नई पोस्ट करें

आयकर विभाग ने ई-फाइलिंग के लिए सभी 7 आईटीआर फॉर्म किए जारी, 31 जुलाई तक भरना है अनिवार्य

2022-10-01 05:21:38 503

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यLandmines found in Jharkhand: झारखंड के पलामू जिले में मतदान केन्द्र के पास मिली दो बारूदी सुरंगें, मचा हड़कंप******Highlightsझारखंड के पलामू जिले में मनातू थाना क्षेत्र के दुल्कि इलाके में पंचायत चुनाव के लिए बनाए गए मतदान केंद्र से महज डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर मंगलवार को दो शक्तिशाली बारूदी सुरंगें मिली हैं, जिन्हें समय रहते नष्ट कर दिया गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि बरामद बारूदी सुरंगें एक पुलिया के नीचे लगाई गयी थीं।उन्होंने बताया कि बारूदी सुरंगें मिलने के बाद केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की134 बटालियन के द्वितीय कमान अधिकारी राजीव कुमार झा समेत कई शीर्ष अधिकारी मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने बरामद बारूदी सुरंगों को मतदान केन्द्र से दूर ले जाकर नष्ट कर दिया।आरोपियों की तलाश में पुलिसउन्होंने बताया कि सीआरपीएफ के अधिकारी और जवान पंचायत चुनाव के मद्देनजर मनातू इलाके के चक में नक्सलविरोधी अभियान चला रहे थे, तभी मतदान केंद्र संख्या 16, 17, 18, से महज डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर दो बारूदी सुरंगें होने की जानकारी मिली। सूत्रों ने बताया कि सीआरपीएफ की टीम को देखकर मौके से दो संदिग्ध फरार हो गए। पलामू पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यNABARD Group C Result 2020 declared: नतीजे हुए जारी, यहां से चेक करें अपना रिजल्ट******नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट, NABARD Group C Result 2020 को मेन और प्रीलिम्स परीक्षा के लिए जारी किया गया है। कार्यालय परिचारक के पद के लिए उम्मीदवारों को नियुक्त करने के लिए परीक्षा आयोजित की गई थी। NABARD Group C Result 2020 की प्रारंभिक परीक्षा 2 फरवरी, 2020 को आयोजित की गई थी, और मुख्य परीक्षा 14 मार्च, 2020 को आयोजित की गई थी।NABARD Group C Result 2021: वेबसाइट चेक करने के लिए उम्मीदवार जो नाबार्ड ग्रुप सी कार्यालय परिचर परीक्षा के लिए उपस्थित हुए थे, वे अपना परिणाम नाबार्ड की आधिकारिक वेबसाइट, अर्थात nabard.org पर देख सकते हैं।यह NABARD भर्ती अभियान कुल 73 रिक्त पदों को भरने का लक्ष्य है। नाबार्ड कार्यालय परिचर मुख्य परिणाम और कट-ऑफ लिंक 10 जून 2021 तक उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध होगा।आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यIPL 2022: गेंदबाज मोहित शर्मा गुजरात टाइटंस से जुड़े, निभाएंगे ये अहम जिम्मेदारी******अहमदाबाद| आईपीएल 2014 पर्पल कैप विजेता और भारत के सीमित ओवरों के पूर्व तेज गेंदबाज मोहित शर्मा को नई आईपीएल फ्रेंचाइजी गुजरात टाइटंस नेनेट गेंदबाज के रूप में टीम में शामिल किया है, जिसके बाद क्रिकेट प्रशंसक हैरान रह गए हैं। बता दें कि लीग 26 मार्च से शुरू होने वाला है। चेन्नई सुपर किंग्स का प्रतिनिधित्व करने वाले शर्मा 2014 के आईपीएल सीजन में 16 मैचों में 19.65 की औसत से 23 विकेट लेकर सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बने थे।33 वर्षीय शर्मा को पिछले महीने आईपीएल 2022 मेगा नीलामी में किसी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा। हरियाणा के क्रिकेटर किंग्स इलेवन पंजाब (अब पंजाब किंग्स 2016-2018) में जाने से पहले 2013 और 2015 के बीच महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली सीएसके का हिस्सा थे। 2019 में उन्होंने एक बार फिर सीएसके में वापसी की थी। 2020 में उन्होंने दिल्ली के साथ भी काम किया। कुल मिलाकर, गेंदबाज के पास 86 आईपीएल खेलों में 92 विकेट हैं।शर्मा, जिन्होंने 26 एकदिवसीय और आठ टी20 खेले हैं, उस भारतीय टीम का भी हिस्सा थे, जिसने बांग्लादेश में 2014 आईसीसी विश्व टी20 फाइनल और ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की सह-मेजबानी 2015 विश्व कप सेमीफाइनल में जगह बनाई थी।सीएसके के दो साल के निलंबन के बाद शर्मा का करियर ग्राफ नीचे जाने लगा। हालांकि उन्हें पंजाब द्वारा शामिल किया गया था, लेकिन वह उतने घातक साबित नहीं हुए थे। शर्मा ने 2019 में सीएसके के लिए 2014 वाले गेंदबाज बनाने की कोशिश की, लेकिन वह कहीं भी अपने सर्वश्रेष्ठ के करीब नहीं थे। 2020 में दिल्ली कैपिटल्स के साथ भी उन्होंने शायद ही कोई प्रभाव डाला, सीजन में सिर्फ एक मैच हासिल किया और 1/45 विकेट हासिल किया।प्रशंसकों ने सोशल मीडिया पर कहा कि मोहित शर्मा को एक नेट गेंदबाज के रूप में देखना अच्छा नहीं है। मोहित शर्मा 2014 में पर्पल कैप विजेता थे, लेकिन अब वह सिर्फ एक नेट गेंदबाज है, क्या टर्नअराउंड है। गुजरात टाइटंस अपने आईपीएल 2022 अभियान की शुरुआत 28 मार्च को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ करेगी।

आयकर विभाग ने ई-फाइलिंग के लिए सभी 7 आईटीआर फॉर्म किए जारी, 31 जुलाई तक भरना है अनिवार्य

