नई पोस्ट करें

मेरी चमड़ी मोटी हो चुकी है, कोई एंटी नेशनल कहे तो फर्क नहीं पड़ता: ओवैसी

2022-10-01 07:11:47 316

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीUP Election 2022: पहले चरण की वोटिंग जारी, सुबह 11 बजे तक 20% से ​अधिक मतदान******Highlightsउत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की आज वोटिंग हो रही है। सुबह 7 बजे से शुरू हुआ मतदान शाम 6 बजे तक चलेगा। इस दौरान सुबह 11 बजे तक उत्तर प्रदेश में 20.03% मतदान हो चुका है। जिले वार प्रतिशत देखा जाए तो सुबह 11 बजे तक सबसे अधिक शामली में 22.84% हुआ है। वहीं बागपत में 22.77%, मुजफ्फरनगर में 22.56%, हापुड़ में 22.08% मतदान हुआ है। इसके बाद बुलंदशहर में 21.62%, आगरा में 20.42%, मथुरा में 20.39%, मेरठ में 18.92%, गौतम बुद्ध नगर में 18.43%, अलीगढ़ में 17.91% और गाजियाबाद में 17.26% मतदान सुबह 11 बजे तक हो चुका है।दरअसल, पीएम नरेंद्र मोदी की अपील—पहले मतदान फिर जलपान, इसका असर सुबह से ही कई मतदान केंद्रों पर कतार के रूप में देखा गया। पहले चरण के लिए 623 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला ईवीएम में बटन दबाकर किया जा रहा है। इससे पहले सुबह 9 बजे तक यूपी में 8 फीसदी मतदान हो चुका था। हर उम्र और वर्ग के लोग सुबह से वोट डाल रहे हैं। खासतौर पर उन युवाओं में खासा उत्साह देखा गया, जो पहली बार वोट डाल रहे हैं।पश्चिम यूपी की जिन विधानसभा सीटों पर मतदान हो रहा है, यहां हर पार्टी के प्रत्याशियों और उनके स्टार प्रचारकों ने अपनी जनसंवादों में और डोर—टू—डोर संपर्क के दौरान पूरी जी-जान झोंक दी थी। पीएम मोदी ने इन सीटों पर वर्चुअल रैली के माध्यम से समाजवादी पार्टी सहित विपक्ष पर जमकर प्रहार किया और बीजेपी की डबल इंजन की सरकार के विकास कार्यों को मुखरता से व्यक्त किया था। इसी बीच पीएम मोदी, होम मिनिस्टर अमित शाह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित कई नेताओं ने अधिक से अधिक संख्या में लोगों से वोट डालने की अपील की है।पहले चरण में 11 जिलों की 58 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। 11 जिलों शामली, हापुड़, गौतमबुद्ध नगर, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा तथा आगरा जिलों की विधानसभा सीटों पर मतदान जारी है। पहले चरण की वोटिंग के लिए पुलिस-प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं।

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीHigh Blood Sugar Control : सहजन की पत्त‍ियों से डायबिटीज करें कंट्रोल, जानिए कैसे करें सेवन******: आज के समय में शायद ही ऐसा कोई घर हो जहां बिमारी ने अपना कब्ज़ा न किया हो। छोटी हो या फिर बड़ी कोई न कोई बीमारी हर घर में देखने को मिल ही जाती है। ऐसे में अब डायबिटीज भी बेहद आम बीमारी होती जा रही हैं। हालांकि इसे हल्के में ज़रा भी ना लें। आज के दौर में हर दूसरा शख्स इस बीमारी से गुजर रहा है। इसका सबसे बड़ा रीज़न है हमारा बिगड़ता हुआ लाइफस्टाइल। ना ठीक से खाना, नाही सही भोजन का सेवन करना, ये सभी चीज़ें हमें बीमारियों की ओर ले जा रही हैं।कहते हैं डायबिटीज को कम करने के लिए जीतने घरेलू उपाय किए जाए उतना ही अच्छा रहता है। आज हम आपको बताएं कि सहजन की पत्त‍ियों से डायबिटीज कैसे कंट्रोल की जा सकती है? इसके क्या-क्या फायदे हैं और इसका सेवन किस तरह से करना चाहिए।सहजन की पत्तियों को आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर माना गया है। इसका इस्तेमाल लंबे वक्त से दवाइयों में भी किया जा रहा है। सहजन की पत्तियों में 40 से ज़्यादा एंटीऑक्‍सीडेंट पाए जाते हैं। इनका सेवन करने से एस्‍कॉर्बिक एसिड, फोलिक और फेनोलिक मिलते हैं । सहजन की पत्तियों में अधिक मात्रा में पोटैशियम भी पाया जाता है।सहजन की पत्तियां डायबिटीज कंट्रोल करने में बहुत फायदेमंद है। ड्रमस्ट‍िक की पत्त‍ियों को पीसकर उसे अच्छे से हाथों से निचोड़ ले और सुबह खाली पेट इसका सेवन करें। इससे डायबिटीज में काफी फायदा मिलेगा।सहजन की पत्तियों को ज्यादातर सुखाकर इस्तेमाल में लिया जाता है। माना जाता है कि इन्हें धूप में सुखाकर और इसका पाउडर बनाकर इस्तेमाल करने से ये कई बीमारियों में फायदेमंद होता है। सहजन की पत्तियों के पाउडर को सुबह-सुबह खाली पेट एक गिलास में मिलाकर पीने से हार्ट से जुड़ी समस्याएं भी कम होती हैं।मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीJEE Main result 2021: जेईई मेन सेशन 3 का रिजल्ट जारी, ऐसे करें चेक******नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने शुक्रवार को संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन 2021 (JEE-Mains 2021) सत्र 3 का परिणाम जारी कर दिया है। JEE Mains Result July 2021 में 100 परसेंटाइल पाने वालों की संख्या 17 है। इनमें से आंध्र प्रदेश से 100 परसेंटाइल पाने वाले 4, बिहार से 1, राजस्थान से 1, दिल्ली से 2, हरियाणा से 2, कर्नाटक से 1, तेलंगाना से 4 और उत्तर प्रदेश से 2 कैंडिडेट्स ने 100 परसेंटाइल स्कोर किया है।