नई पोस्ट करें

Japan Open 2022: लक्ष्य सेन और साइना नेहवाल हारकर बाहर, किदांबी श्रीकांत और प्रणॉय अगले दौर में पहुंचे

2022-10-01 06:18:52 285

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेसहारा इंडिया में अटका पैसा जल्द मिलेगा, सरकार ने लोकसभा में दी जानकारी******saharaHighlightsसहारा इंडिया निवेशकों के लिए अच्छी खबर है। अगर सहारा इंडिया के किसी स्कीम में आपका या परिवार के किसी सदस्य का पैसा अटका हुआ है तो वह जल्द मिल सकता है। केंद्र सरकार ने इसकी जानकारी लोकसभ में दी है।लोकसभा में एक प्रश्‍न का जवाब में वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने सोमवार को बताया कि सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने 232.85 लाख निवेशकों से 19400.87 करोड़ रुपये और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ने 75.14 लाख निवेशकों से 6380.50 करोड़ रुपये एकत्र‍ित किए है। वहीं, दूसरी ओर पूंजी बाजार नियामक सेबी ने अब तक ब्‍याज समेत कुल 138.07 करोड़ रुपये ही वापस कर पाया है।सहारा इंडिया के निवेशकों को उनका पैसा कब वापस मिलेगा के सवाल के जवाब में वित्त राज्य मंत्री भाने कहा कि सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया ने सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड नाम की दो विशेष सहारा कंपनियों से संबंधित आदेश जारी किए हैं। वहीं, दूसरी ओर 31 दिसंबर, 2021 तक ‘सेबी-सहारा रिफंड’ खाते में 15,503.69 करोड़ रुपये जमा किए हैं। ऐसे में रिफंड के लिए आवेदन मिलने पर पैसे वापस किए जाएंगे।वित्त राज्यमंत्री ने कहा सेबी को 81.70 करोड़ रुपये की कुल मूल राशि के लिए 19,644 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें से सेबी ने 138.07 करोड़ रुपये की कुल राशि 48,326 ओरिजिनल बॉन्ड सर्टिफिकेट / पासबुक वाले 17,526 एलिजिबल बॉन्डहोल्डर्स को रिफंड किया है।

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेमारुति सुजुकी को सता रहा है डर, इसलिए चालू वित्त वर्ष में बिक्री में वृद्धि के अनुमान को घटाकर किया 8%******maruti suzuki देश की सबसे बड़ी कार कंपनी इंडिया का अनुमान है कि अब चालू वित्त वर्ष में उसकी बिक्री वृद्धि दोहरे अंक में रहने की बजाये मात्र आठ प्रतिशत रहेगी। इसलिए कंपनी ने बुधवार को अपना बिक्री अनुमान घटा दिया।कंपनी के चेयरमैन आर. सी. भार्गव ने यहां पत्रकारों से बातचीत में यह बात कही।कंपनी का कहना है कि ईंधन की बढ़ती कीमतों, बीमा लागत में वृद्धि और ऊंची ब्याज दरों के चलते चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में मांग घटी है। इसके अलावा नए मॉडल की पेशकश नहीं होने से भी बिक्री घटने का अनुमान है। भार्गव ने कहा कि चालू वित्‍त वर्ष के लिए हम अपनी वृद्धि का अनुमान 8 प्रतिशत कर रहे हैं। इससे पहले कंपनी ने चालू वित्‍त वर्ष के लिए बिक्री में वृद्धि अनुमान को दोहरे अंकों में रहने की उम्‍मीद जताई थी।भार्गव ने कहा कि अगले साल जनवरी-मार्च के दौरान हम एक नया मॉडल लॉन्‍च करेंगे जो हमारी बिक्री को बढ़ाने में मदद करेगा। उन्‍होंने कहा कि हाल ही में लॉन्‍च की गई भी अपना योगदान देगी क्‍योंकि इसे बाजार में अच्‍छी प्रतिक्रिया मिली है। कंपनी के मुताबिक नई अर्टिगा की 23,000 यूनिट बुक हो चुकी हैं और इस पर 8 हफ्ते का वेटिंग पीरियड चल रहा है।कंपनी ने कहा कि इतिहास गवाह रहा है कि चुनावी साल से पहले बिक्री घटती है, जबकि चुनावी साल में बिक्री बढ़ती है। इसलिए कंपनी को अगले वित्त वर्ष में बिक्री बढ़ने की उम्मीद है।भार्गव ने कहा कि भारत स्टेज-6 की दिशा में आगे बढ़ने के लिए कंपनी अपने अधिकतर बीएस-4 मॉडलों का दिसंबर 2019 तक उत्पादन बंद कर देगी। सुप्रीम कोर्ट ने बढ़ते प्रदूषण स्‍तर को देखते हुए सभी बीएस-4 वाहनों को 31 मार्च, 2020 तक बंद करने का आदेश दिया है। 1 अप्रैल, 2020 से देश में केवल बीएस-6 वाहन ही बेचे जाएंगे।लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेShahbaz Sharif warns Imran Khan: प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने इमरान खान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की दी चेतावनी, इमरान पर गृहयुद्ध छेड़ने की साजिश का लगाया आरोप******Highlights पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान पर देश में गृहयुद्ध छेड़ने की साजिश रचने और राष्ट्रीय संस्थाओं के खिलाफ मनगढ़ंत कहानी गढ़ने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। शरीफ की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब पाकिस्तान की शक्तिशाली सेना ने अपने आलोचकों को देश की प्रमुख संस्था पर कींचड़ उछालने से बचने की चेतावनी दी है। पिछले महीने इमरान के नेतृत्व वाली सरकार के सत्ता से हटने के बाद पाक सेना ने उसे राजनीति में घसीटने के 'तीव्र और जानबूझकर किए गए प्रयासों' के खिलाफ कड़ा विरोध दर्ज कराया था। क्रिकेटर से राजनेता बने 69 वर्षीय इमरान को पिछले महीने अविश्वास प्रस्ताव के माध्यम से सत्ता से बेदखल कर दिया गया था। इमरान का आरोप है कि एक स्वतंत्र विदेश नीति का पालन करने के कारण स्थानीय नेताओं की मदद से अमेरिका के नेतृत्व में उन्हें हटाने की साजिश रची गई थी। उनकी सरकार को बचाने में कोई भूमिका नहीं निभाने को लेकर इमरान के समर्थकों ने सोशल मीडिया पर सेना को निशाना बनाया था।