नई पोस्ट करें

Rahul Gandhi on GST: 'हाई टैक्स, नो जॉब्स', GST को लेकर फिर मोदी सरकार पर राहुल गांधी ने साधा निशाना

2022-10-01 06:09:24 880

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाAsia Cup 2022 : श्रीलंका और अफगानिस्तान को हराने के लिए टीम इंडिया को करना होगा ये काम******Highlightsएशिया कप 2022 के सुपर 4 में टीम इंडिया का अगला मुकाबला अब श्रीलंका से होगा। भारत और श्रीलंका की टीमें छह सितंबर को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेलने के लिए उतरेंगी। इसके बाद भारतीय टीम को अफगानिस्तान से भी मुकाबला करना है। इस बीच टीम इंडिया को अब अपने बचे हुए दोनों मैच यहां से जीतने होंगे, ताकि फाइनल में जगह पक्की की जा सके। हालांकि टीम ने जिस तरह का खेल पाकिस्तान के खिलाफ दिखाया, उससे साफ है कि भारतीय टीम को कुछ बदलाव करने होंगे, जो टीम में हित में हो सकते हैं।टीम इंडिया के लिए पाकिस्तान के खिलाफ मैच में अच्छी बात ये रही कि टीम के टॉप 3 ने अच्छा काम किया। जहां रोहित शर्मा और केएल राहुल ने टीम को तेज और अच्छी शुरुआत दी, वहीं तीसरे नंबर पर आए पूर्व कप्तान विराट कोहली ने जिम्मेदारी की पारी खेली और आखिर तक खेलने की कोशिश करते रहे। लेकिन टीम इंडिया का टॉप आर्डर चला तो मिडल आर्डर बुरी तरह से ध्वस्त हो गया। सूर्य कुमार यादव, ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या के अलावा दीपक हुड्डा भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे। यही कारण रहा कि टीम इंडिया एक वक्त में 200 के पार का स्कोर देख रही थी, लेकिन टीम 180 के करीब ही रन जुटा सकी। अगर मिडल आर्डर में एक भी बल्लेबाज अपने नाम के मुताबिक आक्रामक पारी खेल देता तो स्कोर 200 के पार जाने में ज्यादा वक्त नहीं लगता।टीम इंडिया के लिए ये भी मुश्किल थी कि उसके पास इस मैच में केवल पांच ही गेंदबाज थे। हालांकि भारतीय टीम ने दीपक हुड्डा को भी खेलाया था और वे गेंदबाजी कर सकते हैं, लेकिन कप्तान रोहित शर्मा ने न जाने क्या सोचकर उनसे गेेंदबाजी नहीं कराई। अगर दीपक एक दो ओवर निकालते तो उससे बाकी गेंदबाजों पर से दबाव हट जाता। ऐसे में टीम इंडिया को चाहिए होगा कि या तो वे दीपक हुड्डा से ही गेंदबाजी कराएं, या फिर अक्षर पटेल को मौका दें, जो गेंदबाजी तो पूरे चार ओवर कर ही सकते हैं, साथ ही अच्छी बल्लेबाजी भी करने की क्षमता रखते हैं। यानी अगले मैच में ये प्लेइंग इलेवन खेलती हुई नजर नहीं आ रही है, जो पाकिस्तान के खिलाफ खेली थी। इसके साथ ही टीम को अपने इंटेंट में भी बदलाव लाना होगा। टीम ने शुरुआत में तेजी से रन बनाए, लेकिन जब विकेट गिरे तो रनों की गति पर भी अंकुश लग गया। ऐसे में जरूरी है कि अगर आपका रन रेट अगर 10 रन प्रति ओवर की औसत से चल रहा है तो फिर जो बल्लेबाज खेल रहा है, वो कुछ रिस्की स्ट्रोक खेलने से परहेज करे, ताकि जब ढीली गेंद आए तो उस पर हमला किया जा सके।

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाबेहतर तिमाही नतीजों से बाजार में तेजी, सेंसेक्‍स 32,514 और निफ्टी 10,077 की रिकॉर्ड ऊंचाई पर हुए बंद****** कंपनियों के उम्मीद से बेहतर तिमाही नतीजों तथा भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा आगामी मौद्रिक समीक्षा बैठक में ब्याज दरों में कटौती की उम्मीद में स्थानीय शेयर बाजार नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए। सेंसेक्स जहां 205 अंक की बढ़त के साथ 32,514 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ, वहीं निफ्टी भी 63 अंक के लाभ से 10,077 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया।ज्यादातर एशियाई बाजारों में मजबूती का रुख रहा। वहीं अमेरिका के आर्थिक वृद्धि के कमजोर आंकड़ों तथा उत्‍तर कोरिया के मिसाइल कार्यक्रम को लेकर तनाव बढ़ने के बावजूद शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार भी ऊपर चल रहे थे।बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 205.06 अंक या 0.63 प्रतिशत के लाभ से 32,514.94 अंक के नए रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। इससे पहले 27 जुलाई को सेंसेक्स ने 32,383.30 अंक का रिकॉर्ड बनाया था।शुक्रवार को सेंसेक्स 73.42 अंक टूटा था।नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 62.60 अंक या 0.63 प्रतिशत के लाभ से 10,077.10 अंक के नए रिकॉर्ड पर बंद हुआ। इससे पहले 26 जुलाई को निफ्टी 10,020.65 अंक के रिकॉर्ड पर बंद हुआ था।