इससे पहले एनटीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि जेईई मेन का परिणाम 6 अगस्त को शाम तक घोषित कर दिए जाएंगे।बता दें कि 20, 22, 25 और 27 जुलाई को आयोजित परीक्षा के लिए 7 लाख (7,09,519) से अधिक अभ्यर्थी उपस्थित हुए थे। इस परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट- jeemain.nta.nic.in पर जाकर अपना परिणाम देख सकते हैं।JEE Main 2021 AIR और JEE Main 2021 के लिए अंतिम कट-ऑफ NTA स्कोर पर आधारित होगा। जेईई मेन 2021 की कट-ऑफ चौथे सत्र के बाद जारी की जाएगी। इस बार रिजल्ट के साथ JEE Main 2021 rank list जारी नहीं की जाएगी। यह लिस्ट चौथे और फाइनल सेशन के बाद जारी होगी।

मेरी चमड़ी मोटी हो चुकी है, कोई एंटी नेशनल कहे तो फर्क नहीं पड़ता: ओवैसी

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीपाकिस्तान में कोई संविधान नहीं, लागू हो शरिया... लोकल तालिबान 'TTP' ने पड़ोसी मुल्क को दी खुली धमकी, नहीं काम आएगा 'इस्लाम' पर रोना******Highlightsपाकिस्तान की सेना को खून के आंसू रुकाने वाले तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) यानी देश के लोकल तालिबान ने खुली धमकी दी है। टीटीपी ने कहा है कि पाकिस्तान की सरकार और सेना शरिया कानून में बताए गए रास्ते पर नहीं चल रहे हैं। पाकिस्तान की सेना, न्यायपालिका और राजनेताओं ने शरिया कानून के बजाय संविधान को लागू किया है। बता दें पाकिस्तान के वरिष्ठ मौलवियों का एक प्रतिनिधिमंडल प्रतिबंधित संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत करने के लिए अफगानिस्तान पहुंचा हुआ है। पाकिस्तान के वरिष्ठ मौलवियों का यह प्रतिनिधिमंडल शांति समझौते को लेकर टीटीपी के प्रतिनिधियों से बातचीत करेगा।प्रसिद्ध इस्लामी विद्वान मुफ्ती तकी उस्मानी के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल ने अफगानिस्तान में सत्तारूढ़ तालिबान नेतृत्व से मुलाकात की है। प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने अफगानिस्तान के तालिबान नेताओं अनवारुल हक, मुख्तारुद दीन शाह करबोघा शरीफ, हनीफ झालंदरी, शेख इदरीस और मुफ्ती गुलाम उर रहमान से मुलाकात की है। पाकिस्तानी सरकार और टीटीपी के बीच पिछले साल शुरू हुई शांति प्रक्रिया को बढ़ावा देने के लिए यह प्रतिनिधिमंडल अफगान सरकार के केंद्रीय नेतृत्व से भी मिलेगा। पाकिस्तान की सेना भी इस शांति वार्ता का समर्थन कर रही है। हालांकि इन मौलवियों को भी यहां निराशा हाथ लगी है। 13 मौलवियों की टीम ने टीटीपी प्रमुख मुफ्ती नूर वली और अन्य तालिबानी नेताओं से मुलाकात की है।इन मौलवियों ने टीटीपी से अनुरोध किया है कि जनजातीय क्षेत्र फाटा को खैबर पख्तूनख्वा प्रांत से अलग करने की मांग को छोड़ दें। हालांकि टीटीपी ने इनकी इस मांग को मानने से इनकार कर दिया है। इस प्रतिनिधिमंडल को पाकिस्तानी सेना की ओर से देश की मांगों से अवगत कराया गया था। पाकिस्तान की सरकार चाहती है कि टीटीपी नेतृत्व सेना के खिलाफ हिंसा छोड़े, अपने संगठन को भंग करे और अपने क्षेत्र में लौट आए। पाकिस्तानी मौलवियों ने टीटीपी नेताओं के आगे इस्लाम और कुरान तक का हवाला दिया और कहा कि इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ पाकिस्तान के खिलाफ हिंसा करना धार्मिक रूप से सही नहीं है।मौलवियों की इन बातों के जवाब में टीटीपी ने कहा है कि उसने पाकिस्तानी वार्ताकारों के आगे कई तरह की मांग रखी हैं। टीटीपी के सूत्रों ने पाकिस्तानी मीडिया से कहा है कि उन्हें सेना की मौजूदगी के बिना मौलवियों के आश्वासन पर कोई विश्वास नहीं है। उनका मानना है कि पाकिस्तानकी असली शासक वहां की सरकार नहीं बल्कि सेना है। सूत्रों का कहना है कि टीटीपी नेतृत्व ने हिंसा रोकने के लिए आठ सूत्री मांगें रखी हैं और मौलवियों के अनुरोध को खारिज कर दिया है। पाकिस्तानी मौलवियों की यह टीम बुधवार तक काबुल में रहेगी और टीटीपी को मनाने की आखिरी कोशिश करेगी। हालांकि इसकी उम्मीद कम ही है। टीटीपी ने कहा कि पाकिस्तान एक संधि के आधार पर बना था। यह संधि लागू नहीं हो रही है और इसमें सबसे बड़ी बाधा सैन्य और राजनीतिक नेतृत्व है, जो उपनिवेशवाद की विरासत है।दरअसल टीटीपी पाकिस्तान के कबायली इलाके फाटा पर राज करना चाहती है। उसका इरादा है कि किसी तरह पाकिस्तानी सेना को फाटा से हटा दिया जाए और इसे फिर से लॉन्च पैड बनाकर पूरे पाकिस्तान में हमले किए जाएं। टीटीपी का कहना है कि पाकिस्तान में चल रही शहबाज शरीफ की सरकार शरिया कानून के मुताबिक नहीं है। वे फाटा में तालिबान की तरह शरिया कानून लागू करना चाहते हैं।मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीUP Election Result 2022: BJP के पंकज सिंह ने रचा इतिहास, जीत के बाद कही ये बड़ी बात******Highlightsगौतम बुद्ध नगर की नोएडा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे पंकज सिंह ने नया इतिहास रच दिया है। बीजेपी के मौजूदा विधायक और राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह ने 2 लाख से ज्यादा वोट पाकर जीत दर्ज की है। वहीं नोएडा सीट पर पंकज सिंह के मुख्य प्रतिद्वंदी समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रत्याशी सुनील चौधरी को 62806 (18.04 प्रतिशत) वोट मिल पाए हैं। चुनाव आयोग की वेबसाइट के मुताबिक, बीजेपी के पंकज सिंह ने सपा के प्रत्याशी सुनील चौधरी को181513 वोटों के अंतर से हराया है।चुनाव आयोग की वेबसाइट के मुताबिक, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में नोएडा विधानसभा सीट परबीजेपी प्रत्याशीको 244319 (70.16 फीसदी) वोटमिले हैं। वहीं दूसरे नंबर पर रहे सपा प्रत्याशी सुनील चौधरी को62806 (18.04 प्रतिशत) वोट मिले हैं।बीएसपी के कृपा शंकर शर्मा को 16292 (4.68 प्रतिशत) वोट, कांग्रेस की पंखुड़ी पाठक को 13494 (3.88 प्रतिशत) वोट मिले हैं।पंकज सिंह नेजीत के बाद हृदय से आभार प्रकट कियायूपी 2022 विधानसभा चुनाव मेंनोएडा विधानसभा सीट पर इतिहास रचने वाले बीजेपी के प्रत्याशी और विधायक पंकज सिंह ने जीत के बाद ट्वीट करके कहा कि, 'पुनः नोएडा वासियों से मिले आशीर्वाद, स्नेह और अपार जनसमर्थन के लिए मैं जनता-जनार्दन, कर्मठ कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों का हृदय से आभार प्रकट करता हूँ।'जानिए चुनाव के नतीजे2022 विधानसभा चुनाव की बात करें तो उत्तर प्रदेश में बीजेपी ऐसी पार्टी बन रही है, जो लगातार दूसरी बार बहुमत के दम पर सत्ता में आ रही है। उत्तराखंड, गोवा में भी बीजेपी सरकार को रिपीट कर रही है। पंजाब में आम आदमी पार्टी जनता की पसंद के रूप में सामने आ रही है।मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीबिग बॉस 13: पारस छाबड़ा ने कहा- 'सिद्धार्थ और मुझे ही कुछ मिला, बाकी सब ठन-ठन गोपाल, आसिम ने क्या उखाड़ लिया?'******पॉपुलर रिएलिटी शो का विनर घोषित कर दिया गया है। सिद्धार्थ शुक्ला ने आसिम रियाज को पीछे छोड़ते हुए जीत का खिताब हासिल किया। टॉप 6 की रेस में रश्मि देसाई, शहनाज गिल, आरती सिंह और पारस छाबड़ा भी पहुंचे थे, लेकिन पारस ने 10 लाख रुपये का बैग लेकर शो से क्विट कर दिया। घर से बाहर आने के बाद पारस ने सिद्धार्थ, आसिम और गर्लफ्रेंड आकांक्षा पुरी को लेकर काफी बातें कही।पारस छाबड़ा ने कहा, 'मैं बहुत ही ज्यादा संतुष्ट हूं। यहां पर सिद्धार्थ और मुझे ही कुछ मिला है, बाकीसब ठन-ठन गोपाल हैं। उनको कोई प्राइज नहीं मिला। आसिम ने टॉप 2 में आकर भी क्या ही उखाड़ लिया।'वहीं, गर्लफ्रेंड आकांक्षा पुरी को लेकर पारस ने कहा, 'मैं ये बात सुनकर बहुत उदास हो गया था कि बाहर की बातों पर मुझे डांट पड़ी। मुझे पता ही नहीं था कि वो बाहर क्या बोल रही हैं। इतना कुछ होने के बाद मुझे उनके साथ कोई फ्यूचर नहीं दिख रहा है। आप अपना काम करो और मैं अपना काम करूंगा। उनकी वजह से मेरी सलमान खान के साथ भी झड़प हो गई थी। हालांकि, मुझे उनसे मिलने में कोई दिक्कत नहीं है। अब सब कुछ मिलकर ही क्लियर करना पड़ेगा।'बता दें कि पारस छाबड़ा और आकांक्षी पुरी एक-दूसरे के साथ रिलेशनशिप में थे, लेकिन घर के अंदर पारस ने कई बार कहा था कि अब उनका रिश्ता ठीक नहीं चल रहा है। वहीं, माहिरा शर्मा के साथ उनकी दोस्ती को लेकर भी कई बार सवाल उठाया गया है।

मेरी चमड़ी मोटी हो चुकी है, कोई एंटी नेशनल कहे तो फर्क नहीं पड़ता: ओवैसी

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीछोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर में तीसरी तिमाही के लिये कोई बदलाव नहीं, जानिये क्या हैं दरें******छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर स्थिरनई दिल्ली। सरकार ने एनएससीऔर पीपीएफ सहित छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। कोविड महामारी और महंगाई दर के ऊंचे स्तरों पर रहने की वजह से ये फैसला लिया गया है। फैसले के बाद पीपीएफ पर 7.1 प्रतिशत और नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट पर 6.8 प्रतिशत की दर से सालाना ब्याज मिलता रहेगा। वित्त मंत्रालय ने आजकहा कि विभिन्न छोटी बचत योजनाओं पर वित्त वर्ष 2021-22 की तीसरी तिमाही ( पहली अक्टूबर 2021 से 31 दिसंबर 2021 तक) के दौरान ब्याज की दर अपरिवर्तित रहेगी। यानि तीसरी तिमाही के दौरान निवेशकों को दूसरी तिमाही में मिल रही दर पर ही ब्याज मिलेगा। वहीं नये निवेश पर भी पुरानी दरें ही मिलेंगी।