पाक प्रधानमंत्री के कार्यालय ने रविवार देर रात एक बयान जारी कर कहा कि शरीफ ने एबटाबाद में एक रैली में इमरान द्वारा दिए गए संबोधन को 'पाकिस्तान के खिलाफ एक बड़ी साजिश' करार दिया है। उन्होंने कहा है कि राष्ट्रीय संस्थानों के खिलाफ मनगढ़त कहानी गढ़ने वाले असली 'मीर जाफर और मीर सादिक' हैं। मीर जाफर और मीर सादिक ऐसे दो शख्स हैं, जिन्हें 18वीं शताब्दी में ईस्ट इंडिया कंपनी के सहयोगी के रूप में जाना जाता था। शरीफ के मुताबिक, इमरान ने रविवार को एबटाबाद में पाकिस्तान, उसके संविधान और सम्मानित संस्थानों को चुनौती दी। उन्होंने इमरान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया। शरीफ ने कहा कि इमरान जो कर रहे हैं, उसे केवल साजिश की श्रेणी में रखा जा सकता है और यह राजनीति नहीं है। पाक प्रधानमंत्री के अनुसार, यह साजिश किसी राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ नहीं, बल्कि देश के खिलाफ है।उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान किसी व्यक्ति के अहंकार, दंभ और झूठ के सामने समर्पण या समझौता नहीं कर सकता। इमरान ने पहले देश की अर्थव्यवस्था को नष्ट करने की साजिश रची और अब गृहयुद्ध शुरू करने की साजिश कर रहे हैं।' शरीफ ने संकल्प जताया कि इमरान के नापाक मंसूबों को हर कीमत पर कुचला जाएगा। उन्होंने कहा, 'इमरान इस युग के मीर जाफर और मीर सादिक हैं, जो चाहते हैं कि पाकिस्तान को लीबिया और इराक जैसी नीयति का सामना करना पड़े।' पाक प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि इमरान जिस नाव पर सवार हैं, उसी में छेद कर रहे हैं और वह उस हाथ को काट रहे हैं, जो उन्हें खिलाता है। उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान के लोग, संविधान और संस्थाएं इमरान नियाजी के गुलाम नहीं हैं और न ही वह उन्हें बंधक बना सकते हैं।'शरीफ ने इमरान के भाषण की आलोचना की और कहा कि उन्हें पाकिस्तान का हिटलर नहीं बनने दिया जाएगा। उन्होंने कहा, 'इमरान ने उस वक्त देश से झूठ बोला। अब समय आ गया है कि वह सच्चाई का सामना करें।' अविश्वास प्रस्ताव के जरिये इमरान के नेतृत्व वाली सरकार के सत्ता से बेदखल होने के बाद से सोशल मीडिया पर न्यायपालिका और सेना की कड़ी आलोचना की जा रही है। इमरान ने विभिन्न शहरों में कई सार्वजनिक रैलियां की हैं, जिसमें उन्होंने मुल्क की नयी सरकार को 'देशद्रोही और कथित तौर पर अमेरिका के इशारे पर नियुक्त भ्रष्ट सरकार' बताया है। पद से हटाए जाने के बाद से इमरान ने अपनी सरकार के खिलाफ साजिश रचने के लिए अमेरिका को दोषी ठहराया है। इस रुख का मौजूदा सरकार ने खंडन किया है। इनपुट- भाषा

Japan Open 2022: लक्ष्य सेन और साइना नेहवाल हारकर बाहर, किदांबी श्रीकांत और प्रणॉय अगले दौर में पहुंचे

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेडिस्कॉम पर बिजली उत्पादक कंपनियों का बकाया घटा, मई में 15% घटकर 82,305 करोड़ रुपये******डिस्कॉम पर बिजली उत्पादक कंपनियों का बकाया घटानई दिल्ली। बिजली वितरण कंपनियों (डिस्कॉम) पर बिजली उत्पादक कंपनियों (जेनको) का बकाया मई, 2021 में एक साल पहले की तुलना में 15.25 प्रतिशत घटकर 82,305 करोड़ रुपये रह गया। मई, 2020 तक डिस्कॉम पर बिजली वितरण कंपनियों का बकाया 97,111 करोड़ रुपये था। पेमेंट रैटिफिकेशन एंड एनालिसिस इन पावर प्रोक्यूरमेंट फॉर ब्रिंगिंग ट्रांसपैरेंसी इन इन्वॉयसिंग ऑफ जेनरेशन (प्राप्ति) पोर्टल से यह जानकारी मिली है। हालांकि डिस्कॉम पर बिजली उत्पादकों का बकाया माह-दर-माह आधार पर बढ़ा है, जो क्षेत्र में दबाव का संकेत देता है। मई में डिस्कॉम पर जेनको का बकाया अप्रैल की तुलना में बढ़ा है। अप्रैल में यह 77,203 करोड़ रुपये रहा था।