नई पोस्ट करें

ई-श्रम पोर्टल पर असंगठित क्षेत्र के चार करोड़ श्रमिकों का पंजीकरण, आधी से ज्यादा महिलाएं

2022-10-01 05:30:37 214

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंतीसरा प्रोत्साहन पैकेज आर्थिक वृद्धि के लिए सहायक, पर राजकोष पर असर अस्पष्ट: फिच******तीसरा प्रोत्साहन पैकेज आर्थिक वृद्धि को देगा मददनई दिल्ली। वैश्विक वित्तीय परामर्श कंपनी फिच सॉल्युशंस ने सोमवार को कहा कि सरकार के तीसरे प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा आने वाली तिमाहियों में अर्थव्यवस्था को फिर से खड़ा करने में सहायक होनी चाहिए लेकिन इसके राजकोष पर पड़ने वाले प्रभाव का अंदाजा लगाना मुश्किल है। सरकार ने 12 नवंबर को 2.65 लाख करोड़ रुपये के एक और आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा की। इसे आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 नाम दिया गया है। इस पैकेज में संगठित क्षेत्र में रोजगार निर्माण को गति देना, उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना (पीएलआई), उर्वरक सब्सिडी और ग्रामीण रोजगार कार्यक्रम मनरेगा में बढ़ोत्तरी करना शामिल है। फिच सॉल्युशंस ने अपनी रपट में कहा कि चालू वित्त वर्ष में देश का राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद के 7.8 प्रतिशत रहने का अनुमान है। फिच ने कहा, ‘‘ तीसरे प्रोत्साहन पैकेज की कई योजनाएं आने वाली तिमाहियों में अर्थव्यवस्था को फिर से खड़ा करने में सहायक हो सकती हैं लेकिन सार्वजनिक वित्त प्रणाली पर इसके वास्तविक असर का आकलन करना मुश्किल है।’’ अन्य परामर्श कंपनी मोतीलाल ओसवाल ने एक अलग रपट में कहा कि उसके आकलन के हिसाब से वित्त वर्ष 2020-21 में वास्तविक राजकोषीय असर जीडीपी के 0.5 प्रतिशत या अधिकतम 1.1 लाख करोड़ रुपये हो सकता है। पिछले दो प्रोत्साहन पैकेज के दौरान की गयी घोषणाएं जीडीपी के 8.7 प्रतिशत के बराबर यानी 17.7 लाख करोड रुपये की है।

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएं89 साल के मैराथन धावक अमरिक सिंह की कोरोनावायरस से हुई मौत******लंदन मैराथन में 26 बार हिस्सा ले चुके ग्लास्गो के प्रसिद्ध व्यवसायी 89साल के अमरिक सिंह, चार दिनों तक कोरोनावायरस से लड़ने के बाद अपनी जान गंवा बैठे। उनके परिवार ने इस बात की जानकारी दी। अमरिक ने विश्व भर में कई मैराथनों में हिस्सा लिया है। वह 1970 में भारत से ग्लास्गो आ गए थे।उनके पोते पमन सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा, "शुभरात्रि अमरिक सिंह, आप चले गए हैं लेकिन आप कभी भुलाए नहीं जा सकते। आपने जो भले काम किए हैं और इंसानियत पूरे विश्व में फैलाई है उम्मीद है कि मैं उसका अंश भर भी कर सकूंगा।"उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, "लोगों की मदद करने के अलावा, दौड़ना उनका जुनून था। संन्यास के बाद भी उनका रूटीन था कि वह सबुह जल्दी उठकर छह बजे जिम में ट्रेडमिल पर पहुंच जाया करते थे।"स्कॉटलैंड सिख समुदाय के संस्थापक अमरिक सिंह को पिछले रविवार अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन 23 अप्रैल को उन्होंने अपनी अंतिम सांस ली।ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंआम बजट 2018 : 10 करोड़ परिवारों को मिलेगा 5 लाख रुपए का हेल्थ इंश्योरेंस, 50 करोड़ लोगों को इसका फायदा****** ने अपने के दौरान दुनिया के सबसे बड़े हेल्‍थकेयर स्‍कीम की घोषणा की है। इसे राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा योजना का नाम दिया गया है। संभव है कि अमेरिका के ओबामा केयर की तर्ज पर इस योजना को भविष्‍य में मोदी केयर के नाम से जाना जाए। आम बजट में नेशनल हेल्‍थ प्रोटेक्‍शन स्‍कीम यानी राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा योजना के तहत देश के 10 करोड़ करीब परिवारों के लिए सालाना 5 लाख रुपए के का एलान किया गया है। ​वित्त मंत्री ने इस योजना को विश्‍व की सबसे बड़ी हेल्थकेयर योजना बताते हुए कहा कि इससे कम-से-कम देश के 50 करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा। इस लिहाज से देखें तो देश की करीब 1.30 अरब आबादी में करीब-करीब 40 प्रतिशत के लिए बड़े स्वास्थ्य सुरक्षा योजना का एलान में किया गया है। यानी, योजना के तहत अब गरीब परिवारों को हर साल 5 लाख रुपए तक के इलाज पर अपने पैसे खर्च नहीं करने होंगे।​वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने अपने भाषण में कहा कि हम गरीब और दुखी परिवारों को प्रति वर्ष 5 लाख रुपए की सहायता देंगे। यह विश्व का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा। अस्पाताल में भर्ती के लिए यह सुनिश्चित करेंगे इस कार्यक्रम को पूरी तरह से पूरा किया जा सके। गौरतलब है कि अभी राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत गरीब परिवारों को 30 हजार रुपए के स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ दिया जाता है।