देश के सबसे बड़े भारतीय स्टेट बैंक ने आज एक करोड़ रुपए तक के बचत खातों पर ब्याज दर चार से घटाकर 3.50 प्रतिशत कर दी। बैंक का शेयर आज 4.46 प्रतिशत की छलांग लगा गया। अनुमान लगाया जा रहा है कि रिजर्व बैंक मुद्रास्फीति के निचले स्तर पर आने के मद्देनजर बुधवार को अपनी मौद्रिक समीक्षा में रेपो दर में कटौती कर सकता है। इसके अलावा कंपनियों के तिमाही नतीजों को लेकर भी बाजार आशांवित हैं।हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाEmergency Rule: बिजली संकट के बीच सरकार ने लागू किया इमरजेंसी कानून, फिर से शुरू होंगे विदेशी कोयले पर चलने वाले पावर प्लांट******Coal CrisisHighlightsदेशभर में जारी बिजली संकट के बीच सरकार ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए इमरजेंसी कानून लागू करने का फैसला किया है। केंद्र ने विदेशी कोयले पर चलने वाले कुछ निष्क्रिय पावर प्लांट्स में फिर से प्रोडक्शन शुरू करने के लिए कहा है। इस फैसले के बाद कोयले की ऊंची अंतरराष्ट्रीय कीमतों की वजह से प्रोडक्शन न कर पा रहे पावर प्लांट्स भी बिजली का उत्पादन कर पाएंगे।बिजली मंत्रालय ने सभी आयातित कोयला आधारित बिजली संयंत्रों को पूरी क्षमता से चलाने का निर्देश दिया है। तापीय बिजलीघरों में कोयले की कमी और इससे बिजली उत्पादन प्रभावित होने के बीच यह निर्देश दिया गया है।मंत्रालय के इस संदर्भ में बृहस्पतिवार को जारी कार्यालय आदेश के अनुसार यह पाया गया है कि ज्यादातर राज्यों ने आयातित कोयले की ऊंची लागत का बोझ ग्राहकों पर डालने की अनुमति दी है। इससे आयातित कोयले पर आधारित कुल 17,600 मेगावॉट क्षमता में से 10,000 मेगावॉट क्षमता की इकाइयों को चालू करने में मदद मिली है।मंत्रालय ने कहा कि हालांकि कुछ आयातित कोयला आधारित संयंत्र अभी भी परिचालन में नहीं है। बिजली मंत्रालय ने विद्युत अधिनियम की धारा 11 के तहत निर्देश जारी किया है। इसके तहत निर्देश दिया गया है कि सभी आयातित कोयला आधारित बिजली संयंत्र पूर्ण क्षमता के साथ परिचालन और बिजली उत्पादन करेंगे।आयातित कोयला आधारित संयंत्र अगर दिवाला कार्यवाही के अंतर्गत हैं, तो समाधान पेशेवर उसे चालू करने के लिये कदम उठाएंगे। ये संयंत्र सबसे पहले पीपीए (बिजली खरीद समझौता) धारकों (वितरण कंपनियां) को बिजली की आपूर्ति करेंगे। मंत्रालय ने कहा कि उसके बाद कोई अतिरिक्त बिजली या कोई भी बिजली, जिसके लिए कोई पीपीए नहीं है, उसे बिजली एक्सचेंज में बेचा जाएगा।ऐसे संयंत्र, जिन्होंने कई कई डिस्कॉम के साथ पीपीए किए हैं, और बिजली खरीद की मात्रा निर्धारित नहीं है, वहां बिजली पहले अन्य पीपीए धारकों को दी जाएगी और उसके बाद बाकी बची बिजली को एक्सचेंज के जरिए बेचा जाएगा। इस समय पीपीए के तहत आयातित महंगे कोयले की लागत का बोझ आगे नहीं बढ़ाया जाता है। इन मामलों में बिजली मंत्रालय द्वारा गठित समिति तय करेगी कि वितरण कंपनियों को किस दर पर बिजली की आपूर्ति की जाए।इस समिति में सीईए (केंद्रीय बिजली प्राधिकरण) और सीईआरसी (केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग) के प्रतिनिधि भी होंगे। आधिकारिक आदेश में कहा गया कि यह समिति सुनिश्चित करेगी कि बिजली की मानक दरें, बिजली पैदा करने के लिए आयातित कोयले की लागत के अनुरूप हों। यह आदेश 31 अक्टूबर 2022 तक वैध रहेगा।मंत्रालय ने कहा कि बिजली की मांग में लगभग 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और घरेलू कोयले की आपूर्ति में वृद्धि हुई है, लेकिन आपूर्ति में वृद्धि बिजली की बढ़ी हुई मांग को पूरा करने के लिए पर्याप्त नहीं है। मंत्रालय ने कहा, मांग और आपूर्ति में अंतर के कारण विभिन्न क्षेत्रों में बिजली कटौती हो रही है।बिजली संयंत्र में कोयले के भंडार में भी कमी आई है, जो चिंताजनक दर से घट रहा है। कोयले की अंतरराष्ट्रीय कीमत अभूतपूर्व ढंग से बढ़ी है। यह इस समय यह लगभग 140 अमेरिकी डॉलर प्रति टन है।

Rahul Gandhi on GST: 'हाई टैक्स, नो जॉब्स', GST को लेकर फिर मोदी सरकार पर राहुल गांधी ने साधा निशाना

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाक्या मुस्लिम देंगे अखिलेश को वोट? मुरादाबाद की जनता ने बताई सपा प्रमुख की गलती******Highlightsउत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार जोरों पर है। प्रत्याशी अपने समर्थन में घर—घर जाकर कोरोना नियमों के तहत लोगों से अपने पक्ष में वोट डालने की अपील कर रहे हैं। इसी क्रम में मुरादाबाद की देहात विधानसभा सीट की बात करें तो यह सीट सपा का गढ़ रही है। यहां अब तक 16 बार चुनाव हो चुके हैं इनमें 12 बार मुस्लिम विधायकों ने सीट पर कब्जा जमाया है। यह मुस्लिम बहुल विधानसभा सीट है, जहां 55 फीसदी मतदाता मुस्लिम समुदाय के हैं। जानिए इस सीट पर हार जीत के क्या समीकरण है। इस देहात सीट पर 14 फरवरी को मतदान होना है।