नई पोस्ट करें

Vastu Tips : खाली दीवार के पास बैठना होता अशुभ, संकटों से घिर सकते हैं आप

2022-10-01 06:16:32 278

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपAsani Cyclone: बंगाली की खाड़ी में उठा तूफान चक्रवात में बदला, 24 घंटे में 111 किमी की रफ्तार से बढ़ेगा******बंगाल की खाड़ी में उठा तूफान रविवार को चक्रवात ‘असानी’ में तब्दील हो गया है। चक्रवाती तूफान 16 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर बढ़ रहा है। कोलकाता नगर निगम ने अपने कर्मचारियों और आपदा प्रबंधन टीमों को अलर्ट पर रखा है। कर्मचारियों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। यहां भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में दक्षिण-पूर्वी क्षेत्र के ऊपर बना दबाव क्षेत्र रविवार सुबह करीब 5.30 बजे निकोबार द्वीप समूह से करीब 450 पश्चिम-उत्तर पश्चिम, पोर्ट ब्लेयर से 380 किलोमीटर पश्चिम, विशाखापट्टनम (आंध्र प्रदेश) से 970 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व और पुरी (ओडिशा) से 1030 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पूर्व में केंद्रित था।गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है 'असानी'अगले 24 घंटों के दौरान तूफान के उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक गंभीर चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर और तेज होने की आशंका है। साथ ही इसके 10 मई की शाम तक उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ने और उत्तरी आंध्र प्रदेश व ओडिशा के तटों से बंगाल की खाड़ी के पश्चिम-मध्य एवं उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र तक पहुंचने के आसार हैं। बाद में तूफान के उत्तर-उत्तर-पूर्व की तरफ मुड़ने और ओडिशा तट से दूर बंगाल की खाड़ी के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र की ओर बढ़ने की प्रबल संभावना है।111 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ेगा 'असानी'विभाग के अनुसार, चक्रवात के सोमवार को बंगाल की खाड़ी में 60 समुद्री मील (111 किलोमीटर प्रति घंटा) की गति से आगे बढ़ने की उम्मीद है। मौसम विभाग के अनुसार, ओडिशा तट के पास समुद्र की स्थिति नौ मई को खराब और 10 मई को अत्यधिक खराब हो जाएगी। 10 मई को समुद्र में हवा की गति के बढ़कर 80 से 90 किलोमीटर प्रति घंटा होने का अनुमान है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि 'असानी' दक्षिण-पूर्व और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर, पोर्ट ब्लेयर से लगभग 570 किमी पश्चिम-उत्तर-पश्चिम में है।

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपमहिला बेरोजगारी दर में आई गिरावट, 2019-20 में घटकर 4.2 प्रतिशत पर पहुंची******महिला बेरोजगारी दर में आई गिरावट, 2019-20 में घटकर 4.2 प्रतिशत पर पहुंचीमहिलाओं के लिए बेरोजगार की दर 2019-20 में घटकर 4.2 प्रतिशत रह गई, जो 2018-19 में 5.1 प्रतिशत थी। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के आवधिक श्रमबल सर्वे (पीएलएफएस) से यह जानकारी मिली है। एनएसओ सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के तहत आता है। इस सर्वेक्षण के निष्कर्षों की जानकारी श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने सोमवार को लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में दी।श्रम मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘महिलाओं के लिए बेरोजगारी दर वर्ष 2018-19 में 5.1 प्रतिशत के मुकाबले घटकर 2019-21 में 4.2 पर आ गई है।’’ वही 2019-20 के लिए पीएलएफएस के आंकड़ों के अनुसार मनरेगा के तहत 2020-21 में सृजित कुल रोजगार में महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़कर लगभग 207 करोड़ कार्यदिवस हो गई है। महिलाओं के लिए श्रम बल भागीदारी दर (एलएफपीआर) 2018-19 के 24.5 प्रतिशत की तुलना में बढ़कर 2019-20 में 30 प्रतिशत हो गई है।बयान में कहा गया कि श्रम बल में महिलाओं की भागीदारी में सुधार के लिए सरकार ने कई कदम उठाये हैं। महिलाओं के रोजगार को प्रोत्साहित करने के लिए महिला श्रमिकों के लिए अनुकूल कार्य वातावरण बनाने को श्रम कानूनों में कई सुरक्षात्मक प्रावधान शामिल किए गए हैं। इसके अलावा इनमें मातृत्व अवकाश को 12 सप्ताह से बढ़ाकर 26 सप्ताह करना, 50 या अधिक कर्मचारियों वाले प्रतिष्ठानों में अनिवार्य क्रेश या पालना घर सुविधा का प्रावधान करना समेत सुरक्षा उपायों के साथ रात की पाली में महिला कर्मचारियों को अनुमति देना शामिल हैं।खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपइस भैंसे की कीमत है 7 करोड़, रोजाना कमाता है 20 हजार !******युवराज के स्पर्म की मांग पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान सहित कई राज्यों में है। करमवीर ने ‘युवराज’ को पंजाब कृषि मेले से खरीदा था। यह भैंसा मुर्रा नस्ल का है जो भारत में पाए जाने वाली नस्लों में सबसे बढिय़ा नस्ल मानी जाती है।कद में पांच फुट 9 इंच युवराज का वजन 14 क्विंटल है। प्रतिदिन युवराज को पीने के लिए बीस लीटर दूध और करीब 19 किलो अन्य खाद्य सामग्री चाहिए होती है। यह सब खाने-पीने के बाद युवराज 4 किमी सैर करता है।इसके खाने-पीने और रहन-सहन पर प्रतिमाह 25 हजार रुपए खर्च आता है। यह अपने मालिक को सालाना 50 लाख रुपए कमाकर देता है।

Vastu Tips : खाली दीवार के पास बैठना होता अशुभ, संकटों से घिर सकते हैं आप

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपदिल्ली में जहरीली हवा का कहर बरकरार, शुक्रवार तक दोगुना हो सकता है प्रदूषण का स्तर******: दिल्ली में का कहर थमने का नाम नही ले रही. रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर में जहरीली हवा दिन पर दिन बढ़ती जा रही है और साथ ही इसकी वजह से प्रदूषण का स्तर भी बढ़ रहा है. और अगर ऐसा ही रहा तो इस शुक्रवार तक प्रदूषण का स्तर पहले से भी ज्यादा बढ़ सकता है। राष्ट्रीय मानकों के मुताबिक, पीएम 2.5 की सुरक्षित सीमा 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिकमीटर और अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुसार 25 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर है।प्रदूषण स्तर पीएम 2.5 और पीएम10 की रेंज में आने वाले क्षेत्रों में सफर के सभी 10 निगरानी केंद्रों धीरपुर, पीतमपुरा और उत्तरी दिल्ली में दिल्ली विश्वविद्यालय (नार्थ कैम्पस), मध्य दिल्ली में पूसा व लोधी रोड, दक्षिणी दिल्ली में आया नगर और मथुरा रोड, इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, उत्तर प्रदेश में नोएडा और हरियाणा में गुरुग्राम शामिल हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार को प्रदूषण का स्तर और बढ़ने का अंदेशा है।केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने अपने आंकड़ों में दिल्ली की औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक को 491 यूनिट के करीब (गंभीर स्तर से ज्यादा) दर्शाया, जबकि औसत प्रदूषण स्तर पीएम2.5 वाले 13 सक्रिय निगरानी केंद्रों ने सुबह 10 बजे तक प्रदूषण का स्तर 490 यूनिट दर्ज किया।राजधानी में प्रदूषण का प्रभाव हर किसी पर पड़ेगा, इसलिए लोगों को सभी बाहरी गतिविधियों से दूर रहने और सीने में दर्द होने, असामान्य खांसी होने और सांस लेने में दिक्कत होने पर चिकित्सक से सलाह लेने का सुझाव दिया गया है।खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपअंबेडकर जयंती 2018: बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के वह अनमोल विचार, जिन्हें फॉलो करने से बदल जाएंगी आपकी जिंदगी******बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर न केवल समाज सुधारक थे बल्कि भारतीय संविधान के निर्माता भी थे। इस बार उनकी 127वीं जयती मनाई जाएंगी। बाबा साहेब का मानना था कि सामाजिक न्याय के लिए आर्थिक विकास का ढांचा होना बहुत ही जरुरी है। का जन्म 14 अप्रैल सन् 1891 में मध्यप्रदेश के महू में हुआ था। बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर का जीवन संघर्ष और सफलता की ऐसी अद्भुत मिसाल है। जिसे हर किसी को धारण करना चाहिए।बाबा साहेब ने कई ऐसे अनमोल विचार पेश किए है। जिन्हें धारण कर आप बी कई ऊंचाईयों को छू सकते है। जानिए इन अनमोल विचारों को।खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआप26 जनवरी 2021: संविधान के वो 10 अधिकार जो आपको पता होने चाहिए******26 जनवरी को पूरे देशमनाया जा रहा है। 