ई-श्रम पोर्टल पर असंगठित क्षेत्र के चार करोड़ श्रमिकों का पंजीकरण, आधी से ज्यादा महिलाएं

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएं'फुकरे 3' के लिए हो जाइए तैयार, रितेश सिधवानी ने शेयर की ऑनलाइन नरेशन की झलक******फुकरे फ्रैंचाइज़ी दर्शकों के बीच काफी लोकप्रिय रही है। फुकरे की तीसरी किश्त अब आपके मनोरंजन के लिए तैयार है, अब दर्शकों को उत्साहित करते हुए, रितेश सिधवानी ने फुकरे 3 के नैरेशन टाइम से एक झलक साझा की है। वर्चुअल नरेशन टाइम ‘फुकरों कि टोली’ के साथ शेयर करते हुए सिधवानी ने इंस्टाग्राम पर लिखा, “फुकरों की टाइम के साथ नरेशन टाइम, फुकरापंती के लिए तैयार रहिए।इससे पहले, एक्सेल एंटरटेनमेंट ने स्क्रिप्ट सेशन्स से एक तस्वीर साझा की थी। रितेश सिधवानी ने स्क्रिप्टिंग के लिए लॉकडाउन के समय का उपयोग किया और प्रोजेक्ट पर काम जारी रखा।फिल्म का निर्माण रितेश सिधवानी और फरहान अख्तर ने एक्सेल एंटरटेनमेंट के बैनर तले किया है और इसमें अभिनय किया है पुल्कित सम्राट, वरुण शर्मा, अली फजल, मनजोत सिंह, ऋचा चड्डा, विशाखा सिंह और प्रिया आनंद ने।फ्रैंचाइज़ की तीसरी किश्त लॉकडाउन से पहले से पाइपलाइन में है, अब रितेश की पोस्ट को देखते हुए लग रहा है कि जल्द ही हमें ये फिल्म देखने को मिल सकती है।ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंन्यूक्लियर परीक्षण के दौरान उत्तर कोरिया में मची तबाई, 200 से ज्यादा लोगों की मौत?******लगातार कर दुनिया में भूचाल लाने वाले उत्तर कोरिया को हाल ही में एक बड़ा झटका लगा है। खबर की माने तो उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण साइट पंगी-री पर सुरंग ढहने से लगभग 200 लोगों का मौत हो गई। ऐसा माना जा रहा है कि उन्तर कोरिया ने 3 सितंबर को सबसे बड़ा अंडरग्राउंड न्यूक्लियर टेस्ट किया था जिसके कुछ ही दिन बाद यह हादसा हुआ। इसकी जानकारी हाल ही में सामने आई है। जापानी मीडिया की ओर से यह खबर सामने आई है। के एक मीडिया चैनल ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि वहां पहले सिर्फ 100 मजदूर फंसे हुए थे लेकिन बचाव कार्य के दौरान सुरंग का एक और हिस्सा गिरने से 200 लोगों की मौत हो गई। इस परीक्षण को करने से पहले विशेषज्ञों ने इस बात की चेतावनी भी दी थी कि न्यूक्लियर परीक्षण करने से पहाड़ भी गिर सकता है और साथ चीन बॉर्डर के पास रेडिएशन भी लीक हो सकता है।आपको बता दें कि इस न्यूक्लियर साइट पर अबतक 6 परमाणु परीक्षण किए जा चुके हैं। 3 सिंतबर को किए गे न्यूक्लियर टेस्ट में विस्फोट के चलते इलाके में कई भूस्खलन आए। धमाके के बाद पहले 6.3 तीव्रता का भूकंप आया और फिर कुछ ही देर बाद एक ओर भूकंप आया था। जापान के अनुसार, ने 3 सितंबर को जो न्यूक्लियर टेस्ट किया था वह हिरोशिमा पर गिराए गए परमाणु बम से कई गुना शक्तिशाली था। ऐसा कहा जा रहा था कि इस परीक्षण के बाद यहां की जमीन ढीली और कमजोर हो गई थी।ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंBigg Boss 14: क्या सिद्धार्थ शुक्ला की 'दिल को करार आया' को-स्टार नेहा शर्मा करेंगी शो में एंट्री?******रिएलिटी शो बिग बॉस का 14वां सीजन आने को तैयार है। बिग बॉस13 की सफलता के बाद शो के मेकर्स कई बड़े सेलिब्रिटीज को अप्रोच कर रहे हैं। सिद्धार्थ शुक्ला, आसिम रियाज और शहनाज गिल को मिले फैन्स का ढेर सारा प्यार मिला। अब रिपोर्ट्स के मुताबिक मेकर्स ने सिद्धार्थ शुक्ला दिल को करार आया को स्टार नेहा शर्मा को अप्रोच किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक नेहा बग बॉस 14 में नजर आ सकती हैं।टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बिग बॉस 14 के मेकर्स नेहा शर्मा को अप्रोच कर रहे हैं। इसके साथ ही टीवी एक्ट्रेस जैस्मीन भसीन भी शो में नजर आ सकती हैं। वह सिद्धार्थ शुक्ला की अच्छी दोस्त बैं। पहले इंस्टाग्राम पर लाइव सेशन के दौरान जैस्मीन ने कहा था कि वह बिग बॉस में हिस्सा नहीं लेंगी क्योंकि वह लोगों को अपनी बातों में फंसा नहीं सकती हैं।नेहा शर्मा की बात करें उन्होंने इमरान हाशमी के साथ फिल्म क्रूक से बॉलीवुड में कदम रखा था। इसके बाद वह क्या कूल है हम, यमला पगला दीवाना 2 जैसी कई फिल्मों में नजर आ चुकी हैं। अब जल्द ही उनका म्यूजिक वीडियो दिल को करार आया रिलीज होने वाला है।रिपोर्ट्स के मुताबिक निया शर्मा, वीवियन डीसेना. सुगंधा मिश्रा, जय सोनी, अविनाश मुखर्जी, निखिल चिन्नपा को बिग बॉस14 के लिए अप्रोच किया गया है।

ई-श्रम पोर्टल पर असंगठित क्षेत्र के चार करोड़ श्रमिकों का पंजीकरण, आधी से ज्यादा महिलाएं

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंतुलसी पूजा के वक्त बस करें ये छोटा सा काम, मां लक्ष्मी होंगी आप पर मेहरबान******Highlightsदेश में लगभग सभी घरों के आंगन में तुलसी का पौधा होता है। शास्त्रों में इस पौधे का धार्मिक महत्‍व काफी अधिक बताया गया है। शास्त्रों के अनुसार तुलसी के पौधे में मां लक्ष्मी का वास होता है। कहा जाता है कि रोजाना तुलसी जी की पूजा करने से लक्ष्‍मी मां खुश होकर अपनी कृपा बरसाती हैं और घर में सुख- समृद्धि की प्राप्ति होती है।इतना ही कई देवी-देवताओं की पूजा अर्चना में भोग चढ़ाने के लिए तुलसी के पत्‍ते इस्तेमाल होते हैं। खासतौर पर इसके बिना श्री विष्णु जी की पूजा पूरी नहीं होती है। इसलिए आपको रोजाना तुलसी जी की पूजा जरूर करनी चाहिए।हालांकि तुलसी जी की पूजा के दौरान आपको कुछ चीजें जरूर करनी चाहिए। आइए जानते हैं।जय जय तुलसी माता, मैय्या जय तुलसी माता .सब जग की सुख दाता, सबकी वर माता..मैय्या जय तुलसी माता..सब योगों से ऊपर, सब रोगों से ऊपर.रज से रक्ष करके, सबकी भव त्राता.मैय्या जय तुलसी माता..बटु पुत्री है श्यामा, सूर बल्ली है ग्राम्या.विष्णुप्रिय जो नर तुमको सेवे, सो नर तर जाता.मैय्या जय तुलसी माता..हरि के शीश विराजत, त्रिभुवन से हो वंदित.पतित जनों की तारिणी, तुम हो विख्याता.मैय्या जय तुलसी माता..लेकर जन्म विजन में, आई दिव्य भवन में.मानव लोक तुम्हीं से, सुख-संपति पाता.मैय्या जय तुलसी माता..हरि को तुम अति प्यारी, श्याम वर्ण सुकुमारी.प्रेम अजब है उनका, तुमसे कैसा नाता.हमारी विपद हरो तुम, कृपा करो माता.मैय्या जय तुलसी माता..जय जय तुलसी माता, मैय्या जय तुलसी माता.सब जग की सुख दाता, सबकी वर माता॥मैय्या जय तुलसी माता..ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंAfghanistan News: पाकिस्तान से खफा हुआ तालिबान, जानिए अफगानिस्तान के रक्षामंत्री मुल्ला याकूब ने क्या दिया बयान?******Highlightsअफगानिस्तान में तालिबान की सत्ता आने के बाद से ही पाकिस्तान ने जैसा चाहा था वैसे संबंध तालिबान से नहीं बन पा रहे हैं। इससे उलट, भारत के प्रतिनिधियों ने तालिबान के शासकों से बात की। अकाल के समय खाद्यान्न भेजा। ऐसे सहयोग पर तालिबान का भारत के प्रति रवैया पहले से नरम पड़ा है। यही बात पाकिस्तान को चुभती है। ताजा मामले में तालिबान की एक और बात पाकिस्तान को चुभ गई है। दरअसल, अफगानिस्तान में मुल्ला उमर के बेटे और तालिबान सरकार के रक्षा मंत्री मुल्ला याकूब ने अमेरिकी ड्रोन हमले से अल जवाहिरी को मारने में पाकिस्तान का हाथ होने की बात कही है। इस बयान से पाकिस्तान के माथे पर चिंता की लकीरें देखने को मिल रही है। पाकिस्तान ने मुल्ला याकूब के आरोपों को अनुमानित आरोप करार दिया। पाकिस्तान ने इस बयान पर दुख भी जताया और कहा कि ये जिम्मेदार राजनयिक आचरण के मानदंडों का उल्लंघन है। दरअसल हाल ही में अमेरिका ने एक ड्रोन हमले में अल-कायदा के सरगना अयमान अल जवाहिरी को मार गिराया था।याकूब ने पाकिस्तान पर लगाया ये आरोपपाकिस्तानी विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा, 'अफगान मंत्री ने खुद स्वीकार किया है कि सबूतों का अभाव है। ये अनुमानित आरोप हैं जो बेहद खेदजनक हैं। जिम्मेदार राजनयिक आचरण के मानदंडों की ये अवहेलना है।' मुल्ला याकूब ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि उसी ने अमेरिकी ड्रोन को अफगानिस्तान में घुसने का रास्ता दिया है। मुल्ला याकूब ने कहा कि उनके खुफिया तंत्र ने ये जानकारी दी है। अल जवाहिरी के मरने के बाद तालिबान का पाकिस्तान पर यह बड़ा बयानी हमला है।