इस विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के मौजूदा विधायक हाजी इकराम कुरैशी का टिकट कट गया है और इस सीट पर नासिर कुरैशी को सपा ने टिकट दिया है। वहीं केके मिश्रा बीजेपी उम्मीदवार के बतौर इस सीट पर लड़ रहे हैं। हालांकि इस सीट पर सपा का पलड़ा काफी भारी है, लेकिन यहां के ज्यादातर लोग हाजी इकराम कुरैशी का टिकट कटने से निराश हैं। वे उनके विकास कार्यों की दुहाई देते हुए उन्हें टिकट देने में अनियमितता का आरोप भी लगा रहे हैं। हालांकि कुछ बुजुर्ग उम्मीदवार बीजेपी के पक्ष में समर्थन करते नजर आए। इन लोगों ने कहा कि बीजेपी के शासन में डबल राशन मिल रहा है, लैपटॉप मिले। यूपी प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ भी मिला है।हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाEconomic Survey 2019-20 से पहले राष्‍ट्रपति ने बताई अर्थव्‍यवस्‍था से जुड़ीं 11 बड़ी बातें, जानिए कैसी है देश की आर्थिक स्थिति******10 big things of Economic Survey 2019-20 मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट पेश होने से पहले शुक्रवार को राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बजट सत्र की शुरुआत अपने अभिभाषण की। राष्‍ट्रपति ने अपने अभिभाषण में कई आर्थिक आंकड़ों का जिक्र किया, जो देश की की और इशारा करते हैं। आइए जानते हैं राष्‍ट्रपति के अभिभाषण में दिए गए कुछ आर्थिक बातों को:हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानालैंडरोवर ने भारतीय बाजार में उतारी डिस्‍कवरी स्‍पोर्ट 2018, मौजूदा मॉडल से 30 हजार रुपए महंगी****** टाटा मोटर्स के ब्रिटिश ऑटोमोबाइल ब्रांड जगुआर लैंडरोवर ने भारत में अपनी नई कार उतार दी है। कंपनी ने भारत में अपनी मौजूदा लैंडरोवर डिस्‍कवरी स्‍पोर्ट का 2018 वर्जन पेश किया है। दमदार इंजन और बेहद खूबसूरत इंटीरियर के साथ ही इस कार की सबसे बड़ी खासियत इसमें दिए गए आधुनिक कनेक्टिविटी सिस्‍टम और इंफोटेनमेंट सिस्‍टम दिया गया है। इस नई एसयूवी के साथ कंपनी की कोशिश अपनी प्रतिद्वंदियों को पी‍छे छोड़ने की है। भारत में इसका सीधा मुकाबला पहले से सड़कों पर मौजूद वोल्वो एक्ससी60, मर्सिडीज़-बेंज़ जीएलसी, ऑडी क्यू5 और बीएमडब्ल्यू एक्स3 से होगा। कीमत की बात करें तो भारत में 2018 की डिस्‍कवरी स्‍पोर्ट की कीमत 42.48 लाख रुपए से शुरू होती है। वहीं इसका टॉप वेरिएंट 57.46 लाख रुपए है। वहीं पुरानी कार से तुलना करें तो 30 से 40 हजार रुपए तक महंगी है। जैसे कि हमने पहले ही बताया है कि इस कार का सबसे महत्‍वपूर्ण फीचर इसका कनेक्टिविटी फीचर है। लैंड रोवर ने अपनी इस लक्‍जरी एसयूवी को वाई-फाई हॉटस्पोट फीचर से लैस किया है। इस फीचर की मदद से इसमें सवार सभी आठ सवार अपने डिवाइस को इस सिस्‍टम से कनेक्‍ट कर इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसे में यदि आप लंबी यात्रा पर जाते हैं तो सभी यात्रियों को सफर के दौरान बोरियत महसूस कतई नहीं होगी।वहीं इसके इंफोटेन्‍मेंट सिस्‍टमें में प्रो सर्विसेज को शामिल किया है। ये प्रो सर्विस रूट प्‍लानर एप, कम्‍यूट मोड और शेयरिंग फीचर को शामिल किया है। अब इसके इंजन की बात करें तो 2018 डिस्कवरी स्पोर्ट के इंजन में कंपनी ने कोई भी बदलाव नहीं किया है। इसमें पहले की तरह ही 150 पीएस और 190 पीएस की पावर वाला 2.0 लीटर का डीज़ल इंजन दिया गया है।

Rahul Gandhi on GST: 'हाई टैक्स, नो जॉब्स', GST को लेकर फिर मोदी सरकार पर राहुल गांधी ने साधा निशाना

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाBARC ने 12 हफ्ते तक न्यूज चैनल की TRP पर लगाई रोक, NBA ने किया स्वागत******नई दिल्ली। टेलीविजन चैनलों की व्यूअरसिप (TRP) से जुड़े आंकड़े जारी करने वाली संस्था Broadcast Audience Research Council (BARC) ने 8-12 हफ्ते तक न्यूज चैनलों की TRP नहीं जारी करने का फैसला किया है। BARC फिलहाल टेक्निकल कमेटी रेटिंग नापने के तरीके का रिव्यू करेगी और उसके बाद रेटिंग में हो रही गड़बड़ी को ठीक किया जाएगा। BARC ने कहा है कि रिव्यूके लिए उसे 8-12 हफ्ते का समय लगेगा। रिव्यू के बाद BARC फिर से टेलीविजन न्यूज चैनलों की रेटिंग जारी होगी।देश के निजी न्यूज चैनलों के संगठन News Briadcasters Association (NBA) ने BARC के इस कदम का स्वागत किया है। NBA ने BARC के इस कदम को सही दिशा में उठाया गया आवश्यक कदम बताया है। NBA ने कहा है कि BARC इन 12 हफ्तों का इस्तेमाल अपने सिस्टम को ठीक करने के लिए करे।