नई पोस्ट करें

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

2022-10-01 06:12:49 171

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजहरियाणा में 26 सितंबर से खुलेंगी यूनिवर्सिटी और कॉलेज, पढ़िए छात्रों के लिए शिफ्ट और टाइमिंग******देश में इस समय की प्रक्रिया जारी है। कुछ राज्यों ने 9वीं से 12वीं तक के स्कूलों को खोल दिया है। वहीं सरकार ने कोरोनोवायरस प्रकोप के बीच विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को फिर से खोलने की अनुमति दी है ताकि छात्रों को अपने शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने में सक्षम बनाया जा सके। कक्षाओं का ट्रायल रन 26 सितंबर से शुरू होगा। 22 सितंबर को एक सरकारी आदेश में, उच्च शिक्षा विभाग ने राज्य के सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों कोरोनोवायरस से संबंधित सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल को पूरा करते हुए शिक्षण कार्य फिर से शुरू करने का निर्देश दिया है।सभी कॉलेजों के प्राचार्यों एवं यूनिवर्सिटी के कुलपतियों को इस संदर्भ में हिदायतें जारी की गई हैं। विद्यार्थियों को रोटेशन आधार पर बुलाया जाएगा। साथ ही, अलग-अलग शिफ्ट भी होंगी ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देशों के तहत उच्चतर शिक्षा विभाग ने यह गाइड लाइन जारी की है। 25 सितंबर तक सभी कॉलेजों एवं विश्वविद्यालयों को तैयारियों का ब्यौरा मुख्यालय को भेजना होगा। 26 सितंबर से कॉलेजों एवं यूनिवर्सिटी में ट्रायल रन शुरू होगा।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजSA T20 League Auction: मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी पर सनराइजर्स ने लगाई सबसे बड़ी बोली, देखें सभी टीमों के स्क्वॉड******Highlightsसाउथ अफ्रीका में होने वाली टी20 लीग की नीलामी पूरी हुई और इसमें आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए खेलने वाले अफ्रीकी युवा बल्लेबाज ट्रिस्टन स्टब्स (Tristan Stubbs) सबसे महंगे बिके। स्टब्स पर सनराइजर्स हैदराबाद की फ्रेंचाइजी सनराइजर्स ईस्टर्न केप ने 9.2 मिलियन R (South African Rand, 1 R= 4.50 INR) में खरीदा था। इसके अलावा साउथ अफ्रीका के ही रिली रोस्यू (Rilee Rossouw) पर दिल्ली कैपिटल्स की टीम प्रिटोरिया कैपिटल्स ने 6.9 मिलियन R का दांव खेला और उन्हें खरीद लिया।इस लीग के लिए फ्रेंचाइजीज ने अपने-अपने स्क्वॉड तैयार कर लिए हैं। कई बड़े खिलाड़ियों को खरीददार भी नहीं मिले। आइए देखते हैं एक-एक करके सभी टीमों के स्क्वॉड:-: फाफ डु प्लेसिस, गेराल्ड कोएत्जी, महेश थीक्षाना, रोमारियो शेफर्ड, हैरी ब्रुक, जानेमन मालन, रीजा हेंड्रिक्स, काइल वेरेन, जॉर्ज गार्टन, अल्जारी जोसेफ, ल्यूस डु प्लॉय, लुईस ग्रेगरी, लिजाद विलियम्स, डोनावन फरेरा, नंद्रे बर्गर , मालुसी सिबोटो, कालेब सेलेक।: एडेन मार्करम, ओटनील बार्टमैन, मार्को यान्सन, ट्रिस्टन स्टब्स, सिसांडा मगला, जुनैद दाऊद, मेसन क्रेन, जॉन-जॉन स्मट्स, जॉर्डन कॉक्स, एडम रॉसिंगटन, रोएलोफ वैन डेर मेर्वे, मार्केस एकरमैन, जेम्स फुलर, ब्रायडन कारसे, सरेल एरवी, आया गकामाने, टॉम एबेल।: डेविड मिलर, कॉर्बिन बॉश, जोस बटलर, ओबेद मैकॉय, लुंगी एनगिडी, तबरेज शम्सी, जेसन रॉय, डेन विलास, ब्योर्न फोर्टुइन, विहान लुबे, फेरिस्को एडम्स, इमरान मैनैक, इवान जोन्स, रेमन सिममंड्स, मिशेल वैन बुरेन, इयोन मॉर्गन, कोडी यूसुफ।: क्विंटन डी कॉक, प्रेनेलन सुब्रायन, जेसन होल्डर, काइल मायर्स, रीस टॉपली, ड्वेन प्रिटोरियस, हेनरिक क्लासेन, कीमो पॉल, केशव महाराज, काइल एबॉट, जूनियर डाला, दिलशान मदुशंका, जॉनसन चार्ल्स, मैथ्यू ब्रीट्जके, क्रिस्टियान जोंकर, वियान मुलडर, साइमन हार्मर।: कगिसो रबाडा, डेवाल्ड ब्रेविस, राशिद खान, लियाम लिविंगस्टोन, सैम कुरन, रस्सी वान दर डूसेन, रयान रिकेलटन, जॉर्ज लिंडे, बेउरन हेंड्रिक्स, डुआन जेनसेन, डेलानो पोटगाइटर, ग्रांट रूलोफसेन, वेस्ले मार्शल, ओली स्टोन, वकार सलामखिल , जियाद अबराम्स, ओडियन स्मिथ।: एनरिक नॉर्खिया, मिगेल प्रिटोरियस, रिले रोस्यू, फिल साल्ट, वायन पार्नेल, जोश लिटिल, शॉन वॉन बर्ग, आदिल रशीद, कैमरन डेलपोर्ट, विल जैक, थ्यूनिस डी ब्रुइन, मार्को मरैस, कुसल मेंडिस, डेरिन डुपाविलॉन, जिमी नीशम, ईथन बॉश, शेन डैड्सवेल।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाज10 हजार रुपये से कम कीमत का मोटो E7 प्लस लॉन्च, जानिए क्या हैं फीचर्स******नई दिल्ली। लेनोवो के स्वामित्व वाले स्मार्टफोन ब्रांड मोटोरोला ने बुधवार को भारत में एक नए स्मार्टफोन मोटो ई7 प्लस को लॉन्च किया है, जिसकी कीमत 9,499 रुपये रखी गई है। स्मार्टफोन को 30 सितंबर को दोपहर बारह बजे से फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध कराया जाएगा। इसके दो कलर वेरिएंट हैं, मिस्टी ब्लू और ट्विलाइट ऑरेंज। फोन इसी महीने सबसे पहले ब्राजील में उतारा गया था। ये 10 हजार रुपये से कम कीमत में पहला स्मार्टफोन है जिसमें सेंसर के सहित 48 मेगापिक्सल कैमरा दिया गया है। कंपनी ने अपने एक बयान में कहा है, "मोटोरोला के ई सीरीज वाले स्मार्टफोन दुनियाभर के उन स्मार्टफोन यूजर्स की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए मशहूर है, जो नए जमाने के डिजाइन और बेहतरीन फीचर्स के साथ गुणवत्ता को सुधारने की चाह रखते है।"