26 जनवरी 1950 को सुबह 10 बजकर 18 मिनट परदेश का संविधान लागू किया गया था। संविधान में हर भारतीय के अधिकारों के बारे में विस्तृत रूप सेबताया गया है। संविधान द्वारा निर्धारित किए गए नियमों के माध्यम से देश का सही तरीके संचालन होता है। किसी भी देश का संविधान उस देश की राजनीतिक व्यवस्था, न्याय व्यवस्था, नागरिकों के हितों की रक्षा करनें का एक मूल ढांचा होता है। संविधान में हर भारतीय के अधिकारों के बारे में बताया गया है। आइए आज हम आपको उन 10 अहम अधिकारों के बारे में बताते हैं जो आपको पता होना चाहिए।1- देश के हर नागरिक को बिना किसी भेदभाव के सभी तरह की स्वतंत्रता दी गई है। जाति, रंग, लिंग, भाषा, धर्म, राजनीतिक विचार, राष्ट्रीयता, संपत्ति, समाज जैसी बातों पर किसी भी तरह का भेदभाव नहीं किया जा सकता है।2- किसी भी तरह की गुलामी या दासता से आजादी का अधिकार होता है।3- हर इंसान को शिक्षा का अधिकार हासिल है। प्राथमिक शिक्षा सभी के लिए अनिवार्य है।4- अपने देश में यात्रा की आजादी के साथ ही दूसरे देश में आने-जाने का अधिकार।5- कानून की नजर में हर व्यक्ति समान है।6-हर इंसान को सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेने और बौद्धिक संपदा के संरक्षण का अधिकार मिला हुआ है।7- इंसान को भोजन, मकान, कपड़े, चिकित्सा सुविधा और जरूरी सामाजिक सुरक्षा का अधिकार हासिल है। इसके साथ ही अच्छे जीवन स्तर के साथ जीने का अधिकार भी हासिल है।8- किसी व्यक्ति के घर, परिवार, एकाकीपन और पत्र व्यवहार में निजता का अधिकार मिला है। उस पर किसी तरह का हस्तक्षेप नहीं हो सकता है।9- अदालत की ओर से दोषी करार न होने तक व्यक्ति को निर्दोष होने का अधिकार भी हासिल है।10- हर इंसान को विचारों की अभिव्यक्ति की आजादी मिली है।

Vastu Tips : खाली दीवार के पास बैठना होता अशुभ, संकटों से घिर सकते हैं आप

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपIPL 2022 : डेविड वार्नर ने बताया, पृथ्वी शॉ के साथ ओपनिंग करने का फायदा******Highlightsआईपीएल 2022 में डेविड वार्नर एक ​बार फिर दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेल रहे हैं। इससे पहले भी वे डीसी के लिए खेल चुके हैं। इसके बाद वे सनराइसर्ज हैदराबाद में गए और एसआरएच के कप्तान भी बने। इतना ही नहीं डेविड वार्नर ने सनराइजर्स हैदराबाद को एक बार आईपीएल की ट्रॉफी भी जिताई, लेकिन उसके बाद उन्हें रिलीज कर दिया गया। अब वे दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेल रहे हैं। अब डेविड वार्नर ​डीसी के अपने जोड़ीदार पृथ्वी शॉ के साथ पारी का आगाज कर रहे हैं। डेविड वार्नर ने बताया कि वे पृथ्वी शॉ के साथ ओपनिंग करने का पूरा मजा ले रहे हैं।अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए मशहूर ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने कहा है कि आईपीएल के मौजूदा सीजन में दिल्ली कैपिटल्स के उनके सलामी जोड़ीदार पृथ्वी शॉ की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के कारण उन्हें तेजी से दौड़कर ज्यादा रन बनाने की जरूरत नहीं पड़ रही है। डेविड वार्नर और पृथ्वी शॉ की विस्फोटक सलामी जोड़ी ने बुधवार को पंजाब किंग्स के खिलाफ पावरप्ले के छह ओवर में 81 रन जोड़कर टीम को शानदार शुरुआत दिलायी थी। डेविड वार्नर ने अपने नए जोड़ीदार के बारे में स्टार स्पोर्ट्स पर कहा कि मुझे यह बेहद पसंद आ रहा है। उनका हाथ काफी तेजी से चलता है और आंखों के साथ शानदार सामंजस्य है। डेविड वार्नर बोले कि वह लगातार चौके- छक्के लगाते रहता है जिससे तेजी से दौड़कर दो रन लेने की मेरी जरूरत कम हो गई है। यह अच्छा है कि मुझे दौड़कर ज्यादा रन नहीं बनाने पड़ रहे हैं। वह पहली गेंद से ही हमारे लिए लय बना देता है।डेविड वार्नर ने कहा कि आम तौर पर ऐसा कम ही होता है कि दोनों छोर से आक्रामक बल्लेबाजी हो। यह हमारे दिमाग में है कि हम सकारात्मक और अपनी पूरी क्षमता के साथ खेलें। दिल्ली कैपिटल्स ने इस मैच में पंजाब की टीम को 20 ओवर में 115 रन पर रोकने के बाद महज 10.3 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया था।(Bhasha inputs)खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपBandhan Bank का चौथी तिमाही मुनाफा 68% बढ़कर हुआ 651 करोड़ रुपए, PNBHF विदेशी बाजार से जुटाएगी एक अरब डॉलर******Bnadhan Bnak निजी क्षेत्र के का शुद्ध लाभ बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) के दौरान 68 प्रतिशत बढ़कर 650.87 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की समान तिमाही में बैंक ने 387.86 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में बैंक ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी कुल आय बढ़कर 2,220.51 करोड़ रुपए पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष के दौरान 1,553.97 करोड़ रुपए रही थी।