अमेरिका ने नष्ट कर दिए थे रडारमुल्ला याकूब ने कहा, 'हमारा खुफिया तंत्र बताता है कि पाकिस्तान के रास्ते अमेरिकी ड्रोन अफगानिस्तान में घुसे हैं।' उन्होंने आगे कहा, 'हम पाकिस्तान से मांग करते हैं कि वह अमेरिका को अपने हवाई क्षेत्र को इस्तेमाल की मंजूरी न दे।' तालिबान का ये बयान तब आया है जब पाकिस्तान दावा करता रहा है कि उसने अपने हवाई क्षेत्र में अमेरिका को एक्सेस नहीं दिया।पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच तनावअमेरिका के रीपर ड्रोन ने काबुल में छिपे अलकायदा सरगना जवाहिरी को हेलफायर मिसाइल के जरिए मार गिराया था। तब से तालिबान और पाकिस्तान के बीच तनाव है। रिपोर्ट्स तो ये भी कहती हैं कि ड्रोन स्ट्राइक के बारे में जानते हुए भी पाकिस्तान ने अल जवाहिरी को मरने दिया। इस बात से तालिबान और पाकिस्तान के बीच दूरियां और बढ़ गई हैं। तालिबान के बारे में कई विदेश मामलों के एक्सपर्ट कह चुके हैं कि आगे चलकर यही तालिबान पाकिस्तान के लिए भस्मासुर बन सकता है।

ई-श्रम पोर्टल पर असंगठित क्षेत्र के चार करोड़ श्रमिकों का पंजीकरण, आधी से ज्यादा महिलाएं

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंChaitra Navratri 2022: कब से शुरू हो रही है चैत्र नवरात्रि, जानिए कैसे करें कलश स्थापना?******Highlightsपावन चैत्र नवरात्रि का त्योहार आने वाला है। माता दुर्गा की उपासना के लिए खास महत्व रखने वाले चैत्र नवरात्रि की शुरुआत चैत्र मास शुक्ल प्रतिपदा के दिन के हो जाती है। इस बार चैत्र नवरात्रि का त्योहार 2 अप्रैल 2022 से शुरू हो रहा है और 11 अप्रैल को 2022 तक रहेगा। इस दिन माता के कलश स्थापना या घट स्थापना का खास महत्व है। माता के उपासक पूरे नौ दिन तक अलग अलग रूप में माता की पूजा करते हैं। आइए जानते हैंचैत्र नवरात्रि में घट स्थापना के दौरान खास ध्यान दिया जाता है। घट स्थापना के दौरान उत्तर-पूर्व कोने में जल छिड़क कर साफ मिट्टी या बालू रखनी चाहिए। उस साफ मिट्टी या बालू पर जौ की परत बिछानी चाहिए। उसके ऊपर पुनः साफ मिट्टी या बालू की साफ परत बिछानी चाहिए और उसका जलावशोषण करना चाहिए। जलावशोषण यानि उसके ऊपर जल छिड़कना चाहिए। फिर उसके ऊपर मिट्टी या धातु के कलश की स्थापना करनी चाहिए और अब कलश को गले तक साफ, शुद्ध जल से भरना चाहिए और उस कलश में एक सिक्का डालना चाहिए। अगर संभव हो तो कलश के जल में पवित्र नदियों का जल जरूर मिलाना चाहिए। इसके बाद कलश के मुख पर अपना दाहिना हाथ रखकर इस मंत्र का जप करना चाहिए। मंत्र है -साथ ही वरुण देवता का भी आह्वान करना चाहिए कि वो उस कलश में अपना स्थान ग्रहण करें। इसके बाद कलश के मुख पर कलावा बांधकर ढक्कन या मिट्टी की कटोरी से कलश को ढक देना चाहिए। अब ऊपर ढकी गई कटोरी में जौ अथवा चावल भर लें। इसके बाद एक जटा वाला नारियल लेकर उसे लाल कपड़े से लपेटकर उसके ऊपर कलावा बांधें, इस प्रकार बंधे हुए नारियल को जौ या चावल से भरी हुई कटोरी के ऊपर स्थापित करें। ध्यान रहे कलश के ऊपर रखी गयी कटोरी में घी का दीपक जलाना उचित नहीं है। कलश का स्थान पूजा के उत्तर-पूर्व कोने में होता है जबकि दीपक का स्थान दक्षिण-पूर्व कोने में होता है।ध्यान रहे कि कलश स्थपना कि सारी विधि नवार्ण मंत्र पढ़ते हुए करनी चाहिए। नवार्ण मंत्र है- “ऊं ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डाय विच्चे”चैत्र नवरात्रि के दौरान दुर्गा सप्तशती का पाठ करना बड़ा ही फलदायी बताया गया है। जो व्यक्ति दुर्गा सप्तशती का पाठ करता है, वह हर प्रकार के भय, बाधा, चिंता और शत्रु आदि से छुटकारा पाता है। साथ ही उसे हर प्रकार के सुख-साधनों की प्राप्ति होती है। अतः चैत्र नवरात्रि के दौरान दुर्गा सप्तशती का पाठ अवश्य करना चाहिए।

