मूल्य) जाहिर तौर पर अधिक कर का भुगतान करने के लिए बेचने के लिए कहा था।मस्क ने पोस्ट किया, "ध्यान दें, मैं कहीं से नकद वेतन या बोनस नहीं लेता हूं। मेरे पास केवल स्टॉक हैं, इसलिए मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से करों का भुगतान करने का एकमात्र तरीका स्टॉक बेचना है। मस्क की अपनी कुल संपत्ति में 50 अरब डॉलर की गिरावट आई है। टेस्‍ला का मुख्‍यालय पालो अल्‍टो, कैलिफोर्निया में है, हालांकि मस्‍क ने घोषणा की है कि वह अपना मुख्‍यालय टेक्‍सास में स्‍थानांतरित करेंगे।

डबल मास्क, डबल वैक्सीन और 'दो गज की दूरी', कुछ ऐसे दिखा इस साल गणतंत्र दिवस समारोह पर कोरोना का असर

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसररिजर्व बैंक ने चालू वित्‍त वर्ष की आर्थिक वृद्धि अनुमान को किया कम, 7.3 प्रतिशत रहेगी विकास दर****** भारतीय रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष के लिए आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को आज कम कर 7.3 प्रतिशत कर दिया है। हालांकि, शीर्ष बैंक ने उम्मीद जताई कि नए नोटों के चलन में आने से खासकर नकदी-गहनता वाले क्षेत्रों में उपभोक्ता व्यय बढ़ेगा। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने वित्‍त वर्ष 2016-17 के लिए वास्तविक सकल मूल्य वर्द्धन (जीवीए) 6.6 प्रतिशत रहने की बात कही है, जो कि फरवरी 2017 में जारी दूसरे अग्रिम अनुमान से 0.1 प्रतिशत अंक कम है।साथ ही नोटबंदी के बाद बैंकों के ब्याज में कमी से घरों में खपत और निवेश मांग दोनों को समर्थन मिलना चाहिए।रिजर्व बैंक ने आगे कहा कि सरकार का व्यय लगातार मजबूत बना हुआ है, इससे अन्य क्षेत्रों में नरमी के प्रभाव से निपटने में मदद मिली है।इसके अनुसार, केंद्रीय बजट में किए गए प्रस्तावों के क्रियान्वयन से निजी निवेश आकर्षित होगा क्योंकि जीएसटी, दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता तथा विदेशी निवेश संवर्द्धन बोर्ड को समाप्त किए जाने जैसे संरचनात्मक सुधारों से व्यापार माहौल सुधरा है।मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) के बयान के अनुसार कच्चे माल की लागत बढ़ने तथा मजदूरी दबाव से कंपनियों का लाभ प्रभावित हो सकता है, इससे जीवीए वृद्धि नीचे आएगी।इसके अनुसार पुन: कंपनियों पर अधिक कर्ज तथा बैंक क्षेत्र पर दबाव से निजी निवेश मांग में सुधार में और विलंब हो सकता है।डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरजॉनी डेप ने जीता मानहानि का मुकदमा, एक्स वाइफ एम्बर हर्ड को देना होगा 116 करोड़ रुपये का मुआवजा******Highlights:हॉलीवुड स्टार जॉनी डेप ने बुधवार को उनके और उनकी पूर्व पत्नी एम्बर हर्ड के बीच महीनों से चल रहे हाई-प्रोफाइल मानहानि का केस जीता लिया है। जूरी ने पिछले शुक्रवार को इस मामले पर विचार-विमर्श शुरू किया। डेप ने साल 2018 में 'द वाशिंगटन पोस्ट' के लिए एक ऑप-एड लिखने के बाद अपनी एक्स वाइफ हर्ड पर 50 मिलियन अमेरिकी डॉलर का मुकदमा दायर किया था, जिसमें उन्होंने (हर्ड ने) खुद को "घरेलू शोषण सहने वाली सार्वजनिक हस्ती" कहा था।हर्ड ने डेप पर 100 मिलियनअमरीकी डॉलर का प्रतिवाद किया जिसमें उसने दावा किया कि उसने अपनी 15 महीने की शादी के दौरान घरेलू हिंसा सहन की है। जूरी ने जॉनी डेप को हर्जाने में 15 मिलियन अमेरिकी डॉलर (तकरीबन 116 करोड़ भारतीय रुपये) का पुरस्कार दिया है। एम्बर हर्ड ने एक निजी स्वामित्व वाले समाचार पत्र में लेखों पर जॉनी डेप के खिलाफ अपने मानहानि के मामले में भी जीत हासिल की है, जिसमें जॉनी डेप के पूर्व वकील ने घरेलू दुर्व्यवहार के उनके दावों को एक धोखा के रूप में वर्णित किया था। जूरी ने एम्बर हर्ड को हर्जाने में 2 मिलियन अमेरिकी डॉलर (साढ़े 15 करोड़) का पुरस्कार दिया है।इस फैसले के सामने आने के तुरंत बाद, जॉनी डेप ने आधिकारिक तौर पर अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक बयान जारी किया जिसमें लिखा था, "छह साल पहले, मेरा जीवन, मेरे बच्चों का जीवन, मेरे सबसे करीबी लोगों का जीवन और लोगों का जीवन भी। जिन्होंने कई वर्षों तक मेरा समर्थन किया और मुझ पर विश्वास किया, वे हमेशा के लिए बदल गए। पलक झपकते ही सब कुछ।''