नई पोस्ट करें

Reliance Jio और airtel ग्राहकों को मिलेगा फायदा, कंपनियों ने अतिरिक्‍त स्‍पेक्‍ट्रम लगाया

2022-10-01 06:20:10 003

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाUttar Pradesh: यूपी पुलिस ने नोएडा में पकड़ी गाजें की बड़ी खेप, 2 तस्कर गिरफ्तार******HighlightsUttar Pradesh: उत्तर प्रदेश पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। गौतमबुद्ध नगर जिले की दादरी थाना पुलिस ने शुक्रवार सुबह एक सूचना के आधार पर दो शातिर गाजा तस्करों को गिरफ्तार कर उनके पास से 2.10 क्विंटल गांजा(Ganja) बरामद किया। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी।दो गांजा तस्करों को गिरफ्तार कियाउन्होंने बताया कि बरामद गांजा की कीमत लाखों रुपये आंकी गई है। दादरी थाना के प्रभारी निरीक्षक राकेश कुमार सिंह ने बताया कि शुक्रवार सुबह एक सूचना के आधार पर थाना पुलिस ने दीपक और शहजाद नाम के दो गांजा तस्करों को गिरफ्तार किया। इसे यूपी पुलिस की बड़ी सफलता माना जा रहा है।कार में भरकर ले जाया जा रहा 2.10 क्विंटल गांजासिंह के मुताबिक, दीपक और शहजाद के पास से कार में भरकर ले जाया जा रहा 2.10 क्विंटल गांजा बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि बरामद गांजा की कीमत लाखों रुपये है। थाना प्रभारी के अनुसार, दीपक और शहजाद के दो साथी फरार हैं और पुलिस उनकी तलाश कर रही है।इससे पहले भी पुलिस ने पकड़ी थी बड़ी खेपउत्तर प्रदेश पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स (STF) की नोएडा यूनिट ने मथुरा पुलिस के सहयोग से जिले के मगोर्रा थाना क्षेत्र में करीब 4 करोड़ रुपये कीमत का गांजा बरामद किया गया था। इस मामले में 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने बताया कि नोएडा एसटीएफ और मथुरा पुलिस ने ओडिशा से चावल की भूसी की बोरियों के बीच छिपाकर ले जाई जा रहीं 36 बोरियों में रखा चार करोड़ रुपये मूल्य का 15.16 क्विंटल गांजा बरामद किया था। पुलिस ने इस मामले में ट्रक चालक सहित कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया था।नोएडा एसटीएफ प्रभारी अक्षय प्रवीण त्यागी ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि ओडिशा से गांजे की एक बड़ी खेप मथुरा के रास्ते भरतपुर की ओर बोरियों में छिपाकर ले जाई जा रही है। उन्होंने मथुरा पुलिस की मदद से ट्रक को मगोर्रा थाना क्षेत्र में मथुरा-भरतपुर रोड पर रोक लिया और इसमें चावल की भूसी की बोरियों के बीच छिपाई गईं 36 बोरियों से करीब 15 क्विंटल गांजा बरामद किया।

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाखेल रत्न पुरस्कार के लिए चयन समिति ने रोहित शर्मा समेत 4 खिलाड़ियों की सिफारिश की******क्रिकेटर रोहित शर्मा और पहलवान विनेश फोगाट सहित चार खिलाड़ियों को पुरस्कार चयन समिति ने राजीव गांधी खेल रत्न के लिए चुना है।पुरस्कार चयन समिति ने टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा और पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता मरियप्पन थंगावेलु के नाम की सिफारिश भी खेल रत्न के लिए की।साल 2016 के बाद यह दूसरी बार है जब देश के सर्वोच्च खेल सम्मान के लिए चार एथलीटों को अंतिम रूप दिया गया है। वीरेंद्र सहवाग और पूर्व हॉकी कप्तान सरदार सिंह की समिति ने भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) मुख्यालय में आयोजित बैठक में इन खिलाड़ियों का चुनाव किया।खेल रत्न के लिए जिन 4 खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश की गई है उन पर अब खेल मंत्रालय अंतिम मुहर लगाएगा। इसके बाद 29 अगस्त को खेल दिवस के दिन राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद खेल रत्न के अलावा अन्य खेल पुरस्कार प्रदान करेंगे।रोहित ने पिछले कुछ सालों में बल्ले से कमाल का प्रदर्शन करते हुए कई बड़ी उपलब्धियां हासिल की है। वहीं, विनेश ने 2018 के कॉमनवेल्थ और एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल अपने नाम किया जबकि 2019 के एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में उन्होंने कांस्य पदक अपनी झोली में डाला है।महिला टेबल टेनिस स्टार मानिका ने 2018 गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में दो गोल्ड जीते थे। वहीं, 2018 एशियाई खेलों में भी वो कांस्य पदक अपने नाम कर चुकी हैं। हालांकि उनका अभी टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करना बाकी है।दूसरी तरफ मरियप्पन थंगावेलु ने 2016 के रियो पैरालिंपिक में T42 हाई जंप में गोल्ड मेडल जीता था। बता दें, साल 2016 में, स्टार शटलर पीवी सिंधु, जिमनास्ट दीपा करमाकर, शूटर जीतू राय, और पहलवान साक्षी मलिक को सामूहिक रूप से खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाReliance Jio यूजर्स को लगा बड़ा झटका, अन्‍य मोबाइल नेटवर्क पर कॉल करने के लिए देना होगा 6 पैसा/मिनट का शुल्‍क******Jio to charge users 6 paisa/min for voice calls made to rival phone networks कॉल टर्मिनेशन चार्ज को खत्‍म किए जाने को लेकर ट्राई की समीक्षा में हो रही देरी के बीच अरबपति मुकेश अंबानी की टेलीकॉम कंपनी ने बुधवार को अपने उपभोक्‍ताओं से वॉयस कॉल के लिए 6 पैसा प्रति मिनट की दर से शुल्‍क लेने की घोषणा की है। जियो नेटवर्क से अन्‍य नेटवर्क पर किए जाने वाले कॉल के लिए यह शुल्‍क लागू होगा। जियो ने कहा है कि वह वॉयस कॉल शुल्‍क की भरपाई उतने ही कीमत का मुफ्त डाटा देकर करेगी। जियो ने अपने एक बयान में कहा है कि वह अब अन्य कंपनियों के नेटवर्क पर कॉल के लिए छह पैसे प्रति मिनट का शुल्क लेगी, इसकी भरपाई मुफ्त डाटा देकर की जाएगी। जियो यूजर्स द्वारा अन्‍य जियो फोन और लैंडलाइन पर किए जाने वाले कॉल पर यह शुल्‍क लागू नहीं होगा। इसी प्रकार व्‍हाट्सएप, फेस टाइम और अन्‍य ऐसे प्‍लेटफॉर्म के जरिये किए जाने वाले कॉल पर भी यह शुल्‍क लागू नहीं होगा। सभी नेटवर्क से आने वाले इनकमिंग कॉल पहले की तरह ही मुफ्त बने रहेंगे।