नई पोस्ट करें

Gold Rate Today: 75 रुपए की तेजी के साथ सोना हुआ 33,195 रुपए/10 ग्राम, चांदी में आई गिरावट

2022-10-01 07:00:50 999

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटKBC 12: कई बार अमिताभ बच्चन की डांट लगा चुकी हैं इस कंटेस्टेंट की मां, 20 साल बाद हॉटसीट पर खोला राज******'कौन बनेगा करोड़पति सीजन 12' की हॉटसीट पर इस बार किस्मतआजमाने परदीप कुमार सिंह बैठे। परदीप पंजाब के अमृतसर के रहन वाले हैं। शो के दौरान परदीप ने अमिताभ बच्चन को ऐसी बात बताई जिसे जानकर बिग बी भी अचंभे में पड़ गए। परदीप की इस बात का कनेक्शन परदीप की मां और बिग बी से जुड़ा हुआ है।परदीप कुमार सिंह सरकारी नौकरी में हैं और सीनियर डिवीजनल अधिकारी हैं। शो के दौरान परदीप ने अमिताभ बच्चन को अपने शो में आने की पूरी कहानी सुनाई। परदीप ने कहा कि 'वो केबीसी में आने के लिए बीते 20 साल से ट्राई कर रहे थे लेकिन उनका ये सपना अब जाकर पूरा हुआ।' शो के दौरान परदीप ने कहा कि 'उनकी मां की तबीयत बिल्कुल भी ठीक नहीं हैं। उनका यही सपना है कि 'मैं केबीसी में एक बार जरूर जाऊं। हर बार ट्राई करता था शो में आने के लिए लेकिन हर बार रह जाता था।'इसके बाद परदीप ने अपनी मां से जुड़ी बिग बी को ऐसी बात बताई जिसने सुनकर उन्हें बिल्कुल भी यकीन नहीं हुआ। परदीप ने कहा कि 'कई बार उनकी मां तो आपकी डांट भी लगा देती थीं। वो कई बार गुस्से में कहती थीं कि आखिर ऐसा क्यों है कि अमिताभ बच्चन उनके बेटे को शो में आने का मौका नहीं दे रहे।' परदीप की बात सुनकर अमिताभ बच्चन अचंभे में पड़ गए। उन्होंने हाथ जोड़कर परदीप की मां जी से कहा कि 'अब तो आप बहुत खुश होंगी कि आपका बेटा हॉटसीट पर बैठा हुआ है।'शो में परदीप ने 12.50 लाख रुपये जीते। इस राशि को जीतने के बाद परदीप ने आगे भी खेल खेला। लेकिन सवाल का जवाब पता नहीं होने की वजह से उन्होंने रिस्क लेना ठीक नहीं समझा। इसके बाद उन्होंने शो को बीच में छोड़ने का फैसला लिया। खास बात है कि 25 लाख के सवाल के लिए परदीप के पास कोई लाइफलाइन भी नहीं बची थी।

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटPatna Airport Flight News: पटना एयरपोर्ट से उड़ान भरने के दौरान फ्लाइट में आग, विमान में मौजूद यात्री सुरक्षित******Highlightsबिहार के पटना एयरपोर्ट से एक बड़ी खबर आई है। यहां एक विमान में उड़ान भरने के बाद आग लग गई। स्पाइसजेट के उस विमान ने पटना से दिल्ली के लिए टेक ऑफ़ किया ही था कि उसके एक विंग में आग लग गई। पटना के डीएम ने बताया कि इस विमान में 185 यात्री सवार थे। डीएम के अनुसार सभी यात्री बिलकुल सुरक्षित हैं। घटना की जानकारी स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन को दी थी। जिसके बाद प्रशासन ने एयरपोर्ट अधिकारियों को सतर्क किया। एक बड़ा विमान हादसा टल गया।पक्षी के टकराने से लगी आग!बताया जा रहा है कि पक्षी के टकराने से यह घटना हुई। हमारे इंडिया टीवी संवाददाता नितिश चंद्रा के अनुसारस्थानीय लोगों का कहना है कि विमान के नीचे के हिस्से में लोगों ने आग देखी और तेज आवाज भी आई। ​लोगों ने उस विमान से धुआं निकलते देखा। घटना की जानकारी मिलते ही एअरपोर्ट प्रशासन और उससे जुड़े सभी बड़े अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गए हैं।वहीं नागरिक उड्डयन महानिदेशालय के अनुसार दिल्ली जाने वाली स्पाइसजेट की उड़ान एक पक्षी की चपेट में आने और हवा में एक इंजन बंद होने के बाद पटना लौटी। सभी सवार यात्री सुरक्षित हैं।आवाज बदल गई थी विमान कीडीएम ने बताया कि विमान को वापस सुरक्षित लैंड करा लिया गया है। ऐहतियात के लिए एम्बुलेंस पहुंच गई और एयरपोर्ट के सामने की जगह खाली कराई गई है। यात्रियों के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है। स्थानीय लोगों के अनुसार विमान में आग लग गई थी। साथ ही विमान की आवाज भी बदल गई थी। इससे पहले की विमान हादसा होता, इस फ्लाइट को सुरक्षित लैंड करा लिया गया।यात्रियों ने बताया कि दिखाई दे रहा था 'स्पार्क'यात्रियों ने इंडिया टीवी को बताया कि प्लेन टेकआफ हो रहा था, लेकिन आवाज बदल गई थी। सामान्य विमान की आवाज से अलग यह बदली हुई आवाज थी। आवाज से यह आभास हो रहा था, कि कहीं विमान में कोई प्रॉब्लम है। अंदर घबराहट जरूर बढ़ रही थी, लेकिन विश्वास था कि कुछ नहीं होगा। यात्रियों ने विमान हादसा टलने पर राहत की सांस ली है। कई यात्रियों के परिजन यहां पर सूचना मिलते ही पहुंच गए। कई यात्रियों ने बताया कि स्पार्क दिखाई भी दिया। यात्रियों ने बताया कि विमान उड़ान भरते ही स्पार्क होना शुरू हो गया था, लेकिन पायलट की सूझबूझ के कारण यह हादसा टल गया।दिल्ली जा रही थी फ्लाइटSSP पटना मानवजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि स्पाइसजेट की एक फ्लाइट दिल्ली जा रही थी। उड़ान भरते ही एयरपोर्ट प्राधिकरण ने ध्यान दिया कि उसके एक विंग में आग लगी है।