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंफ्री WiFi के वादे को लेकर केजरीवाल का बड़ा ऐलान, दिल्ली में इंस्टॉल किए जाएंगे 11 हजार HotSpots****** दिल्ली में अगले साल चुनाव होने है। चुनावों से पहलेअरविंद केजरीवाल सरकार वोटर्स को साधने के लिए कई बड़े फैसले ले रही है। अब केजरीवाल सरकार ने पिछले विधानसभा चुनाव में किए गए के चुनावी वादे को लेकर बड़ा ऐलान किया है।ने कहा, “राजधानी दिल्ली में 11 हजार हॉट स्पॉट इंस्टॉल किए जाएंगे। फ्री वाईफाई देने का काम एक तरीक से शुरू हो चुका है। हर एक यूजर को 15 जीबी फ्री डाटा हर महीने दिया जाएगा। यह पहला चरण है।”अरविंद केजरीवाल ने ये भी कहा कि दिल्ली के हर विधानसभा क्षेत्र में 100 hotspots लगाए जाएंगे और 4 हजार hotspot सभी bus stops पर लगाए जाएंगे।ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंजनवरी से महंगा होगा मोटरसाइकिल और स्‍कूटर खरीदना, हीरो मोटोकॉर्प ने की कीमत 2000 रुपए तक बढ़ाने की घोषणा******Hero MotoCorp to hike prices by up to Rs 2,000 from Januaryनया साल मोटरसाइकिल और स्‍कूटर खरीदने वालों के लिए महंगा होगा। इसलिए अभी दिसंबर के महीने में वाहन खरीदने का अच्‍छा मौका है। अग्रणी दो-पहिया निर्माता हीरो मोटोकॉर्प ने सोमवार को कहा है कि वह जनवरी से अपनी मोटरसाइकिलों और स्‍कूटर के दाम में 2000 रुपए तक की वृद्धि करेगी। ने अपने एक बयान में कहा है कि यह मूल्‍यवृद्धि दो-पहिया वाहनों की संपूर्ण श्रृंखला में की जाएगी। कंपनी ने कहा कि मूल्‍यवृद्धि मॉडल और बाजार के हिसाब से अलग-अलग होगी। कंपनी ने मूल्‍यवृद्धि का कोई विशेष कारण नहीं बताया है।वर्तमान में कंपनी 39,900 रुपए से लेकर 1.05 लाख रुपए की कीमत में मोटरसाइकिल और स्‍कूटर की बिक्री कर रही है। पिछले हफ्ते देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने जनवरी से अपने वाहनों के दाम बढ़ाने की घोषणा की थी। मारु‍ति ने कहा है कि वह बढ़ती इनपुट लागत के बोझ को कम करने के लिए यह मूल्‍यवृद्धि कर रही है।अन्‍य कार निर्माताओं टोयोटा, महिंद्रा एंड महिंद्रा और मर्सिडीज-बेंज ने भी कहा है कि वो भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम बढ़ाएंगी।हालांकि, हुंडई मोटर इंडिया और होंडा कार्स इंडिया ने कहा है कि वह जनवरी से अपने वाहनों के दाम नहीं बढ़ाएगी लेकिन जब वह बाजार में अपने बीएस-6 अनुपालन वाले मॉडल पेश करेंगी तब इनके दाम जरूर बढ़ाए जाएंगे।

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंसरकार ने चीनी मिलों को दी राहत, शुगर एक्‍सपोर्ट की अवधि दिसंबर तक बढ़ाई******Govt extends sugar export deadline by 3 months till December सरकार ने चीनी मिलों को चालू चीनी वर्ष के लिए तय चीनी कोटा का अनिवार्य निर्यात पूरा करने के लिए अतिरिक्‍त तीन माह का समय प्रदान किया है। खाद्य मंत्रालय के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि सरकार के इस कदम के बाद चीनी मिलें दिसंबर, 2020 तक अपने तय कोटे का निर्यात कर सकेंगी। 2019-20 चीनी विपणन वर्ष (अक्‍टूबर से सितंबर) के लिए सरकार ने कोटा के तहत 60 लाख टन चीनी निर्यात की मंजूरी दी थी, ताकि देश में उत्‍पादित अतिरिक्‍त चीनी को निर्यात किया जा सके। खाद्य मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव सुबोध कुमार सिंह ने कहा कि 60 लाख टन 57 लाख टन चीनी के लिए सौदे हो चुके हैं। उन्‍होंने बताया कि मिलों ने 56 लाख टन चीनी को बंदरगाह के जरिये गंतव्‍य तक पहुंचा दिया है। उन्‍होंने कहा कि मौजूदा कोविड-19 महामारी के दौरान कुछ मिलों को निर्यात में चुनौती का सामना करना पड़ा है। कुछ राज्‍यों में परिवहन पर प्रतिबंध होने के कारण ये मिलें अपना स्‍टॉक मिलों से बाहर नहीं निकाल पाई हैं। सिंह ने कहा कि अधिकांश मिलों को महामारी की वजह से लॉजिस्टिक चुनौतियों का सामना करना पड़ा है। इसलिए हमनें यह निर्णय लिया है कि उन्‍हें अपने कोटा का निर्यात पूरा करने के लिए अतिरिक्‍त समय दिया जाए। इसलिए सरकार ने निर्यात अवधि को तीन माह बढ़ाकर दिसंबर तक कर दिया है। चीनी मिलें ईरान, इंडोनेशिया, नेपाल, श्रीलंका और बांग्‍लादेश जैसे देशों को चीनी का निर्यात करती हैं।अधिकारी ने बताया कि इंडोनोशिया में चीनी के निर्यात को लेकर गुणवत्‍ता से जुड़े कुछ मुद्दें थे, जिन्‍हें अब हल कर लिया गया है, इसकी वजह से भारत से चीनी निर्यात में वृद्धि आई है। सरकार 2019-20 विपणन वर्ष के दौरान 60 लाख टन चीनी निर्यात के लिए 6,268 करोड़ रुपए की सब्सिडी दे रही है ताकि घरेलू अतिरिक्‍त स्‍टॉक को कम किया जा सके और मिलों को गन्‍ना किसानों का बकाया चुकाने में मदद मिल सके।दुनिया में ब्राजील के बाद भारत दूसरा सबसे बड़ा चीनी उत्‍पादक है। 