टेलीकॉम नियामक ट्राई ने 2017 में इंटरकनेक्‍ट यूसेज चार्ज (आईयूसी) को 14 पैसे से घटाकर 6 पैसा प्रति मिनट कर दिया था और कहा था कि यह शुल्‍क जनवरी 2020 तक पूरी तरह से खत्‍म कर दिया जाएगा। लेकिन अब ट्राई ने परामर्श पत्र जारी कर प्रतिभागियों से यह पूछा है कि क्‍या इस समय सीमा को आगे बढ़ाने की जरूरत है।अभी तक जियो नेटवर्क पर वॉयस कॉल फ्री थी इस वजह से जियो को अपनी प्रतिस्‍पर्धी कंपनियों जैसे भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया को 13,500 करोड़ रुपए का भुगतान करना पड़ा है। ट्राई के इस कदम से होने वाले नुकसान से बचने के लिए जियो ने अन्‍य नेटवर्क पर किए जाने वाले प्रत्‍येक कॉल के लिए 6 पैसा प्रति मिनट की दर से शुल्‍क वसूलने का निर्णय लिया है।बुधवार से जियो उपभोक्‍ताओं द्वारा किए जाने वाले सभी रिचार्ज पर अन्‍य मोबाइल नेटवर्क पर किए जाने वाले कॉल के लिए 6 पैसा प्रति मिनट की दर से शुल्‍क देय होगा और यह शुल्‍क तब तक जारी रहेगा जब तक ट्राई आईयूसी शुल्‍क को खत्‍म नहीं कर देता।जियो ने कहा है कि वह उपभोक्‍ता द्वारा उपयोग किए गए आईयूसी टॉप-अप वाउचर की कीमत के बराबर का अतिरक्ति डाटा मुफ्त में उपलब्‍ध कराकर इसकी भरपाई करेगी। जियो ने कहा कि पिछले तीन सालों में उसने अन्‍य मोबाइल ऑपरेटर्स जैसे एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया को लगभग 13,500 करोड़ रुपए का आईयूसी शुल्‍क के रूप में भुगतान किया है।

Reliance Jio और airtel ग्राहकों को मिलेगा फायदा, कंपनियों ने अतिरिक्‍त स्‍पेक्‍ट्रम लगाया

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाInstagram Update: सिद्धार्थ शुक्ला ने नई तस्वीरें की शेयर, प्रियंका चोपड़ा की पूल के पास की ये तस्वीर हुई वायरल******बॉलीवुड और टीवी हस्तियां सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर काफी एक्टिव रहती हैं। वो ना सिर्फ खुद से जुड़ी अपडेट देते हैं, बल्कि उनके द्वारा शेयर की गई तस्वीरें देखते ही देखते इंटरनेट पर वायरल हो जाती हैं। प्रियंका चोपड़ा आज अपना बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। उन्होंने अपनी एक लेटेस्ट फोटो शेयर की है, जो फैंस को खूब पसंद आ रही है। देखिए अन्य सेलेब्स के भी इंस्टाग्राम पोस्ट।प्रियंका चोपड़ा इस तस्वीर में सनबाथ (धूप सेंकना) लेती दिखाई दे रही हैं। वो बेहद स्टनिंग लग रही हैं।वहीं, हिना खान ने अपनी बहुत प्यारी तस्वीरें इंस्टाग्राम पर साझा की हैं।विक्की कौशल ने इंस्टाग्राम पर अपनी एक फोटो शेयर की है और उनके हाथ मे गणपति बप्पा की पेंटिंग है, जो उन्होंने खुद बनाई है।राहुल वैद्य और दिशा परमार की पोस्ट वेडिंग पार्टी की फोटोज सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। विकास गुप्ता ने सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें साझा की हैं।अंकिता लोखंडे इंस्टाग्राम पर काफी एक्टिव रहती हैं। उन्होंने लाल रंग की ड्रेस में फोटोशूट कराया है। वो इस लुक में गॉर्जियस लग रही हैं। उनकी फोटोज फैंस को काफी पसंद आ रही है।जैसा कि सभी जानते हैं कि जैकलीन फर्नांडिस को जानवरों से बहुत लगाव है। उन्होंने इंस्टाग्राम पर घोड़े को चारा खिलाते हुए अपनी फोटो साझा की है। साथ ही कैप्शन में लिखा है- Thor।पॉपुलर एक्ट्रेस जेनिफर विंगेट इंस्टाग्राम पर भले ही ज्यादा एक्टिव नहीं रहती हैं, लेकिन वो जब अपनी तस्वीर साझा करती हैं, वो देखते ही देखते वायरल हो जाती है। देखिए उनका नया पोस्ट।'बिग बॉस सीजन 13' के विनर सिद्धार्थ शुक्ला ने इंस्टाग्राम पर अलग अलग पोज में तस्वीरें शेयर की हैं। इन तस्वीरों को शेयर करते हुए अभिनेता ने लिखा- 'नो कैप्शन।'शिल्पा शेट्टी ने बेटे विवान का एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में विवानऔरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाMargashirsha Purnima 2020: साल की आखिरी मार्गशीर्ष पूर्णिमा, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा विधि******मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा तिथि को मार्गशीर्ष पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है। इस पूर्णिमा को अगहन पूर्णिमा भी कहा जाता है। आचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार किसी भी महीने की पूर्णिमा के दिन जो नक्षत्र पड़ता है, उसी के आधार पर पूर्णिमा का नाम भी रखा जाता है। चूंकि इस पूर्णिमा पर मृगशीर्ष या मृगशिरा नक्षत्र पड़ता है, इसलिए इस पूर्णिमा को मार्गशीर्ष पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है। के खास मौके पर मृगशिरा नक्षत्र शाम 5 बजकर 32 मिनट तक रहेगा। मार्गशीर्ष पूर्णिमा का धार्मिक दृष्टि से बहुत ही महत्व है। वैसे तो किसी भी पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु की पूजा का महत्व है, लेकिन मार्गशीर्ष के दौरान भगवान विष्णु के कृष्ण स्वरूप की पूजा का अधिक महत्व है। अतः मार्गशीर्ष पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु के साथ ही उनके स्वरूप भगवान श्री कृष्ण की भी उपासना करनी चाहिए। मार्गशीर्ष पूर्णिमा के दिन चंद्रदेव की उपासना का भी महत्व है। कहते हैं इस दिन चंद्रदेव अमृत से परिपूर्ण हुए थे।