NBA के चेयरमैन रजत शर्मा ने BARC के इस कदम को एक साहसी फैसला बताया है। NBA चेयरमैन रजत शर्मा ने कहा कि टीवी चैनलों पर नफरत, गाली तथा फेक न्यूज का मौजूदा माहौल ज्यादा नहीं टिकने वाला और भारतीय ब्रॉडकास्ट मीडिया के संरक्षक के तौर पर NBA का मानना है कि न्यूज चैनलों की रेटिंग पर रोक लगाने के साहसी कदम से कंटेंट को सुधारने में मदद मिलेगी।हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाअब कभी भी लगवा सकेंगे टीका, देश भर में 24x7 होगा कोरोना टीकाकरण: स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन****** केंद्र सरकार ने अस्पतालों में कोविड टीकाकरण के लिए समय सीमा को हटा दिया है और चौबीसों घंटे टीकाकरण की अनुमति दे दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज इस निर्णय की पुष्टि करते हुए कहा कि ऐसा टीकाकरण की रफ्तार को बढ़ाने के लिए किया गया है। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि अस्पतालों के लिए यह जरूरी नहीं है कि वे टीकाकरण के लिए एक निश्चित कार्यक्रम का अनुसरण करें। देश के नागरिक अब 24x7अपनी सुविधानुसार टीका लगवा सकते हैं।स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट किया कि सरकार ने वैक्सीनेशन की रफ़्तार बढ़ाने के लिए समय की बाध्यता समाप्त कर दी है। देश के नागरिक अब 24x7अपनी सुविधानुसार टीका लगवा सकते हैं। पीएम नरेंद्र मोदी देश के नागरिकों के स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके समय की कीमत बखूबी समझते हैं।कोविड-19 का राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाने के साथ शुरू हुआ था। वहीं, अग्रिम मोर्चे के कर्मियों का टीकाकरण दो फरवरी से शुरू हुआ था। इसके बाद, 1 मार्च से 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों और गंभीर बीमारियों से ग्रस्त 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण शुरू हुआ है। बता दें कि देश में जब 1 मार्च से टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू होने वाला था तब हर केंद्र पर सुबह 9 बजे से दोपहर तीन बजे तक का समय वैक्सीनेशन के लिए फिक्स था।देश भर में अब तक 1.56 करोड़ लोगों का कोरोना टीकाकरण किया जा चुका है।

Rahul Gandhi on GST: 'हाई टैक्स, नो जॉब्स', GST को लेकर फिर मोदी सरकार पर राहुल गांधी ने साधा निशाना

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाCISF Constable Bharti 2022: सीआईएसएफ की भर्ती परीक्षा में की थी धोखाधड़ी, 6 'मुन्ना भाई' गिरफ्तार******Highlights छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले की पुलिस ने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की भर्ती परीक्षा के दौरान धोखाधड़ी करने के आरोप में छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। दुर्ग जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सीआईएसएफ अधिकारियों की शिकायत पर पुलिस ने उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के निवासी चन्द्रशेखर (20 वर्ष), श्याम वीर सिंह निषाद (20 वर्ष), महेन्द्र सिंह (19 वर्ष), अजित सिंह (19 वर्ष), दुर्गेश सिंह (31 वर्ष) और हरिओम (25 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया है।पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस महीने की 18 तारीख को सीआईएसएफ के निरीक्षक लोकेश कुमार कुर्रे ने जिले के उतई थाना में सीआईएसएफ के आरक्षक जीडी 2021 की परीक्षा के दौरान भर्ती बोर्ड को धोखा देकर चयन प्रक्रिया में कुछ लोगों के शामिल होने की शिकायत की थी।शिकायत में कहा गया था कि शारीरिक जांच के दौरान जब अभ्यर्थियों की बायोमेट्रिक जांच की गई, तब फिंगर प्रिंट तथा फोटो में समानता नहीं थी। उन्होंने बताया कि सीआईएसएफ के अधिकारी की​ शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की और छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जब आरोपियों से पूछताछ की गई तब उन्होंने बताया कि उन्होंने सीआईएसएफ में भर्ती कराने के लिये प्रत्येक अभ्यर्थी से पांच-पांच लाख रुपये लिये तथा फर्जी दस्तावेज तैयार करवाए थे। भर्ती प्रक्रिया के दौरान अलग-अलग लोगों को अभ्यार्थी के रूप में प्रस्तुत किया जाता था। उन्होंने बताया कि आरोपियों से छत्तीसगढ़ का फर्जी स्थायी निवासी और आधार कार्ड बरामद किया गया है।दुर्ग जिले के पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अभिषेक पल्लव ने बताया पकड़े गए आरोपी जिन अभ्यर्थियों की परीक्षा दे रहे थे उन्हें भी गिरफ्तार करने के लिए आगरा और मुरैना के लिए दो दल रवाना किया गया है। इनके पकड़े जाने के बाद इस संबंध में और भी कई खुलासे हो सकते हैं। पल्लव ने कहा, ‘‘गिरोह का एक दल लिखित परीक्षा देता था और दूसरा दल शारीरिक परीक्षा देता था। लिखित परीक्षा कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) के द्वारा लिया जाता है, इसलिए एसएससी से भी जानकारी मांगी गई है।’’