बिजली उत्पादकों तथा डिस्कॉम के बीच बिजली खरीद लेनदेन में पारदर्शिता लाने के लिए प्राप्ति पोर्टल मई, 2018 में शुरू किया गया था। मई, 2021 तक 45 दिन की मियाद या ग्रेस की अवधि के बाद भी डिस्कॉम पर कुल बकाया राशि 68,762 करोड़ रुपये थी। यह एक साल पहले 84,691 करोड़ रुपये थी। पोर्टल के ताजा आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल में डिस्कॉम पर कुल बकाया 63,050 करोड़ रुपये था। बिजली उत्पादक कंपनियां डिस्कॉम को बेची गई बिजली के बिल का भुगतान करने के लिए 45 दिन का समय देती हैं। उसके बाद यह राशि पुराने बकाये में आ जाती है। ज्यादातर ऐसे मामलों में बिजली उत्पादक दंडात्मक ब्याज वसूलते हैं। बिजली उत्पादक कंपनियों को राहत के लिए केंद्र ने एक अगस्त, 2019 से भुगतान सुरक्षा प्रणाली लागू है। इस व्यवस्था के तहत डिस्कॉम को बिजली आपूर्ति पाने के लिए साख पत्र देना होता है।केंद्र सरकार ने बिजली वितरण कंपनियों को भी कुछ राहत दी है। कोविड-19 महामारी की वजह से डिस्कॉम को भुगतान में देरी के लिए दंडात्मक शुल्क को माफ कर दिया गया था। सरकार ने डिस्कॉम के लिए 90,000 करोड़ रुपये की नकदी डालने की योजना पेश की थी। इसके तहत बिजली वितरण कंपनियां पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन तथा आरईसी लिमिटेड से सस्ता कर्ज ले सकती हैं। बाद में सरकार ने इस पैकेज को बढ़ाकर 1.2 लाख करोड़ रुपये और उसके बाद 1.35 लाख करोड़ रुपये कर दिया। इस नकदी पैकेज के तहत 80,000 करोड़ रुपये का वितरण किया गया है। आंकड़ों से पता चलता है कि राजस्थान, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र, झारखंड और तमिलनाडु की बिजली वितरण कंपनियों का उत्पादक कंपनियों के बकाये में सबसे अधिक हिस्सा है।यह भी पढ़ें: यह भी पढ़ें:लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेसर्विस टैक्‍स और एक्‍साइज ड्यूटी बकाएदारों के लिए आई माफी योजना, 1 सितंबर से 31 दिसंबर तक का मिलेगा समय******Amnesty scheme for legacy service tax, excise duty cases to open on Sep 1वित्त मंत्रालय ने कहा है कि सर्विस टैक्‍स और सेंट्रल एक्‍साइज ड्यूटी के पुराने विरासती मामलों को कम करने के लिए विवाद निपटान और एक सितंबर से चार महीने के लिए अमल में आ जाएगी। मंत्रालय ने बयान में कहा कि इस योजना सबका विश्वास - विरासत विवाद निपटान योजना, 2019 का सबसे आकर्षक पहलू यह है कि इसके तहत सभी श्रेणी के मामलों में उल्लेखनीय कर राहत दी जाएगी। साथ ही इसमें ब्याज, जुर्माने की पूरी छूट उपलब्ध होगी। इन सभी मामलों में ब्याज, जुर्माने या हर्जाने की कोई और देनदारी नहीं होगी। इसमें अभियोजन से भी पूरी माफी मिलेगी। बयान में कहा गया है कि यह योजना एक सितंबर से 31 दिसंबर, 2019 तक लागू रहेगी। सर्विस टैक्‍स और सेंट्रल एक्‍साइज ड्यूटी से जुड़े पुराने मुकदमों में 3.75 लाख करोड़ रुपए से अधिक का राजस्व फंसा हुआ है।वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में इस योजना की घोषणा की थी। मंत्रालय ने कहा है कि इस योजना का मकसद मुख्य तौर पर छोटे करदाताओं को उनके लंबित पुराने कर विवादों से मुक्त करना है।अदालतों या अपील न्‍यायाधीकरण में लंबित सभी मामलों के लिए इस योजना के तहत 50 लाख रुपए तक के मामले में शुल्‍क मांग में 70 प्रतिशत की छूट दी जाएगी, यदि शुल्‍क मांग 50 लाख रुपए से अधिक है तो ऐसे मामलों में छूट 50 प्रतिशत की मिलेगी।लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेCoronavirus Cases Today: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1546 मामले सामने आए, 31 मरीजों की मौत******Highlightsभारत में एक दिन में कोरोना वायरस के 1,549 नए मामले आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 4,30,09,390 हो गयी है, जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 25,106 रह गयी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारीआंकड़ों के अनुसार, 31 और मरीजों के कोविड-19 से जान गंवाने के बाद इस महामारी से मरने वाले लोगों की संख्या 5,16,510 पर पहुंच गयी है। उपचाराधीन मरीजों की संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 0.06 प्रतिशत है जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.74 प्रतिशत है।स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 24 घंटों में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 1,134 मामलों की कमी दर्ज की गयी है। संक्रमण की दैनिक दर 0.40 प्रतिशत और साप्ताहिक संक्रमण दर 0.40 प्रतिशत दर्ज की गयी। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 का पता लगाने के लिए 3,84,499 नमूनों की जांच की गयी है। भारत में अभी तक कुल 78.30 करोड़ नमूनों की जांच हो चुकी है। आंकड़ों के मुताबिक, इस महामारी से उबरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 4,24,67,774 हो गयी है जबकि मृत्यु दर 1.20 प्रतिशत दर्ज की गयी।देशव्यापी कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक 181.24 करोड़ खुराकें दी गयी हैं।