इस बार पूर्णिमा तिथि दो दिनों तक होने से पूर्णिमा का व्रत 29 दिसंबर किया जाएगा, लेकिन स्नान-दान की प्रक्रिया 30 दिसंबर को किया जाएगी। पूर्णिमा को स्नान-दान का बहुत ही महत्व होता है। आज किसी तीर्थ स्थल पर स्नान करने से वर्ष भर तीर्थस्थलों पर स्नान का फल मिलता है। साथ ही इस दिन जो भी कुछ दान किया जाये, उसका कई गुना लाभ मिलता है। वास्तव में पूर्णिमा मनुष्य के अंदर छुपी बुराईयों को, निगेटिविटी को, अहंकार, काम, क्रोध, लोभ और मोह को दूर करने में सहायता करती है और जीवन में पॉजिटिविटी, प्रसन्नता और पवित्रता का संचार करती है।29 दिसंबर सुबह 7 बजकर 56 मिनट30 दिसंबर सुबह 8 बजकर 58 मिनट तकमार्गशीर्ष पूर्णिमा के दिन व्रत एवं पूजन करने सभी सुखों की प्राप्ति होती है। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा कि जाती है। इस दिन मन को पवित्र करके स्नान करें और सफेद रंग के वस्त्र धारण करें। इसके बाद विधि-विधान के साथ भगवान विष्णु की पूजा करें। हो सके तो इस दिन किसी योग पंडित से पूजा कराएं।इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान है। इस दिन सत्यनारायण की कथा सुनना और पढ़ना बहुत शुभ माना गया है। इस दिन भगवान नारायण की पूजा धूप, दीप आदि से करें। इसके बाद चूरमा का भोग लगाएं। यह इन्हें अतिप्रिय है। बाद में चूरमा को प्रसाद के रुप में बांट दें।पूजा के बाद ब्राह्मणों को दक्षिणा देना न भूलें। इससे प्रसन्न होकर भगवान विष्णु आपके ऊपर कृपा बरसाते है। पौराणिक मान्यता है कि पूर्णिमा के दिन चंद्रमा अमृत बरसाता है। इस दिन बाहर खीर रखना चाहिए। फिर इसका दूसरे दिन सेवन करें। अगर आपके कुंडली में चंद्र ग्रह दोष है, तो इस दिन चंद्रमा की पूजा करना चाहिए।औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायादिल्ली की 8 और मस्जिदों में रुके मिले कई लोग, विदेशी भी शामिल******निजामुद्दीन के तबलीगी जमात का मामला खुलने के बाद दिल्ली की कई और मस्जिदों में लोग छिपे मिले हैं। दिल्ली पुलिस ने आज दिल्ली की 8 मस्जिदों से 113 लोगों को बाहर निकाला। दिल्ली पुलिस को जानकारी मिली थी कि उत्तर पूर्वी जिले की 7 मस्जिदों और शाहदरा जिले की एक मस्जिद में बहुत सारे लोग रुके हुए हैं इनमें से कुछ विदेशी भी हैं। इसके बाद दिल्ली पुलिस इन मस्जिदों पर पहुंची दिल्ली पुलिस को 113 लोग इन 8 मस्जिदों में से मिले हैं।प्राप्त जानकारी के अनुसार इनमें से 106 लोग उत्तर पूर्वी जिले में कि 7 मस्जिदों में रुके हुए थे इन 106 लोगों में से 84 लोग विदेशी हैं। बाकी 7 लोग शाहदरा जिले की आस्का मस्जिद में रुके हुए थे। जिनमे से कुछ को क्वॉरेंटाइन में वज़ीराबाद भेजा गया है और बाकियों को सेल्फ क्वॉरेंटाइन में भेज दिया गया है यह सभी लोग उत्तर पूर्वी जिले की 7 मस्जिद और शाहादरा जिले की एक मस्जिद में रुके हुए थेर्। यह सभी विदेशी निजामुद्दीन विजिट करके आए थे।पुलिस ने इस पूरे मामले की जानकारी डीएम को चिट्ठी लिखकर दे दी है अब पुलिस इस पूरे मामले में लीगल एक्शन लेते हुए एफ आई आर दर्ज कर रही है क्योंकि इन लोगों ने अपनी जानकारी डिस्क्लोज नहीं की थी जिन मस्जिदों में यह लोग रुके हुए थे उनमें सीलमपुर की दो मस्जिद हैं वेलकम की तीन मस्जिद हैं, वेलकम की तीन मस्जिद हैं और शास्त्री पार्क की दो मस्जिद मस्जिद हैं। वहीं मानसरोवर पार्क की एक मस्जिद है।

Reliance Jio और airtel ग्राहकों को मिलेगा फायदा, कंपनियों ने अतिरिक्‍त स्‍पेक्‍ट्रम लगाया

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायामसूद नाम के आगे 'जी' लगाने वालों के घर शोक की लहर: योगी आदित्यनाथ****** उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को कहा कि मसूद के वैश्विक आतंकी घोषित होने से आतंकियों के नाम के आगे जी लगाने वालों के घर में शोक की लहर है। योगी ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर प्रहार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सिर्फ युवाओं को बेरोजगार कर पलायन करने को मजबूर किया। के वैश्विक आतंकवादी घोषित होने से एक बात फिर से साबित हो गई है कि मोदी है तो मुमकिन है। मसूद के नाम के आगे जी लगाने वालों के घर में शोक की लहर है।मुख्यमंत्री ने कहा कि जब कभी देश में प्राकृतिक आपदा आती है तो क्या आपने राहुल गांधी को किसी की सहायता करते हुए देखा है? कांग्रेस के पास देश के विकास के लिए कोई विजन नहीं है, न ही कभी देश का विकास इनके लिए मुद्दा रहा है। आप सभी इस शाही परिवार के बारे में कांग्रेस से पूछिए कि इन्होंने 55 सालों में क्या किया है। उन्होंने कहा कि एक परिवार ने पूरे देश को अपनी सल्तनत मान लिया था, लेकिन यहां के लोगों के लिए कुछ नहीं किया। कांग्रेस के कुशासन को एक ओर रख लें और मोदी के 5 साल को दूसरी तरफ तो कांग्रेस कहीं भी मुंह दिखाने लायक नहीं है।योगी ने कहा कि मोदी के नेतृत्व में कांग्रेस की अराजकता से मुक्ति मिलेगी, भ्रष्टाचार से मुक्ति मिलेगी, जोकि सरकार ने करके दिखाया। उन्होंने कहा कि आवास, रसोई गैस मिलना, शौचालय इतनी ज्यादा संख्या में मिलना सामान्य बात नहीं है। पूरे देश में एक ही आवाज है और यही तमन्ना है कि एक बार फिर मोदी सरकार। मुख्यमंत्री ने कहा, "बुंदेलखंड की सबसे बड़ी समस्या अन्ना प्रथा के खिलाफ सरकार ने काम शुरू कर दिया है। सपा-बसपा द्वारा कब्जाई गई जमीनों को खाली करवाने का काम तेजी से हो रहा है। विकास की हर योजना को हमने बिना भेदभाव लोगों तक पहुंचाने का काम किया।"