2019-20 विपणन वर्ष (अक्‍टूबर-सितंबर) में 2.73 करोड़ टन चीनी उत्‍पादन का अनुमान है। सूखे की वजह से महाराष्‍ट्र और कर्नाटक जैसे प्रमुख उत्‍पादक राज्‍यों में गन्‍ना उत्‍पादन घटने से पूर्व वर्ष की तुलना में चीनी उत्‍पादन कम रहेगा। लेकिन घरेलू चीनी उत्‍पादन अनुमानित वार्षिक खपत की तुलना में 2.5-2.6 करोड़ टन रहने का अनुमान है।ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंतमिलभाषी छात्रों को NEET परीक्षा में तमिल में प्रश्नप्रत्र और तमिलनाडु में सेंटर उपलब्ध कराए गए: CBSE****** (CBSE) ने कहा है कि जिन छात्रों ने मेडिकल में प्रवेश के लिए परीक्षा में माध्यम के रूप में भाषा को चुना, उन्हें तमिलनाडु में ही सेंटर उपलब्ध कराये गए थे और प्रश्नपत्र तमिल में ही दिए गए थे। तमिलनाडु के एक छात्र की परीक्षा केंद्र को लेकर शिकायत के बारे में CBSE के एक अधिकारी ने बताया कि तमिलनाडु के उस छात्र का दावा गलत था कि बोर्ड ने उदयपुर सेंटर जाने के लिए उसे मजबूर किया। छात्र के ऑनलाइन आवेदन के रिकॉर्ड से स्पष्ट होता है कि उसने परीक्षा केंद्र के लिए उदयपुर को एक विकल्प के रूप में चुना था।उन्होंने कहा कि तमिलनाडु के छात्रों को तमिल भाषा में प्रश्नपत्र से वंचित करने की खबर भी गलत पाई गई। जिन छात्रों ने नीट परीक्षा देने के लिए माध्यम के रूप में तमिल भाषा को चुना, उन्हें तमिलनाडु में ही सेंटर उपलब्ध कराए गए थे और प्रश्नपत्र तमिल में ही दिए गए थे। अधिकारी ने बताया कि इस बार नीट परीक्षा देने वाले तमिलनाडु के छात्रों की संख्या में 31 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है और इसी के अनुरूप परीक्षा केंद्रों की संख्या भी बढ़ाई गई है। उन्होंने कहा कि हर जगह परीक्षा केंद्र नहीं बनाए जा सकते हैं, इसके लिए उपयुक्त इमारत और फर्नीचर आदि होने चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बार फर्मेसी और मेडिकल कालेजों से भी मदद ली गई।कई स्थानों पर ड्रेस कोड के अनुपालन को लेकर सख्ती की शिकायतों के बारे में पूछे जाने पर अधिकारी ने बताया,‘हमने उच्चतम न्यायालय के आदेश का अनुपालन किया है। इसमें ड्रेस कोड के बारे में हिदायतें दी गई थी। अतीत में ऐसे मामले आए थे जिसमें कुछ छात्रों को कई तरह के कदाचार में लिप्त पाया गया। इसलिए एहतियात बरती गई।’ उन्होंने कहा कि यह एक सामान्य प्रक्रिया है और ड्रेस कोड के बारे में सभी छात्रों को पता था। जब छात्र फॉर्म भर रहे थे और जब प्रवेश पत्र डाउनलोड कर रहे थे तब छात्रों को इस बारे में जानकारी दी गई थी। इस बारे में छात्रों और अभिभावकों को आकाशवाणी पर ज्ञानवाणी और एसएमएस के माध्यम से भी सूचित किया गया था।CBSE से प्राप्त जानकारी के अनुसार, छात्रों को करीब 1.33 करोड़ एसएमएस भेजे गए। इसके अलावा भी विभिन्न माध्यमों से अभिभावकों को भी सूचित किया गया था ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि छात्र बोर्ड के निर्देशों का पालन करें। NEET परीक्षा में इस वर्ष 1,46,542 छात्रों ने हिन्दी में, 10,60,923 छात्रों ने अंग्रेजी में, 57,299 छात्रों ने गुजराती में, 1,169 छात्रों ने मराठी में, 279 छात्रों ने ओडिया में, 27,437 छात्रों ने बांग्ला में, 3,848 छात्रों ने असमिया में, 1,979 छात्रों ने तेलगू में, 24,720 छात्रों ने तमिल में, 818 छात्रों ने कन्नड़ में और 1,711 छात्रों ने उर्दू में परीक्षा दी।

ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंएसएमई कंपनियों ने खींचा निवेशकों का ध्यान, आईपीओ से जुटाए 514 करोड़ रुपए****** निवेशकों की रूचि से उत्साहित इस साल 39 छोटे और मझोले उद्यमों (एसएमई) ने आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के माध्यम से इस साल अबतक 514 करोड़ रुपए जुटाए हैं। यह रकम पिछले पूरे साल के दौरान ऐसे निर्गमों से जुटाई गई कुल राशि के करीब करीब बराबर पहुंच गई है। पिछले साल एसएमई क्षेत्र के 66 आईपीओ से 540 करोड़ रुपए जुटाए गए थे।विशेषज्ञों का कहना है कि इस का श्रेय सरकार की ओर से लघु एवं मझौले उपक्रम क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए किए गए सुधारों एवं पहलों को जाता है। इन सुधारों से उन्हें कारोबार विस्तार एवं रोजमर्रा की व्यावासायिक जरूरत के लिए पूंजी जुटाना आसान हुआ है।