Japan Open 2022: लक्ष्य सेन और साइना नेहवाल हारकर बाहर, किदांबी श्रीकांत और प्रणॉय अगले दौर में पहुंचे

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेचढ़ते तेल और गिरते रुपए से डिगा विदेशी निवेशकों का भरोसा, सिर्फ चार दिन में 9,300 करोड़ रुपए निकाले******FPIविदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने पिछले चार कारोबारी सत्रों में भारतीय पूंजी बाजारों से 9,300 करोड़ रुपए (1.3 अरब डॉलर) निकाले। एफपीआई की ओर से निकासी की अहम वजह कच्चे तेल की कीमतों में तेजी और रुपए की विनिमय दर में गिरावट रही। इससे पहले पिछले महीने विदेशी निवेशकों ने शेयर और ऋण बाजार से 21,000 करोड़ से अधिक की निकासी की। इससे पहले जुलाई-अगस्त के दौरान निवेशकों ने शुद्ध 7,400 करोड़ रुपए का निवेश किया था।डिपॉजिटरी आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एपीआई) ने एक से पांच अक्टूबर के दौरान शेयर बाजार से 7,094 करोड़ रुपए की शुद्ध निकासी की और ऋण बाजार से 2,261 करोड़ रुपए रुपए निकाले। इस प्रकार, निवेशकों ने कुल 9,355 करोड़ रुपए की निकासी की। बजाज कैपिटल के उपाध्यक्ष और निवेश विश्लेषक प्रमुख अलोक अग्रवाल ने कहा, "कच्चे तेल की कीमतों और अमेरिकी ब्रांड के प्रतिफल में वृद्धि और वैश्विक स्तर पर डॉलर की आपूर्ति की तंग स्थिति एफपीआई निकासी की प्रमुख वजह रही। इसके चलते मुद्रा बाजार, बॉन्ड और शेयर बाजार में भारी उतार-चढ़ाव देखा गया।"अग्रवाल ने कहा, "हालांकि, यह बात ध्यान रखने वाली है कि सभी उभरते हुये बाजारों में इसी तरह की स्थिति है। यह सिर्फ भारत तक सीमित नहीं है। वास्तव में भारत पर इसका ज्यादा असर पड़ा क्योंकि वह अपने पेट्रोलियम जरूरतों के लिए आयात पर निर्भर है। आईएलएंडएफएस द्वारा ऋण चूक ने गिरावट पर और दबाव डाला।लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेIPL 2022 : आकाश चोपड़ा ने केएल राहुल के इस फैसले पर उठाए सवाल, हरभजन सिंह ने दिया जवाब******Highlightsआईपीएल 2022 में आज पंजाब किंग्स और लखनऊ सुपर जाइंट्स के बीच मैच खेला जा रहा है। मैच में पंजाब किंग्स के कप्तान मयंक अग्रवाल ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। जब मयंक अग्रवाल ने टॉस जीता तो उनके चेहरे पर काफी खुशी नजर आ रही थी। आज के मैच में पंजाब किंग्स की प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया गया, लेकिन लखनऊ सुपर जाइंट्स में एक बदलाव हआ। मनीष पांडे की जगह आवेश खान को शामिल किया गया। ये मैच जब शुरू हुआ तो कमेंट्री कर रहे पूर्व सलामी बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने लखनऊ सुपर जाइंट्स के कप्तान केएल राहुल के एक फैसले पर सवाल उठा दिए।आज के मैच में लखनऊ सुपर जाइंट्स ने जो एक बदलाव किया, उसमें बल्लेबाज को बाहर कर गेंदबाज को शामिल किया गया। हालांकि अक्सर देखने में आता है कि बल्लेबाज की जगह बल्लेबाज और गेंदबाज की जगह गेंदबाज रिप्लेस किया जाता है। लेकिन आज एलएसजी ने बड़ा फैसला हुआ। जब मैच शुरू हुआ तो आकाश चोपड़ा ने कमेंट्री करते हुए कहा कि लखनऊ सुपर जाइंट्स की टीम आज नौ गेंदबाजों के साथ खेलने के लिए उतरी है, लेकिन ये पुणे की पिच बल्लेबाजों के लिए ज्यादा मुफीद है। इस पर हरभजन सिंह ने जवाब दिया। हरभजन सिंह ने कहा कि हो सकता है राहुल की सोच ये हो कि अगर किसी गेंदबाज की ज्यादा पिटाई हो जाए और उसका दिन न हो तो किसी और गेंदबाज को लगाकर रनों की रफ्तार पर लगाम लगाई जा सके। हालांकि अभी तो मैच चल रहा है, देखना होगा कि लोकेश राहुल का ये फैसला सटीक बैठता है कि नहीं।दीपक हुड्डा, मार्कस स्टोइनिस, आयुष बडोनी, क्रुणाल पांड्या, जेसन होल्डर, दुष्मंथा चमीरा, रवि बिश्नोई, अवेश खान, मोहसिन खान क्विंटन डी कॉक (विकेट कीपर), केएल राहुल (कप्तान), दीपक हुड्डा, मार्कस स्टोइनिस, आयुष बडोनी, क्रुणाल पांड्या, जेसन होल्डर, दुष्मंथा चमीरा, रवि बिश्नोई, अवेश खान, मोहसिन खान मयंक अग्रवाल (कप्तान), शिखर धवन, भानुका राजपक्षे, जॉनी बेयरस्टो, लियाम लिविंगस्टोन, जितेश शर्मा (विकेट कीपर), ऋषि धवन, कगिसो रबाडा, राहुल चाहर, संदीप शर्मा, अर्शदीप सिंह

Japan Open 2022: लक्ष्य सेन और साइना नेहवाल हारकर बाहर, किदांबी श्रीकांत और प्रणॉय अगले दौर में पहुंचे