स्पेसिफिकेशन की बात करें, तो स्मार्टफोन में 20:9 के आस्पेक्ट रेशियो के साथ 6.5 इंच का एचडी प्लस डिस्प्ले दिया गया है। यह डिवाइस ओक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 460 एसओसी द्वारा संचालित है, जिसमें ग्राफिक्स के लिए एड्रेनो 610 जीपीयू है। इसके अलावा, फोन में 4जीबी रैम और 64 जीबी रोम मेमोरी और इंटरनल स्टोरेज की सुविधा दी गई है, जिसे माइक्रो एसडी कार्ड का उपयोग करके 512 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। स्मार्टफोन में डुअल रियर कैमरा सेटअप है जिसमें एफ/1.7 लेंस के साथ 48 एमपी का प्राइमरी सेंसर है और एफ/2.4 लेंस के साथ 2एमपी का सेकेंडरी सेंसर है। फोन में आगे की ओर 8एमपी का सेल्फी कैमरा है जिसे एफ/2.2 लेंस के साथ पेयर किया गया है।मोटोरोला ई7 प्लस में 5000 एमएएच बैटरी है जो 10 वॉट चार्जिंग को सपोर्ट करती है। इसके साथ ही इसमें फिंगरप्रिंट सेंसर, 4g LTE, वाई फाई माइक्रो यूएसबी, जीपीएस आदि शामिल हैं। इस स्मार्टफोन की मुकाबला रेडमी 9 प्राइम, सैमसंग गैलेक्सी एम 11, रियलमी नारजो 20 इन, से होगा।

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजRaju Srivastav के फैन ने अस्पताल में की हद पार, बिना परमिशन ICU जा घुसा और फिर...******Highlightsकॉमेडियन व एक्टर राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastav) बीते कई दिनों से दिल का दौरा पड़ने के कारण दिल्ली के एम्स में भर्ती हैं। इस दौरान लगातार उनके करीबी और फैंस उनकी सेहत को लेकर दुआएं मांग रहे हैं। लोग सोशल मीडिया पर लगातार उनकी सेहत की जानकारी (Raju Shrivastav Health Update) पाने के लिए उत्सुक रहते हैं, वह राजू के होश में आने की खुशखबरी सुनना चाहते हैं। लेकिन इसी बीच एक शख्स ने सारी हदें पार करते हुए राजू श्रीवास्तव के पास जाने की कोशिश की है।कुछ मीडिया रिपोर्ट्स ने जानकारी दी है कि मंगलवार को राजू श्रीवास्तव जिस ICU में एडमिट हैं, उसमें एक अज्ञात शख्स ने बिना किसी की अनुमति के एंट्री की। बात यहीं खत्म नहीं हुई इस शख्स ने राजू श्रीवास्तव के साथ एक सेल्फी लेने की कोशिश की। लेकिन मौजूद स्टाफ ने उसे रोक लिया और राजू श्रीवास्व की फैमिली भी वहां आ गई। जिसके बाद ICU के बार सुरक्षा बढ़ा दी गई है। खबरों की माने तो वह शख्स खुद को राजू का फैन बता रहा था।इसी बीच अच्छी खबर यह है कि कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastav) की सेहत कुछ समय से स्थिर है। बीते दिनों डॉक्टर्स ने एक अच्छी खबर मीडिया को दी थी कि राजू अब ठीक इलाज के लिए ठीक रिस्पॉन्स कर रहे हैं। उनके शरीर की मूमेंट पहले से बेहतर हैं। उनका ब्लडप्रेशन भी अब पहले से ठीक है और ऑक्सीजन सप्लाई को भी 10 प्रतिशत तक घटा दिया गया है।आपको बता दें कि बीते दिनों किसी ने राजू की तबियत बिगड़ने की अफवाह फैलाई थी, जिसके बाद राजू के परिवार के सदस्यों ने नाराजगी जताते हुए यह कहा था कि वह अब ठीक हो रहे हैं। राजू के छोटे भाई ने वीडियो शेयर करके यह अनुरोध किया था कि कॉमेडियन को लेकर किसी झूठी या अधूरी जानकारी को शेयर ना करें।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजHome Loan पर 31 मार्च तक सरकार दे रही है यह बड़ी छूट, बचा सकते हैं 5​ लाख का टैक्स******Home LoanHighlightsइनकम टैक्‍स बचाने का सीजन आ गया है। ऐसे में हर कमाऊ व्‍याक्ति यही चाहता है कि उसे कम से कम टैक्‍स देना पड़े। ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं कि आप अपने होम लोन पर किस तरह से 5 लाख रुपये तकआयकर छूट प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि, इसके लिए जरूरी है कि आप होम लोन 31 मार्च, 2022 से पहले ले लें।आयकर की धारा-80C के तहत आप होम लोन के मूलधन भुगतान पर 1.5 लाख रुपये तक की कर छूट प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि, इस धारा के तहत छूट की शर्त यह है कि प्रॉपर्टी का निर्माण लोन लेने वाले वित्त वर्ष के खत्‍म होने से 5 साल के भीतर पूरा हो जाना चाहिए। वहीं, जिस घर के लिए होम लोन लिया गया है उसे खरीदे जाने के 5 साल तक बेचा नहीं जा सकता है। इस सेक्शन में स्टाम्प ड्यूटी और रजिस्ट्रेशन चार्जेज भी शामिल होता है।आयकर की धारा 24(B) के तहत आप होम लोन के एवज में ब्याज अदायगी पर 2 लाख रुपये तक की कर छूट ले सकते हैं। यह छूट घर का निर्माण पूरा होने के साल से क्लेम की जा सकती है। हालांकि, इसमें एक शर्त यह है कि जिस वित्त वर्ष में लोन लिया गया है, उस वित्त वर्ष के समाप्त होने के बाद अगले पांच साल के भीतर कंस्ट्रक्शन का काम पूरा हो जाना चाहिए।अगर आप पहली दफा घर खरीदने जा रहे हैं और प्रॉपर्टी की कीमत 45 लाख या कम है तो आप होम लोन पर अतिरिक्त आयकर छूट प्राप्त कर सकते हैं। सरकार पहली दफा घर खरीदारों को आयकर की धारा-80EEA के तहत 1 अप्रैल, 2019 से 31 मार्च, 2022 तक 1.5 लाख रुपये तक की अतिरिक्त कर छूट दे रही है।इस तरह, आयकर की धारा-80सी के तहत 1.5 लाख रुपये, धारा-80EEA के तहत 1.5 लाख रुपये और धारा 24(B) के तहत 2 लाख रुपये तक की आयकर छूट आप ले सकते हैं। यानी आप 31 मार्च,2022 तक होम लोन लेकर 5 लाख रुपये की आयकर छूट आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजMadhya Pradesh News: अवैध तौर पर चल रहे मल्टी स्पेशिलिटी हॉस्पिटल को किया गया सील, संचालक पर मामला दर्ज******Highlightsमध्यप्रदेश के इंदौर जिले में बिना पंजीयन के अवैध तौर पर चलाए जा रहे एक निजी अस्पताल को प्रशासन ने सील कर दिया है। इसके साथ ही, अस्पताल संचालक पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। प्रशासन के एक अधिकारी ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी।अधिकारी ने बताया कि हमें खबर मिली थी कि यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर सिमरोल कस्बे में मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल के रूप में चलाया जा रहा है। मौके पर पहुंच हमने हॉस्पिटल में जांच की। जांच में हॉस्पिटल अवैध निकला। जिस पर एक्शन लेते हुए एक निजी हॉस्पिटल को सील कर दिया गया। उन्होंने बताया कि प्रशासन की जांच में पाया गया कि हॉस्पिटल के रजिस्ट्रेशन का आवेदन अपूर्ण होने से स्वास्थ्य विभाग द्वारा काफी पहले खारिज कर दिया गया था, लेकिन इसके बावजूद हॉस्पिटल में मरीजों को भर्ती किया जा रहा था और पैथोलॉजी लैब भी चलाई जा रही थी।अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के निरीक्षण के दौरान हॉस्पिटल में एक्पायर हो चुकी दवाइयां भी मिली हैं जिन्हें मरीजों को दिए जाने पर उनकी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता था। उन्होंने बताया कि हॉस्पिटल के संचालक डी एल देवड़ा और अन्य लोगों के खिलाफ मध्यप्रदेश नर्सिंग होम और हॉस्पिटलिटी इस्टैब्लिशमेंट (रजिस्ट्रेशन और लाइसेंसिंग) एक्ट 1973 और IPC के धाराओं के तहत FIR दर्ज की गई है।

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजशेयर बाजार में जोरदार तेजी से कंपनियों की बल्ले-बल्ले, एक हफ्ते में 2.72 लाख करोड़ बढ़ी पूंजी******sensexHighlights सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह 2.72 लाख करोड़ रुपये का जबर्दस्त उछाल आया। वैश्विक बाजारों में तेजी के रुख के बीच यहां भी जोरदार लिवाली से सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों के बाजार मूल्यांकन में अच्छी-खासी वृद्धि हुई। छुट्टियों वाले कम कारोबारी सत्रों के सप्ताह में बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 2,313.63 अंक या 4.16 प्रतिशत के लाभ में रहा। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 656.60 अंक या 3.95 प्रतिशत चढ़ गया।रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 54,904.27 करोड़ रुपये बढ़कर 16,77,447.33 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनियों टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इन्फोसिस टेक्नोलॉजीज का बाजार मूल्यांकन सामूहिक रूप से 41,058.98 करोड़ रुपये बढ़ा। समीक्षाधीन सप्ताह में टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 27,557.93 करोड़ रुपये बढ़कर 13,59,475.36 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। वहीं इन्फोसिस का मूल्यांकन 13,501.05 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 7,79,948.32 करोड़ रुपये रहा।देश के शीर्ष बैंकों एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के बाजार मूल्यांकन में जोरदार उछाल आया। एचडीएफसी बैंक का बाजार मूल्यांकन 46,283.99 करोड़ रुपये बढ़कर 8,20,747.17 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। एसबीआई की बाजार हैसियत 27,978.65 करोड़ रुपये बढ़कर 4,47,792.38 करोड़ रुपये और आईसीआईसीआई बैंक की 29,127.31 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 5,00,174.83 करोड़ रुपये रही। हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 1,703.45 करोड़ रुपये बढ़कर 4,93,907.58 करोड़ रुपये रही। बजाज फाइनेंस का बाजार मूल्यांकन 22,311.87 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,22,325.91 करोड़ रुपये रहा। एचडीएफसी का बाजार पूंजीकरण 33,438.47 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,37,859.67 करोड़ रुपये रहा।सप्ताह के दौरान दूरसंचार क्षेत्र की दिग्गज कंपनी भारती एयरटेल की बाजार हैसियत 15,377.68 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 3,96,963.73 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एसबीआई, एचडीएफसी, बजाज फाइनेंस और भारती एयरटेल का स्थान रहा।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजतेजी से वजन घटाने और पेट की चर्बी कम करने के लिए बस अपनाएं ये सिंपल टिप्स, कुछ ही दिनों में दिखेगा असर******आज के समय में हर चौथा व्यक्ति मोटापे की समस्या से परेशान हैं। जिससे निजात पाने के लिए कई तरह के उपाय अपनाता है। अधिक से अधिक समय वर्कआउट और एक कठिन डाइट में निकाल देता है। ऐसे में उन लोगों के लिए फिट बॉडी पाना एक जुनून सा होता है। अगर आप भी तेजी से अपना वजन करना चाहते हैं तो इसमें आपकी मदद येहेल्दी उपाय कर सकते हैं। इसके लिए बस आपको अपनी और खानपान में थोड़ा सा बदलाव करना होगा।अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आप कितने ज्यादा निश्चय किया है। लेकिन अना एक डाइट प्लान जरूर बना लें। इससे आपके वजन करने में काफी मदद मिलेगी। इसलिए दिन में कई बार यानी हर 4 घंटे में कुछ न कुछ थोड़ी-थोड़ी मात्रा में जरूर खाएं। इससे आप ज्यादा खाना भी नहीं खा पाएंगे। इसके साथ ही यह आसानी से पच जाएगा। जिससे आपको वजन कम करने में मदद मिलेगी।