जिन 39 कंपनियों ने आईपीओ लाया उनमें 22 ने एनएसई के एसएमई मंच पर शेयर सूचीबद्ध कराए और 365 करोड़ रुपए की पूंजी जुटाई। बाकी 17 कंपनियां बीएसई के एसएमई मंच पर 149 करोड़ रुपए जुटाए। इनमें वित्त, मीडिया, बुनियादी ढांचा, विनिर्माण, कृषि, आईटी और आईटी आधारित सेवा क्षेत्र की इकाइयां हैं।दिल्ली की जेएचएस स्वेंदगार्द लैबोरेटरीज लिमिटेड जेएचएस ने रोजमर्रा के उपभोक्ता उत्पाद बनाने वाली कंपनी प्रॉक्टर एंड गैंबल पीएंडजी के साथ अपने जारी विवादों को सुलझा लिया है। बंबई शेयर बाजार को दी जानकारी में कंपनी ने बताया कि उसके और पीएंडजी समूह की विभिन्न कंपनियों के साथ भारत की विभिन्न अदालतों में चल रहे विवादों का उसने निपटान कर लिया है। मामलों का निपटारा दोनों कंपनियों ने आपसी सहमति से अदालतों के बाहर किया है और यह जेएचएस के पक्ष में है।ईश्रमपोर्टलपरअसंगठितक्षेत्रकेचारकरोड़श्रमिकोंकापंजीकरणआधीसेज्यादामहिलाएंफीफा विश्व कप 2018: केन के दम पर इंग्लैंड ने ट्यूनीशिया को 2-1 से हराया******इंग्लैंड ने रूस में जारी के 21वें संस्करण में जीत के साथ शुरुआत करते हुए सोमवार देर रात ग्रुप जी के एक रोमांचक मुकाबले में ट्यूनीशिया को 2-1 से मात दी। पिछले विश्व कप में ग्रुप चरण और यूरो 2016 में दूसरे राउंड में बाहर होने वाली इंग्लैंड के लिए इस मैच में कप्तान हैरी केन ने दो गोल दागे जबकि ट्यूनीशिय के लिए एकमात्र गोल फेर्जानी सस्सी ने किया। विश्व कप में अपना पहला गोल करने वाले केन एक कप्तान के रूप में इंग्लैंड के लिए खेले सभी मैचों में गोल करने में कामयाब रहे हैं।वोल्गोग्राड ऐरेना में खेले गए इस मुकबाले में इंग्लैंड की शुरुआत शानदार रही। तीसरे मिनट में मिडफील्डर डैली एली ने बॉक्स में मौजूद जेसे लिंगार्ड को शानदार पास दिया लेकिन वह अपनी टीम के लिए पहला गोल करने में कामयाब नहीं हो पाए।इंग्लैंड ने अपनी तेज शुरुआत का फायदा उठाते हुए विपक्षी टीम की डिफेंस पर दबाव बनाया जिसका लाभ उन्हें मैच के 11वें मिनट में मिला। एश्ले यंग ने बॉक्स के बीच में बेहतरीन क्रॉस दिया जिसपर डिफेंडर जॉन स्टोन्स ने हेडर लगाया। हालांकि, ट्यूनीशिया के गोलकीपर मौएज हसन ने अपनी दाईं ओर कूदकर बेहतरीन बचाव किया और गेंद इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन के आगे गिरी जिन्होंने आसानी से गेंद को गोल में डालकर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी।पहला गोल करने के बाद इंग्लैंड ने अपने खेल में तेजी लाई लेकिन 35वें मिनट में डिफेंडर काइल वॉकर बॉक्स में गलती कर बैठे। वॉकर ने मिडफील्डर जिफहरदिने बेन यूसुफ को बॉक्स में कोहनी मारी और ट्यूनीशिया को तोहफे में पेनाल्टी दे दी। फेर्जानी सस्सी ने इस सुनहरे अवसर को जाया न करते हुए मैच में अपनी टीम के लिए पहला गोल दागा।बराबरी का गोल दागने के साथ ही ट्यूनीशिया इस विश्व कप में गोल दागने वाला पहला अफ्रीकी देश भी बन गया। जेसे लिंगार्ड को पहला हाफ समाप्त होने से पहले (44वें मिनट) अपनी टीम को बढ़त दिलाने का शानदार मौका मिला लेकिन वह गेंद को गोलपोस्ट पर मार बैठे।इंग्लैंडे ने दूसरे हाफ में अधिक समय तक गेंद पर नियंत्रण रखा और ट्यूनीशिया के डिफेंस को भेदने का प्रयास किया। हालांकि, ट्यूनीशिया के खिलाड़ियों ने विपक्षी टीम को गोल करने के अधिक मौके नहीं दिए। मैच के 66वें मिनट में जॉर्डन हैंडरसन ने डिफेंडर हैरी मैगुएर को बॉक्स में पास दिया लेकिन मैगुएर गेंद पर सही नियंत्रण नहीं बना सके।ऐसा लग रहाथा कि मैच 1-1 की बराबरी पर खत्महोगा लेकिन कप्तान हैरी केन ने इंजुरी टाइम (91वें मिनट) में किएरन ट्रिपियर द्वारा लिए गए कॉर्नर किक पर हेडर से गोल करके अपनी टीम को महत्वपूर्ण तीन अंक दिलाए।इंग्लैंड ग्रुप जी के अपने अगले मुकाबले में रविवार को पनामा से भिड़ेगी जबकि ट्यूनीशिया का सामना शनिवार को बेल्जियम से होगा।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 04:37
उद्धरण 1 इमारत