(रिपोर्ट: नितिश चंद्रा)रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटइच्छागढ़ विधानसभा चुनाव: 7 दिसंबर को वोटिंग, पिछली बार BJP ने मारी थी बाजी****** झारखंड की इच्छागढ़ विधानसभा सीट पर 7 दिसंबर को मतदान होने जा रहा है, झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में जिन 20 सीटों पर मतदान होगा उनमें इच्छागढ़ सीट भी शामिल है। इस सीट पर हुए पहले के विधानसभा चुनावों पर नजर डालें तो भारतीय जनता पार्टी और जेएमएम के बीच मुकाबला रहता है। इस बार देखना होगा कि इच्छागढ़ विधानसभा सीट पर कौन बाजी मारता है? 23 दिसंबर को अन्य सभी विधानसभा सीटों के साथ इच्छागढ़ विधानसभा का परिणाम भी घोषित हो जाएगा। 2014 में हुए विधानसभा चुनावों का परिणाम भी 23 दिसंबर 2014 को ही घोषित हुआ था।2014 के झारखंड विधानसभा चुनाव में इच्छागढ़ विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी साधु चरण महतो ने बाजी मारी थी। उन्हें कुल 75634 वोट पड़े थे और उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी जेएमएम की सविता महतो को 42250 मतों से हराया था। 2009 में इस सीट पर जेवीएम (JVM) के अरविंद कुमार सिंह ने बाजी मारी थी जबकि 2005 में इस सीट पर जेएमएम प्रत्याशी सुधीर महतो की जीत हुई थी।

Gold Rate Today: 75 रुपए की तेजी के साथ सोना हुआ 33,195 रुपए/10 ग्राम, चांदी में आई गिरावट

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटOdisha: ओडिशा में भारी बारिश ने मचाई तबाही, मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट ने जारी किया 'हाई अलर्ट'******Highlightsओडिशा सरकार ने कम दबाव वाले क्षेत्र केदबाव वाले क्षेत्र में तब्दील होने के कारण राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश होने के मद्देनजर शुक्रवार को तटीय जिलों के लिए ‘हाई अलर्ट’ जारी किया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। विशेष राहत आयुक्त पी.के.जेना ने बताया कि महानदी बेसिन क्षेत्र में फिर बारिश होने से पहले ही बाढ़ की मार झेल रहे क्षेत्रों में स्थिति और खराब हो गई है।राज्य सरकार ने जिला प्रशासन से प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को मदद मुहैया कराने को कहा है। राजस्व विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दबाव क्षेत्र के चलते भारी बारिश के कारण जगतसिंहपुर और रायगढ़ जिलों और उत्तरी क्षेत्र के सुवर्णरेखा बेसिन के कुछ इलाकों में बाढ़ आ गई। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, जगतसिंहपुर जिले में रात भर में 107 मिमी बारिश दर्ज की गई। पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के उत्तर-पूर्व और आस-पास के क्षेत्रों में कम दबाव का क्षेत्र उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है और दबाव वाले क्षेत्र में तब्दील हो गया। वह अभी बालासोर से लगभग 310 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व में केंद्रित है।विभाग के अनुसार, इसके गहरे दबाव क्षेत्र में तब्दील होने की संभावना है और शाम को बालासोर तथा सागर द्वीप समूह से होकर पश्चिम बंगाल और ओडिशा तट को पार करने की संभावना है। यह ओडिशा, पश्चिम बंगाल और झारखंड में पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ना जारी रखेगा और उत्तरी छत्तीसगढ़ की ओर बढ़ते हुए धीरे-धीरे कमजोर होगा। ओडिशा सरकार ने इस पूर्वानुमान के मद्देजनर जिले के अधिकारियों को स्थिति पर नजर रखने को कहा है। बालासोर, भद्रक और मयूरभंज जिलों के कुछ हिस्सों में अत्यधिक भारी बारिश का पूर्वानुमान लगाते हुए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया गया है।अधिकारियों ने बताया कि बारिश के कारण नदियों में पानी बढ़ सकता है। संवेदनशील पहाड़ी इलाकों में बाढ़ आने, मिट्टी धंसने और भूस्खलन होने की आशंका है, जिससे कुछ अतिसंवेदनशील सड़कों और मकानों को नुकसान पहुंच सकता है। केंद्रापड़ा, जगतसिंहपुर, कटक, ढेंकनाल और अंगुल समेत 12 जिलों के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया गया है। झारसुगुड़ा, बरगढ़, कालाहांडी, कंधमाल, गंजम, नयागढ़, खुर्दा और पुरी के लिए ‘येलो अलर्ट’ जारी किया गया है। मछुआरों को शनिवार तक समुद्र में न जाने को कहा गया है।राज्य सरकार के अनुसार, हीराकुंड जलाशय में पानी की मात्रा सुबह आठ बजे 622.37 फुट थी, जबकि इसमें कुल 630 फुट पानी ही आ सकता है। राज्य में आई बाढ़ से अभी तक 13 जिलों में पांच लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। गुरुवार तक 90,000 लोगों को 190 राहत शिविरों में पहुंचाया गया था। उड़ीसा के सीएम नवीन पटनायक हालात काजायजा ले रहे हैं। उन्होंने सभी राहत बचाव कार्य के लिए सभी विभागों को बचाव कार्य के लिए निर्देशित भी किया है।रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटविदेशी पर्यटक 15 अक्टूबर से चार्टर्ड विमान से भारत आ सकेंगे, गृह मंत्रालय ने दी जानकारी******भारत ने चार्टर्ड विमान से आने वाले विदेशी पर्यटकों को 15 अक्टूबर से पर्यटक वीजा जारी करने का निर्णय किया है और नियमित विमान से आने वाले पर्यटकों को 15 नवंबर से पर्यटक वीजा जारी किया जाएगा। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुरुवार को यह घोषणा की। कोरोना वायरस महामारी के कारण मार्च 2019 से ही अंतरराष्ट्रीय वीजा एवं यात्रा पर प्रतिबंध लगा हुआ था और महामारी की स्थिति को देखते हुए इसमें ढील दी जा रही है। ने बयान जारी कर कहा कि विभिन्न सूचनाओं पर गौर करने के बाद मंत्रालय ने चार्टर्ड विमान से भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों को 15 अक्टूबर 2021 से नया पर्यटक वीजा जारी करने का निर्णय किया है। इसमें बताया गया कि चार्टर्ड विमान के अलावा अन्य विमानों से भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों को 15 नवंबर 2021 से पर्यटन वीजा जारी किया जाएगा।बयान में कहा गया कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा समय-समय पर जारी किए गए से जुड़े प्रोटोकॉल एवं नियमों को विदेशी पर्यटकों, उन्हें भारत लाने वाले संवाहकों और अन्य संबंधित पक्षों को पालन करना होगा। कोविड-19 महामारी के कारण पिछले वर्ष विदेशियों के लिए हर तरह के वीजा पर रोक लगा दी गई थी।केंद्र सरकार ने अंतरराष्ट्रीय यात्रा पर कई अन्य तरह के प्रतिबंध भी लगा दिए थे ताकि कोविड-19 महामारी को फैलने से रोका जा सके। कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए विदेशी नागरिकों को बाद में भारत में प्रवेश के लिए पर्यटन वीजा के अलावा अन्य वीजा की अनुमति दे दी गई।बहरहाल, गृह मंत्रालय को विभिन्न राज्य सरकारों एवं संबंधित पक्षों से पर्यटन वीजा जारी करने का आग्रह प्राप्त हो रहा था ताकि विदेशी पर्यटक भारत आ सकें। बयान में बताया गया कि गृह मंत्रालय ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, नागर विमानन मंत्रालय, पर्यटन मंत्रालय एवं विभिन्न राज्य सरकारों से संपर्क किया, जहां विदेशी पर्यटकों के आने की संभावना है और इस पर निर्णय किया।रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटPunjab News : 'एक विधायक, एक पेंशन' योजना से कितने करोड़ की होगी बचत ? जानें, भगवंत मान ने क्या कहा****** पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने शनिवार को कहा कि 'एक विधायक, एक पेंशन' को लागू करने वाली अधिसूचना से न केवल राजनीतिक व्यवस्था में सुधार होगा, बल्कि उनकी पार्टी के मौजूदा कार्यकाल में लगभग 100 करोड़ रुपये की बचत होने की उम्मीद है। राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने 'एक विधायक, एक पेंशन' संशोधन की गजट अधिसूचना को मंजूरी दी।पेंशन सुविधा का पूरा बोझ करदाताओं पर पड़ता है-मानमुख्यमंत्री ने एक बयान में कहा कि इन नेताओं को दी जाने वाली पेंशन सुविधा का पूरा बोझ करदाताओं द्वारा वहन किया जाता है। उनके पैसे का दुरुपयोग इन नेताओं की जेब भरने के लिए किया जाता है, न कि जनकल्याण के लिए इस्तेमाल किया जाता है।उन्होंने कहा कि यह उनकी सरकार द्वारा महान स्वतंत्रता सेनानियों और भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के प्रतिष्ठित नायकों को भी विनम्र श्रद्धांजलि है, जिन्होंने समानता पर आधारित समाज बनाने के लिए राष्ट्र के लिए अपना जीवन लगा दिया।राजनीति में आने का मतलब लोगों की सेवा-मानमान ने कहा कि उनकी सरकार उनकी आकांक्षाओं को संजोने और राज्य के गौरव को बहाल करने के लिए हर संभव प्रयास करेगी। उन्होंने कहा, "राजनीति लोगों की सेवा है।" उन्होंने कहा कि विधायकों ने स्वेच्छा से लोगों की सेवा करने के लिए राजनीति में प्रवेश किया है और इस सेवा के बदले कई पेंशन का दावा करने की उनकी कोई नैतिक जिम्मेदारी नहीं है।क्या है एक विधायक-एक पेंशनइस कानून के मुताबिक, एक विधायक को सिर्फ उसके एक कार्यकाल के हिसाब से ही पेंशन दी जाएगी। अब इस बात का कोई फर्क नहीं पड़ेगा कि नेता ने कितनी बार विधायक का इलेक्शन लड़ा है। अब सिर्फ एक कार्यकाल की पेंशन का आधार बनेगा। इससे विधायकों की पेंशन पर होने वाले खर्च पर भी असर पड़ेगा।पहले कानून क्या था?पहले नियम ये था कि अगर किसी विधायक ने पांच बार चुनाव जीता है तो उस व्यक्ति को पांच बार के हिसाब से पेंशन मिलेगी। उदाहरण से समझिए..जैसेकि अगर एक बार विधायक बनने पर किसी नेता को 50 हजार रुपए पेंशन मिलती है तो 5 बार जीतने वाले विधायक को करीब ढाई लाख रुपये पेंशन दी जाती थी। लेकिन अब नए कानून से पुरानी व्यवस्था बंद हो जाएगी।