अपनी डाइट में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा रखें। इससे आपकी मसल्स बनेगी। इसके साथ ही भूख कम लगेगा। जिससे वजन कम करने के साथ-साथ दूसरी बीमारियों से भी कोसों दूर रहेंगे। इसलिए अपनी डाइट में अंडा, चिकन, दाल, सब्जी और फलियां जरूर शामिल करें।एक अच्छी डाइट के साथ-साथ वर्कआउट करने में भी थोड़ा सचेत रहने की जरूरत है। इससे आपका वजन तेजी से कम होने के साथ आप फिट रहेंगे। लेकिन जरूरी नहीं है कि आप इतना ज्यादा करे कि थकावट आ जाए। बस खुद को फिट रहने के लिए योग, एक्सरसाइज का सहारा जरूर लें।शरीर को हाइड्रेट करने के साथ वजन कम करने में सबसे ज्यादा मदद पानी ही करेगा। इसलिए जरूरी है कि अधिक से अधिक पानी पिएं। इसके साथ ही खाने से थोड़ी देर पहले पानी जरूर पिएं। इससे आप लिमिट से ज्यादा खाने से बच जाएंगे। जिससे आपका पाचन तंत्र ठीक ढंग से काम करने के साथ फैट कम करने में मदद करेगा।आमतौर पर माना जाता है कि अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो कार्बोहाइड्रेट वाली चीजों से दूरी बना लें। ऐसा करने से हमारे शरीर में कमजोरी आने लगती है। इसके साथ ही तेजी से फाइबर की कमी होने लगती है। इसलिए अपनी डाइट में थोड़ा ही सही लेकिन कार्ब्स वाली चीजें जरूर शामिल करें।

GT vs LSG, IPL 2022: गुजरात और लखनऊ का आज होगा IPL में डेब्यू, जीत से करना चाहेंगे आगाज

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजBig changes in IPC & CRPC: अब मोदी-शाह के ब्रह्म फांस से बच नहीं सकेंगे अपराधी, बदल जाएंगे IPC और CrPC के ज्यादातर कानून******Highlights प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह विभिन्न जघन्यतम अपराधों में संलिप्त अपराधियों को अब इतनी कड़ी से कड़ी और जल्द सजा दिलाने के प्रावधान पर काम कर रहे हैं कि इसके बारे में जानकर शातिरों की रूह कांप जाएगी। खूंखार से खूंखार अपराधियों को फांसी के फंदे तक पहुंचाने और उन्हें सख्त सजा दिलाने के लिए इंडियन पीनल कोड (आइपीसी) यानि भारतीय दंड संहिता और क्रिमिनल प्रोसिजर कोड (सीआरपीसी) में भी बड़े बदलाव की तैयारी हो चुकी है।पीएम मोदी और अमित शाह इस बदलाव को हरी झंडी भी दे चुके हैं। अब देश की आजादी से पहले चले आ रहे आइपीसी और सीआरपीसी में व्यापक बदलाव किए जाएंगे। ताकि अपराधी कानून के शिकंजे से किसी भी दांवपेंच से खुद को बचा नहीं सके। इसके लिए राष्ट्रीय फॉरेंसिक साइंस विश्वविद्यालय की संरचना और उपयोगिता को लगातार मजबूत करने पर जोर दिया जा रहा है।अब छह वर्ष से अधिक की सजा वाले अपराधों में फॉरेंसिक जांच को अनिवार्य किया जा रहा है। ताकि अपराधी को जल्द सजा दिलाई जा सके। साथ ही यह प्रावधान किसी मामले में फर्जी रूप से फंसाए गए अपराधियों को बचाने का भी काम करेगा। किसी मामले में फर्जी रूप से फंसाए गए आरोपी के खिलाफ फॉरेंसिक जांच में सुबूत नहीं मिलने पर वह इस मकड़जाल से बचकर बाहर भी आ सकेगा। इसका मकसद निर्दोष को बाहर निकालना और अपराधियों को सजा की दहलीज तक पहुंचाना है। इसके लिए सरकार हर जिले में कम से कम एक मोबाइल फॉरेंसिक जांच यूनिट उपलब्ध कराने के लक्ष्य पर काम कर रही है, जिसमें जांच में पूरी निष्पक्षता और पारदर्शिता हो। साथ ही किसी भी तरह से जांच के प्रभावित होने की आशंका न हो।अमित शाह के अनुसार भारत में अब ऐसी प्रणाली विकसित होने जा रही है, जिससे विकसित देशों से भी अधिक सजा दिलाने की दर को हासिल किया जा सकेगा। इसके लिए बड़ी संख्या में देश में फॉरेंसिक साइंस विशेषज्ञ तैयार किए जाएंगे। साथ ही फॉरेंसिक साक्ष्यों को कानूनी बनाया जाएगा। यह तभी संभव हो सकेगा जब छह साल से अधिक सजा वाले मामलों में फॉरेंसिक जांच को अनिवार्य कानून के दायरे में लाया जाए।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कानून मंत्रालय अब आइपीसी और सीआरपीसी में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। सरकार का मानना है कि देश को आजादी मिलने के बाद से किसी भी सरकार ने अब तक इन कानूनों को आधुनिक परिप्रेक्ष्य में नहीं देखा। अंग्रेजो के समय में बनाए गए कानून को लिहाजा देश बोझ की तरह ढोता आ रहा है। इसलिए अब ऐसे कानूनों को बदलने की जरूरत महसूस की जा रही है। इतना ही नहीं अपराधियों को सजा के मुहाने तक पहुंचाने के लिए भारतीय साक्ष्य अधिनियम में भी बड़े परिवर्तन किए जाएंगे। इसके लिए कानून मंत्रालय विशेषज्ञों से भी राय ले रहा है।पीएम मोदी की महत्वाकांक्षा के अनुरूप भारतीय फॉरेंसिक साइंस के प्रारूप को कुछ इस तरह अत्याधुनिक किया जा रहा है कि यहां ऐसे विशेषज्ञ तैयार हों, जिनके कार्यों की उत्कृष्टता से देश इस क्षेत्र में बड़ा मुकाम हासिल कर सके। विश्व स्तरीय फॉरेंसिक साइंस का जलवा दुनिया के मानस पटल पर अंकित हो सके।केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी की महत्वाकांक्षा और देश की जरूरतों के मुताबिक भारतीय फॉरेंसिक साइंस विश्वविद्यालय लगातार अपने दायरे को बढ़ाता जा रहा है। अब तक गोवा, त्रिपुरा, मणिपुर, मध्यप्रदेश और असम में इसके कैंपस शुरू हो गए हैं। कर्नाटक और महाराष्ट्र के पुणे में भी इसकी स्थापना का कार्य तेजी से चल रहा है।