तिमाही के दौरान बैंक की शुद्ध ब्याज आय 45.60 प्रतिशत बढ़कर 1,258 करोड़ रुपए रही, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 864 करोड़ रुपए रही थी।समीक्षाधीन अवधि में बैंक की ब्याज से इतर आय 91.13 प्रतिशत बढ़कर 388 करोड़ रुपए पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 203 करोड़ रुपए थी।मार्च तिमाही के दौरान बैंक की सकल गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) बढ़कर कुल ऋण का 2.04 प्रतिशत रही, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही के दौरान 1.25 प्रतिशत थी। हालांकि, तिमाही के दौरान बैंक का शुद्ध एनपीए या डूबा कर्ज 0.58 प्रतिशत पर कायम रहा। बंधन बैंक के निदेशक मंडल ने तीन रुपए प्रति शेयर के लाभांश की सिफारिश की है। इसके लिए शेयरधारकों की मंजूरी ली जाएगी।पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस विदेशी बाजारों से एक अरब डॉलर (करीब 6,954 करोड़ रुपए) जुटाएगी। इसके अलावा आवास वित्त कंपनी 10,000 करोड़ रुपए बांड जारी कर जुटाएगी। पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसके निदेशक मंडल की बैठक नौ मई को होगी। इसमें विदेशों से एक अरब डॉलर तक वाणिज्यिक कर्ज से जुटाने के प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा। इसे एक या अधिक किस्तों में जुटाने का प्रस्ताव है।निदेशक मंडल विभिन्न किस्तों में बांड के जरिये 10,000 करोड़ रुपए तक जुटाने पर भी विचार करेगा। पंजाब नेशनल बैंक की आवास वित्त इकाई नौ मई को चौथी तिमाही के वित्तीय नतीजे की घोषणा करेगी।

Vastu Tips : खाली दीवार के पास बैठना होता अशुभ, संकटों से घिर सकते हैं आप

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपशेल कंपनियों पर और कसा शिकंजा, एक लाख से अधिक निदेशकों को अयोग्‍य घोषित करेगी सरकार****** कालाधन से निपटने के प्रयासों पर आगे बढ़ते हुए सरकार शेल (मुखौटा) कंपनियों से जुड़े एक लाख से अधिक निदेशकों को अयोग्य घोषित करेगी।सरकार ने इसकी घोषणा हाल में कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा 2.09 लाख कंपनियों का पंजीकरण रद्द किए जाने के बाद की है। मंत्रालय ने इन कंपनियों का पंजीकरण लंबे समय से कोई कारोबारी गतिविधि नहीं करने के चलते रद्द किया था।इसके अलावा बैंकों को निर्देश दिया गया है कि वे इन कंपनियों के निदेशकों या उनके अधिकृत प्रतिनिधियों के खातों के परिचालन पर रोक लगाएं।एक आधिकारिक विज्ञप्ति में बताया गया है कि मंत्रालय ने 12 सितंबर, 2017 तक कंपनी कानून 2013 की धारा 1642 ए के तहत अयोग्य घोषित करने के लिए 1,06,578 निदेशकों की पहचान की है।धारा 164 के तहत किसी कंपनी का कोई निदेशक अगर तीन साल लगातार अपने वित्‍तीय लेनदेन या वार्षिक रिटर्न दाखिल नहीं करता है तो वह उसी कंपनी में पुन: नियुक्त नहीं हो सकता और न ही किसी अन्य कंपनी में पांच साल तक नियुक्त हो सकता है। मंत्रालय ने संकेत दिए हैं कि शेल कंपनियों के खिलाफ और भी सख्‍त कदम उठाए जा सकते हैं। अभी मंत्रालय 2.09 लाख कंपनियों के दस्‍तावेजों को खंगाल रहा है और इनके निदेशकों की पहचान करने और इन कंपनियों के पीछे छिपे असली लाभार्थियों का पता लगाने का काम कर रहा है।

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपगाड़ी नहीं, पसंद आया गाड़ी का साइलेंसर, चोरी की... पकड़ा गया तो हुआ चौंकाने वाला खुलासा******आमतौर पर चोर पूरी गाड़ी चुराते हैं लेकिन नोएडा में पुलिस ने एक अनोखे चोर को पकड़ा है। इस चोर ने गाड़ी नहीं बल्कि गाड़ी का साइलेंसर ही चुरा लिया। नोएडा में पुलिस ने एक ऐसे चोर को पकड़ा है जिसने गाड़ी नहीं बल्कि गाड़ी का साइलेंसर चोरी किया था। के थाना इकोटेक -3 पुलिस ने इस चोर को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को उसके कब्जे से ईको गाड़ी का चोरी किया गया साइलेन्सर बरामद हुआ है। थाना इकोटेक -3 नोएडा पुलिस ने बुलंदशहर के रहने वाले चोर विकास को गिरफ्तार किया है। विकास अभी कुलेसरा थाना इकोटेक 3 गौतमबुद्दनगर में रह रहा है और उसकी उम्र 19 वर्ष है।