नई पोस्ट करें

Traffic Challan: अपनी कार में कभी न करें ये गलती, कट सकता है 15000 का चालान

2022-10-01 05:24:31 950

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानभारतीय रेलवे दे रही है 10 लाख रुपए पाने का मौका, बस करना होगा आपको ये काम******indian railwaysभारतीय रेलवे दे रही है 10 लाख रुपए पाने का मौका, बस करना होगा आपको ये काम क्‍या आप के विकास के लिए कुछ करना चाहते हैं और ऐसा करने के साथ ही साथ आप 10 लाख रुपए तक भी जीत सकते हैं। नरेंद्र मोदी सरकार ने भारतीय रेलवे के लिए एक नई प्रतियोगिता शुरू की है। इसमें कुल 19 लाख रुपए के पुरस्‍कार वितरि‍त किए जाएंगे। अपनी यात्रियों को बेहतर सेवा उपलब्‍ध कराने के लिए भारतीय रेलवे ने एक सार्वजनिक प्रतियोगिता की घोषणा की है, जिसका नाम है ‘बेहतर सेवाएं उपलब्‍ध कराने के लिए रेलवे के लिए कैसे धन जुटाया जाए (जन भागीदारी)’। इस प्रतियोगिता के तहत, रेलवे ने आम जनता से उनके विचार, विस्‍तृत बिजनेस प्‍लान, भारतीय रेलवे के विकास के लिए धन जुटाने की कार्यान्‍वयन रणनीति को आमंत्रित किया है।यह एक ऑनलाइन प्रतियोगिता है जिसे mygov.in पर चलाया जा रहा है। इस प्रतियोगिता के विजेता को 10 लाख रुपए, दूसरे विजेता को 5 लाख रुपए, तीसरे विजेता को 3 लाख रुपए और चौथे विजेता को 1 लाख रुपए का नगद पुरस्‍कार प्रदान किया जाएगा।अपनी प्रविष्टियों को ऑनलाइन जमा कराने के लिए प्रतियोगी को पोर्टल पर जाकर “CLICK HERE TO PARTICIPATE” पर क्लिक करना होगा। इस पर क्लिक करने के बाद प्रतियोगी को एक लैंडिंग पेज पर ले जाया जाएगा, जहां रजिस्‍ट्रेशन फॉर्म दिखाई देगा। प्रतियोगी द्वारा इस रजिस्‍ट्रेशन फॉर्म को भरना होगा। फॉर्म को सफलतापूर्वक जमा करने के बाद प्रतियोगी को एक कन्‍फर्मेशन ईमेल मिलेगा। इस प्रतियोगिता में 19 मई 2018 तक शाम छह बजे तक भाग लिया जा सकता है।भारतीय रेलवे द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता में कोई भी व्‍यक्ति, कंपनी या संस्‍था भाग ले सकती है। कंपनियों और संस्‍थाओं के मामले में, टीम के सदस्‍यों या शेयरधारकों का भारतीय नागरिक होना आवश्‍यक है। प्रतियोगिता में केवल भारतीय नागरिक ही भाग ले सकेंगे। प्रतियोगी की उम्र 20 मार्च, 2018 को न्‍यूनतम 18 वर्ष होनी चाहिए। हालांकि, भारतीय रेलवे का कर्मचारी, जो इस प्रतियोगिता से सीधे तौर पर जुड़ा है, उसे इसमें भाग लेने की अनुमति नहीं होगी।

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानस्टडी में हुआ खुलासा, मनुष्य की त्वचा पर 9 घंटे तक जिंदा रह सकता है कोरोना वायरस******कोरोना वायरस का कहर इस समय पूरी दुनिया पर बरस रहा है और लाखों लोग इसके चलते अपनी जान गंवा चुके हैं। अक्सर ही इस वायरस से जुड़े ऐसे-ऐसे खुलासे सामने आते रहे हैं, जो इस महामारी से लड़ रही दुनिया को हैरान करके रख देते हैं। एक नई स्टडी में इस वायरस से जुड़ी परेशान करने वाली बात पता चली है। स्टडी के मुताबिक, कोरोना वायरस मानव त्वचा पर 9 घंटे तक जीवित रह सकता है। साफ है कि यदि किसी शख्स के शरीर से यह वायरस चिपका हुआ है, और यदि उसके संपर्क में कोई दूसरा शख्स या खुद वही व्यक्ति आता है, तो उसके संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है।अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि इन्फ्लूएंजा ए वायरस (आईएवी) मानव त्वचा पर 2 घंटे जीवित रह सकता है। इन अनुसंधानकर्ताओं में जापान स्थित क्योतो प्रीफेक्चरल यूनिवर्सिटी आफ मेडिसिन के अनुसंधानकर्ता भी शामिल थे। यह अध्ययन पत्रिका ‘क्लिनिकल इंफेक्शस डिजीज’ में प्रकाशित हुआ है। इस अध्ययन में यह बात भी सामने आई कि दोनों ही हैंड सैनिटाइजर से निष्क्रिय हो जाते हैं। इससे यह पता चलता है कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए या सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना बेहद जरूरी है। साथ ही मास्क का इस्तेमाल भी उतना ही जरूरी है ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके।बता दें कि भारत में शुक्रवार को कोविड-19 के 70,496 नए मामले सामने आए थे। इसके साथ ही देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 69 लाख से अधिक हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह 8 बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार देश में के कुल मामलों की संख्या 69,06,151 हो गई है। वहीं, पिछले 24 घंटे में 964 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,06,490 हो गई। आंकड़ों के अनुसार देश में संक्रमण से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 59,06,069 हो गई है। इससे संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की दर बढ़कर 85.52 प्रतिशत पर पहुंच गई है। फिलहाल देश में 8,93,592 लोगों का कोरोना वायरस का इलाज जारी है।अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानASUS जेनफोन 5Z भारत में कल देगा दस्‍तक, OnePlus 6 को देगा टक्‍कर******Asus Zenfone 5Z ताइवान की स्‍मार्टफोन निर्माता कंपनी ने अपने लेटेस्ट स्‍मार्टफोन को भारत में लॉन्च करने तैयारी कर ली है। कंपनी 26 जून यानी मंगलवार को इस स्मार्टफोन को पेश करने जा रही है। फ्लिपकार्ट पर ASUS के एक स्मार्टफोन का टीजर देखा जा सकता है। इससे पहले कंपनी के कुछ सूत्रों ने जानकारी दी थी कि वे अपने अगले स्मार्टफोन को जून के अंत या जुलाई की शुरुआत में लॉन्‍च करेंगे। फ्लिपकार्ट टीजर की बात करें तो इसमें केवल इस स्मार्टफोन के लॉन्च की तारीख और समय की जानकारी दी गई है, जिसके अनुसार ये 26 जून यानी कल रात 8.45 बजे पेश किया जाएगा। हालांकि, इस टीजर पेज पर इस बात की जानकारी नहीं दी गई है कि कंपनी किस स्मार्टफोन को लॉन्‍च करने वाली है। हालांकि, इस बात की गहरी संभावना जताई जा रही है कि ASUS अपने जेनफोन 5Z को ही पेश करने वाली है। इसका लॉन्च टाइम 8.45 इस लेटेस्ट स्मार्टफोन के स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर की ओर इशारा करता है। कीमत के बारे में अभी कंपनी ने कोई जानकारी फ्लिपकार्ट पर नहीं दी है।ASUS जेनफोन 5Z को इस साल फरवरी में हुए MWC 2018 इवेंट में पेश किया गया था। हाल ही में यह स्मार्टफोन यूरोप में 499 यूरो (लगभग 39,879 रुपए) कीमत के साथ सेल के लिए उपलब्ध हुआ है। उम्मीद है कि भारत में जेनफोन 5Z की कीमत वनप्लस 6 की कीमत जितना ही हो सकती है।जहां तक ASUS जेनफोन 5Z के स्पेसिफिकेशंस की बात है तो इसमें 6.2 इंच का फुल HD प्लस डिस्प्ले है जिसका स्क्रीन रेजोल्‍यूशन 1080x2246 पिक्सल्स है और इसका स्क्रीन आसपैक्ट रेशियो 19:9 है। इस स्मार्टफोन का डिस्प्ले iPhone X से प्रेरित टॉप नॉच के साथ है। इसके साथ ही इसमें स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर, 6GB/8GB रैम और 128GB/256GB इंटरनल स्टोरेज की सुविधा होगी। इसमें फिंगरप्रिंट सेंसर फोन के पिछले भाग पर दिया गया है।इस स्मार्टफोन में डुअल रियर कैमरा दिया गया है जिसमें कि 12MP और 8MP के दो सेंसर्स दिए गए हैं। इसके 12MP वाले कैमरा में सोनी IMX363 सेंसर, f/1.8 अपर्चर, 83-डिग्री फील्ड ऑफ व्यू, 24 मिमी फोकल लेंथ और सॉफ्टलाइट LED फ्लैश की सुविधा है। 8MP के सेकेंडरी सेंसर में 120 डिग्री वाइड-एंगल लेंस, f/2.2 अपर्चर और 12 मिमी फोकल लेंथ की सुविधा मिलेगी। ASUS जेनफोन 5Z में सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए फ्रंट में 8MP का कैमरा दिया गया है जोकि f/2.0 अपर्चर, 84-डिग्री फील्ड ऑफ व्यू और 24 मिमी फोकल लेंथ के साथ है।इसके अलावा इसमें 3300 mAh की बैटरी है जिसके साथ इसमें AI चार्जिंग टेक्नॉलॉजी भी दी गई है। वहीं कनेक्टिविटी के लिए 4G VoLTE, वाई-फाई 802.11ac, ब्लूटूथ v5.0, NFC, GPS/ A-GPS, FM रेडियो, USB टाइप-C और 3.5 मिमी हैडफोन जैक आदि दिए गए हैं।