डेप ने आगे लिखा- "मीडिया के माध्यम से मुझ पर झूठे, बहुत गंभीर और आपराधिक आरोप लगाए गए, जिससे घृणास्पद सामग्री का अंतहीन सिलसिला शुरू हो गया। यह पहले ही नैनोसेकंड के भीतर दो बार दुनिया भर में घूम चुका था और मेरे जीवन और मेरे करियर पर इसका भूकंपीय प्रभाव पड़ा। और छह साल बाद, जूरी ने मुझे मेरी जिंदगी वापस दे दी। मैं वास्तव में विनम्र हूं, "डेप ने उल्लेख किया, "मैं दुनिया भर से प्यार और अपार समर्थन और दया से अभिभूत हूं। मुझे उम्मीद है कि सच कहने की मेरी खोज ने दूसरों, पुरुषों या महिलाओं की मदद की होगी, जिन्होंने खुद को मेरी स्थिति में पाया, और उनका समर्थन करने वालों ने कभी हार नहीं मानी। मैं न्यायाधीश के नेक काम को स्वीकार करना चाहता हूं, ज्यूरर्स, कोर्ट स्टाफ और शेरिफ जिन्होंने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए अपने समय का बलिदान दिया है, और मेरी मेहनती और अटूट कानूनी टीम को जिन्होंने सच्चाई को साझा करने में मेरी मदद करने में असाधारण काम किया है।"दूसरी ओर, हर्ड ने फैसले पर निराशा व्यक्त की। उसने ट्विटर पर एक नोट लिखा, जिसमें लिखा था, "आज मुझे जो निराशा महसूस हो रही है, वह शब्दों से परे है। मैं इस बात से दुखी हूं कि सबूतों का पहाड़ अभी भी मेरे पूर्व पति की असमान शक्ति, प्रभाव और बोलबाला का सामना करने के लिए पर्याप्त नहीं था। मैं और भी निराश हूं कि इस फैसले का अन्य महिलाओं के लिए क्या मतलब है। यह एक झटका है। यह उस समय को वापस सेट करता है जब एक महिला जो बोलती और उसे सार्वजनिक रूप से शर्मिंदा और अपमानित किया जा सकता है। यह इस विचार को वापस सेट करता है महिलाओं के खिलाफ हिंसा को गंभीरता से लिया जाना चाहिए।"कई वर्षों की डेटिंग के बाद, डेप और हर्ड ने 2015 में लॉस एंजिल्स में अपने घर में एक बहुत ही निजी समारोह में शादी की। 23 मई 2016 को, हर्ड ने डेप से तलाक के लिए अर्जी दी। उन्होंने आरोप लगाया कि डेप ने अपने रिश्ते के दौरान उनका शारीरिक शोषण किया, और कहा कि यह आमतौर पर ड्रग्स या शराब के प्रभाव में था।डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरJodhpur Violence : क्या जोधपुर में पहले से थी हंगामे की तैयारी, कहां से आए नुकीले हरे रंग के पत्थर ? जानें डिटेल******Highlights राजस्थान (Rajasthan) केजोधपुर (Jodhpur) में आज ईद के दिन सुबह-सुबह हुए बवाल से हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। जालौरी गेट से शुरू हुआ हंगामा अब कबूतरों के चौक इलाके तक पहुंच गया है। अभी तक के घटनाक्रम के मुताबिक हंगामे और पथराव के बाद हालात नियंत्रित करने की पूरी कोशिश में प्रशासनिक अमला जुटा है। वहीं ताजा जानकारी के मुताबिक पथराव के लिए नुकीले हरे रंग के पत्थर इकट्ठा किए गए थे और यही पत्थर सुबह में चलाए गए।इंडिया टीवी संवाददाता मनीष भट्टाचार्या ने बताया कि आमतौर पर जोधपुर (Jodhpur) में जो पत्थर पाए जाते हैं उनमें रेत की मात्रा ज्यादा होती है और वो पीले रंग के होते हैं। लेकिन आज जो पत्थर फेंके गए वो नुकीले और हरे रंग के थे। इससे एक बड़ी साजिश का शक पैदा होता है और यह सवाल उठता है कि कहीं जोधपुर में पहले से पत्थर चलाने की तैयारी तो नहीं थी? फिलहाल पुलिस और प्रशासन हालात को नियंत्रित करने की कोशिशों में जुटा है। इसके बाद साजिश के हर एंगल की जांच की जाएगी।जालोरी गेट इलाके में धार्मिक झंडा लगाने को लेकर विवादआपको बता दें कि आज सुबह जोधपुर (Jodhpur) के जालौरी गेट इलाके में धार्मिक झंडा लगाने और उसे हटाने को लेकर बवाल शुरू हो गया। शुरूआत में दो गुटों के बीच जमकर बहस हुई और धीरे-धीरे धक्कामुक्की के बाद पथराव शुरू हो गया। उधर शहर में बवाल के बाद इंटरनेट सर्विस बंद कर दी गई है।सीएम गहलोत ने शांति बनाए रखने की अपील कीइस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने इस पूरी घटना दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। गहलोत ने मंगलवार की सुबह ट्वीट किया, ‘‘जोधपुर के जालौरी गेट के निकट दो गुटों में झड़प से तनाव पैदा होना दुर्भाग्यपूर्ण है। प्रशासन को हर कीमत पर शांति एवं व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।’’ गहलोत ने लोगों ने शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा, ‘जोधपुर, मारवाड़ की प्रेम एवं भाईचारे की परंपरा का सम्मान करते हुए मैं सभी पक्षों से मार्मिक अपील करता हूं कि शांति बनाए रखें एवं कानून-व्यवस्था बनाने में सहयोग करें।’

डबल मास्क, डबल वैक्सीन और 'दो गज की दूरी', कुछ ऐसे दिखा इस साल गणतंत्र दिवस समारोह पर कोरोना का असर

