नई पोस्ट करें

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई और पीएमएल-एन प्रमुख शहबाज शरीफ Coronavirus से संक्रमित

2022-10-01 06:31:38 526

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितIndonesia Open: थम गया प्रणय की जीत का सिलसिला, टूर्नामेंट में भारतीय शटलर के साथ ऐसा दूसरी बार हुआ******Highlightsस्टार इंडियन शटलर एचएस प्रणय की इंडोनेशिया सुपर 1000 बैडमिंटन टूर्नामेंट में जीत का सिलसिला आखिरकार टूट लगा। प्रणय टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में चीन के झाओ जून पेंग से सीधे गेम में हारकर बाहर हो गए।वर्ल्ड नंबर 23 खिलाड़ी प्रणय ने इस मुकाबले में कोशिश तो खूब की लेकिन जीत दिलाने वाली लय हासिल नहीं कर सके। भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी को वर्ल्ड जूनियर चैम्पियनशिप में दो बार ब्रॉन्ज मेडल जीत चुके जून पेंग ने 40 मिनट तक चले मुकाबले में 16-21, 15-21 से मात दी। इंटरनेशनल बैडमिंटन टूर्नामेंट में यह दोनों की पहली भिड़ंत थी। प्रणय दूसरी बार इंडोनेशिया ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचे थे। इससे पहले, वह 2017 में भी इस टूर्नामेंट के अंतिम चार में पहुंचे थे।इस मुकाबले के पहले गेम में प्रणय शुरुआत और अंत में थोड़े सुस्त दिखे। चीन के खिलाड़ी ने अपने ताकतवर स्मैश और फ्लिक शॉट से शुरुआत से उन्हें दबाव में रखा। पहले गेम में ब्रेक तक चीनी खिलाड़ी ने प्रणय पर 11-6 से बढ़त बना ली थी। पांच अंक का यह अंतर 14-9 तक कायम रहा। प्रणय अपने नेट प्ले में भी थोड़े नर्वस दिखे प्रणय ने हालांकि इस अंतर को कम करते हुए स्कोर 14-16 किया लेकिन जून पेंग ने इस गेम को 21-16 से अपने नाम कर लिया। दूसरे गेम में प्रणय ने 6-4 की बढ़त बनाई लेकिन कई मौके गंवाने से उनकी खुशी ज्यादा देर तक नहीं टिक सकी। जून पेंग ने उनके कमजोर रिटर्न का भरपूर फायदा उठाया। चीन के खिलाड़ी ने गेम पर नियंत्रण बनाए रखा। हालांकि दूसरे गेम के आखिर में प्रणय ने एक मौके पर वीडियो रेफरल भी लिया लेकिन नतीजा उनके खिलाफ आया जिसके बाद चीनी शटलर 17-9 से आगे निकल गया। इसके बाद, टूर्नामेंट में प्रणय के सफर का अंत होने में ज्यादा वक्त नहीं लगा।

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितBigg Boss 13 Somvaar ka Vaar Highlights: रजत शर्मा ने किए सलमान से तीखे सवाल, नहीं हुआ कोई बेघर****** के घर में सलमान खान ने घरवालों के साथ खूब मस्ती की।इसके साथ ही आयुष्मान खुराना, जितेंद्र कुमार और नीना गुप्ता अपनी अपकमिंग फिल्म 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान' का प्रमोशन करने आए। वहीं इंडिया टीवी के चेयरमैन औरएडिटर इनचीफ रजत शर्मा ने 'आप की अदालत' में सलमान खान से घर के सदस्यों के लेकर किए कई सवाल। जिसका सलमान खान ने दिया बड़े ही बेबाकी से जवाब।पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितत्योहारी सीजन के कारण सोने की मांग कायम, अक्टूबर में गोल्ड ईटीएफ में 303 करोड़ रु का निवेश******अक्टूबर में गोल्ड ईटीएफ में 303 करोड़ रु का निवेशनई दिल्ली। गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) ने निवेशकों को आकर्षित करना जारी रखा है और उन्होंने त्योहारी सीजन की मांग के कारण अक्टूबर में 303 करोड़ रुपये की शुद्ध संपत्ति अर्जित की। हालांकि, यह सितंबर के 446 करोड़ रुपये की शुद्ध आमद से कम था। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों से पता चलता है कि इस वर्ग में अगस्त में 24 करोड़ रुपये की शुद्ध आमद दर्ज की गयी।एलएक्सएमई की संस्थापक प्रीति राठी गुप्ता ने कहा, "गोल्ड ईटीएफ में अक्टूबर के दौरान भी लगभग 303 करोड़ रुपये की एक अच्छी आमद देखी गयी। उम्मीदों के अनुरूप, उत्सव ने परिसंपत्ति वर्ग की मांग को बनाए रखा। इस साल धनतेरस पर सोने की बिक्री का स्तर 2019 के धनतेरस की तुलना में लगभग 20 टन अधिक था।" वित्तीय सेवा कंपनी मॉर्निंगस्टार इंडिया के सहयोगी निदेशक-प्रबंधक (अनुसंधान) हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा, "सितंबर महीने की तुलना में अक्टूबर में शुद्ध आमद के कम स्तर को अक्टूबर में सोने की कीमतों में उछाल के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है, जो निवेशकों को गोल्ड ईटीएफ में अधिक मात्रा में आवंटन करने से रोक सकता था।" कम आमद के लिए एक अन्य कारक निवेशकों का शेयर बाजारों पर ध्यान केंद्रित करना हो सकता है, जो सर्वकालिक उच्च स्तर पर कारोबार कर रहे हैं। उन्होंने कहा, "इन कारकों के बावजूद, अक्टूबर में शुद्ध आमद फिर भी सही है और यह निवेशकों के अपने निवेश पोर्टफोलियो में सोने को पसंद करने की ओर इशारा करता है।"इसके साथ ही गोल्ड ईटीएफ कैटेगरी में इस साल अब तक 3,818 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश हुआ है। इस सेग्मेंट में केवल एक महीने ही फंड में शुद्ध रूप से निकासी देखने को मिली थी। जुलाई 2021 में निवेशकों ने ईटीएफ से लगभग 61.5 करोड़ रुपये की निकासी की थी। श्रेणी में फोलियो की संख्या पिछले महीने के मुकाबले आठ प्रतिशत बढ़कर 26.6 लाख तक पहुंच गया । इस साल अब तक फोलियो की संख्या में करीब 200 फीसदी का इजाफा हुआ है। सोने को ट्रैक करने वाले ईटीएफ में निवेश अगस्त 2019 से लगातार बढ़ रहा है। हालांकि, एसेट क्लास ने नवंबर 2020 में 141 करोड़ रुपये, फरवरी 2020 में 195 करोड़ रुपये और 61 रुपये की शुद्ध निकासी देखी गयी।

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई और पीएमएल-एन प्रमुख शहबाज शरीफ Coronavirus से संक्रमित

