नई पोस्ट करें

चाय कॉफी की कीमतों में जबर्दस्त बढ़ोत्तरी, देखिए ताजमहल से लेकर नैस्केफे की नई रेट लिस्ट

2022-10-01 07:26:39 051

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टDiwali 2017: घर की उत्तर दिशा में कराएं इस कलर का पेंट, होगी दरिद्रता दूर****** त्यौहारों के इस टाइम में सभी अपना घर चमकता हुआ देखना चाहते हैं और उसी के लिये रंग-रोगन, लिपाई- पुताई करवाते हैं। लेकिन किसी भी दिशा में कोई भी रंग करवाना उचित नहीं है। के अनुसार हर दिशा का संबंध किसी न किसी एक Specific रंग से है, तो किस दिशा में कौन- सा रंग करवाना चाहिए और उसके क्या फायदे-नुकसान हैं। जानिए उत्तर दिशा में कौन सा रंग कराने से आपके घर खुशहाली, स्वास्थ्य समस्याओं से निजात सहित हर समस्या से छुटकारा मिलेगा।इस दिशा में काला रंग करवाना अच्छा माना जाता है। इस दिशा में चाहें थोड़ी-ही मात्रा में काला रंग करवाएं, लेकिन इसका बहुत फायदा मिलता है। उत्तर दिशा में काला रंग करवाने से अनचाहे भय से छुटकारा मिलता है। परिवार के मंझले पुत्र को हर तरह से लाभ मिलता है। सुनने की क्षमता अच्छी होती है।उत्तर दिशा का संबंध जल तत्व से है, और हरे रंग का संबंध काष्ठ से है, यानी लकड़ी से है। जल लकड़ी की उत्पत्ति करता है। अगर आपको बार-बार किसी चीज़ का भय सताता हो या मंझले पुत्र को कान से जुड़ी कोई समस्या है तो आप उत्तर दिशा में कुछ हद तक हरा रंग करवा सकते हैं। लेकिन ध्यान रखिए कि पानी में लकड़ी गल जाती है, इसलिए उत्तर दिशा में अधिक मात्रा में हरा रंग करवाने से घर के बड़े बच्चे के विकास की गति रूक जायेगी। नितम्बों में तकलीफ हो सकती है, पैरों की मांसपेशियों में खींचाव हो सकता है।लाल रंग का संबंध अग्नि से है और उत्तर दिशा का संबंध जल से है, ये तो आप जान ही गए हैं। पानी आग को बुझाता है, उसे नष्ट करता है, लिहाजा उत्तर दिशा में लाल रंग करवाने से उत्तर दिशा के तत्वों को उतना फायदा नहीं होगा, जितना लाल रंग से संबंधित दिशाओं और उनके तत्वों को हानि होगी।आपको ज्यादा गर्मी लगेगी। आंखों में तकलीफ होगी। घर की मंझली कन्या को भी परेशानी उठानी पड़ सकती है। आपको या आपकी मंझली कन्या को अपयश का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए उत्तर दिशा में लाल रंग के इस्तेमाल से जितना हो सके, बचने की कोशिश करें।

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टक्या प्लेन को गिरा सकती है 5जी टेक्नॉलजी? एक्सपर्ट ने दिए चौंकाने वाले जवाब******Highlights हाल ही में कई अंतरराष्ट्रीय एयरलाइनों ने कुछ अमेरिकी एयरपोर्ट पर उतरने वाली अपनी उड़ानों को रद्द कर दिया क्योंकि उन्हें डर था कि वहां लगाई जाने वाली 5जी मोबाइल संचार प्रौद्योगिकी कुछ विमानों के उपकरणों को प्रभावित कर सकती है। विमानन कंपनियों के मालिकों और संघीय उड्डयन प्रशासन से संभावित समस्या के बारे में चेतावनी के बाद, दूरसंचार कंपनियों एटी एंड टी और वेरिज़ॉन ने अमेरिकी हवाई अड्डों के आसपास कुछ 5जी मास्ट को सक्रिय करने में देरी की। लेकिन 5जी विमानों के साथ कैसे हस्तक्षेप कर सकता है? और क्या समस्या को ठीक किया जा सकता है? चलिए एक नज़र डालते हैं।वर्तमान में दुनिया भर के कई देशों में तैनात की जा रही 5G मोबाइल फोन तकनीक की पांचवीं पीढ़ी है। यह 4जी की तुलना में 100 गुना तेज नेटवर्क गति प्रदान कर सकता है। व्यापक संभव कवरेज के साथ उच्च गति सुनिश्चित करने के लिए, एटी एंड टी और वेरिज़ोन ने सी-बैंड फ़्रीक्वेंसी नामक किसी चीज़ का उपयोग करके 5 जी इंटरनेट उत्पन्न करने की योजना बनाई थी, यह एक प्रकार की रेडियो फ़्रीक्वेंसी (या रेडियो तरंगें) है जो 3.7 और 3.98 गीगाहर्ट्ज़ के बीच होती है ये आवृत्तियां आधुनिक विमानों द्वारा ऊंचाई मापने के लिए उपयोग की जाने वाली आवृत्तियों के निकट होती हैं।एक के उपकरण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा, जिसे रेडियो अल्टीमीटर कहा जाता है, 4.2-4.4गीगाहर्ट्ज़ के बीच सी-बैंड आवृत्तियों पर संचालित होता है। पायलट विमान को सुरक्षित रूप से उतारने के लिए रेडियो अल्टीमीटर पर भरोसा करते हैं, खासकर जब दृश्यता खराब होती है, उदाहरण के लिए, जब हवाई अड्डा ऊंचे पहाड़ों से घिरा हो या जब वातावरण में धुंध हो। चिंता की बात यह है कि, 5जी की आवृत्तियों और रेडियो अल्टीमीटर के बीच संकीर्ण अंतर के कारण, हवाई अड्डों के पास 5जी टावरों से रेडियो तरंगें हस्तक्षेप का कारण बन सकती हैं। यानी, अपने फोन पर 5जी का इस्तेमाल करने वाले लोग अनजाने में रेडियो अल्टीमीटर के सिग्नल को खराब या बाधित कर सकते हैं।अगर कुछ सेकंड के लिए भी ऐसा होता है, तो इसका मतलब यह हो सकता है कि लैंडिंग के दौरान पायलट को सही जानकारी नहीं मिल पाती है। यही कारण है कि यूएस फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन ने चिंता जताई। 5जी को लागू करने वाले अन्य देश सी-बैंड फ़्रीक्वेंसी का उपयोग कर रहे हैं, जो रेडियो अल्टीमीटर के साथ ओवरलैप या उनके करीब हैं और उन्हें किसी तरह की कोई समस्या नहीं है। उदाहरण के लिए, यूके में, 5जी 4गीगाहर्ट्ज़ तक जाता है। हवाई अड्डों के आसपास पहाड़ कम या न होने से जोखिम कम हो जाता है। कुछ अन्य देश अपने 5जी को विमान के उपकरण से थोड़ी अलग आवृत्ति पर संचालित करते हैं।यूरोपीय संघ में, उदाहरण के लिए, 5जी 3.8गीगाहर्ट्ज़ तक जाता है। यह अमेरिकी हवाई अड्डों के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। दीर्घावधि में सबसे अच्छा विकल्प 5जी के लिए बहुत अधिक बैंड का उपयोग करना होगा, जैसे कि 24गीगाहर्ट्ज़ से 47गीगाहर्ट्ज़। इन आवृत्तियों पर, डेटा की गति काफी अधिक होती है, हालांकि प्रत्येक सेल का कवरेज क्षेत्र बहुत कम होगा (इसलिए आपको अधिक टावरों की आवश्यकता होगी)। हवाई अड्डों के आसपास के टावरों से सिग्नल की शक्ति को कम करने का एक और विकल्प भी है, जो कथित तौर पर फ्रांस और कनाडा में किया गया है। यह आवृत्ति को बदलने के बारे में नहीं है, सिग्नल की शक्ति को डेसिबल में मापा जाता है, गीगाहर्ट्ज में नहीं, लेकिन सिग्नल की शक्ति को सीमित करने से निकटवर्ती बैंड के साथ हस्तक्षेप की संभावना कम हो सकती है।