Traffic Challan: अपनी कार में कभी न करें ये गलती, कट सकता है 15000 का चालान

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानFlying Bike Technology: सड़क पर चलते अब आप की बाइक बन जाएगी हेलीकॉप्टर, जानें कीमत और लांचिंग तिथि******Highlightsअगर आप बाइक चलाने के शौकीन हैं और कई बार आप जाम में फंस जाते हैं तो यह तनाव का कारण बन जाता है। मगर जरा सोचकर देखिए कि ऐसी स्थिति में यदि आपकी बाइक उड़कर पूरे ट्रैफिक को क्रॉस करते हुए फिर खाली सड़क पर उतरकर चलने लगे तो कैसा लगेगा?.... शायद बहुत ही अच्छा और अकल्पनीय। मगर जापानी वैज्ञानिकों ने इस कल्पना को सच साबित कर दिया है। यानि सड़क पर चलते-चलते जब चाहें तब आप अपनी बाइक को हेलीकॉप्टर बना सकते हैं और उसे हवा में उड़ा सकते हैं। जब चाहें तब सड़क पर फिर से लैंडिंग कर सकते हैं। यह सब कैसे संभव होने जा रहा है और कैसे कोई बाइक सड़क पर चलते-चलते हेलीकॉप्टर का स्वरूप ले लेगी, आइए इस बारे में आपको विस्तार से बताते हैं।जापानी वैज्ञानिकों ने दुनिया की पहली उड़ने वाली बाइक बनाने में सफलता पाई है। जापान की इस सफलता से दुनिया रोमांच की कल्पना से भर उठी है। जापानी वैज्ञानिकों द्वारा बनाई गई इस बाइक को अमेरिका के एक ऑटो एक्सपो शो में प्रदर्शित भी किया गया। इस दौरान बाइक ने हेलीकॉप्टर की तरह हवा में उड़ान भरके सबको चौंका दिया।जापान की एयरविंस कंपनी ने यह उड़ने वाली बाइक बनाई है। इसे बनाने का मकसद जाम में फंसने पर वहां से उड़ान भरके फिर खाली सड़क पर लैंड कर जाना है। यह बाइक 40 मिनट में अधिकतम 100 किलोमीटर तक की उड़ान भर सकती है। यानि इस हिसाब से यह एक घंटे में 150 किलोमीटर तक की दूरी तय कर सकती है। इसे टूरिज्मो होवर बाइक नाम दिया गया है।40 मिनट में 100 किलोमीटर तक उड़ने की क्षमतालागत 777 हजार डॉलर यानि छह करोड़ रुपयेबाइक का वजन करीब 300 किलोजापान की स्टार्ट अप एयरविंस कंपनी है निर्माताइंजन- पेट्रोल ईंधन से संचालितएयरविंस टेक्नॉलोजी के संस्थापक व सीईओ शुहेई कोमात्सु के अनुसार उनकी कंपनी ने यह सफलता लंबे वर्षों तक इस पर काम करने के बाद पाई है। यह काफी उत्सुकता भरी रोमांचक सफलता है। बाइक ट्रॉयल में पूरी तरह सफल रही है। अब जल्द ही इसे बाजार में बिकने के लिए उतारा जाएगा। कंपनी ने दावा किया है कि वर्ष 2023 से अमेरिका से इसकी बिक्री शुरू कर दी जाएगी। उसके बाद धीरे-धीरे यह ग्लोबल मार्केट में भी उपलब्ध हो जाएगी। यानि तब इस बाइक की पहुंच आम जनों तक भी हो जाएगी।शुहेई के अनुसार बाइक को एल्टीट्यूड टेक्नॉलोजी से बनाया गया है। इसमें प्रोपेलर्स का इस्तेमाल भी किया गया है। ताकि उसके जरिये हवा में बाइक का संतुलन बना रहे। बाइक के चारों ओर लगाए गए प्रोपपेलर्स बाइक को हवा में संतुलित रखने के साथ ही उड़ान भरने में भी मदद करते हैं। इससे हादसे का जोखिम नहीं रहता। बाइक चलाने के शौकीन लोगों को इसके लिए छह करोड़ रुपये खर्च करने होंगे।अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानQueen Elizabeth : ब्रिटेन में आर्थिक संकट के बीच शाही परिवार के प्रशंसकों ने लंदन के पर्यटन को दी रफ्तार, पढ़िए डिटेल******Highlightsमहारानी एलिजाबेथ द्वितीय को अंतिम विदाई देने के लिए बड़ी संख्या में राजशाही प्रशंसक लंदन में जमा हुए हैं। इसके चलते यहां रेस्टोरेंट और होटलों में भारी भीड़ देखने को मिल रही है। ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था इस वक्त उच्च मुद्रास्फीति और भू-राजनीतिक तनाव के कारण मंदी की कगार पर है। ऐसे वक्त में एलिजाबेथ को श्रद्धांजलि देने के लिए आने वाले लोग पर्यटन से जुड़े व्यवसायों को बढ़ावा दे रहे हैं। इन लोगों में कई सुदूर अमेरिका और भारत से आए हैं।अंतिम संस्कार कार्यक्रम पर रहेगी दुनिया की नजरभारत से आए कनककांत बेनेडिक्ट ने कहा ‘आप जानते हैं, यह ऐतिहासिक क्षण है। यह जीवन में एक बार होता है। इसलिए हम इस क्षण का हिस्सा बने। वह अपनी पत्नी के साथ आए हैं। ब्रिटेन में सबसे लंबे समय तक शासन करने वाली एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार से जुड़े कार्यक्रमों पर पूरी दुनिया की नजर है।सोमवार को किया जाएगा अंतिम संस्कारबकिंघम पैलेस के पास फूल और स्मृति चिन्ह की दुकानों पर काफी भीड़ है। उनका सोमवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। इसबीच मध्य लंदन में होटल के कमरों की मांग बढ़ गई है और कुछ मामलों में कीमत दोगुनी हो गई है। लंदन स्थित समूह बुकिंग मंच होटल प्लानर डॉट कॉम के अनुसार 95 प्रतिशत तक कमरे भर चुके हैं। इसी तरह कुछ पर्यटकों ने बताया कि उनके खाने.पीने का खर्च 30 प्रतिशत तक बढ़ गया है।ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के बाद शोकाकुल जनता की मीलों लंबी कतार देखकर ब्रिटिश सरकार ने शुक्रवार को और लोगों को कतार में शामिल होने से रोक दिया। सरकार ने यह कदम महाराजा चार्ल्स तृतीय और उनके भाई बहन के ऐतिहासिक वेस्टमिंस्टर हॉल में पहुंचने से कुछ घंटे पहले उठाया। कतार के बारे में जानकारी देने वाले लाइव ट्रैकर ने कहा कि कतार लंबी हो चली है और अपनी क्षमता तक पहुंच चुकी है तथा लोगों को कतार का हिस्सा होने से छह घंटे के लिए ‘रोक’ दिया गया है, क्योंकि इंतजार की घड़ी 14 घंटे तक बढ़ गयी है और महारानी के दर्शन करने वाली शोकाकुल जनता की कतार पांच मील अर्थात आठ किलोमीटर तक लंबी हो चुकी है।संसद से लेकर दक्षिण लंदन तक भीड़ ही भीड़महरानी की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह कतार संसद से लेकर दक्षिण लंदन स्थित साउथवार्क पार्क तक और उसके बाद पार्क के चारों ओर घुमावदार स्थिति में पहुंच चुकी है। लंदन की निवासी कैरोलीन क्विल्टी ने कहा कि वह शुक्रवार को चार बजे सुबह कतार में शामिल हुई हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि यह ऐतिहासिक क्षण है और यदि मैं इसमें शामिल नहीं होती हूं या इसका हिस्सा नहीं बनती हूं तो निश्चित तौर पर मुझे इसका पछतावा होगा।’’ इस बीच, चीनी अधिकारियों के एक प्रतिनिधिमंडल को कथित तौर पर संसद के उस ऐतिहासिक हॉल में जाने से रोक दिया गया था, जहां दिवंगत महारानी का ताबूत रखा है।अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानKangana Ranaut ने कपिल शर्मा के शो पर ली Ananya Pandey की चुटकी, बताया बॉली-बिंबो का मतलब****** मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा के शो 'द कपिल शर्मा शो' में कंगना रनौत ने शिरकत की थी। शो पर कंगना ने जमकर मस्ती की। शो पर कंगना ने कई सितारों पर चुटकी ली जिसमें एक अनन्या पांडे भी थीं। अब शो से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।वीडियो में नजर आ रहा है कि शो के होस्ट कपिल शर्मा कंगना से पूछते हैं कि 'बॉली-बिंबो' का क्या मतलब है। अपने जवाब में कंगना ने अनन्या पांडे का नाम लिए बिना अपनी जीभ से नाक को छूकर उनकी नकल उतारने की कोशिश करती हैं। कंगना कहती हैं, 'मैं अपनी जीभ को अपनी नाक से छू सकती हूं' ऐसा कहने वाले बॉली-बिंबो हैं।कंगना ने ऐसा करके उस वक्त की याद दिला दी, जब कपिल शर्मा के शो पर ही अनन्या पांडे ने अपनी जीभ से अपनी नाक छूने को, अपना 'टैलेंट' बताया था। अपनी इस एक्टिविटी के लिए अनन्या पांडे काफी ट्रोल की गई थीं।बता दें 'द कपिल शर्मा' के सेट पर कंगना रनौत अपनी आने वाली फिल्म 'धाकड़' के प्रमोशन के लिए पहुंची थी। इस दौरान शो पर फिल्म धाकड़ से कंगना रनौत के साथी-कलाकार अर्जुन रामपाल, दिव्या दत्ता और शारिब हाशमी और निर्देशक रजनीश घई पहुंचे थे।