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरसेबी के निदेशक मंडल की बैठक 10 फरवरी को, धातु ईटीएफ को जल्‍द मिल सकती है मंजूरी****** बाजार नियामक के निदेशक मंडल की बैठक 10 फरवरी को होगी, जिसमें प्रतिभूति बाजार से जुड़े विभिन्न बजटीय प्रस्तावों पर चर्चा हो सकती है।इसके साथ ही बैठक में कॉरपोरेट गवर्नेंस पर कोटक समिति की सिफारिशों पर भी विचार- विमर्श किया जा सकता है। वित्त मंत्री अरुण जेटली आम बजट पेश करने के बाद होने वाली इस बैठक को परंपरागत तौर पर संबोधित करेंगे।जेटली उसी दिन भारतीय रिजर्व बैंक के निदेशक मंडल की बैठक को भी संबोधित करेंगे। एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार आम बजट 2018-19 के बाद सेबी के निदेशक मंडल की पहली बैठक 10 फरवरी को होगी, जिसमें विभिन्न बजट प्रस्तावों के साथ अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी।जेटली विभिन्न बजट प्रस्तावों की जानकारी बैठक में देंगे। अधिकारी का कहना है कि सूचीबद्ध कंपनियों में कंपनी संचालन व्यवहार के बारे में उदय कोटक समिति की सिफारिशों पर भी चर्चा की जा सकती है।खुदरा निवेशकों को आकर्षित करने के लिए धातु ईटीएफ को मिल सकती है मंजूरीसेबी चांदी और प्लैटिनम जैसी धातुओं पर आधारित एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) को मंजूरी देने पर विचार कर रहा है। इसका उद्देश्य इस तरह की योजनाओं में खुदरा तथा संस्थागत निवेशकों की भागीदारी बढ़ाना है। वरिष्ठ अधिकारियों ने यह जानकारी दी।विदेशी बाजारों में ईटीएफ फंड इक्विटी, जिंस (कमोडिटी) और धातुओं पर आधारित है लेकिन भारत में ईटीएफ फंड सिर्फ इक्विटी और सोने पर आधारित है। अधिकारियों ने कहा कि सेबी की चांदी और प्लैटिनम जैसी धातुओं पर आधारित ईटीएफ को अनुमति देने की योजना है।एसीएक्स रिसर्च के प्रमुख वी शुनमुगम ने कहा कि भारत जैसी तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था के बुनियादी ढांचा सृजन और मेक इन इंडिया जैसी पहलों के साथ जिंस संवेदनशील नीतिगत कदमों की ओर बढ़ने की संभावना है। धातु ईटीएफ की शुरुआत जिंस संवेदनशील अर्थव्यवस्थाओं की आर्थिक वृद्धि पर नजर रखने के लिए खुदरा और संस्थागत निवेशकों की पहुंच सुनिश्चित करेगा।डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसर'फ्रीडम 251' के निर्माता अब बेचेंगे LED टीवी****** चार डॉलर से भी कम कीमत पर स्र्माटफोन की 5,000 इकाइयां अपने उपभोक्ताओं को रवाना करने के बाद नोएडा की यह कंपनी अब एलईडी टीवी बेचने की तैयारी में है। रिंगिंग बेल्स प्रा.लि. के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहित गोयल के मुताबिक, कंपनी ने नोएडा का स्पोर्ट्स स्टेडियम बुक किया है, जहां दुनिया का सबसे सस्ता एचडी एलईडी टीवी 9,990 रुपये कीमत में लांच किया जाएगा और इस अवसर बॉलीवुड के कई सितारे मौजूद रहेंगे।गोयल ने मंगलवार को बताया, "25 जुलाई को हम नोएडा में एक बड़े समारोह का आयोजन करने जा रहे हैं, जहां आनेवाली फिल्म 'ढिशुम' के सितारे मौजूद रहेंगे। इनमें जॉन अब्राहम, वरुण धवन, जैकलिन फर्नांडीज और अक्षय खन्ना शामिल हैं। वे हमारे साथ मिलकर एचडी एलईडी टीवी को लांच करेंगे।"31.5 इंच के इन एचडी एलईडी टीवी की बुकिंग 26 जुलाई से शुरू होगी। एलईडी टीवी का वितरण 15 अगस्त से शुरू होगा। इस बड़े समारोह से पहले गोयल पश्चिम उत्तर प्रदेश के अपने गृहनगर शामली जिले के गढीपुख्ता जाकर करीब 200 'फ्रीडम 251' का वितरण करेंगे। उन्होंने बताया, "मैंने 14 जुलाई को शामली जाने की योजना बनाई है, जहां मैं इस क्षेत्र से 'फ्रीडम 251' स्मार्टफोन की बुकिंग करने वाले 200 लोगों को खुद जाकर फोन सुपुर्द करूंगा। क्योंकि इस क्षेत्र से मेरा भावनात्मक जुड़ाव है। मैं शामली से हूं।"गोयल के मुताबिक, कंपनी द्वारा हाल में लांच किए गए चार फीचर फोन्स, दो स्मार्टफोन और तीन पॉवर बैंक के लिए 48,000 नए ऑर्डर प्राप्त हुए हैं। उन्होंने आगे कहा, "इन उपभोक्ताओं को अपने-अपने उत्पाद कैश ऑन डिलीवरी के तरीके से मिलेंगे। आनेवाले दिनों में मैं बुकिंग में और भी इजाफा की उम्मीद कर रहा हूं।" इन चार फीचर फोन में हिट (699 रुपये), किंग (899 रुपये), बॉस (999 रुपये) और राजा (1099 रुपये) शामिल हैं, जबकि स्मार्टफोन में एलेगेंट 3जी और एलेगेंट 4जी है, जिनकी कीमत क्रमश) 3,999 रुपये और 4,999 रुपये है। कंपनी ने कहा कि अपने उत्पादों के वितरण के लिए उसने आरवी सोल्यूशन्स प्रा.लि. के साथ करार किया है।

डबल मास्क, डबल वैक्सीन और 'दो गज की दूरी', कुछ ऐसे दिखा इस साल गणतंत्र दिवस समारोह पर कोरोना का असर