एक अन्य संभावित समाधान रेडियो अल्टीमीटर की आवृत्ति रेंज को समायोजित करना होगा। लेकिन इसमें लंबा समय लगेगा और संभवत: विमानन उद्योग को इसके लिए अधिक संसाधनों की जरूरत होगी। हालांकि हस्तक्षेप के कारण इन-फ्लाइट जटिलता का जोखिम बहुत कम हो सकता है, लेकिन इनसानी हिफाजत की बात करते हुए हमें किसी भी तरह के खतरे को बहुत गंभीरता से लेने की जरूरत है। अमेरिकी हवाई अड्डों के पास 5जी मास्ट को रोल आउट करने में देरी करने का कदम एक अच्छा विकल्प है, जब तक संबंधित अधिकारी आगे का सबसे सुरक्षित तरीका निर्धारित न कर लें।चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टAjanta caves: अजंता की गुफाओं में पर्यटकों की संख्या पर लगेगी लगाम, जानें क्या है मामला?******Highlights भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने महाराष्ट्र की विश्व प्रसिद्ध अजंता गुफाओं में पर्यटकों की संख्या पर नियंत्रण करने की जरूरत को रेखांकित किया है ताकि वहां के चित्रों को लंबे समय तक संरक्षित किया जा सके। इस लोकप्रिय यूनेस्को विश्व विरासत स्थल में चट्टानों को काटकर 30 बौद्ध कंदराएं बनाई गई हैं और यह औरंगाबाद जिला मुख्यालय से लगभग सौ किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इन गुफाओं में गौतम बुद्ध के जीवन पर आधारित चित्र बनाए गए हैं जिसे देखने हर साल हजारों की संख्या में पर्यटक आते हैं। एएसआई के औरंगाबाद परिक्षेत्र के अधीक्षक डॉ. मिलन कुमार चौले ने बुधवार को एक कार्यक्रम में कहा, “बड़ी संख्या में पर्यटकों के आने से गुफाओं में आर्द्रता का स्तर बढ़ता है जिसका वहां चित्र पर बुरा असर पड़ता है।”कई चित्र खराब हो गए हैंउन्होंने कहा कि इसके चलते व अन्य कारणों से समय के साथ कई चित्र खराब हो गए हैं। चौले ने कहा, “इसलिए लंबे समय तक इन चित्रों को सहेजने के लिए पर्यटकों की संख्या घटाने और कम संख्या में लोगों को गुफाओं के भीतर जाने की अनुमति देने की जरूरत है।” उन्होंने कहा कि वे एक बार में गुफा के भीतर केवल 40 पर्यटकों को 10 मिनट के लिये भेज सकते हैं और अंधेरे के कारण इतने कम समय में आगंतुक चित्रों को ठीक प्रकार से देख भी नहीं पाते।इंटरप्रेटेशन केंद्र पर नियंत्रण की मांगगुफाओं के बाहर राज्य सरकार द्वारा एक व्याख्या (इंटरप्रेटेशन) केंद्र स्थापित किया गया है। चौले ने कहा, “हमने (एएसआई) मांग की थी कि हमें उसका नियंत्रण दे दिया जाए ताकि हम उन चित्रों की प्रतिकृति को वहां दिखा सकें और पर्यटकों की संख्या को नियंत्रित किया जा सके। लेकिन राज्य सरकार ने अभी तक इस पर कोई निर्णय नहीं लिया है।”

चाय कॉफी की कीमतों में जबर्दस्त बढ़ोत्तरी, देखिए ताजमहल से लेकर नैस्केफे की नई रेट लिस्ट

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टभारत-पाकिस्तान क्रिकेट फाइनल से पहले ऐडवर्टाइजर्स के बीच शुरू हुआ मुकाबला, ऐड रेट्स बढ़कर हुए 10 गुना****** चैंपियंस ट्रॉफी में के फाइनल क्रिकेट मैच से पहले देश में ऐडवर्टाइजर्स के बीच भी कड़ा मुकाबला शुरू हो गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिकफाइनल क्रिकेट मैच के लिए ऐडवर्टाइजिंग प्राइस 10 गुना तक बढ़ गए है। आपको बता दें कि भारत और पाकिस्तान के बीच इसी चैंपियनशिप में खेला गया पिछला मुकाबला देश में छठा सबसे ज्यादा देखा गया खेल कार्यक्रम था। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत-पाकिस्तान क्रिकेट फाइनल मैच में 30 सेकंड के स्पॉट की कीमत 1 करोड़ रुपए है। ऐड खरीदने से जुडे़ एक व्यक्ति ने बताया कि भारत में इतनी देर का एक स्पॉट आमतौर पर 10 लाख रुपए का होता है। अग्रेंजी बिजनेस न्यूजपेपर इकनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट में बताया गया कि स्टार इंडिया 10 सेकंड के स्पॉट के लिए 20 लाख रुपए ले रहा है। वहीं, इस ट्रॉफी के अन्य मैचों में 10 सेकंड के स्पॉट का रेट 4 लाख रुपए था। फाइनल मैच में ऐड के रेट बढ़ते जरूर हैं लेकिन रेट का 5 गुना हो जाना केवल भारत और पाकिस्तान के बीच मैच होने की वजह से है। मीडिया बायर्स ने बताया कि बॉडकास्टर के पास केवल 5 फीसदी (250-300 सेकंड्स) का स्लॉट ही बचा हुआ है। ऐसी कंपनियां जो अभी भी अपने ऐड को फाइनल मैच में एयर करना चाहती हैं वह प्री-बुकिंग करने वाली कंपनियों के मुकाबले काफी ज्यादा अमाउंट दे रहे हैं।चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टGold Price Today: सोने में आई बड़ी गिरावट, अबतक 12,151 रुपये प्रति 10 ग्राम हुआ सस्‍ता******Gold price today 5 April big fall rs 12151 check per 10 gram citywise listशादी-विवाह का सीजन शुरू होने वाला है और इस बीच सोने की कीमत को लेकर बड़ी खबर आई है। सोने की कीमत वर्तमान में अपने ऑलटाइम हाई से अबतक 12,151 रुपये प्रति दस ग्राम सस्‍ता हो चुका है। 7 अगस्‍त, 2020 को सोना 57,100 रुपये प्रति दस ग्राम के सर्वकालिक उच्‍च स्‍तर पर था। सोमवार को राष्‍ट्रीय राजधानी में सोना मामूली 15 रुपये की गिरावट के साथ 44,949 रुपये प्रति दस ग्राम रह गया। अगस्‍त से लेकर अबतक सोने की कीमत में 12,151 रुपये प्रति दस ग्राम की कमी आई है। एचडीएफसी सिक्‍यूरिटीज के मुताबिक सोमवार को राष्‍ट्रीय राजधानी में 15 रुपये टूटकर 44,449 रुपये प्रति दस ग्राम हो गई, जो इससे पहले कारोबार सत्र में 44,964 रुपये प्रति दस ग्राम थी। चांदी में भी आज गिरावट आई। चांदी का भाव 216 रुपये टूटकर 64,222 रुपये प्रति किलोग्राम रह गया, जो इससे पूर्व कारोबारी सत्र में 64,438 रुपये प्रति किलोग्राम थी।