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यदिल्ली के गौरांग अरोड़ा बने ‘मिस्टर इंडिया मैनहंट 2017’, देखें तस्वीरें****** स्काईवॉक एंटरटेनमेंट द्वारा आयोजित ‘मिस्टर इंडिया मैनहंट 2017’ का खिताब दिल्ली के रहने वाले गौरांग अरोड़ा ने अपने नाम किया। रविवार को छतरपुर में स्थित टिवोली गार्डन में आयोजित कार्यक्रम में कुल 69 मॉडल शामिल हुए। कॉन्टेस्ट को जज करने गोलमाल अगेन के अभिनेता तुषार कपूर, मेक-अप आर्टिस्ट आशमीन मुंजल, बजरंगी भाईजान में अभिनय कर चुके अभिनेता मनोज बक्शी समेत कई अन्य प्रसिद्ध कलाकार मौजूद थे |सभी प्रतियोगियों ने अपने हुनर का प्रदर्शन किया जिसके बाद विजेता, फर्स्ट एंड सेकंड रनर-अप का नाम अनाउंस किया गया। प्रतियोगिता में कुल 3 राउंड हुए जिसमें प्रतिभगियों ने बखूबी अपने टैलेंट को दर्शाया। फर्स्ट रनर-उप का खिताब सिकंदराबाद के रहने वाले अब्दुल कादिर को मिला, वहीं सेकंड रनर-उप का खिताब जम्मू और कश्मीर के रिजुल चंदेल ने जीता।तुषार कपूर ने बताया कि सभी 69 कंटेस्टेंट्स टैलेंटेड थे और उनमें से किसी एक को विजेता बनाना काफी कठिन काम था। सभी लोगों ने जमकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया और काफी अच्छे से सभी सवालों का जवाब दिया। ये सभी विजेता है… हार-जीत तो किसी भी कांटेस्ट का हिस्सा होता है, इन सभी में से किसी एक को जितना बहुत मुश्किल टास्क था। मैं इन सभी को कहना चाहता हूं कि वे अपने प्रयास को कभी न छोड़े और उन्हें सफलता जरूर मिलेगी।”उन्होंने स्काईवॉक के डायरेक्टर मनीष सहदेव और अंकिता अग्रवाल के बारे में कहा कि दोनों युवाओं को आगे बढ़ने में अहम भूमिका निभा रहे हैं और उम्मीद जताई कि यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा।इस कॉन्टेस्ट के बारे में बताते हुए मनीष ने कहा, ‘यह देश का एकमात्र ऐसा प्लेटफॉर्म है जो युवाओं को बॉलीवुड में लॉन्च करने के लिए ऐसे प्रतियोगिताओं का आयोजन करता है। हमारे सारे कंटेस्टेंट्स बहुत ही टैलेंटेड है और मैं हमेशा कहता हूं कि मेरे लिए सभी बराबर हैं।’ मनीष ने ये भी वादा किया कि सभी कंटेस्टेंट्स को एक सामान अवसर दिया जाएगा और विजेता के बारे में कहा कि गौरांग ने अपनी मेहनत से ये टाइटल अपने नाम किया है।आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यएडिलेड टेस्ट से पहले भारत ने किया 12 खिलाड़ियों का ऐलान, रोहित और विहारी के बीच होगी प्लेइंग इलेवन की जंग******के बीच 4 टेस्ट मैचोंकी सीरीज का आगाज कल से एडिलेड में होनेजा रहा है। पहलेटेस्ट से पहले ही भारतीयटीम मैनेजमेंट ने प्लेइंग 12 का ऐलान भी कर दियाहै। प्लेइंग 12 में कप्तान विराटकोहली, अंजिक्य रहाणे, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, रोहितशर्मा, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत. आर अश्विन, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराहऔर ईशांत शर्मा को शामिलकियागया है।हनुमा विहारी और रोहित शर्मा दोनों को 12 सदस्यीय लिस्ट में शामिल किया गया है जिसका मतलब है कि भारत मजबूत बैटिंग लाइन अप के साथ उतरना चाहता है।​ जबकि उमेश यादव और रविंद्र जडेजा 12 खिलाड़ियों में जगह बनाने में नाकाम रहे हैं।विहारी ने ऑस्ट्रेलिया बोर्ड प्रसिडेंट के खिलाफप्रैक्टिस मैच में छठे नंबर पर बल्लेबाजी करतेहुए 56 रन की पारीखेली थी। विहारी ने इसी साल इंग्लैंड के खिलाफओवर में टेस्ट डेब्यू कियाथा। जिसमेंउन्होंने अर्धशतक जड़ा साथ ही 3 विकेट भी झटके थे। वहीं25 टेस्ट खेल चुकेरोहित ने इसी साल जनवरी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफअपनाआखिरीटेस्ट खेलाथा। वैसे रोहितसाल 2014-15 में ऑस्ट्रेलिया दौरा कर चुके हैं। जिसमेंउन्होंने 6 पारियोंमें 28.83 के औसत से रन बनाए थे। इस दौरानउनकेबल्ले से 1 अर्धशतक भी निकला था।गौरतलबहै किभारतीय टीम को आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया में साल 2008 में जीत मिली थी। अब भारत को एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया में जीत हासिल किए 10 साल का लंबा समय हो गया है और ऐसे में भारतीय टीम के सामने फिर से ऑस्ट्रेलिया में जीत दर्ज करने की चुनौती होगी। हालांकि इस बार भारतीय टीम को पहली बार जीद का दावेदार माना जा रहा है।आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यCWG 2022 India Schedule: पहले दिन क्रिकेट में हारे तो हॉकी में मिली जीत, अब निगाहें भारत के दूसरे दिन के शेड्यूल पर******Highlights कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के पहले दिन भारत का प्रदर्शन शानदार रहा। खेलों के पहले दिन कई नतीजे भारत के पक्ष में गए, लेकिन कुछ मौकों पर दिल भी टूटे। भारत को सबसे बड़ा झटका ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए महिला टी20 मैच में लगा। हरमनप्रीत कौर और रेणुका सिंह के शानदार प्रदर्शन और जीत के करीब पहुंचकर भी भारत कॉमनवेल्थ गेम्स के इतिहास में अपना पहला मैच जीतने से चूक गया।वहीं भारतीय महिला हॉकी टीम ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। उसने गेम्स के अपने पहले मैच में घाना को 5-0 से करारी शिकस्त दी। दूसरी ओर, भारतीय महिला टेबल टेनिस टीम ने भारत को बैक टू बैक दो देशों के खिलाफ जीत दिलाई। मनिका बत्रा की अगुवाई में भारतीय पैडलर्स ने पहले साउथ अफ्रीका को 3-0 से हराया, फिर फिजी को भी इसी अंतर से शिकस्त दी। इससे पहले भारतीय स्टार बॉक्सर शिवा थापा ने आर्च राइवल्स पाकिस्तान के मुक्केबाज को हराया। थापा ने राउंड ऑफ 32 के इस मुकाबले को 5-0 के क्लीन स्कोर से जीता।आइये अब जान लेते हैं कॉमनवेल्थ गेम्स के दूसरे दिन होने वाले खास मुकाबलों के बारे में और देखते हैं अगले दिन भारत का शेड्यूलपुरुषों का 200मी फ्रीस्टाइल - हीट 3: – कुशाग्र रावत – दोपहर 3.06 बजे वुमेंस टीम फाइनल और इंडिविजुअल क्वॉलीफिकेशन:ऋतुराज नटराज, प्रोतिशा सामंता और प्रणिति नायक – रात 9 बजेमिक्स्ड टीम ग्रुप प्ले स्टेज – ग्रुप ए: भारत बनाम श्रीलंका – दोपहर 1.30 बजेभारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – रात 11.30 बजे54 किलोग्राम से 57 किलोग्राम (फिदरवेट) राउंड ऑफ 32: हुसम उद्दीन मोहम्मद – शाम 5 बजे66 किलोग्राम से 70 किलोग्राम (लाइट मिडिलवेट) राउंड ऑफ 16: लवलीना बोर्गोहेन – रात 12 बजे86 किलोग्राम से 92 किलोग्राम (हैवीवेट) राउंड ऑफ 16: संजीत रात 1 बजेपुरुषों के राउंड ऑफ 16 के सिंगल्स मुकाबले: रमित टंडन – शाम 5 बजे, सौरव घोषाल – शाम 6.15 बजेमहिलाओं के राउंड ऑफ 32 के सिंगल्स मुकाबले सुनयना कुरुविला शाम - 5.45 बजे, जोशना चिनप्पा – शाम 5.45 बजेवुमेंस ग्रुप 2: भारत बनाम गुयाना – दोपहर 2 बजेमेंस ग्रुप भारत बनाम नॉर्दर्न आयरलैंड 4.30 बजे