Gold Rate Today: 75 रुपए की तेजी के साथ सोना हुआ 33,195 रुपए/10 ग्राम, चांदी में आई गिरावट

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटDMK कर रही ओछी राजनीति, सहयोगात्मक संघवाद की भावना से नहीं कर रही काम: जेपी नड्डा****** भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शुक्रवार को तमिलनाडु के सत्तारूढ़ दल द्रविड मुनेत्र कषगम (DMK-Dravida Munnetra Kazhagam) पर करारा प्रहार करते हुए उस पर ओछी राजनीति करने, भ्रष्टाचार को वैध ठहराने और सहयोगात्मक संघवाद की भावना से काम नहीं करने का आरोप लगाया है। उन्होंने दावा किया कि यह बहुत ही दयनीय स्थिति है कि इस द्रविड़ दल के नेता आरोप-प्रत्यारोप का खेल खेल रहे हैं जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार एवं उनकी भाजपा विकास तथा समाज के सभी वर्गों के उत्थान में यकीन करती है।जेपी नड्डा ने यह संवाददाताओं से कहा कि बड़ी संख्या में महिलाओं, युवकों एवं अन्य वर्गों के लोगों के अलावा विभिन्न राजनीतिक दलों के लोग प्रधानमंत्री की विकासोन्मुखी नीतियों के समर्थन में भाजपा से जुड़ रहे हैं क्योंकि प्रधानमंत्री के दिल में तमिलनाडु के लिए खास स्थान है। उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहयोगात्मक संघवाद के सिद्धांतों में विश्वास करते हैं और हम यह सुनिश्चित करने के लिए प्रयासरत है कि तमिलनाडु में विकास कार्यों के लिए अधिकतम फंड आवंटित हो।’’भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा कि केंद्र ने राज्य में कई उल्लेखनीय विकास परियोजनाएं शुरू की हैं और उन्हें तेजी से आगे बढ़ा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन यहां मुझे यह कहते हुए खेद हैं कि द्रमुक सरकार ओछी राजनीति कर रही है। वह सहयोगात्मक संघवाद की भावना से काम नहीं कर रही है। वह बस आरोप-प्रत्यारोप में विश्वास करती है।’’ उन्होंने द्रमुक सरकार पर वंशवाद एवं भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटटोयोटा भारत में 2020 तक उतारेगी इलेक्ट्रिक वाहन, कंपनी के हर वाहन में मिलेगा बैटरी का विकल्‍प****** वैश्विक वाहन दिग्गज का लक्ष्य भारत समेत अन्य प्रमुख बाजारों में साल 2020 तक बैटरी इलेक्ट्रिक वाहनों (बीईवी) को लांच करने का है। कंपनी द्वारा सोमवार को जारी बयान में कहा गया है कि टोयोटा ने 2020-2030 के दशक में इलेक्ट्रिक वाहनों को लोकप्रिय बनाने की योजना बनाई है। बयान में कहा गया है कि टोयोटो का इलेक्ट्रिक वाहनों की रणनीति के केंद्र में हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन (एचईवी), प्लग इन हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन (पीएचईवी), बैटरी इलेक्ट्रिक वाहन (बीईवी), और फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक वाहन (एफसीईवी) का विकास करना और उसे बाजार में उतारना है।बयान में आगे कहा गया है, "टोयोटा साल 2020 की शुरुआत में दुनिया भर में 10 से ज्यादा बीईवी मॉडल लांच करेगी और उन्हें लोकप्रिय बनाएगी, जिसकी शुरुआत चीन से होगी। अन्य बाजारों में इसे धीरे-धीरे लांच किया जाएगा, जिसमें जापान, भारत, अमेरिका और यूरोप शामिल हैं।"कंपनी की योजना के मुताबिक, साल 2030 तक टोयोटा का लक्ष्य 55 लाख से अधिक इलेक्ट्रिक वाहनों को बेचने का है, जिसमें 10 लाख शून्य उत्सर्जन (बीईवी और एफसीईवी) वाहन शामिल होंगे। इसके अतिरिक्त साल 2025 तक टोयोटा और लेक्सस का दुनिया भर में हर मॉडल ऐसा होगा जिसमें इलेक्ट्रिक मॉडल का विकल्प होगा।

Gold Rate Today: 75 रुपए की तेजी के साथ सोना हुआ 33,195 रुपए/10 ग्राम, चांदी में आई गिरावट

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटMP News: मुस्लिम युवकों की दाढ़ी काटने पर भड़के ओवैसी, पूछा- बीजेपी वालों के साथ ऐसा हो सकता है?******Highlights मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले में एक अपराध के लिए गिरफ्तार किए गए मुस्लिम समुदाय के पांच लोगों ने आरोप लगाया है कि जेल के एक अधिकारी ने उन्हें अपनी दाढ़ी कटवाने के लिए मजबूर किया, जिसके बाद प्रदेश के जेल विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी को मामले की जांच करने के लिए कहा है। भोपाल मध्य से कांग्रेस के विधायक आरिफ मसूद ने आरोप लगाया कि जेल में इन लोगों के साथ दुर्व्यवहार किया गया।वहीं, आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने दावा किया, यह हिरासत में यातना का कृत्य है। इस बीच, भोपाल मध्य से कांग्रेस के विधायक आरिफ मसूद ने पांच लोगों के साथ प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से मुलाकात की। राजगढ़ जिले में पांच लोगों- कलीम खान, तालिब खान, आरिफ खान, सलमान खान और वाहिद खान को 13 सितंबर को भादंवि की धारा 151 (सार्वजनिक शांति भंग) के तहत गिरफ्तार कर जिला जेल भेज दिया गया और उन्हें 15 सितंबर को रिहा किया गया।