एचडीएफसी सिक्‍यूरिटीज के सीनियर एनालिस्‍ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा कि सीमित कारोबार की वजह से राष्‍ट्रीय राजधानी में 24 कैरेट सोने की कीमत में 15 रुपये की मामूली गिरावट आई है। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में सोने कमजोरी के साथ 1727 डॉलर प्रति औंस और चांदी स्थिरिता के साथ 24.78 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी।मजबूत हाजिर मांग के कारण सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे वायदा कारोबार में सोमवार को सोना 13 रुपये की तेजी के साथ 45,431 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में जून के महीने में डिलिवरी वाले सोना वायदा की कीमत 13 रुपये यानी 0.03 प्रतिशत की तेजी के साथ 45,431 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 12,431 लॉट के लिए कारोबार किया गया। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली के कारण सोना वायदा कीमतों में तेजी आई। अंतरराष्ट्रीय बाजार, न्यूयॉर्क में सोना 0.03 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,727.80 डॉलर प्रति औंस चल रहा था।कमजोर हाजिर मांग के कारण सटोरियों ने सौदों में कटौती की जिससे वायदा कारोबार में सोमवार को चांदी 224 रुपये की गिरावट के साथ 64,865 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में मई के महीने में डिलिवरी वाले चांदी वायदा की कीमत 224 रुपये यानी 0.34 प्रतिशत की तेजी के साथ 64,865 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 10,180 लॉट के लिए कारोबार किया गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार, न्यूयॉर्क में चांदी 0.49 प्रतिशत की नरमी के साथ 24.83 डॉलर प्रति औंस पर चल रही थी। कारोबारियों द्वारा अपने सौदों के आकार को कम करने से वायदा बाजार में कच्चा तेल की कीमत सोमवार को 47 रुपये की गिरावट के साथ 4,467 रुपये प्रति बैरल रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में अप्रैल महीने में डिलिवरी वाले कच्चा तेल अनुबंध की कीमत 47 रुपये यानी 1.04 प्रतिशत की गिरावट के साथ 4,467 रुपये प्रति बैरल रह गई। इसमें 5,914 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कच्चातेल वायदा कीमतों में गिरावट आने का मुख्य कारण कमजोर हाजिर मांग के बीच व्यापारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करना था। वैश्विक स्तर पर, न्यूयॉर्क में वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट क्रूड का भाव 1.38 प्रतिशत की गिरावट के साथ 60.60 डॉलर प्रति बैरल चल रहा था जबकि वैश्विक मानक माने जाने वाले ब्रेंट क्रूड का भाव 1.42 प्रतिशत की गिरावट के साथ 63.4 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर था।चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टDelhi News: दिल्ली शराब घोटाले में ED की कार्रवाई को लेकर ये क्या बोल गए अरविंद केजरीवाल, पढ़ें पूरी डिटेल******Highlights दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने आरोप लगाया कि सेंट्रल इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ‘‘अनावश्यक रूप से हर किसी को परेशान कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि देश इस तरह प्रगति नहीं कर सकता है।केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि उपराज्यपाल, सीबीआई और भाजपा ने कथित शराब घोटाले में अलग-अलग रकम बताई है लेकिन उन्हें अब भी समझ नहीं आया कि शराब घोटाला क्या है। उनकी यह टिप्पणी तब आयी है जब ईडी ने दिल्ली आबकारी नीति 2021-22 में कथित अनियमितताओं की धन शोधन की जांच के तौर पर देशभर में करीब 40 स्थानों पर छापे मारे हैं। यह नीति अब वापस ले ली गई है।केजरीवाल ने कहा, ‘‘उनके (भाजपा के) एक नेता ने कहा कि यह 8,000 करोड़ रुपये का घोटाला है, उपराज्यपाल ने कहा कि यह 144 करोड़ रुपये का घोटाला है और सीबीआई की प्राथमिकी में कहा गया है कि यह एक करोड़ रुपये का घोटाला है। मुझे समझ नहीं आता कि शराब घोटाला है क्या।’’ उन्होंने कहा, ‘‘देश इस तरह से उन्नति नहीं कर सकता है। वे अनावश्यक रूप से हर किसी को परेशान कर रहे हैं।’’यह प्रेस कॉन्फ्रेंस ईडी की कार्रवाई के बाद की गई। बता दें कि दिल्ली के शराब घोटाले के मामले में सीबीआई की कार्रवाई के बाद अब ईडी ने अपनी कार्रवाई तेज कर दी है। एजेंसी ने हैदराबाद, बेंगलुरु और चेन्नई समेत देश भर में 40 ठिकानों पर इस मामले को लेकर छापेमारी की है। एजेंसी ने हैदराबाद में ही 25 जगहों पर छापेमारी की है।इसी केस में ईडी आज दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से भी पूछताछ करने वाली है। गुरुवार को ही सीबीआई की स्पेशल जज गीतांजलि गोयल ने सत्येंद्र जैन से पूछताछ की इजाजत दी थी। कोर्ट ने आदेश दिया है कि जैन से तिहाड़ जेल में ही पूछताछ की जाए, जहां वह बंद हैं। ये पूछताछ 16, 22 और 23 सितंबर को की जानी है। जैन इस समय मनी लॉन्ड्रिंग मामले में तिहाड़ जेल में हैं। उससे पहले एजेंसी ने यह बड़ी कार्रवाई की है।

चाय कॉफी की कीमतों में जबर्दस्त बढ़ोत्तरी, देखिए ताजमहल से लेकर नैस्केफे की नई रेट लिस्ट