आयकर विभाग ने ई-फाइलिंग के लिए सभी 7 आईटीआर फॉर्म किए जारी, 31 जुलाई तक भरना है अनिवार्य

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यतीन हफ्ते के निचले स्‍तर पर आया सोने का भाव, कमजोर वैश्विक रुख से 400 रुपए सस्‍ता हुआ****** सोने में तेजी की चमक आज फीकी पड़ गई। राष्‍ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में शुक्रवार को सोने का भाव 400 रुपए टूटकर 29,500 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। यह सोने का पिछले तीन हफ्ते का सबसे निचला स्‍तर है। वैश्विक रुख कमजोर होने के साथ ही घरेलू बाजार में मांग घटने से सोने में यह गिरावट आई है।सोने की तरह ही चांदी में इंडस्ट्रियल यूनिट और सिक्‍का निर्माताओं की मांग घटने से इसकी कीमतों में भी 490 रुपए की गिरावट आई और इसका भाव 42,250 रुपए प्रति किलो पर बंद हुआ।दुनियाभर के बाजारों में सोने के प्रति रुख कमजोर है, इसके अलावा स्‍थानीय ज्‍वैलर्स के साथ ही साथ रिटेलर्स की मांग में कमी की वजह से सोने की कीमतों में इतनी बड़ी गिरावट आई है।Gold Newआयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यस्थानीय डिस्पले एफएबी विनिर्माण के लिए तैयार है भारत, PLI योजना से घरेलू निर्माण को मिलेगा बढ़ावा******Rs 3L cr PLI scheme for 10 sectors to boost domestic manufacturingभारत सरकार ने जिस तरह से विभिन्न प्रोत्साहन से जुड़ी योजनाओं के साथ घरेलू इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण पर जोर दिया है, उसे देखकर कहा जा सकता है कि देश के पास एक बेहतरीन अवसर है कि वह एक पूर्ण अर्धचालक निर्माण (एफएबी) इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण की स्थापना कर सके। इंडिया सेलुलर एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन (आईसीईए) ने बुधवार को यह बात कही। वैश्विक इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण में भारत की हिस्सेदारी 2012 में 1.3 प्रतिशत से बढ़कर 2019 में 3.6 प्रतिशत हो गई है। घरेलू इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण साल 2014-15 में 1.90 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 2019-20 में 5.34 लाख करोड़ रुपये हो गया है। इसमें चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर 23 प्रतिशत दर्ज की गई है। हालांकि इस क्षेत्र में अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। एलसीना के अनुमान के अनुसार, पर्याप्त अवसंरचना की कमी, घरेलू आपूर्ति श्रृंखला और रसद बाधाओं, वित्त की उच्च लागत, गुणवत्ता की अपर्याप्त उपलब्धता, सीमित डिजाइन क्षमताओं के कारण घटक विनिर्माण क्षेत्र लगभग 10 प्रतिशत का नुकसान झेल रहा है। कौशल विकास में अपर्याप्तता के अलावा उद्योग द्वारा अनुसंधान एवं विकास पर ध्यान केंद्रित नहीं हो पाने से भी यह वांछित रूप से विकसित नहीं हो पा रहा है।आईसीएईए के अध्यक्ष पंकज मोहिंद्रो ने एक बयान में कहा, ' हम भारत में एक बड़े इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण कर रहे हैं और निश्चित रूप से इसे शुरू होने में अभी भी देर नहीं हुई है। इसलिए, भारत को वैश्विक इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण हब बनाने के लिए एफएबी एक कदम हो सकता है। यह घरेलू विनिर्माण और इलेक्ट्रॉनिक्स के निर्यात के 400 अरब डॉलर के एनपीई 2019 लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए भी कतार में होगा।मोहिंद्रो ने कहा, ' 2025 तक एक अरब मोबाइल हैंडसेट का उत्पादन करने का लक्ष्य है, जिसका मूल्य 190 अरब डॉलर होगा। इसमें 60 करोड़ वह मोबाइल हैंडसेट शामिल हैं, जो एक्सपोर्ट किए जाएंगे और उनकी कीमत 110 अरब डॉलर होगी। इसलिए, भारत के पास देश में पूर्ण विकसित एफएबी इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण पारिस्थितिकी तंत्र स्थापित करने का अवसर और क्षमता है। 'अप्रैल 2020 में सरकार ने भारत में इलेक्ट्रॉनिक्स के निर्माण के लिए 41,000 करोड़ रुपये की उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना की घोषणा की थी। हाल ही में, इस योजना को 7,350 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ आईटी हार्डवेयर तक बढ़ाया गया है।इसके अलावा इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए, सरकार भारत में सेमीकंडक्टर वेफर या डिवाइस फैब्रिकेशन सुविधाओं की स्थापना या भारत के बाहर सेमीकंडक्टर एफएबी के अधिग्रहण के लिए एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) लेकर आई है। भारत का डिस्पले पैनल बाजार लगभग 7 अरब डॉलर का है और 2025 तक इसके केवल चार वर्षों में बढ़कर 15 अरब डॉलर होने का अनुमान है।हालांकि, एक डिस्पले एफएबी निर्माण इकाई स्थापित करना एक अत्यंत पूंजी-गहन परियोजना है और 2-3 वर्षों की अवधि में लगभग 70,000-75,000 करोड़ रुपये या लगभग 10 अरब डॉलर के अनुमानित निवेश की आवश्यकता है।मोहिंद्रू ने जोर देते हुए कहा, ' एफएबी विनिर्माण सुविधा एक पूंजी-गहन व्यवसाय है और यह दुनिया के बहुत कम भौगोलिक क्षेत्रों में मौजूद है। इसलिए, हमें एक प्रतिस्पर्धी माहौल बनाना चाहिए। हमें पानी, बिजली और पूंजी समर्थन के अलावा लॉजिस्टिक्स जैसी उचित बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने के मामले में बहुत आक्रामक होने की आवश्यकता है। एक शुरूआत पहले ही घरेलू डिस्पले एफएबी विनिर्माण में हो चुकी है, क्योंकि दक्षिण कोरियाई इलेक्ट्रॉनिक्स दिग्गज सैमसंग ने भारत में असेंबलिंग डिसप्ले के लिए पहले ही 4,825 करोड़ रुपये का निवेश किया है।