मसूद ने जेल अधिकारियों पर आरोप लगाया कि उन्होंने पांच लोगों को दाढ़ी बनाने के लिए मजबूर किया और जेल अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि जेल में इन लोगों के साथ दुर्व्यवहार भी किया गया। मसूद ने कहा कि मिश्रा ने उन्हें मामले में कार्रवाई का आश्वासन दिया है। राजगढ़ के जिला जेलर एस एन राणा ने अपने खिलाफ लगे आरोपों पर कहा कि संभावना हो सकती है कि उनकी दाढ़ी उनके अपने अनुरोध पर काटी गई हो, क्योंकि जेल में इस तरह की व्यवस्था है।उन्होंने कहा कि जेल में सभी को अपनी आस्था और आस्था के अनुसार दाढ़ी व बाल रखने की आजादी है। दाढ़ी वाले आठ से दस मुस्लिम कैदी पहले से ही जेल में बंद हैं। मामले की जांच कर रहे जेल उप महानिरीक्षक (डीआईजी) एम आर पटेल ने कहा कि अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है, क्योंकि जांच चल रही है और जांच पूरी होने के बाद ही जानकारी साझा की जाएगी।इस बीच, AIMIM प्रमुख ओवैसी ने अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किए गए एक वीडियो में दावा किया कि यह हिरासत में यातना का कृत्य है। उन्होंने कहा कि उन लोगों को भादंवि की धारा के तहत थाने में ही जमानत दी जा सकती थी, लेकिन उन पर मामला दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया गया। उन्होंने पूछा, "दाढ़ी वाले पुरुषों को पाकिस्तानी क्यों कहा जाता है।" उन्होंने जानना चाहा कि क्या दाढ़ी वाले बीजेपी के लोगों के साथ ऐसा किया जा सकता है।

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटXiaomi ने चीन में लॉन्‍च किए Redmi 4, 4A और 4 Prime स्‍मार्टफोन, संभावित कीमत 4900 रुपए से शुरू****** चाइनीज टेक्‍नोलॉजी कंपनी Xiaomi ने अपनी बहुप्रतीक्षित स्‍मार्टफोन सीरीज Redmi 4 को लॉन्‍च कर दिया है। कंपनी ने इस फोन को फिलहाल अपने घरेलू बाजार यानि कि चीन में लॉन्‍च किया है।बीजिंग में हुए लॉन्‍चिंग कार्यक्रम में Xiaomi ने Redmi 4 सीरीज के तीन फोन उतारे हैं। इसमें Redmi 4 के अलावा Redmi 4A और Redmi 4 प्राइम वेरिएंट (Redmi 4 प्रो एडिशन) भी पेश किया।samsung dual screen phoneXiaomi Redmi 4 की कीमत 699 युआन (करीब 6,900 रुपये) और Redmi 4 प्राइम की कीमत 899 (8,900 रुपये) है। इस सीरीज का सबसे सस्‍ता फोन Redmi 4A है, जिसकी कीमत 499 युआन यानि कि 4900 रुपए है।रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटदिल्ली वालों को बिजली बिल पर मिलेगा 4000 रुपए का कैशबैक, BSES और Paytm का करार****** देश की राजधानी दिल्ली में बिजली के बिल पहले ही कम है और अब दिल्ली वालों के लिए एक और योजना आई है जिसके तहत वह अपने बिल पर 4000 रुपए तक का कैशबैक प्राप्त कर सकते हैं। दिल्ली में बिजली की सप्लाई करने वाली कंपनी ने सभी ग्राहकों को कैशबैक के बारे में संदेश भेजना शुरू कर दिया है। कैशबैक के लिए BSES और मोबाइल वॉलेट चलाने वाली कंपनी Paytm के बीच करार हुआ है। इस योजना के तहत दिल्ली में और के ग्राहकों को फायदा दिया जा रहा है। योजना के तहत अगर ग्राहक मार्च और अप्रैल के बिल का भुगतान 31 मार्च से पहले करते हैं तो उनको हर महीने के बिल पर अधिकतम 2000-2000 रुपए तक का कैशबैक मिलेगा। यानि दो बिलों पर अधिकतम 4000 रुपए तक का कैशबैक मिल सकता है।कैशबैक हासिल करने के लिए बिल भरते समय BSES 2000 प्रोमो कोड का इस्तेमाल करना होगा, एक ग्राहक इस कोड का इस्तेमाल अधिकतम 2 बार ही कर सकता है। कम से कम 100 रुपए तक का बिल कैशबैक के लिए मान्य होगा। हालांकि 100 रुपए के बिल पर 2000 रुपए कैशबैक नहीं होगा बल्कि 2000 रुपए तक का कैशबैक ज्यादा राशि वाले बिजली बिलों पर दिया जाएगा। बिल का भुगतान होने के 24 घंटे के अंदर कैशबैक ग्राहक के Paytm वॉलेट में आ जाएगा।

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटबजट से पहले आई खुशखबरी, बिना सब्सिडी वाला LPG सिलेंडर हुआ 30 रुपए सस्‍ता******LPG Priceबजट से पहले आम जनता को राहत मिली है। देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने गुरुवार को की नई संशोधित दरों की घोषणा की है। आईओसी ने कहा है कि सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत 1.46 रुपए प्रति सिलेंडर और बिना सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत 30 रुपए घट गई है। आईओसी ने अपने एक बयान में कहा है कि दिल्‍ली में एक फरवरी 2019 से बिना सब्सिडी वाले एलजीपी सिलेंडर की कीमत 30 रुपए घट जाएगी। कंपनी ने कहा कि अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में एलपीजी की कीमत घटने और डॉलर-रुपए विनिमय दर के मजबूत होने से रसोई गैस की कीमतों में यह कमी आई है।