मेक्सिको में जुलूस पर हमलावरों ने बरसाईं गोलियां, 8 लोगों की मौत, कई घायल******मेक्सिको के क्वेनार्वाका शहर में शोक संबंधी जुलूस में शामिल हुए लोगों पर कुछ हमलावरों ने ताबड़तोड़ गोलियों की बारिश कर दी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस घटना में कम से कम 8 लोगों की मौत हो गई और 14 अन्य घायल हो गए हैं। घटना के चश्मदीदों ने बताया कि हमलावर शहर के एंटोनियो बैरोना के पड़ोस में एक निजी आवास पर वाहनों पर पहुंचे और उन लोगों पर गोलीबारी की, जो मोटरसाइकिल दुर्घटना में मारे गए एक युवक के शव के साथ जुलूस में चल रहे थे।मोरेलोस राज्य के अटॉर्नी जनरल के कार्यालय और पुलिस ने बुधवार को एक बयान में कहा कि मंगलवार की रात 10.40 पर हुए हमले में 15 और 16 वर्ष की आयु के 2 किशोर भी मारे गए लोगों में शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 4 पीड़ितों की गोली लगने के चलते मौके पर ही मौत हो गई, जबकि अन्य की अस्पताल ले जाते समय या इलाज के दौरान मौत हो गई। बयान में कहा गया है कि घायलों में 3 महिलाएं और 2 बच्चे भी शामिल हैं। अधिकारियों ने कहा कि प्रारंभिक जांच में स्थानीय संगठित अपराध का संकेत मिला है।घटना में करीब 40 गोलियां दागे जाने की बात कहते हुए अधिकारियों ने कहा, ‘बैलिस्टिक सामग्री के प्रारंभिक फोरेंसिक अध्ययन के अनुसार, घटना में इस्तेमाल किए गए बड़े हथियार हाल ही में दर्ज किए गए अन्य अपराधों में भी शामिल हैं।’ क्वेनार्वाका मोरेलोस राज्य की राजधानी है जहां कई संभ्रांत व्यक्तियों का घर हैं। केइस शहर में हालिया सालों में नशीली दवाओं से संबंधित अपराधों में वृद्धि हुई है।
2022-10-01 04:24
उद्धरण 2 इमारत
मरकज मामला: दिल्ली पुलिस ने 541 विदेशी जमातियों के खिलाफ दाखिल की चार्जशीट****** निजामुद्दीन मरकज मामले में विदेशी जमातियों के खिलाफ आज फिर दिल्ली पुलिस ने साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है। आज मलेशिया, इंडोनेशिया और किर्गिजस्तान इन तीन देशों के 541 जमातियों के खिलाफ कुल 12 चार्जशीट दाखिल की गई। कुल 12 हजार 339 पेज की चार्जशीट साकेत कोर्ट में दाखिल हुई है। इससे पहले बुधवार को 14 देशों के 292 जमातियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल हुई थी। इसमें माली, नाइजीरिया, श्रीलंका,कीनिया,तन्जानिया, साउथ अफ्रीका, म्यांमार, थाईलैंड, बांग्लादेश,नेपाल के अलावा कुछ अन्य देशों के भी जमातियों के नाम शामिल थे।मंगलवार को भी 20 देशों के 82 विदेशी जमातियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई थी। मंगलवार को दाखिल की गई चार्जशीट में अफगानिस्तान, ब्राजील, चाइना, यूएस, यूक्रेन, ऑस्ट्रेलिया, इजिप्ट, रशिया, अल्जीरिया, बेल्जियम, साउदी अरेबिया, जॉर्डन,फ्रांस,कजाकिस्तान, मोरक्को, ट्यूनीशिया, यूके, फुजी, सूडान, फिलीपींस के जमाति शामिल थे। मामले में अब तक कुल 915 विदेशी जमातियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है।तीन अलग-अलग धाराओं में चार्जशीट दाखिल हुई है। 14 फॉरेनर एक्ट, अपेडिमिक डिजीज एक्ट और डिजास्टर एक्ट के तहत इन लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है।चार्जशीट में मरकज मैनेजमेंट के रोल का भी जिक्र किया गया है वहीं मौलाना साद का भी उल्लेख है।विदेशी जमातियों के वीजा फॉर्म में मरकज निजामुद्दीन का पता दिया हुआ था, पूछताछ में इन जमातियों ने खुलासा किया था कि 20 मार्च के बाद मरकज में रुकने के लिए मौलाना ने ही कहा था।सभी विदेशी जमातियों को पहले 41 का नोटिस देकर जांच में शामिल करवाकर पूछताछ की गई थी।
2022-10-01 04:01
उद्धरण 3 इमारत
Happy Valentine's Day 2022: मनोरंजन जगत की हस्तियां कैसे मना रही हैं वैलेंटाइन डे? यहां देखें तस्वीरें******प्यार के इस खास दिन को सेलिब्रेट करने के लिए बॉलीवुड सेलेब्स एक साथ नजर आए हैं। कई सेलिब्रिटी ने सोशल मीडिया पर अपने स्पेशल पर्सन के लिए इस दिन के लिए विश किया। कुछ ने मिडनाइट वैलेंटाइन्स डे भी मनाया। हाल ही में शादी के बंधन में बंधे अभिनेता विक्की कौशल और कैटरीना कैफ हवाई अड्डे पर हाथ में हाथ डाले तस्वीरों में कैद किए गए।विक्की कौशल और कैटरीना कैफ की शादी के बाद पहला वेलेंटाइन डे है। ये कपल एक साथ इस दिन बिताने के लिए सामने आए।वहीं नेहा कक्कड़ और रोहनप्रीत सिंह ने केक और गुलाब के साथ तस्वीरें शेयर कर मिडनाइट वैलेंटाइन डे का जश्न मनाया।सोनम कपूर-आनंद आहूजा और सोहा अली खान-कुणाल खेमू ने मनमोहक पोस्ट के साथ एक-दूसरे के लिए अपने प्यार का इजहार किया। करण सिंह ग्रोवर और बिपाशा बसु ने भी इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए इस खास दिन को मनाया।
वापसी
नई पोस्ट करें
488083
विषयों की संख्या
6316
पदों की संख्या
26976
उपयोगकर्ता संख्या
488083
ऑनलाइन
54