उन्होंने कहा, "जो कार्य वर्षो पहले हो जाने चाहिए थे, अब हो रहे हैं। कांग्रेस ने यहां सबसे ज्यादा समय तक शासन किया, लेकिन विकास का कार्य नहीं हुआ। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे और डिफेंस कॉरिडोर, दोनों ऐसे प्रोजेक्ट हैं, जिसके माध्यम से हम यहां के युवाओं का पलायन रोकेंगे।" योगी ने कहा, "जितने भी भ्रष्टाचारी थे, लूट-खसोट करने वाले थे, वे डर गए हैं। वे जानते हैं कि अगर फिर से एक बार मोदी जी प्रधानमंत्री बन गए तो उनके अस्तित्व पर खतरा आ जाएगा।"औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाTata Motors ने लॉन्‍च की 10 लाख रुपये से कम में पहली इलेक्ट्रिक कार XPRES-T, चलेगी 213 किलोमीटर******Tata Motors drives in XPRES-T EV for fleet segment at Rs 9.54 lakh टाटा मोटर्स ने बुधवार को XPRES ब्रांड के तहत अपनी पहली इलेक्ट्रिक सेडान कार एक्‍सप्रेस-टी ईवी को लॉन्‍च करने की घोषणा की है। इसे विशेषरूप से फ्लीट उपभोक्‍ताओं के लिए तैयार किया गया है। एक्‍सप्रेस-टी की शुरुआती कीमत 9.54 लाख रुपये (फेम सब्सिडी के बाद नेट प्राइस) है। यह कार दो ट्रिम एक्‍सप्रेस टी 165 और एक्‍सप्रेस टी 213 में आएगी, जहां एक्‍सप्रेस टी 165 की रेंज 165 किलोमीटर और एक्‍सप्रेस टी 213 की रेंज 213 किलोमीटर है। के दो वेरिएंट की कीमत क्रमश: 9.54 लाख और 10.04 लाख रुपये है, जबकि एक्‍सप्रेस टी 213 के दो वेरिएंट की कीमत क्रमश: 10.14 लाख और 10.64 लाख रुपये है। टाटा मोटर्स ने अपने एक बयान में कहा कि परिवहन सेवा प्रदाता, कॉरपोरेट और सरकारी फ्लीट ग्राहकों को लक्षित करते हुए एक्‍सप्रेस टी ईवी को पेश किया गया है, जो एक ऑप्‍टीमल बैटरी साइज, कैप्टिव फास्‍ट चार्जिंग सॉल्‍युशन के साथ आती है। एक्‍सप्रेस-टी इलेक्ट्रिक सेडान के दो ट्रिम में 21.5 किलोवॉट और 16.5 किलोवॉट की बैटरी लगाई गई है। यह वाहन शून्‍य कार्बन उत्‍सर्जन, सिंगल-स्‍पीड ऑटोमैटिक ट्रां‍समिशन, डुअल एयरबैग, इले‍क्‍ट्रॉनिक ब्रेकफोर्स डिस्‍ट्रीब्‍यूशन के साथ एबीएस से सुसज्जित है। कंपनी का दावा है कि एक्‍सप्रेस टी ईवी को 90 मिनट में 0 से 80 प्रतिशत तक चार्ज किया जा सकता है। इसे फास्‍ट चार्जिंग या किसी भी सामान्‍य 15ए प्‍लग प्‍वॉइंट से चार्ज किया जा सकता है। पर्सनल कार सेगमेंट में कंपनी नेक्‍सन ईवी और टिगोर ईवी की बिक्री करती है। टाटा मोटर्स ने सोमवार को अपने हल्के वाणिज्यिक वाहन टाटा 407 का सीएनजी संस्करण पेश किया है, जिसकी (एक्स शोरूम, पुणे) कीमत 12. 07 लाख रुपये है। टाटा मोटर्स ने एक बयान में कहा कि सीएनजी का इस्तेमाल करते हुए यह वाहन टाटा 407 के डीजल संस्करण के मुकाबले 35 प्रतिशत ज्यादा मुनाफा देता है।कंपनी के उपाध्यक्ष (प्रोडक्ट लाइन 1 और हल्के वाणिज्यिक वाहन) रुद्ररूप मैत्रा ने कहा, "डीजल की कीमतों में भारी वृद्धि के चलते सीएनजी वाहनों में लाभ बढ़ने की संभावना में उल्लेखनीय वृद्धि होने की क्षमता है और हमें विश्वास है कि 407 सीएनजी, टाटा मोटर्स द्वारा पेश की गई सबसे विस्तृत सीएनजी रेंज का विस्तार करने के अलावा, हमारे ग्राहकों लिए काफी मूल्य प्रदान करेगा।उन्होंने कहा कि टाटा 407 देश में सबसे बेहतर वाणिज्यिक वाहन रहा है, इसके साथ पिछले 35 साल की विरासत है। यह वाहन ग्राहक के पसंदीदा वाहनों में से एक है। इसके अब तक 12 लाख वाहन बेचे जा चुके हैं। यह इस श्रेणी में सबसे ज्यादा है। टाटा 407 सीएनजी संस्करण में 3. 8 लीटर का सीएनजी इंजन है। इसके साथ ईंधन-कुशल एसजीआई प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया गया है। इसके साथ ही अन्य खूबियां भी इसमें शामिल हैं।

Reliance Jio और airtel ग्राहकों को मिलेगा फायदा, कंपनियों ने अतिरिक्‍त स्‍पेक्‍ट्रम लगाया

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायासेंसेक्स 72 अंक लुढ़ककर 40,284 पर हुआ बंद, न‍िफ्टी भी 11,884 अंक पर हुआ बंद******Sensex ends 72 pts lower; Yes Bank drops 4 pc आर्थिक नरमी को लेकर बढ़ती आशंकाओं के बीच एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज और टीसीएस के शेयरों में गिरावट से सेंसेक्स सोमवार को 72 अंक गिर गया। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 72.50 अंक यानी 0.18 प्रतिशत गिरकर 40,284.19 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स सुबह में बढ़त के साथ खुला था और दोपहर बाद के कारोबार में इसमें गिरावट देखी गई। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 10.95 अंक यानी 0.09 प्रतिशत घटकर 11,884.50 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की कंपनियों में येस बैंक में सबसे ज्यादा 4.08 प्रतिशत तक की गिरावट रही। इसके अलावा, बजाज ऑटो, महिंद्रा एंड महिंद्रा, हीरो मोटोकॉर्प, एचडीएफसी बैंक, ओएनजीसी और टीसीएस के शेयर 2.05 प्रतिशत तक गिर गए।इसके विपरीत, भारती एयरटेल, टाटा स्टील, सन फार्मा, पावरग्रिड, इंडसइंड बैंक, एक्सिस बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, वेदांता और टाटा मोटर्स के शेयर 4.60 प्रतिशत तक चढ़े। कारोबारियों ने कहा कि वैश्विक बाजारों से सकारात्मक रुख के बावजूद आर्थिक वृद्धि में और गिरावट की आशंकाओं से घरेलू शेयर बाजार में धारणा कमजोर रही।कई रिपोर्ट में देश की आर्थिक वृद्धि दर में और सुस्ती आने की आशंका जताई गई है। अमेरिका-चीन व्यापार वार्ता को लेकर आशावादी रुख से हांगकांग, तोक्यो और शंघाई में बाजार मजबूती के साथ जबकि सोल में बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। यूरोपीय शेयर बाजारों में शुरुआती कारोबार में मिलाजुला रुख देखने को मिला।