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टNainital Bank Recruitment 2019: नैनीताल बैंक में क्लर्क पद पर बंपर वैकेंसी, ऐसे करें अप्लाई****** नैनीताल बैंक लिमिटेड में क्लर्क पोस्ट की बंपर वैकेंसी आई है। नैनीताल बैंक ने नोटिफिकेशन जारी किया है जिसमें क्लर्क के 100 पदों पर भर्ती से जुडीं सारी जानकारियां हैं और अभ्यर्थी नोटिफिकेशन देखकर इसकी आवेदन प्रक्रिया के बारे में जान सकते हैं। जो भी अभ्यर्थी नैनीताल बैंक द्वारा क्लर्क पदों की भर्ती के लिए आयोजित परीक्षा में हिस्सा लेना चाहते हैं, वे नैनीताल बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन डाल सकते हैं। अभ्यर्थियों को बता दूं कि नैनीताल बैंक क्लर्क पद के लिए वही अप्लाई कर सकते हैं, जिन्हें कंप्यूटर की जानकारी होगी. 21 से 27 साल तक के अभ्यर्थी नैनीताल बैंक क्लर्क की 100 वैकेंसी के लिए अप्लाई कर सकते हैं।उल्लेखनीय है कि साल 1922 में नैनीताल बैंक की स्थापना की गई थी. यह बैंक ऑफ बड़ौदा की सब्सिडरी बैंक है। नैनीताल बैंक के उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा में 140 से ज्यादा ब्रांच हैं।चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टऑटो सेक्‍टर में संकट गहराया, M&M अपने विभिन्न संयंत्रों में 8-14 दिन के लिए उत्पादन रखेगी बंद******M&M to suspend production for 8-14 daysवाहनों की बिक्री में लगातार आ रही गिरावट के चलते ऑटोमोबाइल सेक्‍टर में अब मंदी का रूप विकराल होता दिखाई पड़ रहा है। घरेलू वा‍हन निर्माता कंपनी ने शुक्रवार को जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान अपने विभिन्‍न विनिर्माण संयंत्रों में 8 से 14 दिनों तक उत्‍पादन बंद रखने की घोषणा की है। कंपनी के मुताबिक उसने यह कदम उत्‍पादन और अपनी बिक्री के बीच संतुलन बैठाने के लिए उठाया हैमहिंद्रा एंड महिंद्रा ने शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि कंपनी अपने वाहन क्षेत्र और पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी महिंद्रा व्‍हीकल्‍स मैन्यूफैक्चरर्स लिमिटेड के विभिन्न संयंत्रों में उत्पादन बंद करेगी।कंपनी ने उत्पादन स्थगित करने की घोषणा ऐसे समय की है जबकि उद्योग बिक्री में गिरावट के सबसे लंबे दौर से गुजर रहा है। अप्रैल-जुलाई के दौरान महिंद्रा एंड महिंद्रा की घरेलू वाहन बिक्री आठ प्रतिशत घटकर 1,61,604 इकाई रह गई, जो एक साल पहले समान अवधि में 1,75,329 इकाई थी। इस अवधि में निर्यात सहित कंपनी की कुल बिक्री भी आठ प्रतिशत घटकर 1,71,831 इकाई रह गई, जो एक साल पहले समान अवधि में 1,87,299 इकाई थी।कंपनी ने कहा है कि उत्‍पादन बंद करने से बाजार में वाहनों की उपलब्‍धता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा क्‍योंकि मांग को पूरा करने के लिए पर्याप्‍त इनवेंट्री उपलब्‍ध है। देश में ऑटो उद्योग पिछले कुछ महीनों से मंदी के दौर से गुजर रहा है और इसकी प्रमुख वजह तरलता की कमी, वाहनों पर उच्‍च जीएसटी दर और महंगा ऋण हैं। ऑटो जगत के दिग्‍गजों ने वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ मुलाकात कर उद्योग के हालात पर चिंता व्‍यक्‍त की है।

चाय कॉफी की कीमतों में जबर्दस्त बढ़ोत्तरी, देखिए ताजमहल से लेकर नैस्केफे की नई रेट लिस्ट

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टबांग्लादेशी और रोहिंग्या मुसलमानों के आधार कार्ड बनवा रही है केजरीवाल सरकार: आदेश गुप्ता******Highlightsभारतीय जनता पार्टी ने अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार पर बांग्लादेशी और रोहिंग्या मुसलमानों को बचाने का आरोप लगाया है। बीजेपी ने कहा है कि दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार बांग्लादेशी और रोहिंग्या मुसलमानों के आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड और राशन कार्ड बनवाने के साथ-साथ इनका पेंशन लगवाने का भी काम कर रही है। बीजेपी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने पार्टी के कार्यकतार्ओं और दिल्ली के नागरिकों के नाम एक खुला पत्र लिखकर यह आरोप लगाया है।आदेश गुप्ता ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री (Manish Sisodia) पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने अपने विधायकों को रोहिंग्या और बांग्लादेशियों को तुंरत बिजली का कनेक्शन, पानी, राशन और भी जरूरी मदद तुरंत मुहैया करवाने का निर्देश दिया है। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी बांग्लादेशी और रोहिंग्या मुसलमानों को हटाने का काम कर रही है जबकि दिल्ली सरकार इन्हें बचाने का काम कर रही है। ने कहा कि जरूरत पड़ी तो इन पर बुलडोजर भी चलवाएंगे।

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टकैग ने रिलायंस द्वारा केजी-डी6 गैस परियोजना में 1.6 अरब डॉलर की लागत-वसूली पर उंगली उठाई****** सरकारी लेखा परीक्षक कैग ने कृष्णा गोदावरी (केजी) बेसिन के डी-6 गैस ब्लॉक में रिलायंस इंडस्ट्रीज द्वारा लागत के नाम पर 1.6 अरब डॉलर ज्यादा वसूली का मामला उठाया है। साथ ही कैग ने अपनी ताजा रिपोर्ट में इस बात का भी उल्लेख किया है कि बंगाल की खाड़ी में सार्वजनिक क्षेत्र की ओएनजीसी के ब्लॉक की गैस खिसक कर रिलायंस इंडस्ट्रीज के ब्लॉक में गई है।संसद में पेश भारत के नियंत्रक एवं लेखापरीक्षक (कैग) की रिपोर्ट में कहा है कि अनुबंध के हिसाब से रिलायंस को आवंटित केजी-डी6 ब्लॉक का 831.88 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र उससे वापस लिया जाना चाहिए और क्षेत्र में खोज पर जो लागत आई है। क्षेत्र से तेल एवं गैस की बिक्री करके लागत वसूली की कंपनी को अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। इसके अलावा इस क्षेत्र में खोज की पुष्टि करने के लिए किए गए परीक्षण की लागत वसूली पर भी गौर किया जाना चाहिए।कैग ने रिपोर्ट में कहा है कि नवंबर 2015 में स्वतंत्र विश्लेषक डेगोलेयर एण्ड मैक नॉघटन (डी एंड एम) ने अपनी सौंपी रिपोर्ट में इस तरफ इशारा किया है कि इसमें ओएनजीसी के ब्लॉक से गैस निजी क्षेत्र की कंपनी रिलायंस के क्षेत्र में चली गई। यह जांच रिपोर्ट रिलायंस के केजी-डी6 क्षेत्र और ओएनजीसी संचालित ब्लॉक के हाइड्रोकार्बन भंडार के एक दूसरे से जुड़े होने के मामले में दी गई थी। बहरहाल, सरकार ने न्यायमूर्ति ए.