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाज'Anupamaa' छोड़ने के बाद पुराने समर ने झेली मुश्किलें? जानिए एक्टर ने दिया क्या जवाब******Highlightsहाल ही में पारस कलनावत (Paras Kalnawat) रूपाली गांगुली (Rupali Ganuly) के शो 'अनुपमा' से बाहर निकलने के लिए चर्चा में थे। अभिनेता अगली बार 'झलक दिखला जा 10' (Jhalak Dikhhla Jaa 10) में दिखाई देंगे। इस फेमस डांस रियलिटी शो को करण जौहर, माधुरी दीक्षित नेने और नोरा फतेही द्वारा जज किया जा रहा है। इस शो की शुरुआत के पहले समर यानी पारस ने फेमस शो से बाहर होने के अनुभव को शेयर किया है।हाल ही में पिंकविला से बातचीत में पारस ने 'झलक दिखला जा 10' (Jhalak Dikhhla Jaa 10) के कंटेस्टेंट बनने के डिसीजन पर बात की है। उन्होंने कहा, "झलक दिखला जा पांच साल बाद आ रहा है। यह सबसे बड़ा डांस रियलिटी शो है, जिसने मुझे शो हमेशा से आकर्षित किया है। क्योंकि मैं इसे बचपन से देख रहा हूं और मैंने हमेशा खुद को मंच पर होने की कल्पना की है।" कहा जाए तो इस शो में आना पारस के लिए बचपन का सपना पूरा करने जैसा है।जब पारस से पूछा गया कि क्या अनुपमा को छोड़ना मुश्किल था? तो पारस ने कहा, "बिल्कुल नहीं, क्योंकि यही मैंने अपने लिए चुना है। मेरा मानना ​​है कि जो कुछ भी होता है, जीवन में कुछ बेहतर होने के लिए होता है और मैं बस इस खूबसूरत यात्रा का इंतजार कर रहा हूं। मुझे इस यात्रा में बहुत कुछ सीखने को मिलेगा और मुझे बहुत सी नई चीजों का अनुभव होगा क्योंकि यह मेरे लिए बहुत नया है।" हालांकि पारस कलनावत ने कहा कि वह अब भी शो के अपने कुछ साथियों के संपर्क में हैं।क्या आप जानते हैं कि पारस का पसंदीदा डांस फॉर्म कौन सा है? इस सवाल के जवाब में वह बोले, "बॉलीवुड मेरा पसंदीदा डांस फॉर्म है क्योंकि जब मैंने होश संभाला उसके पहले से भी मैं बॉलीवुड फिल्में देखता रहा हूं। मैं हमेशा से बॉलीवुड डांस फॉर्म करता रहा हूं, इसलिए मेरे लिए दूसरे डांस फॉर्म काफी नए हैं। इसलिए अब तक मैं बॉलीवुड डांस फॉर्म को अपना फेवरेट मानता आया हूं।"गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजजामिया मिलिया इस्‍लामिया के हॉस्‍टल में रहने वाले छात्र दीवार फांदकर तोड़ रहे हैं लॉकडाउन****** जामिया मिलिया इस्‍लामिया ने गुरुवार को एक एडवाइजरी जारी कर हॉस्‍टल में रह रहे छात्र-छात्राओं से लॉकडाउन और सोशल डिस्‍टेंसिंग के अनुपालन में सहयोग करने के लिए कहा है क्‍योंकि कोरोना वायरस महामारी अब खतरनाक चरण में प्रवेश करने के लिए तैयार है। एडवाइजरी में यह भी कहा गया है कि कुछ ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें पुरुष छात्र परिसर की दीवार फांदकर बाहर जा रहे हैं। एडवाइजरी में छात्रों को इस तरह की गतिविधियों से दूर रहने के लिए कहा गया है। ने अपनी एडवाइजरी में कहा है कि कुछ पुरुष हॉस्‍टल में कुछ ऐसे मामले सामने आए हैं जहां छात्र दीवार फांदकर बाहर जाते हुए देखे गए हैं। यह बहुत ही गंभीर है और सुरक्षा जाल को तोड़ने एवं सोशल डिस्‍टेंसिंग के पूरे प्रयासों को खतरे में डालने वाला है। एडवाइजरी में सभी वार्डन को इस पर ध्‍यान देने की सलाह दी गई है और ऐसी परिस्थिति को बर्दाश्‍त न करने की बात कही है।एडवाइजरी में कहा गया है कि यदि छात्रों को एटीएम या अस्‍पताल जाने की जरूरत है, तो वे अपने वार्डन को इसकी जानकारी देंगे और उन्‍हें छोटे-छोटे समूहों में ले जाने के लिए एक वाहन या एम्‍बूलेंस का इंतजाम किया जाएगा।एडवाइजरी में सभी हॉस्‍टल वार्डन को अपने छात्रों के स्‍वास्‍थ्‍य पर कड़ी नजर रखने के लिए कहा गया है और बुखार, जुकाम या खांसी के कोई भी लक्षण पाए जाने पर तुरंत इसकी जानकारी देने के लिए कहा गया है। यह भी कहा गया है कि अवसाद और उदासी के लक्षणों वाले मामलों पर भी कड़ी नजर रखी जाए।एडवाइजरी में कहा गया है कि कुछ ऐसे मामले भी सामने आए हैं, जिसमें हॉस्‍टल में रहने वाले लड़के और लड़कियों ने अपनी मर्जी से हॉस्‍टल छोड़ दिया था और अब वे अपने हॉस्‍टल में वापस आना चाहते हैं। यह स्‍पष्‍ट किया गया है कि जब तक लॉकडाउन समाप्‍त नहीं होता तबतक किसी को भी हॉस्‍टल में वापस आने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजकैटरीना कैफ-विक्की कौशल को धमकी देने वाले शख्स को दो दिन की कस्टडी में भेजा गया******Highlightsमुंबई पुलिस ने विक्की कौशल और कैटरीना कैफ को धमकी देने के आरोप में मनविंदर सिंह नाम के एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। मनविंदर सिंह एक स्ट्रगलिंग एक्टर है, और कैटरीना का फैन है। वो कैटरीना से शादी करना चाहता था इसलिए कुछ महीनों से वो लगातार कैटरीना और विक्की को सोशल मीडिया पर परेशान कर रहा था इतना ही नहीं राह चलते वो कैटरीना का पीछा भी कर रहा था। आरोपी मुंबई में ही रहता है। उसे दो दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा गया है।कैटरीना कैफ और विक्की कौशल को जान से मारने मिल रही थी, जिसके बाद विक्की कौशल ने परेशान होकर मुंबईके सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया। सीआर संख्या 911/2022 यू / एस 506 (2), 354 (डी) आईपीसी आर / डब्ल्यू धारा 67 आईटी अधिनियम के तहत केस दर्ज हुआ और पुलिस ने जांच शुरू कर दी, और अब आरोपी गिरफ्तार भी किया जा चुका है।विक्की कौशल आज सुबह ही पुलिस स्टेशन पहुंचे थे। 4 घंटे में पुलिस ने आरोपी को सांताक्रूज इलाके से ही एक लॉज से पकड़ लिया।