Traffic Challan: अपनी कार में कभी न करें ये गलती, कट सकता है 15000 का चालान

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानNoida Twin Tower: आज गिरेंगे नोएडा के ट्विन टावर, इन एजेंसियों ने कसी कमर; ये रास्ते रहेंगे बंद******Highlights नोएडा के सेक्टर-93A में दो अवैध टावर को रविवार यानी आज दोपहर ढाई बजे विस्फोट से ढहा दिया जाएगा। इस पूरी प्रक्रिया में 10 से 12 सेकंड लगेंगे। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। टावर गिराने के लिए जेट डेमोलिशन, एडफिस इंजीनियरिंग और CBRI की टीम शनिवार को टावर के अंदर विस्फोटक से जुड़े वायर की जांच और ट्रिगर (बटन) दबाए जाने की तैयारियों को अंतिम रूप देती रही।नोएडा अथॉरिटी और पुलिस अधिकारी आसपास की व्यवस्था को दुरुस्त करने में जुटे रहे। सेक्टर-93A में बने 103 मीटर ऊंचे एपेक्स और 97 मीटर ऊंचे सियान टावर को ध्वस्त करने के लिए 3,700 किलो विस्फोटक अलग-अलग फ्लोर पर लगाया गया है। सुरक्षा कारणों से एमराल्ड कोर्ट और आसपास की सोसायटी के फ्लैट खाली कराए जाएंगे। इसके अलावा करीब 3 हजार वाहन और 200 पालतू जानवरों को भी बाहर निकाल लिया जाएगा।एडफिस इंजीनियरिंग के प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता ने बताया कि पुलिस से मंजूरी मिलने पर दोपहर ढाई बजे ‘ट्रिगर’ दबाया जाएगा। डीसीपी (ट्रैफिक) गणेश पी साहा ने बताया कि डायवर्जन लागू करने का कार्य देर रात पूरा कर लिया गया।नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे दोपहर 2:15 से लेकर 2:45 तक बंद रहेगा। उन्होंने बताया कि धूल का गुबार अगर एक्सप्रेस-वे की तरफ रहा, तो इसे कुछ और देर के लिए बंद रखा जा सकता है। एक्सप्रेस-वे के बंद रहने की जानकारी गूगल मैप पर करीब पौने घंटे पहले दिखाई देनी शुरू हो जाएगी, ऐसे में वैकल्पिक मार्ग भी गूगल मैप द्वारा बताया जाएगा। डीसीपी (सेंट्रल) राजेश एस ने बताया कि करीब 400 पुलिसकर्मियों के साथ PAC और NDRF के जवान भी तैनात किए जाएंगे।1- एटीएस तिराहा से गेझा फलसब्जी मंडीतिराहा तक मार्ग2- एल्डिको चौक से सेक्टर 108 की ओर डबल मार्ग व सर्विस रोड3- श्रमिक कुंज चौक से सेक्टर 92 रतिराम चौक तक डबल मार्ग4- श्रमिक कुंज चौक से सेक्टर 132 की ओर फरीदाबाद फ्लाई ओवर5- सेक्टर 128 से श्रमिक कुंज चौक तक फरीदाबाद फ्लाई ओवर1- नोएडा से ग्रेटर नोएडा/यमुना एक्सप्रेस-वे की ओर जाने वाले यातायात को महामाया फ्लाईओवर से सेक्टर-37 की ओर डायवर्ट रहेगा। यह ट्रैफिक सिटी सेंटर, सेक्टर 71 से होकर गंतव्य की ओर जाएगा।2- नोएडा से ग्रेटर नोएडा/यमुना एक्सप्रेस-वे की ओर जाने वाले यातायात को फिल्मसिटी फ्लाई ओवर से एलीवेटेड रोड की ओर डायवर्ट रहेगा। यह यातायात एलीवेटेड रोड होकर सेक्टर 60, सेक्टर 71 होकर गंतव्य की ओर जाएगा।3- नोएडा से ग्रेटर नोएडा/यमुना एक्सप्रेस-वे की ओर जाने वाले यातायात को नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे व सर्विस रोड को फरीदाबाद फ्लाई ओवर से पहले सेक्टर 82 कट के सामने पूर्ण बन्द किया गया है। यह यातायात गेझा तिराहा, फेस-2 होकर गंतव्य की ओर जाएगा।4- ग्रेटर नोएडा से नोएडा/दिल्ली की ओर जाने वाले यातायात को परीचौक से सूरजपुर की ओर डायवर्ट रहेगा। ट्रैफिक सूरजपुर, यामाहा, फेस-2 या बिसरख, किसान चौक होकर गन्तव्य की ओर जाएगा।5- यमुना एक्सप्रेस-वे/ग्रेटर नोएडा से नोएडा/दिल्ली की ओर जाने वाले यातायात को यमुना एक्सप्रेस-वे के ऊपर जीरो पॉइंट से परीचौक की ओर डायवर्ट रहेगा6- यमुना एक्सप्रेस-वे/ग्रेटर नोएडा से नोएडा/दिल्ली की ओर जाने वाले यातायात को नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे व सर्विस रोड सेक्टर 132 के सामने पूर्ण बन्द किया जाएगा। ट्रैफिक सेक्टर-132 के अन्दर से होकर पुस्ता रोड से गंतव्य की ओर जाएगामुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) डॉ सुनील शर्मा ने बताया कि 6 एंबुलेंस मौके पर रहेंगी और जिला अस्पताल के साथ फैलिक्स और यथार्थ अस्पताल में भी बिस्तर आरक्षित किए गए हैं। नोएडा अथॉरिटी की मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) रितु माहेश्वरी ने बताया कि करीब 60 हजार टन मलबा दोनों टावर से निकलेगा। इसमें से करीब 35 हजार टन मलबे का निस्तारण कराया जाएगा। ध्वस्तीकरण के बाद उठने वाली धूल को साफ करने के लिए कर्मचारी, स्वीपिंग मशीन, एंटी स्माग गन और पानी छिड़कने की मशीन के साथ वहां मौजूद रहेंगे।अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानराशिफल 22 दिसंबर 2021 : मिथुन राशि वालों को कार्यक्षेत्र में मिलेगी तरक्की, जानिए अन्य राशियों का हाल******Highlightsआज पौष कृष्ण पक्ष की उदया तिथि तृतीया और बुधवार का दिन है। तृतीया तिथि आज शाम 4 बजकर 52 तक रहेगी। आज संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी का व्रत किया जायेगा। आज दोपहर 12 बजकर 4 मिनट तक इन्द्र योग रहेगा। उसके बाद वैधृति योग रहेगा। साथ ही आज देर रात 12 बजकर 45 मिनट तक पुष्य नक्षत्र रहेगा। आज शाम 4 बजकर 5 मिनट तक भू-लोक यानि पृथ्वी लोक की भद्रा रहेगी। आचार्य इंदु प्रकाश से जानते हैं राशि के अनुसार कैसा रहेगा आपका दिन और किन उपायों से आप अपना दिन बेहतर कर सकते हैं।आज पिता के सहयोग से आपका कोई जरूरी काम पूरा हो जायेगा। आज आप कार्य स्थल पर खूब मेहनत करेंगे और आपको अपनी उपलब्धियों पर गर्व भी महसूस होगा। छात्रों को आज परीक्षा में बेहतर परिणाम हासिल होंगे किसी नए विषय की पढ़ाई शुरू करने के लिए आज का दिन अच्छा है। आज सामाजिक कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। प्रॉपर्टी खरीदने में आ रही दिक्कत दूर होंगी। आपकी किसी पुराने दोस्त से मुलाकात होगी।आज आपको अपनी वाणी पर संयम रखने की आवश्यकता है। संगीत के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए आज का दिन प्रसिद्धि दिलाने वाला रहेगा।परफॉरमेंस के लिए आपको कोई बड़ा प्लेटफॉर्म मिलेगा। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए आज का दिन सफलता दिलाने वाला रहेगा। आपको किसी प्रोफेसर का सहयोग मिलेगा। व्यापार में धन लाभ होगा। स्वास्थ्य के लिहाज से आज आपका दिन बेहतरीन रहने वाला है।आज का दिन कार्यक्षेत्र में तरक्की दिलाने वाला रहेगा।बिजनेस पार्टनर के साथ मिल कर किए गए कामों से आपको फायदा होगा।प्रॉपर्टी डीलर के लिये आज का दिन बेहतर रहेगा। माता-पिता के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे। कोर्ट-कचहरी के किसी मामले में फैसला आपके पक्ष में रहेगा। आज धार्मिक कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। किसी करीबी को आज आपसे कुछ अपेक्षाएं होगी। परिवार में सुख शांती बनी रहेगी।आज आप खुद को एनर्जी से भरा महसूस करेंगे। आप जिस काम को करेंगे, वो समय से पहले पूरा हो जायेगा। इस राशि के इंजीनियर्स अपने अनुभव का प्रयोग सही दिशा में करेंगे। प्राइवेट जॉब करने वाले लोगों के लिए आज का दिन फायदेमंद है। अधिकारियों से खास मामलों पर बातचीत होगी। आपके आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी। जीवनसाथी की सलाह लेना फायदेमंद रहेगा। जीवनसाथी आज आपको कोई खुशखबरी सुनायेंगे।आज आपका दिन अच्छा रहने वाला हैं। जो युवा जॉब की तलाश में है, आज उनकी अच्छी जगह नौकरी लगेगी। परिवारवालों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने का मौका मिलेगा। बुक सेलर के लिए आज का दिन लाभ दिलाने वाला होगा। राजनीति से जुड़े लोगों की समाज में अच्छी छवी बनेगी। इसका लाभ आपको आने वाले समय में जरूर मिलेगा। पैसों से जुड़े मामलों में सोच समझ कर फैसला लेना बेहतर होगा।