आरोपी ने ईको गाडी यूपी 16 डीएच 1878 का साइलेन्सर 7 अगस्त को चोरी किया था। जिसके बाद गाड़ी मालिक ने अपनी रिपोर्ट पुलिस को दर्ज कराई थी, पुलिस चोर की तलाश कर रही थी। पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी को भी खंगाला था। पुलिस भी ये जानना चाहती थी कि आज के जमाने में जब गाड़ी चुराते हैं, तो यह साइलेंसर क्यूं चुरा रहा है। पकड़े जाने के बाद विकास में पुलिस को बताया कि उसे गाड़ी का साइलेंसर बहुत पसंद आया था जिसे देखकर उसने उसे चोरी कर लिया।आपको बता दें कि इससे पहले हाल ही में छत्‍तीसगढ़ के कोर‍िया जिले से भी ऐसा ही एक मामला सामने आया था। यहां अनोखी चोरी के मामले में पुल‍िस ने चोरों को पकड़ा तो उन्‍होंने सनसनीखेज खुलासा क‍िया था। ईको कार साइलेंसर खरीदने के मामले में 3 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार क‍िया था। आरोपियों के पास से 10 किलो इको साइलेंसर गाड़ी की डस्ट जिसकी कीमत 1 लाख 50 हजार बताई जा रही है, बरामद की थी।खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपहीरो इलेक्ट्रिक राजस्थान में लगाएगी 1,200 करोड़ रुपये का EV Plant, 2023 के अंत तक शुरु हो सकेगा उत्पादन******Highlights इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन निर्माता हीरो इलेक्ट्रिक ने सोमवार को कहा कि वह राजस्थान में 1,200 करोड़ रुपये प्रति वर्ष मेगा विनिर्माण केंद्र स्थापित करेगी। कंपनी ने कहा कि उसने निवेश के लिए राजस्थान शिखर सम्मेलन में राज्य सरकार के साथ पर हस्ताक्षर किए हैं।कंपनी के अनुसार, प्रस्तावित इकाई 170 एकड़ में सलारपुर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित होगी और 2023 के अंत तक उत्पादन शुरू होगा। हीरो इलेक्ट्रिक के प्रबंध निदेशक नवीन मुंजाल ने कहा कि यह मेगा विनिर्माण सुविधा पूरे भारत में ईवी अपनाने को बढ़ावा देने के लिए हमारी क्षमता वृद्धि का हिस्सा है। यह राज्य को स्वच्छ गतिशीलता समाधान बदलाव और पारिस्थितिक पर्यटन प्रथाओं को बढ़ावा देने का काम करेगा। प्रस्तावित संयंत्र सभी मौजूदा और आगामी हीरो इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों का निर्माण करेगा।भारत सरकार के तरफ से इलेक्ट्रिक गाड़ियों को प्रमोट किया जा रहा है। सरकार कई तरह की योजनाओं पर भी काम कर रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, घरेलू इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग में 2030 तक दोपहिया और तिपहिया वाहनों की बिक्री तेजी से बढ़ने की उम्मीद है। इस श्रेणी के तहत कुल बिक्री में इलेक्ट्रिक दोपहिया और तिपहिया वाहनों की हिस्सेदारी क्रमश: 50 और 70 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी। वाहन कलपुर्जा विनिर्माता संघ (एसीएमए) और मैकिंजी की संयुक्त रूप से तैयार रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में यात्री या भारी वाणिज्यिक वाहनों की तुलना में बिजली से चलने वाली दोपहिया और तिपहिया वाहनों की कुल लागत अधिक आकर्षक होने की संभावना है। एसीएमए के 62वें वार्षिक सत्र से इतर यहां जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2030 तक नए इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों की बिक्री 50 प्रतिशत और तिपहिया वाहनों की बिक्री 70 प्रतिशत तक बढ़ सकती है।रिपोर्ट में कहा गया है कि विद्युतीकरण की धीमी रफ्तार की वजह से भारतीय यात्री और भारी वाणिज्यिक वाहन खंड में परंपरागत ईंजन (पेट्रोल और डीजल) का दबदबा कायम रहेगा। रिपोर्ट के अनुसार, 2030 तक कुल वाहन बिक्री में इलेक्ट्रिक यात्री वाहनों की हिस्सेदारी 10-15 प्रतिशत और भारी वाणिज्यिक वाहनों की हिस्सेदारी पांच से 10 प्रतिशत की होगी।