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरमुजफ्फरपुर आश्रयगृह: न्यायालय का तीन जून तक स्थिति रिपोर्ट पेश करने का CBI को निर्देश******उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को को निर्देश दिया कि वह बिहार के में 11 लड़कियों की कथित हत्या की जांच की प्रगति के बारे में तीन जून तक स्थितिरिपोर्ट पेश करे। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने कहा कि इस मामले की गंभीरता को देखते हुए ग्रीष्मावकाश पीठ तीन जून को सुनवाई करेगी। सीबीआई की ओर से अटार्नीजनरल के के वेणुगोपाल ने पीठ से कहा कि मुजफ्फरपुर आश्रयगृह में 11 लड़कियों की कथित रूप से हत्या कर दी गयी है और केंद्रीय जांच ब्यूरो ने एक दफन स्थल से हड्डियां भी बरामद की हैं।उन्होंने कहा कि जांच ब्यूरो के लिए 11 लड़कियों की कथित हत्या के मामले की जांच तीन जून तक पूरी करना संभव नहीं होगा। सीबीआई ने एक सनसनीखेज खुलासा करते हुए तीन मई को शीर्ष अदालत से कहाथा कि आरोपी बृजेश ठाकुर और उसके साथियों ने 11 लड़कियों की कथित रूप से हत्या कर दी और उस जगह से हड्डियों की पोटली बरामद हुई है जहां उन्हें कथित तौर पर दफनाया गया था।टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज की रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपे जाने के बाद एक गैर सरकारी संगठन द्वारा संचालित मुजफ्फरपुर आश्रयगृह में लड़कियों के यौन शोषण और उनसे कथित बलात्कार की घटनायेंप्रकाश में आयी थीं।इस मामले की जांच शुरू में राज्य पुलिस ही कर रही थी, परंतु बाद में इसे केन्द्रीय जांच ब्यूरो को सौंप दिया गया। जांच ब्यूरो ने बृजेश ठाकुर सहित 21 आरोपियों के खिलाफ अदालत में आरोपपत्र दाखिल किया है।सीबीआई ने न्यायालय में दाखिल अपने हलफनामे में कहा है कि जांच के दौरान दर्ज किये गये पीड़िताओं के बयानों में 11 लड़कियों के नाम उभरकर सामने आये जिनके बारे में बताया गया कि ठाकुर और उनकेसाथियों ने उनकी कथित रूप से हत्या कर दी है। हलफनामे में कहा गया है, ‘‘आरोपी गुड्डू पटेल द्वारा जांच के दौरान दी गयी जानकारी के आधार पर एक दफन स्थल पर गुड्डू की निशानदेही वाले स्थान कीखुदाई की गयी तो वहां से हड्डियों की पोटली बरामद हुयी।’’जांच ब्यूरो ने कहा है कि इस मामले में उसने ‘‘गहराई से निष्पक्ष जांच की’’ और पीड़िताओं से मिली जानकारी के तुरंत बाद हत्या के आरोपों की जांच शुरू की गयी। हलफनामे में कहा गया कि आश्रयगृह कीमास्टर पंजिका में दर्ज इन 11 लड़कियों के नाम की जांच करने पर पता चला कि एक जैसे नाम की 35 लड़कियां मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में किसी न किसी समय रही थीं। आश्रयगृह में रहने वाली लड़कियोंद्वारा जांच अधिकारियों के समक्ष किए गए खुलासे के आधार पर स्थानीय पुलिस/सीबीआई ने सभी कथित दफन स्थलों पर खुदाई की थी। सीबीआई ने कहा है कि इन लड़कियों के शारीरिक और यौन शोषण में बाहरीव्यक्तियों की संलिप्तता के आरोपों की उसने जांच की है और पीड़िताओं द्वारा दी गयी जानकारी के आधार पर आरोपियों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया गया है।हलफनामे में जांच ब्यूरो ने इन आरोपों से इनकार किया है कि असली अपराधियों के बारे में पीड़िताओं द्वारा उपलब्ध कराये गये सुराग या बाहरी व्यक्तियों की भूमिका के बारे में दी गयी जानकारी की जानबूझकरजांच नहीं की गयी है। हलफनामे के अनुसार बिहार के सामाजिक कल्याण विभाग के अधिकारी के खिलाफ भी इस मामले में आरोपपत्र दाखिल किया गया है। शीर्ष अदालत ने इस साल फरवरी में इस सनसनीखेजमामले के मुकदमे को बिहार की अदालत से नयी दिल्ली स्थित साकेत जिला अदालत परिसर में यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण के मुकदमों की सुनवाई करने वाली अदालत में स्थानांतरित कर दिया था।

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरAsia Cup 2022 IND vs PAK : विराट कोहली के लिए मौका-मौका******Highlights28 अगस्त 2022, ये वो तारीख है, जिसका इंतजार पूरी दुनिया कर रही है। कितनी जल्दी ये तारीख आए और शाम हो, ताकि एशिया कप 2022 में भारत और पाकिस्तान के बीच महामुकाबला शुरू हो। जब मैच शुरू हो जाएगा, उसके बाद क्या होगा, इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है, क्योंकि रोमांच तो अभी से अपने चरम की ओर पहुंचने के लिए तैयार है, जबकि मैच में अभी कुछ घंटे शेष है। एशिया कप भले 27 अगस्त से शुरू होना हो और भारत पाकिस्तान का मुकाबला 28 अगस्त को होना हो, लेकिन सोशल मीडिया पर इस वक्त जिसकी बात सबसे ज्यादा हो रही है, वो भारत पाक मैच और एशिया कप हैं। इसके बाद एक खिलाड़ी भी है, जिसकी बात खूब जमकर हो रही हैं, वो हैं टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली। क्योंकि विराट कोहली करीब एक महीने बाद टीम इंडिया में वापसी करने वाले हैं। इतना ही नहीं विराट कोहली के लिए ये मैच काफी खास होने वाला है, क्योंकि ये उनका 100वां टी20 इंटरनेशनल मैच होगा।