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितवित्तीय लेखा-जोखा जमा नहीं कराने वाली 2.25 लाख कंपनियों पर गिर सकती है गाज, रद्द हो सकता है पंजीकरण******shell companies सरकार नियमानुसार सालाना वितीय लेखा-जोखा दाखिल नहीं करने वाली के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की तैयारी में है।सरकार ने आज कहा कि उसने ऐसी 2.25 लाख से अधिक कंपनियों और 7,191 सीमित दायित्व भागीदारी (एलएलपी) वाली इकाइयों की पहचान की है, जिन्होंने 2015-16 और 2016-17 के लिए आवश्यक वित्तीय लेखा-जोखा जमा नहीं किया है। सरकार इस वित्त वर्ष में उनका पंजीकरण रद्द कर सकती है।कॉर्पोरेट मामलों का मंत्रालय इससे पहले 2.26 लाख कंपनियों का पंजीकरण रद्द कर चुका है। इन कंपनियों ने लगातार दो वर्ष या उससे अधिक समय तक वित्तीय लेखा-जोखा या वार्षिक रिटर्न दाखिल नहीं किया था। साथ ही तीन वित्त वर्ष (2013-14, 2014-15 और 2015-16) का लेखा-जोखा दाखिल नहीं करने पर 3 लाख से अधिक निदेशकों को अयोग्य घोषित किया है।वित्त मंत्रालय ने बयान में कहा कि 2018-19 के दौरान दूसरे चरण के अभियान की शुरुआत के लिए कंपनी अधिनियम 2013 की धारा 248 के तहत पंजीकरण रद्द करने के लिए 2,25,910 और कंपनियों की पहचान की गई है, जिन्होंने 2015-16 और 2016-17 का वित्तीय लेखा-जोखा दाखिल नहीं कराया है। साथ ही सीमित दायित्‍व भागीदारी (एलएलपी) अधिनियम 2008 की धारा 75 के तहत कार्रवाई के लिए 7,191 एलएलपी की पहचान की गई है।बयान में कहा कि कंपनियों और एलएलपी को उनकी चूक और प्रस्तावित कार्रवाई के संबंध में नोटिस के माध्यम से सुनवाई का एक मौका दिया जाएगा। उनके जवाब पर विचार करने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।मुखौटा कंपनियों की जांच और उन पर शिकंजा कसने के लिए फरवरी 2017 में वित्त सचिव हसमुख अधिया और कॉरपोरेट मामलों के सचिव इंजेती श्रीनिवास की अध्यक्षता में कार्यबल का गठन किया गया था।कार्यबल ने मुखौटा कंपनियों का डेटाबेस संकलित किया और तीन वर्गों- पुष्ट सूची, व्युत्पन्न (डेराइवड) सूची और संदिग्ध सूची में बांटा है।पुष्ट सूची में 16,537 मुखौटा कंपनियां हैं, अलग-अलग एजेंसियों से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर यह सूची तैयार की गई है। डेराइवड सूची में 16,739 कंपनियां हैं, ये ऐसी कंपनियां हैं जिनके निदेशक वहीं हैं जो पुष्ट मुखौटा कंपनियों के निदेशक है। संदिग्ध सूची में 80,670 मुखौटा कंपनियां हैं, ये सूची गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय द्वारा तैयार की गई है।पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितभारत में आज लॉन्‍च होगा OnePlus 6T, जानिए OnePlus 6 से कितना है ये अलग******Oneplus 6Tन की प्रीमियम हैंडसेट निर्माता कंपनी वनप्लस ने सोमवार को अपना फ्लैगशिप स्मार्टफोन टी को दुनिया के सामने पेश किया, लेकिन ये स्‍मार्टफोन भारत में मंगलवार को लॉन्‍च किया जाएगा। न्‍यूयॉर्क में आयोजित एक भव्‍य कार्यक्रम में लॉन्‍च किया गया OnePlus 6T कंपनी के पिछले फोन वनप्लस 6 का उन्‍नत संस्‍करण है। इसकी सबसे खास बात इसका इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर, वाटरड्रॉप नॉच, 3700एमएएच बैटरी और बेहतर कैमरा है। आइए हम यहां जानते हैं कि ये नया वनप्‍लस 6टी कैसे और कितना वनप्‍लस 6 से अलग है।वनप्‍लस 6टी के 6जीबी रैम और 128जीबी मेमोरी वाले वेरिएंट की कीमत 549 डॉलर (लगभग 40,300 रुपए) है। इसके 8जीबी रैम और 128जीबी मेमोरी की कीमत 579 डॉलर (लगभग 42,500 रुपए) है। वहीं इसके 8जीबी रैम और 256जीबी मेमोरी वेरिएंट की कीमत 629 डॉलर (लगभग 46,200 रुपए) है।वनप्‍लस 6 को कंपनी ने अमेरिका में 529 डॉलर (लगभग 38,800 रुपए) में लॉन्‍च किया था। वनप्‍लस 6टी के बेस वेरिएंट में 128जीबी स्‍टोरेज है, जबकि वनप्‍लस 6 के बेस वेरिएंट में 64जीबी इनबिल्‍ट स्‍टोरेज है।वनप्‍लस 6टी में 6.41 इंच फुल एचडी प्‍लस ऑप्टिक एमोलेड पैनल है, जिसका आस्‍पेक्‍ट रेश्‍यो 19.5:9 है। इसमें कॉर्निंग गोरिल्‍ला ग्‍लास 6 की प्रोटेक्‍शन दी गई है। इसके विपरीत वनप्‍लस 6 में 6.28 इंच फुल एचडी प्‍लस ऑप्टिक एमोलेड डिस्‍प्‍ले है, जिसका आस्‍पेक्‍ट रेश्‍यो 19:9 है। इसमें सुरक्षा के लिए कॉर्निंग गोरिल्‍ला ग्‍लास 5 दिया गया है।नए वनप्‍लस 6टी और पुराने वनप्‍लस 6 दोनों में ही ऑक्‍टा-कोर क्‍वॉलकॉम स्‍नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर दिया गया है। ग्राफ‍िक्‍स के लिए इनइमें एड्रिनो 630जीपीयू मौजूद है।वनप्‍लस 6टी और वनप्‍लस 6 में 6जीबी रैम व 8जीबी रैम का विकल्‍प है। वनप्‍लस 6टी को 128जीबी और 256जीबी स्‍टोरेज वेरिएंट में भी लॉन्‍च किया गया है। वनप्‍लस 6 का बेस वेरिएंट 64जीबी इनबिल्‍ट स्‍टोरेज के साथ आता है, जबकि वनप्‍लस 6टी का बेस वेरिएंट 128जीबी इनबिल्‍ट स्‍टोरेज के साथ आता है।वनप्‍लस 6 और वनप्‍लस 6टी दोनों डुअल नैनो सिम कार्ड को सपोर्ट करते हैं। वनप्‍लस 6टी एंड्रॉयड 9.0 पाई आधारित ऑक्‍सीजन ओएस पर रन करता है, जबकि वनप्‍लस 6 को पिछले महीने ही लेटेस्‍ट एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्‍टम से अपडेट किया गया है।नए वनप्‍लस 6टी और वनप्‍लस 6 दोनों में ही एक जैसा डुअल रियर कैमरा सेटअप है। दोनों हैंडसेट में अपर्चर एफ/1.7, ओआईएस और ईआईएस के साथ 16 मेगापिक्‍सल प्राइमरी व अपर्चर एफ/1.7 के साथ 20 मेगापिक्‍सल का सेकेंडरी सेंसर दिया गया है। फ्रंट में अपर्चर एफ/2.0 और ईआईएस के साथ 16 मेगापिक्‍सल का कैमरा है।वनप्‍लस 6टी में 3700 एमएएच की बैटरी है, जो फास्‍ट चार्ज टेक्‍नोलॉजी के साथ आती है। कंपनी का दावा है कि आधे घंटे की चार्जिंग पर यह फोन दिनभर काम कर सकता है। वनप्‍लस 6 में टी की तुलना में 23 प्रतिशत छोटी बैटरी है, इमसें 3300 एमएएच की बैटरी है, जो डैश चार्ज टेक्‍नोलॉजी को सपोर्ट करती है।दोनों फोन में 4जी वोल्‍ट, डुअल बैंड वाईफाई 802.11 एसी, ब्‍लूटूथ 5.0, एनएफसी, जीपीएस/ए-जीपीएस और यूएसबी टाइप-सी जैसे पोर्ट दिए गए हैं। वनप्‍लस 6 में 3.5 एमएम ऑडियो जैक है, जबकि वनप्‍लस 6टी में यह फीचर नहीं है। वनप्‍लस 6टी में इन-डिस्‍प्‍ले फ‍िंगरप्रिंट सेंसर है, जबकि वनप्‍लस 6 में यह फीचर नहीं है।पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितआज का राशिफल 7 मार्च 2022: मेष राशि वालों का रुका हुआ पैसा मिलेगा वापस, वहीं इनकी परेशानियां होगी दूर******Highlightsआज फाल्गुन शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि और सोमवार का दिन है। पंचमी तिथि आज रात 10 बजकर 32 मिनट तक रहेगी। उसके बाद षष्ठी तिथि लग जाएगी। आज रात 12 बजकर 1 मिनट तक इन्द्र योग रहेगा।साथ ही आज पूरा दिन, पूरी रात पार कर कल सुबह 5 बजकर 54 मिनट तक भरणी नक्षत्र रहेगा। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से कैसा रहेगा आपका दिन और किन उपायों से आप उसे बेहतर कर सकते हैं।आज आपका दिन अच्छा रहेगा। रुका हुआ पैसा वापस मिलने की संभावना है। आप नये काम करने की सोच सकते हैं, जो आपको आगे धन लाभ के अवसर देंगे। आपका मन पूजा-पाठ में अधिक लगेगा। आपका कोई नया दोस्त बनेगा, जिसके साथ आपकी दोस्ती अच्छे से चलेगी। किसी कठिन परिस्थिति में आपको कुछ लोगों से मदद मिलेगा। आपके भौतिक सुख- साधनों में बढ़ोतरी होगी। बिजनेस के सिलसिले में किसी यात्रा पर जाने का प्लान बनाएंगे। आपकी यात्रा सुखद भी रहेगी। आज आपके सभी काम बनेंगे।आज आप लोगों को अपनी योजनाओं से सहमत कर लेंगे। घर पर किसी रिश्तेदार के आने से परिवार में ख़ुशी का माहौल बना रहेगा। उनके साथ मनोरंजन के लिए कहीं घूमने जाएंगे। आपकी आर्थिक स्थिति बेहतर रहेगी। तरक्की के नये रास्ते खुलेंगे। परिवार के साथ बेहतर समय बीतेगा। सोचे हुए कुछ जरूरी काम पूरे होंगे। आप बड़े ही खुश नजर आयेंगे। तकनीकी क्षेत्र के स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन फेवरेबल है। पारिवारिक रिश्ते मजबूत होंगे।आज आपका दिन सामान्य रहेगा। आपको नये लोगों से थोड़ा संभलकर रहना चाहिए। किसी भी काम में बड़ों की सलाह लेना बेहतर रहेगा बच्चे पढ़ाई के प्रति कुछ कम रूचि ले सकते हैं। बिजनेस में विरोधियों से आपको बचकर रहना चाहिए। ऑफिस में सीनियर आपके काम से खुश होकर आपको कुछ गिफ्ट करेंगे। खुद को फिट रखने के लिए आपको योग करना चाहिए। करोबार में आ रही सभी परेशानियां दूर होगी। शाम को जीवनसाथी के साथ समय बितेगा।आज आपका दिन ठीक-ठाक रहेगा। आपका बढ़ता खर्च आपको थोड़ा परेशान कर सकता है। जीवनसाथी के साथ कहीं घूमने की प्लांनिग करेंगे। किसी काम में अनुमान से ज्यादा ही मेहनत और समय लग सकता है। आप अपने दोस्ती के रिश्तों में सुधार लाने की कोशिश करेंगे।बिजनेस से जुड़ा कोई भी फैसला आपको सोच-समझ लेना चाहिए, बेहतर रहेगा। आपके कुछ खास कामों को पूरा करने में आपको सफलता मिलेगी। परिवार के लोगों से आपको सहयोग मिलेगा। आपके साथ सब अच्छा होगा।आज आपका दिन घूमने-फिरने में बीतेगा। आप परिवारवालों के साथ मनोरंजन के लिए कहीं ट्रिप पर जायेंगे। इस राशि के व्यापारी वर्ग को अचानक कोई बड़ा धन लाभ होगा, जिससे आर्थिक स्थिति पहले की अपेक्षा और मजबूत होगी। आप अपनी दिनचर्या में कुछ बदलाव लाएंगे। आपका पूरा ध्यान अपने करियर को आगे बढ़ाने पर रहेगा। किसी जरूरतमंद व्यक्ति की मदद करके आपको काफी अच्छा महसूस होगा। पारिवारिक रिश्ते मजबूत होंगे।घर में नन्हें मेहमान के आने की सम्भावना है।आज आपका दिन बेहतर रहेगा। आपको अचानक धन लाभ होगा। आपके कई योजनाएं समय से पूरे हो जायेंगे। आपके परिवार में ख़ुशी का माहौल बना रहेगा। कार्यक्षेत्र में आपको अच्छी-खासी सफलता मिलेगी। अपनी उर्जा से आप बहुत कुछ हासिल कर लेंगे। आपके मन की इच्छा पूरी होगी।आर्थिक मामलों में आपको लाभ मिलेगा। भविष्य को बेहतर बनाने के लिए आप नये कदम उठायेंगे। बच्चे आपको गर्व करने की वजह देंगे। सफलता आपके कदम चूमेगी।आज आप पर कार्यों का बोझ ज्यादा होगा, जिसकी वजह से आप थकान महसूस करेंगे। किसी काम में अनुभवी की राय आपके लिए बेहतर साबित होगी। कारोबार में आपको फायदा होगा, लेकिन आपको अपने खर्चों पर कंट्रोल बनाकर रखना चाहिए। आपके सोचे हुए काम पूरे होंगे। किसी काम के लिए माता-पिता से ली गई सलाह आपके लिए बेहतर रहेगा। आपकी समस्या खत्म होगी।आज आपका दिन शानदार रहेगा। शाम तक कोई शुभ समाचार मिलने से घर में खुशियों का माहौल बनेगा। समाज में आपका रुतबा बढ़ेगा। विवाहितों के लिए आज का दिन अच्छा रहेगा। नए व्यक्ति से मुलाकात होने के योग बन रहे हैं। आपके बदले व्यवहार से जीवनसाथी प्रसन्न रहेंगे। ऑफिस में आपको किसी नए प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी मिलेगी। आप सारी चीज़ों को बेहतर तरीके से संभाल लेंगे। आपको किसी लेन-देन से फायदा होगा। घर का माहौल खुशियों से भरा रहेगा।आज आपका दिन शानदार रहेगा। ऑफिस में काम को पूरा करने में पूरी तरह से आप सक्षम होंगे। इस राशि के लॉ की पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन बहुत बढ़िया रहेगा। किसी सीनियर्स वकील के साथ इंटरर्नशिप करने का मौका भी आपको मिलेगा। करियर में आप नए आयाम स्थापित करेंगे। आप जिससे भी मदद की उम्मीद करेंगे, उससे आपको समय पर मदद मिल जायेगी। आपको सभी काम में सफलता हासिल होगा।आज आपके जीवन में नया बदलाव आएगा। अगर आप कला के क्षेत्र से जुड़े हैं, तो आपको तरक्की के कई नये रास्ते खुले नजर आएंगे। स्टूडेंट्स के लिए आज का दिन फेवरेबल है। आपको किसी समस्या को सुलझाने का तुरंत रास्ता मिलेगा। आपको अपने सीनियर्स का भी सहयोग प्राप्त होगा। आप अपने सभी कामों में बहुत हद तक सफल होंगे। जीवनसाथी आपकी भावनाओं का सम्मान करेंगे। कुल मिलाकर आज आपका दिन अच्छा रहने वाला है।आज आपका दिन खुशनुमा रहेगा। आप खुद को सेहतमंद महसूस करेंगे। आपके काम समय से पूरे होंगे। साथ ही आपको अपनी मेहनत का फल भी अवश्य मिलेगा। किसी नए कॉन्टैक्ट से आपको फायदा होगा। कुछ लोगों को आपकी उदारता पसंद आयेगी। ऑफिस में सहकर्मी आपकी मदद के लिये तैयार खड़े रहेंगे। छात्रों को जल्द ही बड़ी सफलता हासिल होगी। आपका आर्थिक पक्ष मजबूत रहेगा। किसी खास विषय पर मित्रों से बातचीत करेंगे।आज आपका दिन मिला-जुला रहेगा। आज आपको किसी पारिवारिक समारोह में जाने का मौका मिलेगा। वहां आपको देखकर कुछ लोग खुश होंगे। इसके अलावा अपने रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए आज आपको कोशिश करनी पड़ेगी।आपका कॉन्फिडेंस बढ़ा हुआ रहेगा। सीनियर्स आपके किसी काम से खुश होंगे। आज आपको अपनी सेहत का खास ख्याल रखने की जरूरत है। नौकरी में आपकी पदोन्नति होगी। जीवनसाथी के साथ कहीं घूमने जाने का प्लान बनायेंगे।