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपदुनिया में पहली बार उड़ने वाली कार की बिक्री हुई शुरू, 6.60 लाख रुपए में कर सकते हैं बुकिंग******उड़ने वाली कार चलाने का सपना हकीकत में बदल गया है। डच कार कंपनी पैल-वी ने दुनिया की पहली कर्शियल उड़ने वाली कार की बिक्री शुरू कर दी है। ग्राहक दो उड़ने वाली कारें, लिबर्टी स्पोर्ट और लिबर्टी पायनियर की प्री-बुकिंग शुरू कर सकते हैं। 6.60 लाख रुपए देकर स्पोर्ट और पायनियर को 16.70 लाख रुपए देकर बुक किया जा सकता है। कंपनी ने लिबर्टी स्पोर्ट की कीमत 2 करोड़ 70 लाख रुपए और लिबर्टी पायनियर की कीमत 4 करोड़ 1 लाख रुपए रखी है। कार की डिलेवरी यूरोप में 2018 के अंत तक शुरू होने की उम्मीद है।खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपआज AICTE का ‘लीलावती अवार्ड-2020’ लॉन्च करेंगे केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक******शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल R निशंक ’आज शाम को लीलावती अवार्ड 2020 का शुभारंभ करेंगे। लीलावती पुरस्कार तकनीकी शिक्षा नियामक, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) की एक पहल है, और इसका उद्देश्य AICTE द्वारा अनुमोदित संस्थानों द्वारा महिलाओं के साथ ity समानता और निष्पक्षता ’के साथ व्यवहार करने के प्रयासों को मान्यता देना है। ऑनलाइन कार्यक्रम शाम 5 बजे शुरू होगा। ऑनलाइन लॉन्च इवेंट में एआईसीटीई के अध्यक्ष प्रो। अनिल सहस्रबुद्धे और उच्च शिक्षा सचिव अमित खरे भी मौजूद रहेंगे।लीलावती पुरस्कार का थीम महिला सशक्तिकरण है। इसका उद्देश्य "पारंपरिक भारतीय मूल्यों" का उपयोग करके स्वच्छता, स्वच्छता, स्वास्थ्य और पोषण जैसे मुद्दों के बारे में जागरूकता पैदा करना है। इसका उद्देश्य "साक्षरता, रोजगार, प्रौद्योगिकी, ऋण, विपणन, नवाचार, कौशल विकास, प्राकृतिक संसाधन और महिलाओं के बीच अधिकार" जैसे मुद्दों के बारे में जागरूकता पैदा करना है।एआईसीटीई ने कहा, लीलावती पुरस्कार 2020 के लिए प्रवेश पत्र संस्थान या टीम के स्तर पर प्रस्तुत किए जा सकते हैं, जिसमें छात्र या संकाय या एआईसीटीई द्वारा अनुमोदित संस्थान दोनों शामिल हैं।"विभिन्न संस्थानों से प्राप्त योग्य प्रविष्टियों का मूल्यांकन एक समिति द्वारा किया जाएगा और विजेता टीम को हर उप-विषय के तहत पहले, दूसरे और तीसरे रैंक के लिए प्रमाण पत्र मिलेंगे।

खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपसावधान! मोटरसाइकिल और कार चलाने वालों को हो सकती है सजा, भूलकर भी न करें ये गलती!******Traffic PoliceHighlightsदेश में सर्दियों का मौसम जारी है। इसके साथ ही प्रदूषण की समस्या भी सिर उठा रही है। इसे देखते हुएर भी अलर्ट पर है। दिल्ली परिवहन विभाग ने वाहन मालिकों से कहा है कि वे ड्राइविंग के वक्त वैध प्रदूषण नियंत्रण (पीयूसी) प्रमाण पत्र जरूर साथ रखें। वैध पीयूसी प्रमाण पत्र के बिना पकड़े जाने पर वाहन मालिकों को छह महीने तक की कैद या 10,000 रुपये तक का जुर्माना या दोनों हो सकते हैं।परिवहन विभाग द्वारा जारी एक सार्वजनिक नोटिस में कहा गया है कि पीयूसी सर्टिफिकेट न दिखाने वाले वाहन चालकों का तीन महीने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस भी रद्द कर दिया जाएगा। राष्ट्रीय सरकार के परिवहन विभाग ने दिल्ली में प्रदूषण को नियंत्रित करने और वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए यह प्रयास शुरू किया है।बता दें कि वाहन से निकलने वाले कार्बन मोनोऑक्साइड और कार्बन डाइऑक्साइड जैसे विभिन्न प्रदूषकों के लिए वाहन का समय-समय पर परीक्षण किया जाता है। जिसके बाद उन्हें पीयूसी प्रमाणपत्र दिया जाता है। सार्वजनिक नोटिस में कहा गया है, "सभी पंजीकृत वाहन मालिकों से अनुरोध है कि वे परिवहन विभाग द्वारा अधिकृत प्रदूषण जांच केंद्रों से अपने वाहनों की जांच करवाएं ताकि किसी भी तरह के दंड/कारावास/ड्राइविंग लाइसेंस के निलंबन से बचा जा सके।"पेट्रोल और सीएनजी चालित दुपहिया और तिपहिया वाहनों के मामले में प्रदूषण जांच का शुल्क 60 रुपये है। चार पहिया वाहनों के लिए यह 80 रुपये है।डीजल वाहनों के प्रदूषण जांच प्रमाण पत्र का शुल्क 100 रुपये है। केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 के अनुसार, प्रत्येक मोटर वाहन (बीएस-I/बीएस-II/बीएस-III/बीएस-IV के साथ-साथ सीएनजी/एलपीजी पर चलने वाले वाहनों सहित) के लिए एक वैध पीयूसी प्रमाणपत्र होना आवश्यक है। हालांकि, चार पहिया बीएस-IV अनुपालन वाले वाहनों की वैधता एक वर्ष और अन्य वाहनों के लिए तीन महीने है।