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाचुनाव आयोग ने उपचुनावों का किया ऐलान, जानिए लोकसभा की 3 और विधानसभा की 30 सीटों पर कब होगी वोटिंग******निर्वाचन आयोग ने मंगलवार को घोषणा की कि तीन लोकसभा सीटों और विभिन्न राज्यों में 30 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव 30 अक्टूबर को होंगे। मतों की गिनती दो नवंबर को होगी। निर्वाचन आयोग ने एक बयान में कहा, ‘‘आयोग ने महामारी, बाढ़, त्योहारों, कुछ क्षेत्रों में ठंड की स्थिति, संबंधित राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों से मिली प्रतिक्रिया की समीक्षा की है और सभी तथ्यों एवं परिस्थितियों पर गौर करते हुए तीन संसदीय क्षेत्रों में उपचुनाव कराने का निर्णय लिया है। केंद्र शासित प्रदेश दादरा एवं नगर हवेली और दमन एवं दीव, मध्य प्रदेश और हिमाचल प्रदेश की तीन लोकसभा सीटों और विभिन्न राज्यों के 30 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव कराने का निर्णय लिया गया है।’इनपुट-भाषाहाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानागोवा विधानसभा चुनाव 2022: 'आप' के चार उम्मीदवार सहित कई प्रत्याशी आज भरेंगे पर्चा, 28 जनवरी को नामांकन दाखिल करने का अंतिम दिन******Highlightsगोवा विधानसभा चुनाव 2022: 'आप' के चार उम्मीदवार सहित कई प्रत्याशी आज भरेंगे पर्चा, 28 जनवरी को नामांकन दाखिल करने का अंतिम दिनगोवा विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन भरने का 28 जनवरी को अंतिम दिन है। इसके चलते कई दिग्गज उम्मीदवार अपना पर्चा दाखिल करेंगे। इनमें गोवा सीएम प्रमोद सावंत, मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर, पणजी से बीजेपी के प्रत्याशी बाबुश मोंसेरेट, आम आदमी पार्टी के सीएम पद के उम्मीदवार एडवोकेट अमित पालेकर सहित आप, टीएमसी, कांग्रेस, बीजेपी, शिवसेना, एनसीपी के कई उम्मीदवार अपना पर्चा दाखिल करेंगे।आप पार्टी के कुछ उम्मीदवार जो 27 जनवरी को पर्चा भरेंगे उनके नाम इस प्रकार हैं। पोंडा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए आम आदमी पार्टी के पोंडा उम्मीदवार सुरेल टीलाइव सुबह 11 बजे पर्चा दाखिल करेंगे। वहीं कलंगुट विधानसभा सीट के लिए आप के प्रत्याशी सुदेश मायेकर सुबह 11.30 बजे नामांकन दाखिल करेंगे। शिरोदा प्रत्याशी महादेव नाइक पोंडा कलेक्टर कार्यालय में सुबह 10.30 बजे पर्चा भरेंगे। अभिजीत देसाई जो संगुम सीट से आप के उम्मीदवार हैं, वे भी आज गुरुवार को पर्चा दाखिल करेंगे।गौरतलब है कि गोवा में एक ही चरण में चुनाव खत्म हो जाएंगे। इसके लिए अधिसूचना 21 जनवरी को जारी हुई थी। नामांकन भरने का अंतिम दिन 28 जनवरी है। 29 जनवरी को नामांकन की जांच की जाएगी। वहीं 31 जनवरी नाम वापसी की अंतिम तारीख होगी। 40 विधानसभा सीटों के लिए 14 फरवरी को मतदान होगा और 10 मार्च को वोटों की गिनती की जाएगी।दरअसल, गौरतलब है कि गोवा विधानसभा चुनाव में जीत के लिए सभी पार्टियां बड़े ​ही विचार मंथन के बाद अपने—अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर रही हैं। इस सूची में कई दिग्गजों का नाम न आने पर उन्होंने पार्टी तक छोड़ दी है। इनमें मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर का नाम खास है।

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशाना'मोस्ट ब्यूटफूल कपल' के अवार्ड से सम्मानित हुए ऋचा चड्ढ़ा और अली फजल****** बॉलीवुड अभिनेता और अक्सर अपने रिलेशनशिप की खबरों को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। दोनों को कई बार एक दूसरे के साथ वक्त बिताते हुए देखा गया है। हालांकि दोनो हमेश एक दूसरे को अच्छा दोस्त ही बताते हैं। हाल ही में एक पुरस्कार समारोह में इन्हें 'मोस्ट ब्यूटीफूल कपल' के अवार्ड से नवाजा गया है। दोनों सितारे यह सम्मान मिलने से काफी खुश और उत्साहित हैं। दोनों कलाकार वोग ब्यूटी अवॉर्ड 2018 में उपस्थित हुए, जहां मंगलवार रात उन्हें इस टाइटल से नवाजा गया।फ्लोरल ड्रेस पहने ऋचा ने कहा, "यह सराहनीय है कि किसी ने हमें यह टाइटल देने के बारे में सोचा गया। यह टाइटल किसी ऐसे व्यक्ति के साथ साझा करना, जो आपके जीवन में महत्वपूर्ण है, बहुत अच्छा है।" उन्होंने कहा, "मुझे खुशी है अली और मुझे वर्ष के 'मोस्ट ब्यूटीफूल कपल' के रूप में सम्मानित किया गया।" अली ने कहा, "मोस्ट ब्यूटिफुल कपल ऑफ द ईयर के रूप में सम्मानिक होकर अच्छा लगा।"