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाMonsoon 2022: मानसून में इन जड़ी-बूटियों वाली चाय की चुस्कियां बनाएंगी आपकी सेहत!******Highlights बरसात का ये मौसम आते ही हमें लगता है गर्म चाय हाथ में लेकर बालकनी में खड़े होकर आराम से बारिश को देखा जाए। लेकिन बारिश के साथ लगातार गिरता-बढ़ता तापमान अपने साथ सर्दी, खांसी और छींकें भी लेकर आता है। तो मानसून में होने वाली बीमारियों से कैसे बच सकते हैं? तो आपको बता दें कि आपकी अपनी चाय ही आपको इस परेशानी से बचा सकती है। चाय हमारे पसंदीदा ड्रिंक्स में से एक है, इसमें जड़ी-बूटियों की शक्ति को जोड़ने से चमत्कार हो सकता है। बरसात के पूरे मौसम में इन अद्भुत पौधों को हमारे चाय के कप में जोड़ना हेल्दी रहने का आसान तरीका है। यहां कुछ जड़ी-बूटियां दी गई हैं जो चाय का स्वाद बढ़ाती हैं और आपके शरीर की देखभाल भी करती हैं:जब बारिश शुरू होती है, तो हल्दी, जिसमें करक्यूमिन, डेस्मेथोक्सीकुरक्यूमिन और बिस-डेस्मेथोक्सीकुरक्यूमिन की ताकत होती है, हमारे शरीर के अंदरूनी हिस्से को मजबूत कर सकती है। जड़ी बूटी की एंटीबैक्टेरियल क्वालिटी के कारण, यह मानसून के मौसम में होने वाले कई इंफेक्शन का इलाज कर सकती है।जड़ी बूटियों की बात करें तो तुलसी एक फेमस रॉकस्टार है। एक कप तुलसी की चाय सीने में जमे कफ को कम करेगी, हमारी नाक को खोल देगी और बीमारी को खत्म कर देगी। तुलसी में पाए जाने वाले विटामिन ए, डी, आयरन, फाइबर बैक्टीरिया को नष्ट करने और इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके अलावा, तुलसी ओरल और डेंटल प्रॉब्लम को ठीक करने के लिए एक शानदार जड़ी बूटी है।जब बारिश के दौरान स्ट्रीट फूड हर किसी को लुभाता है, इसके बाद पेट दर्द और लूस मोशन जैसी प्रॉब्लम भी साथ आती हैं। इस वजह से, हमारी चाय में अदरक मिलाना बहुत जरूरी हो जाता है। अदरक एक ऐसी हर्ब है जो डाइजेशन और मेटाबॉलिज्म को बढ़ाती है, जो हमारी आंतों को काम करने में मदद करती है। मोशन सिकनेस या मॉर्निंग सिकनेस के कारण होने वाली परेशानी को भी इस चाय से कंट्रोल किया जा सकता है।चाय में शामिल करने के लिए गुड़हल एक जरूरी हर्ब है, खासकर जब बारिश होती है, क्योंकि यह बीटा-कैरोटीन, विटामिन सी और एंथोसायनिन से भरपूर होता है। जड़ी बूटी हमारे इम्युनिटी सिस्टम को बैलेंस में रखती है, इसलिए यह अनचाही बीमारियों और इंफेक्शन को दूर करती है। इसके अलावा, इसमें बहुत सारे एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं।Disclaimer: यह जानकारी आयुर्वेदिक नुस्खों के आधार पर लिखी गई है। इंडिया टीवी इनके सफल होने या इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है इनके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लेंइसे भी पढ़ें-औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाRang Panchami 2022: रंग पंचमी आज, जानिए इस पर्व को मनाने की खास वजह******Highlightsफाल्गुन मास की पूर्णिमा से शुरू हुआ होली का त्योहार चैत्र मास की पंचमी तिथि तक मनाया जाता है। इसी पंचमी तिथि को रंगपंचमी के नाम से जाना जाता है। इसका धार्मिक महत्व बहुत अधिक होता है। इसे श्रीपंचमी और देव पंचमी के नाम से भी जाना जाता है। दरअसल, बहुत-सी जगहों पर होली समेत पांच दिनों तक रंग खेलने की परंपरा है, यानी असल में होली का त्योहार रंग पंचमी के दिन सम्पूर्ण होता है। महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, यू.पी, राजस्थान आदि जगहों पर विशेष रूप से ये त्योहार मनाया जाता है। होली की तरह ही इस दिन भी खूब अबीर-गुलाल उड़ाया जाता है और एक-दूसरे के रंग लगाया जाता है। कहते हैं आज वायुमंडल में रंग उड़ाने से या शरीर पर रंग लगाने से व्यक्ति के अंदर सकारात्मक शक्तियों का संचार होता है और आस-पास मौजूद नकारात्मक शक्तियां क्षीण हो जाती हैं।हिंदू पंचांग के अनुसार, इस साल होलिका दहन 17 मार्च को मनाई जाएगी जबकि18 मार्च को होली खेली जाएगी। वहीं इसके ठीक पांच दिन बाद यानी 22 मार्च को रंगपंचमी मनाया जाएगा। आइए जानते हैं रंगपंचमी का शुभ मुहूर्त और इसे बनाने की वजह।पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, भगवान श्रीकृष्ण रंगपंचमी के दिन राधा मां के साथ होली खेली थी। इसी वजह से इस दिन विधि-विधान के साथ राधा-कृष्ण का पूजा करने के बाद उन्हें गुलाल आदि अर्पित करके होली खेला जाता है। साथ ही इस दिन राधा रानी के बरसाना में मंदिरों में विशेष पूजा करने के बाद हुरियारे अबीर-गुलाल उड़ाते हैं।वहीं दूसरी पौराणिक कथा के अनुसार, होलाष्टक के दिन भगवान भोलेनाथ ने कामदेव को भस्म कर दिया था। जिसके चलते देवलोक में उदासी छा गई थी। उसके बाद भगवान शिव ने कामदेव की पत्नी देवी रति और देवताओं की प्रार्थना पर कामदेव को दोबारा जीवित कर देने का आश्वासन दिया था। इससे सभी देवी-देवता प्रसन्न हो गए और रंगोत्सव मनाने लगे। इसके बाद से ही पंचमी तिथि को रंगपंचमी का त्योहार मनाया जाने लगा।रंगपंचमी का धार्मिक महत्व बहुत अधिक होता है। इस दिन रंगों की बजाए गुलाल से होली खेली जाती है। साथ ही रंगपंचमी के दिन हुरियारे गुलाल उड़ाते हैं। कहा जाता है कि इस दिन वातावरण में गुलाल उड़ाना शुभ होता है। साथ ऐसी मान्यता है कि इस दिन देवी-देवता भी धरती भी पर आ जाते हैं और वह इंसानों के साथ गुलाल खेलते हैं। ये भी कहा जाता है कि हवा में उड़ने वाली अबीर-गुलाल के संपर्क में जो व्यक्ति आ जाता है उसको हर पापों से छुटकारा मिल जाता है।