पी. शाह की अध्यक्षता में एक सदस्यीय समिति को नियुक्त किया है जो कि इस रिपोर्ट पर विचार करेगी और भविष्य में इस पर कारवाई के बारे में सिफारिश देगी।कैग ने कहा है, यदि पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय, डी एंड एम की रिपोर्ट के इस निष्कर्ष को कि रिलायंस ने ओएनजीसी के साथ लगते क्षेत्र से गैस निकाली है, को स्वीकार करता है। परिणामस्वरूप रिलायंस को ओएनजीसी को क्षतिपूर्ति का निर्देश देता है तो इससे केजी-डीडब्ल्यूएन-98-3 के समूची वित्तीय स्थिति पर असर होगा। इसमें क्षेत्र में जब से उत्पादन शुरू हुआ :अप्रैल 2009 से लेकर: तब से लेकर अब तक पेट्रोलियम लागत, पेट्रोलियम मुनाफा, रायल्टी और कर आदि की गणना प्रभावित होगी। कैग ने कहा है कि 2006 से 2012 की पिछली लेखापरीक्षा के दौरान उसने जो कई मुद्दे उठाए थे वह अभी भी बने हुए हैं।चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टअब अमेजन से 2 घंटे के भीतर घर मंगा सकते हैं राशन, दिल्‍ली और मुंबई में शुरू हुई सर्विस****** देश की दूसरी सबसे बड़ी ऑनलाइन रिटेल कंपनी अमेजन पर अब आप मोबाइल, गैजेट्स, अपैरल के साथ राशन भी खरीद सकते हैं। यहां सबसे बड़ी खासियत यह है कि आपका ऑर्डर मात्र 2 घंटे के भीतर आपके घर भी पहुंच जाएगा।अमेजन ने दिल्‍ली और मुंबई में अपनी अमेजन नाउ सर्विस की शुरूआत की है। सोमवार से यह सर्विस इन दोनों शहरों में चुनिंदा पिनकोड पर शुरू हो चुकी है। इससे पहले अमेजन इस साल फरवरी में अपनी नाउ सर्विस बैंगलुरू में शुरू कर चुका है।4G smartphones under 5K new

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टKerala News: RSS नेता श्रीनिवासन की हत्या के मामले PFI नेता अबू बकर सिद्दीक गिरफ्तार, अब तक हो चुकी हैं 27 गिरफ्तारी******Highlights RSS नेता नेता श्रीनिवासन की हत्या के मामले में केरल पुलिस ने पालक्काड जिले के पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी PFI के जिला सचिव अबू बकर सिद्दीक को सोमवार देर रात अरेस्ट कर लिया। अबू बकर सिद्दीक को RSS के स्थानीय नेता श्रीनिवासन की हत्या की साजिश रचने, हत्यारों को इस अपराध के लिए प्रेरित करने और इस अपराध में हत्यारों की मदद करने के आरोप में अरेस्ट किया गया है। इस केस में यह 27 वीं गिरफ्तारी है।आरएसएस के पूर्व जिला नेता और पदाधिकारी श्रीनिवासन पर 16 अप्रैल को मेलमुरी में उनकी मोटरसाइकिल की दुकान पर छह सदस्यीय गिरोह ने हमला किया था और उनकी हत्या कर दी थी। इसके महज 24 घंटे पहले 15 अप्रैल की दोपहर के जुमे की नमाज पढ़कर अपने पिता के साथ घर लौट रहे ज़ुबैर की जिले के इलापुल्ली में हत्या कर दी गई थी, माना जा रहा है कि ज़ुबैर की हत्या का बदला लेने के लिए ही श्रीनिवासन की हत्या की गई।अबू बकर सिद्दीक की गिरफ्तारी को राजनीति से प्रेरित बताते हुए PFI ने एक फेस बुक पोस्ट के जरिए CPM के नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार पर राज्य में अपने कार्यकर्ताओं को परेशान करने और झूठे मामलों में फंसाने का आरोप लगाया। PFI ने कहा कि सरकार हाल ही में कोझीकोड में पीएफआई की रैली में भारी लोगों की भीड़ देखकर परेशान हो गई है इसीलिए उनके नेताओं को बेमतलब निशाना बनाया जा रहा है।वहीं इसी मामले को लेकर एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि, "श्रीनिवासन मर्डर केस में ये 27 वीं गिरफ्तारी है। आरोपी PFI का जिला सचिव है। मर्डर की साजिश रचने और इस हत्या को अंजाम देने के लिए हत्यारों को प्रेरित करने और इस अपराध में उनकी मदद करने के आरोप में इस शख्स को अरेस्ट किया है। अभी तक गिरफ्तार हुए आरोपियों से पूछताछ के आधार पर पूरे साक्ष्य जुटाने के बाद ये गिरफ्तारी हुई है, इस केस में अभी और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं।"चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टWorld Cup 2019: श्रीलंका के कप्तान करुणारत्ने ने की अनुभवी ऑलराउंडर एंजलो मैथ्यूज की जमकर तारीफ******चेस्टर-ली-स्ट्रीट| श्रीलंका के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने सोमवार को यहां विश्व कप के मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ मिली जीत के बाद अनुभवी ऑलराउंडर एंजलो मैथ्यूज की जमकर तारीफ की।वेस्टइंडीज को 339 रनों का लक्ष्य देने के बावजूद श्रीलंका को जीत के लिए कड़ी मश्क्कत करनी पड़ी और अंत में उसने विपक्षी टीम को 23 रनों से हराया। मैथ्यूज ने बल्ले से 26 रनों का योगदान दिया और एक विकेट भी लिया।मैच के बाद करुणारत्ने ने कहा, "पूरन बहुत बेहतरीन बल्लेबाजी कर रहे थे और हमें दो ओवर निकालने थे। मैथ्यूज ने अपना हाथ उठाया और कहा कि वह गेंदबाजी करेंगे। उन्होंने बहुत बेहतरीन काम किया और एक कप्तान के रूप में मैं उनसे यही उम्मीद कर रहा था।"करुणारत्ने ने कहा, "मैं नहीं समझता कि वह भविष्य में अधिक ओवर डालेंगे लेकिन अगर जरूरत पड़ी तो वह कुछ ओवर कर सकते हैं।" इस जीत के बाद श्रीलंका की टीम तालिका में आठ अंकों के साथ छठे पायदान पर काबिज है और सेमीफाइनल की रेस से लगभग बाहर हो चुकी है।

चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टआज रात से दिल्ली-NCR में पटाखों पर पूरी तरह से प्रतिबंध, NGT ने 9 से 30 नवंबर के बीच लगाया "संपूर्ण बैन"******नेशनल ग्रीन ट्रिब्युनल यानि एनजीटी ने आज रात से पूरे एनसीआर के सभी प्रकार के पटाखों की बिक्री या उपयोग पर बैन लगा दिया है। दिल्ली सरकार के पटाखों की बिक्री और उपयोग पर लगे बैन के खिलाफ याचिका की सुवाई करते हुए एनजीटी ने निर्देश दिये कि 9 नवंबर की मध्यरात्रि से 30 नवंबर की मध्यरात्रि तक प्रतिबंध लगाया गया है। एनजीटी ने कहा कि जिन शहरों/ कस्बों में वायु की गुणवत्ता 'मध्यम’ या नीचे है, केवल वहां ग्रीन पटाखे बेचे जा सकते हैं और दीपावली, छठ, नव वर्ष / क्रिसमस की पूर्व संध्या जैसे त्योहारों के दौरान पटाखे के उपयोग के समय को दो घंटे तक सीमित रखा जाना चाहिए। इस छूट को राज्य स्थिति को देखकर प्रदान करेंगे।शुरुआत में यह मांग राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और इसके आसपास के इलाकों में बढ़ते प्रदूषण और इससे कोरोना महामारी के और गंभीर शक्ल लेने की आशंकाओं के चलते उठाई गई थी। दूसरे राज्यों में भी इसी तरह की मांग उठी तो एनजीटी ने मामले का दायरा बढ़ा दिया और इसमें देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को भी शामिल कर लिया। सिर्फ उन राज्यों को छोड़कर जहां हालात के मद्देनजर पहले ही पटाखे जलाए जाने और उनकी बिक्री पर रोक लगा दी गई है। सबसे पहले ओडिशा और राजस्थान से इसकी शुरुआत हुई। बाद में दिल्ली सरकार ने भी यहां 7 नवंबर से लेकर 30 नवंबर के बीच पटाखे जलाए जाने पर बैन लगा दिया।एनजीटी अध्यक्ष जस्टिस आदर्श कुमार गोयल की बेंच ने गुरुवार को मामले में अपना आदेश सुरक्षित रखने से पहले संबंधित राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साथ पटाखे बनाने वालों के संगठन को भी सुना।चायकॉफीकीकीमतोंमेंजबर्दस्तबढ़ोत्तरीदेखिएताजमहलसेलेकरनैस्केफेकीनईरेटलिस्टआज का राशिफल 5 मार्च 2022: सिंह, वृश्चिक राशि वालों को मिलने वाली है खुशखबरी, इन राशियों को करना पड़ सकता है परेशानी का सामना******Highlightsआज फाल्गुन शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि और शनिवार का दिन है। तृतीया तिथि आज रात 8 बजकर 35 मिनट तक रहेगी। उसके बाद चतुर्थी तिथि लग जाएगी। आज रात 12 बजकर 26 मिनट तक शुक्ल योग रहेगा। आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए कैसा रहने वाला है आज आपका दिन।आज आपको किस्मत का पूरा-पूरा साथ मिलेगा। आय के नए स्रोत सामने आयेंगे। ऑफिस का काम रोज की तुलना में बेहतर तरीके से होगा। आज जीवनसाथी आपकी बहुत तारीफ करेगा। इससे आप दोनों के बीच नजदीकियां बढेंगी। आपके धन-संपत्ति में वृद्धि होगी। खर्चे भी नियंत्रण में रहेंगे। आप खुद को सेहतमंद महसूस करेंगे। आज आपको अपनी मेहनत का फल अवश्य मिलेगा। कुल मिलकर आज का दिन बेहतर रहने वाला है।आर्थिक स्थिति अच्छी रहने वाली है। आज आप किसी काम के लिए जितना ज्यादा प्रयास करेंगे, काम उतना ही बेहतर तरीके से होगा। आज किसी अनुभवी की राय आपके लिए बेहतर साबित होंगी। जीवनसाथी के साथ अपने रिश्तों को लेकर आप ज्यादा ही भावुक हो सकते हैं। आज कारोबार में फायदा होने के योग बन रहा है, लेकिन आपको अपने खर्चों पर कंट्रोल बनाकर रखना चाहिए। बेवजह किसी काम में उलझने से बचे।आज आप खुद को ऊर्जावान महसूस करेंगे। सोचा हुआ काम समय पर पूरा हो जायेगा। आज पैसे कमाने के लिए नए मौके मिलेंगे। रचनात्मक काम में लगे लोगों को बड़ी सफलता मिलेगी। जीवनसाथी के साथ रिश्ते मजबूत होंगे। साथ ही आप उनकी इच्छा को पूरी करने की कोशिश करेंगे। दोस्तों के साथ रिश्ते बेहतर होंगे। उनसे मिलकर आपको किसी काम में फायदा भी होगा। मास कम्युनिकेशन स्टूडेंट्स के लिए दिन फेवरेबल रहने वाला है। आपकी सफलता सुनिश्चित होगी।आज आपका ध्यान सामाजिक कामकाज में लगा रहेगा। जरूरी काम में दोस्तों और भाइयों का सहयोग मिलेगा। जीवन में तरक्की मिलने से परिवार में खुशी का माहौल बना रहेगा। ज्योग्राफी विषय के स्टूडेंट्स के लिए दिन शानदार रहने वाला है। आज आप खुद को सेहतमंद महसूस करेंगे। आज आपको दूसरे लोगों की मदद करने का मौका मिलेगा। आप कुछ नया काम करने की सोच सकते हैं।आज घर में किसी बड़े की सलाह लेकर ही आपको कोई बड़ा कदम उठाना चाहिए। बच्चों के साथ आज मनोरंजक समय व्यतीत। कामकाज ज्यादा होने से आज आप काफी व्यस्त रहेंगे। स्टूडेंट्स के लिये दिन अच्छा रहने वाला है। सफलता हासिल करने के लिए थोड़ी और मेहनत करने की आवश्यकता है। किसी अनजान व्यक्ति पर भरोसा करने से आपको बचना चाहिए। आज बहुत से लोग आपके लिए मददगार साबित होंगे। आप अपनी जीवनशैली में बदलाव करेंगे। इससे आपको फायदा होगा।आज कुछ महत्वपूर्ण लोगों से आपका संपर्क होगा। पारिवारिक जीवन सुखद बना रहेगा। आपके अधूरे काम आज पूरे हो जायेंगे। अपने व्यक्तित्व के दम पर आप कुछ लोगों को अपने फेवर में कर लेंगे, जिससे आपको पूरा फायदा मिलेगा। काम में एकाग्रता बनी रहने के कारण आपको सफलता भी मिलेगी। जीवन में आप लगातार आगे बढ़ते जायेंगे। बच्चे माता-पिता के साथ समय बितायेंगे। आज आपको किसी सामाजिक कार्य में शामिल होने का मौका मिल सकता है। धर्म-कर्म के प्रति आपकी रुचि बढ़ेगी।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-01 05:51
उद्धरण 1 इमारत
दूसरे वनडे में पाकिस्तान ने श्रीलंका को 32 रन से हराया, सिरीज़ में बनाई 2-0 की बढ़त******बाबर आजम (101) की शानदार शतकीय पारी के दम पर ने सोमवार देर रात खेले गए दूसरे वनडे मैच में श्रीलंका को 32 रनों से हरा दिया। शेख जायेद स्टेडियम में खेले गए इस मैच में जीत हासिल कर पाकिस्तान ने श्रीलंका के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज में 2-0 से बढ़त हासिल कर ली है। 13 अक्टूबर को दुबई में खेले गए पहले वनडे मैच में पाकिस्तान ने श्रीलंका को 83 रनों से हराया था।पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया और आजम के शतक तथा शादाब खान (52) की अर्धशतकीय पारी के दम पर श्रीलंका के खिलाफ नौ विकेट के नुकसान पर 219 रन बनाए। पाकिस्तान के लिए आजम और शादाब के अलावा कोई भी बल्लेबाज 20 का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाया। श्रीलंका के लिए इस पारी में लाहिरु गमागे ने सबसे अधिक चार विकेट चटकाए, वहीं थिसारा परेरा ने दो विकेट लिए।पाकिस्तान की ओर से मिले 220 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका की टीम ने अच्छी शुरुआत की थी। कप्तान उपुल थरंगा (नाबाद 112) ने टीम के लिए नाबाद शतकीय पारी खेली, लेकिन उन्हें बाकी टीम के खिलाड़ियों का साथ नहीं मिला। श्रीलंका के लिए कप्तान थरंगा के अलावा कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाया और इस कारण श्रीलंका की टीम 187 रनों पर ही सिमट गई।पाकिस्तान के लिए अर्धशतकीय पारी खेलने वाले शादाब ने अच्छी गेंदबाजी करते हुए श्रीलंका के तीन बल्लेबाजों को घर भेजा। उनके अलावा जुनैद खान, रुमान रईस, हसन अली, मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक को एक-एक सफलता हासिल हुई। शादाब को प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार भी दिया गया।पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच तीसरा वनडे मैच 18 अक्टूबर को इसी स्टेडियम में खेला जाएगा।