नए संशोधन के बाद, दिल्‍ली में बिना सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत घटकर 659 रुपए होगी, जो कि पहले 689 रुपए प्रति सिलेंडर थी। इसी प्रकार सब्सिडी वाले एलपीजी सि‍लेंडर की कीमत 493.53 रुपए प्रति सिलेंडर होगी, जो कि जनवरी में 494.99 रुपए थी।सब्सिडी वाले सिलेंडर की शेष कीमत (165.47 रुपए प्रति सिलेंडर) का वहन सब्सिडी के रूप में केंद्र सरकार द्वारा किया जाएगा और सिलेंडर खरीदने और उसकी आपूर्ति होने के बाद यह सब्सिडी उपभोक्‍ता के बैंक एकाउंट में जमा की जाएगी।रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावट60 लाख की गाड़ी में बांधा डस्टबिन और निकल पड़े स्वच्छ भारत मिशन पर****** से जुड़ी आपने कई नज़ारे और तस्वीरें देखी होंगी लेकिन क्या आपने देखा है कि कोई साठ लाख की कार में डस्टबिन बांधकर चले..? जी हां, जोधपुर में स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों ने ऑडी समेत 30 गाड़ियों में डस्टबिन लगाया है ताकि कूड़ा बाहर फेंकने की बजाय कूड़ेदान में फेंका जाए। स्वच्छ भारत मिशन को लेकर शुरू हुई इस अनोखी पहल से कई लोग जुड़ रहे हैं..एक-.दो नहीं ऐसी तीस गाड़ियां जब रोज़ कचरा लेकर निकलती है तो हर कोई हैरान रह जाता है। साफ-सफाई रखना और कचरा उठाना कोई बुरा काम नहीं है ये बताने के लिए ऑडी जैसी महंगी कारों के पीछे डस्टबिन बांधा गया है। इस मुहिम की शुरुआत जोधपुर के कमला नेहरू नगर में रहने वाले मोहम्मद युसूफ ने की है... मोहम्मद युसूफ पीएम मोदी के स्वच्छ भारत मिशन से जुड़े हैं। इसी मिशन को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने अपनी गाड़ी में डस्टबिन लगाया जिसमें वो अपने घर के कूड़े के साथ रास्ते में पड़े कूड़े को भी उठाते थे और कचरे को डबिंग ग्राउंड तक फेंकते थे।गाड़ी के पीछे डस्टबिन लगाकर चलने के इस तरीके को लोग पहले अलग ढंग से देखते थे लेकिन जब उन्होंने लोगों को बताया कि कूड़ा-कचरा सिर्फ शहर को ही गंदा नहीं कर रहा बल्कि बीमार भी बना रहा है तो लोग उनकी पहल की सराहना करने लगे और धीरे-धीरे उनके साथ जुड़ने लगे। इसी तरह अब लोग अपनी गाड़ियों के पीछे डस्टबिन बांधकर निकलने लगे जिसमें डॉक्टर से लेकर बिजनेसमैन तक शामिल हैं। उनका कहना है कि उनके एक कदम से अगर शहर की तस्वीर बदल सकती है।

रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटMP News: जबलपुर में ईसाई धर्म गुरु के यहां EOW का छापा, डेढ़ करोड़ से ज्यादा कैश और विदेशी करेंसी मिली******Highlightsमध्य प्रदेश के जबलपुर में आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (EOW) ने द बोर्ड ऑफ एज्युकेशन चर्च ऑफ नार्थ इंडिया जबलपुर डायसिस के बिशप पी सी सिंह के घर और कार्यालय पर दबिश में डेढ़ करोड़ से ज्यादा की नगदी और विदेशी मुद्रा भी मिली है। नोटों की गिनती के लिए तो मशीन तक बुलानी पड़ी। EOW से मिली जानकारी के अनुसार पी सी सिंह के खिलाफ शिकायत आई थी इसमें आरोप था कि कूट रचित दस्तावेजों के आधार पर उन्होंने मूल सोसाइटी का नाम बदल लिया है और खुद चेयरमैन बन गए। इसके साथ पद का दुरुपयोग किया और उन्होंने शैक्षणिक संस्थाओं से प्राप्त होने वाले छात्रों की फीस की राशि का उपयोग धार्मिक संस्थाओं को चलाने और स्वयं के उपयोग में लगा कर गबन किया है।छापे में कार और सोना की ज्वेलरी के साथ 18 हजार यूएस डॉलर मिलेEOW ने शिकायत की जांच कर आरोपों की पुष्टि के बाद बिशप पी सी सिंह के निवास और कार्यालय पर दबिश दी, इस दबिश के दौरान बड़ी तादाद में नगदी मिली, इसकी गिनती के लिए मषीन भी बुलाई गई, उनके नेपियर टाउन के आवास और कार्यालय से डेढ़ करोड़ से ज्यादा की नगदी इसके अलावा 18 हजार यूएस डॉलर और कई कार व सोने की ज्वेलरी मिली है। EOW की जांच में पता चला है कि विषप पी सी ने शैक्षणिक संस्थाओं से वर्ष 2004-05 से 11-12 के बीच करीब दो करोड़ से ज्यादा की राशि धार्मिक संस्थाओं को ट्रांसफर की साथ ही स्वयं उपयोग में ले कर उक्त राशि का दुरुपयोग किया।रुपएकीतेजीकेसाथसोनाहुआ33195रुपए10ग्रामचांदीमेंआईगिरावटIND vs ZIM ODI Live Streaming: कब, कहां और कैसे देख पाएंगे भारत और जिम्बाब्वे के वनडे मुकाबले, यहां जानिए सबकुछ******Highlightsभारतीय क्रिकेट टीम जिम्बाब्वे के दौरे पर तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलने पहुंच गई है। सीरीज का पहला मुकाबला 18 अगस्त गुरुवार को खेला जाएगा। इस सीरीज के लिए पहले शिखर धवन को भारतीय टीम की कप्तानी सौंपी गई थी लेकिन केएल राहुल के फिट होने के बाद धवन को उपकप्तान और राहुल को कप्तान नियुक्त किया गया। भारतीय टीम का 2016 के बाद यह पहला जिम्बाब्वे का दौरा है। पिछले दौरे पर टीम इंडिया ने वनडे सीरीज 3-0 और टी20 सीरीज 2-1 से यहां अपने नाम की थी।