पूर्व कप्तान विराट कोहली अब तक 99 टी20 इंटरनेशनल मैच खेल चुके हैं। उनके लिए इससे बड़ी बात और क्या होगी कि वे अपना 100वां मैच पाकिस्तान जैसी टीम के खिलाफ खेलते हुए नजर आएंगे। विराट कोहली के लिए ये मैच और पूरा एशिया कप काफी खास होने वाला है, क्योंकि जिस तरह के फार्म से वे जूझ रहे हैं, उससे उनकी काफी आलोचना भी हो रही है। इस बीच खबरें ऐसी भी आ रही हैं कि विराट कोहली ने एशिया कप के लिए नया बल्ला भी तैयार कर लिया है, यानी वे पाकिस्तान के खिलाफ नए बैट के साथ मैदान में उतर सकते हैं। विराट कोहली के लिए अच्छा ये होगा कि उन्होंने पर्याप्त रेस्ट कर लिया है और वे कहां गलती कर रहे हैं, इसके बारे में उन्होेंने इस दौरान सोच विचार भी जरूर किया होगा। विराट कोहली का बल्ला पाकिस्तान के खिलाफ खूब चलता है, वे अपने 100वें मैच में जब पाकिस्तान के खिलाफ खेलने के लिए उतरेंगे तो बड़ी पारी खेल सकते हैं, इसकी पूरी संभावना है।विराट कोहली ने पाकिस्तान के खिलाफ अभी तक सात टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। इसमें उन्होंने 311 रन बनाए हैं। पाकिस्तान के खिलाफ उनका स्ट्राइक रेट 118 से भी ज्यादा का रहा है और औसत करीब 77 का है। यानी विराट कोहली की पसंदीदा विरोधी टीम पाकिस्तान ही है। इतना ही नहीं विराट कोहली जब पाकिस्तान के खिलाफ बाद में बल्लेबाजी करते हैं तो वे और भी खतरनाक हो जाते हैं। रनों का पीछा करते वक्त विराट कोहली पाकिस्तान के खिलाफ तीन पारियों में 218 रन बना चुके हैं। इन चार पारियों में से तीन बार तो वे आउट ही नहीं हुए हैं। विराट कोहली का बल्ला भले इस वक्त कुछ खामोश हो, लेकिन वे ऐसे ही चेज मास्टर थोड़े ही कहे जाते हैं। इस बार भी विराट कोहली नंबर तीन पर ही बल्लेबाजी करते हुए नजर आएंगे। टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने पिछले दिनों कहा भी था कि एक बार विराट कोहली फार्म में आ गए और उनके बल्ले से 50 रन आ गए तो वे पीछे मुड़कर नहीं देखेंगे। पूरा हिन्दुस्तान उम्मीद करेगा कि विराट कोहली अपने सौवें मैच में पाकिस्तान के खिलाफ एक विराट पारी खेले और टीम इंडिया की जीत में बड़ी भूमिका निभाएं।डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरसेंसेक्‍स 530 अंक उछलकर पहुंचा नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर, निफ्टी ने किया 12,050 का स्‍तर पार******Sensex scales new closing peak, soars 530 pts; Nifty above 12,050अमेरिका-चीन के बीच व्यापार समझौते की उम्मीद बढ़ने और वैश्विक बाजारों में तेजी के बीच बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स सोमवार को 530 अंक उछलकर 40,889.23 अंक की नई ऊंचाई पर बंद हुआ। स्थानीय बाजार में मुख्य रूप से दूरसंचार, धातु और वाहन कंपनियों के शेयरों में को निवेशकों का जोरदार समर्थन दिखा। प्रमुख तीस शेयरों वाला कारोबार के दौरान एक समय 40,931.71 के नए रिकॉर्ड स्तर तक चला गया था। अंत में यह 529.82 अंक यानी 1.31 प्रतिशत की तेजी के साथ 40,889.23 अंक पर बंद हुआ। यह सेंसेक्स का बंद के समय का अब तक का उच्चतम स्तर है।इसी प्रकार, नेशनल स्‍टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 159.35 अंक यानी 1.34 प्रतिशत की बढ़त के साथ 12,073.75 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में भारती एयरटेल रही। कंपनी का शेयर 7.20 प्रतिशत मजबूत हुआ। उसके बाद क्रमश: टाटा स्टील 4.99 प्रतिशत, इंडसइंड बैंक 3.49 प्रतिशत, एक्सिस बैंक 3.26 प्रतिशत तथा एचडीएफसी 2.57 प्रतिशत का स्थान रहा।वहीं दूसरी तरफ ओएनजीसी 2.17 प्रतिशत तथा येस बैंक 1.70 प्रतिशत नीचे आए। कारोबारियों के अनुसार अमेरिका और चीन के बीच शुरुआती व्यापार समझौते की उम्मीद से वैश्विक बाजारों में तेजी का असर घरेलू बाजार पर भी पड़ा। समझौते पर इस साल के अंत तक हस्ताक्षर की उम्मीद है।एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई (चीन), हांगकांग, सियोल (दक्षिण कोरिया) और तोक्यो (जापान) के शेयर बाजारों में 1.50 प्रतिशत तक की तेजी रही। वहीं यूरोप के प्रमुख शेयर बाजारों में भी शुरूआती कारोबार में बढ़त देखने को मिली।

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरChanakya Niti: कभी भी इंसान को इस चीज की तुलना दूसरों से नहीं करनी चाहिए, जानिए क्या कहती है चाणक्य नीति******Highlightsआचार्य चाणक्य की नीतियां और विचार आज भी समाज और परिवार में जीने के सलीके सिखाती हैं। आचार्य चाणक्‍य ने अपनी नीति में पैसे, सेहत, बिजनेस, दांपत्‍य जीवन, समाज, जीवन में सफलता से जुड़े तमाम चीजों पर अपनी राय दी है जिसे चाणक्य नीति के नाम से जाना जाता है, ये हमेशा मुसीबत के समय में सही सलाह देती हैं।इनके विचार आपको थोड़े कठोर जरूर लगे लेकिन ये कठोरता ही जीवन की सच्चाई है। भागदौड़ भरी जिंदगी में आप इन विचारों को नजरअंदाज ही क्यों न कर दें लेकिन ये वचन जीवन की हर कसौटी पर आपकी मदद करेंगे।