गौरतलब है कि ऋचा इन दिनों मलयालम अभिनेत्री शकीला की बायोपिक पर काम कर रही हैं। इसके साथ वह 'अभी तो पार्टी शुरू हुई है' और धारावाहिक 'इनसाइड एड्ज 2' में काम कर रही हैं। अली इन दिनों संजय दत्त की 'प्रस्थानम' और तिग्मांशु धूलिया की 'मिलन टॉकीज' में काम कर रहे हैं।हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानाकरण मेहरा ने पत्नी निशा रावल पर लगाया गंभीर आरोप- 'कन्यादान करने वाले भाई से है अफेयर'******Highlightsटेलीविजन के मशहूर अभिनेता करण मेहरा लंबे समय से अपनी पत्नी निशा रावल के साथ विवादों को लेकर चर्चा में हैं। वहीं अब अभिनेता ने पत्नी पर गंभीर अरोप लगाए हैं। बता दें करण मेहरा का उनकी वाइफ और एक्ट्रेस निशा रावल के साथ बीते 14 महीनों से कोर्ट में केस चल रहा है। हाल ही में करण ने मुंबई में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर निशा पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। इस दौरान करण ने एक चौंकाने वाला खुलासा भी किया है। करण ने कहा है कि निशा रावल का अपने मुंह बोले भाई रोहित सेठिया के साथ एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर है।करण मेहरा ने कहा, ''14 महीने से मेरे घर में निशा के साथ रोहित सेठिया नाम का शख्स रह रहा है। इस व्यक्ति के साथ निशा का एक्स्ट्रा मटेरियल अफेयर चल रहा है। रोहित वो शख्स है, जो निशा का मुंह बोला भाई है, जिसने निशा का कन्यादान भी किया था। पिछले 14 साल से मैंने देखा है कि वह निशा से राखियां बंधवाते आया है, लेकिन आज वह दोनों एक दूसरे के साथ रिलेशन में हैं। रोहित खुद पहले से ही शादीशुदा है और उसकी एक 7 साल की एक बेटी भी है। लखनऊ का रहने वाला रोहित मेरी बीवी के साथ रह रहा है और इसकी जानकारी निशा की मां लक्ष्मी रावल को भी है।''करण ने कहा, ''हर किसी को लगता है मर्द है तो गलत होगा, लेकिन अगर मैंने ये सच्चाई नहीं बताई तो हमेशा मुझे गलत समझा जाएगा। निशा और रोहित सटिया की तरफ से मुझे और मेरी पूरी फैमिली को जान से मारने की लगातार धमकियां दी जा रही हैं। मैं ये सच आपको इसलिए बता रहा हूं ताकि कल को अगर मुझे कुछ हो गया तो आपको सच्चाई मालूम होनी चाहिए।"मीडिया से बातचीत करते हुए करण ने यह भी बताया कि उन्हें अपने ही घर में घुसने नहीं दिया जा रहा है। एक्टर ने कहा कि सिर्फ निशा सिंगल मदर होने का दिखावा कर रही हैं। वह ना सिर्फ मेरे घर में रह रही है, बल्कि मेरे बिजनेस को भी चला रही है और मेरे ही पैसों से केस लड़ रही है। गौरतलब है कि करण के रुपये, लैपटॉप और बाकि के दस्तावेज उसी घर में है। एक्टर ने बताया कि उन्हें उन्ही के घर में जाने की इजाजत नहीं है। करण ने कहा कि मैं एक सिर्फ पांच जोड़ी कपड़ों के साथ पांच महीने तक घूमता रहा।निशा और करण ने 24 नवंबर साल 2012 में शादी की थी। शादी के 5 सालों बाद दोनों के घर बेटे काविश का जन्म हुआ था।

हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशानारक्षा विवि के कार्यक्रम में बोले मोदी-फिल्मों में पुलिस का गलत चित्रण, कोरोनाकाल में सबने देखा मानवीय चेहरा******गुजरात। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर में रक्षा विवि के भव्य भवन का लोकार्पण किया। इस दौरान आयोजित राष्ट्रीय रक्षा विवि के कार्यक्रम में पीएम मोदी ने संबोधन में कहा कि यह हमारे देश का दुर्भाग्य है कि फिल्मों में पुलिस की छवि को गलत चित्रण दिखाया जाता है। लेकिन सोशल मीडिया पर हमने देखा कि कोरोनाकाल में पुलिस ने इतने अच्छे काम किए कि उनकी फोटो वायरल हुई। लोगों को दवा,खाना और अस्पताल पहुंचाया। पुलिस का मानवीय चेहरा इस कोरोना काल में दिखा।पीएम मोदी ने टेक्नोलॉजी का उपयोग करने पर बल देते हुए कहा कि इसके लिए ट्रेनिंग की जरूरत है। रक्षा क्षेत्र में केवल फिटनेस अच्छी होने से काम नहीं चलेगा। टेक्नोलॉजी में भी अपडेट होना पड़ेगा। इसके लिए ट्रेनर्स की जरूरत है। मोदी ने कहा कि पूरे विश्व में एकमात्र फॉरेंसिक साइंस विवि और चिल्ड्रंस यूनिवर्सिटी केवल गांधीनगर में है।अच्छे तबके के बच्चे भी दाखिला लेंपीएम मोदी ने कहा कि जेल की व्यवस्थाएं आ​धुनिक बनाना होंगी। अपराधी गुनाहों से बाहर कैसे निकलें, इस पर भी गंभीरता से काम करने की जरूरत है। इसके लिए यहां विशेषज्ञ तैयार करने होंगे जो अपराधियों को योग्य इंसान बना सकें। उन्होंने कहा कि रक्षा विवि का यह कैंपस लोगों और देश के लिए आदर्श बनेगा। इसके लिए मैं सभी को बधाई देता हूं। मैं समाज के अच्छे तबके के बच्चों से अपील करता हूूं कि वे आएं और इसमें दाखिला लें। यह रक्षा विवि राष्ट्र की रक्षा करने वाले लोगों को बनाने वाली विवि है। फॉरेंसक साइंस विवि और रक्षा विवि देशभर में फैलना चाहिए।'