आयकर विभाग ने ई-फाइलिंग के लिए सभी 7 आईटीआर फॉर्म किए जारी, 31 जुलाई तक भरना है अनिवार्य

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यSidhu Moose wala Case: सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के आरोपी को साथी कैदियों ने पीटा, सिर पर लगे टांके******Highlights सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के आरोपी को पंजाब के लुधियाना जेल में साथी कैदियों ने जम कर पीट दिया। आरोपी सतबीर की पिटाई इस हद तक की गई है कि उसके सिर में टांके लगे हैं। पंजाबी सिंगर की हत्या के मामले में गिरफ्तार आरोपी सतबीर को इलाज के लिए पुलिस अस्पताल लेकर पहुंची है। अभी कल ही मूसेवाला हत्याकांड में खुलासा हुआ था कि सिद्धू की हत्या से पहले तिहाड़ जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई ने अपने भाई अनमोल बिश्नोई और अपने भांजे सचिन बिश्नोई को फर्जी पासपोर्ट के जरिए भारत से फरार करवा दिया था। सचिन बिश्नोई ने ही मूसेवाला पर हमले का पूरा प्लान तैयार किया था। लॉरेंस के भाई अनमोल और भांजे सचिन का पासपोर्ट दिल्ली रीजनल पासपोर्ट ऑफिस से बना था।इस फर्जी पासपोर्ट में सचिन बिश्नोई का नकली नाम तिलक राज टुटेजा लिखा गया है। वहीं फर्जी पिता का नाम भीम सिंह, हाउस नंबर 330, ब्लॉक F3 संगम विहार नई दिल्ली, 110062 लिखा गया है। सचिन बिश्नोई 21 अप्रैल तक भारत में था और फिलहाल दुबई में मौजूद है। वहीं जोधपुर जेल से बाहर आने के बाद लॉरेंस ने अपने भाई अनमोल का पासपोर्ट भानु प्रताप के नाम से बनवाया और एड्रेस फरीदाबाद हरियाणा का दिया था। लॉरेंस बिश्नोई ने पूछताछ में ये खुलासा किया था। इसके बाद पंजाब पुलिस ने पासपोर्ट एक्ट में FIR भी दर्ज की थी।पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के मर्डर केस में हालही में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शूटर अंकित सिरसा को गिरफ्तार किया था। इस दौरान पुलिस ने अंकित के साथी को भी पकड़ा था। अंकित सिरसा वही शूटर है जिसने सिद्धू को सबसे नजदीक से गोली मारी थी। अब इस शूटर के बारे में कई हैरान कर देने वाली बातें पता लगी हैं। अंकित की उम्र महज 19 साल बताई जा रही है और वह बहुत कम उम्र में ही अपराध की दुनिया में शामिल हो गया था।सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में जब प्रियवत फौजी की गिरफ्तारी हुई तो उसने अंकित सिरसा के नाम का खुलासा पुलिस के सामने किया। पुलिस को जब अंकित की इनसाइड स्टोरी पता लगी तो सब हैरान रह गए। अंकित ने अपराध की दुनिया में कदम मोबाइल चोरी से रखा था, इसके बाद वह लॉरेंस विश्नोई का शॉर्प शूटर बन गया। गौरतलब है कि पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या 29 मई को गोलियों से भूनकर कर दी गई थी। अंकित इस हत्याकांड का अहम बिंदु था और उसने सबसे नजदीक से मूसेवाला को गोली मारी थी।

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यIPL के 12 सीजन में इन गेंदबाजों का रहा जलवा, सबसे ज्यादा विकेट चटका कर हासिल की पर्पल कैप******दुनियाभर में जानलेवा बन चुकी कोरोना वायरस के कारण इंडियन प्रीमियर लीग 2020 को 15 अप्रैल तक स्थगित कर दिया गया है। स्थगित होने से पहले इस रंगारंग टूर्नामेंट की शुरुआत 29 मार्च से होने वाली थी लेकिन जिस तरह से यह कोरोना वायरस पूरी दुनिया में अपने पांव पसार रहा है उसे देखकर अब यह संशय होने लगा है कि सीजन-13 अपने बदले हुए तारीख से शुरु होगा भी या नहीं।हालांकि इंडियन प्रीमियर लीग के फ्रेंचाइजी और बीसीसीआई पूरी कोशिश में है कि दुनिया के इस सबसे बड़े क्रिकेट लीग का किसी भी तरह से आयोजन किया जाए, क्योंकि पिछले-12 सीजन से आईपीएल भारतीय क्रिकेट का एक अभिन्न हिस्सा बन चुका है।साल 2008 से शुरु हुए इस टूर्नामेंट में कई तरह के बदलाव देखने को मिल चुका है लेकिन कुछ बाते ऐसी हैं जो अबतक नहीं बदली है और वहीं इस टूर्नामेंट को बाकियों से अलग बनाती है उनमें से एक है पर्पल कैप।जी हां, दरअसल आईपीएल में पर्पल कैप का कॉन्सेप्ट गेंदबाजों के लिए शुरु किया था। अक्सर कहा जाता है कि टी-20 क्रिकेट बल्लेबाजों का फॉर्मेट है लेकिन पिछले कुछ सालों में यह धारणा पूरी तरह से बदल गई है। अब फ्रेंचाइजी बल्लेबाजों से कहीं अधिक गेंदबाजों को खरीदने पर बोली लगा रहे हैं और सीजन 13 के नीलामी में भी हमें यही देखने को मिला। टी-20 क्रिकेट में गेंदबाजों के प्रति बदली यही धारणा आईपीएल में पर्पल कैप के कॉन्सेप्ट को सफल बनाती है।आइए जानते हैं पिछले 12 सीजन में अबतक के पर्पल कैप के विजेता गेंदबाज-आईपीएल की शुरुआत साल 2008 में हुई थी। इस सीजन में देश-विदेश के सैंकड़ों खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था लेकिन पहले सीजन में जिस गेंदबाज ने अपनी सबसे अधिक चमक बिखेरी थी वे थे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के सोहेल तनवीर। सोहेल तनवीर ने पहले सीजन में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलते हुए धमाकेदार गेंदबाजी कर आईपीएल के इतिहास में अपना नाम सुनहरे अक्षरों में दर्ज करा लिया।बाएं हाथ के मध्यम गति के इस तेज गेंदबाज ने आईपीएल के पहले सीजन में 11 मैच खेलकर सबसे अधिक 22 विकेट अपने नाम किए थे। इस दौरान इनका औसत 12.09 का रहा। पहले सीजन में तनवीर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन मुंबई इंडियंस के खिलाफ 14 रन खर्च 4 विकेट रहा जबकि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ तनवीर ने 10 रन देकर 3 विकेट हासिल किया था।