2022-10-01 05:41
उद्धरण 2 इमारत
बेंगलुरू और गोवा में आयकर विभाग ने बरामद किए 4 करोड़ रुपए, कार की स्‍टेपनी से निकली नोटों की गड्डियां******चुनावों में धन के इस्‍तेमाल को लेकर बेहद सतर्क है। इसी के चलते आयकर विभाग ने बेंगलुरु और गोवा में बड़ी कार्रवाई की है। विभाग ने दोनों जगहों पर छापेमारी में 4 करोड़ रुपए बरामद किए गए हैं। इस दौरान नोटों को छुपाने के अजीबोगरीब हथकंडे भी सामने आ रहे हैं। बेंगलुरु में विभाग को गाड़ी के स्‍पेयर टायर से अंदर से ढाई करोड़ रुपए के करेंसी नोट मिले हैं।लोकसभा चुनाव को देखते हुए पूरे देश में काले धन पर आयकर की छापेमारी जारी है। इसी क्रम में शनिवार को आयकर विभाग की टीम ने कर्नाटक और गोवा राज्यों से कुल 4 करोड़ से भी ज्यादा के कैश बरामद किए हैं। इसी दौरान एक व्यक्ति की गाड़ी में रखे स्पेयर टायर से लगभग 2.30 करोड़ के कैश बरामद किए गए।कर्नाटक के बेंगलुरु में एक गाड़ी में रखे पहिए से 2.30 करोड़ कैश बरामद किए गए। सभी नोट 2000 रुपए के थे। इन नोटों को गाड़ी के टायर के अंदर छुपा कर रखा था। जानकारी के मुताबिक इतनी बड़ी मात्रा में कैश बेंगलुरु से शिवमोगा ले जाया जा रहा था। आयकर विभाग की टीम ने छापे के दौरान 4 करोड़ से ज्यादा कैश की बरामदगी की है।
2022-10-01 04:46
उद्धरण 3 इमारत
Mahashivratri 2021: जानिए कब है महाशिवरात्रि, साथ ही जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और व्रत कथा******हर साल फाल्गुन कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को भगवान शिव को अत्यंत ही प्रिय महाशिवरात्रि का व्रत किया जाता है। वैसे तो पूरे साल की प्रत्येक माह के कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी को भगवान शंकर को समर्पित मास शिवरात्रि का व्रत किया जाता हैं। लेकिन सालभर में की जाने वाली सभी शिवरात्रियों में से फाल्गुन कृष्ण पक्ष की शिवरात्रि का बहुत अधिक महत्व है। इस दिन विधि-विधान से भगवान शिव की पूजा करके उनकी कृपा पा सकते हैं। इस बार 11 मार्च को पड़ रही है।11 मार्च 2021 11 मार्च देर रात 12 बजकर 06 मिनट से 12 बजकर 55 मिनट तक48 मिनट 12 मार्च सुबह 6 बजकर 36 मिनट 6 सेकंड से दोपहर 3 बजकर 4 मिनट 32 सेकंड तक। 11 मार्च को दोपहर 2 बजकर 39 मिनट से12 मार्च दोपहर 3 बजकर 2 मिनटआचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार शिवरात्रि के दिन सबसे पहले चन्दन के लेप से आरम्भ कर सभी उपचारों के साथ शिव पूजा करनी चाहिए और साथ ही पंचामृत से शिवलिंग को स्नान कराना चाहिए। इसके बाद ‘ऊँ नमः शिवाय’ मंत्र का जाप करना चाहिए। साथ ही शिव पूजा के बाद गोबर के उपलों की अग्नि जलाकर तिल, चावल और घी की मिश्रित आहुति देनी चाहिए। इस तरह होम के बाद किसी भी एक साबुत फल की आहुति दें। सामान्यतया लोग सूखे नारियल की आहुति देते हैं। व्यक्ति यह व्रत करके, ब्राह्मणों को खाना खिलाकर और दीपदान करके स्वर्ग को प्राप्त कर सकता है।आचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार शिवरात्रि की पूजा विधि के विषय में भी अलग-अलग मत हैं-सनातन धर्म के अनुसार शिवलिंग स्नान के लिये रात्रि के प्रथम प्रहर में दूध, दूसरे में दही, तीसरे में घृत और चौथे प्रहर में मधु, यानी शहद से स्नान करना चाहिए। चारों प्रहर में शिवलिंग स्नान के लिये मंत्र भी हैं-मंत्र का जाप करना चाहिए।वहीं वर्ष क्रिया कौमुदी के पृष्ठ 513 में आया है कि दूसरे, तीसरे और चौथे प्रहर में व्रती को पूजा, अर्घ्य, जप और कथा सुननी चाहिए, स्तोत्र पाठ करना चाहिए। साथ हीप्रातःकाल अर्घ्यजल के साथ क्षमा मांगनी चाहिए, लेकिन व्यक्तिगत रूप से मेरा विश्वास क्षमा मांगने में नहीं है क्योंकि क्षमा तो दूसरों से मांगी जाती है। मैंने तो खुद को शिव जी को अर्पित कर दिया है-अर्थात् “मैं समस्त संदेहों से परे, बिना किसी आकार वाला, सर्वगत, सर्वव्यापक, सभी इन्द्रियों को व्याप्त करके स्थित हूं, मैं सदैव समता में स्थित हूं, न मुझमें मुक्ति है और न बंधन, मैं चैतन्य रूप हूं, आनंद हूं, शिव हूं, शिव हूं”।।धर्मसिन्धु के पृष्ठ 126 के अनुसार- यदि चतुर्दशी तिथि रात्रि के तीनों प्रहरों के पूर्व ही समाप्त हो जाये तो पारण तिथि के अंत में करना चाहिए और यदि वह तीनों प्रहरों से आगे चली जाये तो उसके बीच में ही सूर्योदय के समय पारण करना चाहिए, जबकि निर्णयसिन्धु के अनुसार यदि चतुर्दशी तिथि रात्रि के तीन प्रहरों के पूर्व समाप्त हो जाये तो पारण चतुर्दशी के बीच में ही होना चाहिए, न कि उसके अंत में।आचार्य इंदु प्रकाश के मुताबिक, माना जाता है कि आज के दिन से ही सृष्टि का प्रारंभ हुआ था। वहीं ईशान संहिता में बताया गया है कि- फाल्गुन कृष्ण चतुर्दश्याम आदिदेवो महानिशि। शिवलिंग तयोद्भूत: कोटि सूर्य समप्रभ:॥ फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी को महानिशीथकाल में आदिदेव भगवान शिव करोड़ों सूर्यों के समान प्रभाव वाले लिंग रूप में प्रकट हुए थे।