भारत और जिम्बाब्वे के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज के मुकाबले 18, 20 और 22 अगस्त को खेले जाएंगे।इस सीरीज के तीनों मैच जिम्बाब्वे के हरारे स्थित हरारे स्पोर्ट्स क्लब में खेले जाएंगे।भारत और जिम्बाब्वे के बीच खेली जाने वाली एकदिवसीय मैचों की सीरीज का लाइव टेलीकास्ट सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क पर होगा। साथ ही इस सीरीज की लाइव स्ट्रीमिंग सोनी लिव ऐप और उसकी वेबसाइट पर उपलब्ध होगी। साथ ही जिम्बाब्वे में सुपरस्पोर्ट टीवी वनडे सीरीज के मुकाबलों का लाइव प्रसारण करेगा। इसके अलावा अन्य सभी ताजा अपडेट्स और स्कोरकार्ड वगैरह के लिए आप के साथ भी जुड़े रह सकते हैं। केएल राहुल (कप्तान), शिखर धवन (उप-कप्तान), रुतुराज गायकवाड़, शुभमन गिल, दीपक हुड्डा, राहुल त्रिपाठी, ईशान किशन (विकेटकीपर), संजू सैमसन (विकेटकीपर), शार्दुल ठाकुर, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, आवेश खान, प्रसिद्ध कृष्णा, मोहम्मद सिराज, दीपक चाहर। रयान बर्ल, रेजिस चकबावा (कप्तान), तनाका चिवांगा, ब्रैडली इवांस, ल्यूक जोंगवे, इनोसेंट काया, ताकुदज़्वानाशे कैटानो, क्लाइव मडांडे, वेस्ली मधेवेरे, तदीवानाशे मारुमनी, जॉन मसारा, टोनी मुन्योन्गा, विक्टर न्याराउची, विक्टर न्याराउची, सिकंदर रज़ा, मिल्टन शुम्बा, डोनाल्ड तिरिपानो।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:49
उद्धरण 1 इमारत
संयुक्त किसान मोर्चा ने पीएम मोदी को लिखा खुला पत्र, आंदोलन कर रहे किसानों ने 6 मांगों की सूची रखी******Highlights संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुला पत्र लिखा है। आंदोलनरत किसानों की छह मांगें रखीं हैं। प्रधानमंत्री को लिखे खुले पत्र में संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि सरकार को तुरंत किसानों से वार्ता बहाल करनी चाहिए, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। प्रधानमंत्री को लिखे खुले पत्र में एसकेएम ने कहा कि आपके संबोधन में किसानों की प्रमुख मांगों पर ठोस घोषणा की कमी के कारण किसान निराश हैं। कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ आंदोलन के दौरान किसानों के खिलाफ दर्ज मामले तुरंत वापस लिए जाने चाहिए। कृषि कानून विरोधी आंदोलन के दौरान जिन किसानों की मौत हुई, उनके परिवार को पुनर्वास सहायता, मुआवजा मिलना चाहिए।देश के करोड़ों किसानों ने 19 नवंबर 2021 की सुबह राष्ट्र के नाम आपका संदेश सुना। हमने गौर किया कि 11 राउंड वार्ता के बाद आपने द्विपक्षीय समाधान की बजाय एकतरफा घोषणा का रास्ता चुना, लेकिन हमें खुशी है कि आपने तीनों को वापस लेने की घोषणा की है। हम इस घोषणा का स्वागत करते हैं और उम्मीद करते हैं कि आपकी सरकार इस वचन को जल्द से जल्द और पूरी तरह निभाएगी।प्रधानमंत्री जी, आप भली-भांति जानते हैं कि तीन काले कानूनों को रद्द करना इस आंदोलन की एकमात्र मांग नहीं है। संयुक्त किसान मोर्चा ने सरकार के साथ वार्ता की शुरुआत से ही तीन और मांगें उठाई थी:1. खेती की संपूर्ण लागत पर आधारित (C2+50%) न्यूनतम समर्थन मूल्य को सभी कृषि उपज के ऊपर, सभी किसानों का कानूनी हक बना दिया जाए, ताकि देश के हर किसान को अपनी पूरी फसल पर कम से कम सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद की गारंटी हो सके। (स्वयं आपकी अध्यक्षता में बनी समिति ने 2011 में तत्कालीन प्रधानमंत्री को यह सिफारिश दी थी और आपकी सरकार ने संसद में भी इसके बारे में घोषणा भी की थी)2. सरकार द्वारा प्रस्तावित "विद्युत अधिनियम संशोधन विधेयक, 2020/2021" का ड्राफ्ट वापस लिया जाए (वार्ता के दौरान सरकार ने वादा किया था कि इसे वापस लिया जाएगा, लेकिन फिर वादाखिलाफी करते हुए इसे संसद की कार्यसूची में शामिल किया गया था)3. "राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और इससे जुड़े क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन के लिए आयोग अधिनियम, 2021" में किसानों को सजा देने के प्रावधान हटाए जाए ( इस साल सरकार ने कुछ किसान विरोधी प्रावधान तो हटा दिए, लेकिन सेक्शन 15 के माध्यम से फिर किसान को सजा की गुंजाइश बना दी गई है)आपके संबोधन में इन बड़ी मांगों पर ठोस घोषणा न होने से किसानों को निराशा हुई है। किसान ने उम्मीद लगाई थी कि इस ऐतिहासिक आंदोलन से न सिर्फ तीन कानूनों की बला टलेगी, बल्कि उसे अपनी मेहनत के दाम की कानूनी गारंटी भी मिलेगी। जी, पिछले एक वर्ष में इस ऐतिहासिक आंदोलन के दौरान कुछ और मुद्दे भी उठे हैं जिनका तत्काल निपटारा करना अनिवार्य है:4. दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश और अनेक राज्यों में हजारों किसानों को इस आंदोलन के दौरान (जून 2020 से अब तक) सैकड़ों मुकदमों में फंसाया गया है। इन केसों को तत्काल वापस लिया जाए।