आज पॉजिटिव नजरिए से जरूरी काम भी पूरे होने के योग बन रहे हैं। कामकाज निपटाने के नए तरीकों को अपनाएंगे। दोस्तों के साथ रिश्ते में सुधार होगा। आज आपका रुझान भौतिक सुख-सुविधाओं की तरफ रहेगा। कारोबार में कर्मचारियों पर ध्यान दें उनको अच्छा लगेगा। आज सेहत पहले से ठीक रहने वाली है। विद्यार्थियों के लिए आज का दिन अच्छा है। आर्थिक स्थिति पहले से अच्छी होगी। आपकी व्यवहार कुशलता के कारण अधिकारियों से सम्मान मिलेगा।आज कार्यक्षेत्र में आपको पुरानी पहचान का फायदा मिलेगा। ऑफिस में किसी काम को लेकर आपकी तारीफ़ होगी। किसी काम में कोशिश करने से ही किस्मत का सहयोग मिलेगा। अगर आप अपने बड़े भाई के सहयोग से कोई काम को शुरू करेंगे, तो उसमें आपको तरक्की जरूर मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर दर्शन के लिए जायेंगे। इस राशि के विवाहितों के लिए आज का दिन बेहतर है। आज आपका स्वास्थ्य उत्तम रहने वाला है।आज सामाजिक कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। घरवालों के सहयोग से आज घरेलू कार्यों को पूरा करने में सफल होंगे।छात्रों को आज परीक्षा में बेहतर परिणाम हासिल होंगे। आज आपकी मुलाकात किसी पुराने दोस्त से होगी, उनके साथ आप अपनी पुरानी यादें ताजा करेंगे। नन्हे मेहमान के आने से घर में खुशियां आएंगी। लवमेट्स से उपहार मिलने से प्रसन्नता होगी। आज आपका आर्थिक पक्ष पहले की अपेक्षा मजबूत होगा।आज आपको अपना कार्य पूरा करने में माता-पिता का सहयोग प्राप्त होगा। रात को परिवार सहित डिनर का आनंद उठाएंगे। आज आपको कोई बड़ी खुशखबरी मिलेगी। इस राशि के छात्रों का आज पढ़ाई के प्रति रुचि बढ़ेगी। साथ ही किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने का मन बनायेंगे। आपके पास कुछ नयी जिम्मेदारियां आयेंगी। आज आपका स्वास्थ्य बेहतर रहेगा। मार्केटिंग से जुड़े लोगों के लिए आज का दिन फायदेमंद रहने वाला है।आज किसी काम की शुरूआत करने से पहले जीवनसाथी से सलाह लेना अच्छा रहेगा। छात्रों को आज कड़ी मेहनत करने की जरूरत है। आज आप किसी जरूरी काम में बिजी रहेंगे। किसी कठिन परिस्थिति में आपको लोगों से मदद मिलेगी। आज आपके दोस्तों की लिस्ट में बढ़ोतरी होगी। अचानक घर पर कोई मित्र आयेगा। जिसके साथ आप लंच का प्लान बनायेंगे। परिवार में विवाह योग्य अविवाहितों के विवाह की चर्चा होगी।आज कार्यक्षेत्र में चुनौतियों का सामना करने में सक्षम रहेंगे। आज आप करियर में नए आयाम स्थापित करेंगे। आज आपको आर्थिक मामलों में लाभ मिलेगा। आप अपने कार्यों को पूरा करने में सफल होंगे। जो लोग मार्केटिंग से जुड़े हुए हैं, उन्हें आज तरक्की के कई सुनहरे मौके मिलेंगे। किसी बड़े बुजुर्ग की मदद करने से आप मन में राहत महसूस करेंगे। आपका खुशनुमा व्यवहार घर में रौनक का माहौल बना देगा।आज आप पूरे दिन नई ऊर्जा के साथ काम करेंगे। इस राशि के टीचरों के लिए आज का दिन कुछ खास रहेगा। मेहनत का परिणाम आपके फेवर में होगा।किसी कार्य में आपको अपनों की मदद मिलेगी। जो लोग वकील हैं, आज उन्हें किसी बड़े केस में जीत हासिल होगी। जीवनसाथी के साथ रिश्ते बेहतर होंगे। आपको संतान सुख की प्राप्ति होगी। आप जिम्मेदारियों को निभाने में सक्षम होंगे।

Traffic Challan: अपनी कार में कभी न करें ये गलती, कट सकता है 15000 का चालान

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानNagpanchami Special: प्रयागराज के इस मंदिर में है अनोखी शक्ति, यहां मिलती है कालसर्प दोष से मुक्ति******Highlightsआज नागपंचमी का त्योहार है, आज के दिन भोलेनाथ के भक्त भगवान की विशेष पूजा करते हैं, वहीं नागदेव की पूजा करके अपनी कुंडली के दोष भी दूर करते हैं। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं, जो दुनिया में सबसे अनोखे मंदिर के रूप में जाना जाता है, क्योंकि यहां के दर्शन मात्र से पाप का नाश होता है और कालसर्प के दोष (Kalsarp Dosh) से भी मुक्ति मिलती है।आज नागपंचमी के दिन प्रयागराज में दारागंज (Daraganj) में स्थित नागवासुकि मंदिर (Nagvasuki Temple) का महत्व विशेषरूप से बढ़ जाता है। सावन माह और नागपंचमी पर मंदिर में भक्तों की लाइन लगी रहती है। ऐसी मान्यता है कि इस दौरान मंदिर में विग्रह के दर्शन मात्र से पाप का नाश होता है। वहीं, कालसर्प के दोष (Kalsarp Dosh) से भी मुक्ति मिलती है।अक्सर प्रसिद्ध मंदिरों में साल भर भक्तों की भीड़ होती है। लेकिन इस मामले में यह मंदिर अलग है। क्योंकि वैसे तो साल भर इस मंदिर में सन्नाटा पसरा रहता है, लेकिन सावन का महीना आते ही यहां दर्शनार्थी आने लगते हैं। वहीं नागपंचमी के दिन तो मंदिर में भक्तों का जमघट लग जाता है। प्रयागराज में इस मौके पर, नागपंचमी का मेला भी लगता है। इसकी परंपरा महाराष्ट्र के पैष्ण तीर्थ से जुड़ती है, जो नासिक की तरह गोदावरी के तट पर स्थित है।इस प्रसिद्ध नागवासुकि मंदिर की कई खास बातें हैं, बता दें कि यह विश्व का इकलौता मंदिर है, जिसमें नागवासुकि की आदमकद की प्रतिमा है। मंदिर के पूर्व-द्वार की देहली पर शंख बजाते हुए दो कीचक बने हैं, जिनके बीच में लक्ष्मी के प्रतीक कमल दो हाथियों के साथ बने हैं। देश में ऐसे मंदिर अपवाद रूप में ही मिलेंगे, जिसमें नाग देवता को ही केंद्र में प्रतिष्ठित किया गया हो। इस दृष्टि से नागवासुकि मंदिर असाधारण महत्ता रखता है। इसलिए धर्म के साथ वास्तुकला के लिए भी यह मंदिर प्रसिद्ध है। इसकी कलात्मकता लोगों को आकर्षित करती है।माना जाता है कि यह मंदिर कई सदियों से यहां स्थित है। लेकिन यह मंदिर कब बना और कितनी बार बना, इसे लेकर कोई लिखित प्रमाणित जानकारी नहीं है। बताया जाता है कि मराठा शासक श्रीधर भोंसले ने वर्तमान मंदिर का निर्माण कराया। वहीं, कुछ लोग इसे बनाने का श्रेय राघोवा को देते हैं। जिस प्रकार असम के गुवाहाटी में नवग्रह-मंदिर ब्रह्मपुत्र के उत्तर तट पर स्थित है, वैसे ही प्रयागराज में नागवासुकि मंदिर भी गंगा के तट पर स्थित है।इस मंदिर को मानने वालों में आर्यसमाज के अनुयायी भी बड़ी संख्या में शामिल हैं। इसकी वजह यह है कि स्वामी दयानंद सरस्वती ने इस मंदिर की सीढ़ियों पर कई रातें काटी थीं। यह तब की बात है कि जब आर्यसमाज की स्थापना के दौरान वह कड़ाके की ठंड में कुंभ मेले में पहुंचे थे।ऐसी मान्यता है कि प्रयागराज के नागवासुकि मंदिर (Nagvasuki temple) में कालसर्प दोष का शमन करने की शक्ति है। माना जाता है कि इस मंदिर में विशेष पूजा करने से कालसर्प दोष और व्यक्ति के जीवन की सभी बाधाएं दूर हो जाती हैं। इस मंदिर के अलावा त्र्यबंकेश्वर, उज्जैन, हरिद्वार और वाराणसी में भी कालसर्प दोष निवारण की विशेष पूजा होती है।