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेNABARD Prelims Result 2019: नाबार्ड प्रिलिम्स 2019 केे परिणाम जल्द होंगे जारी, यहां से करें चेक******नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट नाबार्ड प्रीलिम्स 2019 के ग्रेड ए और ग्रेड बी अधिकारी प्रारंभिक परीक्षा 2019 के परिणाम जारी किए जाएंगे। ये परिणाम आधिकारिक वेबसाइट पर जारी होने हैं। जो उम्मीदवार परीक्षा के लिए उपस्थित हुए हैं वे अपना परिणाम नाबार्ड की आधिकारिक साइट से देख सकते हैं। नाबार्ड प्रारंभिक लिखित परीक्षा 15 और 16 जून 2019 को आयोजित की गई थी. अब उम्मीदवारों को परिणाम का इंतजार है। हालांकि परिणाम की तारीखों के लिए अभी कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।आधिकारिक सूचना के अनुसार, चयन प्रक्रिया में प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार शामिल हैं। प्रारंभिक परीक्षा ऑनलाइन मोड के माध्यम से आयोजित की गई थी। वस्तुनिष्ठ प्रकार की परीक्षा में 200 अंक के प्रश्न पूछे गए थे और उम्मीदवारों को पेपर पूरा करने के लिए 120 मिनट दिए गए थे. उम्मीदवार जो परीक्षा में शामिल हुए और अपने परिणाम का इंतजार कर रहे हैं वो एक बार परिणाम आधिकारिक वेबसाइट पर जारी होने के बाद नीचे दी गई सरल प्रक्रिया की मदद से अपने परिणाम की जांच ऑनलाइन जाकर कर सकते हैं।नाबार्ड ग्रेड ए और ग्रेड बी में अधिकारियों के पद के लिए 87 रिक्तियों की भर्ती करेगा। प्रारंभिक परीक्षा में पर्याप्त रूप से अर्हता प्राप्त करने और रैंक करने वाले उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा। मुख्य परीक्षा की तारीखों का खुलासा जल्द ही नाबार्ड द्वारा किया जाएगा। मुख्य परीक्षा एक वर्णनात्मक प्रकार का पेपर होगा। उम्मीदवारों को विवरण के लिए नाबार्ड की आधिकारिक साइट की जांच करते रहना आवश्यक है।

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेKedarnath Box Office Collection Day 3: सारा-सुशांत की फिल्म 'केदारनाथ' ने 3 दिन मे की 27.75 करोड़ की कमाई******: सारा अली खान और सुशांत सिंह राजपूतकी फिल्म 'केदारनाथ' बॉक्स ऑफिस पर शानदारकमाई कर रही है। फिल्म ने पहले दिन 7.25 करोड़ अच्छीओपनिंग की थी। फिल्म ने 3 दिन में 27.75 करोड़ की कमाई करने में कामयाब हो गई है।दूसरे दिन फिल्म ने 9 .75 करोड़ रुपये की कमाई के साथ बढ़ोतरी देखी गई। रिलीज के तीसरे दिन फिल्म ने 10.75 रुपये की कमाई करने में कामयाब रही, इसके साथ ही फिल्म का कुल कलेक्शन 27.75 करोड़ हो गया।ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने ट्वीट करकेफिल्म के कलेक्शन की जानकारीदी है। तरण लिखते हैं- फिल्म ने अच्छा वीकेंडकलेक्शन किया है। दूसरे दिन फिल्म की कमाईने 34.48 फीसदीज्यादा कमाईकी थी, वहीं तीसरे दिन भी फिल्म ने दूसरे दिन के मुकाबले10.26 फीसदी की ग्रोथ की थी।सारा अली खान का अभिनय केदारनाथ में मुख्य आकर्षण का केंद्र बना हुआ है जो सिनेमाघरों में दर्शकों को अपनी तरफ़ खींचने का एक प्रमुख कारण भी है। पवित्र स्थान प्रकोप से बच नहीं पाता और बाढ़ में डूब जाता है जिसके बाद एक पिथू और एक तीर्थयात्री की प्रेम कहानी प्रकृति के क्रोध का सामना करती है, हालांकि केदारनाथ के ट्रेलर में 'प्यार' सब चीज़ को नजरअंदाज कर सब पर हावी होते हुए नज़र आ रहा है।केदारनाथ पृष्ठभूमि पर आधारित फ़िल्म केदारनाथ एक शाश्वत प्रेम कहानी है, यह प्यार और धर्म, जुनून और आध्यात्मिकता का एक शक्तिशाली संयोजन है। जून 2013 में शहर में आई इस बाढ़ में एक हजार से अधिक लोगों ने अपनी जान गवा दी थी और इसी दमदार बैकड्रॉप पर यह फ़िल्म आधारित है।केदारनाथ के साथ सारा अली खान बॉलीवुड में अपनी शुरुआत कर रही है, वही रोनी स्क्रूवाला और अभिषेक कपूर के साथ सुशांत सिंह राजपूत 2013 में आई फ़िल्म काई पो चे के बाद दूसरी बार एक साथ सहयोग कर रहे है।रोनी स्क्रूवाला की आरएसवीपी और अभिषेक कपूर की गाय इन द स्काई पिक्चर्स द्वारा निर्मित, केदारनाथ अभिषेक कपूर द्वारा निर्देशित है और 7 दिसंबर 2018 को देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज हुई है। हालांकि उत्तराखंड में फिल्म पर बैन लग गया, जिसकी वजह से वहांयह फिल्म नहीं रिलीज हो पाई है।लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेटी-20 विश्व कप क्वालीफायर लिए श्रीलंकाई टीम के मेंटॉर बने महेला जयवर्धने, अंडर-19 टीम में भी मिली बड़ी जिम्मेदारी******श्रीलंका ने अपने पूर्व दिग्गज बल्लेबाज महेला जयवर्धने को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और ओमान में होने वाले टी20 विश्व कप के पहले दौर के लिए अपनी राष्ट्रीय टीम का सलाहकार नियुक्त किया है। श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) ने यह फैसला मुंबई इंडियंस के साथ जयवर्धने के साथ सफलता के शानदार रिकॉर्ड और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान दुनिया भर के खिलाड़ियों को परखने को ध्यान में रखते हुए लिया गया है।