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई और पीएमएल-एन प्रमुख शहबाज शरीफ Coronavirus से संक्रमित

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितमोदी सरकार के Make in India को मिली ताकत, MG मोटर्स 4000 करोड़ के निवेश से शुरू करेगी दूसरा प्लांट******MG Motorsमोदी सरकार के मेक इन इंडिया मिशन को एक बड़ा साथ मिल गया है। ब्रिटिश कारमेकर और भारत में अपनी हेक्टर के साथ धूम मचा चुकी एमजी मोटर्स देश में दूसरा प्लांट शुरू करने जा रही है। एमजी मोटर इंडिया इस नए प्लांट पर 4,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। कंपनी के अनुसार उसकी गुजरात समेत कई राज्यों के साथ बातचीत चल रही है।कंपनी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक राजीव छाबा ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत में अपनी उत्पादन क्षमता बढ़ाने की कोशिशों के तहत दूसरा संयंत्र स्थापित करने की योजना पर काम चल रहा है। गुजरात के हलोल में स्थित अपने मौजूदा संयंत्र की क्षमता को कंपनी अगले साल तक 1.25 लाख वाहन तक पहुंचाने की दिशा में सक्रिय है। लेकिन एमजी मोटर की योजना दूसरा संयंत्र स्थापित कर इसे दो साल में तीन लाख इकाई तक पहुंचाने की है।छाबा ने कहा, ‘‘हलोल संयंत्र की क्षमता 1.25 लाख इकाई पर पहुंचने के बाद हमें एक और संयंत्र की जरूरत होगी। यह संयंत्र हलोल में भी हो सकता है और हम अतिरिक्त जमीन को लेकर गुजरात सरकार के संपर्क में हैं। कुछ दूसरे राज्यों ने भी इस सिलसिले में हमसे संपर्क साधा है। हमने दूसरे संयंत्र की जगह तय करने को लेकर प्रक्रिया शुरू कर दी है।’’उन्होंने उम्मीद जताई कि जून के अंत तक दूसरे संयंत्र की जगह तय कर ली जाएगी। उन्होंने संयंत्र की स्थापना पर किए जाने वाले निवेश एवं उत्पादन के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘हम इसपर करीब 4,000 करोड़ रुपये के निवेश पर विचार कर रहे हैं। हम नए संयंत्र की 1.75 लाख इकाई की क्षमता को जोड़कर इसे तीन लाख इकाई तक ले जाएंगे।’’उन्होंने नए संयंत्र का निर्माण दो साल में पूरा होने की उम्मीद जताई। इसके लिए निवेश की राशि बाह्य वाणिज्यिक उधारी और प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के जरिये जुटाने पर विचार किया जा रहा है। एमजी मोटर ने गुजरात के हलोल में स्थित अपने इकलौते संयंत्र की क्षमता बढ़ाने पर 2,500 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा पिछले साल की थी।पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितडॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज ने कोरोना की 2-डीजी दवा की व्यावसायिक शुरुआत की घोषणा की, जानिए कीमत****** डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज लिमिटेड ने सोमवार को 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज (2-डीजी) की व्यावसायिक शुरुआत की घोषणा की। शहर के दवा निर्माता द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक, डॉ रेड्डीज इस दवा की आपूर्ति भारत भर में बड़े सरकारी एवं निजी अस्पतालों को करेगा। शुरुआती हफ्तों में, कंपनी मेट्रो एवं टियर 1 शहरों के अस्पतालों में दवा उपलब्ध कराएगी और बाद में इसे पूरे देश में उपलब्ध कराएगी। द्वारा निर्मित 2डीजी की शुद्धता 99.5 प्रतिशत है और ब्रांड 2डीजी के नाम से व्यावसायिक तौर पर इसकी बिक्री हो रही है। कंपनी ने कहा कि प्रत्येक पाउच का अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) 990 रुपये तय किया गया है जो सरकारी संस्थानों को रियायती दरों पर उपलब्ध कराया जाएगा। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) की प्रयोगशाला नामिकीय औषिध तथा संबद्ध विज्ञान संस्थान (इनमास) ने डॉ रेड्डीज के साथ मिलकर इस खाने वाली दवा 2-डीजी को विकसित किया है। के रक्षा विभाग के सचिव एवं चेयरमेन डॉक्टर जी सतीश रेड्डी ने कहा, “हमें कोविड-19 के मरीजों के इलाज में चिकित्सीय अनुप्रयोग के रूप में 2-डीजी की जांच के लिए लंबे समय से उद्योग जगत के हमारे साझेदार डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज के साथ काम कर प्रसन्नता है। डीआरडीओ अपनी स्वतंत्र प्रौद्योगिकियों के साथ कोविड-19 वैश्विक महामारी के खिलाफ जंग में योगदान दे रहा है।”यह दवा केवल अस्पताल में भर्ती, से मध्यम से गंभीर रूप से ग्रस्त मरीजों को देखभाल के मौजूदा मानक के लिए एक सहायक चिकित्सा के रूप में योग्य फिजिशियन की निगरानी में और पर्चा लिखे जाने के बाद ही दी जा सकती है। दवा के कोविड-19 रोधी चिकित्सीय अनुप्रयोग के लिए आपात इस्तेमाल की मंजूरी एक मई, 2021 को दी गई थी।डॉ रेड्डीज के चेयरमेन, सतीश रेड्डी ने कहा, “हमारे कोविड-19 पोर्टफोलियो में 2-डीजी एक और वृद्धि है जिसमें पहले से कम से लेकर मध्यम और गंभीर स्थितियों का पूरा दायरा और एक टीका भी शामिल है। हमें कोविड-19 वैश्विक महामारी के खिलाफ सामूहिक जंग में डीआरडीओ साथ साझेदारी करने की खुशी है।”

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई और पीएमएल-एन प्रमुख शहबाज शरीफ Coronavirus से संक्रमित