मंत्रालय के सर्कुलर के मुताबिक पीपीएफ पर 7.10 प्रतिशत, एनएससीपर 6.8 प्रतिशत, पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम अकाउंट में 6.6 प्रतिशत ब्याज और सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम पर 7.4 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा। 5 साल की मासिक आय स्कीम पर 6.6 प्रतिशत सालाना के हिसाब से ब्याज मिलेगा। एक साल के डिपॉजिट पर ब्याज दर 5.5 प्रतिशत जबकि 5 साल के डिपॉजिट पर 6.7 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा। इसके साथ ही सुकन्या समृद्धि योजना में 7.9 प्रतिशत का ब्याज दर मिलेगा। वहीं किसान विकास पत्र पर 6.9 प्रतिशत का ब्याज दिया जा रहा है। बचत योजना पर 4 प्रतिशत का ब्याज जारी रहेगा।छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर तिमाही के आधार पर तय की जाती है। ब्याज में कोई बदलाव न होने से स्मॉल स्कीम बैंक एफडी से बेहतर रिटर्न ऑफर कर रही हैं। हाल के ही दिनों में बैंक के एफडी में गिरावट देखने को मिली है। एसबीआई की बैंक एफडी की ब्याज दरें 2.9 प्रतिशत से 5.4 प्रतिशत के बीच हैं। बैंक वरिष्ठ नागरिकों को एफडी पर 3.4 से 6.2 प्रतिशत का ब्याज ऑफर कर रहा है।माना जा रहा है कि कोरोना संकट की वजह से लोगों की आय पर दबाव को देखते हुए ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया जा रहा है, जिससे लोगों को अपने जमा पर कुछ बेहतर आय हो। इसके साथ ही महंगाई दर के ऊपर रहने से भी सरकार ब्याज दरों में कटौती का कदम नहीं उठा रही है।यह भी पढ़ें: यह भी पढ़ें:मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीIND vs WI 3rd ODI HIGHLIGHTS: भारत ने वनडे सीरीज में वेस्टइंडीज का किया सूपड़ा साफ, तीसरे वनडे में चमके शुभमन और चहल******भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ बारिश से प्रभाविततीसरा वनडे 119 रनों से जीत लिया। शिखर धवन की अगुआई में टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज को क्लीन स्वीप किया और कैरेबियाई टीम के खिलाफलगातार 12वीं सीरीज जीतने में सफल रही।पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले गए मुकाबले में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और बारिश से बाधित मैच में शुभमन गिल के 98 रन की नाबाद पारी के दम पर36 ओवर में तीन विकेट खोकर 225 रन बनाए। इसके बाद बारिश के खलल के कारण मैच के ओवरों में कटौती की गई और वेस्टइंडीज के सामने जीत के लिए35 ओवरों में 257 रन का लक्ष्य रखा गया। जवाब में वेस्टइंडीज की पूरी टीम 26 ओवर में 137 रन पर सिमट गई। भारत की तरफ से युजवेंद्र चहल ने सर्वाधिक चार विकेट झटके तो वहीं शार्दुल और सिराज को दो-दोविकेट मिले।

मेरी चमड़ी मोटी हो चुकी है, कोई एंटी नेशनल कहे तो फर्क नहीं पड़ता: ओवैसी

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीबिहार के पूर्व अधिकारी की संपत्ति ED ने की कुर्क, भ्रष्ट्राचार से कमाई करोड़ों की दौलत******Highlightsनई दिल्ली: ईडी ने बिहार सरकार के पूर्व अधिकारी संजय कुमार पर कार्रवाई करते हुए करीब एक करोड़ से अधिक संपत्ति को कुर्क किया है। इस कार्रवाई में बिहार के समस्तीपुर जिले में पदस्थ रहे पूर्व कार्यकारी अभियंता संजय कुमार, उनकी पत्नी पुष्पा सिंह और उनके परिजनों की सम्पत्ति कुर्क करने संबंधी अस्थाई आदेश धन शोधन रोकथाम अधिनियम की धाराओं के तहत जारी किया गया था।प्रवर्तन निदेशालय ने एक बयान में कहा कि संजय कुमार ने ‘‘अपने बैंक खातों और अपने परिजन के बैंक खातों में अज्ञात स्रोतों से भारी नकदी जमा की।’’ संघीय जांच एजेंसी ने स्थानीय पुलिस थाने में अधिकारी के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज होने के बाद आपराधिक मामला दर्ज किया था।ईडी ने ये भी बताया , साल ‘‘1987 से 2013 के बीच आरोपी संजय कुमार ने अपने और अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर चल-अचल संपत्ति अर्जित की थी, जो उनके आय के ज्ञात और वैध स्रोतों से काफी अधिक थी।’’