आचार्य चाणक्य के इन्हीं विचारों में से आज हम एक और विचार का विश्लेषण करेंगे। आज के विचार में आचार्य चाणक्य ने बताया है कि किसी को भी अपनी जिंदगी की तुलना किसी और से नहीं करनी चाहिए। जानिए।'आप अपनी जिंदगी की तुलना अन्य लोगों के साथ मत करो सूर्य और चंद्रमा दोनों ही चमकते हैं लेकिन अपने अपने समय पर।' - आचार्य चाणक्यआचार्य चाणक्य के इस कथन के अनुसार, किसी को कभी भी अपने जीवन की तुलना दूसरों से नहीं करनी चाहिए। अक्सर ऐसा होता है कि लोग दूसरे को देखकर अपने जीवन की तुलना उनसे करने लगते हैं। ये तुलना कई बार पैसे, मकान, करियर या फिर कपड़ों की भी हो सकती है। अगर आप भी इसको लेकर अपनी तुलना दूसरों से करते हैं तो इस आदत को तुरंत बदल दें।आचार्य चाणक्य का कहना है कि असल जिंदगी में आपका आमना-सामना कई तरह के लोगों से होता है। ऐसे में हो सकता है कि आपके सामने वाले के पास कुछ हो और आपके पास वो चीजें हों। लेकिन कभी भी दूसरों के लाइफस्टाइल से अपनी तुलना न करें। ये आपके लिए खतरनाक हो सकता है। ऐसा करके आपके अंदर जलन का भाव आएगा। इसलिए बेहतर रहेगा कि खुद को जलाने की बजाए आप खुशहाल जिंदगी व्यतीत करें।चाणक्य जी कहते हैं कि जिस तरह आसमान में चंद्रमा और सूरज के चमकने का वक्त अलग-अलग होता है। ठीक उसी तरह आपको भी वो सब जीवन में मिलेगा जो आप डिजर्व करते हैं। उसके लिए बस आपको थोड़ा सब्र करना रखना होगा।डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरअंतरराज्यीय e-Way बिल प्रणाली 1 अप्रैल से हुई लागू, कर्नाटक बना राज्य के भीतर इसे लागू करने वाला पहला राज्य****** एक राज्य से दूसरे राज्य में माल परिवहन के लिए इलेक्ट्रॉनिक यानी प्रणाली 1 अप्रैल से शुरू हो गयी है। वहीं, जीएसटी नेटवर्क के अधिकारियों ने कहा कि ई-वे बिल प्‍लेटफॉर्म सुचारू रूप से काम रहा है। कर्नाटक एक मात्र एक ऐसा राज्य है जिसने राज्य के भीतर भी माल परिवहन के लिए ई-वे बिल प्रणाली को लागू किया। कर्नाटक अंतरराज्यीय माल ढुलाई के लिए पिछले साल सितंबर से ई-वे बिल प्‍लेटॅाफर्म का इस्तेमाल कर रहा है। 1 अप्रैल से देशभर में अंतरराज्यीय माल परिवहन के लिये ई-वे बिल की शुरुआत की गई है जबकि राज्य के भीतर माल परिवहन के मामले में इस व्यवस्था को चरणबद्ध ढंग से लागू किया जाएगा। इस प्रणाली के तहत कारोबारी अथवा ट्रासंपोर्टर को 50,000 रुपए से अधिक मूल्य का माल एक राज्य से दूसरे राज्य में ले जाते हुए जीएसटी निरीक्षक के समक्ष ई-वे बिल पेश करना होगा।वस्‍तु एवं सेवा कर नेटवर्क (जीएसटीएन) के अधिकारी ने कहा कि ई-वे बिल मंच सुचारू रूप से काम कर रहा है और कर्नाटक एक राज्य से दूसरे राज्य में माल ढुलाई के लिए पहले से ई- वे बिल जारी कर रहा है।माल एवं सेवा कर के ई-वे बिल प्रावधानों को पहले एक फरवरी से लागू किया गया लेकिन परमिट जारी करने वाली प्रणाली में खामियां सामने आने के बाद इसके कार्यान्वयन पर रोक लगा दी गई थी। इसके बाद प्लेटफॉर्म को अधिक मजबूत बनाया गया ताकि वह बिना किसी रूकावट के प्रतिदिन 75 लाख ई-वे बिल निकाले सके। यह प्रणाली राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) ने डिजाइन और विकसित की है।ई-वे बिल पोर्टल पर अब तक 11 लाख कारोबारियों और ट्रांसपोर्टरों ने पंजीकरण किया है। जीएसटी के तहत 1.05 करोड़ व्यावसाय पंजीकृत हैं और करीब 70 लाख ने जीएसटी रिटर्न दाखिल किया है।पिछले महीने की शुरुआत में जीएसटी परिषद ने अंतरराज्यीय परिवहन पर ई-वे बिल एक अप्रैल से और राज्य के अंदर परिवहन पर ई-वे बिल 15 अप्रैल के बाद चरणबद्ध तरीके से लागू करने का फैसला किया। राज्य के भीतर माल परिवहन के लिये ई-बिल की शुरुआत धीरे-धीरे आगे बढ़ाई जाएगी।

डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरएफपीआई ने सितंबर में भारतीय बाजारों से 476 करोड़ रुपये निकाले******एफपीआई का सितंबर में बाजार में निवेशनई दिल्ली। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने सितंबर में अब तक भारतीय बाजारों से 476 करोड़ रुपये की निकासी की है। यूरोप और अन्य देशों में कोरोना वायरस संक्रमण फिर उभरने के बीच यह उनके सतर्क रुख को दर्शाता है। निवेशकों को आशंका है कि महामारी की दूसरी लहर के शुरू होने से दुनिया भर की अर्थव्यवस्थाएं एक बाऱ फिर नए प्रतिबंध लगा सकती है, जिससे रिकवरी में देरी होने का डर बन गया है। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार, एफपीआई ने एक से 25 सितंबर के दौरान शेयरों से शुद्ध रूप से 4,016 करोड़ रुपये निकाले। इस दौरान उन्होंने ऋण या बांड बाजार में 3,540 करोड़ रुपये डाले। इस तरह उनकी शुद्ध निकासी 476 करोड़ रुपये रही। एफपीआई लगातार तीन महीने (जून से अगस्त) तक शुद्ध लिवाल रहे थे। अगस्त में उन्होंने भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 46,532 करोड़ रुपये का निवेश किया था। जुलाई में उनका निवेश 3,301 करोड़ रुपये और जून में 24,053 करोड़ रुपये रहा था।