एक्टर सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करने आए थे कि एक व्यक्ति धमकी दे रहा है और इंस्टाग्राम पर धमकी भरे संदेश पोस्ट कर रहा है। शिकायतकर्ता विक्की कौशल ने कहा है कि आरोपी उनकी पत्नी कैटरीना कैफ का पीछा भी कर रहा है और उन्हें धमका रहा है।जिस आरोपी ने कैटरीना को धमकी दी है उसके अकाउंट में कई सारी एडिटेड तस्वीरें हैं जिसमें उसने कैटरीना के साथ खुद की फोटो लगाई है।9 दिसंबर को राजस्थान में शादी के बंधन में बंधने वाले कैटरीना और विक्की ने अभी तक इस मामले में पब्लिक प्लेटफॉर्म पर कोई टिप्पणी नहीं की है। विक्की और कैटरीना से पहले जून में एक्ट्रेस स्वरा भास्कर को एक लेटर के जरिए जान से मारने की धमकी मिली थी। एक्ट्रेस ने मुंबई के वर्सोवा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।सितारों के लिए मौत की धमकी और फिरौती के लिए कॉल आना कोई असामान्य बात नहीं है। बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान और उनके पिता सलीम खान को भी एक महीने पहले मौत की धमकी वाला पत्र मिला था। पिछले हफ्ते, सलमान ने मौत की धमकियों के बीच अपनी सुरक्षा के लिए हथियार लाइसेंस मांगने के लिए मुंबई पुलिस को एक लिखित आवेदन दिया।नवंबर 2021 में, कंगना रनौत ने हिमाचल प्रदेश के एक पुलिस स्टेशन में उन लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई, जिन्होंने कथित तौर पर कृषि कानून के प्रदर्शनकारियों पर उनके पोस्ट पर उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी।अक्टूबर 2021 में, गायक और 'बिग बॉस' के एक्स कंटेस्टेंट राहुल वैद्य को एक गाने के लिए धमकी भरे कॉल आए थे।विक्की कौशल और कैटरीना कैफ ने दिसंबर 2021 में राजस्थान में शादी की थी। इस शादी में सिर्फ करीबी गेस्ट ही शामिल हुए थे, विक्की और कैटरीना ने अभी तक किसी फिल्म में साथ काम नहीं किया है, फैंस दोनों को साथ में एक फिल्म में देखने के लिए उत्साहित हैं।विक्की कौशल के खाते में बड़े-बड़े डायरेक्टर्स की फिल्में हैं, जल्द ही एक्टर शशांक खेतान की फिल्म 'गोविंदा मेरा नाम' में नजर आने वाले हैं, यह फिल्म इसी साल रिलीज होने वाली है। इस फिल्म में पहली बार कियारा आडवाणी और भूमि पेडनेकर एक्टर विक्की कौशल संग स्क्रीन शेयर करेंगी।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजHome Delivery of Liquor: शराब की होगी होम ड‍िलीवरी केवल 10 म‍िनट में, इस राज्य के आबकारी विभाग ने दी मंजूरी******Highlightsशराब के शौकीनों के लिए जाम छलाकने वाली एक अच्छी खबर सामने आई है। दरअसल, कई राज्य सरकारों की तरफ से समय-समय पर शराब पर लगने वाला टैक्स कम क‍िया जाता रहा है। लेकिन एक राज्य है जहां के आबकारी विभाग ने इससे भी अच्छी खबर दी है। अगर आप पश्चिम बंगाल में रहते हैं तो शराब अब खुद चलकर आपके दरवाजे तक आएगी।कोलकाता में आपके घर पर शराब की डिलीवरी हो जाएगी और वह भी आर्डर करने के महज दस मिनट में ही। एक स्टार्टअप ने आर्डर करने के 10 म‍िनट के अंदर शराब की ड‍िलीवरी आपके दिए पते पर करने की सेवा शुरू की है। ये स्टार्टअप शराब के लिए देश का पहला ऑनलाइन प्‍लेटफार्म होने का दावा करता है। दरअसल, हैदराबाद बेस्ड एक स्टार्टअप ने कोलकाता में महज 10 मिनट के अंदर शराब की ड‍िलीवरी करने की सर्व‍िस शुरू की है।इनोवेंट टेक्नोलाजीज प्राइवेट लिमिटेड की तरफ से रन क‍िए जाने वाले ब्रांड बूजी की ओर से एक बयान में इस सर्व‍िस को शुरू करने की जानकारी दी गई है। कंपनी की तरफ से दावा क‍िया गया क‍ि 10 मिनट के अंदर शराब पहुंचाने की पेशकश करने वाला देश का पहला आनलाइन प्लेटफार्म है। बयान के मुताबिक, इस फास्ट ड‍िलीवरी सर्व‍िस के ल‍िए बूजी को पश्चिम बंगाल राज्य आबकारी विभाग से मंजूरी मिल गई है।बूजी एक ड‍िलीवरी एग्रीगेटर प्लेटफार्म है, जो शराब की नजदीकी दुकानों से प्रोडक्ट लेकर ग्राहकों के पास पहुंचाता है। कंपनी ने यह भी कहा क‍ि इस फास्ट सर्व‍िस के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआइ) का भी यूज किया जाता है। बूजी के को-फाउंडर एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) विवेकानंद बलिजेपल्ली ने कहा कि प्रौद्योगिकी के उन्नत इस्तेमाल से शराब आपूर्ति और उपयोग से जुड़ी तमाम आशंकाओं को दूर करने की कोशिश की गई है।

गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजShooter Santosh Jadhav Arrest: सलमान खान को मिली धमकी और मूसेवाला की मौत के रहस्य से उठेगा पर्दा, शूटर संतोष जाधव गिरफ्तार******Highlights पंजाबी गायक और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के आरोपियों की धरपकड़ में पुलिस लगी हुई है। इसी बीच मूसेवाला केस में शूटर संतोष जाधव को गिरफ्तार कर लिया है। पुणे पुलिस ने संतोष को गुजरात से गिरफ्तार किया है। मूसेवाला केस में शूटर है संतोष। पुणे क्राइम ब्रांच के अधिकारी ने गिरफ्तारी की पुष्टि कर दी है। संतोष जाधब के साथ उसके एक साथी को भी अरेस्ट किया गया है, जिसका नाम नवनाथ सूर्यवंशी है। फिलहाल क्राइम ब्रांच ने इनकी गिरफ्तारीं मकोका केस में ओमकार की हत्या के मामले में दिखाई है। लारेंस बिश्नोई गिरोह के सदस्य जाधव को 2021 में पुणे जिले के मंचर पुलिस स्टेशन में दर्ज एक हत्या के मामले में हिरासत में लिया गया है।गिरफ्तारी के बाद देर रात संतोष और उसके साथी को कोर्ट में पेश किया गया। मकोका मामले में जहां कोर्ट ने दोनों की 20 जून तक कस्टडी दी है। संतोष जाधव की गिरफ्तारी के मामले में पुलिस आज आधिकारिक बयान जारी कर सकती है।