पहले सीजन की अपार सफलता के बाद आईपीएल का दूसरा सीजन और जोरदार रहा। फ्रेंचाइजी और खिलाड़ी पूरे जोश में थे और एक नई ऊर्जा के साथ मैदान पर उतरे। माना जाता है कि उस दौर तक इस टूर्नामेंट में बल्लेबाजों का दबदबा कायम था लेकिन इसके बावजूद गेंदबाजों ने अपनी छाप छोड़ी।दूसरे सीजन में कोई विदेशी खिलाड़ी ने बल्कि एक भारतीय गेंदबाज ने अपनी चमक बिखेरी और यह गेंदबाज थे आरपी सिंह। आरपी सिंह आईपीएल के दूसरे सीजन में डेक्कन चार्जस के लिए मैदान पर उतरे थे और शुरुआत से उन्होंने अपना दबदबा बना दिया था। आरपी सिंह ने पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करते हुए 23 विकेट के साथ इसका अंत किया। इस दौरान उनका 18.13 रहा।पिछले दो सीजन में तेज गेंदबाजों ने पर्पल कैप पर अपना जमाया था लेकिन आईपीएल के तीसरे सीजन में स्पिन गेंदबाज प्रज्ञान ओझा ने अपना जलवा बिखेरा और तीसरे सीजन में ओझा ने डेक्कन चार्जस के लिए खेलते हुए बाकी सभी टीमों के गेंदबाजों को पीछे छोड़ते हुए उन्होंने 20.42 की औसत से कुल 21 विकेट निकाले और पर्पल कैप का ताज अपने नाम किया।आईपीएल का यह चौथा सीजन खेला गया था। इस सीजन में मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा पिछले तीन के सभी रिकॉर्ड को ध्वस्त कर पर्पल कैप अपने नाम किया। मलिंगा ने अपनी आग उगलती गेंदबाजी के दमपर इस सीजन में 13.39 की औसत से कुल 28 विकेट निकाले थे। इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 13 रन खर्च 5 विकेट का था।आईपीएल के पांचवे सीजन में साउथ अफ्रीका मोर्ने मोर्कल ने पर्पल कैप का खिताब अपने नाम किया था। इस सीजन में मोर्कल दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल्स) के लिए मैदान पर उतरे थे। सीजन पांच में मोर्कल ने शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए 18.12 की औसत से कुल 25 विकेट हासिल किए थे।वेस्टइंडीज के मध्यम गति का यह तेज गेंदबाज दुनियाभर के टी-20 लीग में चहेता खिलाड़ी रहा है। ब्रावो अपनी चतुराई भरी गेंदबाजी की बदौलत हमेशा से अपनी टीमों को जीत दिलाते आए हैं। आईपीएल के छठे सीजन में ब्रावो महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए मैदान पर उतरे थे। इस सीजन में उन्होंने लीग में अबतक के सभी सभी रिकॉर्ड को तोड़ दिया था। ब्रावो ने अपनी टीम के लिए टूर्नामेंट के अंत तक कुल 32 विकेट झटके थे। इस दौरान उनका औसत 15.53 का रहा था।आईपीएल के सातवें सीजन में हरियाणा के तेज गेंदबाज ने अपने शानदार प्रदर्शन से रातों-रात सुपरस्टार बन गए। इस सीजन में मोहित चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए मैदान पर उतरे थे। मोहित छठे सीजन में सीएसके के लिए कुल 16 मैचों में 32 विकेट अपने नाम किए और पर्पल कैप पर अपना हक जमाया।आईपीएल के 8वें सीजन में चेन्नई सुपरकिंग्स स्टार खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो ने एक बार फिर से अपना जलाव बिखेरा और पर्पल कैप अपने नाम किया। ब्रावो इस सीजन में एक बार फिर से शानदार प्रदर्शन करते हुए 16.38 की औसत से कुल 26 विकेट निकाल कर टूर्नामेंट में सबसे पहले स्थान पर रहे और लीग में दूसरी बार पर्पल कैप का ताज हासिल किया।आईपीएल का यह 9वां सीजन खेला गया था। पिछले 8 सीजन की सफलताओं के बाद टूर्नामेंट का स्तर भी काफी बढ़ चुका था। ऐसे में फैंस की उम्मीदों का बढ़ना भी लाजमी था। आईपीएल के इस सीजन में इस एक ऐसा गेंदबाज उभरकर सामने आए जिसने हर किसी को अपनी स्विंग गेंदबाजी से हैरान कर दिया। यह गेंदबाज कोई और नहीं बल्कि मौजूदा भारतीय टीम के अहम सदस्य भुवनेश्वर कुमार थे। इस सीजन में भुवनेश्वर ने 17 मैचों में 23 विकेट लेकर टॉप पर रहकर पर्पल कैप हासिल किया। भुवनेश्वर की इस दमदार गेंदबाजी की बदौलत ही सनराइजर्स हैदराबाद की टीम इस सीजन में खिताब जीतने कामयाब रही थी।भुवनेश्वर कुमार ने 9वें सीजन के अपने प्रदर्शन को 10वें सीजन में भी जारी रखा। आईपीएल के इस सीजन में भुवी ने अपने दमदार गेंदबाजी के दमपर पर्पल कैप को हासिल किया। इस सीजन में भुवनेश्वर ने कुल 14 मैच खेले जिसमें उन्होंने 26 विकेट हासिल किए।आईपीएल के 11वें सीजन में ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज एंड्रयू टाय अपने दमदार गेंदबाजी से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। इस सीजन में टाय किंग्स इलेवन पंजाब के लिए मैदान पर उतरे थे। आईपीएल के इस सीजन में टाय ने अपनी टीम के लिए पूरे टर्नामेंट में कुल 24 विकेट चटका कर पर्पल कैप अपने माथे पर पहना था।आईपीएल सीजन में 12 साउथ अफ्रीका के अनुभवी स्पिन गेंदबाज इमरान ताहिर ने अपनी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए दमदार गेंदबाजी का प्रदर्शन किया था। उनके बेहतरीन गेंदबाजी के दमपर ही टीम धोनी की कप्तानी वाली सीएसके की टीम ने फाइनल में जगह बनाई थी लेकिन मुंबई इंडियंस के खिलाफ उसे खिताबी हार का सामना करना पड़ा। हालांकि इसके बावजूद इमरान ताहिर ने 17 मैच खेलकर कुल 26 विकेट हासिल किए। इमरान इस सीजन में दो बार अपनी टीम के लिए 4-4 विकेट लिए जबकि आईपीएल के इतिहास में ताहिर किसी एक सीजन में सबसे अधिक विकेट लेने वाले स्पिन गेंदबाज भी बने।आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यHighlights, Ranji Trophy 2022: यश के बल्ले से डेब्यू मैच में आया शतक, रहाणे ने सैकड़े से टीम इंडिया में दावा किया मजबूत******घरेलू टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी 2022 का आगाज आज यानी 17 फरवरीसे हो गया दो साल बाद आयोजित किए जा रहे इस टूर्नामेंट को दो चरणों में खेला जा रहा है। पहला चरण इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के शुरू होने तक खेला जाएगा जबकि दूसरे चरण की शुरुआत 30 मई से होगी, जिसमें क्वार्टर फाइनल, सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले खेले जाएंगे।टूर्नामेंट में पहले दिनभारतीय टेस्ट टीम में जगह बचाने की कवायद में लगे अजिंक्य रहाणे ने अहमदाबाद में रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप डी मैच के पहले दिन सौराष्ट्र के खिलाफ शतक जड़ा जिससे मुंबई ने तीन विकेट पर 263 रन बनाए।वहीं, अंडर 19 विश्व कप जिताने वाले कप्तान यश धुल ने गुवाहाटी के बारसापारा स्टेडियम पर प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण करते हुए तमिलनाडु के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मैच के पहले दिन दिल्ली के लिये शतक जड़ा। धुल के शतक की बदौलत दिल्ली दिन का खेल खत्म होने तक सात विकेट पर 291 रन बनाने में सफल रहा।गौरतलब है कि रणजी ट्रॉफी 2021-2022 टूर्नामेंट में कुल 38 टीमें हिस्सा ले रही है जिसमें कुल 57 लीग मैच खेले जाएगें। इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन किया जाएगा।

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यमुख्यमंत्री पद के चेहरे से तय होगा 60 उम्मीदवार विधायक बनते हैं या नहीं: सिद्धू******Highlightsकांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने शनिवार को कहा कि मुख्यमंत्री पद का चेहरा तय करेगा कि 60 उम्मीदवार विधायक चुने जाते हैं या नहीं। पंजाब में सरकार बनाने के लिए 117 सदस्यीय विधानसभा में 59 सीट पर जीत जरूरी है और सिद्धू द्वारा कहा गया 60 का आंकड़ा इससे एक सीट अधिक है। राज्य में 20 फरवरी को विधानसभा चुनाव होगा।सिद्धू की यह टिप्पणी कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष द्वारा अपने लुधियाना दौरे के दौरान मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा किए जाने की संभावना से पहले आई है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने हालांकि किसी पार्टी का नाम नहीं लिया। उन्होंने यह भी कहा कि वही व्यक्ति 60 उम्मीदवारों का विधायक के रूप में निर्वाचन सुनिश्चित करा सकता है जिसके पास पंजाब के लिए रोडमैप है और जिस पर लोग विश्वास करते हैं।अमृतसर पूर्व सीट से चुनाव लड़ रहे ने शनिवार को अमृतसर में मीडिया से कहा कि वह कभी भी "सत्ता के उपासक" नहीं रहे। सिद्धू ने कहा, ‘‘लेकिन आज पंजाब को एक बड़ी बात तय करनी है। 60 विधायक होने पर एक व्यक्ति मुख्यमंत्री बन जाएगा। कोई 60 विधायकों की बात नहीं कर रहा है। सरकार किस रोडमैप पर बनेगी, इस बारे में कोई बात नहीं करता।’’ उन्होंने दोहराया कि उनका मॉडल राज्य को आगे बढ़ा सकता है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘यह सिद्धू का मॉडल नहीं बल्कि राज्य का मॉडल है और अगर किसी के पास इससे बेहतर मॉडल है तो वह उसे भी स्वीकार करेंगे।’’राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के सीएम चेहरे (Punjab Congress CM face) की घोषणा अपने लुधियाना दौरे के दौरान 6 फरवरी को करेंगे। यह जानकारी पंजाब के AICC प्रभारी हरीश चौधरी ने दी है। बता दें कि, पंजाब में सीएम चेहरे को लेकर कांग्रेस की पंजाब राज्य इकाई के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू और सीएम चरणजी सिंह चन्‍नी के बीच सियासी जंग उस समय छिड़ी हुई है जब पंजाब चुनाव का जब प्रचार जोरों पर चल रहा है।आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यPakistan News: पाकिस्तान में तबाही मचा रही बाढ़, मरने वालों की संख्या 1100 से ज्यादा पहुंची******Highlightsपाकिस्तान में आई विनाशकारी बाढ़ के कारण मरने वालों की संख्या सोमवार को 1136 पहुंच गई है। हालांकि अब पाक में आर्थिक संकट के बीच प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली सरकार की अपील के बाद अंतरराष्ट्रीय सहायता पहुंचने लगी है। बाढ़ के कहर का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि 3.3 करोड़ लोगों को यानी देश की कुल आबादी के करीब सातवें हिस्सा को विस्थापित होना पड़ा है।पाकिस्तानी जलवायु परिवर्तन मंत्री शेरी रहमान ने इसे "दशक का सबसे भयावह मानसून" कहा, वहीं वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल ने कहा कि बाढ़ के कारण पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को 10 अरब डॉलर तक का नुकसान हुआ है। प्राकृतिक आपदाओं से निपटने वाले मुख्य राष्ट्रीय संगठन राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा सोमवार को जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार, बाढ़ के कारण कम से कम 1136 लोग मारे गए हैं जबकि 1,634 लोग घायल हुए हैं।प्राधिकरण ने कहा कि करीब 9,92,871 घर पूरी तरह या आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए हैं, जिससे लाखों लोग भोजन और साफ पानी आदि से वंचित हैं। इसके साथ ही करीब 7.19 लाख पशु भी मारे गए हैं और लाखों एकड़ उपजाऊ भूमि लगातार बारिश से पानी में डूबी हुई है।मृतकों की संख्या में हो सकती है बढ़ोतरी‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारियों ने कहा कि मृतकों की संख्या काफी अधिक हो सकती है क्योंकि खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में हजारों गांव देश के बाकी हिस्सों से कटे हुए हैं और नदियों में उफान से सड़कें और पुल क्षतिग्रस्त हो गए हैं।‘जियो टीवी’ की एक खबर के अनुसार, पाकिस्तान के ऊर्जा मंत्रालय ने कहा कि सिंध और बलूचिस्तान प्रांतों में बिजली की बहाली सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस भीषण आपदा का सामना करने में मुश्किलों से जूझ रहे पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय मदद मांगी है और कई देशों ने एकजुटता संदेशों के साथ मानवीय सहायता भेजी है।बीबीसी ने प्रधानमंत्री शरीफ के एक करीबी सहयोगी का हवाला देते हुए कहा कि देश को अंतरराष्ट्रीय मदद की काफी दरकार है। अधिकारियों ने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात और अन्य ने आपदा अपील को देखते हुए मदद की है, लेकिन और अधिक धन की जरूरत है।

आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यकन्नड़ में बातचीत कर राहुल-पांडे ने न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे वनडे में की शतकीय साझेदारी******बेंगलुरू। भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान कर्नाटक के दो खिलाड़ियों लोकेश राहुल और मनीष पांडे ने बल्लेबाजी करते हुए कन्नड़ में बात की जिससे राज्य के क्रिकेट प्रेमी काफी खुश हैं। माउंट मोनगानुई में खेल के अहम पड़ाव के दौरान मैदान पर लगे माइक के जरिए राहुल और पांडे की बातों का प्रसारण हुआ। भारत यह मैच हार गया।मैच के प्रसारण के दौरान ‘बारथीरा’ (क्या तुम आओगे), ‘ओडी ओडी बा’ (आओ दौड़ो), ‘बेडा बेडा’ (नहीं नहीं) और ‘बा बा’ (आ जाओ) जैसे शब्द सुनाई दिए जिन्हें सुनकर दुनिया भर के कन्नड़ भाषी काफी खुश होंगे। राहुल ने 112 जबकि पांडे ने 42 रन की पारी खेली। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 107 रन जोड़े जिससे भारत सात विकेट पर 296 रन बनाने में सफल रहा।पांडे ने अपनी स्कूल शिक्षा बेंगलुरू में हासिल की जबकि राहुल का परिवार राज्य के तुमाकुरु का रहने वाला है। राहुल ने बाद में अपनी उच्च शिक्षा यहां जैन विश्वविद्यालय से प्राप्त की। न्यूजीलैंड ने तीसरे वनडे में भारत को पांच विकेट से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 3-0 से क्लीनस्वीप किया।आयकरविभागनेईफाइलिंगकेलिएसभी7आईटीआरफॉर्मकिएजारी31जुलाईतकभरनाहैअनिवार्यसमलैंगिकता अब अपराध नहीं, धारा 377 पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला****** समलैंगिक संबंध अपराध है या नहीं इस पर फैसला करते हुए आज ने कहा कि, समलैंगिकता अब अपराध नहीं है। CJI दीपक मिश्रा ने फैसला सुनाते हुए कहा कि, समलैंगिकों को सम्मान के साथ जीने का पूरा अधिकार है। सुप्रीम कोर्ट में आज 5 जजों की बेंच ने आईपीसी की धारा 377 की संवैधानिक वैधता पर अपना फैसला सुनाया। फैसला सुनाते हुए मुख्य न्यायधीश ने कहा कि, LGBT समुदाय के अधिकार भी देश के अन्य सामान्य नागरिकों की तरह हैं, देश के हर नागरिक के अधिकारों की सम्मान सबसे बड़ी मानवता है और Gay Sex को दंडनीय अपराध बताना तर्कहीन है। इस फैसले के बाद भारत दुनिया के उन देशों में शुमार हो गया है जिसने समलैंगिकता को मान्यता दी है।आईपीसी की धारा 377 अप्राकृतिक यौन संबंध को अपराध मानती है। इसके तहत पशुओं के साथ ही नहीं बल्कि दो लोगों के बीच बने समलैंगिक संबंध को भी अप्राकृतिक कहा गया है। इसके तहत उम्रक़ैद या जुर्माने के साथ 10 साल तक की सज़ा का प्रावधान है। इसी व्यवस्था के खिलाफ देश की सबसे बड़ी अदालत में कई याचिकाएं दायर की गई हैं और धारा 377 को गैरकानूनी और असंवैधानिक घोषित करने की मांग है।2001 में समलैंगिक लोगों के लिए आवाज उठाने वाली संस्था नाज ने ये मुद्दा उठाया जिसकी याचिका पर विचार करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने 2009 में इस धारा को खत्म करते हुए समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी से बाहर कर दिया लेकिन एलजीबीटी समुदाय के विरोध की आवाज़ तब तेज़ हो गई जब 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले को पलट दिया>साल 2014 में सुप्रीम कोर्ट में रिव्यू पिटीशन भी दायर की गई जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया लेकिन 2014 में मोदी सरकार आई जिसने धारा 377 पर किसी फैसले का भरोसा दिया। 2016 में 5 लोगों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर मामले की नए सिरे से सुनवाई की मांग की थी।इसके बाद चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने 10 जुलाई 2018 को सुनवाई शुरू की थी। सभी पक्षों को विस्तार से सुना गया और फिर 17 जुलाई को कोर्ट ने धारा 377 की संवैधानिक वैधता पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:08
उद्धरण 1 इमारत
Kanpur School News: कानपुर के स्कूल में बच्चों के 'कलमा' पढ़ने पर बवाल, VIDEO वायरल हुआ तो सामने आई सच्चाई******Highlightsउत्तर प्रदेश के जनपद में एक प्राइवेट स्कूल में सुबह की प्रेयर के दौरान 'कलमा' पढ़ने का मामला सामने आया है। कानपुर का 'फ्लोरेट्स स्कूल' उस समय विवादों में आ गया जब छात्रों को सुबह की प्रेयर में 'कलमा' पढ़ने के लिए कहा गया। इसको लेकर बच्चों के माता-पिता और कुछ हिंदू संगठनों ने विरोध किया और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जिसने मामले में हस्तक्षेप किया और स्कूल से इस प्रथा को रोकने के लिए कहा। इसके साथ ही हिंदू संगठन स्कूल के शुद्धिकरण और तालाबंदी के जिद पर अड़ गए।इस विवाद की शुरुआत रविवार को हुई। एक शख्स ने अपने ट्विटर अकाउंट से 59 सेकंट का एक वीडियो वायरल हुआ जिसके बाद यह वीडियो फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप पर शेयर किया जाने लगा। इसमें मुख्यमंत्री और यूपी पुलिस को टैग किया गया था। वीडियो में एक महिला और उनकी बेटी दिखाई देती है। इसे बनाने वाले ने दोनों के चेहरे वीडियो में नहीं दिखाए हैं। महिला कह रही है, "स्कूल में बच्चों को रोजाना प्रार्थना के समय कलमा पढ़ाया जाता है।" महिला ने बच्ची से पूछा तो उसने जवाब दिया, ''हां..