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितदेश का विदेशी पूंजी भंडार 16.78 करोड़ डॉलर बढ़ा, पहुंचा 420.75 अरब डॉलर पर******2 मार्च को समाप्त सप्ताह में 16.78 करोड़ डॉलर बढ़कर 420.75 अरब डॉलर हो गया, जो 27,435.7 अरब रुपए के बराबर है। इससे पिछले हफ्ते में मुद्रा भंडार में 1.13 अरब डॉलर की गिरावट आई थी और यह घटकर 420.591 अरब डॉलर के स्‍तर पर पहुंच गया था। 9 फरवरी को मुद्रा भंडार ने 421.914 अरब डॉलर का अब तक का सबसे उच्‍च स्‍तर छुआ था। पिछले साल 8 सितंबर को मुद्रा भंडार ने पहली बार 400 अरब डॉलर के स्‍तर को पार किया था। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की ओर से जारी साप्ताहिक आंकड़े के अनुसार, विदेशी पूंजी भंडार का सबसे बड़ा घटक विदेशी मुद्रा आस्तियां आलोच्य सप्ताह में 17.71 करोड़ डॉलर बढ़कर 395.64 अरब डॉलर हो गया, जो 25,800.2 अरब रुपए के बराबर है। बैंक के मुताबिक, विदेशी मुद्रा भंडार को डॉलर में व्यक्त किया जाता है और इस पर भंडार में मौजूद पाउंड, स्टर्लिंग, येन जैसी अंतरराष्‍ट्रीय मुद्राओं के मूल्यों में होने वाले उतार-चढ़ाव का सीधा असर पड़ता है।आलोच्य अवधि में देश का स्वर्ण भंडार 81 लाख डॉलर बढ़कर 21.52 अरब डॉलर रहा, जो 1,401.2 अरब रुपए के बराबर है। इस दौरान देश का अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ विशेष निकासी अधिकार (एसडीआर) का मूल्य 74 लाख डॉलर घटकर 1.52 अरब डॉलर हो गया, जो 99.7 अरब रुपए के बराबर है। अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में देश के मौजूदा भंडार का मूल्य 1.01 करोड़ डॉलर घटकर 2.06 अरब डॉलर दर्ज किया गया, जो 134.6 अरब रुपए के बराबर है।

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितसामंथा के आइटम सॉन्ग 'Oo Antava' के लिए टाली गई थी कोरियोग्राफर गणेश आचार्य की सर्जरी******Highlightsअल्लू अर्जुन की फिल्म पुष्पा: द राइज कमाई की रिकॉर्ड को तोड़ रही है। यह फिल्म हाईएस्ट ग्रॉसिंग फिल्मों में से एक हैं और 300 करोड़ रुपये से भी ज्यादा का बिजनेस कर चुकी है। फिल्म में अल्लू अर्जुन का अंदाज उनके फैंस को काफी पसंद आ रहा है। अल्लू अर्जुन के अलावा पुष्पा: द राइज में रश्मिका मंदाना और एक आइटम सॉन्ग में सामंथा नजर आई थीं।सामंथा के आइटम सॉन्ग 'ओ अंटावा' ने काफी धूम मचाई। गाने को मशहूर गोरियाग्राफर गणेश आचार्य ने कोरियोग्राफ किया है। गणेश ने हाल ही में एक इंटरव्यू में इस सॉन्ग को लेकर बात की है। उन्होंने इस इंटरव्यू में सामंथा के साथ अपने रिहर्सल के किस्सों को साझा किया।ई-टाइम्स को दिए इंटरव्यू में गणेश आचार्य ने कहा, "17 दिसंबर को फिल्म रिलीज की जानी थी। मेरे पास 2-3 दिसंबर को अल्लू का फोन आया और उन्होंने कहा कि मास्टर जी हम एक गाना कर रहे हैं। मैंने कहा इसे करने के लिए आप मुझे बहुत कम वक्त दे रहे हैं। मेरी कल आंख की सर्जरी है। बाद में फिल्म के प्रोड्यूसर ने डॉक्टर से बातचीत की और मेरी सर्जरी की तारीख आगे बढ़ी।"गणेश आचार्य ने इंटरव्यू में दोनों कलाकारों की तारीफ करते हुए कहा, "अल्लू और सामंथा ने दो दिन के रिहर्सल में यह गाना सीख लिया। मैंने सामंथा को पहली बार कोरियोग्राफ किया और ये गाना जल्द ही पूरा कर लिया गया।"पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितLoan moratorium अवधि में ब्‍याज में छूट पर जल्‍द होगा निर्णय, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में दिया आश्‍वासन******loan moratorium: Decision in 2-3 days over interest on deferred instalments by banks, Centre tells SC केंद्र सरकार ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में कहा कि कोविड-19 महामारी की वजह से उपभोक्‍ताओं को के दौरान स्थगित ईएमआई पर ब्याज पर ब्याज में छूट को लेकर निर्णय लेने की प्रक्रिया एडवांस स्टेज में है और दो या तीन दिनों के भीतर फैसला आ सकता है। न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अगुवाई वाली पीठ ने कहा कि सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने अदालत को सूचित किया है कि मुद्दे सरकार द्वारा सक्रिय रूप से विचाराधीन हैं और दो या तीन दिनों के भीतर निर्णय लिए जाने की संभावना है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने लोन मोराटोरियम की अवधि को 5 अक्‍टूबर तक बढ़ा दिया है। सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर अब अगली सुनवाई भी 5 अक्‍टूबर को ही करेगा। सरकार की ओर से तुषार मेहता ने शीर्ष अदालत के समक्ष कहा कि वह गुरुवार तक हलफनामा सर्कुलेट करने का प्रयास करेंगे और मामले की सुनवाई सोमवार को हो सकती है। पीठ ने कहा कि अगली सुनवाई तक अंतरिम आदेश जारी रहेगा। याचिकाकर्ता का प्रतिनिधित्व कर रहे वरिष्ठ वकील राजीव दत्ता ने पीठ के समक्ष दलील दी कि इस मामले को जल्द से जल्द सुना जाए और मामले में हलफनामा दायर करने के लिए केंद्र की ओर से समय मांगने पर आपत्ति नहीं जताई।मेहता ने इस मामले पर वापस आने के लिए कुछ और समय मांगते हुए कहा कि यह मुद्दा थोड़ा जटिल है और कई आर्थिक मुद्दे सामने आए हैं। सुनवाई की पिछली तिथि पर केंद्र ने पीठ को सूचित किया था कि उच्चतम स्तर पर गठित एक विशेषज्ञ समिति द्वारा मोराटोरियम के विस्तार, मोराटोरियम के दौरान ब्याज, ब्याज पर ब्याज और मामले से संबंधित अन्य मुद्दों पर निर्णय लेने की संभावना है।केंद्र सरकार ने कहा की वह इस मामले में आरबीआई के साथ से बातचीत कर रही है और बहुत जल्द कोई समाधान निकलेगा। इसलिए किसी निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए थोड़ा समय दिया जाए। लोन मोराटोरियम पीरियड पहले 31 अगस्त को खत्म हो रहा था। लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने पिछली सुनवाई के दौरान उसे 28 सितंबर तक के लिए बढ़ा दिया था, क्योंकि अगली सुनवाई आज ही होनी थी। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट अगली सुनवाई पांच अक्टूबर को करने वाला है तो तब तक लोन मोराटोरियम तब तक जारी रहेगा। आरबीआई ने मार्च में लोन मोराटोरियम 3 महीने के लिए शुरू किया था, जिसे बाद में और तीन महीने के लिए बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया गया था।इससे पहले सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि लोन मोराटोरियम पीरियड 2 साल तक बढ़ाया जा सकता है। इस पर एक्सपर्ट कमेटी भी अपनी रिपोर्ट दे चुकी है। 10 सितंबर को तुषार मेहता ने कोर्ट में कहा था कि ब्याज पर छूट नहीं दे सकते हैं, लेकिन भुगतान का दबाव कम कर देंगे। मेहता ने कहा था कि बैंकिंग क्षेत्र अर्थव्यवस्था की रीढ है और अर्थव्यवस्था को कमजोर करने वाला कोई फैसला नहीं लिया जा सकता।दरअसल, इस लोन मोराटोरियम में व्यवस्था है कि जो लोग कोरोना महामारी में अपनी ईएमआई नहीं दे सकते हैं, उनके पास आगे के लिए अपनी ईएमआई स्थगित करने का विकल्प होगा। हालांकि, याचिकाकर्ताओं का कहना है कि इसका कोई फायदा आम लोगों को नहीं मिल रहा है, क्योंकि जो अपने ईएमआई स्थगित कर रहे हैं तो उन्हें इस स्थगन की अवधि का पूरा ब्याज देना पड़ रहा है।