सलमान खान को मिली धमकी से भी पर्दा हटेगासंतोष जाधव की गिरफ्तारी के बाद अब सलमान खान को मिली धमकी के राज खुलेंगे। साथ ही मूसेवाला की मौत के रहस्य से पर्दा उठ सकता है कि मुसेवाला की हत्या कैसे की गई, कितने शूटर ने कैसे इस वारदात को अंजाम दिया, हत्या की किसने मुखबिरी की, हत्या किसने और किस मकसद से करवाई। यह जानकारी भी मिल सकती है कि बाकी शूटर कहां हैं। फिलहाल पुणे रूरल क्राइम ब्रांच ने संतोष जाधव को पुणे के खेड के राजगुरूनगर लॉकअप में सुरक्षा कारणों के चलते शिफ्ट किया है। आज उसे पुणे रूरल क्राइम ब्रांच पूछताछ के लिए लाया जाएगा।संतोष जाधव की पुरानी क्रिमिनल हिस्ट्री, हत्या के मामले दर्जपुणे ग्रामीण पुलिस के मुताबिक संतोष जाधव की पुरानी क्रिमिनल हिस्ट्री है। उसके ऊपर हत्या फायरिंग हत्या की कोशिश के मामले दर्ज हैं। इसके अलावा ओमकार उर्फ राण्या बाणखेले की हत्या के बाद उस पर मकोका लगाया गया था। तब से वो फरार था और कल पुणे पुलिस ने उसे गुजरात से गिरफ्तार किया। मंचर के शातिर अपराधी ओंकार उर्फ़ राण्या बाणखेले की पिछले साल हुई हत्या के मामले में संतोष जाधव फरार था और पुणे क्राइम ब्रांच को संतोष की तलाश थी।पहले धमकी दी, फिर की हत्या और तब से फरार था संतोषसंतोष जाधव ने अपने सोशल मीडिया पर ‘सूर्य उगते ही तुम्हे समाप्त कर दूंगा।’ इस तरह का स्टेटस डाला था। इसका जवाब देते हुए ओंकार उर्फ़ राण्या बाणखेले ने लिखा था कि संतोष जाधव से मिलेंगे और ठोकेंगे...किसी को भी आने दो। जिसके बाद एक शूटर ने बाइक से आकर ओंकार उर्फ़ राण्या बाणखेले पर 1 अगस्त 2021 को दिन-दहाड़े फायरिंग कर हत्या कर दी थी। इस मामले में संतोष जाधव पर मकोका लगाया गया, जिसके बाद वो फरार था।गुजरातऔरलखनऊकाआजहोगाIPLमेंडेब्यूजीतसेकरनाचाहेंगेआगाजYamaha ने MT-15 मॉन्स्टर एनर्जी बाइक का मोटोजीपी संस्करण पेश किया, कीमत 1.48 लाख रुपए******Yamaha ने MT-15 मॉन्स्टर एनर्जी बाइक का मोटोजीपी संस्करण पेश किया, कीमत 1.48 लाख रुपएइंडिया यामाहा मोटर ने सोमवार को कहा कि उसने अपनी बाइक एमटी-15 मॉन्स्टर एनर्जी के मोटोजीपी संस्करण की पेशकश की है, जिसकी दिल्ली में शोरूम कीमत 1.48 लाख रुपये है। कंपनी ने एक बयान मेंकहा कि यह बाइक मॉन्स्टर एनर्जी यामाहा मोटोजीपी संस्करण 155 सीसी, फ्यूल-इंजेक्टेड, लिक्विड-कूल, 4-स्ट्रोक, एसओएचसी, 4 वाल्व इंजन के साथ छह स्पीड ट्रांसमिशन के साथ आता है। बयान के मुताबिक बाइकका इंजन 10,000 आरपीएम पर 18.5 पीएस की शक्ति और 8,500 आरपीएम पर 13.9 न्यूटन मीटर का टॉर्क पैदा करने में सक्षम है। इस बाइक में टैंक कफन, ईंधन टैंक और साइड पैनल पर यामाहा मोटोजीपी ब्रांडिंगमिलती है, जो इसकी रेसिंग पृष्ठभूमि को दर्शाता है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:30
उद्धरण 1 इमारत
Uttar Pradesh News: उत्तर प्रदेश के सभी गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वेक्षण कराएगी राज्य सरकार******उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के गैर मान्यता प्राप्त मदरसों में मूलभूत सुविधाओं की स्थिति जांचने के लिए उनका सर्वेक्षण कराने का बुधवार को फैसला किया। राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री दानिश आजाद अंसारी ने बताया कि राज्य सरकार ने मदरसों में छात्र-छात्राओं को मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता के सिलसिले में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अपेक्षा के मुताबिक, प्रदेश के सभी गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वेक्षण कराने का फैसला किया है। इसे जल्द ही शुरू किया जाएगा।उन्होंने बताया कि सर्वेक्षण में मदरसे का नाम, उसका संचालन करने वाली संस्था का नाम, मदरसा निजी या किराए के भवन में चल रहा है इसकी जानकारी, मदरसे में पढ़ रहे छात्र-छात्राओं की संख्या, पेयजल, फर्नीचर, विद्युत आपूर्ति तथा शौचालय की व्यवस्था, शिक्षकों की संख्या, मदरसे में लागू पाठ्यक्रम, मदरसे की आय का स्रोत और किसी गैर सरकारी संस्था से मदरसे की संबद्धता से संबंधित सूचनाएं इकट्ठा की जाएंगी। पूछा गया कि क्या राज्य सरकार इस सर्वेक्षण के बाद नए मदरसों को मान्यता देने की प्रक्रिया शुरू करेगी, तो राज्य मंत्री ने कहा कि अभी सरकार का मकसद सिर्फ गैर मान्यता प्राप्त मदरसों के बारे में सूचनाएं इकट्ठा करना है।अब मदरसों में भी सरकारी स्कूल जैसी सुविधाएंगौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में इस वक्त कुल 16,461 मदरसे हैं जिनमें से 560 को सरकारी अनुदान दिया जाता है। प्रदेश में पिछले छह साल से नए मदरसों को अनुदान सूची में नहीं लिया गया है। अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री ने बताया कि आज जारी आदेश के मुताबिक, अब मदरसों में प्रबंध समिति के विवादित होने या समिति के किसी सदस्य के अनुपस्थित होने की दशा में मदरसे के प्रधानाचार्य और जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी मृतक आश्रित कोटे से नियुक्तियां कर सकेंगे। इससे पहले, प्रबंध समिति में कोई समस्या होने पर मृतक आश्रित को नौकरी के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ता था।अंसारी ने बताया कि अब सहायता प्राप्त मदरसों के शिक्षक और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के प्रार्थना पत्र पर संबंधित मदरसे के प्रबंधकों की सहमति और राज्य मदरसा शिक्षा परिषद के रजिस्ट्रार के अनुमोदन से उनका स्थानांतरण किया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि अब मदरसों में कार्यरत महिला कर्मचारियों को माध्यमिक शिक्षा विभाग और बेसिक शिक्षा विभाग में लागू नियमों के अनुरूप मातृत्व अवकाश और बाल्य देखभाल अवकाश भी मिलेगा। इस बीच, टीचर्स एसोसिएशन मदारिस अरबिया के महासचिव दीवान साहब जमां ने राज्य सरकार के इन फैसलों का स्वागत करते हुए कहा कि इससे मदरसा शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को फायदा होगा।