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीJEMAT 2020 Application: आवेदन तिथि आगे बढ़ी, इन स्टेप्स से करें अप्लाई******मौलाना अब्दुल कलाम आजाद प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (मेकअट) ने JEMAT 2020 आवेदन तिथियों को बढ़ाया है। विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट पर दी गई तारीखों के अनुसार, JEMAT 2020 आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 30 जून, 2020 है। जो उम्मीदवार परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं, उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाने और आवेदन पत्र जमा करने की सलाह दी जाती है।बता दें की JEMAT 2020 की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। जेईएमएटी 2020 परीक्षा का संशोधित शेड्यूल आधिकारिक वेबसाइट पर लॉकडाउन हटाए जाने के तुरंत बाद जारी किया जाएगा।देश भर में लगाए गए COVID-19 लॉकडाउन के कारण JEMAT 2020 के आवेदन की तारीखों को बढ़ा दिया गया है। आवेदन पत्र आधिकारिक वेबसाइट - makautwb.ac.in पर उपलब्ध हैं। उम्मीदवार नीचे दिए गए सीधे लिंक के माध्यम से जेईएमएटी 2020 के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीPunjab Election 2022: अमृतसर पूर्व सीट पर वोटों की गिनती जारी, आम आदमी पार्टी के जीवन ज्योत कौर 15876 वोटों से आगे******पंजाब चुनावों के लिए वोटों की गिनती जारी है। राज्य के अमृतसर जिले में पड़ने वाली अमृतसर पूर्व विधानसभा सीट पर भी वोटों की गिनती चल रही है। अभी तक मिले सबसे ताजा रुझानों के मुताबिक, आम आदमी पार्टी के जीवन ज्योत कौर 15876 वोटों से कांग्रेस के उम्मीदवार नवजोत सिंह सिद्धू से आगे चल रही हैं।रुझानों के मुताबिक, आम आदमी पार्टी के जीवन ज्योत कौर 5999 वोट मिले हैं, जबकि कांग्रेस के नवजोत सिंह सिद्धू के खाते में 12914 वोट आए हैं। आम आदमी पार्टी के जीवनजोत कौर और शिरमणि अकाली दल के बिक्रम सिंह मजीठिया लड़ाई में पिछड़ गए हैं।2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से नवजोत सिंह सिद्धू ने भारतीय जनता पार्टी के राजेश कुमार हनी को 42809 मतों के अंतर से पराजित किया था। अमृतसर पूर्व विधानसभा सीट अमृतसर के अंतर्गत आती है। इस संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं गुरजीत सिंह औजला, जो कांग्रेस से हैं। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के हरदीप पुरी को हराया था।

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीIND vs WI : अर्शदीप ने इन खिलाड़ियों का करियर खतरे में डाला******Highlightsभारत और वेस्टइंडीज के बीच खेला गया दूसरा टी20 मैच वेस्टइंडीज ने अपने नाम कर लिया है। पहला मैच जीतने के बाद टीम इंडिया ने जो लीड बनाई थी, वो अब बराबरी पर आ गई है। दूसरा मैच हालांकि काफी रोचक रहा और भारत के भी जीत के चांस थे, लेकिन आखिर में बाजी वेस्टइंडीज ने मार ली और सीरीज 1-1 की बराबरी पर पहुंच गई है। इस बीच सीरीज के दूसरे मैच में अर्शदीप सिंह ने जिस तरह की गेंदबाजी की है, उसने सभी को प्रभावित किया है। इतना ही नहीं, अर्शदीप के बेहतरीन प्रदर्शन से टीम इंडिया के दो खिलाड़ियों के करियर पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं, उन्हें और भी ज्यादा मेहनत करने की जरूरत है।सीरीज के दूसरे मैच में एक बार फिर वेस्टइंडीज के कप्तान निकोलस पूरन ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला किया। टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 138 रनों का मामूली सा स्कोर बनाया था, जिसे चार गेंद शेष रहते वेस्टइंडीज ने हासिल भी कर लिया। इस मैच में अर्शदीप सिंह ने चार ओवर में 26 रन देकर एक विकेट हासिल कर लिया। यहां ये आंकड़े देखकर ये सामान्य की गेंदबाजी लग रही होगी, लेकिन अर्शदीप सिंह ने अपने आखिरी ओवरों में जिस तरह की गेंदबाजी की, वो काबिलेतारीफ थी। भारतीय टीम एक बार जीत की ओर बढ़ रही थी, जब अर्शदीप सिंह ओवर कर रहे थे, लेकिन बाद में आवेश खान ने ज्यादा रन खा लिए और भारतीय टीम मैच हार गई। आवेश खान की बात करें तो उन्होंने 2.2 ओवर में 31 रन दे दिए और एक ही विकेट वे अपने खाते में डाल पाए।अर्शदीप सिंह ने अपनी गेंदबाजी से सभी को मोहित कर दिया है और अब आवेश खान और उमरान मलिक को और ज्यादा मेहनत करनी होगी, ताकि वे टीम में अपनी जगह लगातार सुरक्षित रख सकें। अर्शदीप सिंह ने अभी तक तीन ही टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं और इसमें वे अभी तक पांच विकेट ले चुके हैं। वन डे में उन्हें अभी तक डेब्यू करने का मौका नहीं मिला है। अर्शदीप सिंह ने आईपीएल 2022 में पंजाब किंग्स की ओर से खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया था, यही कारण रहा कि उन्हें टीम इंडिया में जगह मिली और वे अब खेलते हुए नजर आ रहे हैं।मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीVastu Tips: किचन से कभी न खत्म होने दें ये 5 चीजें, मां लक्ष्मी खुद खोलेंगी धन आगमन के सारे रास्ते******Highlightsवास्तु का हमारे जीवन पर बहुत असर पड़ता है, अगर घर में वास्तु के हिसाब से चीजें हों तो हमारी जिंदगी पर बहुत ही सकारात्मक असर होता है, वहीं अगर वास्तु गलत हो घर का तो जीवन में अनेक परेशानियां घिर जाती हैं। आज हम आपको किचन के एक ऐसे वास्तु के बारे में बताने वाले हैं उसे अगर आप जीवन में अपना लें तो आपके घर में मां लक्ष्मी की कृपा होने से कोई नहीं रोक सकता है और आपके घर के चारों तरफ से धन आगमन के रास्ते खुल जाएंगे।