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितUPSC Civil Services Mains Result 2018: रिजल्ट जारी, upsc.gov.in पर ऐसे करें चेक****** संघ लोक सेवा आयोग () ने सिविल सेवा मुख्य परीक्षा 2018 के नतीजे घोषित कर दिए है। आयोग ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर परीक्षा के नतीजे जारी किए हैं। इस परीक्षा में हिस्सा लेने वाले उम्मीदवार वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं।बता दें कि इस परीक्षा का आयोजन 28 सितंबर से 7 अक्टूबर 2018 के बीच किया गया था। कुल 1994 उम्मीदवारों को पास घोषित किया गया है। अब इन उम्मीदवारों को इंटरव्यू (पर्सनैलिटी टेस्ट) में हिस्सा लेना होगा जो कि 4 फरवरी से होंगे। इंटरव्यू के एडमिट कार्ड जनवरी में जारी होंगे। इंटरव्यू यूपीएससी ऑफिस (धौलपुर हाउस, शाहजहां रोड, नई दिल्ली-1100069) में होंगे।इंटरव्यू के लिए बुलाए जाने वाले उम्मीदवारों के पर्सनैलिटी टेस्ट की तारीख और समय का विवरण 8 जनवरी से आयोग की वेबसाइट व से डाउनलोड किया जा सकेगा।पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितकोरोना वायरस: डेल्टा वैरिएंट अल्फा की तुलना में 40 से 60 प्रतिशत अधिक संक्रामक, बोले डॉ एनके अरोड़ा******कोविड वायरस का डेल्टा वैरिएंट अपने पूर्ववर्ती अल्फा वैरिएंट से 40 से 60 प्रतिशत ज्यादा संक्रामक है और यह अब तक ब्रिटेन, अमेरिका, सिंगापुर आदि 80 से ज्यादा देशों में फैल चुका है। हाल के एक साक्षात्कार में इंडियन सार्स-कोव-2 जेनोमिक्स कॉन्सॉर्टियम (आईएनएसएसीओजी) के सह-अध्यक्ष डॉ. एन के अरोड़ा ने वैरिएंट की जांच और उसके व्यवहार के हवाले से मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी)के बारे में चर्चा करते हुए यह बात कही।नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इम्यूनाइजेशन (एनटीएजीआई) के कोविड-19 वकिर्ंग ग्रुप के प्रमुख अरोड़ा ने यह भी कहा कि यह म्यूटेशन स्पाइक प्रोटीन से बना है, जो उसे एसीई2 रिसेप्टर से चिपकने में मदद करता है। एसीआई2 रिसेप्टर कोशिकाओं की सतह पर मौजूद होता है, जिनसे यह मजबूत से चिपक जाता है। इसके कारण यह ज्यादा हो जाता है और शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को चकमा देने में सफल हो जाता है।उन्होंने कहा कि ऐसे अध्ययन हैं, जो बताते हैं कि इस वैरिएंट में ऐसे कुछ म्यूटेशन हैं, जो संक्रमित कोशिका को अन्य कोशिकाओं से मिलाकर रुग्ण कोशिकाओं की तादाद बढ़ाते जाते हैं। इसके अलावा जब ये मानव कोशिका में घुसपैठ करते हैं, तो बहुत तेजी से अपनी संख्या बढ़ाने लगते हैं। इसका सबसे घातक प्रभाव फेफड़ों पर पड़ता है। बहरहाल, यह कहना मुश्किल है कि डेल्टा वैरिएंट से पैदा होने वाली बीमारी ज्यादा घातक होती है। भारत में दूसरी लहर के दौरान होने वाली मौतें और किस आयुवर्ग में ज्यादा मौतें हुईं, ये सब पहली लहर से मिलता-जुलता ही है।कोविड-19 के बी.1.617.2 को डेल्टा वैरिएंट कहा जाता है। पहली बार इसकी शिनाख्त भारत में अक्टूबर 2020 में की गई थी। हमारे देश में दूसरी लहर के लिये यही प्रमुख रूप से जिम्मेदार है। आज नए कोविड-19 के 80 प्रतिशत मामले इसी वैरिएंट की देन हैं। यह महाराष्ट्र में उभरा और वहां से घूमता हुआ पश्चिमी राज्यों से होता हुआ उत्तर की ओर बढ़ा। फिर देश के मध्य भाग में और पूर्वोत्तर राज्यों में फैल गया।वायरस ने आबादी के उस हिस्से को संक्रिमत करना शुरू किया है, जो हिस्सा सबसे जोखिम वाला है। संक्रमित के संपर्क में आने वालों को भी वह पकड़ता है। आबादी के एक बड़े हिस्से को संक्रमित करने के बाद वह कम होने लगता है और जब संक्रमण के बाद पैदा होने वाली रोग-प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है, तो वह फिर वार करता है। अगर नए और ज्यादा संक्रमण वाले वैरिएंट पैदा हुये, तो मामले बढ़ सकते हैं। दूसरे शब्दों में कहें, तो अगली लहर उस वायरस वैरिएंट की वजह से आयेगी, जिसके सामने आबादी का अच्छा-खासा हिस्सा ज्यादा कमजोर साबित होगा।अरोड़ा ने कहा कि दूसरी लहर अभी चल रही है। ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीके लगें, लोग कड़ाई से कोविड उपयुक्त व्यवहार करें और जब तक हमारी आबादी के एक बड़े हिस्से को टीके न लग जायें, हम सावधान रहें, तो भावी लहर को नियंत्रित किया जा सकता है और उसे टाला जा सकता है।लोगों को कोविड-19 के खिलाफ टीके और कोविड उपयुक्त व्यवहार पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।डेल्टा प्लस वैरिएंट - एवाई.1 और एवाई.2 - अब तक 11 राज्यों में 55-60 मामलों में देखा गया है। इन राज्यों में महाराष्ट्र, तमिलनाडु और मध्यप्रदेश शामिल हैं। एवाई.1 नेपाल, पुर्तगाल, स्विट्जरलैंड, पोलैंड, जापान जैसे देशों में भी मिला है। इसके बरक्स एवाई.2 कम मिलता है। वैरिएंट की संक्रामकता, घातकता और वैक्सीन को चकमा देने की क्षमता आदि का अध्ययन चल रहा है।यह पूछे जाने पर कि क्या टीके डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ प्रभावी हैं, अरोड़ा ने कहा, हां, इस मुद्दे पर आईसीएमआर के अध्ययन के अनुसार मौजूदा वैक्सीन डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ कारगर हैं।देश के तमाम भागों में मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है, लेकिन कुछ हिस्सों में आज भी पॉजिटिविटी दर ऊंची है, खासतौर से देश के पूर्वोत्तर क्षेत्रों और दक्षिणी राज्यों के कई जिलों में। इनमें से ज्यादातर मामले डेल्टा वैरिएंट के कारण हो सकते हैं।