आईपीएल के मौजूदा सत्र के दूसरे चरण का आयोजन यूएई में हो रहा है जहां टी20 विश्व कप खेला जाएगा। जयवर्धने सीनियर टीम के साथ अपने कार्यकाल के बाद वेस्टइंडीज में खेले जाने वाले आईसीसी अंडर -19 विश्व कप के मद्देनजर देश की अंडर -19 टीम के लिए सलाहकार और संरक्षक के रूप में भी काम करेंगे।एससीएल ने शुक्रवार को कहा कि राष्ट्रीय टीम के साथ उनका कार्यकाल 16-23 अक्टूबर के बीच सात दिनों का होगा जबकि अंडर 19 टीम के साथ उनकी भूमिका पांच महीने की होगी। वह आईपीएल के समापन के बाद राष्ट्रीय टीम से जुड़ेंगे।उनकी नियुक्ति पर श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के सीईओ (मुख्य कार्यकारी अधिकारी) एशले डी सिल्वा ने कहा, ‘‘हम महेला को उनकी नयी भूमिकाओं में स्वागत करते हुए बहुत खुश हैं क्योंकि श्रीलंका टीम और U19 टीम के साथ उनकी उपस्थिति खिलाड़ियों की बहुत मदद करने वाली है।’’उन्होंने कहा, ‘‘ उनके क्रिकेट के ज्ञान का लोहा माना जाता है। उन्होंने खिलाड़ी, फिर एक कप्तान के रूप में और अब विभिन्न टीमों के लिए एक कोच के रूप में शानदार सफलता हासिल की है।’’जयवर्धने ने श्रीलंका के लिए 149 टेस्ट 448 एकदिवसीय और 55 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेले है।

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेहर दुल्हन को 10 ग्राम सोना देगी असम सरकार****** सरकार ने बुधवार को घोषणा की कि वह हर वयस्क दुल्हन, जिसने कम से कम 10वीं की पढ़ाई की है और अपनी शादी को पंजीकृत कराया है, उसे 10 ग्राम सोना उपहार स्वरूप भेंट करेगी। राज्य के वित्त मंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने कहा कि ‘अरुंधति स्वर्ण योजना’ का लाभ पाने के लिए कुछ अन्य शर्तें भी हैं। योजना से सरकारी खजाने पर सालाना करीब 800 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। यह योजना अगले साल एक जनवरी से शुरू होगी।सरमा ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘हम लोग विवाह पंजीकृत पाए जाने पर प्रत्येक कन्या को उसके विवाह के दौरान एक तोला (10 ग्राम) सोना देंगे। हमारा फोकस सोना देकर वोट बटोरना नहीं है बल्कि विवाह पंजीकृत कराना है।’’मंत्री ने कहा कि असम में हर साल करीब तीन लाख शादियां होती हैं लेकिन सिर्फ 50,000-60,000 पंजीकृत होती हैं। उन्होंने कहा कि योजना लाभ लेने के लिए दुलहन के परिवार की वार्षिक आय पांच लाख रुपये से कम होनी चाहिए।लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेInternational Emmy Awards 2021: 'आर्या', वीर दास, नवाजुद्दीन सिद्दीकी अवॉर्ड से चूके******Highlightsनेटफ्लिक्स की फिल्म “सीरियस मैन” के लिए इंटरनेशनल एमी अवार्ड के लिये नामित नवाजुद्दीन सिद्दीकी अवॉर्ड हासिल करने में नाकाम रहे हैं। नवाजुद्दीन ने फिल्म ‘सीरियस मैन’ में अय्यन मणि की भूमिका निभाई है। ब्रिटिश अभिनेता डेविड टेनेंट (डेस) ने ये अवॉर्ड अपने नाम किया है। इजराइल के अभिनेता रॉय निक (नॉर्मली) और कोलंबिया के क्रिश्चियन तप्पन (एल रोबो डेल सिग्लो या द ग्रेट हीस्ट) भी इस अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट थे। सुधीर मिश्रा द्वारा निर्देशित, "सीरियस मेन" लेखक मनु जोसेफ के 2010 के इसी नाम के उपन्यास का रूपांतरण है।एक्टर और कॉमेडियन वीर दास की नेटफ्लिक्स कॉमेडी स्पेशल “वीर दास: फॉर इंडिया” को लोकप्रिय फ्रांसीसी शो “कॉल माई एजेंट”, ब्रिटेन के “मदरलैंड: क्रिसमस स्पेशल” और कोलंबिया की सीरीज “प्रोमेसास डी कैम्पाना” के साथ कॉमेडी श्रेणी में नामांकित किया गया था। नेटफ्लिक्स के साथ दास का यह तीसरा स्पेशल शो जनवरी 2020 में रिलीज़ हुआ था। वीर दास ये अवॉर्ड नहीं जीत सके मगर उन्हें मेडल जरूर मिला जिसकी तस्वीर उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट की है।सुष्मिता सेन अभिनीत सीरीज 'आर्या' भी 2021 के अंतरराष्ट्रीय एमी पुरस्कारों में भारत के लिए नामांकन हासिल किया था। हालांकि इस सीरीज को भी एमी अवॉर्ड नहीं मिला। गौरतलब है कि फिल्म निर्माता रिची मेहता की "दिल्ली क्राइम" ने नवंबर 2020 में सर्वश्रेष्ठ ड्रामा सीरीज का पुरस्कार जीता था।न्यूयॉर्क शहर में 22 नवंबर को आयोजित एक समारोह के दौरान 2021 के अंतरराष्ट्रीय एमी पुरस्कारों के विजेताओं की घोषणा की गई।

लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचे66th National Film Awards 2019: आयुष्मान खुराना को 'अंधाधुन' और विक्की कौशल को 'उरी' के लिए मिला बेस्ट एक्टर का नेशनल अवॉर्ड******इस साल अगस्त में के विजेताओं की घोषणा की गई थी। सोमवार को दिल्ली में इन्हें खिताब से नवाजा गया। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इन विनर्स को विज्ञान भवन में अवॉर्ड देकर सम्मानित किया।बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया।हालांकि, खराब सेहत के चलते वे सेरेमनी में हिस्सा नहीं ले सकें। वहीं, आयुष्मान खुराना को फिल्म 'अंधाधुन' और विक्की कौशल को 'उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक' में दमदार परफॉर्मेंस के लिए बेस्ट एक्टर, साउथ एक्ट्रेस कीर्ति सुरेश को 'महानती' (Mahanati) के लिए बेस्ट एक्ट्रेस और सुरेखा सीकरी को 'बधाई हो' के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड दिया गया।जानकारी के अनुसार, राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में फिल्म की कैटेगरी में 31 और नॉन फीचर फिल्म की कैटेगरी में 23 अवॉर्ड दिए जाते हैं। हर साल विभिन्न भारतीय भाषाओं की फिल्मों के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार घोषित किए जाते हैं। इसके तहत बेस्ट फिल्म, बेस्ट डायरेक्शन, बेस्ट प्रोडक्शन, सामाजिक संदेश, गायक, गीत और गीतकार की श्रेणियों में नामांकन किए जाते हैं।लक्ष्यसेनऔरसाइनानेहवालहारकरबाहरकिदांबीश्रीकांतऔरप्रणॉयअगलेदौरमेंपहुंचेYear Ender 2018: ‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान’ से ‘फन्ने खां’ तक इन बड़ी बजट की फिल्मों को हुआ घाटा******साल 2018 बॉलीवुड में बड़ी बजट की फिल्मों के लिए अच्छा नहीं रहा। छोटी बजट की फिल्में जैसे 'अंधाधुन', 'बधाई हो', 'राजी' ने तो बॉक्स-ऑफिस पर कमाल कर दिया, लेकिन बड़ी बजट की फिल्में जैसे 'ठग्स ऑफ हिंदोस्तान', 'रेस 3', 'फन्ने खां' मुंह के बल गिर पड़ीं। फिल्मकारों को अब समझ जाना चाहिए कि दर्शकों को अच्छी कहानी से मतलब है, उस फिल्म पर लगे पैसों से नहीं। बिना अच्छे कंटेंट के फिल्मों को लोग नकार देंगे, भले ही उसमें आमिर खान, अमिताभ बच्चन, सलमान खान जैसे सुपरस्टार ही क्यों न हों।जानते हैं साल 2018 की उन 5 बड़ी बजट की फिल्मों के बारे में, जिन्हें लोगों ने पसंद नहीं किया।आमिर खान, अमिताभ बच्चन, कटरीना कैफ, फातिमा सना शेख जैसे बड़े नामों से सजी इस फिल्म को लेकर लोगों को बहुत आशाएं थीं, लेकिन इस फिल्म ने दर्शकों का दिल तोड़ दिया। फिल्म 300 करोड़ रूपये के बजट में बनी थी, लेकिन इसने बॉक्स-ऑफिस पर सिर्फ 250 करोड़ रूपये की कमाई की। फिल्म की असफलता के लिए आमिर ने लोगों से माफी भी मांगी थी।'रेस' सीरीज की पहली दो फिल्मों को लोगों ने पसंद किया था। 'रेस 3' में सलमान खान के होने से लोगों की एक्साइटमेंट बहुत बढ़ गई थी, लेकिन फिल्म देखने के बाद उनकी एक्साइटमेंट गुस्से में बदल गई। बिना किसी कहानी के इस फिल्म को किसी ने पसंद नहीं किया। फिल्म ने बॉक्स-ऑफिस पर भले ही अच्छा बिजनेस कर लिया हो, लेकिन दर्शकों और क्रिटिक्स को यह फिल्म बिल्कुल पसंद नहीं आई थी। सलमान के साथ इस फिल्म में अनिल कपूर, बॉबी देओल, साकिब सलीम, जैकलीन पर्नांडिस, डेजी शाह थीं।अनिल कपूर और ऐश्वर्या राय बच्चन काफी समय बाद इस फिल्म में साथ नजर आने वाले थे और लोगों को उत्साह को बढ़ाने के लिए इससे बड़ी कोई वजह चाहिए नहीं थी, लेकिन इस फिल्म ने भी दर्शकों को निराश किया। फिल्म 50 करोड़ रूपये भी नहीं कमा पाई थी।साल 2007 में अक्षय कुमार और कटरीना कैफ स्टारर 'नमस्ते लंदन' आई थी, जिसे लोगों ने बहुत पसंद किया था। साल 2018 में अर्जुन कपूर और परिणीति चोपड़ा की जोड़ी 'नमस्ते इंग्लैंड' लेकर आई, लेकिन वह 'नमस्ते लंदन' जैसा जादू चलाने में सफल नहीं हो पाई।शाहिद कपूर, श्रद्धा कपूर और दिव्येंदु शर्मा स्टारर 'बत्ती गुल मीटर चालू' पहले ही दिन फ्यूज हो गई थी। फिल्म ने बॉक्स-ऑफिस पर 60 करोड़ रूपये की कमाई की। फिल्म के विषय से लोगों को बहुत उम्मीदें थीं, लेकिन श्री नारायण सिंह लोगों की उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पाए।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:25
उद्धरण 1 इमारत
7 साल में पीएम जनधन योजना खातों की संख्‍या बढ़कर हुई 44 करोड़, संसाधनों का हो रहा है सही उपयोग******PM Jan Dhan Yojna accounts swell to 44 crore till Oct this yr प्रधानमंत्री जन धन योजना (PMJDY) के तहत अक्टूबर 2021 तक सात साल में बैंक खातों की संख्या बढ़कर 44 करोड़ हो गई है। वित्त मंत्रालय के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त, 2014 को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में इस योजना की घोषणा की थी। वित्तीय समावेश को बढ़ावा देने के लिए 28 अगस्त, 2014 को इसे शुरू किया गया था। यह राष्ट्रीय मिशन यह सुनिश्चित करने के लिए शुरू किया गया था कि लोगों के पास बैंक, पैसा भेजने की सुविधा, ऋण, बीमा, पेंशन जैसी वित्तीय सेवाओं तक आसानी से पहुंच हो। आर्थिक मामलों के विभाग की आर्थिक सलाहकार मनीषा सेनशर्मा ने उद्योग मंडल एसोचैम के एक कार्यक्रम में कहा कि को उसकी शुरुआत के बाद से अपार सफलता मिली है। पीएम जन धन योजना को लागू करने के लिए एक डिजिटल पाइपलाइन को बिछाया गयाहै। उन्होंने कहा कि अक्टूबर 2021 तक, लगभग 44 करोड़ लाभार्थियों को बैंकों से जोड़ा गया है और इस योजना के माध्यम से सरकार आबादी के वंचित वर्ग से उनके बैंक खातों में पैसे जमा कराने में सफल रही है।