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाHemkund Sahib News : कल खुलेंगे सिखों के पवित्र धाम हेमकुंड साहिब के कपाट, 3 हजार से ज्यादा श्रद्धालु गोविंदघाट-जोशीमठ पहुंचे****** 22 मई रविवार को सिखों के पवित्र धाम हेमकुंड साहिब (Hemkund Sahib) के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खुल जाएंगे। इसके तहत शनिवार को पंज प्यारों के नेतृत्व में यात्रा गोविंदघाट से घांघरिया के लिए रवाना हुई। श्रद्धालुओं का जत्था 22 मई की सुबह हेमकुंड साहिब पहुंचेगा। इसके बाद गुरुद्वारा साहिब व लोकपाल लक्ष्मण मंदिर के कपाट खोल दिए जाएंगे।कपाट खुलने से पहले दोनों धामों की फूलों से भव्य सजावट की जा रही है। दो साल बाद अपने भव्य स्वरूप में शुरू हो रही हेमकुंड साहिब की यात्रा को लेकर भ्यूंडार घाटी में उल्लास का माहौल है। व्यापारियों के चेहरे भी खिले हुए हैं।तीन हजार से अधिक श्रद्धालु गोविंदघाट व जोशीमठ पहुंचेजत्थे में शामिल होने के लिए तीन हजार से अधिक श्रद्धालु गोविंदघाट व जोशीमठ गुरुद्वारा पहुंचे हैं। इनमें सरदार जनक सिंह व गुरवेंद्र सिंह का जत्था भी शामिल है। ये दोनों जत्थे बीते 20 वर्षों से कपाटोद्घाटन व कपाटबंदी के मौके पर धाम में मौजूद रहते हैं।लोकपाल लक्ष्मण मंदिर के कपाट भी खुलेंगेगुरुद्वारा हेमकुंड साहिब के साथ ही लोकपाल लक्ष्मण मंदिर के कपाट भी 22 मई को खोले जाएंगे। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। पैदल मार्ग पर आवाजाही शुरू हो गई है और घोड़ा-खच्चर, डंडी-कंडी संचालक भी पड़ावों पर पहुंच चुके हैं।इनपुट-आईएएनएसऔरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाAnantnag Lok Sabha Chunav Result 2019: पीडीपी की महबूबा मुफ्ती हारीं, नेशनल कॉन्फ्रेंस के हसनैन मसूदी जीते******जम्मू-कश्मीर की लोकसभा सीट पर राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को हार का सामना करना पड़ा। अनंतनाग लोकसभा सीट पर पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस के बीच कांटे का मुकाबला देखने को मिला।अनंतनाग लोकसभा सीट सेनेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) के हसनैन मसूदी नेकांग्रेस के गुलाम अहमद मीर को 6676 वोटों के अंतर से हरा दिया है। हालांकि, इस कड़े मुकाबले में पीडीपी मुखियामहबूबा मुफ्ती तीसरे नंबर पर रहीं।2014 के लोकसभा चुनाव में ने इस सीट पर जीत हासिल की थी। उस चुनाव में उन्होंने नेशनल कॉन्फ्रेंस के मिर्जा महबूब बेग को 65,417 वोटों से हरा दिया था। महबूबा मुफ्ती को कुल 200,429 वोट मिले थे। यह सीट अप्रैल 2016 में महबूबा मुफ़्ती के जम्मू कश्मीर का मुख्यमंत्री बन जाने से खाली हो गई थी। 11 मार्च, 2019 को जब चुनाव आयोग ने देश में लोकसभा चुनावों का ऐलान किया तो अनंतनाग सीट तब भी खाली ही पड़ी हुई थी। इसकी वजह यह है कि सरकार इन तीन सालों में अनंतनाग लोकसभा क्षेत्र में खराब सुरक्षा स्थिति के चलते, चुनाव नहीं करा पाई।

औरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाIPO News: मोटी कमाई के लिए कर लीजिए पैसे तैयार, ये कंपनी शेयर बाजार में ला रही है IPO******शेयर बाजार में मोटा मुनाफा कमाने का सबसे आसान तरीका आईपीओ में निवेश करना होता है। 2022 में कई कंपनियों ने आईपीओ पेश किए हैं। वहीं आईपीओ में निवेश कर कमाई करने का मौका फिर आ गया है। अगले कुछ महीनों मे करीब 30 कंपनियों के आईपीओ आएंगे। इनमें से एक कंपनी ने अपना प्रारंभिक इश्यू यानि आईपीओ लाने के लिए दस्तावेज पेश कर दिए हैं। यह कंपनी है बालाजी स्पेशियलिटी कैमिकल्स। इस कंपनी ने आईपीओ के जरिए कोष जुटाने के लिए बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास दस्तावेज जमा करवाए हैं।मसौदा दस्तावेजों के मुताबिक आईपीओ के तहत 250 करोड़ रुपये तक के नए इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे। इसके अलावा प्रवर्तक और प्रर्वतक समूह संस्थान 2,60,00,000 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) करेंगे। निर्गम से जुटाई जाने वाली राशि में से 68 करोड़ रुपये का उपयोग कर्ज चुकाने के लिए किया जाएगा और 119.5 करोड़ रुपये कार्यशील पूंजी आवश्यकताओं और सामान्य कॉरपोरेट उद्देश्यों के लिए किया जाएगा। कंपनी 50 करोड़ रुपये के आईपीओ पूर्व निर्गम पर भी विचार कर सकती है। ऐसी स्थिति में नए निर्गम का आकार घटा दिया जाएगा।इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण सेवा कंपनी सिरमा एसजीएस टेक्नोलॉजी का 840 करोड़ रुपये का आईपीओ 12 अगस्त को खुलेगा। सिरमा एसजीएस ने सोमवार को यह जानकारी दी। यह पिछले ढाई महीने में आने वाला पहला आईपीओ आरंभिक सार्वजनिक निर्गम होगा। इससे पहले एथर इंडस्ट्रीज का आईपीओ 24 से 26 मई के दौरान अभिदान के लिए खुला था। बयान में कहा गया कि कंपनी ने अपने आईपीओ के लिए प्रति इक्विटी शेयर 209.220 रुपये कीमत तय की है। सिरमा एसजीएस टेक्नोलॉजी के सार्वजनिक निर्गम में 766 करोड़ रुपये के नए शेयर और वीना कुमारी टंडन द्वारा 33.69 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकशशामिल हैं। मूल्य दायरे के ऊपरी छोर पर कंपनी को 840 करोड़ रुपये जुटाने की उम्मीद है। निर्गम 18 अगस्त को बंद होगा।