जबकि कई मान्यताओं में माना जाता है कि इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ है। गरुड़ पुराण, स्कन्द पुराण, पद्मपुराण और अग्निपुराण आदि में शिवरात्रि का वर्णन मिलता है। कहते हैं शिवरात्रि के दिन जो व्यक्ति बिल्व पत्तियों से शिव जी की पूजा करता है और रात के समय जागकर भगवान के मंत्रों का जाप करता है, उसे भगवान शिव आनन्द और मोक्ष प्रदान करते हैं।पौराणिक मान्‍यताओं के अनुसार प्राचीन काल में चित्रभानु नाम का एक शिकारी था। जानवरों की हत्या करके वह अपने परिवार को पालता था। वह एक साहूकार का कर्जदार था, लेकिन उसका ऋण समय पर न चुका सका। क्रोधित साहूकार ने शिकारी को शिवमठ में बंदी बना लि।। संयोग से उस दिन शिवरात्रि थी। शिकारी ध्यानमग्न होकर शिव-संबंधी धार्मिक बातें सुनता रहा। चतुर्दशी को उसने शिवरात्रि व्रत की कथा भी सुनी। शाम होते ही साहूकार ने उसे अपने पास बुलाया और ऋण चुकाने के विषय में बात की। शिकारी अगले दिन सारा ऋण लौटा देने का वचन देकर बंधन से छूट गया। अपनी दिनचर्या की भांति वह जंगल में शिकार के लिए निकला, लेकिन दिनभर बंदी गृह में रहने के कारण भूख-प्यास से व्याकुल था। शिकार खोजता हुआ वह बहुत दूर निकल गया। जब अंधकार हो गया तो उसने विचार किया कि रात जंगल में ही बितानी पड़ेगी। वह एक तालाब के किनारे एक बेल के पेड़ पर चढ़ कर रात बीतने का इंतजार करने लगा।बिल्व वृक्ष के नीचे शिवलिंग था जो बिल्वपत्रों से ढंका हुआ था। शिकारी को उसका पता न चला। पड़ाव बनाते समय उसने जो टहनियां तोड़ीं, वे संयोग से शिवलिंग पर गिरती चली गई। इस प्रकार दिनभर भूखे-प्यासे शिकारी का व्रत भी हो गया और शिवलिंग पर बिल्वपत्र भी चढ़ गए। एक पहर रात्रि बीत जाने पर एक गर्भिणी हिरणी तालाब पर पानी पीने पहुंची।शिकारी ने धनुष पर तीर चढ़ाकर ज्यों ही प्रत्यंचा खींची, हिरणी बोली, "मैं गर्भिणी हूं। शीघ्र ही प्रसव करुंगी। तुम एक साथ दो जीवों की हत्या करोगे, जो ठीक नहीं है। मैं बच्चे को जन्म देकर शीघ्र ही तुम्हारे समक्ष प्रस्तुत हो जाऊंगी, तब मार लेना।" शिकारी ने प्रत्यंचा ढीली कर दी और हिरणी जंगली झाड़ियों में लुप्त हो गई। प्रत्यंचा चढ़ाने तथा ढीली करने के वक्त कुछ बिल्व पत्र अनायास ही टूट कर शिवलिंग पर गिर गए। इस प्रकार उससे अनजाने में ही प्रथम प्रहर का पूजन भी सम्पन्न हो गया।कुछ ही देर बाद एक और हिरणी उधर से निकली। शिकारी की प्रसन्नता का ठिकाना न रहा। समीप आने पर उसने धनुष पर बाण चढ़ाया। तब उसे देख हिरणी ने विनम्रतापूर्वक निवेदन किया, "हे शिकारी! मैं थोड़ी देर पहले ऋतु से निवृत्त हुई हूं। कामातुर विरहिणी हूं। अपने प्रिय की खोज में भटक रही हूं। मैं अपने पति से मिलकर शीघ्र ही तुम्हारे पास आ जाऊंगी।" शिकारी ने उसे भी जाने दिया। दो बार शिकार को खोकर उसका माथा ठनका। वह चिंता में पड़ गया। रात्रि का आखिरी पहर बीत रहा था। इस बार भी धनुष से लग कर कुछ बेलपत्र शिवलिंग पर जा गिरे तथा दूसरे प्रहर का पूजन भी सम्पन्न हो गया।तभी एक अन्य हिरणी अपने बच्चों के साथ उधर से निकली। शिकारी के लिए यह स्वर्णिम अवसर था। उसने धनुष पर तीर चढ़ाने में देर नहीं लगाई। वह तीर छोड़ने ही वाला था कि हिरणी बोली, "हे शिकारी!' मैं इन बच्चों को इनके पिता के हवाले करके लौट आऊंगी। इस समय मुझे मत मारो।" शिकारी हंसा और बोला, "सामने आए शिकार को छोड़ दूं, मैं ऐसा मूर्ख नहीं। इससे पहले मैं दो बार अपना शिकार खो चुका हूं। मेरे बच्चे भूख-प्यास से व्यग्र हो रहे होंगे। उत्तर में हिरणी ने फिर कहा, "जैसे तुम्हें अपने बच्चों की ममता सता रही है, ठीक वैसे ही मुझे भी। हे शिकारी! मेरा विश्वास करों, मैं इन्हें इनके पिता के पास छोड़कर तुरंत लौटने की प्रतिज्ञा करती हूं।"हिरणी का दीन स्वर सुनकर शिकारी को उस पर दया आ गई। उसने उस मृगी को भी जाने दिया। शिकार के अभाव में तथा भूख-प्यास से व्याकुल शिकारी अनजाने में ही बेल-वृक्ष पर बैठा बेलपत्र तोड़-तोड़कर नीचे फेंकता जा रहा था। पौ फटने को हुई तो एक हृष्ट-पुष्ट मृग उसी रास्ते पर आया। शिकारी ने सोच लिया कि इसका शिकार वह अवश्य करेगा। शिकारी की तनी प्रत्यंचा देखकर मृग विनीत स्वर में बोला, "हे शिकारी! यदि तुमने मुझसे पूर्व आने वाली तीन मृगियों तथा छोटे-छोटे बच्चों को मार डाला है, तो मुझे भी मारने में विलंब न करो, ताकि मुझे उनके वियोग में एक क्षण भी दुःख न सहना पड़े। मैं उन हिरणियों का पति हूं। यदि तुमने उन्हें जीवनदान दिया है तो मुझे भी कुछ क्षण का जीवन देने की कृपा करो। मैं उनसे मिलकर तुम्हारे समक्ष उपस्थित हो जाऊंगा।"मृग की बात सुनते ही शिकारी के सामने पूरी रात का घटनाचक्र घूम गया, उसने सारी कथा मृग को सुना दी। तब मृग ने कहा, "मेरी तीनों पत्नियां जिस प्रकार प्रतिज्ञाबद्ध होकर गई हैं, मेरी मृत्यु से अपने धर्म का पालन नहीं कर पाएंगी। अतः जैसे तुमने उन्हें विश्वासपात्र मानकर छोड़ा है, वैसे ही मुझे भी जाने दो। मैं उन सबके साथ तुम्हारे सामने शीघ्र ही उपस्थित होता हूं।"शिकारी ने उसे भी जाने दिया। इस प्रकार सुबह हो आई। उपवास, रात्रि-जागरण तथा शिवलिंग पर बेलपत्र चढ़ने से अनजाने में ही पर शिवरात्रि की पूजा पूर्ण हो गई। पर अनजाने में ही की हुई पूजन का परिणाम उसे तत्काल मिला। शिकारी का हिंसक हृदय निर्मल हो गया। उसमें भगवद्शक्ति का वास हो गया।थोड़ी ही देर बाद वह मृग सपरिवार शिकारी के समक्ष उपस्थित हो गया, ताकि वह उनका शिकार कर सके। किंतु जंगली पशुओं की ऐसी सत्यता, सात्विकता एवं सामूहिक प्रेमभावना देखकर शिकारी को बड़ी ग्लानि हुई। उसने मृग परिवार को जीवनदान दे दिया।अनजाने में शिवरात्रि के व्रत का पालन करने पर भी शिकारी को मोक्ष की प्राप्ति हुई। जब मृत्यु काल में यमदूत उसके जीव को ले जाने आए तो शिवगणों ने उन्हें वापस भेज दिया तथा शिकारी को शिवलोक ले गए। शिव जी की कृपा से ही अपने इस जन्म में राजा चित्रभानु अपने पिछले जन्म को याद रख पाए तथा महाशिवरात्रि के महत्व को जान कर उसका अगले जन्म में भी पालन कर पाए।
वापसी