घर में नमक अगर खत्म होने वाला है तो उसे कभी भी कल पर न टालें, बल्कि तुरंत लेकर आएं। वास्तु शास्त्र के मुताबिक अगर बार-बार घर में नमक पूरी तरह से खत्म होता है तो घर में निगेटिविटी आती है और वास्तु दोष होता है। घर की महिलाओं पर बुरा असर पड़ता है और मां लक्ष्मी रूठकर चली जाती हैं।हल्दी न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाती है बल्कि सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। घर के किचन से कभी भी हल्दी नहीं खत्म होनी चाहिए। हल्दी खत्म होने से पहले ही नया पैकेट ले आएं। कहते हैं हल्दी खत्म होने से गुरु दोष लगता है, क्योंकि भगवान विष्णु को हल्दी और पीला रंग बहुत प्यारा है। इसलिए खत्म होने से पहले ही हल्दी ले आएं, अगर ऐसा नहीं करते हैं तो बच्चों की पढ़ाई पर इसका असर दिखता है और घर के शुभ कार्यों में रुकावटें आती हैं।वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर से कभी भी आटा पूरी तरह नहीं खत्म होना चाहिए। आटा खत्म होने से पहले ही नया आटा लेकर रख दें, वरना घर में गरीबी आती है और इसके दुष्प्रभाव से आपके मान-सम्मान में हानि भी होती है।अक्षत का इस्तेमाल पूजा-पाठ में किया जाता है, इसे बहुत ही पवित्र माना जाता है। इसलिए ये ध्यान रखना है आपको कि ये कभी भी पूरी तरह खत्म न हो, खत्म होने से पहले ही चावल और लें आएं, वरना इससे शुक्र दोष लगता है। अगर चावल खत्म हो जाए तो घर से वैभव खत्म हो जाता है। अगर घर में हमेशा चावल रहता है तो मां लक्ष्मी खुश रहती हैं और घर धन-धान्य से भरा रहता है।सरसों का तेल हमारे घरों में खाना बनाने के लिए इस्तेमाल होता है। सरसों के तेल का संबंध शनि देव से होता है। अगर तेल खत्म होने के बाद आप तेल लाएंगे तो शनिदेव नाराज हो जाते हैं। इसलिए बेहतर यही है कि सरसों का तेल खत्म होने से पहले ही तेल ले आएं। संभव हो तो हर शनिवार तेल का दान करें।

मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीसोना 14 महीने के उच्चतम स्तर पर, चांदी 41 हजार रुपये के पार******अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मजबूतसंकेतों तथा घरेलू स्तर पर मांग बढ़ने की वजह से गुरुवारकोदिल्ली सर्राफा बाजार में सोने और चांदी की कीमतों में जोरदार तेजी देखने को मिली है, सोने का भाव350 रुपए चढ़कर 14 महीने के उच्चतम स्तर 31,450 रुपएप्रति 10 ग्रामतक पहुंच गया है, वहींइंडस्ट्रियल मांग बढ़ने की वजह सेचांदी का भाव भी करीब 1,100 रुपयेकी जोरदार तेजी के साथ41,000 रुपएप्रति किलो के स्तर को पार कर गया।दिल्ली सर्राफा बाजार के कारोबारियोंके मुताबिक अंतरराष्ट्रीय बाजारसे सोने की तेजीके संकेत मिलने की वजह से घरेलू स्तर पर इसका भाव बढ़ा है।इसके अलावाअमेरिकी करेंसी डॉलर के तीन साल के निचले स्तर पर आनेसे भी सोनेकी कीमतें बढ़ी हैं।ज्वैलरीनिर्माताओं की मांग बढ़ने से भी इसे समर्थन मिला है। अंतरराष्ट्रीयस्तर पर सिंगापुर में सोना 0.43 प्रतिशत बढ़कर करीब 14 महीने के उच्चतम स्तर 1,363.60 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। चांदी भी 0.29 प्रतिशत चमककर 17.58 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गयी।स्थानीय बाजार में 99.9 प्रतिशतशुद्धता और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने में350-350 रुपए की तेजी के साथ भावक्रमश: 31,450 रुपए और 31,300 रुपए प्रति 10ग्राम पर पहुंच गये। यह 9 नवंबर 2016 के बाद सबसे ज्यादा भावहै। हालांकि 8 ग्राम वाली गिन्नी 24,800 रुपए प्रति इकाई पर टिकी रही। चांदी हाजिर 1,100 रुपए चमककर 41 हजार रुपए प्रति किलोग्राम तथा चांदी वायदा 1,190 रुपए मजबूत होकर 40,130 रुपए प्रति किलोग्राम पर रही। हालांकि चांदी के सिक्के पुराने स्तर पर ही टिके रहे। सिक्का लिवाल 74 हजार रुपए और सिक्का बिकवाल 75 हजार रुपए प्रति सैकड़ा रहे।मेरीचमड़ीमोटीहोचुकीहैकोईएंटीनेशनलकहेतोफर्कनहींपड़ताओवैसीटाटा मोटर्स का बड़ा ऐलान, 2025 तक 10 नए इलेक्ट्रिक व्हीकल लॉन्च करने की योजना******टाटा मोटर्स का बड़ा ऐलान, 2025 तक 10 नए इलेक्ट्रिक व्हीकल लॉन्च करने की योजनानयी दिल्ली: टाटा मोटर्स के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने सोमवार को कहा कि कंपनी ने 2025 तक घरेलू उत्पाद पोर्टफोलियो में 10 नए बैटरी-विद्युत वाहन (बीईवी) पेश करने की योजना बनाई है। उनका कहना है कि कंपनी आने वाले वक्त में अपने कारोबार के मॉडल को स्वच्छ ऊर्जा वाले वाहनों के दौर के हिसाब से आगे बढ़ाएगी उन्होंने शेयरधारकों के लिए अपने संदेश में कहा कि टाटा मोटर्स का लक्ष्य स्वच्छ ऊर्जा वाले वाहनों की दुनिया में अग्रणी कंपनी बनना है और इसके तहत वह अपने आने वाले हरित वाहनों के लिए जरूरी चीजों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के मकसद से सेल और बैटरी विनिर्माताओं से गठजोड़ की संभावनाएं तलाश रही है।