सेबी ने वित्त वर्ष 2022-23 में अप्रैल-जुलाई के दौरान 28 कंपनियों को आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (आईपीओ) लाने की मंजूरी दी है। इन निर्गमों के जरिए कुल 45,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। जिन फर्मों ने आईपीओ लाने के लिए नियामक की मंजूरी हासिल की है, उनमें लाइफस्टाइल रिटेल ब्रांड फैबइंडिया, एफआईएच मोबाइल्स और फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी समूह की सहायक कंपनी- भारत एफआईएच, टीवीएस सप्लाई चेन सॉल्युशंस, ब्लैकस्टोन समर्थित आधार हाउसिंग फाइनेंस और मैकलियोड्स फार्मास्युटिकल्स एंड किड्स क्लिनिक इंडिया शामिल हैं। मर्चेंट बैंकरों ने कहा कि इन फर्मों ने अभी तक अपने आईपीओ लाने की तारीख घोषित नहीं की है और निर्गम के लिए सही समय की प्रतीक्षा कर रहे हैं।आनंद राठी इनवेस्टमेंट बैंकिंग के निदेशक और इक्विटी पूंजी बाजार के प्रमुख प्रशांत राव ने कहा, ‘‘मौजूदा माहौल चुनौतीपूर्ण है और जिन कंपनियों के पास मंजूरी है, वे आईपीओ लाने के लिए सही वक्त का इंतजार कर रही हैं।’’ भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के आंकड़ों के अनुसार कुल 28 कंपनियों ने अप्रैल-जुलाई 2022-23 के दौरान आईपीओ के जरिए पूंजी जुटाने के लिए नियामक की मंजूरी हासिल की। इन फर्मों से कुल मिलाकर 45,000 करोड़ रुपये जुटाने की उम्मीद है। चालू वित्त वर्ष में अब तक 11 कंपनियां आईपीओ के जरिए 33,254 करोड़ रुपये जुटा चुकी हैंऔरairtelग्राहकोंकोमिलेगाफायदाकंपनियोंनेअतिरिक्‍तस्‍पेक्‍ट्रमलगायाED Action in Telangana And Andhra Pradesh: कैसीनों संचालकों के खिलाफ कार्रवाई, 8 जगहों पर ED ने मारा छापा******Highlights प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बुधवार को तेलंगाना के हैदराबाद और आंध्र प्रदेश में आठ स्थानों पर कैसीनों के आयोजकों और एजेंटों के खिलाफ विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (FEMA Act ) नियमों के उल्लंघन के लिए छापेमारी की। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।अधिकारियों ने कहा कि कैसीनो आयोजकों, उनके सहयोगियों और एजेंटों के आवासों और अन्य स्थानों पर छापेमारी की गई। उन्होंने कहा कि केंद्रीय एजेंसी ने कथित हवाला लेन-देन की भी पड़ताल की। एक अधिकारी ने विस्तृत ब्योरा दिए बिना कहा, "फेमा के प्रावधानों के तहत आठ जगहों पर छापेमारी की गई।"आरोप लगाया गया है कि कैसीनों डीलरों और एजेंटों ने इस साल जून में नेपाल में कैसीनों का आयोजन किया। साथ ही कैसीनों में खेलने वालों के लिए विशेष उड़ानों की व्यवस्था की गई और विजेताओं को हवाला लेन-देन के माध्यम से भुगतान किया गया। यह पूछे जाने पर कि क्या ईडी ने छापेमारी के बाद कोई जब्ती की है, इस पर अधिकारी ने कोई टिप्पणी नहीं की।वहीं, एक अन्य मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आज बताया कि उसने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के सहयोगी से जुड़े एक व्यक्ति द्वारा संचालित 30 करोड़ रुपये मूल्य के एक पोत को जब्त किया है, जिसका इस्तेमाल कथित तौर पर अवैध खनन के जरिए निकाले गए पत्थर ले जाने के लिए किया जाता था।उन्होंने कहा कि पोत झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के राजनीतिक सहयोगी पंकज मिश्रा से जुड़ा है, जिन्हें ईडी ने हाल ही में एक अवैध खनन मामले में गिरफ्तार किया था। वह एक अगस्त तक एजेंसी की हिरासत में हैं। अधिकारियों ने कहा कि इंफ्रालिंक-3 नामक इस अंतर्देशीय पोत की पंजीकरण संख्या डब्ल्यूबी 1809 है।ईडी ने मंगलवार को स्थानीय थाने में पोत के मालिक के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज कराई थी। संघीय एजेंसी ने बुधवार को एक बयान में कहा कि झारखंड के साहेबगंज के सुकरगढ़ घाट से बिना किसी अनुमति के अवैध रूप से पोत का संचालन किया जा रहा था। ईडी ने कहा, "पंकज मिश्रा और अन्य की मिलीभगत से राजेश यादव उर्फ ​​दाहू यादव के कहने पर पोत का संचालन किया जा रहा था। इसके जरिए अवैध रूप से खनन किए गए पत्थर भेजे जा रहे थे। बयान में कहा गया है कि पोत की अनुमानित कीमत करीब 30 करोड़ रुपये है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 06:21
उद्धरण 1 इमारत
महंगे ब्यूटी प्रोडक्ट हो गए हैं एक्सपायर तो फेंके नहीं ऐसे लाएं यूस में******हम अच्छा दिखने लिए अक्सर महंगे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं। शायद ही कोई ऐसी लड़की हो जिसके बैग में मेकअप किट देखने को न मिले, लेकिन अधिकतर ऐसा होता है कि प्रोडक्ट पूरा इस्तेमाल करने से पहले ही एक्सपायर हो जाते हैं और हम उनको फेंक देते हैं। ऊंची कीमतों की वजह से इन्हें फेंकना भी काफी तकलीफदेह होता है। कई मेकअप प्रोडक्ट्स तो रखे रखे भी खराब हो जाते हैं। आप उनका भी इस्तेमाल किसी ओर काम में इस्तेमाल कर सकते हैं। यहां आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप मेकअप प्रोडक्ट्स को एक्सपायर होने के बाद यूस में ला सकते हो तो जानते हैं इनके बारे में-अगर आपके नाखून के पास की स्किन ड्राई हो चुकी है तो आप इसके लिए अपने पुराने लिप बाम का इस्तेमाल कर सकते हैं जो खराब हो चुका हो। इसके साथ ही एड़ियों को सॉफ्ट बनाने में भी इसका उपयोग कर सकती हैं। आप पुराने लिप बाम से अपने जूतों को चमकाने के काम भी ला सकती हैं। यही नहीं, अगर पैंट की जिप खराब हो तो उस पर लगाकर आप जिप को ठीक करने में भी इसका इस्तेमाल कर सकती हैं।