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानChildren's Day 2021: 'बाल दिवस' पर बच्चों को इन खूबसूरत संदेशों के ज़रिए दें बधाई******हर साल 14 नवंबर को 'बाल दिवस' मनाया जाता है। पंडित जवाहर लाल नेहरू को बच्चों से बहुत लगाव था, इसके साथ ही इस दिन नेहरू जी का जन्मदिवस भी है। नेहरू जी के निधन के बाद उन्हें श्रद्धांजलि देने के उद्देश्य से उनकी जन्मतिथि को 'चिल्ड्रेंस डे' के रूप में मनाया जाने लगा। नेहरू जी को बच्चों से इतना स्नेह और लगाव था कि बच्चे उन्हें प्यार से 'चाचा नेहरू' कहकर ही पुकारते थे। इसी वजह से उनके जन्मदिवस को स्कूलों में बड़े ही जोश के साथ मनाया जाता है। इस खास दिन पर आप ये मैसेज भेजकर बच्चों और बड़ों, दोनों को 'बाल दिवस' की शुभकामनाएं भेजें।मां की कहानी थी परियों का फसाना थाबारिश में कागज की नाव थीबचपन का वो हर मौसम सुहाना थाखबर ना होती शाम कीना सुबह का ठिकाना थाथक हार के आते स्कूल सेफिर भी खेलने तो जाना थाचाचा नेहरू के है हम प्यारे बच्चेमां-बाप के राज दुलारेआ गया चाचा नेहरू का जन्मदिवसआओ मिलकर मनाएं बालदिवसदुनिया का सबसे सच्चा समयदुनिया का सबसे हसीन पलदुनिया का सबसे अच्छा दिनसिर्फ बचपन में मिलता हैवो बचपन की अमीरीन जाने अब कहां खो गईवो दिन ही कुछ और थेजब बारिश के पानी में हमारे भीजहाज चला करते थेअपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानRajat Sharma’s Blog: पंजाब पुलिस ने कैसे पूरी सांठगांठ के साथ पीएम के काफिले को रुकवाया******राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और पीएम की सुरक्षा में सेंध पर चिंता जताई। वहीं, भारत के उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने पंजाब के फ्लाईओवर पर हुई घटना को लेकर नाराजगी व्यक्त की। कैबिनेट की बैठक में केंद्रीय मंत्रियों ने इस मुद्दे पर चिंता जाहिर की, लेकिन कांग्रेस के नेता इन सबसे बेपरवाह रहे। उन्होंने दावा किया कि सुरक्षा में कोई गंभीर चूक नहीं हुई थी और आरोप लगाया कि बीजेपी एक छोटी सी घटना को लेकर स्वांग रच रही है। इतना सब होने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शाम को पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को फोन किया और इस गंभीर लापरवाही के लिए जिम्मेदार अधिकारियों की पहचान करने का निर्देश दिया।राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने एक अलग ही राह पकड़ ली। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी पंजाब में लोकप्रियता खो रही है और नाटक कर रही है। खड़गे ने कहा, पीएम की सुरक्षा में एसपीजी, इंटेलिजेंस ब्यूरो और अन्य केंद्रीय एजेंसियां लगी रहती हैं। उन्होंने पूछा कि इन एजेंसियों के कामकाज पर सवाल क्यों नहीं उठाया जा रहा है। खड़गे ने कहा, ‘पंजाब पुलिस में से किसी ने भी प्रधानमंत्री को सड़क के रास्ते जाने की सलाह नहीं दी थी।’खड़गे जैसे अनुभवी राजनेता को पता होना चाहिए कि एसपीजी केवल क्लोज प्रॉक्सिमिटी में प्रधानमंत्री की हिफाजत करती है, और राज्य पुलिस के साथ क्लोज कोऑर्डिनेशन जरूरी होता है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तो यहां तक कह दिया कि ‘यह सब स्क्रिप्टेड है और सुरक्षा में चूक का बहाना बनाया जा रहा है।’ उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री अपनी राजनीति चमकाने के लिए पंजाब गए थे। बघेल ने पूछा, ‘अगर पीएम की जान को खतरा था, तो केंद्रीय एजेंसियां क्या कर रही थीं?’राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस ने अतीत में अपने दो-दो प्रधानमंत्रियों को हमलों में खोया है, और वह इस तरह की गलती कर ही नहीं सकती। यह बात सही है कि इंदिरा गांधी को उनके ही अंगरक्षको ने गोली मार दी थी और अपनी बहू सोनिया गांधी की गोद में उनकी जान चली गई थी। वहीं, राजीव गांधी एक बम धमाके का शिकार हुए थे। दोनों बार सुरक्षा में गंभीर चूक हुई थी। सुरक्षा में हुई इन चूकों की कांग्रेस ने भारी कीमत चुकाई। इसलिए मुझे इस बात पर बेहद हैरानी हुई कि कांग्रेस के दो मुख्यमंत्रियों सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने पंजाब में हुई घटना को मजाक में उड़ाने की कोशिश की। गहलोत ने कहा, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की हत्या कलंक है।क्या उनके कहने का मतलब यह है कि कांग्रेस नेताओं की जान कीमती है और दूसरी पार्टियों के नेताओं की जान की कोई कीमत नहीं? क्या प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में सेंध कोई कलंक नहीं है? क्या यह गंभीर चूक पंजाब की कांग्रेस सरकार के लिए शर्म की बात नहीं है? कांग्रेस नेता कैसे भूल सकते हैं कि इंदिरा की हत्या के बाद स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) का गठन हुआ, संसद के जरिए कानून बना, एक ब्लू बुक तैयार की गई जिसमें पीएम को प्रदान की गई सुरक्षा का पूरा विवरण दिया गया? क्या यह विरोधाभास नहीं है कि एक तरफ सोनिया गांधी लापरवाही बता रही हैं, जबकि उनकी पार्टी के दूसरे नेता दावा कर रहे हैं कि सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई थी?गुरुवार की रात अपने प्राइम टाइम शो ‘आज की बात’ में हमने दिखाया कि जब प्रधानमंत्री का काफिला फ्लाईओवर पर पहुंचा तो स्थानीय पुलिस ने जानबूझकर किस हद तक लापरवाही की। पीएम के रास्ते में ट्रैक्टर और ट्रॉली अचानक नहीं आए बल्कि इन्हें जानबूझकर वहां लाया गया था। प्रधानमंत्री के काफिले को रोकने के लिए पहले से तैयारी की गई थी। 20 मिनट के इंतजार के बाद जब पीएम का काफिला यू-टर्न लेकर वापस लौटा तो स्थानीय नेता प्रदर्शनकारियों को शाबाशी देते हुए दिखाई दिए।मेरे पास पंजाब पुलिस के अडिशनल डीजीपी की 2 चिट्ठियां और 5 ऐसे वीडियो हैं जो साफ कर देंगे कि स्थानीय पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच मिलीभगत थी। पीएम का काफिला जब फ्लाईओवर पर पहुंचा तो ट्रैक्टर और ट्रॉलियों पर खड़े प्रदर्शनकारी माइक पर चिल्ला रहे थे कि पुलिस लाठी चलाए, गोली चलाए, कुछ भी करे, वे रास्ते से नहीं हटेंगे। साफ है कि पंजाब के फिरोजपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक एक साजिश का हिस्सा थी।पंजाब के ADGP और अन्य सीनियर पुलिस अफसरों की कुछ चिट्ठियां सामने आईं हैं जिन्हें आपस में जोड़कर देखने पर साफ पता चलता है कि पंजाब पुलिस को पीएम के बठिंडा से फिरोजपुर सड़क मार्ग से जाने की संभावना के बारे में पता था। पहले से सूचना होने के बावजूद पंजाब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को पीएम के रास्ते से हटाने के लिए एक भी कदम नहीं उठाया। वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि पीएम का काफिला फ्लाईओवर पर फंसा हुआ है, और फ्लाइओवर के नीचे सैकड़ों बसों और ट्रैक्टरों पर प्रदर्शनकारी सवार हैं। कुछ प्रदर्शनकारी माइक पर दूसरों को उकसा रहे थे, जबकि कुछ लाठी और डंडों से लैस थे। वीडियो में साफ तौर पर दिख रहा है कि पास में खड़ी स्थानीय पुलिस प्रदर्शनकारियों को चुपचाप देख रही है। प्रदर्शनकारियों को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि फिरोजपुर में बीजेपी की रैली को कैंसिल कराना है।एक अन्य वीडियो में प्रदर्शनकारियों की भारी भीड़ दिखाई दे रही है। प्रदर्शनकारियों में से कई बसों और ट्रैक्टरों के ऊपर खड़े हैं, जबकि स्थानीय पुलिस उन्हें हटाने की कोशिश करती नजर आ रही है। साफ है कि भीड़ नियंत्रण में नहीं थी। पीएम की सुरक्षा की दृष्टि से यह खतरनाक स्थिति थी। 15 से 20 मिनट तक इंतजार करने के बाद जब पीएम के काफिले ने यू-टर्न लिया तो प्रदर्शनकारी खुशी से झूम उठे। उन्होंने अपनी ‘जीत’ का जश्न मनाया। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के सभी झूठे दावों की बीकेयू (क्रांतिकारी) के प्रमुख सुरजीत सिंह फूल ने हवा निकाल दी। फूल ने एक चौंकाने वाला खुलासा करते हुए कहा कि प्रदर्शनकारियों को पहले से पता ही नहीं था कि पीएम का काफिला वहां से गुजरेगा। फूल ने कहा, ‘हमें स्थानीय पुलिस ने पीएम के आने की जानकारी दी थी।’ उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों को शुरू में एसएसपी की बात पर यकीन नहीं हुआ, क्योंकि सड़क के दूसरी तरफ ट्रैफिक सामान्य तरीके से चल रहा था।