खालीदीवारकेपासबैठनाहोताअशुभसंकटोंसेघिरसकतेहैंआपCOVID-19 : चैरिटी मैच में हिस्सा लेंगे गोल्फर वुड्स और मिकेलसन, दान की जाएगी मैच से प्राप्त कमाई******कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में कहर बरपा रखा है जिसकी वजह से सभी लोग घरों में कैद है। इस वायरस ने खेलगतिविधियों पर भी ब्रैक लगा दिया है। इस मुश्किल घड़ी में गोल्फ की दुनिया के शानदार खिलाड़ी टाइगर वुड्स, फिल मिकेलसन, टॉम ब्राडी और पेटोन मेनिंग एक चैरिटी मैच के आयोजन की योजना बना रहे है। इस चैरिटी मैच का आयोजन फ्लोरिडा में दर्शकों की अनुपस्थिति में किया जाएगा। हालांकि इसका सीधा प्रसारण टीवी पर किया जाएगा।इस मैच से प्राप्त कमाई को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में दान कर दिया जाएगा। टर्नर स्पोर्ट्स ने कहा कि यह मैच 23 से 25 मई के सप्तांहात पर हो सकता है। बता दें COVD-19 के कारण पीजीए टूर 12 मार्च से ही बंद है । अब जून में इस के टूर्नामेंट शुरू होने की उम्मीद है।गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया में खेलों के आयोजन पर रोक लगी है जिसके कारण खेल जगत को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा रहा है। इस स्थिति में आर्थिक नुकसान से उबरने के लिए विभिन्न क्लब और बोर्डों ने अपने खिलाड़ी और स्टाफ के वेतन में कटौती करने का फैसला किया है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:32
उद्धरण 1 इमारत
2018 के दौरान भारत ने हासिल किया सबसे ज्‍यादा विदेशों से धन, वर्ल्‍ड बैंक ने बताया भारतीयों ने भेजे 79 अरब डॉलर******Remittance to india मामले में भारतीय एक बार फिर सबसे आगे रहे हैं। 2018 में प्रवासी भारतीयों ने 79 अरब डॉलर भारत में भेजे हैं। वर्ल्‍ड बैंक ने सोमवार को जारी अपनी रिपोर्ट में यह बात कही है। वर्ल्‍ड बैंक की माइग्रेशन एंड डेवलपमेंट ब्रीफ रिपोर्ट के नवीन संस्करण के मुताबिक, भारत के बाद चीन का नंबर आता है। चीन में उनके नागरिकों द्वारा 67 अरब डॉलर भेजा गया है। इसके बाद मैक्सिको (36 अरब डॉलर), फिलिपीन (34 अरब डॉलर) और मिस्त्र (29 अरब डॉलर) का स्थान है।रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत एक बार फिर पहले पायदान पर रहने में कामयाब रहा है।पिछले तीन वर्ष में विदेश से भारत को भेजे गए धन में महत्वपूर्ण वृद्धि हुई है। यह 2016 में 62.7 अरब डॉलर से बढ़कर 2017 में 65.3 अरब डॉलर हो गया था।वर्ल्‍ड बैंक ने कहा कि भारत को भेजे गए धन में 14 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई है। केरल में आई बाढ़ के चलते प्रवासी भारतीयों के अपने परिवारों को ज्यादा आर्थिक मदद भेजने की उम्मीद है। सऊदी अरब से पूंजी प्रवाह में कमी के कारण पाकिस्तान में उनके प्रवासियों द्वारा भेजे जाने वाले धन में गिरावट आई है। वहीं, बांग्लादेश में उनके प्रवासियों द्वारा भेजे गए धन में 2018 में 15 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।रिपोर्ट के मुताबिक, विकासशील देशों (कम एवं मध्यम आय वाले देश) को भेजा गया धन 2018 में 9.6 प्रतिशत बढ़कर 529 अरब डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है। यह 2017 में 483 अरब डॉलर पर था। दुनिया भर के देशों में भेजा जाने वाला धन 2018 में 689 अरब डॉलर पर पहुंच गया। 2017 में यह 633 अरब डॉलर पर था। इसमें विकसित देशों में उनके नागरिकों द्वारा भेजा जाने वाला पैसा भी शामिल है।बैंक ने कहा कि दक्षिण एशिया में भेजी गई रकम 12 प्रतिशत बढ़कर 131 अरब डॉलर हो गई। वर्ल्‍ड बैंक ने कहा कि अमेरिका में आर्थिक परिस्थितियों में मजबूती और तेल की कीमतों में तेजी के चलते धन प्रेषण में वृद्धि हुई है। जिसका खाड़ी सहयोग परिषद (जीसीसी) के कुछ देशों से निकासी पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा।
2022-10-01 05:45
उद्धरण 2 इमारत
Ponniyin Selvan- I: मणिरत्नम की फिल्म के फर्स्ट लुक में ऐश्वर्या राय बच्चन लगीं बेहद खूबसूरत******Ponniyin Selvan- I: मोस्ट अवेटेडमैग्नम ओपस, पोन्नियिन सेलवन -1, कल्कि के क्लासिक तमिल उपन्यास "पोन्नियिन सेलवन" पर आधारित दो-भाग वाली बहुभाषी फिल्म का पहला भाग है, जो मणिरत्नम द्वारा निर्देशित और लाइका प्रोडक्शंस और मद्रास टॉकीज द्वारा संयुक्त रूप से निर्मित है। इस साल बड़े पर्दे पर तमिल फिल्म फ्रैंचाइज़ी का पहला भाग 30 सितंबर को सिनेमाघरों में हिट होने के लिए तैयार है, निर्माताओं ने बुधवार को इसकी घोषणा की। ऐतिहासिक नाटक कल्कि कृष्णमूर्ति के इसी नाम के 1955 के तमिल उपन्यास पर आधारित है, जो कहानी को आगे बढ़ाता है दक्षिण के सबसे शक्तिशाली राजाओं में से एक, अरुलमोझीवर्मन के शुरुआती दिनों में, जो महान चोल सम्राट राजराजा चोल प्रथम बने।