2022-10-01 04:51
उद्धरण 2 इमारत
क्या समंदर में समा जाएंगे मुंबई सहित देश के कई बड़े शहर?******'मुंबई, कोच्चि, मैंगलोर, चेन्नई, विशाखापट्टनम और तिरुवनंतपुरम में कई बड़ी इमारतें और सड़कें 2050 तक समंदर में समा जाएंगी।' ऐसा कहना है ग्लोबल रिस्क मैनेजमेंट (RMSI)का। RMSI के एनालिसिस में पाया गया है कि मुंबई का हाजी अली दरगाह, जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट, वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे, बांद्रा-वर्ली सी-लिंक के डूबने का खतरा है। RMSI ने यह बात इंटरगवर्नमेंटल पैनल ऑन क्लाइमेट चेंज (IPCC) की असेसमेंट रिपोर्ट के आधार पर कही है। इसके अलावा जलवायु परिवर्तन के नए डेटा और प्रभाव को लेकर बनाए गए मॉडल का भी इस्तेमाल किया गया है। जलवायु परिवर्तन को लेकर पब्लिश की गई सबसे लेटेस्ट इस रिपोर्ट का नाम ' क्लाइमेट चेंज 2021: द फिजिकल साइंस बेसिस' है। इस एनालिसिल के लिए देश के 6 तटीय शहरों- मुंबई, चेन्नई, कोच्चि, विशाखापट्टनम, मैंगलोर और तिरुवनंतपुरम को शामिल किया गया है।RMSI के एक्सपर्ट्स ने इन शहरों के समुद्री किनारे के लिए एक हाई रेजोल्यूशन डिजिटल मॉडल तैयार किया। इसके बाद जलस्तर और बाढ़ को मापने के लिए एक मैप तैयार किया। IPCC ने अनुमान जताया है कि 2050 तक भारत के चारों ओर समुद्र का जलस्तर काफी बढ़ जाएगा।जलवायु वैज्ञानिक रॉक्सी मैथ्यू कोल ने क्या कहा?इंडियन इंस्टीट्यू ऑफ ट्रॉपिकल मीटियरोलॉजिकल डिपार्टमेंट के जलवायु वैज्ञानिक रॉक्सी मैथ्यू कोल ने बताया कि, 'तटीय शहरों के डूबने का एकमात्र फैक्टर समुद्र के जलस्तर में इजाफा ही नहीं है। तटीय इलाके पहले से ही जलवायु परिवर्तन का खामियाजा भुगत रहे हैं।' मैथ्यू ने कहा- 'समुद्र के जलस्तर में बढ़ोतरी और इन सभी घटनाओं से तटीय बाढ़ बढ़ सकती है, जिसका असर एक बड़े इलाके पर पड़ेगा। हमें इन घटनाओं पर तत्काल निरानी और स्टडी करने की ज़रूरत है।'कॉन्टिनेंटल शेल्फ से क्या होगा ?RMSI के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट पुष्पेंद्र जौहरी ने कहा कि, 'तटीय शहरों में कितना पानी अंदर के इलाकों में जाएगा, यह बात पर निर्भर करेगा कि हमारे पास किस तरह का कॉन्टिनेंटल शेल्फ है। कॉन्टिनेंटल शेल्फ समुद्र के नीचे डूबे हुए कॉन्टिनेंट का किनारा होता है। जलस्तर में बढ़ोतरी का असर अलग-अलग इलाकों में अलग-अलग होगा।'
2022-10-01 03:50
उद्धरण 3 इमारत
वैश्विक अर्थव्यवस्था बढ़ रही है दूसरे विश्वयुद्ध के बाद सबसे बड़ी मंदी की ओर, विश्व बैंक ने बुरे दौर के लिए चेताया******World Bank projects global economy to shrink by 5.2 percent in 2020 विश्व बैंक ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी और उसकी रोकथाम के लिए लॉकडाउन से इस साल वैश्विक अर्थव्यवस्था में 5.2 प्रतिशत की गिरावट आएगी। वैश्विक संगठन के अनुमानों के अनुसार भारत में 2020-21 में 3.2 प्रतिश्त संचुकचन होगा। वैश्विक संगठन के अनुसार कोविड-19 महामारी और लॉकडाउन के कारण विकसित देशों में मंदी दूसरे विश्व युद्ध के बाद सबसे बड़ी होगी। वहीं उभरते और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में उत्पादन में कम-से-कम छह दशक में पहली बार गिरावट आएगी। विश्व बैंक के अध्यक्ष डेविड मालपास ने ग्लोबल इकोनॉमिक प्रॉस्‍पेक्‍ट (वैश्विक आर्थिक संभावना) रिपोर्ट की प्रस्तावना में लिखा है कि केवल महामारी के कारण कोविड-19 मंदी 1870 के बाद पहली मंदी है। उन्होंने कहा कि जिस गति और गहराई से इसने असर डाला है, उससे लगता है कि पुनरूद्धार में समय लगेगा। इसके लिए नीति निर्माताओं को अतिरिक्त हस्तक्षेप करने की जरूरत होगी।रिपोर्ट के अनुसार विकसित अर्थव्यवस्थाओं में आर्थिक वृद्धि में 2020 में 7 प्रतिशत की गिरावट आएगी क्योंकि घरेलू मांग और आपूर्ति, व्यापार तथा वित्त बुरी तरीके से प्रभावित हुआ है। वहीं उभरते बाजारों और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में इस साल 2.5 प्रतिशत की गिरावट की आशंका है। यह कम-से-कम 60 साल में पहली गिरावट होगी।रिपोर्ट के अनुसार प्रति व्यक्ति आय में 3.6 प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान है। इससे करोड़ों लोग गरीबी की दलदल में फंसेंगे। विश्व बैंक के निदेशक ए कोसे ने कहा कि कोविड-19 महामारी और लॉकडाउन के कारण विकसित देशों में मंदी दूसरे विश्व युद्ध के बाद सबसे बड़ी मंदी होगी। वहीं उभरते और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में उत्पादन में कम-से-कम छह दशक में पहली बार गिरावट आएगी। भारत के बारे में रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष में 3.2 प्रतिशत सिकुड़ेगी।
वापसी