मॉर्निंगस्टार इंडिया के एसोसिएट निदेशक-प्रबंधक शोध हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘यूरोप और अन्य देशों में कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ने और प्रभावित क्षेत्रों में नए सिरे से संभावित लॉकडाउन की आशंका से एफपीआई सतर्क रुख अपना रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि इसके अलावा भारत में कोविड-19 के बढ़ते मामलों तथा भारतीय अर्थव्यवस्था के समक्ष चुनौतियों की वजह से भी एफपीआई का भरोसा कायम नहीं हो पा रहा है।वहीं विदेशी बाजारों से मिले संकेतों के बाद विदेशी निवेश अब बाजार में मुनाफा वसूली कर रहे हैं, दरअसल बाजार में पिछले काफी समय से बढ़त का रुख देखने को मिल रहा है। जानकार मान रहे हैं कि सिस्टम में नकदी बढ़ने से अलग अलग एसेट्स में निवेश बढ़ रहा है वहीं जितनी तेजी से निवेशक पैसा लगा रहे हैं, मुनाफा मिलने में वो उतनी तेजी से पैसा भी निकाल रहे हैं। दरअसल अनिश्चितता को देखते हुए निवेशक ज्याद वक्त जोखिम नहीं लेना चाह रहे हैं।डबलमास्कडबलवैक्सीनऔरदोगजकीदूरीकुछऐसेदिखाइससालगणतंत्रदिवससमारोहपरकोरोनाकाअसरमध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत अब मिलेंगे 51,000 रुपये****** में ‘मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना’ के तहत अब 51,000 रुपये दिए जाएंगे। पहले यह राशि 28,000 रुपये थी। कैबिनेट ने शनिवार को इसको बढ़ाने की मंजूरी दे दी है।कैबिनेट बैठक के बाद मध्य प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा एवं उच्च शिक्षा मंत्री ने संयुक्त रूप से आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘मुख्यमंत्री कमलनाथ की अध्यक्षता में आज मंत्रिपरिषद की बैठक हुईं। इसमें मंत्रीपरिषद ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना अन्तर्गत दी जाने वाली राशि को 28,000 रुपये से बढाकर 51,000 रुपये करने का निर्णय लिया है।’’उन्होंने कहा कि इस राशि में से सामूहिक विवाह कार्यक्रम के आयोजन के लिए अधिकृत निकायों को 3,000 रुपये प्रति कन्या के मान से और शेष राशि 48,000 कन्या के बचत बैंक खाते में जमा करवाई जाएगी।पटवारी ने बताया कि आदिवासी अंचलों में जनजातियों में प्रचलित विवाह प्रथा के तहत होने वाले एकल या सामूहिक विवाह को भी कन्या विवाह सहायता की राशि दी जाएगी।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:16
उद्धरण 1 इमारत
Germany News: जर्मनी ने लॉन्च की विश्व की पहली हाइड्रोजन ट्रेन, एक बार में 1 हजार किमी तय करेगी का सफर****** जर्मनी में दुनिया की पहली हाइड्रोजन से चलने वाली ट्रेन का शुभारंभ हो गया है। जर्मनी के लोअर सैक्सोनी (Lower Saxony) राज्य में पूरी तरह से हाइड्रोजन द्वारा संचालित 14 ट्रेनों का एक बेड़ा सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया। यह ट्रेन पर्यावरण में कार्बन गैस को कम करने में अहम भूमिका निभाएगी। फ्रांसीसी कंपनी एल्सटॉम द्वारा निर्मित 14 ट्रेनों में से पांच बुधवार को ही चलाई गई और अभी आने वाले दिनों में ये 15 डीजल ट्रेनों की जगह ले लेगी, जो इस समय यहां पटरी पर चल रही है।1 किलो हाइड्रोजन लगभग 4.5 किलो डीजल के समानएल्स्टॉम के सीईओ हेनरी पॉपार्ट-लाफार्ज ने एक बयान में कहा कि सिर्फ 1 किलो हाइड्रोजन लगभग 4.5 किलो डीजल के समान है। ये ट्रेन कोई प्रदूषण नहीं छोड़ती है बस थोड़ा नॉइस करती है और भाप और वाष्पित पानी का उत्सर्जन करती है। इस ट्रेन की खासियत यह है कि यह हाइड्रोजन से भरे एक टैंक से करीब 1000 किलोमीटर तक का सफर तय कर सकती है। ट्रेन की अधिकतम रफ्तार 140 किमी/घंटा है।इस समझौते को क्षेत्रीय रेल ऑपरेटर (एलएनवीजी) और एल्स्टॉम के बीच 93 मिलियन यूरो में हस्ताक्षर किया गया था। एल्स्टॉम के सीईओ हेनरी ने कहा, ‘हमें अपने मजबूत भागीदारों के साथ विश्व प्रीमियर के रूप में इस तकनीक को लॉन्च करने में बहुत गर्व महसूस हो रहा है और यह हर साल 4,400 टन CO2 को वायुमंडल में छोड़ने से रोकेगा।कंपनी के अनुसार इस प्रोजेक्ट से टाब्र्स जो कि फ्रांस का शहर है, और मध्य जर्मनी, यहां 80 कर्मचारियों को रोजगार मिला। इस ट्रेन की टेस्टिंग 2018 से की जा रही थी। लेकिन अब यह पूरी तरह से बनकर तैयार है।भारत: 100 साल बाद नगालैंड को मिला दूसरा रेलवे स्टेशनजहां एक ओर जर्मनी में हाईड्रोजन ट्रेन चलना शुरू हो गई है। वहीं दूसरी ओर भारत में भी अब ऐसे स्थानों पर रेलवे स्टेशन बनना शुरू हो गए हैं, जहां स्टेशनों की कमी है। नॉर्थ ईस्ट के स्टेट नगालैंड को तो इस राज्य का दूसरा रेलवे स्टेशन 100 साल से अधिक समय बाद मिला है।सीएम नीफियू रियो ने कराई इस ट्रेन की शुरुआतपहले यह ट्रेन दो राज्यों यानी असम के गुवाहाटी से अरुणाचल प्रदेश के नाहरलागुन तक चलती थी। अब इसे दिमापुर से कुछ किलोमीटर आगे शुखोवी तक बढ़ा दिया गया है। यह नगालैंड के लिए रेलवे की एक बड़ी सौगात है।