अब यह साफ है कि फिरोजपुर के एसएसपी ने ही प्रदर्शनकारियों को पीएम के काफिले के आने की बात बताई थी। ऐसे में सवाल यह उठता है कि अगर इस रास्ते पर एक दिन पहले रिहर्सल किया गया था, तो इसे प्रदर्शनकारियों से खाली क्यों नहीं करवाया गया? प्रदर्शनकारियों को फ्लाईओवर पर आने और ट्रैफिक को रोकने की इजाजत किसने दी? फ्लाईओवर के पास सैकड़ों प्रदर्शनकारी थे, हाईवे लंगर चल रहा था। प्रदर्शनकारी और पुलिसकर्मी चाय की चुस्कियां ले रहे थे और पीएम के काफिले के आने का इंतजार कर रहे थे। ये सब एक या दो घंटे में तो नहीं हो सकता। आप सुनकर हैरान हो जाएंगे कि प्रदर्शकारियों को रोड पर पंजाब पुलिस ने ही बैठाया था, और ये बात हम नहीं कह रहे, रोड जाम करने वाले संगठन के अध्यक्ष सुरजीत सिंह फूल ने खुद कही है। फूल ने खुलासा किया कि प्रदर्शनकारी विरोध प्रदर्शन करने के लिए डीसी के दफ्तर जा रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें फ्लाईओवर के पास रोक लिया। उस दिन पंजाब में 10 से 12 किसान संगठनों ने जिला और तहसील मुख्यालयों पर विरोध प्रदर्शन करने की योजना बनाई थी। स्थानीय पुलिस ने ही प्रदर्शनकारियों को डीसी के दफ्तर जाने से रोका था।मेरे पास पंजाब पुलिस के ADGP (लॉ एंड ऑर्डर) की एक चिट्ठी है जो सभी आईजी, डीआईजी और एसएसपी को लिखी गई थी। इसमें अंदेशा जताया गया है कि प्रदर्शनकारी फिरोजपुर में पीएम की रैली को बाधित करने का प्रयास कर सकते हैं। सभी एसएसपी को निर्देश दिया गया कि वे प्रदर्शनकारियों की आवाजाही पर व्यक्तिगत रूप से नजर रखें और उन्हें फिरोजपुर जाने से रोकें। पत्र में कहा गया है कि चूंकि पीएम की रैली में बड़ी भीड़ होने की उम्मीद है, इसलिए एसएसपी को वीवीआईपी मूवमेंट सुचारू रूप से चलने देने के लिए पर्याप्त व्यवस्था करनी चाहिए और प्रदर्शनकारियों की आवाजाही पर कड़ी नजर रखनी चाहिए।दो या तीन बातें बिल्कुल साफ हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिस रास्ते पर जाने वाले थे, जो बदला हुआ रूट था, उसकी जानकारी किसान संगठनों के नेताओं को दी गई। किसान संगठनों के पास पर्याप्त समय था और वे अपने ट्रैक्टर और ट्रॉलियां लेकर रास्ता रोकने पहुंच गए। पुलिस ने उन्हें हटाने की कोशिश नहीं की। पंजाब पुलिस के DGP ने SPG से खुद कहा कि रास्ता साफ है और इसी आधार पर प्रधानमंत्री को सड़क से हुसैनीवाला ले जाने का रूट फाइनल हुआ। इस बात के भी सबूत हैं कि प्रदर्शनकारी कह रहे थे कि मोदी की रैली करने से रोकना है। ऐसे वीडियो भी मैंने आपको दिखाए हैं जिसमें पुलिसवाले प्रदर्शनकारियों के साथ बैठकर चाय पीते दिखाई दे रहे हैं। सबसे अहम बात ये है कि पंजाब पुलिस के एडीजी ने किसानों के धरने को लेकर, रोड ब्लॉक को लेकर आगाह किया था लेकिन किसी ने कोई ऐक्शन नहीं लिया।यही वजह थी कि को अपनी कार में खुले फ्लाईओवर पर करीब 20 मिनट तक रुकना पड़ा। यह एक बड़ा खतरा था। सिक्योरिटी की भारी चूक थी। पंजाब एक संवेदनशील राज्य है, पाकिस्तान का बॉर्डर इससे लगता है। यहां इस तरह की गलती एक गंभीर मामला है। इस पर सियासत नहीं होनी चाहिए बल्कि लापरवाही करने वाले को सजा दी जानी चाहिए।

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानस्टडी में हुआ खुलासा, मनुष्य की त्वचा पर 9 घंटे तक जिंदा रह सकता है कोरोना वायरस******कोरोना वायरस का कहर इस समय पूरी दुनिया पर बरस रहा है और लाखों लोग इसके चलते अपनी जान गंवा चुके हैं। अक्सर ही इस वायरस से जुड़े ऐसे-ऐसे खुलासे सामने आते रहे हैं, जो इस महामारी से लड़ रही दुनिया को हैरान करके रख देते हैं। एक नई स्टडी में इस वायरस से जुड़ी परेशान करने वाली बात पता चली है। स्टडी के मुताबिक, कोरोना वायरस मानव त्वचा पर 9 घंटे तक जीवित रह सकता है। साफ है कि यदि किसी शख्स के शरीर से यह वायरस चिपका हुआ है, और यदि उसके संपर्क में कोई दूसरा शख्स या खुद वही व्यक्ति आता है, तो उसके संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है।अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि इन्फ्लूएंजा ए वायरस (आईएवी) मानव त्वचा पर 2 घंटे जीवित रह सकता है। इन अनुसंधानकर्ताओं में जापान स्थित क्योतो प्रीफेक्चरल यूनिवर्सिटी आफ मेडिसिन के अनुसंधानकर्ता भी शामिल थे। यह अध्ययन पत्रिका ‘क्लिनिकल इंफेक्शस डिजीज’ में प्रकाशित हुआ है। इस अध्ययन में यह बात भी सामने आई कि दोनों ही हैंड सैनिटाइजर से निष्क्रिय हो जाते हैं। इससे यह पता चलता है कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए या सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना बेहद जरूरी है। साथ ही मास्क का इस्तेमाल भी उतना ही जरूरी है ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके।बता दें कि भारत में शुक्रवार को कोविड-19 के 70,496 नए मामले सामने आए थे। इसके साथ ही देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 69 लाख से अधिक हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह 8 बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार देश में के कुल मामलों की संख्या 69,06,151 हो गई है। वहीं, पिछले 24 घंटे में 964 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,06,490 हो गई। आंकड़ों के अनुसार देश में संक्रमण से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 59,06,069 हो गई है। इससे संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की दर बढ़कर 85.52 प्रतिशत पर पहुंच गई है। फिलहाल देश में 8,93,592 लोगों का कोरोना वायरस का इलाज जारी है।अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानASUS जेनफोन 5Z भारत में कल देगा दस्‍तक, OnePlus 6 को देगा टक्‍कर******Asus Zenfone 5Z ताइवान की स्‍मार्टफोन निर्माता कंपनी ने अपने लेटेस्ट स्‍मार्टफोन को भारत में लॉन्च करने तैयारी कर ली है। कंपनी 26 जून यानी मंगलवार को इस स्मार्टफोन को पेश करने जा रही है। फ्लिपकार्ट पर ASUS के एक स्मार्टफोन का टीजर देखा जा सकता है। इससे पहले कंपनी के कुछ सूत्रों ने जानकारी दी थी कि वे अपने अगले स्मार्टफोन को जून के अंत या जुलाई की शुरुआत में लॉन्‍च करेंगे। फ्लिपकार्ट टीजर की बात करें तो इसमें केवल इस स्मार्टफोन के लॉन्च की तारीख और समय की जानकारी दी गई है, जिसके अनुसार ये 26 जून यानी कल रात 8.45 बजे पेश किया जाएगा। हालांकि, इस टीजर पेज पर इस बात की जानकारी नहीं दी गई है कि कंपनी किस स्मार्टफोन को लॉन्‍च करने वाली है। हालांकि, इस बात की गहरी संभावना जताई जा रही है कि ASUS अपने जेनफोन 5Z को ही पेश करने वाली है। इसका लॉन्च टाइम 8.45 इस लेटेस्ट स्मार्टफोन के स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर की ओर इशारा करता है। कीमत के बारे में अभी कंपनी ने कोई जानकारी फ्लिपकार्ट पर नहीं दी है।ASUS जेनफोन 5Z को इस साल फरवरी में हुए MWC 2018 इवेंट में पेश किया गया था। हाल ही में यह स्मार्टफोन यूरोप में 499 यूरो (लगभग 39,879 रुपए) कीमत के साथ सेल के लिए उपलब्ध हुआ है। उम्मीद है कि भारत में जेनफोन 5Z की कीमत वनप्लस 6 की कीमत जितना ही हो सकती है।जहां तक ASUS जेनफोन 5Z के स्पेसिफिकेशंस की बात है तो इसमें 6.2 इंच का फुल HD प्लस डिस्प्ले है जिसका स्क्रीन रेजोल्‍यूशन 1080x2246 पिक्सल्स है और इसका स्क्रीन आसपैक्ट रेशियो 19:9 है। इस स्मार्टफोन का डिस्प्ले iPhone X से प्रेरित टॉप नॉच के साथ है। इसके साथ ही इसमें स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर, 6GB/8GB रैम और 128GB/256GB इंटरनल स्टोरेज की सुविधा होगी। इसमें फिंगरप्रिंट सेंसर फोन के पिछले भाग पर दिया गया है।इस स्मार्टफोन में डुअल रियर कैमरा दिया गया है जिसमें कि 12MP और 8MP के दो सेंसर्स दिए गए हैं। इसके 12MP वाले कैमरा में सोनी IMX363 सेंसर, f/1.8 अपर्चर, 83-डिग्री फील्ड ऑफ व्यू, 24 मिमी फोकल लेंथ और सॉफ्टलाइट LED फ्लैश की सुविधा है। 8MP के सेकेंडरी सेंसर में 120 डिग्री वाइड-एंगल लेंस, f/2.2 अपर्चर और 12 मिमी फोकल लेंथ की सुविधा मिलेगी। ASUS जेनफोन 5Z में सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए फ्रंट में 8MP का कैमरा दिया गया है जोकि f/2.0 अपर्चर, 84-डिग्री फील्ड ऑफ व्यू और 24 मिमी फोकल लेंथ के साथ है।इसके अलावा इसमें 3300 mAh की बैटरी है जिसके साथ इसमें AI चार्जिंग टेक्नॉलॉजी भी दी गई है। वहीं कनेक्टिविटी के लिए 4G VoLTE, वाई-फाई 802.11ac, ब्लूटूथ v5.0, NFC, GPS/ A-GPS, FM रेडियो, USB टाइप-C और 3.5 मिमी हैडफोन जैक आदि दिए गए हैं।

अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानFlying Bike Technology: सड़क पर चलते अब आप की बाइक बन जाएगी हेलीकॉप्टर, जानें कीमत और लांचिंग तिथि******Highlightsअगर आप बाइक चलाने के शौकीन हैं और कई बार आप जाम में फंस जाते हैं तो यह तनाव का कारण बन जाता है। मगर जरा सोचकर देखिए कि ऐसी स्थिति में यदि आपकी बाइक उड़कर पूरे ट्रैफिक को क्रॉस करते हुए फिर खाली सड़क पर उतरकर चलने लगे तो कैसा लगेगा?.... शायद बहुत ही अच्छा और अकल्पनीय। मगर जापानी वैज्ञानिकों ने इस कल्पना को सच साबित कर दिया है। यानि सड़क पर चलते-चलते जब चाहें तब आप अपनी बाइक को हेलीकॉप्टर बना सकते हैं और उसे हवा में उड़ा सकते हैं। जब चाहें तब सड़क पर फिर से लैंडिंग कर सकते हैं। यह सब कैसे संभव होने जा रहा है और कैसे कोई बाइक सड़क पर चलते-चलते हेलीकॉप्टर का स्वरूप ले लेगी, आइए इस बारे में आपको विस्तार से बताते हैं।जापानी वैज्ञानिकों ने दुनिया की पहली उड़ने वाली बाइक बनाने में सफलता पाई है। जापान की इस सफलता से दुनिया रोमांच की कल्पना से भर उठी है। जापानी वैज्ञानिकों द्वारा बनाई गई इस बाइक को अमेरिका के एक ऑटो एक्सपो शो में प्रदर्शित भी किया गया। इस दौरान बाइक ने हेलीकॉप्टर की तरह हवा में उड़ान भरके सबको चौंका दिया।जापान की एयरविंस कंपनी ने यह उड़ने वाली बाइक बनाई है। इसे बनाने का मकसद जाम में फंसने पर वहां से उड़ान भरके फिर खाली सड़क पर लैंड कर जाना है। यह बाइक 40 मिनट में अधिकतम 100 किलोमीटर तक की उड़ान भर सकती है। यानि इस हिसाब से यह एक घंटे में 150 किलोमीटर तक की दूरी तय कर सकती है। इसे टूरिज्मो होवर बाइक नाम दिया गया है।40 मिनट में 100 किलोमीटर तक उड़ने की क्षमतालागत 777 हजार डॉलर यानि छह करोड़ रुपयेबाइक का वजन करीब 300 किलोजापान की स्टार्ट अप एयरविंस कंपनी है निर्माताइंजन- पेट्रोल ईंधन से संचालितएयरविंस टेक्नॉलोजी के संस्थापक व सीईओ शुहेई कोमात्सु के अनुसार उनकी कंपनी ने यह सफलता लंबे वर्षों तक इस पर काम करने के बाद पाई है। यह काफी उत्सुकता भरी रोमांचक सफलता है। बाइक ट्रॉयल में पूरी तरह सफल रही है। अब जल्द ही इसे बाजार में बिकने के लिए उतारा जाएगा। कंपनी ने दावा किया है कि वर्ष 2023 से अमेरिका से इसकी बिक्री शुरू कर दी जाएगी। उसके बाद धीरे-धीरे यह ग्लोबल मार्केट में भी उपलब्ध हो जाएगी। यानि तब इस बाइक की पहुंच आम जनों तक भी हो जाएगी।शुहेई के अनुसार बाइक को एल्टीट्यूड टेक्नॉलोजी से बनाया गया है। इसमें प्रोपेलर्स का इस्तेमाल भी किया गया है। ताकि उसके जरिये हवा में बाइक का संतुलन बना रहे। बाइक के चारों ओर लगाए गए प्रोपपेलर्स बाइक को हवा में संतुलित रखने के साथ ही उड़ान भरने में भी मदद करते हैं। इससे हादसे का जोखिम नहीं रहता। बाइक चलाने के शौकीन लोगों को इसके लिए छह करोड़ रुपये खर्च करने होंगे।अपनीकारमेंकभीनकरेंयेगलतीकटसकताहै15000काचालानQueen Elizabeth : ब्रिटेन में आर्थिक संकट के बीच शाही परिवार के प्रशंसकों ने लंदन के पर्यटन को दी रफ्तार, पढ़िए डिटेल******Highlightsमहारानी एलिजाबेथ द्वितीय को अंतिम विदाई देने के लिए बड़ी संख्या में राजशाही प्रशंसक लंदन में जमा हुए हैं। इसके चलते यहां रेस्टोरेंट और होटलों में भारी भीड़ देखने को मिल रही है। ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था इस वक्त उच्च मुद्रास्फीति और भू-राजनीतिक तनाव के कारण मंदी की कगार पर है। ऐसे वक्त में एलिजाबेथ को श्रद्धांजलि देने के लिए आने वाले लोग पर्यटन से जुड़े व्यवसायों को बढ़ावा दे रहे हैं। इन लोगों में कई सुदूर अमेरिका और भारत से आए हैं।अंतिम संस्कार कार्यक्रम पर रहेगी दुनिया की नजरभारत से आए कनककांत बेनेडिक्ट ने कहा ‘आप जानते हैं, यह ऐतिहासिक क्षण है। यह जीवन में एक बार होता है। इसलिए हम इस क्षण का हिस्सा बने। वह अपनी पत्नी के साथ आए हैं। ब्रिटेन में सबसे लंबे समय तक शासन करने वाली एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार से जुड़े कार्यक्रमों पर पूरी दुनिया की नजर है।सोमवार को किया जाएगा अंतिम संस्कारबकिंघम पैलेस के पास फूल और स्मृति चिन्ह की दुकानों पर काफी भीड़ है। उनका सोमवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। इसबीच मध्य लंदन में होटल के कमरों की मांग बढ़ गई है और कुछ मामलों में कीमत दोगुनी हो गई है। लंदन स्थित समूह बुकिंग मंच होटल प्लानर डॉट कॉम के अनुसार 95 प्रतिशत तक कमरे भर चुके हैं। इसी तरह कुछ पर्यटकों ने बताया कि उनके खाने.पीने का खर्च 30 प्रतिशत तक बढ़ गया है।ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के बाद शोकाकुल जनता की मीलों लंबी कतार देखकर ब्रिटिश सरकार ने शुक्रवार को और लोगों को कतार में शामिल होने से रोक दिया। सरकार ने यह कदम महाराजा चार्ल्स तृतीय और उनके भाई बहन के ऐतिहासिक वेस्टमिंस्टर हॉल में पहुंचने से कुछ घंटे पहले उठाया। कतार के बारे में जानकारी देने वाले लाइव ट्रैकर ने कहा कि कतार लंबी हो चली है और अपनी क्षमता तक पहुंच चुकी है तथा लोगों को कतार का हिस्सा होने से छह घंटे के लिए ‘रोक’ दिया गया है, क्योंकि इंतजार की घड़ी 14 घंटे तक बढ़ गयी है और महारानी के दर्शन करने वाली शोकाकुल जनता की कतार पांच मील अर्थात आठ किलोमीटर तक लंबी हो चुकी है।संसद से लेकर दक्षिण लंदन तक भीड़ ही भीड़महरानी की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह कतार संसद से लेकर दक्षिण लंदन स्थित साउथवार्क पार्क तक और उसके बाद पार्क के चारों ओर घुमावदार स्थिति में पहुंच चुकी है। लंदन की निवासी कैरोलीन क्विल्टी ने कहा कि वह शुक्रवार को चार बजे सुबह कतार में शामिल हुई हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि यह ऐतिहासिक क्षण है और यदि मैं इसमें शामिल नहीं होती हूं या इसका हिस्सा नहीं बनती हूं तो निश्चित तौर पर मुझे इसका पछतावा होगा।’’ इस बीच, चीनी अधिकारियों के एक प्रतिनिधिमंडल को कथित तौर पर संसद के उस ऐतिहासिक हॉल में जाने से रोक दिया गया था, जहां दिवंगत महारानी का ताबूत रखा है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:10
उद्धरण 1 इमारत
Congress Crisis: 'हमारा CM बदला तो कांग्रेस उठाएगी नुकसान', गहलोत गुट की आलाकमान को खुली चुनौती******Highlightsराजस्थान में चल रहे सियासी उठापटक ने दिखा दिया है कि संगठनात्मक रूप से कांग्रेस कितनी कमजोर पार्टी है, क्योंकि यहां आलाकमान क्या कहता है, क्या आदेश देता है उससे किसी को फर्क नहीं पड़ता। अब तो स्थिति ये हो गई है कि पार्टी के विधायकों और मंत्रियों ने भी कांग्रेस आलाकमान को आंख दिखाना शुरू कर दिया है। दरअसल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के वफादार विधायकों की लिस्ट में शामिल शहरी विकास मंत्री शांति धारीवाल के घर हुई बैठक का रविवार देर रात एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें धारीवाल यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि अगर अशोक गहलोत को बदला गया, तो कांग्रेस को नुकसान होगा। उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि किसी भी तरह अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बने रहें।धारीवाल ने कहा कि आलाकमान में बैठा हुआ कोई आदमी यह बता दे कि अशोक गहलोत के पास कौन से दो पद हैं, जो उनसे इस्तीफा मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि अभी उनके पास केवल मुख्यमंत्री का पद है और जब दूसरा पद मिलगा तब कोई बात उठेगी। धारीवाल वीडियो में यह कहते हुए दिखाई दिये कि आज क्या बात उठ गई, आज आप इस्तीफा मांगने के लिये तैयार हो रहे हो। जिस षड्यंत्र से पंजाब खोया राजस्थान भी खोने जा रहे हैं।'' उन्होंने कहा कि अपन लोग संभल जायें तो राजस्थान बचेगा, वरना राजस्थान भी हाथ से जायेगा। धारीवाल वीडियो में यह भी कहते दिखे कि विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने पहले दिन ही मना कर दिया था कि उनका कोई लेना देना नहीं है इस पद से।मैं जहां पर हूं वहां प्रसन्न हूं। ना तो वो उम्मीदवार थे और ना उनको उम्मीदवार बनाया गया। लेकिन जानबूझकर एक मीडिया में खबर छपवाकर यह विवाद उत्पन्न किया गया। वीडियो में धारीवाल यह कहते भी दिखाई दिये कि जैसलमेर-जयपुर में कांग्रेस सरकार गिराने की भाजपा की कोशिश को विफल करने के लिए एकसाथ डेरा डालने वाले 102 विधायकों में से किसी को भी मुख्यमंत्री बनाया जाए, तो कोई आपत्ति नहीं है।