कहानी 10 वीं शताब्दी में चोल साम्राज्य में एक उथल-पुथल भरे समय के दौरान सेट की गई है, जब शासक परिवार की विभिन्न शाखाओं के बीच सत्ता संघर्ष ने संभावित उत्तराधिकारियों के बीच शासक सम्राट के बीच हिंसक दरार पैदा कर दी थी। रत्नम के प्रोडक्शन हाउस मद्रास टॉकीज और अल्लिराजा सुभास्करन के बैनर लाइका प्रोडक्शंस द्वारा समर्थित, "पोन्नियिन सेलवन - I" में विक्रम, ऐश्वर्या राय बच्चन, कार्थी, तृषा कृष्णन, प्रकाश राज, जयराम, जयम रवि और ऐश्वर्या लक्ष्मी जैसे कई सितारे हैं।सुभास्करन के जन्मदिन के अवसर पर निर्माताओं ने फिल्म की रिलीज की तारीख की घोषणा करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। लाइका प्रोडक्शंस के ट्वीट में पढ़ा गया, "हमारे चेयरमैन अल्लिराजा सुभास्करन को जन्मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं! गोल्डन एरा 30 सितंबर को बड़े पर्दे पर आ रहा है! #PS1 #PS1FirstLooks @MadrasTalkies।"रत्नम ने एलंगो कुमारवेल के साथ पटकथा पर सह-लेखक के रूप में भी काम किया है, जबकि बी जयमोहन को संवाद लेखक के रूप में श्रेय दिया गया है।फिल्म का संगीत रत्नम के लगातार सहयोगी एआर रहमान ने दिया है। पिछले जुलाई में, यह घोषणा की गई थी कि "पोन्नियिन सेलवन - I" 2022 में रिलीज़ होगी, लेकिन किसी तारीख का उल्लेख नहीं किया गया था। यह फिल्म तमिल, हिंदी, तेलुगु, मलयालम और कन्नड़ में रिलीज होने के लिए तैयार है।
2022-10-01 05:38
उद्धरण 3 इमारत
Gold Price Today: सोने और चांदी के दाम में आई भारी गिरावट, जानिए क्या है आज का रेट****** आज के दाम में भारी गिरावट देखी जा रही है। सोना 380 रुपया लुढ़ककर 51,760 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया है। वहीं 1Kg चांदी की कीमत 54,800 हो गई है। जो कल के दाम से 600 रुपये कम है। ग्राहक के लिए आज का समय सोना खरीदने के लिए काफी बेहतर हो सकता है।वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में मजबूती के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में शुक्रवार को सोने का भाव 160 रुपये की तेजी के साथ 52,140 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया था। गुड रिटर्न्स के मुताबिक, इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 51,980 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। हालांकि कल चांदी स्थिर रही थी और 55,400 रुपये प्रति किलोग्राम पर कारोबार कर रही थी।देश का रत्न एवं आभूषण निर्यात जुलाई में एक साल पहले के समान महीने की तुलना में मामूली घटकर 24,913.99 करोड़ रुपये रह गया। रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्द्धन परिषद (जीजेईपीसी) ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। एक साल पहले समान महीने में रत्न एवं आभूषण निर्यात 25,157.64 करोड़ रुपये रहा था। जीजेईपीसी के चेयरमैन कोलिन शाह ने कहा, ‘‘जुलाई और अगस्त रत्न एवं आभूषण निर्यात के लिए ठंडे रहते हैं। हालांकि, सादे सोने के आभूषणों के निर्यात में उछाल से कुल निर्यात में मामूली कमी दर्ज हुई है।’’जीजेईपीसी के आंकड़ों के अनुसार, चालू वित्त वर्ष के पहले चार माह अप्रैल-जुलाई के दौरान कुल रत्न एवं आभूषण निर्यात 10.99 प्रतिशत बढ़कर 1,03,931.14 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 93,640.44 करोड़ रुपये था। सादे सोने के आभूषणों का कुल निर्यात जुलाई में 24.22 प्रतिशत बढ़कर 2,591.67 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो इससे पिछले साल के समान महीने में 2,086.41 करोड़ रुपये था। आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में तराशे और पॉलिश हीरों का निर्यात 7.56 प्रतिशत घटकर 15,387.93 करोड़ रुपये रह गया। यह जुलाई, 2021 में 16,646.69 करोड़ रुपये था।भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने जानकारी देते हुए बताया कि सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (एसजीबी) स्कीम की वित्त वर्ष 2022-23 की दूसरी श्रृंखला 22 अगस्त से पांच दिनों के लिए खुल रही है। आज आखिरी दिन है। जिसमें कोई ​भी निवेशक गोल्ड बॉण्ड को खरीद सकता है। इसके लिए इश्यू प्राइज 5,197 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया है।
वापसी