5. लखीमपुर खीरी हत्याकांड के सूत्रधार और सेक्शन 120B के अभियुक्त अजय मिश्रा टेनी आज खुले घूम रहे हैं और आपके मंत्रिमंडल में मंत्री बने हुए हैं। वह आपके और अन्य वरिष्ठ मंत्रियों के साथ मंच भी साझा कर रहे हैं, उन्हें बर्खास्त और गिरफ्तार किया जाए।6. इस आंदोलन के दौरान अब तक लगभग 700 किसान शहादत दे चुके हैं। उनके परिवारों के मुआवजे और पुनर्वास की व्यवस्था हो। शहीद किसानों स्मृति में एक शहीद स्मारक बनाने के लिए सिंधू बॉर्डर पर जमीन दी जाए।प्रधानमंत्री जी, आपने किसानों से अपील की है कि अब हम घर वापस चले जाए. हम आपको यकीन दिलाना चाहते हैं कि हमें सड़क पर बैठने का शौक नहीं है। हम भी चाहते हैं कि जल्द से जल्द इन बाकी मुद्दों का निपटारा कर हम अपने घर, परिवार और खेती बाड़ी में वापस लौटे. अगर आप भी यही चाहते हैं तो सरकार उपरोक्त छह मुद्दों पर अविलंब संयुक्त किसान मोर्चा के साथ वार्ता शुरू करे, तब तक संयुक्त किसान मोर्चा अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक इस आंदोलन को जारी रखेगा।
2022-10-01 04:53
उद्धरण 2 इमारत
कोडक बाजार में पेश करेगा इंटेलिजेंट टीवी, भारत में निर्माण क्षमता बढ़ाने को करेगा 300 करोड़ का निवेश******कोडक बाजार में पेश करेगा इंटेलिजेंट टीवी, भारत में निर्माण क्षमता बढ़ाने को करेगा 300 करोड़ का निवेश कोडक टीवी इंडिया ने मंगलवार को आईओटी टेक्नोलॉजी में अपनी बेहतर पकड़ बनाने के लिए अगले तीन वर्षो में 300 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश की घोषणा की है। कंपनी ने अपने एक बयान में कहा, आईओटी टेक्न ोलॉजी में निवेश के माध्यम से इंटेलिजेंट टीवी के निर्माण पर ध्यान केन्द्रित कर नए भारतीय उपभोक्ताओं की मांगों को पूरा किया जाएगा।भारत में कोडक ब्रांड के लाइसेंसधारी सुपर प्लेसट्रोनिक्स प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ और निदेशक अवनीत सिंह मारवाह ने कहा, "साल 2020 में हमने 500 करोड़ रुपये के निवेश के साथ अपनी विनिर्माण क्षमता और बाजार में अपनी उपस्थिति बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किया। अब हम आईओटी के क्षेत्र में अपने निवेश का विस्तार करेंगे ताकि हम इससे संबंधित अन्य ब्रांड्स के साथ अपनी प्रतिस्पर्धा को जारी रख सके। इस नए निवेश के साथ हमें विश्वास है कि 2021 के अंत तक बाजार में हमारी हिस्सेदारी 10 प्रतिशत से अधिक होगी।"बयान में आगे कहा गया, कोरोनाकाल में टीवी देखने की परिभाषा बदल गई है। नए दर्शकों का विकास हुआ है। यह अनुमान लगाया गया है कि साल 2023 तक भारतीय बाजार में दस लाख से अधिक स्मार्ट होम डिवाइस होंगे। इस नए निवेश के माध्यम से लोगों में वर्क-फ्रॉम-होम की जरूरतों के लिए वन स्टॉप प्लेटफॉर्म बनने में कोडक की मदद की जाएगी।
2022-10-01 04:51
उद्धरण 3 इमारत
Rishi Kapoor को याद कर इमोशनल हुईं Neetu Kapoor, जन्मदिन पर शेयर की Throwback Photo******Highlightsबॉलीवुड एक्ट्रेस नीतू कपूर (Neetu Kapoor) आज काफी इमोशनल हैं। आज उनके दिवंगत पति और दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) का 70वां जन्मदिन है। इस मौके पर नीतू कपूर ने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर शेयर की है। दिग्गज अभिनेता का 2020 में कैंसर से लंबी लड़ाई के बाद निधन हो गया था। इस तस्वीर में ऋषि कपूर ने ओवरसाइज़्ड चश्मा पहना हुआ है और दोनों ब्लैक कलर की टीशर्ट में ट्विनिंग कर रहे हैं और दोनों ही सेलिब्रेशन मूड में नजर आ रहे हैं।नीतू कपूर (Neetu Kapoor) ने अपनी पोस्ट को कैप्शन दिया, "जन्मदिन मुबारक हो" इसके साथ एक दिल वाला इमोजी भी एड किया है। इस पोस्ट पर नीतू की समधन और आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने तीन दिल बनाकर रिएक्शन दिया है। जबकि अन्य फैंस ने भी अपने फेवरेट स्टार को याद किया। एक फेन ने लिखा, "राजा को जन्मदिन मुबारक हो..." और एक अन्य ने लिखा, "जन्मदिन मुबारक हो सर, आप जहां भी हों खुश रहें..." एक तीसरे प्रशंसक ने लिखा, "इसी तरह प्यार करो..."आपको बता दें कि ऋषि कपूर और नीतू कपूर ने 40 साल से ज्यादा साथ बिताए थे। अपनी शादी के बाद, 70 के दशक की उभरती हुई स्टार नीतू कपूर ने फिल्मों में काम नहीं किया। नीतू कपूर और ऋषि कपूर की जोड़ी को बॉलीवुड की मोस्ट रोमांटिक ऑन स्क्रीन और ऑफ स्क्रीन जोड़ियों में गिना जाता रहा है। दोनों ने कई सुपरहिट फिल्मों में एक साथ काम किया है।हाल ही में, नीतू कपूर ने फैमिली ड्रामा 'जुग जुग जीयो' के साथ फिल्मों में वापसी की है। वह फिल्म में अनिल कपूर की पत्नी के किरदार में हैं। उनके साथ फिल्म में वरुण धवन, कियारा आडवाणी, मनीष पॉल और प्राजक्ता कोली सहित कई स्टार शामिल थे। फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर सफलता हासिल हुई।
वापसी