कई लोग डियोड्रेंट का कभी कभी ही इस्तेमाल करते हैं जिसके चलते डियोड्रेंट एक्सपायर हो जाते हैं, जिसके बाद उनको इस्तेमाल में लाना नामुमकिन है। ऐसे में अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं। आप अपने एक्सपायरी डियो को रूम फ्रेशनर या टॉयलेट फ्रेशनर के रूप में इस्तेमाल कर सकती हैं।आईशैडो की उम्र ज्यादा दिन की नहीं होती है, जिसके चलते ये जल्दी एक्सपायर हो जाते हैं, लेकिन अब इन्हें फेंकने की जरूरत नहीं है बल्कि आप इन्हें इस्तेमाल कर सकती हैं। ऐसे में आप अपने एक्सपायर्ड आईशैडो को नेलपॉलिश में डालकर नया शेड बना सकती हैं और इसे इस्तेमाल कर सकती हैं। आप इसे बनाने के लिए एक क्लीयर नेलपॉलिश लें और इसमें आईशैडो के पिगमेंट को डालकर अच्‍छी तरह से मिक्स करें। आप इसका इस्तेमाल कभी भी करें।मेकअप को इक्वल बैलेंस में रखने के लिए हम स्किन टोनर का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन कई बार टोनर के एक्सपायर होने के कारण फेंकना पड़ता है, लेकिन अब आप अपने टोनर फेंकने के बजाय उसे घर के शीशे और मोबाइल की स्क्रीन को साफ करने के लिए इस्तेमाल में ला सकती हैं।मस्कारा एक्सपायर होने के बाद आप इसे कई कामों में इस्तेमाल कर सकती हैं। यदि आपके आईब्रो ग्रे हो गए हैं तो उसे कलर करने में मस्कारे का उपयोग कर सकती हैं। दूसरी तरफ आप इससे अपने लिप का स्क्रब भी कर सकती हैं। इसके लिए पहले मस्कारे में एक बूंद नैचुरल ऑयल मिक्स कर लें और फिर स्क्रब करें। इससे स्किन स्मूद रहेगी।मेकअप ब्रश के एक्सपायर होते ही हम इन्हें झट से फेंक देते हैं, लेकिन ऐसा इस बार जब हो तो आप उन्हें फेंके नहीं बल्कि उनका उपयोग कंप्यूटर का कीबोर्ड साफ करने के काम में लाएं।
2022-10-01 04:42
उद्धरण 2 इमारत
बॉन्ड में निवेश करने वाले म्‍यूचुअल फंडों पर भरोसा, वित्त वर्ष 2016-17 में निवेशकों ने लगाए 1.77 लाख करोड़ रुपए****** निवेश के लिहाज से सुरक्षित माने जाने वाले डेट फंडों (बॉन्ड और ऋण) पत्रों में निवेश करने वाले म्‍यूचुअल फंडों में वित्त वर्ष 2016-17 में निवेश बढ़ा है। म्यूचुअल फंड बाजार पर नजर रखने वाले समूह मॉर्निंगस्टार के अनुसार 2016-17 में फिक्‍स्‍ड इनकम या डेट फंडों में निवेश करने वाली म्यूचुअल फंड योजनाओं में 1.77 लाख करोड़ रुपए का प्रवाह देखा गया। वहीं 2015-16 में डेट फंड में 28,786 करोड़ रुपए का निवेश हुआ था।इन डेट फंडों में लघु अवधि वाले बॉन्डों में 95,500 करोड़ रुपए का शुद्ध प्रवाह हुआ और क्रेडिट अपॉर्चुनिटी स्ट्रैटजी फंड में 29,100 करोड़ रुपए निवेश किए गए। इसी तरह इंटरमीडिएट बॉन्डों से 2016-17 में 9,600 करोड़ रुपए की शुद्ध निकासी हुई। इन्हें आम तौर पर आय कोष के तौर पर भी जाना जाता है।मॉर्निंगस्टार एडवाइजर इंडिया के धवल कपाडि़या ने कहा कि इन फंडों में यह प्रवाह बड़े पैमाने पर भारतीय रिजर्व बैंक के दिसंबर में नीतिगत दरों को कम नहीं करने और बाद में फरवरी में अपनी स्थिति को तटस्थ करने की वजह से प्रभावित हुआ है।डेट फंडों के अलावा शेयर में निवेश करने वाले म्यूचुअल फंडों में 2016-17 में 54,960 करोड़ रुपए का निवेश हुआ जबकि 2015-16 में इस श्रेणी में 70,817 करोड़ रुपए का निवेश हुआ था।
2022-10-01 04:07
उद्धरण 3 इमारत
एचडीएफसी समूह का बाजार पूंजीकरण 10,000 अरब रुपये के पार, टाटा के बाद बना दूसरा सबसे बड़ा समूह******Deepak Parekh के नेतृत्व वाले एचडीएफसी फाइनेंशियल सर्विसेज ग्रुप की सूचीबद्ध कंपनियों का मंगलवार को 10 लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच गया। टाटा समूह के बाद यह दूसरा कंपनी समूह है जिसका बाजार पूंजीकरण इस आंकड़े के पार पहुंचा है। एचडीएफसी समूह में इस समय चार सूचीबद्ध कंपनियां शामिल हैं। हाउसिंग फाइनेंस सेक्‍टर की प्रमुख कंपनी एचडीएफसी लिमिटेड, बैंकिंग क्षेत्र की अग्रणी कंपनी एचडीएफसी बैंक, जीवन बीमा क्षेत्र की एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ और ग्रह फाइनेंस इस समूह में शामिल हैं। दूसरी तरफ टाटा समूह की करीब 30 कंपनियां शेयर बाजार में सूचीबद्ध हैं। एचडीएफसी समूह की एक अन्य कंपनी एचडीएफसी म्यूचुअल फंड भी इस समय बाजार में सूचीबद्ध होने की प्रक्रिया में है और वह अपना आईपीओ लाने जा रही है। यह आईपीओ बाजार में आ जाने के बाद समूह की पांच कंपनियां पूंजी बाजार में हो जाएंगी। पर्यवेक्षकों के मुताबिक म्यूचुअल फंड कंपनी का बाजार पूंजीकरण 30,000 करोड़ रुपए के आसपास रहने की उम्मीद है।शेयर बाजारों में आज कारोबार की समाप्ति पर एचडीएफसी बैंक का बाजार पूंजीकरण 5,59,633.53 करोड़ रुपए, एचडीएफसी लिमिटेड का 3,26,776.81 करोड़ रुपए, एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी का 95,936.72 करोड़ रुपए और ग्रह फाइनेंस का बाजार पूंजीकरण 24,967.71 करोड़ रुपए रहा।टाटा समूह की सूचीबद्ध कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण करीब 11 लाख करोड़ रुपए के आसपास है। टाटा कंसल्टेंसी सविर्सिज (टीसीएस) देश की सबसे बड़ी बाजार पूंजीकरण वाली कंपनी है। इसका बाजार पूंजीकरण 7,18,623.56 करोड़ रुपए है। एचडीएफसी समूह में एचडीएफसी बैंक बाजार पूंजीकरण के लिहाज से देश की तीसरी सबसे मूल्यावान कंपनी है।
वापसी