उन्‍होंने कहा कि जेएएम जो बैंक खातों को आधार और मोबाइल नंबर के साथ जोड़ती है, ने भी सामाजिक क्षेत्र के कार्यक्रमों को लक्षित बनाने और लोगों के सही वर्ग तक मदद पहुंचाने में मदद की है।सेनशर्मा ने कहा कि पहले सरकार द्वारा तमाम लाभकारी योजनाओं का परिचालन किया जा रहा था लेकिन तब इस बात की आशंका बहुत थी कि ये योजनाएं सही लोगों तक पहुंच रहीं या नहीं। लेकिन अब टेक्‍नोलॉजी के उपयोग के माध्‍यम से लाभ अब केवल पात्र और चिन्हित किए गए लाभार्थी तक पहुंच रहे हैं इसलिए इससे संसाधनों की बर्बादी और लीकेज जैसी कोई परेशानी नहीं है।
2022-10-01 05:53
उद्धरण 2 इमारत
World Cup 2019: मैनचेस्टर में भारत-पाकिस्तान मैच पर खतरे के बादल, जानिए क्या कहती है मौसम रिपोर्ट******नई दिल्ली| ब्रिटेन के औद्योगिक शहर मैनचेस्टर में रविवार को आसमान में बादलों का डेरा है। ऐसे में भारत और पाकिस्तान की क्रिकेट टीमों के बीच आज यहां के ओल्ड ट्रेफर्ड स्टेडियम में होने वाले आईसीसी विश्व कप-2019 के महामुकाबले में बारिश के धमकने की पूरी-पूरी आशंका है।मैच भारतीय समयानुसार 3 बजे और स्थानीय समयानुसार 10.30 बजे शुरू होना है। ग्लोबल वेदर वेबसाइट 'टाइम एंड डेट डाट काम' के मुताबिक मैनचेस्टर के समयानुसार सुबह 10 बजे तक तो बारिश की कोई सम्भावना नहीं है लेकिन दोपहर में बारिश हो सकती है।वेबसाइट लिखता है कि सुबह के समय भी आसमान पर बादलों का डेरा रहेगा लेकिन बारिश नहीं होगी। 10 बजे के बाद भी बादल ज्यों के त्यों बने रहेंगे लेकिन इसके बाद शाम तक रुक-रुक कर बारिश हो सकती है।बारिश की आशंका मुख्यतया दोपहर दो बजे के बाद जताई गई है। दोपहर में 1.6 मिलीमीटर बारिश हो सकती है और यहां का अधिकतम तापमान 15 से 18 डिग्री सेग्रे तक बना रहेगा।मौसम की भविष्यवाणी पर यकीन करें तो मैच समय से शुरू होगा लेकिन बाद में इसमें व्यवधान पड़ने की पूरी आशंका है। मैच के रद्द होने की सम्भावना कम है लेकिन इतना जरूर है कि इसमें डर्कवर्थ लेविस नियम का प्रवेश जरूर होगा।इधर, मौसम पर आधारित एक और वेबसाइट 'अक्कुवेदर डॉट कॉम' का अनुमान है की सुबह दस बजे के करीब मैंचेस्टर में बारिश होगी। इससे टॉस में देरी हो सकती है। टॉस दस बजे ही होना है। इसके बाद हालांकि, दोपहर दो बजे तक मौसम साफ रहेगा लेकिन उसके बाद रुक-रुक कर बारिश हो सकती है।भारत और पाकिस्तान की टीमें विश्व कप इतिहास में सातवीं बार आमने-सामने है। इससे पहले हर बार भारत जीता है। इस मैच को लेकर लोगों में जबरदस्त उस्ताह है। 26 हजार की क्षमता वाले इस स्टेडियम के खचाखच भरे होने की सम्भावना है। इस मैच के लिए टिकट विंडो खुलने के महज कुछ घंटों में सारे टिकट बिक गए थे।भारत ने दो बार-1983 और 2011 में विश्व कप जीता है जबकि पाकिस्तान ने 1992 में एक बार यह खिताब जीता था। 2011 में पाकिस्तान को ही हराते हुए भारत ने विश्व कप के फाइनल में प्रवेश किया था और फिर श्रीलंका को हराकर खिताब जीता था।
2022-10-01 04:21
उद्धरण 3 इमारत
रोहित शेट्टी ने पूरी की 'खतरों के खिलाड़ी 11' की शूटिंग, कोरोना के डर में साहस दिखाने के लिए पूरी टीम का जताया आभार******फिल्मकार ने ने अपने रिएलटी-शो ‘खतरों के खिलाड़ी’ के 11वें सीजन की शूटिंग पूरी कर ली और कोविड-19 के कहर के बीच शूटिंग करने का ‘‘साहस’’ दिखाने के लिए शो से जुड़े सभी सदस्यों का शुक्रिया अदा किया है। ‘कलर्स’ चैनल के इस शो की शूटिंग दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन शहर में की गई है। रोहित इस शो के प्रस्तोता हैं।उन्होंने सोमवार को इंस्टाग्राम पर बताया कि शो की शूटिंग 42 दिन में पूरी की गई। शेट्टी ने लिखा, ‘‘ यह सीजन बेहद खास था। जब पूरी दुनिया डर के साये में थी, तब शो से जुड़े सभी लोगों शूटिंग के काम से जुड़े सदस्य, कलर्स के दल, स्टंट टीम और प्रतिभागियों ने बहुत साहस एवं प्रतिबद्धता दिखाई, जिस वजह से ही तमाम कठिनाइयों के बावजूद यह सीजन मुमकिन हो पाया। मैं सच में खुद को सौभाग्यशाली महसूस करता हूं और भगवान का शुक्रिया अदा करता हूं बिना किसी परेशानी के इस सीजन की शूटिंग पूरी हो गई।’’इस सीजन में राहुल वैद्य, श्वेता तिवारी, अर्जुन बिजलानी, अभिनव शुक्ला, दिव्यांका त्रिपाठी, आस्था गिल, सौरभ राज जैन, महक चहल, अनुष्का सेन, सना मकबुल, निक्की तंबोली, विशाल आदित्य सिंह और वरुण सूद नजर आएंगे।
वापसी