2022-10-01 05:11
उद्धरण 2 इमारत
Ubon Game King Headphone Review: दमदार आवाज खूबसूरत स्टाइल, गेमिंग के खास हेडफोन******आजकल गेमिंग की दुनिया तेजी से बदल रही है साथ ही गेमर्स का अंदाज भी बदल रहा है। पबजी से लेकर बैटलग्राउंड जैसे गेम्स खलने वालों के लिए विजुअल्स के साथ ही साउंड क्वालिटी भी काफी ज्यादा मायने रखती है। अगर आपको गेमिंग के दौरान क्रिस्टल क्लियर और दमदार साउंड चाहिए तो आपके पास कुछ बढ़िया क्वालिटी के हेडफोन होने चाहिए।आज हम ऐसे ही एक खास ​गेमिंग हेडफोन को रिव्यू कर रहे हैं जो आपके गेमिंग के मजे को और भी बढ़ा देगा। हम बात कर रहे हैं Ubon के Game King GHP-26000 ​गेमिंग हेडफोन की। हेडफोन का डिजाइन काफी आधुनिक है और इसकी एलईडी लाइट्स आपका मजा दोगुना कर सकती हैं। आइए जानते हैं यूबॉन के इस गेमिंग हेडफोन के बारे में। हम आपको बताएंगे कि इसके साथ हमारा अनुभव कैसा रहा और क्या आपको यूबॉन हेडफोन को खरीदना चाहिए या फिर किसी अन्य ब्रांड की तलाश करनी चाहिए।गेमिंग हेडफोन होने के चलते इसका डिजाइन काफी फंकी रखा गया है। हेडफोन में आपको एलईडी लाइट्स मिलेंगी जो आपके गेमिंग के मजे को और भी बढ़ा देगा। इसमें कानों को सपोर्ट देने के लिए सॉफ्ट मैमोरी इयरमफ्स दिए गए हैं। ये लंबे समय तक पहनने पर भी कानों को तकलीफ नहीं देते हैं। अलग अलग हेडसाइज के लिए इसमें एडजस्टेबल ​हेड स्ट्रिप मिलेगी। इसके अलावा इसमें एडजस्टेबल एचडी माइक्रोफोन भी दिया गया है। साथ ही इसमें 2.2 मीटर की लंबी केबल दी गई है, जो आपके मूवमेंट को आसान बनाती है।Ubon के Game King GHP-26000 ​गेमिंग हेडफोन में आपको कनेक्टिविटी के दो विकल्प मिलते हैं। आप चाहें तो 3.5 एमएम के जैक के जरिए मोबाइल फोन, गेमिंग कंसोल या फिर लैपटॉप कम्प्यूटर को कनेक्ट कर सकते हैं। इसके अलावा इसमें यूएसबी विकल्प भी दिया गया है जो आपको बेहतर साउंड और वॉइस प्रदान करता है। साथ ही इसके वायर में आपको वॉल्यूम एडजस्ट करने का बटन भी मिलेगा।GHP-26000 क्वालिटी साउंड देने में माहिर है और यह क्रिस्टल क्लियर कॉलिंग सेशन के लिए इनबिल्ट एचडी माइक्रोफोन के साथ आता है। जब ऑडियो क्वालिटी की बात आती है तो हमारे उपयोग के दौरान, ऑडियो क्वालिटी में कोई खराबी नहीं दिखी। बेस वाले म्यूजिक में भी आवाज भरभराती नहीं है। ये गेमिंग हेडफ़ोन विशेष रूप से आसपास के शोर को रोकने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं और पूरी तरह से एक खिलाड़ी को गेमिंग की दुनिया में डूबने में मदद करते हैं।कंपनी की वेबसाइट पर भी यह प्रोडक्ट बिक्री के लिए उपलब्ध है। इसकी एमआरपी 2299 रुपये है। लेकिन यूबॉन की आधिकारिक वेबसाइट पर इसकी कीमत 949 रुपये है। इसके अलावा ये हेडफोन आपको फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसी ईकॉमर्स वेबसाइट पर भी मिल जाएगा।वैल्यू फॉर मनी के लिहाज से यह हेडफोन औसत से काफी बढ़िया हैं। जैसा हमने बताया कि इसकी साउंड क्वालिटी काफी अच्छी है। लेकिन कुल मिलाकर आप यदि कम कीमत में बेहतर प्रोडक्ट ले सकते हैं तो आप इसे विकल्पों में रख सकते हैं।
2022-10-01 04:48
उद्धरण 3 इमारत
IMD NCR Weather: बारिश ने फिर बढ़ाई NCR की परेशानी, दिल्ली-गुरुग्राम एक्सप्रेसवे पर 15 किलोमीटर लंबा जाम, देखें VIDEO******Highlights दिल्ली-NCR में आज दिन भर से लगातार भारी बारिश हो रही है। दिल्ली से गुरुग्राम जाने के रास्ते में 15 किलोमीटर लंबा जाम लगा है। नरसिंहपुर से इफ्को चौक तक गाड़ियां रेंग रहीं हैं। के नए इलाके जाम हो गए हैं। दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक करीब 55-60MM तक हुई बारिश से ही इलाकों में पानी भर गया और शाम 5 बजे के बाद हुई मूसलाधार बारिश ने स्थिति और बिगाड़ दी। बारिश की वजह से जाम की समस्या इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि लोग मदद के लिए दिल्ली पुलिस को कई बार कॉल कर चुके हैं। मौसम विभाग ने कहा है कि अगले चार दिन तक लगातार बारिश हो सकती है।दिल्ली NCR में ट्रैफिक रुक चुका है। कई इलाके पूरी तरह पानी में डूब चुके हैं। IMD ने ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है। इस वक्त सबसे बुरा हाल दिल्ली गुरुग्राम हाइवे का है। कई इलाके जिन्हें क्रॉस करने में अमूमन 10 मिनट का वक्त लगता है उन इलाकों को क्रॉस करने में 45 मिनट का वक्त लग रहा है। दिल्ली-NCR में कुछ इलाकों ऐसे हैं जहां सड़कों पर गड्ढे हो गए हैं। कई जगहों पर पेड़ों के गिरने की ख़बर है। दिल्ली के कई इलाकों में भयंकर ट्रैफिक जाम लगा हुआ है। यमुना ब्रिज, आउटर रिंग रोड, पश्चिम विहार से लेकर द्वारका फ्लाइओवर और धौला कुआं से गुरुग्राम जाने वाले सारे रास्ते पानी से लबालब भर चुके हैं। हर जगह ज़बरदस्त ट्रैफिक जाम है।राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र से मानसून की वापसी से ठीक पहले हुई ताजा बारिश से वर्षा में कमी (सितंबर में अब तक 46 फीसदी) को कुछ हद तक पूरा करने में मदद मिलेगी। इससे हवा भी साफ रहेगी और तापमान भी नियंत्रित रहेगा। शहर में न्यूनतम तापमान 23.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) दोपहर दो बजे 61 (संतोषजनक श्रेणी) दर्ज किया गया। आईएमडी ने बताया कि दिल्ली के कुछ हिस्सों में अगले दो तीन दिनों में हल्की बारिश हो सकती है।सफदरजंग वेधशाला ने सितंबर से अब तक 58.5 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की है जबकि सामान्य स्तर 108.5 मिलीमीटर है। उत्तर पश्चिम भारत में अनुकूल मौसम प्रणाली नहीं रहने के कारण अगस्त में 41.6 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई जो करीब 14 वर्षों में सबसे कम है। दिल्ली में एक जून से 405.3 मिलीमीटर बारिश हुई जो सामान्य 621.7 मिलीमीटर बारिश से कम है। आईएमडी ने मंगलवार को कहा था कि दक्षिण पश्चिम मानसून के लौटने की सामान्य तारीख 17 सितंबर है और यह सामान्य तारीख से तीन दिन बाद दक्षिण पश्चिम राजस्थान के कई हिस्सों और पास के कच्छ से लौट चुका है।इससे पहले मौसम विभाग ने बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव वाले क्षेत्र के चलते राजस्‍थान में मानसून के फिर से सक्रिय होने और अगले तीन दिनों में कई जगहों पर भारी से अति भारी बारिश होने का अनुमान जताया था। मौसम केंद्र जयपुर के प्रवक्‍ता ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव वाला क्षेत्र बुधवार को उत्तर-पूर्वी मध्य प्रदेश और आसपास के क्षेत्रों के ऊपर सक्रिय है और अगले दो दिनों के दौरान इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में बढ़ने की संभावना है।
वापसी