2022-10-01 04:40
उद्धरण 2 इमारत
IND vs ENG : रोहित शर्मा नहीं खेलेंगे टेस्ट, ये खिलाड़ी बन सकता है कप्तान!******Highlightsभारत और इंग्लैंड के बीच होने वाली टेस्ट मैच से पहले टीम इंडिया के लिए बुरी खबर सामने आ रही है। पता चला है कि टीम इंडिया के कप्तानइस टेस्ट मैच में नहीं खेल पााएंगे। हालांकि अभी तक बीसीसीआई की ओर से इस बारे में कुछ नहीं कहा गया है, लेकिन इस बात की पूरी संभावना है कि रोहित शर्मा एक जुलाई से एजबेस्टन में होने वाले मैच को मिस कर सकते हैं और उनकी जगह जसप्रीत बुमराह को टेस्ट मैच के​ लिए कप्तान बनाया जा सकता है। जो खबरें सामने आ रही हैं, उससे तो यही लगता है। टीम इंडिया के लिए ये किसी बड़े झटके से कम नहीं है।भारत और इंग्लैंड के बीच एक जुलाई से एजबेस्टन में टेस्ट मैच खेला जाना है। लेकिन टीम इंडिया को उस वक्त बड़ा झटका लगा था, जब पता चला कि टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा को​विड पॉजिटिव हो गए हैं। ये खबर उस वक्त सामने आई, जब भारतीय टीम अपना चार दिन का प्रैक्टिस मैच खेल रही थी। इसके बाद तत्काल उन्हें आइसोलेशन में भेज दिया गया। साथ ही बीसीसीआई की मेडिकल टीम उनकी देख रहे कर रही है। अब न्यूज एजेंसी एएनआई के सूत्रों के हवाले से खबर सामने आई है कि रोहित शर्मा पांचवें टेस्ट से बाहर होंगे और जसप्रीत बुमराह भारतीय टीम की कप्तानी करेंगे। टीम मीटिंग में उन्हें इस बात की जानकारी दी गई है। यानी अब ये मान लिया जाना चाहिए कि रोहित शर्मा अब इस टेस्ट से करीब करीब बाहर हो गए हैं।रोहित शर्मा की जगह के लिए बीसीसीआई ने आनन फानन में सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को इंग्लैंड भेज दिया है और वे टीम के साथ जुड़ भी गए हैं। रोहित शर्मा की गैरहाजिरी में इस बात की पूरी संभावना है कि मयंक अग्रवाल शुभमन गिल के साथ ओपनिंग करते हुए नजर आएंगे। हालांकि भारत के पास ओपनिंग का एक और आप्शन श्रीकर भारत का भी होगा। जिन्होंने प्रैक्टिस मैच में अच्छा खेल दिखाया था। हालांकि टेस्ट से बाहर होना रोहित शर्मा और टीम इंडिया के लिए बड़ा झटका है। भारतीय टीम अभी तक सीरीज के दो मैच जीत चुकी है और एक में उसे हार मिली थी। ये सीरीज साल 2021 में खेली जा रही थी, लेकिन चार टेस्ट के बाद कोरोना के प्रकोप के कारण टीम इंडिया ने खेलने से इन्कार कर दिया था। अब सीरीज का आखिरी मैच खेला जाना है।
2022-10-01 04:28
उद्धरण 3 इमारत
अप्रैल में मारुति की बिक्री में हुआ 19.5 प्रतिशत का इजाफा, बेची 1,51,215 कारें****** देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (MSI) की कुल बिक्री पिछले महीने 19.5 प्रतिशत बढ़कर 1,51,215 इकाई रही जो पिछले साल इसी महीने में 1,26,569 इकाई थी। मारुति सुजुकी ने आज एक बयान में कहा कि कंपनी की घरेलू बिक्री समीक्षाधीन महीने में 23.4 प्रतिशत बढ़कर 1,44,492 इकाई रही जो अप्रैल 2016 में 1,17,045 इकाई थी।Ola को 2015-16 में रोजाना 6 करोड़ रुपए का घाटा, एक रुपए कमाने के लिए खर्च किए 4 रुपएऑल्टो और वैगन आर समेत छोटे वाहनों की बिक्री इस साल अप्रैल महीने में 21.9 प्रतिशत बढ़कर 38,897 इकाई रही जो एक साल पहले इसी महीने में 31,906 इकाई थी। मारुति के अनुसार स्विफ्ट, एस्टिलो, डिजायर तथा बलेनो जैसे कॉम्पैक्ट वाहनों की बिक्री समीक्षाधीन महीने में 39.1 प्रतिशत बढ़कर 63,584 इकाई रही जो पिछले साल इसी महीने में 45,700 इकाई थी।देश में नहीं बिकेंगी पेट्रोल-डीजल कारें, सरकार बना रही है 2030 तक केवल इलेक्ट्रिक व्‍हीकल चलाने की योजनामझोले आकार की सेडान सियाज की बिक्री इस साल अप्रैल में 23.2 प्रतिशत बढ़कर 7,024 इकाई रही। अर्टिगा, एस क्रास और विटारा ब्रेजा समेत उपयोगी वाहनों की बिक्री आलोच्य महीने में 28.6 प्रतिशत बढ़ कर 20,638 इकाई रही जो पिछले साल इसी महीने में 16,044 इकाई थी।हालांकि ओम्नी, इको और वैन की बिक्री अप्रैल 2017 में 4 प्रतिशत घटकर 13,938 इकाई रही जो एक वर्ष पूर्व इसी महीने में 14,520 इकाई थी। आलोच्य महीने में निर्यात भी 29.4 प्रतिशत घटकर 6,723 इकाई रही जो पिछले साल अप्रैल में 9,524 इकाई थी।
वापसी
नई पोस्ट करें
612032
विषयों की संख्या
8538
पदों की संख्या
37946
उपयोगकर्ता संख्या
612032
ऑनलाइन
00