अति गंभीर रूप से बीमार करने वाले वैरिएंट के उभरने पर कड़ी नजर रखने की जरूरत थी। उसके फैलाव को भी बराबर देखना था, ताकि बड़े इलाके में उसके फैलाव को पहले ही रोका जा सके। आईएनएसएसीओजी को दिसंबर 2020 में गठित किया गया था, जो उस समय दस प्रयोगशालाओं का संघ था। हाल में 18 और प्रयोगशालायें उससे जुड़ गई हैं।सार्स-कोव-2 की जिनोम आधारित पड़ताल करने के लिये प्रयोगशालाओं के मजबूत तंत्र की जरूरत महसूस की गई, ताकि उनके जरिए जीनोम सीक्वेंसिंग के सारे आंकड़ों का रोग और महामारी वाले आंकड़ों के साथ मिलान किया जाए तथा देखा जाए कि वैरिएंट-विशेष कितना संक्रामक है, उससे बीमारी कितनी गंभीर होती है, वह शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को चकमा दे सकता है या नहीं या टीके लगवाने के बाद उससे दोबारा संक्रमण हो सकता है या नहीं ।राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) फिर इन आंकड़ों का विश्लेषण करता है। पूरे देश को भौगोलिक क्षेत्रों में बांटा गया है और हर प्रयोगशाला को किसी न किसी विशेष क्षेत्र की जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने कहा, हमने 180-190 क्लस्टर बनाएं हैं और हर क्लस्टर में चार-चार जिलों को रखा है। हम औचक रूप से नमूनों की जांच करते रहते हैं। साथ ही गंभीर रूप से बीमार, टीका लगवाने के बाद संक्रमित लोगों के नमूनों की भी जांच करते हैं। इसके अलावा लक्षण रहित लोगों के नमूनों को भी देखा जाता है। इन सब नमूनों को जमा करके उनकी सीक्वेंसिंग करने के लिये इलाके की प्रयोगशाला में भेज दिया जाता है। इस समय देश में हर महीने 50 हजार से अधिक नमूनों की सीक्वेंसिंग करने की क्षमता है। पहले हमारे पास लगभग 30 हजार नमूनों को हर महीने जांचने की ही क्षमता था।भारत के पास बीमारियों पर नजर रखने के एक मजबूत प्रणाली मौजूद है, जो इंटीग्रेटेड डिजीज सवेर्लांस प्रोग्राम (आईडीएसपी) के तहत काम करती है। आईडीएसपी नमूनों को जमा करने और उन्हें जिलों/निगरानी स्थलों से क्षेत्रीय जिनोम सीक्वेंसिंग प्रयोगशालाओं (आरजीएसएल) तक पहुंचाने का समन्वय करता है। आरजीएसएल की जिम्मेदारी है कि वह जीनोम सीक्वेंसिंग करे, गंभीर रूप से बीमार करने वाले (वैरिएंट ऑफ कंसर्न - वीओसी) या किसी विशेष वैरिएंट (वैरियंट ऑफ इंटरेस्ट - वीओआई) की पड़ताल करे और म्यूटेशन पर नजर रखे। वीओसी/वीओआई की सूचना सीधे केंद्रीय निगरानी इकाई को दी जाती है, ताकि राज्य के निगरानी अधिकारियों के साथ रोग-महामारी के आपसी सम्बंध पर समन्वय बनाया जा सके, ताकि उन्हें मालूम हो सके कि यह रोग या महामारी कितनी भीषण है। उसके बाद नमूनों को बायो-बैंकों में भेज दिया जाता है।

पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमित‘गोलमाल अगेन’ ने बॉक्स ऑफिस पर मचाया धमाल, आ गई पहले दिन की कमाई की फाइनल रिपोर्ट****** रो की फिल्म ‘’ ने पहले दिन जबरदस्त कमाई की है। दीवाली के दूसरे दिन रिलीज हुई इस फिल्म के सुबह से रात तक के ज्यादातर शोज हाउसफुल रहे हैं। फिल्म की पहले दिन की कमाई का आंकड़ा भी सामने आ गया है। गोलमाल अगेन ने पहले दिन 30 करोड़ 14 लाख का बिजनेस किया है। यह दूसरी बार है जब और रोहित के कॉम्बिनेशन ने बॉक्स ऑफिस पर पहले दिन 30 करोड़ का आंकड़ा पार किया है। इससे पहले दोनों की फिल्म ‘सिंघम रिटर्न्स’ ने पहले दिन 32 करोड़ 9 लाख का कारोबार किया था।बात करें इस बार की सबसे बड़ी ओपनिंग करने वाली फिल्मों की तो, कोई शक नहीं एस एस राजामौली की फिल्म ‘बाहुबली 2’ ने पहले दिन सबसे ज्यादा 41 करोड़ रुपये का बिजनेस किया था। दूसरे नंबर पर 30 करोड़ के साथ अब अजय देवगन की फिल्म ‘गोलमाल अगेन’ आ गई है। तीसरे नंबर पर 21 करोड़ 15 लाख की ओपनिंग के साथ सलमान खान की फिल्म ‘ट्यूबलाइट’ है, चौथे नंबर पर अभिनेता शाहरुख खान की फिल्म रईस है, जिसने पहले दिन 20 करोड़ 42 लाख रुपये की कमाई की थी। पांचवे नंबर पर पिछले महीने रिलीज हुई फिल्म जुड़वा 2 है, जिसने 16 करोड़ 10 लाख की ओपनिंग की थी।रोहित शेट्टी की फिल्म गोलमाल अगेन ने सिर्फ भारत में ही नहीं विदेशों में भी अच्छी कमाई की है। विदेशों की ओवरसीज कमाई मिला ले तो फिल्म ने पहले दिन 7 करोड़ 61 लाख की कमाई की है।गोलमाल अगेन की सक्सेस का कारण फिल्म की दमदार कास्ट, गोलमाल की हिट फ्रेंचाइजी का नाम और दीवाली की छुट्टी का फायदा है। गोलमाल अगेन में अजय देवगन, अरशद वारसी, कुणाल खेमू, तुषार कपूर और श्रेयस तलपड़े ने अपने अपने किरदार में वापसी की है। वहीं इस बार फिल्म में तब्बू, परिणीति चोपड़ा भी नजर आ रही हैं।​पूर्वप्रधानमंत्रीनवाजशरीफकेछोटेभाईऔरपीएमएलएनप्रमुखशहबाजशरीफCoronavirusसेसंक्रमितMS Dhoni Big Announcement: एमएस धोनी करेंगे बड़ा ऐलान, कैप्टन कूल ने फेसबुक पोस्ट में लिखी ये बात******Highlights भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफल कप्तानों में से एक महेंद्र सिंह धोनी वैसे तो अक्सर सोशल मीडिया पर खास एक्टिव नहीं रहते हैं। लेकिन शनिवार को धोनी ने अपने फेसबुक प्रोफाइल पर एक पोस्ट किया जिसमें बताया कि वह एक बड़ा ऐलान करने वाले हैं। इसके बाद कई अटकलें हैं कि वह पूरी तरह से रिटायरमेंट ले रहे हैं यानी IPL 2023 में भी शायद वो नजर ना आएं। हालांकि, धोनी पहले भी साफ कर चुके हैं कि वह अपने फैंस और चेन्नई की जनता के सामने ही चेपॉक से संन्यास लेना चाहते हैं।एमएस धोनी के प्रोफाइल से शनिवार दोपहर करीब 3.43 पर एक पोस्ट शेयर किया गया जिसमें उनकी तस्वीर पर उनके लाइव आने की जानकारी दी गई। इस पोस्ट के कैप्शन में लिखा था कि,'मैं आप सभी के साथ 25 सितंबर दोपहर 2 बजे एक खास खबर शेयर करूंगा। आप सभी से उसी समय मिलने की उम्मीद रहेगी।' धोनी के इस पोस्ट को कुछ ही देर में हजारों लोगों ने शेयर करते हुए लाइक किया और तरह-तरह के कमेंट उस पर आने लगे। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि धोनी का यह ऐलान किससे संबंधित होगा। क्योंकि पिछले कई दिनों में सौरव गांगुली ने, शुभमन गिल को लेकर गुजरात टाइटंस नेप्रोफेशनल स्टार्टअप को काफी कंफ्यूजिंग बनाते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। ऐसा ही धोनी के मामले में भी शायद कुछ हो सकता है। वैसे भी धोनी अक्सर अलग-अलग फील्ड में अपने को आजमाते रहते हैं।