प्राइवेट सिक्योरिटी की भी अच्छी डिमांड, डेडिकेटेड फोर्स की जरूरत'आज प्राइवेट सिक्योरिटी की भी अच्छी डिमांड है। इसके लिए स्टार्टअप भी खुले हैं। मुझे विश्वास है कि मेरे नौजवान साथी देश को प्राथमिकता देत हुए आगे आ रहे हैं। विवि में ग्लोबल लेवल के नेगोशिएटर भी बनने की यहां अपार संभावनाएं हैं। हमें देश की रक्षा के लिए डेडिकेटेड फोर्स की जरूरत है।'यूनिफॉर्म की इज्जत बनाए रखें, मानवीय भाव न छोड़ें'पीएम ने कहा कि यूनिफॉर्म की इज्जत बनाए रखना होगा। यह इज्जत तब बढ़ती है जब माता—बहनों पीडित, दलित के लिए कुछ करने की आकांक्षा होती है। मानवीय मूल्यों को जीवन में अपनाना होगा। संकल्प लेना होगा कि लोगों का अपनापन इस यूनिफॉर्म के प्रति बना रहे। यूनिफॉर्म पहनकर भी मानवता का भाव बना रहना चाहिए।पीाएम मोदी ने कहा कि रक्षा क्षेत्र में बेटियां आज अच्छी तादाद में हैं। सेना में बड़े पदों पर बेटियां आगे बढ़ रही हैं। एनसीसी में भी बेटियां हैं। एनसीसी को उन्नत बनाने के लिए सरकार काफी काम कर रही है।हाईटैक्सनोजॉब्सGSTकोलेकरफिरमोदीसरकारपरराहुलगांधीनेसाधानिशाना‘अमेरिका और चीन के बीच छिड़े व्यापार युद्ध से चीन को हुआ ज्यादा घाटा, 4 महीने में 27% टूटा बाजार’******China market dropped 27 per cent in last 4 months because of import tariffs says Donald Trump अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन से आयात होने वाली वस्तुओं पर लगाकर चीन के साथ जो व्यापार युद्ध छेड़ा हुआ है उसका खामियाजा चीन को ही भुगतना पड़ रहा है, ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि खुद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है। उन्होंने देर रात अपने ट्विटर हेंडल पर इसके बारे में लिखा। डोनाल्ड ट्रंप ने अपने ट्विटर पर लिखा कि आयात शुल्क लगाने की रणनीति किसी की भी उम्मीद से ज्यादा सफल साबित हो रही है। उन्होंने लिखा कि पिछले 4 महीने के दौरान 27 प्रतिशत तक लुढ़क चुका है। ट्रंप ने यह भी लिखा की अमेरिकी शेयर बाजार पहले से ज्यादा मजबूत हुए हैं और जब सभी व्यापार समझौतों पर सफलतापूर्वक बात हो जाएगी तो अमेरिकी शेयर बाजार और भी मजबूत हो जाएंगे। ट्रंप ने लिखा की पहली बार चीन का प्रदर्शन अमेरिका के खिलाफ खराब हुआ है।अमेरिकी राष्ट्रपति ने अगले ट्वीट में कहा कि वह इंपोर्ट टैरिफ का इस्तेमाल व्यापार में साझेदार देशों के साथ बेहतर व्यापार समझौतों के लिए कर रहे हैं, और ऐसे में अगर दूसरे देश व्यापार समझौते के लिए बातचीत नहीं करते हैं तो उन्हें ज्यादा आयात शुल्क चुकाना पड़ेगा और दोनो ही परिस्थितियों में यह अमेरिका के लिए फायदे का सौदा है।अमेरिका ने भारत से आयात होने वाली कुछ स्टील और एल्यूमीनियम उत्पादों पर भी आयात शुल्क बढ़ाया है और इसके जवाब में भारत ने भी अमेरिका से आयात होने वाले बादाम और अखरोट सहित 30 वस्तुओं पर 4 अगस्त से आयात शुल्क लगाने की घोषणा की थी लेकिन अब इसे 18 सितंबर तक टाल दिया गया है। इस बीच भारत और अमेरिका के प्रतिनिधी व्यापार समझौतों को लेकर आपस में बातचीत भी करेंगे।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:02
उद्धरण 1 इमारत
Delhi Elections: अकाली दल के बाद दुष्यंत चौटाला की JJP भी नहीं लड़ेगी चुनाव****** हरियाणा विधानसभा चुनाव में किंगमेकर बनकर उभरी जननायक जनता पार्टी () दिल्ली विधानसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी। जेजेपी के अध्यक्ष और हरियाणा के उपमुख्यमंत्री ने मंगलवार को मीडिया को इसकी जानकारी दी। बता दें, मंगलवार विधानसभा चुनाव के नामांकन पर्चा दाखिल करने का आखिरी दिन है। इससे पहले अकाली दल ने भी विधानसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारने से मना कर दिया था।माना जा रहा था कि हरियाणा से सटी हुई नजफगढ और मुंढका सीट पर जेजेपी अपने उम्मीदवार उतार सकती है। इन दोनों सीटों पर जाट मतदाताओं की अच्छी खासी तादाद है और उनके बीच में दुष्यंत चौटाला का चेहरा काफी प्रसिद्ध है।गौरतलब है कि हरियाणा में 3 महीने पहले हुए विधानसभा चुनाव में जेजेपी किंग मेकर बनकर उभरी थी। हरियाणा विधानसभा चुनाव में जेजेपी ने 10 सीटों पर जीत दर्ज की थी और इस समय जेजेपी हरियाणा में बीजेपी सरकार का हिस्सा है।
2022-10-01 04:47
उद्धरण 2 इमारत