रोज पढ़ाया जाता है।''आपको बता दें कि 2003 में स्थापित स्कूल में बच्चों को प्रार्थना के दौरान सभी धर्मों की वंदना कराई जाती है। गायत्री मंत्र, गुरुबानी और कलमा सुबह की सभा में पढ़ाया जा रहा है। यह प्रथा एक दशक से चल रही है लेकिन अचानक दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं ने इस पर आपत्ति जताई। इस मामले को बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने गंभीरता से लेते हुए तुरंत स्कूल में पहुंचकर बच्चों के पैरेंट्स के साथ शिकायत की आवाज बुलंद की। इसको लेकर उन्होंने आरोप लगाया कि स्कूल छात्रों पर धर्म थोप रहा है। इस पूरे मामले में पैरेंट्स का कहना है कि उन्होंने अपने बच्चे को कई स्कूलों में पढ़ाया, लेकिन ऐसा किसी भी स्कूल में नहीं है जहां कलमा उन्हें पढ़ाया जाए।वहीं, इस मामले पर स्कूल के प्रिंसिपल सुमित मखीजा ने कहा, "इस विवाद के बाद अब प्रबंधन ने सुबह की प्रेयर के दौरान केवल राष्ट्रगान पर ही टिके रहने का फैसला किया है।" प्रिंसिपल ने स्पष्ट किया है, "निश्चित रूप से किसी एक धर्म को बढ़ावा देने का कोई इरादा नहीं है।" उन्होंने कहा, "इस स्कूल में सालों से यह प्रथा रही है। स्कूल डायरी में हिंदू, सिख, ईसाई, इस्लाम सहित सभी प्रमुख धर्मों के छंद लिखे गए हैं। सभी धर्मों को समान सम्मान देने के लिए छंदों को पढ़ना एक अभ्यास के रूप में शुरू किया गया था। अब अचानक, हिंदू कट्टरपंथियों के एक ग्रुप और कुछ पैरेंट्स ने इसका विरोध किया है।"आज आपत्ति जताने का मामला जब सामने आया तो स्कूल प्रशासन द्वारा इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए वार्ता करके इस बात का आश्वासन दिया गया है कि भविष्य में स्कूल में किसी भी तरह की प्रार्थना नहीं होगी बल्कि सिर्फ राष्ट्रगान बच्चों को प्रार्थना में करना होगा। इस बीच, स्कूल अधिकारियों ने कहा है कि वे संबंधित अभिभावकों के साथ मिलकर इसे सुलझा लेंगे।
2022-10-01 05:08
उद्धरण 2 इमारत
एक बार चार्ज करने पर 500 किलोमीटर चल सकती है KIA की यह इलेक्ट्रिक कार******एक बार चार्ज करने पर 500 किलोमीटर चल सकती है KIA की इलेक्ट्रिक कारएलन मस्क द्वारा संचालित टेस्ला को कड़ी टक्कर देते हुए दक्षिण कोरिया के नंबर-2 वाहन निर्माता किआ ने मंगलवार को अपनी इलेक्ट्रिक कार ईवी6 का अनावरण किया। यह एक समर्पित मंच पर निर्मित कंपनी का पहला ऑल-इलेक्ट्रिक मॉडल है, जो एक बार चार्ज करने पर ही 500 किलोमीटर से अधिक की यात्रा कर सकती है। ईवी6 की कीमत करीब 4.5 करोड़ से 5.5 करोड़ वॉन ( 40,000 डॉलर और 48,500 डॉलर) है, जो कि टेस्ला की एंट्री-लेवल ऑल-इलेक्ट्रिक सेडान के समान है।एक ऑनलाइन वल्र्ड प्रीमियर इवेंट में दक्षिण कोरिया के नंबर 2 कार निर्माता ने अपनी क्रॉसओवर ईवी6 को उसकी मूल कंपनी हुंडई मोटर ग्रुप के इलेक्ट्रिक ग्लोबल मॉड्यूलर प्लेटफॉर्म (ई-जीएमपी) के आधार पर प्रदर्शित किया, जो पिछले महीने हुंडई इओनिक 5 के लिए उपयोग किया गया एक ही प्लेटफॉर्म है। ईवी6 किआ की उन 11 पूरी तरह से इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) की योजना के तहत आने वाली पहली इलेक्ट्रिक कार है, जो कंपनी ने 2026 तक अपने ईवी ड्राइव के लिए तैयार की है। ऑटोमेकर के अन्य ईवी मॉडल नीरो और सोल हैं, जिन्हें गैस और हाइब्रिड वेरिएंट के साथ पेश किया गया है।किआ के अध्यक्ष सॉन्ग हो-सुंग ने एक ऑनलाइन प्रेस ब्रीफिंग के दौरान कहा, "ईवी6 पहला मॉडल है, जो किआ की ओर से एक वाहन निर्माता से एक अभिनव गतिशीलता समाधान प्रदाता (इनोवेटिव मोबिलिटी सॉल्यूशंस प्रोवाइडर) के रूप में खुद को बदलने के लिए अपने विजन की घोषणा के बाद आया है।"उन्होंने कहा, "ईवी6 एक प्रतीकात्मक मॉडल है, जिसे किआ की मध्यम और दीर्घकालिक योजना के तहत विकसित किया गया है, जो 2030 तक कुल बिक्री का 40 प्रतिशत इको-फ्रेंडली मॉडल का अनुपात बढ़ाएगा।" योनहाप समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, यह मॉडल बैटरी पैक के दो विकल्प पेश करेगा। इसमें एक विकल्प स्टैंडर्ड 58-किलोवाट-घंटा (केडब्ल्यूएच) बैटरी के साथ मिलेगा, जबकि दूसरा विकल्प लंबी दूरी के साथ 77.4 केडब्ल्यूएच के साथ मिलेगा।कंपनी ने कहा कि 800-वोल्ट सिस्टम वाला लंबी दूरी का मॉडल एक बार चार्ज करने पर 510 किलोमीटर से अधिक की यात्रा कर सकता है, जो कि इओनिक 5 की 430 किलोमीटर की ड्राइविंग रेंज से अधिक है। इसके अलावा इसमें 18 मिनट में ही 80 प्रतिशत तक बैटरी चार्ज करने की क्षमता भी है। ईवी6 में अन्य ईवीएस की तुलना में अधिक स्पेस के साथ बेहतरीन इंटीरियर मिलता है। कंपनी ने कहा कि उसका लक्ष्य इस साल विश्व स्तर पर 30,000 यूनिट्स बेचना है और अगले साल 1,00,000 यूनिट्स बेचने का टारगेट है।
2022-10-01 03:34
उद्धरण 3 इमारत
Maharashtra Political Crisis Highlights: अरविंद सावंत ने कहा, शिवसेना दोबारा खड़ी होगी******शिंदे की बगावत के बाद महाराष्ट्र में उद्धव सरकार का गिरना तय माना जा रहा है। इस बीच सीएम उद्धवठाकरे ने कैबिनेट की मीटिंग भी ली। इसमें आदित्य ठाकरे मौजूद नहीं थे। मीटिंग के बादमीटिंग के बाद मंत्री जितेंद्र अव्हाड ने कहा कि बैठक में मौजूदा हालात पर कोई चर्चा नहीं हुई। कुल 11 प्रस्ताव पास हुए हैं।इससे पहले संजय राउत नेअपने ट्वीट में विधानसभा भंग होने की बात कही। इस बीच उद्धव ठाकरे ने बुधवारशाम को अपने संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री पद बिल्कुल अप्रत्याशित रूप से मेरे पास आया था। उन्होंने कहा, ' मुझे जनता के बारे में सोचना है,सत्ता से मुझे कोई लेना देना नहीं है।' पढ़ें, आज दिन भर महाराष्ट्र की सियासत में क्या-क्या हुआ।
वापसी