चेन्नई में एमएस धोनी का जो प्यार और सम्मान मिला है, उसे सभी जानते हैं। जितना प्यार उन्हें चेन्नई के फैंस करते हैं, उतना ही प्यार धोनी भी वहां के लोगों से करते हैं। पिछले दिनों ये खबर सामने आई थी कि बीसीसीआई तैयारी कर रही है कि आईपीएल 2023 भारत में खेला जाए। साथ ही बीसीसीआई उसी तर्ज पर आईपीएल का आयोजन करेगा, जैसे साल 2019 और उससे पहले होता था, यानी सभी टीमें अपने घर और विरोधी टीम के घर पर जाकर आईपीएल के मैच खेलेंगी। सीएसके की टीम भी चेन्नई में खेलेगी। एमएस धोनी साल 2019 के बाद पहली बार चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में खेलने के लिए उतरेंगे।यानी धोनी के फैंस को उनको चेन्नई के मैदान पर देखने की हसरत इस बार पूरी होगी। लेकिन ये भी देखना होगा कि क्या धोनी इस साल के बाद आगे भी आईपीएल खेलते रहेंगे या फिर उनका ये आखिरी आईपीएल होगा। लेकिन धोनी ने पहले कई बार आईपीएल से रिटायरमेंट के संन्यास पर एक ही जवाब दिया है कि, वह जब भी छोड़ेंगे तो अपने फैंस और जहां से उन्हें इतना प्यार मिला उसी मैदान यानी चेपॉक मेंखेलकर ही उसका ऐलान करेंगे।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:54
उद्धरण 1 इमारत
RBI ने यूनियन बैंक पर लगाया एक करोड़ रुपए का जुर्माना, धोखाधड़ी पकड़ने में हुई थी देरी******RBI imposes Rs 10 million fine on Union Bank of India for delay in detection and reporting fraud (RBI) ने पर धोखाधड़ी पकड़ने और उसके बारे में रिपोर्ट करने में देरी को लेकर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है।यूनियन बैंक आफ इंडिया ने शुक्रवार को शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि रिजर्व बैंक ने हमारे ऊपर धोखाधड़ी पकड़ने और उसके बारे में रिपोर्ट करने में विलंब को लेकर एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। केंद्रीय बैंक ने बैंकिंग नियमन कानून के तहत यह जुर्माना लगाया है। रिजर्व बैंक ने यूनियन बैंक को 15 जनवरी, 2018 को नोटिस जारी कर पूछा था कि क्यो नहीं कानून के तहत उस पर जुर्माना लगाया जाए।इसके बाद बैंक ने एक फरवरी को रिजर्व बैंक को अपना जवाब भेजा था। रिजर्व बैंक के कार्यकारी निदेशकों की समिति के समक्ष यूनियन बैंक ने मौखिक रूप से अपना पक्ष रखा था।यूनियन बैंक ने कहा कि उसने केंद्रीय बैंक के समक्ष मौखिक रूप से जो जवाब दिया और अतिरिक्त दस्तावेज उपलब्ध कराए उसे रिजर्व बैंक ने पर्याप्त नहीं माना है। इसी के बाद रिजर्व बैंक ने एक करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। हालांकि, बैंक ने कहा कि उसके आकार को देखते हुए यह जुर्माना कोई बहुत प्रभावित करने वाला नहीं है।बैंक ने कहा कि उसे छह सितंबर को रिजर्व बैंक से जुर्माना लगाए जाने के बारे में सूचना मिली।
2022-10-01 05:37
उद्धरण 2 इमारत
बिग बॉस 13 में बिताए पलों को देख इमोशनल हुए आसिम रियाज, रश्मि देसाई, शहनाज गिल और पारस छाबड़ा******पॉपुलर रिएलिटी शो अंतिम पड़ाव पर है। 15 फरवरी को इस सीजन का विनर घोषित किया जाएगा। घर में टॉप 6 कंटेस्टेंट्स हैं, जिनमें सिद्धार्थ शुक्ला, रश्मि देसाई, शहनाज, आसिम रियाज, पारस छाबड़ा और आरती सिंह शामिल हैं। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि इस बार कौन-सा सदस्य अपने नाम जीत का खिताब हासिल करेगा। शो के फिनाले से पहले सभी सदस्यों को घर में बिताए गए पलों को एक वीडियो के जरिए दिखाया गया।
2022-10-01 04:15
उद्धरण 3 इमारत
बीपी बढ़ जाए तो इस फूल की चाय बनाकर पी लीजिए, मिलेगी इंस्टेंट राहत******कोरोना वायरस की तबाही के बाद लोग अब अपनी सेहत को लेकर ज्यादा सजग हो गए हैं। ऐसे में लोगों को अपनी सेहत की चिंता सताने लगी है। लोग ऐसी चीजों का अधिक सेवन करने लगे हैं जो इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करते हैं। गुड़हल का फूल भी इनमें से एक है। आजकल मार्केट में गुड़हल की पत्तियों के कई प्रोडक्‍ट मिलते हैं जो स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद लाभकारी होते हैं। गुड़हल के फूल में बीपी कंट्रोल करने की क्षमता होती है साथ ही इससे इम्यूनिटी भी बढ़ती है। इसके साथ इसके अनेक फायदे हैं तो चलिए जानते हैं इनके बारे में-जानकारी के मुताबिक, गुड़हल का फूल विटामिन सी, कैल्शियम, फाइबर, आयरन और वसा जैसे पोषक तत्वों से भरपूर है।गुड़हल की पत्तियां, शरीर को एनर्जी प्रदान करती हैं और इम्‍यूनिटी लेवल को बढ़ाती हैं। जिन महिलाओं को मेनोपॉज के दौरान समस्‍या होती है, वह इसकी पत्तियों को सुखाकर गर्म पानी से लें, इससे उन्‍हे लाभ मिलेगा।इम्‍यूनिटी बढ़ाने के साथ साथ गुड़हल के फूल शरीर में सूजन को कम करने के लिए भी लाभदायक होते हैं। इसके लिए इसकी पत्तियों को पीसकर सूजन वाले स्थान पर लगाने से लाभ होगा। इसके साथ ही गुड़हल के फूल की पंखुड़ियों को बताशे के साथ नियमित रूप से सेवन करने से भी लाभ होता है।सर्दी-जुकाम की समस्या में गुड़हल रामबाण साबित हो सकता है। इसकी चाय पीने से सर्दी-जुकाम में राहत मिल सकती है। इसके लिए मुलेठी, सौंफ, तुलसी के पत्ते, गुड़हल के सूखे फूल, छोटी इलायची और दालचीनी मिलाकर इसकी चाय बना लें और पिएं इससे आपको फायदा मिलेगा।गुड़हल की चाय कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचाती है। यह कैंसर कोशि‍काओं की वृद्धि को धीमा कर देता है जि‍ससे कैंसर तेजी से नहीं बढ़ पाता।इसमें अधिक मात्रा में ऐसे तत्व पाएं जाते है जो आपके आपके तनाव के कारण बढ़े तंत्रिका तंत्र को उत्तेजित करने से रोकता है। जिससे आपका दिमाग शांत रहता है। साथ ही तनाव भी छूमंतर हो जाता है।अगर आपको ब्लड प्रशेर की समस्या है तो गुड़हल की चाय काफी फायदेमंद हो सकती है। रोजाना एर कप चाय पीने से जल्द ही आपको ब्लड प्रेशर कंट्रोल में आ जाएगा।
वापसी