चंद्रशेखरन ने 2020-21 के लिए कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट में शेयरधारकों से कहा, ‘‘भारत में हमारे पोर्टफोलियो में ईवी (विद्युत-वाहन) की हिस्सेदारी इस साल दोगुनी होकर दो प्रतिशत हो गई है और हमें आने वाले वर्षों में तेजी से वृद्धि की उम्मीद है। टाटा मोटर्स भारतीय बाजार में इस बदलाव का नेतृत्व करेगी। 2025 तक टाटा मोटर्स के पास 10 नए बीईवी वाहन होंगे और एक समूह के रूप में हम देश भर में चार्जिंग बुनियादी ढांचा स्थापित करने के लिए सक्रिय रूप से निवेश करेंगे।’’उन्होंने बताया कि इसके अलावा टाटा समूह बैटरी की आपूर्ति सुरक्षित करने के लिए भारत और यूरोप में सेल और बैटरी निर्माण में सक्रिय रूप से भागीदारी तलाश रहा है। उन्होंने कहा कि कंपनी वाहनों के ऐसे साफ्टवेयर और अभियांत्रिकी के विकास में भी लगी है जिससे उसे नेट प्रणालियों से जुड़े और स्वायत्त (चालक रहित) वाहनों के बाजार का नेतृत्व करने में भी मदद मिलेगी।उन्होंने कहा कि जगुआर लैंड रोवर ने 2036 तक अपने वाहनों में साइलेंसर के रास्ते कार्बन उत्सर्जन को शून्य करने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने कहा कि टाटा मोटर्स की दुनिया भर में उपस्थिति है और यह आवागमन के समाधान की दुनिया में अग्रणी स्थान के लिए बेजोड़ जगह पर है। कंपनी 150 देशों में कारोबार कर रही है और इसमें 7,50,000 कर्मचारी काम कर रहे है। कंपनी 65 करोड़ ग्राहकों के जीवन को स्पर्श करती है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 07:12
उद्धरण 1 इमारत
Delhi News: 'यादाश्त खो चुके' सत्येंद्र जैन की रद्द हो विधानसभा सदस्यता, दिल्ली हाईकोर्ट में दाखिल की गई याचिका******Highlightsआम आदमीं पार्टी के विधायक मनी लॉन्ड्रिंग केस में जेल में बंद सत्येंद्र जैन की विधानसभा सदस्यता रद्द करने की मांग की गई है। इसे लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है। जिसमे आम आदमी पार्टी के नेता को अयोग्य घोषित करने की मांग की गई है। जनहित याचिका में कहा गया है कि दिल्ली सरकार के मंत्री और शकूर बस्ती से विधायक ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने खुद कहा है कि वह अपनी याददाश्त खो चुके हैं और अडिशनल सॉलिसिटर जनरल के जरिए ट्रायल कोर्ट से भी यही कहा है।याचिकाकर्ता ने जनहित याचिका में कहा है कि दिल्ली सरकार साफ तौर पर संविधान में अनुच्छेद 191 (1) (b) के प्रावधानों का उल्लंघन कर रही है। संविधान में साफ तौर पर कहा गया है कि ऐसे किसी व्यक्ति को निर्वाचन और विधानसभा या विधान परिषद के सदस्य के रूप में अयोग्य घोषित किया जाए जो विकृत दिमाग का है और सक्षम न्यायालय की ओर से ऐसा घोषित किया गया हो।'याचिकाकर्ता आशीष कुमार श्रीवास्तव ने वकील रुद्र विक्रम सिंह के जरिए दिल्ली सरकार को यह निर्देश देने की मांग की गई है कि जैन के उन सभी फैसलों को अमान्य घोषित किया जाए जो उन्होंने कोरोना संक्रमित होने और फिर याददाश्त गंवाने के बाद लिए।आपको बता दें कि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने ईडी की पूछताछ के दौरान कहा था कि उनकी कोरोना की वजह से मेमोरी चली गई है। ईडी जैन से हवाला मामले से जुड़े कागजातों के बारे में सवाल कर रही थी, उसी दौरान उन्होंने ये बात कही।गौरतलब है कि ईडी ने सत्येंद्र जैन को 30 मई को गिरफ्तार किया था। ऐसे में जब इस मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई हुई तो ईडी ने ये जानकारी दी कि जैन ने सवाल पूछने पर कहा कि कोरोना की वजह से वह अपनी मेमोरी खो चुके हैं।दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को मनी लॉन्ड्रिंग केस में ED ने गिरफ्तार किया था। अधिकारियों के मुताबिक, प्रवर्तन निदेशालय ने कोलकाता की एक कंपनी से जुड़े हवाला लेनदेन से जुड़े मामले में ये गिरफ्तारी की थी।
2022-10-01 07:05
उद्धरण 2 इमारत
छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर में तीसरी तिमाही के लिये कोई बदलाव नहीं, जानिये क्या हैं दरें******छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर स्थिरनई दिल्ली। सरकार ने एनएससीऔर पीपीएफ सहित छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। कोविड महामारी और महंगाई दर के ऊंचे स्तरों पर रहने की वजह से ये फैसला लिया गया है। फैसले के बाद पीपीएफ पर 7.1 प्रतिशत और नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट पर 6.8 प्रतिशत की दर से सालाना ब्याज मिलता रहेगा। वित्त मंत्रालय ने आजकहा कि विभिन्न छोटी बचत योजनाओं पर वित्त वर्ष 2021-22 की तीसरी तिमाही ( पहली अक्टूबर 2021 से 31 दिसंबर 2021 तक) के दौरान ब्याज की दर अपरिवर्तित रहेगी। यानि तीसरी तिमाही के दौरान निवेशकों को दूसरी तिमाही में मिल रही दर पर ही ब्याज मिलेगा। वहीं नये निवेश पर भी पुरानी दरें ही मिलेंगी।मंत्रालय के सर्कुलर के मुताबिक पीपीएफ पर 7.10 प्रतिशत, एनएससीपर 6.8 प्रतिशत, पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम अकाउंट में 6.6 प्रतिशत ब्याज और सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम पर 7.4 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा। 5 साल की मासिक आय स्कीम पर 6.6 प्रतिशत सालाना के हिसाब से ब्याज मिलेगा। एक साल के डिपॉजिट पर ब्याज दर 5.5 प्रतिशत जबकि 5 साल के डिपॉजिट पर 6.7 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा। इसके साथ ही सुकन्या समृद्धि योजना में 7.9 प्रतिशत का ब्याज दर मिलेगा। वहीं किसान विकास पत्र पर 6.9 प्रतिशत का ब्याज दिया जा रहा है। बचत योजना पर 4 प्रतिशत का ब्याज जारी रहेगा।छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर तिमाही के आधार पर तय की जाती है। ब्याज में कोई बदलाव न होने से स्मॉल स्कीम बैंक एफडी से बेहतर रिटर्न ऑफर कर रही हैं। हाल के ही दिनों में बैंक के एफडी में गिरावट देखने को मिली है। एसबीआई की बैंक एफडी की ब्याज दरें 2.9 प्रतिशत से 5.4 प्रतिशत के बीच हैं। बैंक वरिष्ठ नागरिकों को एफडी पर 3.4 से 6.2 प्रतिशत का ब्याज ऑफर कर रहा है।माना जा रहा है कि कोरोना संकट की वजह से लोगों की आय पर दबाव को देखते हुए ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया जा रहा है, जिससे लोगों को अपने जमा पर कुछ बेहतर आय हो। इसके साथ ही महंगाई दर के ऊपर रहने से भी सरकार ब्याज दरों में कटौती का कदम नहीं उठा रही है।यह भी पढ़ें: यह भी पढ़ें:
2022-10-01 06:05
उद्धरण 3 इमारत
बिहार में भी कोरोना से हालात गंभीर, 6413 नए मरीज मिले, मकर संक्रांति पर सख्ती के निर्देश******Highlightsबिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान 6,413 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इस दौरान पटना में सबसे अधिक 2,014 कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई है। राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या 28,659 पहुंच गई है। बिहार स्वास्थ्य विभाग द्वारा बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, मंगलवार की तुलना में बुधवार को मिले मरीजों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई है। मंगलवार को राज्य में 5,908 लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी, जबकि बुधवार को 6,419 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है।राज्य में बुधवार को मिले नए मरीजों में सबसे अधिक 2,014 मरीज जिले में सामने आए, जबकि समस्तीपुर में 506, बेगूसराय में 194, भागलपुर में 121, दरभंगा में 142, पूर्वी चंपारण में 109, गया में 185, जमुई में 220, जहानाबाद में 133, कटिहार में 112, मधेपुरा में 127, मधुबनी में 117, मुंगेर में 143, मुजफ्फरपुर में 294, नालंदा में 177, पूर्णिया में 157, सहरसा में 108, सारण में 207, वैशाली में 134 तथा पश्चिम चंपारण में 110 नए मरीजों की पहचान हुई है।विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे के दौरान 1 लाख 80 हजार 407 नमूनों की जांच की गई है। इस बीच, राज्य में तीन संक्रमित लोगो की मौत भी हुई है। इस दौरान 2,802 संक्रमित संक्रमणमुक्त भी हुए है।राज्य में संक्रमितों की संख्या में वृद्धि होने के बाद रिकवरी रेट में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। बुधवार को रिकवरी रेट 94.65 प्रतिशत दर्ज किया गया। राज्य में फिलहाल सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 28,659 तक पहुंच गई है।इधर, स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या भले ही बढ़ रही हो, लेकिन अधिकांश सक्रिय मरीज होम आइसोलेशन में हैं। इस बीच, कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पाबंदियों में कोई छूट नहीं देने का फैसला लिया गया है। मुख्य सचिव आमिर सुबहानी की अध्यक्षता में बुधवार को आपदा प्रबंधन समूह की हुई समीक्षा बैठक में राज्य के सभी जिलों को संक्रमण की दर पर नजर रखने को कहा गया है। बैठक में मकर संक्रांति के मौके पर किसी भी सार्वजनिक स्थल पर भीड़ नहीं होने देने के निर्देश सभी जिलाधिकारियों को दिए गए हैं। बैठक में मकर संक्रांति को देखते हुए जिलों को कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया गया।इनपुट- आईएएनएस
वापसी
नई पोस्ट करें
816223
विषयों की संख्या
4053
पदों की संख्या
75428
उपयोगकर्ता संख्या
816223
ऑनलाइन
05