MANPADS: रडार से बच भी गए तो क्या, रूसी विमानों को पक्षियों की तरह मार गिराता है यूक्रेन का ये हथियार******Highlightsरूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शुरू हुए 55 दिन से भी ज्यादा हो गए हैं और इस जंग में दुनिया ने दूसरे विश्वयुद्ध के बाद से अब तक विकसित हुए तमाम अत्याधुनिक हथियारों का उपयोग देखा है। हाल ही में ब्रिटेन ने भी यूक्रेन को एक बेहद आधुनिक मैन पोर्टेबल एयर डिफेंस सिस्टम्स (MANPADS) दिए हैं. ये एक तरह की स्टारस्ट्रीक मिसाइल (STAR Streak Missiles) हैं, जिसे एक ही ऑपरेटर बड़े आराम से फायर कर सकता है।इस एयर डिफेंस सिस्टम की खास बात ये है कि ये कम ऊंचाई पर उड़ रहे विमानों को भी मार गिरा सकता है। तोप हो, बख्तरबंद वाहन हो या फाइटर हेलिकॉप्टर, इन सबको ये ध्वस्त करने की क्षमता रखता है। यूक्रेन की सेना इसी हथियार की मदद से रूस के हवाई हमलों को नाकाम कर रही है।दरअसल, रूस के लड़ाकू विमान या हेलिकॉप्टर रडार से बचने के लिए काफी नीचे उड़ते हैं, बस इसी बात का फायदा उठाकर यूक्रेन की सेना मैन पोर्टेबल एयर डिफेंस सिसटम्स (MANPADS) का उपयोग करके स्टारस्ट्रीक मिसाइल से सटीक निशाना लगा कर रूस के विमानों को मार गिराती है।बता दें कि ब्रिटेन की सेना में स्टारस्ट्रीक मिसाइल से लैस मैनपैड्स सिस्टम 1997 से मौजूद है। इसे 1980 में डिजाइन किया गया था, अब तक ब्रिटेन में इसके 7000 पीस तैयार किए जा चुके हैं। ये एक MANPADS केवल 14 किलो का होता है और इसकी लंबाई 4 फीट 7 इंच होती है। इसके इतने हल्के डिजाइन की वजह से इसे उठाने, ढोने या चलाने में सैनिकों को बेहद आसानी होती है।इसकी क्षमता की बात करें तो स्टारस्ट्रीक मिसाइल की रेंज 3 से 7 किलोमीटर होती है। इसके वॉरहेड में तीन एक्सप्लोसिव यूनिट लगाए जाते हैं, ये टंगस्टन एलॉय के बने होते हैं जो पहले टैंक जैसे मोटे लोहे के वाहन को भी छेद देते हैं फिर विस्फोट करते हैं।
2022-10-01 03:34
उद्धरण 3 इमारत
रक्षा विवि के कार्यक्रम में बोले मोदी-फिल्मों में पुलिस का गलत चित्रण, कोरोनाकाल में सबने देखा मानवीय चेहरा******गुजरात। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर में रक्षा विवि के भव्य भवन का लोकार्पण किया। इस दौरान आयोजित राष्ट्रीय रक्षा विवि के कार्यक्रम में पीएम मोदी ने संबोधन में कहा कि यह हमारे देश का दुर्भाग्य है कि फिल्मों में पुलिस की छवि को गलत चित्रण दिखाया जाता है। लेकिन सोशल मीडिया पर हमने देखा कि कोरोनाकाल में पुलिस ने इतने अच्छे काम किए कि उनकी फोटो वायरल हुई। लोगों को दवा,खाना और अस्पताल पहुंचाया। पुलिस का मानवीय चेहरा इस कोरोना काल में दिखा।पीएम मोदी ने टेक्नोलॉजी का उपयोग करने पर बल देते हुए कहा कि इसके लिए ट्रेनिंग की जरूरत है। रक्षा क्षेत्र में केवल फिटनेस अच्छी होने से काम नहीं चलेगा। टेक्नोलॉजी में भी अपडेट होना पड़ेगा। इसके लिए ट्रेनर्स की जरूरत है। मोदी ने कहा कि पूरे विश्व में एकमात्र फॉरेंसिक साइंस विवि और चिल्ड्रंस यूनिवर्सिटी केवल गांधीनगर में है।अच्छे तबके के बच्चे भी दाखिला लेंपीएम मोदी ने कहा कि जेल की व्यवस्थाएं आ​धुनिक बनाना होंगी। अपराधी गुनाहों से बाहर कैसे निकलें, इस पर भी गंभीरता से काम करने की जरूरत है। इसके लिए यहां विशेषज्ञ तैयार करने होंगे जो अपराधियों को योग्य इंसान बना सकें। उन्होंने कहा कि रक्षा विवि का यह कैंपस लोगों और देश के लिए आदर्श बनेगा। इसके लिए मैं सभी को बधाई देता हूं। मैं समाज के अच्छे तबके के बच्चों से अपील करता हूूं कि वे आएं और इसमें दाखिला लें। यह रक्षा विवि राष्ट्र की रक्षा करने वाले लोगों को बनाने वाली विवि है। फॉरेंसक साइंस विवि और रक्षा विवि देशभर में फैलना चाहिए।'प्राइवेट सिक्योरिटी की भी अच्छी डिमांड, डेडिकेटेड फोर्स की जरूरत'आज प्राइवेट सिक्योरिटी की भी अच्छी डिमांड है। इसके लिए स्टार्टअप भी खुले हैं। मुझे विश्वास है कि मेरे नौजवान साथी देश को प्राथमिकता देत हुए आगे आ रहे हैं। विवि में ग्लोबल लेवल के नेगोशिएटर भी बनने की यहां अपार संभावनाएं हैं। हमें देश की रक्षा के लिए डेडिकेटेड फोर्स की जरूरत है।'यूनिफॉर्म की इज्जत बनाए रखें, मानवीय भाव न छोड़ें'पीएम ने कहा कि यूनिफॉर्म की इज्जत बनाए रखना होगा। यह इज्जत तब बढ़ती है जब माता—बहनों पीडित, दलित के लिए कुछ करने की आकांक्षा होती है। मानवीय मूल्यों को जीवन में अपनाना होगा। संकल्प लेना होगा कि लोगों का अपनापन इस यूनिफॉर्म के प्रति बना रहे। यूनिफॉर्म पहनकर भी मानवता का भाव बना रहना चाहिए।पीाएम मोदी ने कहा कि रक्षा क्षेत्र में बेटियां आज अच्छी तादाद में हैं। सेना में बड़े पदों पर बेटियां आगे बढ़ रही हैं। एनसीसी में भी बेटियां हैं। एनसीसी को उन्नत बनाने के लिए सरकार काफी काम कर रही है।
वापसी